लाइव : एंकर ने दी चुनौती तो महिला रिपोर्टर उतर गई समुद्र में, उतर गई उसकी बिकनी, वीडियो वायरल

रेनका। न्‍यूज चैनल के लिए बीच से लाइव रिपोर्टिंग कर रही एक न्‍यूज एंकर की सबके सामने बिकनी उतर गई। दरअसल वो समुद्री इलाके रेनका के बीच से लाइव रिपोर्टिंग कर रही थी और इस दौरान स्‍टूडियो में बैठे उसके साथी एंकर ने उसे समुद्र में नहाने की चुनौती दी थी।

एक अंग्रेजी वेबसाइट के अनुसार चिलीयन न्‍यूज रिपोर्टर बेर्नर्डिटा मिडलटन पेसिफिक सागर के बीच से मशहूर शो गुड मॉर्निग एवरीवन के लिए रिपोर्टिंग कर रही थी। इस दौरान स्‍टूडियो में बैठे न्‍यूज एंकर ने उसे चुनौती दी कि क्या वह तुरंत जाकर समुद्र के ठंडे पानी में डुबकी नहीं लगा सकती।

मिडलटन ने यह चुनौती स्‍वीकार करते हुए कपड़े उतारे और बिकनी में समुद्र में उतर गई। इस पूरे घटनाक्रम के दौरान कैमरा चालू था। चुनौती को मंजूर करते हुए रिपोर्टर जैसे ही पानी में उतरी, तेज लहरों ने उसकी बिकनी छीन ली। हालांकि, उसने तुरंत एक्‍शन लेते हुए इसे ठीक कर लिया लेकिन यह वीडियो वायरल हो गया।

घटना के बाद मिडलटन खुद भी इस पर हंसती नजर आई। यह पहली बार नहीं है जब मिडलटन सुर्खियों में रही हो। इससे पहले इस रिपोर्टर ने प्रिंस हैरी को शादी के‍ लिए यह कहते हुए प्रपोज किया था कि उसका उपनाम मिडलटन है।

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

और भाजपा के मंत्री महोदय महिला डाक्टर का कालर ठीक करने लगे… फोटो हुई वायरल

ये वो तस्वीर है जो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है. जो शख्स इसमें दिख रहे हैं वो मंत्री हैं और भाजपा नेता भी. महिला डॉक्टर का कॉलर पकड़े ये मंत्री जी उसे बता रहे हैं कि कालर कैसे रखना चाहिए. मंत्री का नाम चौधरी लाल सिंह है. ये जम्मू-कश्मीर सरकार में मंत्री हैं. चौधरी लाल सिंह की ये तस्वीर सोशल मीडिया पर फैल गई है. इसमें उन्हें एक महिला डॉक्टर का कॉलर ठीक करते हुए देखा जा सकता है.

स्वास्थ्य मंत्री और भाजपा नेता लाल सिंह अमरनाथ यात्रा शुरू होने से पहले तैयारियों का जायजा लेने के लिए लाखनपुर के सरकारी अस्पताल गए थे. अस्पताल में उन्होंने देखा कि डॉक्टर का कॉलर सही से नहीं था और उन्होंने उसे सही किया. पूरे घटनाक्रम के चश्मदीद एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘मंत्री महिला डॉक्टर के पास गए और उनसे कहा, बिटिया आपका कॉलर सही नहीं है और उन्होंने हाथ से उसे सही किया. महिला डॉक्टर ने कोई विरोध नहीं किया.’’ अधिकारी ने कहा कि इसे देख रहीं अन्य महिला डॉक्टरों ने भी अपने अपने कॉलर सही कर लिये. उन्होंने कहा, ‘‘वहां काफी भीड़ थी. मुझे नहीं लगता कि उन्होंने एक सरकारी अस्पताल में अनुचित तरीके से महिला डॉक्टर को छुआ.’’ मंत्री के साथ स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा विभाग के सचिव डॉ मनदीप भंडारी और कठुआ के एसपी नासिर खान भी थे. इस साल फरवरी में सिंह पर एक महिला डॉक्टर ने मानसिक उत्पीड़न का आरोप लगाया था. तब मंत्री ने कथित तौर पर एप्रन नहीं पहनने पर उस महिला डॉक्टर को खरी खोटी सुनाई थी.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

फेकू मोदी का एक नया झूठ सोशल मीडिया पर हुआ वायरल…

पीएम नरेंद्र मोदी का एक नया झूठ सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. उन्होंने कहा हुआ है कि सीमेंट की एक बोरी 120 रुपये में मिल रही है. एबीपी न्यूज द्वारा चलाई गई ऐसी खबर का स्क्रीनशाट लगाकर लोग लिख रहे हैं कि अब मोदी जी ही बता दें कि वो दुकान कहां है जहां पर इतने सस्ते रेट पर सीमेंट की बोरी मिल रही है.

फेसबुक पर Gulshan Kumar Arora ने एबीपी न्यूज के स्क्रीनशाट का फोटो चिपकाकर लिखा है: ”झूठ के अतिरिक्त इस व्यक्ति के मुंह से आप कभी और कुछ नहीं सुन पाएंगे….. कहाँ मिल रही है सीमेंट की एक बोरी १२० रुपये में? जरा आप खुद ही पता कर लें.. प्रधान मंत्री होकर ऐसा सफ़ेद झूठ? शर्म आनी चाहिए… जो कि है ही नहीं.

पत्रकार Surendra Grover लिखते हैं: क्या कोई बताएगा कि 120 रूपये में सीमेंट की बोरी किस शहर में किस दूकान पर मिलती है..? कृपया पता लगाएं..

फेसबुक पर विक्रम सिंह चौहान लिखते हैं – नरेंद्र मोदी की सुबह की शुरुआत ही झूठ से होती है. आज फिर उन्होंने झूठ बोला कि सीमेंट की बोरी अब 120 रूपए में मिल रही है. मेरे नए घर की ढलाई के लिए 200 बोरी सीमेंट की जरूरत पड़ेगी. सोच रहा हूँ पीएमओ को इसी न्यूज़ को आधार मानकर पूछूं कि कहाँ किस कंपनी की सीमेंट इतनी सस्ती मिलती है?शर्म आती है ये आदमी इस महान देश का प्रधानमंत्री बन बैठा है. शर्म उन्हें भी आना चाहिए जिन्होंने इसे वोट किया.

अनीला ने ट्विट किया – आज फेंकने का विश्व रिकोर्ड टुटा सीमेंट की बोरी 120/- रुपए की होगई ?? मोदी जी लीमिट में फेंकिए।

योगेश शर्मा जर्नलिस्ट ने भी पूछ लिया कि लो भई मोदी जी ने आज कह दिया है कि सीमेंट की बोरी 120 रूपए में हो गई है।  इससे ज्यादा कोई मांगे तो मत देना दुकानदार को….चाहे कुछ भी हो जाए, आपको पता नहीं हो तो मोदी जी से पूछ लेना। 120 रूपये में सीमेंट की बोरी किस शहर में किस दूकान पर मिलती है..?

Mohammad Anas लिखते हैं: नरेंद्र मोदी द्वारा सिमेंट का दाम 270 रूपए के बजाए 120 बताना कुछ और नहीं जनता का उनकी सरकार के प्रति घटता विश्वास है। जनता दिमाग तक पर असर कर जाती है। कुछ दिनों बाद वे यह भी कह सकते हैं कि डीजल 5 रूपए लीटर मिलता है। वैसे सच कहूं तो प्रधानमंत्री पद की गरिमा को जिस तरह मोदी जी ठेस पहुंचा रहे हैं उतना पहले कभी नहीं पहुंचा था। वे वाकई में पहले पीएम हैं। शायद अब पहले भारतीय भी बन गए।

इससे पहले भी नरेंद्र मोदी के झूठ मिडिया की सुर्खियों में रहे हैं। उन्होंने कहा था कि चीन अपनी जीडीपी का 20 प्रतिशत शिक्षा पर खर्च करता है, लेकिन भारत सरकार नहीं। हकीकत यह है कि चीन अपनी जीडीपी का महज 3.93 प्रतिशत ही शिक्षा पर खर्च करता है। वहीं भारत में एनडीए सरकार के कार्यकाल में शिक्षा पर 1.6 प्रतिशत खर्च हुआ और यूपीए के कार्यकाल में सालाना जीडीपी का 4.04 प्रतिशत शिक्षा पर खर्च हुआ है। मोदी ने कहा था कि सिकंदर महान को गंगा नदी के तट पर बिहारियों ने हराया था। सिकंदर महान 326 ई.पू. तक्षशिला से होते हुए पुरु के राज्य की तरफ बढ़ा, जो झेलम और चेनाब नदी के बीच बसा हुआ था। राजा पुरु से हुए घोर युद्ध के बाद वह व्यास नदी तक पहुंचा, परन्तु वहां से उसे वापस लौटना पड़ा। उसके सैनिक मगध (वर्तमान बिहार) के नन्द शासक की विशाल सेना का सामना करने को तैयार न थे। इस तरह से सिकंदर पंजाब से ही वापस लौट गया था। 

मोदी ने कहा था कि विश्व प्रसिद्ध तक्षशिला या टेक्सिला विश्वविद्यालय बिहार में था। तक्षशिला प्राचीन भारत में शिक्षा का प्रमुख केन्द्र था। तक्षशिला वर्तमान समय में पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के रावलपिंडी जिले की एक तहसील है। मोदी ने कहा था कि एनडीए की कार्यकाल में भारत की विकास दर 8.4 प्रतिशत थी, जबकि एनडीए के कार्यकाल में भारत की विकास दर मात्र 6 प्रतिशत थी। उन्होंने कहा था कि गुजरात में देश में सबसे अधिक विदेशी पूंजी निवेश होता है, जबकि आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2000 से 2011 तक गुजरात में 7.2 बिलियन डॉलर का विदेशी पूंजी निवेश हुआ है और इसी अवधि में महाराष्ट्र में 45.8 बिलियन डॉलर और दिल्ली में 26 बिलियन डॉलर का विदेशी पूंजी निवेश हुआ है।

मोदी ने कहा था कि नर्मदा पर बांध बनने पर लोगों को मुफ्त बिजली मिलेगी। अब तक कभी ऐसा नहीं हुआ है कि किसी प्रदेश में नदियों पर बांध बनने से मुफ्त में लोगों को बिजली मिली हो। राष्ट्रीय बिजली नियामक आयोग के अनुसार बिजली के लिए पैसा देना ही होगा। लोकसभा चुनाव के दौरान मोदी ने कहा था कि उनके पटना भाषण के बाद सरकार ने टीवी मीडिया पर प्रतिबंध लगाने की नीयत से मीडिया एडवाइजरी जारी की। हकीकत उल्टी है। नरेन्द्र मोदी ने 27 अक्टूबर को पटना में भाषण दिया था, जबकि सूचना प्रसारण मंत्रालय की एडवाइजरी इससे एक सप्ताह पहले 21 अक्टूबर को ही जारी कर दी गई थी। यह एडवाइजरी सूचना प्रसारण मंत्रालय की वेबसाइट पर भी मौजूद है। एक बड़े अखबार के इंटरव्यू के बाद मोदी का एक और ‘झूठ’ सुर्खियों में आया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि सरदार पटेल की अंत्येष्टि में पंडित जवाहर लाल नेहरू शामिल नहीं हुए थे। 

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

निखिल वागले को अगर मौका मिला तो वह बलात्कारी बन सकते हैं!

ट्वीटर पर पत्रकार निखिल वागले ने पेशावर घटनाक्रम को लेकर ट्वीट किया कि भारत में आरएसएस परिवार भले तालिबान की तरह ना हो लेकिन अगर उन्हें मौका मिला तो तालिबानी बन सकते हैं.

निखिल के इस ट्वीट के जवाब में किन्हीं श्रीहर्ष ने तरुण तेजपाल तहलका कांड की तरफ इशारा करते हुए कहा कि निखिल वागले बलात्कारी तो नहीं हैं लेकिन मौका मिला तो बलात्कारी बन सकते हैं.

ये दोनों ट्वीट सोशल मीडिया पर खूब चर्चा में हैं. लोग कह रहे हैं- इसे कहते हैं नहले पर दहला. जय हो… 🙂

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

डीएम हो तो इन मैडम की तरह, करप्ट अफसरों को पब्लिक के सामने ही औकात में ला दिया (देखें वीडियो)

राहुल गोयल ‘बुलंदशहर एक्सप्रेस’ नामक वेबसाइट चलाते हैं. इन्होंने भड़ास को पत्र लिखकर सूचित किया है बुलंदशहर की डीएम बी. चंद्रकला का जो वीडियो वायरल हुआ है, दरअसल वो ओरीजनली उन्होंने यूट्यूब पर अपलोड किया था जिसे बाद में बड़ी मीडिया कंपनियों ने डाउनलोड कर अपने अपने पोर्टलों पर अपलोड कर लिया. राहुल का कहना है कि उनकी मेहनत का रिकागनाइज किया जाना चाहिए. राहुल का पत्र इस प्रकार है…

respected sir,

ये वीडियो सबसे पहले हमने यूट्यूब पर अपलोड किया था. आज इस वीडियो की काफी चर्चा हो रही है. कई राष्ट्रीय वेबसाइटों ने इसे डाउनलोड करके अपने यूट्यूब चैनल पर अपलोड कर लिया है. आपसे निवेदन है कि कृपया इस खबर को थोड़ी जगह देंगे तो आपकी बहुत मेहरबानी होगी और हम जैसी छोटी वेबसाइटों को हौसला मिलेगा.

Regards
Rahul Goel
Bulandshahr Express
editor.bsrexpress@gmail.com

अब बात करते हैं वीडियो की. बुलंदरशहर में नगर पालिका के कई करोड़ रुपये के विकास कार्य बेहद घटिया और मानक विहीन पाये गये. जिलाधिकारी बी.चन्द्रकला ने मौके पर जाकर निरीक्षण किया. उन्होंने मौके पर ही जनता के सामने अफसरों की तगड़ी क्लास लगाई. बुलंदशहर सिटी में करीब 10 करोड़ रुपये के इंटरलॉक टाइल्स के निर्माण कराये जा रहे हैं और इन निर्माण कार्यों में लगने वाली इंटरलॉक टाइल्स बुलंदशहर नगर पालिका के चेयरमैन के एक रिश्तेदार की फैक्ट्री से मंगाई गयी है. डीएम ने स्थल निरीक्षण में पाया कि ये टाइल्स बेहद घटिया और अधबनी हैं. डीएम ने दोषी ठेकेदार और अफसरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए हैं. डीएम बी. चंद्रकला ने जिस तेवर के साथ पब्लिक के सामने एक-एक अफसरों की क्लास ली, वह अदभुत दृश्य है. वीडियो देखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें…

https://www.youtube.com/watch?v=5Uz7KR7z1XM

 

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

‘न्यूज 59’ के एंकर डैन थोर्न ने ऑन कैमरा किया डांस, वीडियो वायरल

पश्चिमी वर्जिनिया के ’59 न्यूज’ चैनल का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें एंकर डैन थोर्न टेलर स्विफ्ट के गाने ‘शेक इट ऑफ..’ पर डांस करते हुए दिखाई दे रहे हैं. साथ में उनकी महिला सहकर्मी भी बैठी हुई हैं, लेकिन उनके हाव भाव को देखने से लगता है कि डैन का डांस उन्हें पसंद नहीं आया.

डैन थोर्न अपनी कुर्सी पर बैठे हुए महिला सहकर्मी को बीच-बीच में अपने हाव भाव से छेड़ते नजर आ रहे हैं. इस वीडियो को एंकर के यूट्यूब चैनल से जारी किया गया है. वीडियो को मिली जुली प्रतिक्रिया मिल रही है, साथ ही कुछ लोग उनकी साथी सहकर्मी की आलोचना भी कर रहे हैं. हालांकि वीडियो चैनल की व्यूअरशिप बढ़ाने की रणनीति का हिस्सा दिख रहा है.

वीडियो देखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें…

https://www.youtube.com/watch?v=jzc3Ndk5x8w

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें: