‘सूर्या समाचार’ के नए एडिटर इन चीफ बने कुमार संजॉय सिंह!

Kumar Sanjoy Singh

सूर्या समाचार से एक बड़ी खबर आ रही है. पुण्य प्रसून बाजपेयी और उनकी टीम के जाने के बाद आनन-फानन में प्रबंधन ने नए एडिटर इन चीफ की नियुक्ति कर दी है. सूत्रों का कहना है कि आजतक, इंडिया टुडे, जनसत्ता, एनडीटीवी समेत कई बड़े चैनलों-अखबारों में काम कर चुके वरिष्ठ पत्रकार कुमार संजॉय सिंह को नया संपादक बनाया गया है. हालांकि अभी इस खबर की अधिकृत रूप से पुष्टि नहीं हो पा रही है लेकिन सूत्रों के मुताबिक कुमार संजॉय और बीपी अग्रवाल के बीच कई राउंड की बैठक हो चुकी है.

माना जा रहा है कि एक अप्रैल से कुमार संजॉय सिंह चैनल ज्वाइन कर लेंगे. बताया जाता है कि कुमार संजॉय और सूर्या प्रबंधन के बीच बातचीत पुण्य प्रसून के चैनल ज्वाइन करने से पहले से चल रही थी. पुण्य प्रसून को रखने-हटाने के प्रकरण के बाद दुनिया भर की आलोचना झेलने वाले सूर्या प्रबंधन के इस नए फैसले को लेकर भी कुछ लोग आशंकित हैं. इनका कहना है कि सूर्या समाचार के मालिकान अस्थिर चित्त और बनिया मेंटल्टी वाले लोग हैं जो मीडिया संस्थान को बनिए की दुकान की तरह चलाना चाहते हैं. इनकी इसी सोच, शैली के चलते दर्जन भर से ज्यादा संपादक आए और गए.

ऐसे में कुमार संजॉय सिंह इस ‘नामदार’ चैनल की कितने दिन तक सवारी कर पाएंगे, इस चैनल की दशा-दिशा को कितना दुरुस्त कर पाएंगे, ये देखने वाली बात होगी. वैसे, कुमार संजॉय सिंह एक दमादर संपादक और बेबाक शख्स हैं. उन्हें अगर काम करने दिया गया तो चैनल की डगमगाती नैया को पार लगा सकते हैं. पर सवाल वही है कि चंचल चित्त वाले बीपी अग्रवाल कितने दिन तक अपनी सांस रोके रख सकेंगे? उन्हें न खुद चैन से रहना आता है और न दूसरों को चैन से रहने देने में विश्वास रखते हैं. इसी कारण सूर्या समाचार आयाराम गयाराम स्थल हो गया है और करोड़ों फूंकने के बाद भी बीके अग्रवाल को सिवाय बदनामी के कुछ नहीं हासिल हो सका है.

ज्ञात हो कि कुमार संजॉय सिंह हाल-फिलहाल तक दिल्ली की मैथिली-भोजपुरी एकेडमी के उपाध्यक्ष भी रहे हैं. इनके ही नेतृत्व में मतंग सिंह वाले पाजिटिव मीडिया ग्रुप की शुरुआत हुई और इस बैनर के तहत फोकस, हमार समेत दर्जनों रीजनल-नेशनल न्यूज चैनल्स लांच किए गए.

कुमार संजॉय आजतक न्यूज चैनल, जनसत्ता अखबार, इंडिया टुडे मैग्जीन और एनडीटीवी चैैनल के जरिए पूरे देश में जाने गए. उन्होंने करियर की शुरुआत सुरेंद्र प्रताप सिंह के नेतृत्व में ‘रविवार’ से की थी. उनकी लेखनी और उनकी वक्तृता के देश भर में प्रशंसक हैं. सूर्या समाचार प्रबंधन ने पुण्य प्रसून के बाद फिर से एक बढ़िया पत्रकार कुमार संजॉय सिंह को प्रधान संपादक बनाया है. दिक्कत बस प्रबंधन के अधैर्य की है. उम्मीद करते हैं कि अबकी प्रबंधन को अकल आएगी और कुमार संजॉय सिंह अपनी टीम के जरिए सूर्या समाचार को स्थापित कर ले जाएंगे.

संबंधित खबरें….

पुण्य में दोष नहीं, लाला ही लीचड़ था : मुकेश कुमार

अजीत अंजुम ने पूछा- प्रसूनजी किसी आर्थिक मजबूरी के मारे भी न थे, फिर ‘सूर्या’ में गए क्यों?

रवीश कुमार ने पूछा- आखिर कौन है जो पुण्य प्रसून के पीछे इस हद तक पड़ा है!

पुण्य प्रसून के हटाए जाने को शहादत और चौकीदार के डर का रंग ना दीजिए!

पुण्य प्रसून ने मजबूरी में अपनी इमेज से कमतर चैनल में ज्वॉइन किया था!

पुण्य प्रसून जी, डिजिटिल में आइए, यहां कोई नहीं निकालेगा!

पुण्य प्रसून को बनारस से नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ जाना चाहिए!

पुण्य प्रसून बाजपेयी दंभ के पाखंड पर सवार, अहंकार के अहाते में कैद, एक पाखंडी पुरुष हैं!

पुण्य प्रसून बाजपेयी एंड टीम की ‘सूर्या समाचार’ से छुट्टी!

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *