‘भारत समाचार’ चैनल की भविष्यवाणी सच साबित हुई, महेंद्रनाथ पांडेय बने भाजपा यूपी के प्रदेश अध्यक्ष

दो रोज पहले भारत समाचार चैनल पर एडिटर इन चीफ ब्रजेश मिश्रा के नेतृत्व में हुई एक महाबहस में बताया गया कि सबसे ज्यादा चांस महेंद्र नाथ पांडेय के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बनने का है. इस महाबहस में वरिष्ठ पत्रकार हेमंत तिवारी ने महेंद्र नाथ पांडेय को नया अध्यक्ष बनाए जाने के पीछे बड़ा कारण बताया कि यूपी में अपनी उपेक्षा से ब्राह्मण बहुत नाराज हैं, खासकर पूर्वांचल में. लोकसभा के 2019 में होने वाले चुनाव के लिए ब्राह्मणों को अपने साथ जोड़ कर रखना भाजपा के लिए बड़ी चुनौती है. यही वजह है कि भाजपा नेतृत्व किसी ठीकठाक ब्राह्मण नेता पर दांव लगा सकता है.

भारत समाचार चैनल के एडिटर इन चीफ ब्रजेश मिश्र के नेतृत्व में हुई इस बहस का विषय था- यूपी में भाजपा की कमान किसके हाथ?. कई नामों पर विचार विमर्श और चर्चा के बाद महाबहस से यही निकल कर आया कि महेंद्र नाथ पांडेय पर भाजपा का शीर्ष नेतृत्व दांव लगाने जा रहा है. आज हुआ भी यही. सारे समीकरण ध्वस्त करते हुए भाजपा नेतृत्व ने महेन्द्र पांडेय के नाम पर मुहर लगाकर उन्हें उत्तर प्रदेश भाजपा का नया प्रदेश अघयक्ष बना दिया. महेंद्र नाथ पांडेय चंदौली के सांसद हैं. महेन्द्र पांडेय के यूपी भाजपा का नया अध्यक्ष बनने से पूर्वांचल के लोग काफी खुश हैं. गोरखपुर से सीएम और चंदौली से प्रदेश अध्यक्ष देकर पूर्वी उत्तर प्रदेश का इलाका इन दिनों राजनीति और सत्ता में छाया हुआ है.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

शानदार वायस ओवर के लिए ब्रजेश मिश्र ने की अश्विनी शर्मा की तारीफ

“भाई मैं तो आपकी आवाज का फैन हो गया”..अगर ये सब कुछ आपके चैनल के मालिक और एडिटर इन चीफ की मुख से वो भी न्यूज रुम में सुनने को मिले तो वाकई किसी का भी हौसला बढ़ता है..कल आजादी की वर्षगांठ के दिन लखनऊ में भारत समाचार के दफ्तर में शाम को चैनल के मुखिया और यूपी में पत्रकारिता का दूसरा नाम कहे जाने वाले ब्रजेश मिश्रा सर ने न केवल मेरी वॉयस ओवर के लिए सबसे ताली बजवाई बल्की खुद भी मेरा हाथ मिलाकर मेरे हौसले को सातवें आसमान पर पहुंचा दिया..

असल में भारत समाचार पर कल शाम 5 से 6 बजे के बीच प्रसारित हुए आजादी पर स्पेशल शो “प्लासी से दिल्ली”  के लिए अपनी आवाज दी है..इस शो में 15 अगस्त 1947 से दो सौ साल पहले यानी गुलामी की दस्तक से लेकर आजादी तक की पूरी कहानी को बयान किया गया है..इस शो के लिए भारत समाचार की पूरी टीम ने बहुत मेहनत की और मेरी आवाज का भी इस्तेमाल किया गया..मैंने भी पूरी ईमानदारी से न्याय करने की कोशिश की..और यही कोशिश मेरे बिग बॉस को भा गई… फिर जिस तरह से उन्होंने हौसला बढ़ाया उसे मैं शब्दों में बयान नहीं कर सकता…

वैसे मैंने साल 2000 में मुंबई के तहलका टीवी न्यूज के लिए पहली बार अपनी आवाज का इस्तेमाल किया था… मैं चैनल में एंकर भी रहा..यही नहीं मुंबई से हिंदूजा ग्रुप के चैनल इन टाइम न्यूज में भी एंकर रहा..सफर स्टार न्यूज, लाइव इंडिया होता हुआ टीवी9 महाराष्ट्र तक पहुंचा.. स्टार न्यूज, लाइव इंडिया के लिए वॉयस ओवर का मुझे मौका मिला तो टीवी9 में लगातार चार साल क्राइम शो का एंकर रहा..कारवां बढ़ता गया सहारा न्यूज में भी मेरी भूमिका कुछ ऐसी ही रही..यही नहीं मुंबई के कई प्रोडक्शन हाउस ने भी मेरी आवाज का इस्तेमाल किया..वरिष्ठों ने कई बार मेरा हौसला बढ़ाया..लेकिन अपने प्रदेश में वो भी ब्रजेश मिश्रा जैसी शख्सियत से तारीफ मिले तो मन बाग बाग हो जाता है..आप भी देखिए “प्लासी से दिल्ली” और मेरा और मेरे साथियों को और अच्छा करने के लिए प्रेरित भी करें.. लिंक ये है… :  https://youtu.be/a16pDKd-ed0 

आपका

अश्विनी

भारत समाचार चैनल, लखनऊ में वरिष्ठ पद पर कार्यरत पत्रकार अश्विनी शर्मा की एफबी वॉल से.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

ब्रजेश मिश्र का चैनल ‘भारत समाचार’ टाटा स्काई पर भी हुआ प्रकट, याद रखें 587 नंबर

यूपी के चर्चित पत्रकार ब्रजेश मिश्र यूपी टीवी और नेशनल वायस के झटकों से उबरते हुए अब एक स्थिरता की ओर बढ़ रहा है. उनका अपना न्यूज चैनल भारत समाचार लंबी जद्दोजहद के बाद टाटा स्काई पर अवतरित हो चुका है. ‘भारत समाचार’ चैनल को अब टाटा स्काई पर 587 नंबर पर देखा जा सकता है. ब्रजेश मिश्र को चाहने वाले टाटा स्काई का नंबर 587 याद कर लें.

इस बारे में चैनल के एडिटर इन चीफ ब्रजेश मिश्र का कहना है कि खुद का काम शुरू करने में शुरुआत में जो दिक्कतें आईं, उससे काफी सबक मिला है. ‘भारत समाचार’ चैनल अब यूपी में खबरों का सबसे बड़ा नाम बनने की ओर अग्रसर है. टाटा स्काई पर यह चैनल 587 नंबर पर दिखने लगा है. जल्द ही अपने दर्शकों और चाहने वालों की दुवाओं से यह चैनल एयरटेल और डिश टीवी पर भी उपलब्ध हो जाएगा. जिले और गांव गिराव की हर छोटी बड़ी खबरों के लिए भारत समाचार जाना पहचाना नाम बनने लगा है. भारत समाचार डेन केबल पर 341 नंबर पर पहले से ही उपलब्ध है.

चैनल के एडिटर इन चीफ ब्रजेश मिश्र के मुताबिक बहुत जल्द यह चैनल यूपी के सभी रीजनल न्यूज चैनलों को मात देगा. ब्रजेश मिश्र ने इस मुश्किल वक्त में साथ खड़े रहने वाले और संबल प्रदान करने वाले सभी लोगों को दिल से आभार जताया और कहा कि ये प्यार और समर्थन ही उनकी सबसे बड़ी ताकत है जो हर मुश्किल में लड़ने-अड़ने-भिड़ने का ताकत देता है. उन्होंने अपने जानने-चाहने वालों से अपील की कि भारत समाचार चैनल के टाटा स्काई के 587 नंबर पर अवतरित होने का प्रचार-प्रसार सभी लोगों से करें ताकि जन-जन तक यह जानकारी पहुंच सके और सबका प्रिय चैनल अपनी उपस्थिति हर जगह दर्ज करा सके.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

ब्रजेश मिश्र ने ‘नेशनल वायस’ से नाता तोड़ अब ‘भारत समाचार’ चैनल लांच किया

कल भड़ास में खबर छपी कि ब्रजेश मिश्र और नेशनल वायस के बीच कुछ ठीक नहीं चल रहा है और आज दूसरी खबर सामने आ गई कि ब्रजेश मिश्र ने नेशनल वायस चैनल से नाता तोड़ लिया है और भारत समाचार नाम से नया चैनल लांच कर दिया है. ब्रजेश मिश्र को अब आप देखेंगे ‘भारत समाचार’ चैनल पर. ‘नेशनल वायस’ को अलविदा करने की बड़ी वजह इस चैनल का मालिकाना हक ब्रजेश मिश्र को न सौंपा जाना था.

माना जा रहा है कि ”भारत समाचार” चैनल अब पूरी तरह ब्रजेश मिश्र का अपना चैनल है और यही चैनल अब होगा यूपी उत्तराखंड की खबरों का असली पता. नेशनल वायस से नाता तोड़ कर नया चैनल भारत समाचार आनन-फानन में आन एयर तो कर दिया गया है लेकिन इसे टीडीएच और अन्य प्लेटफार्म्स पर लाने में हफ्ते-दो हफ्ते का वक्त लग सकता है. फिलहाल भारत समाचार न्यूज़ चैनल को यूट्यूब पर इस लिंक https://youtu.be/q5_l3HN9Y_Y के जरिए लाइव देख सकते हैं।

यह चैनल Den सहित तमाम केबल पर सोमवार से देखा जा सकेगा. टॉप टीडीएच पर दस दिनों के भीतर दिखेगा यह चैनल, ऐसा भारत समाचार प्रबंधन का दावा है. उधर,  खबर है कि नेशनल वाॅयस को एक बार फिर नोएडा से ऑनएयर कर दिया गया है.. हालांकि नेशनल वायस के नोएडा आफिस में पुराने इंप्लाइज के साथ जो व्यवहार प्रबंधन ने किया था, उसे देखते हुए यह कम ही उम्मीद है कि कोई ठीकठाक आदमी ज्वाइन करेगा. पर मीडिया फील्ड में बेरोजगारी इस कदर है कि लोग जानते बूझते हुए भी शोषण कराने गंदे रिकार्ड वाले चैनलों के पास जा पहुंचते हैं और जब वहां ट्रैप में फंस जाते हैं तो बचाने की गुहार विभिन्न जगहों पर लगाते हैं.

मूल खबर…

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

ब्रजेश मिश्रा और ‘नेशनल वायस’ के बीच सब कुछ ‘स्मूथ’ है?

यूपी के चर्चित टीवी पत्रकार और एडिटर इन चीफ ब्रजेश मिश्र : नई राह की तैयारी…?  (फाइल फोटो)

‘नेशनल वायस’ चैनल के एडिटर इन चीफ हैं ब्रजेश मिश्रा. जाहिर है, सब कुछ स्मूथ ही रहना चाहिए. लेकिन आजकल लखनऊ के गलियारों में यह खबर उड़ती हुई पाई जा रही है कि ‘नेशनल वायस’ के दुर्दिन शुरू होने वाले हैं क्योंकि ब्रजेश मिश्रा इस चैनल से खुद को अलग करने की सोच रहे हैं. वजह बताया जा रहा है ‘नेशनल वायस’ के असली मालिक अतुल गुप्ता हैं जो स्कैन मीडिया प्राइवेट लिमिटेड को संचालित करते हैं. इसी कंपनी के अधीन नेशनल वायस चैनल है.

अतुल गुप्ता अपनी कंपनी के शेयरों को विजेंद्र के नाम ट्रांसफर नहीं कर रहे हैं. इस कारण विजेंद्र इन शेयर्स को ब्रजेश मिश्रा को नहीं ट्रांसफर कर पा रहे. हालांकि सूत्रों का जो असलल बात कहना है, वह थोड़ी बड़ी-सी और रोचक कहानी है. वह यह कि अतुल गुप्ता और विजेंद्र के बीच भारी झगड़ा है. दोनों के बीच इतनी तगड़ी टांग खिंचाई और आपसी तूतूमैंमैं है कि ये एक दूसरे को नोटिस पर नोटिस भेजते जा रहे हैं. नेशनल वायस चैनल पर इन दोनों के कारण बीसियों करोड़ रुपये का कर्ज है.

चैनल जबसे ब्रजेश मिश्रा के अधीन आया, तबसे इसकी रेटिंग और ब्रांडिंग काफी बढ़ गई. लेकिन चैनल के मालिकानों की सोच का स्तर नहीं बढ़ा. अगर इसी रास्ते पर सब कुछ चलता रहा तो नेशनल वायस भी दर्जनों नए चैनलों की तरह इतिहास का विषय होगा. सब लोग यही मानकर चल रहे थे कि नेशनल वायस को ब्रजेश मिश्रा की टीम ने टेकओवर कर लिया है. पर ‘नेशनल वायस’ लगता है कि अभिशप्त किस्मत लेकर पैदा हुआ है. चीजें अगर स्मूथ नहीं हुईं तो जल्द ही इस चैनल का दुकान बंद हो सकता है.

ऐसे में लोग कयास लगा रहे हैं कि ब्रजेश मिश्रा चुपचाप नहीं बैठेंगे. वह जल्द कोई धमाका कर सकते हैं. इस पूरे मसले पर जब जानकारी के लिए एडिटर इन चीफ और वरिष्ठ पत्रकार ब्रजेश मिश्रा से संपर्क किया गया तो उन्होंने नो कमेंट कहकर कोई भी प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया. बार-बार पूछे जाने पर उनका जवाब बस इतना-सा था : ”चैनल के आंतरिक मामलों पर हम लोग बाहर बात नहीं करते. अगर कोई डेवलपमेंट होगा तो उसको आफिसियली सभी को बता दिया जाएगा. ऐसा कुछ भी नहीं है जिसे छुपाया जा सके.”

लखनऊ से भड़ास संवाददाता की रिपोर्ट. संपर्क : Bhadas4Media@gmail.com

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

‘नेशनल वायस’ के पत्रकार से भिड़े दरोगा को एडिटर इन चीफ ब्रजेश मिश्र ने सिखाया तगड़ा सबक

अपने पत्रकारों के लिए हमेशा ढाल की तरह अड़ने-लड़ने वाले नेशनल वायस चैनल के एडिटर इन चीफ ब्रजेश मिश्र ने एक ताजा मामले में अपने पत्रकार से बदतमीजी व मारपीट करने वाले दरोगा को तगड़ा सबक सिखाया है. दरोगा को न सिर्फ लाइन हाजिर कराया बल्कि सस्पेंड भी करा दिया. दरोगा के खिलाफ विभागीय जांच अलग से बैठा दी गई है. घटना मऊ जिले की है.

नेशनल वायस चैनल के पत्रकार से दुर्व्यवहार की घटना मऊ में तब हुई जब उसी समय योगी आदित्य नाथ आजमगढ़ मंडल के अधिकारियों को कानून व्यवस्था का पाठ पढ़ा रहे थे. उसी वक्त मऊ में दरोगा नजर अब्बास नेशनल वायस चैनल के पत्रकार स्वप्निल राय पर हमला कर बैठा. मारपीट करते वक़्त बेअंदाज़ दारोगा नज़र अब्बास यह भूल गया कि इन पत्रकारों के पीछे चट्टान की तरह खड़े रहने वाले एडिटर इन चीफ ब्रजेश मिश्र भी हैं जो लखनऊ से बैठे सब देख रहे हैं.

ब्रजेश मिश्र को अपनी टीम के साथ सदैव खड़ा रहने के लिए जाना जाता है. लाइन हाज़िर होने के बाद दरोगा नज़र अब्बास ना सिर्फ सस्पेंड हुए बल्कि केस की विभागीय जांच तक का आश्वाशन दिया एसबी अभिषेक यादव ने. बताया जा रहा है कि हमले के वक्त दरोगा शराब के नशे में धुत था. पत्रकार जब अपने परिजन के साथ जा रहे थे तो वह गालियां देने लगा. पत्रकार ने इसका विरोध किया तो दरोगा मारपीट पर उतारू हो गया और हमला कर बुरी तरह से पत्रकार को घायल कर दिया. इस बारे में नेशनल वायस चैनल पर चली खबर देखने के लिए नीचे क्लिक करें :

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

‘नेशनल वायस’ चैनल के एडिटर इन चीफ ब्रजेश मिश्र जख्मी, मुलायम समेत कई नेता पहुंचे हालचाल पूछने

नेशनल वायस चैनल के एडिटर इन चीफ ब्रजेश मिश्र पिछले दिनों एक दुर्घटना में घायल हो गए. उनके दाहिने हाथ की कलाई में चोट आई है. हाथ में प्लास्टर बंधा है. कुछ दिन स्वास्थ्य लाभ के बाद अब फिर से वे आफिस जाने लगे हैं और चैनल का कामकाज देखने लग गए हैं. 

ब्रजेश मिश्र को देखने और हाल जानने सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव पहुंचे. भाजपा सरकार के कैबिनेट मंत्री श्रीकांत शर्मा भी ब्रजेश मिश्र का हालचाल पूछने उनके आवास गए. सपा नेता शिवपाल यादव भी ब्रजेश मिश्र के घर जाकर गेट वेल सून बोल कर लौटे हैं.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

तीन तलाक मुद्दे पर ‘नेशनल वायस’ स्टूडियो से भागे शहर काजी, खुद को लाइव देख उल्टे पांव लौटे (देखें वीडियो)

यूपी के चर्चित न्यूज चैनल ‘नेशनल वायस’ के लखनऊ स्थित स्टूडियो में चैनल के एडिटर इन चीफ ब्रजेश मिश्र तीन तलाक के मुद्दे पर बहस का संचालन कर रहे थे. इसमें लखनऊ के शहर काजी ने भी हिस्सा लिया हुआ था. जब शहर काजी कुछ तीखे सवालों में घिरे तो स्टूडियो से भाग खड़े हुए. लेकिन जब खुद को लाइव देखा तो उल्टे पांव लौट पड़े.

शहर काजी साब को बताया गया कि यह प्रोग्राम लाइव है और पूरे प्रदेश-देश के लोग देख रहे हैं तो वह फिर से स्टूडियो में वापस आ गए.

इस घटनाक्रम की मीडिया में काफी चर्चा है.

संबंधित वीडियो देखने के लिए नीचे दिए यूट्यूब लिंक पर क्लिक करें :

https://www.youtube.com/watch?v=97OvT_MRn8Q

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

तहसील स्तर के एक टीवी पत्रकार ने बृजेश मिश्रा को दिल से धन्यवाद कहा, पढ़िए पूरा पत्र

हम पत्रकारों और पत्रकारिता जगत के साथियों के साथ खड़े बृजेश मिश्रा जी का दिल से आभार….

साथियों

मैं बेचन रजक, आजमगढ़ जिले के मेहनगर तहसील का पत्रकार हूं. स्थानीय स्तर पर कई सालों से कई समाचार पत्रों में संवाददाता के रूप में कार्य करता रहा. साथ में ई0टीवी0 के इन्फॉर्मर के बाद नेशनल वॉइस चैनल के इन्फॉर्मर के रूप में कार्य करता हूं. एक सप्ताह पहले हमारे इलाके के एक नक़ल माफिया द्वारा सामूहिक नक़ल कराए जाने की एक वीडियो क्लिप वहां की छात्राओं ने भेजा। नकल माफिया के स्कूल का नाम ‘नान्हू यादव किसान बालिका महाविद्यालय’ है.

मैं मौके पर कवरेज करने गया. कवरेज करने के लिए पत्रकार के आने की बात सुन स्कूल माफिया बाहर आया और उसने मेरे साथ मारपीट की, उसने दबंगई दिखाई. इसकी सूचना हमने अपने जिला रिपोर्टर सुधीर सिंह को दी. मैं काफी घबराया हुआ था और परेशान था. लेकिन सुधीर सिंह तुरंत हरकत में आये और चैनल हेड बृजेश मिश्रा जी तक सूचना पहुंचा दिए. बृजेश जी और सुधीर सिंह एक पत्रकार के हक़ की लड़ाई के लिए खड़े हुए तो पूरा जिला प्रशासन हरकत में आ गया.

इसके बाद नक़ल माफिया प्रबंधक को सामूहिक रूप से चौराहे पर माफ़ी मांगनी पड़ी. पूर्वांचल विश्वविद्यालय जौनपुर के कुलपति ने नकलची विद्यालय की परीक्षा रद्द करते हुए दूसरे केंद्र पर परीक्षा कराने का आदेश दे दिया. इसकी वजह से न सिर्फ मेरे जैसे छोटे पत्रकार का सम्मान बढ़ा बल्कि सैकड़ो ऐसी छात्रायें जो नक़ल माफिया को गरीबी के कारण पैसा न दे पाने के कारण परेशान थीं, प्रताड़ित होती थीं, उनके भी दिल को सुकून मिला.

मै और तमाम छात्रायें दिल से सुधीर सिंह जी और बृजेश मिश्र जी को आभार व्यक्त करते हैं. ये लोग हमेशा न सिर्फ पत्रकारों का मनोबल बढ़ाते हैं बल्कि सुख-दुख की लड़ाई में चट्टान की तरह साथ खड़े रहते हैं.  भगवान से प्रार्थना है कि बृजेश मिश्रा जी को लंबी उम्र दे ताकि वो ऐसे ही प्रदेश के पत्रकारों के हक़ में हमेशा खड़े मिलें.

आपका सबका प्रिय
बृजभूषण उर्फ़ बेचन रजक
संवाददाता
मेहनगर तहसील
आजमगढ़
यूपी


नेशनल वायस चैनल पर संबंधित खबर की न्यूज पट्टी चलती हुई देखिए-पढ़िए… नीचे क्लिक करिए…

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

वरिष्ठ पत्रकार ब्रजेश मिश्र और चर्चित पुलिस अफसर अमिताभ ठाकुर ने सीएम योगी से की मुलाकात

लखनऊ से खबर आ रही है कि वरिष्ठ पत्रकार और नेशनल वायस चैनल के एडिटर इन चीफ ब्रजेश मिश्र ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की. दोनों के बीच देर तक प्रदेश की समस्याओं और पत्रकारिता को लेकर बातचीत हुई. योगी के सीएम बनने के बाद ब्रजेश मिश्र पहले पत्रकार हैं जिन्हें मुख्यमंत्री योगी ने मिलने के लिए बुलाया. ईटीवी को यूपी में चमकाने वाले ब्रजेश मिश्र इन दिनों नेशनल वायस न्यूज चैनल का संचालन कर रहे हैं. चुनाव के दौरान ब्रजेश मिश्र ने पूरे राजनीतिक हालात का सटीक ब्योरा चैनल पर दिया और पहले ही भविष्यवाणी कर दी थी कि बीजेपी बहुत ज्यादा सीटों से बहुमत हासिल कर रही है.

जिन दिनों नेशनल वायस चैनल पर प्रचंड बहुमत पाकर बीजेपी द्वारा प्रदेश में सरकार बनाने भविष्यवाणी की गई उन दिनों गैर-भाजपा पार्टियों के नेता इस चुनावी सर्वे पर सवाल उठाने लगे थे. लेकिन चुनाव बाद मतगणना से साफ हो गया कि ब्रजेश मिश्र की भविष्यवाणी बिलकुल सटीक थी. सीएम बनने के बाद योगी आदित्यनाथ चुनिंदा नेताओं और अफसरों से मिले. पत्रकारिता जगत की बात करें तो यूपी में सबसे पहले उन्होंने ब्रजेश मिश्र से मुलाकात की.

उधर, चर्चित पुलिस अफसर अमिताभ ठाकुर ने भी सीएम योगी से मुलाकात की. सपा और बसपा दोनों शासनकाल में बेबाक वक्तव्य देने और करप्शन के कई मामलों का खुलासा करने के कारण आईजी अमिताभ ठाकुर सत्ता के निशाने पर रहे. उन्हें पूरे दस साल तक किनारे कर उपेक्षित रखा गया. खासकर अखिलेश यादव के कार्यकाल में भ्रष्ट मंत्री गायत्री प्रजापति के मामले का खुलासा करने पर उन्हें इतने तरह से प्रताड़ित किया गया कि उन्होंने यूपी से बाहर ट्रांसफर करने के लिए केंद्र सरकार से अपील कर दी थी.

बाद में योगी राज आने पर उन्होंने यूपी से बाहर जाने की अपनी अपील को वापस ले लिया था. माना जा रहा है कि भाजपा शासनकाल में अमिताभ ठाकुर को कोई महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी जाएगी. योगी और अमिताभ के बीच शासन संचालन व ब्यूरोक्रेसी को लेकर लंबी बातचीत हुई है. चर्चा है कि अमिताभ ठाकुर ने भ्रष्ट अफसरों से योगी को आगाह किया. साथ ही उन्होंने कई भ्रष्ट अफसरों के बारे में योगी को जानकारी भी दी जिनके कारण प्रदेश में शासन व्यवस्था पिछली सरकारों में लचर हुई और लूट का राज रहा.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

…तो इसलिए लोग ब्रजेश मिश्रा को ‘ब्रेकिंग मिश्रा’ कहते हैं!

यूपी में सर्वाधिक खबरें ब्रेक करने का अगर किसी को श्रेय जाता है तो वो हैं ब्रजेश मिश्रा. ईटीवी यूपी को अपने कुशल नेतृत्व और धारदार खबरों के जरिए नंबर वन न्यूज चैनल बनाने वाले ब्रजेश इन दिनों ‘नेशनल वायस’ चैनल के एडिटर इन चीफ हैं. ‘नेशनल वायस’ चैनल को ब्रजेश मिश्र न छू क्या लिया, चैनल के अचानक भाग्य फिर गए. यह अनजान-सा चैनल देखते ही देखते सुर्खियों में आ गया. खबरों के मामले में सबसे ज्यादा यूपी की रीजनल ब्रेकिंग खबरें इसी चैनल पर दिखने लगीं.

ताजी सूचना ये है कि नेशनल वायस चैनल ने लखनऊ आतंकी आपरेशन की जो एक्सक्लूसिव वीडियो फुटेज अपने यहां चलाई, वही फुटेज दूसरे न्यूज चैनलों ने आन एयर कर दी. हिंदी ही नहीं बल्कि अंग्रेजी के नेशनल न्यूज चैनलों की स्क्रीन पर भी ‘नेशनल वायस एक्सक्लूसिव’ लगातार दिखता रहा. इसकी गवाह हैं ये चंद स्क्रीनशाट्स. शायद इसीलिए लखनऊ समेत पूरे यूपी की मीडिया में ब्रजेश मिश्रा को ‘ब्रेकिंग मिश्रा’ के नाम से जाना जाता है.

इस बारे में संपर्क करने पर नेशनल वायस चैनल के एडिटर इन चीफ ब्रजेश मिश्रा विनम्रता से कहते हैं कि यह उनका नहीं, उनकी पूरी टीम की मेहनत का नतीजा है. ब्रजेश के मुताबिक उनकी टीम बेहद जुझारू, समर्पित और कर्मठ है जिसके दम पर ही हम लोग सकारात्मक और सर्वश्रेष्ठ नतीजे ला पाते हैं. उन्होंने शानदार कवरेज और पूरे देश की मीडिया में नेशनल वायस चैनल का नाम सुर्खियों में लाने के लिए अपनी टीम के सभी सदस्यों को दिली मुबारकबाद देते हुए आगे भी यह शानदार सफर यूं ही जारी रखने का आह्वान किया.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें: