पढ़िए सुब्रमण्यन स्वामी ने उपेंद्र राय और विनीत नारायण के बारे में ये क्या ट्वीट कर दिया!

सुब्रमण्यन स्वामी ने लंबे अंतराल के बाद विनीत नारायण पर टिप्पणी की है. साथ ही उपेंद्र राय का भी नाम लिया है. एक ट्वीट कर स्वामी ने कहा है कि अब जबकि उपेंद्र राय लंबे समय के लिए तिहाड़ विहार में आवास बना चुके हैं, यूपी सरकार को अब विनीत नारायण की नटवरलाल वाली गतिविधि का भंडाफोड़ करना चाहिए ताकि वृंदावन के लोग खुश हो सकें. Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

राधे मां का इंटरव्यू प्राइम टाइम पर चलाने को लेकर सुधीर चौधरी ने किया ट्वीट

ABP, India Tv, Zee Hindustan और नेटवर्क18 पर प्राइम टाइम में चलाए गए राधे माँ के इंटरव्यू के बारे में Zee News के एडिटर सुधीर चौधरी ने यह व्यंग्य किया है कि देश में मीडिया के इतने बुरे दिन आ गए हैं कि उन्हें TRP रेटिंग्स के लिए अब राधे माँ का इंटरव्यू का सहारा लेना पड़ रहा है।

सुधीर चौधरी के इस ट्वीट के बाद पूरे नोएडा में यह जबरदस्त चर्चा है कि जो व्यक्ति खुद 100 करोड़ के extortion चार्जेज में तिहाड़ जेल रह कर आया हो, क्या उसे ऐसे नैतिक भाषण देने का अधिकार है। अब इस सवाल का जवाब तो सुधीर चौधरी ही दे सकते हैं।

(एक मीडियाकर्मी द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित.)

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

टाइम्स ग्रुप के मालिक विनीत जैन का वो ट्वीट पढ़िए जो उन्होंने डर के मारे कुछ ही देर में हटा लिया

सबसे उपर विनीत जैन की तस्वीर और उसके नीचे उनके द्वारा किया गया ट्वीट.

Priyabhanshu Ranjan : देश के सबसे बडे मीडिया ग्रुप के मैनेजिंग डायरेक्टर ने की RSS प्रमुख मोहन भागवत की गिरफ्तारी की मांग! चौंकिए मत। आप बिल्कुल सही देख रहे हैं। भारत के सबसे बडे मीडिया ग्रुप Bennett, Coleman & Co. Ltd ( The Times of India अखबार की parent company) के मैनेजिंग डायरेक्टर विनीत जैन ने आज ट्वीट किया है-

“Head of ABVP/rss should be arrested for aiding and abetting a call for murder.Its not different from supari killing.”

विनीत जैन ने JNUSU अध्यक्ष Kanhaiya Kumar की हत्या के लिए इनाम घोषित किए जाने पर ये ट्वीट किया है। जब देश के सबसे बडे मीडिया ग्रुप का कर्ता-धर्ता सरकार में बैठे लोगों के खिलाफ खुलकर इस तरह की राय जाहिर कर रहा है, तो इसके मायने समझ रहे हैं न आप? TIMES NOW चैनल को TRP की दुकान बना देने वाले Arnab Goswami को अब वक्त रहते चेत जाना चाहिए। विनीत जैन उनके मालिक हैं। जी हां, अर्णब टाइम्स ग्रुप में काम करने वाले कर्मचारी हैं!

विनीत जैन टाइम्स ग्रुप के मालिक हैं। उन्होंने सरेआम ट्वीट किया है। दफ्तर में नहीं बोला। इसका खेल समझने की कोशिश कर रहे हैं। इस ट्वीट से आम लोगों में तो यही धारणा बनेगी कि विनीत जैन ने सरकार के खिलाफ स्टैंड लिया है। पता नहीं हकीकत क्या है! पर रहस्य तब गहरा जाता है जब कुछ देर बाद ही विनीत जैन (MD, The Times of India group) ने ये ट्वीट हटा लिया है। अब सवाल है, किसके दबाव में?

युवा पत्रकार प्रियभांशु रंजन के फेसबुक वॉल से.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

फेसबुक अपनी तरफ से कर रहा मेरा प्रचार, मैंने एक पैसा खर्च नहीं किया : बरखा दत्त

बरखा दत्त के स्पांसर्ड फेसबुकी पेज के बारे में भड़ास4मीडिया पर छपी खबर को लेकर ट्विटर पर बरखा दत्त ने अपना बयान ट्वीट के माध्यम से जारी किया. उन्होंने लोगों के सवाल उठाने पर अलग-अलग ट्वीट्स के जरिए जवाब देकर बताया कि उनकी बिना जानकारी के फेसबुक उनके पेज को अपने तरीके से प्रमोट कर रहा है. उन्होंने बताया कि फेसबुक की तरफ से उनके पास फोन आया था जिसमें ट्विटर की तरह एफबी पर भी सक्रिय होने के लिए अनुरोध किया गया. तब मैंने उन्हें कहा कि कोशिश करूंगी. ऐसे में एक भी पैसा देने का सवाल ही नहीं उठता. बिलकुल निराधार खबर भड़ास4मीडिया पर प्रकाशित हुई है. 

 

बरखा दत्ता का कहना है कि उन्हें बताया गया कि फेसबुक कई पब्लिक पर्सनाल्टीज जिनमें पत्रकारों भी शामिल हैं, को अपनी तरफ से प्रमोट करता है, जैसे राहुल कंवल, शेखर गुप्ता, फिल्म स्टार्स शाहरुख खान, आमिर खान आदि. बरखा दत्त ने अपने फेसबुक पेज पर उनके नाम के नीचे स्पांसर्ड लिखे होने को लेकर उठाए गए सवाल पर भी जवाब दिया. इस संबंध में बरखा दत्त के जितने भी ट्वीट्स हैं, नीचे दिए जा रहे हैं.

barkha dutt ‏@BDUTT

rubbish. I have not paid anyone a single paisa. what are you talking about?

xxx

FB team asked me to be active on FB like on Twitter & I said sure, would try. No question of Money. Rubbish story.

xxx

It’s Facebook’s call  to underline our presence on its medium. I am owed an apology NOW.

xxx

FB promoting our presence – many of us who are journalists. Check it out.

xxx

It is appplicable to ALL public personalities being promoted by them including many journalists. These include, I am told many journos- rahul, Shekhar, me, film stars, SRK, Aamir.

xxx

just asked facebook why it says sponsored. They say Facebook is promoting public personalities.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

सुधीर चौधरी ने कुमार विश्वास को ‘कामुक कविराज’ कहा तो कुमार ने सुधीर को ‘तिहाड़ी’ करार दिया!

ट्विटर पर जी न्यूज के संपादक सुधीर चौधरी और कवि व ‘आप’ के नेता कुमार विश्वास के बीच जबरदस्त आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है. सुधीर चौधरी ने कुमार विश्वास को एक ट्वीट में ‘कामुक कविराज’ कहा तो कुमार विश्वास ने सुधीर चौधरी को ‘तिहाड़ी’ करार देते हुए पूछा कि उन्हें उनके घर के किस सदस्य ने कामुक जैसी गोपनीय जानकारी दी है. दोनों के आरोप-प्रत्यारोप संबंधी ट्वीट का स्क्रीनशाट यूं है…

ज्ञात हो कि सुधीर चौधरी तिहाड़ जेल की यात्रा कर आए हैं इसलिए उन्हें तिहाड़ी कहकर कुमार विश्वास ने चिढ़ाया. उधर, सुधीर चौधरी ने जी न्यूज पर कुमार विश्वास पर लगे आरोपों को लगातार दिखाकर उन्हें ‘कामुक कविराज’ साबित करने की कोशिश की. इस आरोप प्रत्यारोप में कुमार विश्वास ने फोकस न्यूज पर चली वो क्लिप शेयर कर दी जिसमें सुधीर चौधरी और समीर अहलूवालिया की जमानत रद्द करने को लेकर कोर्ट ने पूछा है. वीडियो लिंक यूं है: https://www.youtube.com/watch?v=rSJsNYP8zNU

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

डीडी न्यूज वालों की जय हो, अबकी मोदी बंदर कथा

डीडी न्यूज वाले लगातार गलती पर गलती करते जा रहे हैं. ताजा मामला भी ट्वीट से जुड़ा है. डीडी न्यूज की तरफ से ट्वीट किया गया- “A man dressed as Santa Claus feeds monkeys ahead of Christmas”. लेकिन इस कैप्शन के साथ जो तस्वीर लगाई गई उसमें नरेंद्र मोदी बैठक की अध्यक्षता कर रहे हैं और बैठक में Amit Shah, Arun Jaitley, Sushma Swaraj और Rajnath Singh हैं. लोग सोच में पड़ गए कि आखिर इस तस्वीर में क्या मोदी सांता हैं और बंदर बाकी लोग?

खैर, डीडी न्यूज वालों को गलती का एहसास हुआ तो तुरंत इस ट्वीट को डिलीट मार दिया. साथ ही एक खेद प्रकाश भी प्रकाशित किया, कुछ यूं:  “An unrelated picture was inadverently placed by side of the China zoo story. We have removed the tweet.”

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

डीडी न्यूज वालों का सामान्य ज्ञान देखिए, राजनाथ सिंह को भाजपा अध्यक्ष बता दिया

दूरदर्शन वाले सुधरेंगे नहीं. डीडी न्यूज की तरफ से झारखंड इलेक्शन को लेकर जो ट्वीट किया गया है उसमें राजनाथ सिंह को भाजपा अध्यक्ष बताया गया है. ट्विटर का स्क्रीनशाट देखिए.

अमित शाह भाजपा अध्यक्ष हैं और राजनाथ सिंह गृहमंत्री, इतनी सामान्य सी बात अगर डीडी न्यूज के बंदों को नहीं पता तो उनकी योग्यता पर क्या कहना.

 

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

निखिल वागले को अगर मौका मिला तो वह बलात्कारी बन सकते हैं!

ट्वीटर पर पत्रकार निखिल वागले ने पेशावर घटनाक्रम को लेकर ट्वीट किया कि भारत में आरएसएस परिवार भले तालिबान की तरह ना हो लेकिन अगर उन्हें मौका मिला तो तालिबानी बन सकते हैं.

निखिल के इस ट्वीट के जवाब में किन्हीं श्रीहर्ष ने तरुण तेजपाल तहलका कांड की तरफ इशारा करते हुए कहा कि निखिल वागले बलात्कारी तो नहीं हैं लेकिन मौका मिला तो बलात्कारी बन सकते हैं.

ये दोनों ट्वीट सोशल मीडिया पर खूब चर्चा में हैं. लोग कह रहे हैं- इसे कहते हैं नहले पर दहला. जय हो… 🙂

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

बंद हुआ सरकारी खर्चे पर अखिलेश यादव के निजी एफबी और ट्विटर का प्रचार

पिछले एक लम्बे समय से उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रकाशित किये जा रहे विज्ञापनों में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निजी ट्विटर एकाउंट twitter.com/yadavakhilesh और फेसबुक एकाउंट facebook.com/yadavakhilesh का लगातार हो रहा प्रचार अब बंद कर दिया गया है. मैंने 06 नवम्बर को सरकारी पैसे पर इस प्रकार से निजी सोशल साईट एकाउंट और उसमे लिखी गयी तमाम राजनैतिक बातों का प्रचार करने के बारे में श्री यादव को शिकायत की थी, जिसमे इन एकाउंट में समाजवादी पार्टी का वेबसाइट samajwadiparty.in  दर्शाये जाने और समाजवादी पार्टी को वोट देने, पार्टी के कार्यक्रम और राजनैतिक भाषण होने की बात कहते हुए इन व्यक्तिगत एकाउंट को सरकारी प्रचार सामग्री से तत्काल हटाये जाने और चापलूस अफसरों पर कार्यवाही करने की मांग की थी.

अब इन सरकारी प्रचारों में निजी एकाउंट की जगह सीएम ऑफिस, यूपी के एकाउंट twitter.com/cmofficeup तथा facebook.com/cmofficeup दर्शाए जा रहे हैं जिनमे फेसबुक एकाउंट काम नहीं कर रहा है लेकिन अभी तक गलत ढंग से निजी एकाउंट दर्शाने वालों पर कार्यवाही नहीं हुई है, जिसकी मैंने पुनः मांग की है. 

आज भेजा पत्र—

सेवा में,
श्री अखिलेश यादव,
मुख्यमंत्री,
उत्तर प्रदेश शासन,
लखनऊ
विषय- सरकारी विज्ञापनों में आपके व्यक्तिगत फेसबुक और ट्विटर एकाउंट के प्रचार विषयक

महोदय,

कृपया मेरे पत्र संख्या- NT/Complaint/13/14 दिनांक-06/11/2014 का सन्दर्भ ग्रहण करें जिसके माध्यम से मैंने दिनांक 04/11/2014 को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा विभिन्न समाचारपत्रों में प्रकाशित विज्ञापनों में आपके ट्विटर एकाउंट twitter.com/yadavakhilesh और फेसबुक एकाउंट facebook.com/yadavakhilesh के अनुचित प्रयोग की बात कही थी. मैंने आपसे निवेदन किया था कि कृपया तत्काल यह स्थिति रोकने के आदेश देने की कृपा करें ताकि आपके व्यक्तिगत फेसबुक और ट्विटर एकाउंट आधिकारिक प्रचारों में सम्मिलित नहीं हों और आप सरकारी धन से अपना प्रचार करने के दोषी नहीं कहे जाएँ और इस प्रकार का अनुचित और अवैध कार्य करने और इसके जरिये आपकी स्थिति खराब करने वाले सभी चापलूस अफसरों के खिलाफ कठोरतम कार्यवाही करने की कृपा करें.

आज दिनांक 30/11/2014 को विभिन्न समाचारपत्रों में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा एनआरआई हेतु जारी किये जाने वाले वेबसाइट के उद्घाटन का विज्ञापन देखने पर यह सुखद अनुभूति हुई कि आपने मेरे द्वारा प्रस्तुत तथ्यों को स्वीकार करते हुए आवश्यक निर्देश दिए जिसके कारण अब इन विज्ञापनों पर आपके निजी ट्विटर और फेसबुक एकाउंट की जगह twitter.com/cmofficeup तथा facebook.com/cmofficeup नाम से कथित रूप से उत्तर प्रदेश सरकार के नए एकाउंट दिखाए जा रहे थे.

मैंने इन दोनों एकाउंट को देखा तो पाया कि इनमें फेसबुक के एकाउंट पर Sorry, this page isn’t available The link you followed may be broken, or the page may have been removed लिखा आता है, जिससे लगता है कि शायद यह फेसबुक एकाउंट अभी अस्तित्व में नहीं है अथवा इसके साथ कुछ दिक्कत है. इसके विपरीत ट्विटर एकाउंट सही काम कर रहा है और मैंने पाया कि इससे नियमित रूप से ट्वीट किये जा रहे हैं. इस एकाउंट पर लिखा है Official Page of Office of Hon. Chief Minister, Uttar Pradesh. इस एकाउंट में उत्तर प्रदेश सरकार अथवा आपके मुख्यमंत्री के रूप में कार्यों का ही उल्लेख है.

फेसबुक और ट्विटर एकाउंट में उपरोक्त परिवर्तन इस बात को स्वतः प्रमाणित कर देता है कि पूर्व में आपके निजी एकाउंट को सरकारी विज्ञापनों पर दर्शाना पूरी तरह गलत था. अतः एक ओर जहां मैं आपको इस गलती को ठीक कराने के लिए धन्यवाद् देती हूँ वहीँ आपसे यह भी निवेदन करती हूँ कि पूर्व में जिन चापलूस अफसरों ने नियमों को ताक पर रख कर इस प्रकार के विधिविरुद्ध कार्य कर इसके जरिये आपकी स्थिति खराब की है, उन सभी के खिलाफ कठोरतम कार्यवाही करने की कृपा करें ताकि भविष्य में कोई आपको ऐसी असहज स्थिति में ना लाने की हिमाकत करे. साथ ही यह भी दिखवाने की कृपा करें कि कथित फेसबुक एकाउंट facebook.com/cmofficeup वास्तव में काम करे.

भवदीय,
(डॉ नूतन ठाकुर)
5/426, विराम खंड,
गोमती नगर, लखनऊ
094155-34525
nutanthakurlko@gmail.com

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Secular राजदीप सरदेसाई को Communal मनोहर पर्रिकर पर प्यार आ गया!

Dilip C Mandal : सेकुलर और कम्युनल में क्या रखा है? राजदीप सरदेसाई कट्टर Secular गौड़ सारस्वत ब्राह्मण (GSB) हैं और मनोहर पर्रिकर कट्टर Communal गौड़ सारस्वत ब्राह्मण (GSB). और फिर प्राइड यानी गर्व का क्या है? हो जाता है. राजदीप को पर्रिकर और प्रभु पर गर्व हो जाता है. सारस्वत को सारस्वत पर गर्व हो जाता है. सेकुलर को कम्युनल पर दुलार आ जाता है. वैसे, अलग से लिखने की क्या जरूरत है कि दोनों टैलेंटेड हैं. वह तो स्वयंसिद्ध है. राजदीप भी कोई कम टैलेंटेड नहीं हैं.

सेकुलर को
कम्युनल पर
प्यार आ गया
प्राइड आ गया.

प्यार शाश्वत है,
प्यार सारस्वत है.

xxx

दो चीज़ों का डर नहीं होना चाहिए। एक तो कि कोई हैक कर लेगा। तो क्या? फिर से बना लेंगे और 10 दिन में पढ़ने वाले भी आ जाएँगे। दूसरा डर कि धार्मिक आस्था को चोट वाला कोई मुक़दमा हो गया तो? एक तो होगा नहीं। कौन अपने धार्मिक ग्रंथों की क़ानूनी पड़ताल कराके उनकी फ़ज़ीहत करना चाहेगा? मुक़दमा हुआ तो हम इस बारे में पढ़ेंगे बहुत और बताएँगे भी बहुत। दूसरे, इस धारा में सज़ा होती नहीं। मैंने कभी सुना नहीं। मुझे करेक्ट कीजिए। तो मस्त रहिए। टेक्नोलॉजी और लोकतंत्र को थैंक यू कहिए। इतने साल में न मेरा हैक हुआ न किसी ने मुक़दमा किया।

xxx

मनुस्मृति और तमाम स्मृतियों के हिसाब से गोडसे जी को तो क्या, उनकी बिरादरी में किसी को भी बड़े से बड़े अपराध के लिए फाँसी नहीं हो सकती थी। मैकॉले जी ने भारत में पहली बार IPC यानी इंडियन पीनल कोड बना दिया। क़ानून की नज़र में सब बराबर हो गए। समान अपराध के लिए समान दंड लागू हो गया। तो गोडसे जी को फाँसी हो गई मैकॉले जी के विधान से। इसलिए भी मैकॉले जी भारत में विलेन माने जाते हैं।

वरिष्ठ पत्रकार दिलीप मंडल के फेसबुक वॉल से.

इसे भी पढ़ें…

अपनी जाति बताने के लिये शुक्रिया राजदीप सरदेसाई

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

इंडिया टुडे वालों के फर्जी सर्वे की खुली पोल, केजरीवाल ने पूछा- क्या यही है पत्रकारिता?

इंडिया टुडे समूह के फर्जी सर्वे और घटिया पत्रकारिता से अरविंद केजरीवाल नाराज हैं. अरविंद केजरीवाल ने अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्टवीट करके लोगों से पूछा है कि क्या इसे ही पत्रकारिता कहते हैं? साथ ही केजरीवाल ने एक वीडियो लिंक दिया है जिसमें इंडिया टुडे के फर्जी सर्वे की असलियत बताई गई है. अरविंद केजरीवाल के पेज पर शेयर किए गए लिंक से यू-ट्यूब पेज पर जाने पर एक वीडियो मिलता है. इस वीडियो में दिखाया गया है ‌कि देश का नामी इंडिया टुडे ग्रुप द्वारा न्यूजफिल्क्स डाट काम नामक एक वेबसाइट के जरिए एक सर्वे कराया रहा है जिसमें लोगों से पूछा गया है कि वह केजरीवाल को कितना नापसंद करते हैं और ये कि क्या आप केजरीवाल को दोबारा मौका देंगे?

चौंकाने वाली बात ये है जैसे ही इस सर्वे में आप भाग लेते हैं आपसे एक एक कर सात सवाल पूछे जाते हैं लेकिन कोई भी सवाल केजरीवाल से जुड़ा हुआ नहीं होता. लेकिन जब रिजल्ट बताया जाता है तो कहा जाता है कि आपने केजरीवाल को नापसंद कर दिया है. सवालों का जवाब देते हुए जब आप आगे बढ़ते हैं तो आपको शाहरूख खान की पसंदीदा फिल्म से लेकर आपके फेवरेट स्वतंत्रता सेनानी के बारे में पूछा जाता है. अंत में सर्वे आपको बताता है कि आप केजरीवाल को पसंद नहीं करते हैं.

शेयर किए गए वीडियो में दिखाया गया है कि देश का नामी मीडिया ग्रुप इंडिया टुडे फर्जी सर्वे कराकर अरविंद केजरीवाल को नापसंद करने वालों की संख्या के बारे में बता रहा है. साथ ही इस वीडियो के अंत में बताया गया है कि कैसे केजरीवाल पर भरोसा करने पर दिल्ली की जनता को निराशा हाथ लगी. इस वीडियो में बताया गया है कि सर्वे में शामिल होने वाले से कुल सात सवाल पूछे जाते हैं लेकिन उनमें से कोई भी सवाल न तो केजरीवाल से संबंधित हैं और न ही उनका कोई संबंध देश या दिल्ली की राजनीतिक व्यवस्‍था से है.

अरविंद केजरीवाल का ट्वीट और सर्वे के डिटेल के बारे में वीडियो लिंक यूं है….

Arvind Kejriwal       

✔ @ArvindKejriwal

Is this journalism? I am shocked:

https://www.youtube.com/watch?v=trx4YevdcpE

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

अपनी जाति बताने के लिये शुक्रिया राजदीप सरदेसाई

Vineet Kumar : राजदीप की इस ट्वीट से पहले मुझे इनकी जाति पता नहीं थी..इनकी ही तरह उन दर्जनों प्रोग्रेसिव मीडियाकर्मी, लेखक और अकादमिक जगत के सूरमाओं की जाति को लेकर कोई आईडिया नहीं है..इनमे से कुछ वक्त-वेवक्त मुझसे जाति पूछकर अपनी जाति का परिचय दे जाते हैं..और तब हम उनकी जाति भी जान लेते हैं.

वैसे तो इस देश में जहाँ अधिकाँश चीजें जाति से ही तय होती है,ऐसे में अपने परिचित क्या,राह चलते किसी भी व्यक्ति की जाति जान लेना बेहद आसान काम है लेकिन उतना ही मुश्किल है किसी प्रोग्रेसिव की जान लेना..वो बताते तो हैं और बरतते भी हैं,बस अपने को उस नॉक पॉइंट को पकड़ना आना चाहिये..और तब आप जो उनकी जाति जानेंगे वो सामाजिक रूप से तो आपके किसी काम का नहीं होगा लेकिन आपकी समझदारी बढ़ाने के बहुत काम आयेगा..आपको क्या लगता है, राजदीप का शुक्रिया अपनी जाति सारस्वत ब्राह्मण बताने पर अदा किया है?

युवा मीडिया विश्लेषक विनीत कुमार के फेसबुक वॉल से.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

अपने निजी फेसबुक और ट्विटर एकाउंट का विज्ञापन करने में जनता का पैसा लुटा रहे हैं अखिलेश यादव

सेवा में, श्री अखिलेश यादव,

मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश शासन, लखनऊ

विषय- सरकारी विज्ञापनों में आपके व्यक्तिगत फेसबुक और ट्विटर एकाउंट के प्रचार विषयक

महोदय,

कृपया दिनांक 04/11/2014 को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा विभिन्न समाचारपत्रों में प्रकाशित तीन विज्ञापनों का सन्दर्भ ग्रहण करें जो दिनांक 04/11/2014 को 100 पुलिस भवन तथा 2 उपरिगामी सेतुओं तथा दिनांक 05/11/2014 को समाजवादी पेंशन योजना के उद्घाटन से सम्बंधित हैं.  इन सभी विज्ञापनों में अन्य तथ्यों के अलावा एक ट्विटर एकाउंट twitter.com/yadavakhilesh, एक फेसबुक एकाउंट facebook.com/yadavakhilesh तथा एक यू-ट्यूब एकाउंट youtube.com/user/upgovtofficial भी अंकित है. ये फेसबुक और ट्विटर एकाउंट आपके अर्थात श्री अखिलेश यादव के व्यक्तिगत एकाउंट हैं जिसके भारी संख्या में फौलोवर हैं. इन दोनों एकाउंट में आपका वेबसाइट samajwadiparty.in  अंकित है जो समाजवादी पार्टी का आधिकारिक वेबसाइट है.

चूंकि आप समाजवादी पार्टी के नेता हैं और उसी पार्टी के नेता के रूप में आपने मुख्यमंत्री पद प्राप्त किया, अतः अपने निजी फेसबुक और ट्विटर एकाउंट पर उस राजनैतिक पार्टी का वेबसाइट रखना स्वाभाविक है. आप वर्तमान में समाजवादी पार्टी के नेता के साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री भी हैं और इस रूप में आप द्वारा ये दोनों एकाउंट अपनी इच्छानुसार कभी सपा नेता और कभी प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में प्रयोग किया जाता है जिसमे आप अपनी पार्टी के लोगों और प्रदेश की जनता से अपनी बात कहते हैं और उनसे इस माध्यम से संवाद करते हैं. लोग आपकी बात सुनते हैं और उसके जरिये आपसे जुड़े हैं और यह आपका पूर्ण अधिकार है.

इस पूरी प्रक्रिया में समस्या तब आ रही है जब उत्तर प्रदेश सरकार के आधिकारिक विज्ञापनों में आपके इन व्यक्तिगत फेसबुक और ट्विटर एकाउंट का उल्लेख किया जा रहा है और सरकारी तौर पर बताया जा रहा है कि आपका ट्विटर एकाउंट twitter.com/yadavakhilesh और फेसबुक एकाउंट facebook.com/yadavakhilesh है. इस तरह सराकर के खर्च पर आपके व्यक्तिगत फेसबुक और ट्विटर का विज्ञापन हो रहा है.

यह अपने आप में अनुचित और नियमविरुद्ध है क्योंकि सरकारी खर्च पर किसी व्यक्ति विशेष के फेसबुक आदि का और उनके व्यक्तिगत कार्यों, व्यक्तिगत उपलब्धियों का प्रचार नहीं किया जा सकता. इससे भी अनुचित और विधिविरुद्ध यह तथ्य है कि आपके फेसबुक और ट्विटर एकाउंट में तमाम राजनैतिक बातें भी लिखी गयी हैं. इसमें समाजवादी पार्टी का प्रचार, समाजवादी पार्टी के कार्यक्रम, सपा को वोट देने के लिए आमंत्रित करना, श्री नरेंद्र मोदी को सत्ता में आने से रोकने जैसी तमाम बातें लिखी हुई हैं. जाहिर है कि उत्तर प्रदेश सरकार इस तरह की बातें आधिकारिक रूप से प्रचारित नहीं कर सकती. सरकार किसी पार्टी विशेष के कार्यक्रम, उसकी उपलब्धियां, किसी पार्टी को वोट देने, किसी अन्य पार्टी को वोट नहीं देने जैसी बातें आधिकारिक रूप से नहीं कर सकती.

इसके बावजूद ऐसा इसीलिए हो रहा है क्योंकि सरकार में बैठे कुछ अफसर नियमों को ताक पर रख कर इस प्रकार के विधिविरुद्ध कार्य कर रहे हैं. मुझे पूर्ण विश्वास है कि ये चापलूस अफसर आपको खुश करने के लिए नियमों को ताक पर रख ऐसे नियमविरुद्ध कार्य कर रहे हैं जिससे आप व्यक्तिगत रूप से आरोपित हो रहे हैं और यह विधिविरुद्ध कार्य सीधे आपके नाम और आपके व्यक्तित्व से जुड़ा हुआ है. इसी प्रकार यूट्यूब पर सरकार के कथित आधिकारिक चैनेल पर आपके समाजवादी पार्टी पर झंडा फहराने जैसे पूर्णतया राजनैतिक कार्यक्रमों को भी प्रचारित किया जा रहा है.

मैं ऐसे तमाम राजनैतिक टिप्पणी यहाँ तारीख सहित प्रस्तुत कर रही हूँ जिसमे आपने राजनैतिक बातें कही हैं जो आप सपा नेता के रूप में कह सकते हैं पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में नहीं लेकिन इन चापलूस अफसरों के चक्कर में आपकी ये राजनैतिक बातें भी आपके फेसबुक और ट्विटर के प्रचार से सरकारी अभिलेख और सरकारी प्रचार का हिस्सा बन जा रहे हैं, जो पूरी तरह गलत है. मैं जानती हूँ कि जब ये बातें आपके संज्ञान में आएँगी तो आप यह स्थिति तत्काल रुकवाने के आदेश देंगे क्योंकि आप कभी भी अपने नाम पर इस प्रकार के गैरकानूनी काम नहीं होने या करने देंगे जिसमे आगे चल कर आपको अपयश मिले और आप सरकारी धन के व्यक्तिगत हित में उपयोग करने के दोषी करार दिए जाएँ.

अतः मैं उपरोक्त समस्त तःयों के दृष्टिगत आपसे निम्न दो निवेदन करती हूँ-

1.  कृपया तत्काल यह स्थिति रोकने के आदेश देने की कृपा करें ताकि आपके व्यक्तिगत फेसबुक और ट्विटर एकाउंट आधिकारिक प्रचारों में सम्मिलित नहीं हों और आप सरकारी धन से अपना प्रचार करने के दोषी नहीं कहे जाएँ

2.  इस प्रकार का अनुचित और अवैध कार्य करने और इसके जरिये आपकी स्थिति खराब करने वाले सभी चापलूस अफसरों के खिलाफ कठोरतम कार्यवाही करने की कृपा करें ताकि भविष्य में कोई आपको ऐसी असहज स्थिति में ना लाने की हिमाकत करे

पत्र संख्या- NT/Complaint/13/14
दिनांक-06/11/2014

भवदीय
(डॉ नूतन ठाकुर)
5/426, विराम खंड,
गोमती नगर, लखनऊ
# 94155-34525
nutanthakurlko@gmail.com

वर्ष 2014 में अब तक फेसबुक पर लिखी तमाम राजनैतिक टिप्पणियाँ (तारीख सहित)

23/02/2014 Today, I flagged off our Cycle Rally from Jantar Mantar, Delhi.

07/03/2014 http://www.ndtv.com/video/player/candidates-2014/the-whole-country-knows-bjp-s-character-says-akhilesh-yadav/312172?hp

15/03/2014 Today, I have completed two years in office. During this time, one of my most important objective was to empower the women of Uttar Pradesh. We have launched many schemes to achieve this goal.  Today, I am proud to present our first commercial for the Lok Saba election, honoring the women of India. (samajwadi party)

25/03/2014 Metro Rail Projects, IT Cities, Expressways, Parks, Hospitals, Medical Colleges, Stadiums
Samajwadi Party-रोज़ नया कदम

02/04/2014 Today we released our party’s manifesto for the upcoming Lok Sabha elections

17/04/2014, 24/04/2014, 12/05/2014- समाजवादी पार्टी को वोट देने का आह्वान

09/05/2014 Last few hours of campaigning.

20/05/2014 Hindi, Urdu and all National languages are a part of our cultural heritage. Samajwadi Party believes in all the National languages.

27/07/2014 www.samajwadiparty.in

13/09/2014 Vote for Cycle. Vote for Samajwadi Party.

07/10/2014 Socialism = Prosperity + Equality- The start of the Samajwadi Party Convention 2014 will be marked by the inauguration of the Janeshwar Mishra statue.

08/10/2014 Day One of Samajwadi Party’s 9th Conclave.

09/10/2014 Day Two of Samajwadi Party’s 9th Conclave.

10/10/2014 Final Day of Samajwadi Party’s 9th Conclave.

19/10/2014 Congratulations to the Samajwadi Party workers for their win in Kairana.

उपरोक्त टिप्पणी ट्विटर पर भी हैं. इसके अतिरिक्त ट्विटर पर वर्ष 2014 में कुछ अन्य अतिरिक्त राजनैतिक टिप्पणियाँ (तारीख सहित)

21/03/2014 Samajwadi Party initiates, India’s largest Social Security movement with Samajwadi Pension Scheme.

07/04/2014 ‘We will do better than 2009 elections’ – Akhilesh Yadav, Hindustan Times

23/04/2014 Happy to see the Samajwadi Party flag flying high all the way in Seattle, USA. Thank you for sharing.

01/05/2014 Samajwadi Party would stop Modi’s model in UP. His model of dividing India.

यू-ट्यूब पर कथित UP Government Official Channel पर प्रस्तुत आपके द्वारा सपा कार्यालय पर झंडारोहण का वीडियो है जिसमें लिखा गया है कि- ”मा0 मुख्यमंत्री जी द्वारा स0पा0 कार्यालय में झण्डा रोहण करते हुए। दिनांक 15 08 2014”

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

तस्लीमा नसरीन ने अपने से बीस साल छोटे ब्वायफ्रेंड की तस्वीर ट्विटर पर पोस्ट की

Awadhesh Kumar : ट्विटर पर तस्लीमा नसरीन ने पोस्ट की अपने ब्वॉयफ्रेंड की फोटो, बताया-20 साल छोटा… तस्लीमा नसरीन ने एक बार फिर चौंकाने वाला ट्वीट किया है। माइक्रो ब्लॉगिंग साइट पर उन्होंने इस बार अपने ब्वॉयफ्रेंड के साथ खुद की तस्वीर पोस्ट की है। यही नहीं, उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘मेरा ब्वॉयफ्रेंड मुझसे उम्र में 20 साल छोटा है। इट्ज कूल।’ उनके इस ट्वीट को 10 मिनट के अंदर 22 लोगों ने रीट्वीट किया।

इस पोस्ट के साथ तस्लीमा ने स्पष्ट कर दिया कि वो single नहीं हैं। उनके निजी और सेक्स जीवन को लेकर समय समय पर कयास सामने आते थे। इसके बाद यह बंद हो जाना चाहिये। लेकिन ऐसा उन्होंने क्यों किया है? कुछ का मानना है कि यु अत्यंत साहस का कदम है। बिना निकाह यह बताना कि उनका ब्वॉयफ्रेंड है, जिसके साथ वो जीवन इन्ज्वाय करतीं हैं….कट्टरपंथियों को रास नहीं आयेगा। लेकिन तस्लीमा जानी ही जातीं हैं इसीलिये। अभी उनके ब्वॉयफ्रेंड के बारे में विस्तृत जानकारी नहीं है।

वरिष्ठ पत्रकार अवधेश कुमार के फेसबुक वॉल से.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

न्यूज एक्स से जुड़ गए पंकज पचौरी

पंकज पचौरी एनडीटीवी में हुआ करते थे. उसके बाद वह मनमोहन सिंह की सरकार में पीएम के मीडिया सलाहकार बन गए. सलाह देने के बाद जब मनमोहन सरकार विदा हो गई तो कुछ महीनों के खालीपन के बाद अब फिर से पत्रकार रूप में सक्रिय होने को तैयार हो गए हैं. अबकी वह न्यूज एक्स के साथ जुड़े हैं.

पंकज पचौरी इस चैनल पर बतौर गेस्ट बहसियाते दिखने लगे हैं. पंकज बीबीसी और इंडिया टुडे में भी कम कर चुके हैं. मथुरा निवासी पंकज पचौरी के भाई सुधीश पचौरी हैं जो व्यंग्य लेखक हैं. पंकज ने ट्वीट करके टीवी में फिर से सक्रियता की घोषणा की है. न्यूज ए्क्स पर पंकज आने वाले दिनों में किसी प्रोग्राम को होस्ट करते भी देखे जा सकते हैं.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें: