पढ़िए अंबानी के चैनल द्वारा भेजे गए लीगल नोटिस का भड़ासी जवाब!

Regd AD/ Speed Post 14/11/18 To, Mr. Mirnal Bharti, Advocate, B-9, Shekhar Apartments, Mayur Vihar, Phase-I, Ext. Delhi-110092. कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

ये है अंबानी के चैनल की तरफ से भड़ास को भेजा गया लीगल नोटिस, आप भी पढ़ें

Dear Sir, I hereby serve upon you the following Legal Notice for Defamation on behalf of my client TV18 Broadcast Limited: BY SPEED POST / EMAIL November 14, 2018 कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

जी मीडिया का कारनामा : स्टिंग किया कोबरा पोस्ट ने, लीगल नोटिस भेजा भड़ास को

Yashwant Singh : ये जी ग्रुप वाले पूरे मूर्ख हैं क्या? स्टिंग किया कोबरा पोस्ट ने और लीगल नोटिस भेज रहे हैं भड़ास को. लगता है इनका कपार पूरा का पूरा फिर गया है. अरे भाई हम तो साभार छापे हैं भड़ास पर. मूल कंटेंट तो कोबरा पोस्ट का है. फिर काहें चले आए धमकाने… …

पत्रकारों की तुलना कुत्ते से की तो अर्पण जैन ‘अविचल’ ने विधायक को भेजा 25 लाख का नोटिस

इंदौर : सरदारपुर के भाजपा विधायक वैलसिंग भूरिया को इंदौर हाई कोर्ट के वकील के माध्यम से इंदौर के पत्रकार अर्पण जैन ‘अविचल’ ने 25 लाख का नोटिस भेजा है। ज्ञात हो कि 20 सितम्बर को भूरिया ने सरदारपुर में आयोजित खंड स्तरीय कृषक सम्मेलन में मंच से पत्रकारों को अपशब्द कहे थे। उन्होंने पत्रकारों की तुलना कुत्ते से की थी। इससे आहत होकर पत्रकार अर्पण जैन ‘अविचल’ ने 25 लाख का नोटिस भेजा है.

जिस पत्रकार ने देह व्यापार का खुलासा किया, दैनिक जागरण ने उसे ब्लैकमेलर बता दिया… पीड़ित ने भेजा लीगल नोटिस

Ranjeet Yadav : मित्रों दैनिक जागरण के प्रधान संपादक / स्थानीय संपादक को मैंने लीगल नोटिस भेज दिया है. 15 दिनों के अंदर गलत ख़बर पर खेद प्रकाशित नही करेंगे तो मानहानि का मामला कोर्ट में किया जाएगा. गोरखपुर में बीते दिनों मैंने एक देह व्यापार को लेकर पोस्ट डाली थी. उस प्रकरण को मैंने बड़ी गंभीरता से उठाया था जिसे गोरखपुर पुलिस ने संज्ञान में लेते हुए कार्यवाही की और सभी अखबारों ने इस प्रकरण पर खबर लिखी. किन्तु दैनिक जागरण ने अपने खबर में मुझे ही ब्लैकमेलर बना दिया. उनकी खबर में क्या लिखा गया है, मैं बताता हूँ. साथ ही, मेरे मन मे उठे सवालों को भी आप जानिए.

अखंड गहमरी ने अमर उजाला के स्थानीय संवाददाता से दुखी होकर प्रधान संपादक को भेजा लीगल नोटिस

हमारे गहमर में एक समाचार पत्र है अमर उजाला जिसके स्‍थानीय संवाददाता को कार्यक्रम में बुलाने के लिए जो मानक है वह मानक मैं पूरा नहीं कर पाता। इस लिए वह न तो हमारे कार्यक्रम की अग्रिम सूचना छापते हैं और न तो दो दिनो तक कार्यक्रम के समाचार। तीसरे दिन न जाने उनको क्‍या मिल जाता है जो आनन फानन में मुझसे बात कर न करके अन्‍य लोगो से व्‍यक्ति विशेष के बारे में सूचना मॉंगते है और मनगढ़त खबर बना कर प्रकाशित कर देते है।

ईनाडु इंडिया : पत्रकार को वित्तीय मदद का झूठा दावा करने वाले अधिकारियों की हो रही किरकिरी

११ अगस्त / २०१५ को मेरी जिंदगी में जबरदस्त भूचाल आया। एक नई जिम्मेदारी के साथ सूर्योदय हुआ। राजा सिकंदर भी खाली हाथ आए थे, और खाली हाथ ही दुनिया से पर्दा कर गए। शायद उस रोज़ भी कायनात को मेरे अब्बू का जिंदा रहना नागवार गुज़रा हो! वे फेफड़े के कर्क रोग के चलते इंतकाल फरमा गए। दुनिया का नियम है, जीवन और फिर उसका मृत्यु। कोई अमर नहीं हैं।

खबर छपने पर पश्चिम बंगाल के सांसद ने रिपोर्टर को भेजा नोटिस

द संडे गार्जियन के संवाददाता कुंदन झा ने एक खबर का प्रकाशन किया. इसके बाद पश्चिम बंगाल के सांसद अभिषेक बनर्जी ने रिपोर्टर को धमकाया कि वो उसके खिलाफ आपराधिक मानहानि का मुकदमा करेंगे. अपने कहे पर अमल करते हुए सांसद ने अखबार और रिपोर्टर को कानूनी नोटिस भी भेज दिया है. कुंदन झा का कहना है कि उन्होंने अपने स्तर पर की गई खोजबीन और मिली जानकारियों के आधार पर खबर का प्रकाशन किया. पर सांसद ने जिस तरीके से उन्हें धमकाया है, वह दुर्भाग्यपूर्ण है.

‘गौ आतंकी’ शीर्षक से कार्यक्रम प्रसारित करने पर इंडिया टुडे ग्रुप को विहिप ने लीगल नोटिस भिजवाया

विश्व हिंदू परिषद ने इंडिया टुडे ग्रुप को एक लीगल नोटिस भिजवाया है. यह नोटिस ‘गौ आतंकी’ नाम से एक कार्यक्रम ‘इंडिया टुडे’ पर प्रसारित करने को लेकर था. लीगल नोटिस में कहा गया है कि इस कार्यक्रम के जरिए विश्व हिंदू परिषद की युवा शाखा बजरंग दल की छवि को जबरदस्त नुकसान पहुंचाया गया है. लीगल नोटिस की एक कापी सूचना और प्रसारण मंत्रालय को भी भेज दिया गया है.

चर्चित मैग्जीन ‘इकनामिक एंड पोलिटिकल वीकली’ को गौतम अडानी की तरफ से भिजवाया गया लीगल नोटिस

इकनॉमिक एंड पॉलिटिकल वीकली यानि ईपीडब्ल्यू मैग्जीन के संपादक जाने माने पत्रकार परंजय गुहा ठाकुरता हैं. ईपीडब्ल्यू पत्रिका में 17 जून के अंक में एक स्‍टोरी केंद्र सरकार के वाणिज्‍य और उद्योग मंत्रालय के खिलाफ छपी. इसमें मंत्रालय द्वारा नियम कायदे बदलकर अडानी समूह को फायदा पहुंचाने के बारे में विस्तार से बताया गया.

इनाडु डिजिटल के एमडी, जीएम, एचआर और डेस्क इंचार्ज को लीगल नोटिस

सेवा में

१. श्रीमान मैनेजिंग डायरेक्टर
किरन राव

२. श्रीमान जनरल मैनेजर
प्रसनजीत राय

३. श्रीमान डेस्क इंचार्ज
अजीज अहमद खान

५. श्रीमान एग्जीक्यूटिव एचआर​
मुरलीधर बंदारू

एसपी २ बिल्डिंग, फोर्थ फ्लोर
हिंदी डेस्क​, ईनाडु डिजिटल
रामोजी फिल्म सिटी
हैदराबाद
तेलंगाना
५०१५१२

महाभ्रष्टाचारी अरुण मिश्रा ने हिंदुस्तान टाइम्स की मालकिन शोभना भरतिया को भेज दिया लीगल नोटिस!

उत्तर प्रदेश स्टेट इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट कारपोरेशन (यूपीएसआईडीसी) के विवादित चीफ इंजीनियर अरुण मिश्रा ने हिंदुस्तान टाइम्स अखबार को लीगल नोटिस भेज दिया है. हिंदुस्तान टाइम्स में कानपुर डेटलाइन से रिपोर्टर हैदर नकवी ने एक रिपोर्ट छापी कि कैसे एक लाख रुपये महीने तनख्वाह पाने वाला एक बाबू (यानि अरुण मिश्रा) देश के शीर्षस्थ वकीलों को अपना मुकदमा लड़ने के लिए हायर करने की क्षमता रखता है. ये शीर्षस्थ वकील हैं सोली सोराबजी, हरीश साल्वे, मुकुल रोहतगी और अन्य.

इंडिया न्यूज के मालिक कार्तिकेय शर्मा ने भड़ास4मीडिया को लीगल नोटिस भिजवाया

सेलरी न देने पर चैनल मालिक को ड्राइवर द्वारा ‘ठोंके’ जाने से संबंधित खबर के भड़ास4मीडिया पर प्रकाशन के बाद इंडिया न्यूज चैनल के मालिक कार्तिकेय शर्मा उर्फ कार्तिक शर्मा ने भड़ास4मीडिया डाट काम को लीगल नोटिस भिजवाया है. इस लीगल नोटिस में कहा गया है कि जो कुछ भी भड़ास पर उनके बारे में छपा है, वह सब निराधार, मनगढ़ंत और मानहानिकारक है. लीगल नोटिस में तत्काल प्रभाव से खबर और संबंधित सारे लिंक हटाने को कहा गया है.

लड़की के साथ फोटो छापने पर नवाजुद्दीन सिद्दकी ने फिल्मफेयर मैग्जीन पर मुकदमा कर दिया

चर्चित युवा एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने फिल्मफेयर मैग्जीन पर मुकदमा करने की तैयारी कर ली है. इसके तहत सबसे पहले मैग्जीन को लीगल नोटिस भेज दिया गया है. फिल्मफेयर मैग्जीन के इसी महीने के शुरुआती हफ्ते वाले अंक में प्रकाशित एक आर्टकिल में नवाज की एक लड़की के साथ दिखाया गया और लिखा गया है कि वे इस लड़की के साथ डेट कर रहे हैं.

‘गोरख धंधा’ शब्द का इस्तेमाल करने पर एबीपी न्यूज को भेजा नोटिस

सेवा में,
श्री मान मुख्य सम्पादक महोदय जी,
ABP न्यूज़ चैनल

विषय :- ‘गोरख धंधा’ शब्द का इस्तेमाल ना करने और इस संबंध में स्पष्टीकरण प्रसारित करने के बारे में.

श्री मान जी,

उपरोक्त विषय में आपको सूचित किया जाता है कि आपके चैनल द्वारा पंजाब के मनसा की खबर “पेट्रोल पम्प पर गोरख धंधा” (समाचार क्लिप संलग्न है) दिखाई गई जिसमें कई बार आपके चैनल के रिपोर्टर / वायस ओवर करने वाले ने गोरखधंधा शब्द का प्रयोग किया है और इसके साथ-साथ मनसा पुलिस के प्रवर पुलिस अधीक्षक ने भी ‘गोरख धन्धा’ शब्द का प्रयोग किया है.

T H Tiger Holidays के फ्रॉड के खिलाफ खबर छापने पर भड़ास को भेजा नोटिस

Dear Sir/Mam,

Greeting From : T H Tiger Holidays

Please find the detail’s :

https://www.bhadas4media.com/article-comment/11635-fraud-company-t-h-tiger-holidays

Dear Team, you have written against company that company is as fraud. So we want to ask some question from you kindly give properly with policy/legal.

मेदांता वालों ने भड़ास4मीडिया को भेजे लीगल नोटिस में क्या क्या कहा लिखा है, पूरा पढ़िए

गुड़गांव स्थित मेदांता अस्पताल वालों ने भड़ास4मीडिया को लीगल नोटिस भेजा है. यह नोटिस मेदांता को लेकर सोशल मीडिया पर वायरल एक पोस्ट को भड़ास पर प्रकाशित करने के चलते भेजा गया है. लीगल नोटिस में कहा गया है कि कर्नल आरके राहुल, जिनका उल्लेख सोशल मीडिया पोस्ट में किया गया है, नामक कोई मरीज कभी मेदांता में एडमिट ही नहीं हुआ. पहले पढ़िए लीगल नोटिस में क्या क्या लिखा है, उसके बाद पढ़िए सोशल मीडिया की वो पोस्ट जिसे छापने पर मेदांता ने भडास को नोटिस भेजा है. सबसे पहले लीगल नोटिस….

ये एसएमबीसी चैनल में क्या चल रहा है भाई, दनादन गिर रहे हैं नोटिस और लेटर….

सी मीडिया सर्विसेज प्राइवेट लिमिेटेड नामक कंपनी एसएमबीसी नामक एक न्यूज चैनल चलाती है. इस चैनल में अंदरखाने जबरदस्त बवाल चल रहा है. चैनल के सीएमडी श्रीराम तिवारी ने सुशील खरे को एक मेल भेजा है. सुशील खरे का पद इस मेल में आनरेरी सीईओ का दिखाया गया है. यानि सुशील खरे ऐसे सीईओ हैं जो अवैतनिक हैं. पत्र में क्या लिखा गया है, आप खुद पढ़ लीजिए. उधर, सुशील खरे ने सी मीडिया प्राइवेट लिमिटेड जबलपुर मध्य प्रदेश और डा. प्रकाश शर्मा मैनेजिंग डायरेक्टर सी मीडिया सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड को तीन पन्ने का लीगल नोटिस भिजवाया है. सारे लेटर व लीगल नोटिल नीचे है, पढ़िए और बूझिए…

Delhi HC issues notice to top editorial staff of UNI

New Delhi : Taking strong cognizance of the torture and humiliation of a dalit employee of United News of India (UNI), a prestigious news agency of the country, the Delhi High court yesterday issued notice to two high profile scribes of UNI including Joint Editor Neeraj Bajpayee, Journalist Ashok Upadhyay and an another employee of the agency Mohan Lal Joshi.

पत्रिका ने अपने कर्मी को बर्खास्त किया तो कर्मी ने नोटिस भिजवाया और लेबर आफिस में शिकायत दर्ज कराई

राजस्थान पत्रिका समूह के अखबार पत्रिका के ग्वालियर संस्करण के सरकुलेशन डिपार्टमेंट में कार्यरत शैलेंद्र सिंह को प्रबंधन ने बिना किसी पूर्व सूचना के संस्थान से टर्मिनेट कर दिया. इससे दुखी महेंद्र ने प्रबंधन को वकील के माध्यम से लीगल नोटिस भिजवाया है और लेबर आफिस में शिकायत दर्ज कराई है. इस प्रकरण से संबंधित सभी दस्तावेज नीचे दिए जा रहे हैं…

कस्बाई पत्रकार ने मजीठिया वेज बोर्ड के हिसाब से सेलरी न देने पर अपने अखबार मालिक को भेजा लीगल नोटिस

ऐसे दौर में जब बड़े बड़े पत्रकार पापी पेट की खातिर चुप्पी साधकर नौकरी कर रहे हैं और मजीठिया वेज बोर्ड के हिसाब से सेलरी न दिए जाने के मैनेजमेंट की मनमानी से आंखे फेरे बैठे हैं, मेरठ के एक कस्बे के पत्रकार ने हिंदुस्तान अखबार के मालिकों और मैनेजरों को लीगल नोटिस भेज दिया है. इस कस्बाई पत्रकार ने मजीठिया वेज बोर्ड के हिसाब से सेलरी देने की मांग की है. हिन्दुस्तान अखबरा मवाना (मेरठ) के प्रभारी संदीप नागर ने मजीठिया वेज बोर्ड के हिसाब से सेलरी नहीं दिए जाने पर अखबार को लीगल नोटिस दे दिया है. लगभग दो माह पूर्व दिये गये नोटिस का हिन्दुस्तान के प्रबन्ध तंत्र ने अभी तक जवाब नहीं दिया है.

प्रबंधन के खिलाफ हिसार भास्कर यूनिट ने फूंका विद्रोह का बिगुल, मजीठिया के लिए सुप्रीम कोर्ट गए

मजीठिया वेज बोर्ड लागू कराने और अपना बकाया एरियर लेने के लिए दैनिक भास्कर की हरियाणा यूनिट भी एकत्र होनी शुरू हो गई है। इसकी पहल सबसे पहले हिसार यूनिट की ओर से की गई है। इसमें भिवानी ब्यूरो से प्रदीप महता, कुलदीप शर्मा, भूपेंद्र सिंह, राकेश भट्ठी, संजय वर्मा और सुखबीर ने सुप्रीम कोर्ट के वकील अक्षय वर्मा के माध्यम से भास्कर के मालिक रमेश चंद्र अग्रवाल से लेकर भिवानी के ब्यूरो प्रमुख अशोक कौशिक तक लीगल नोटिस भिजवा दिए हैं।

मजीठिया वेज बोर्ड के लिए भड़ास की जंग : लीगल नोटिस भेजने के बाद अब याचिका दायर

Yashwant Singh : पिछले कुछ हफ्तों से सांस लेने की फुर्सत नहीं. वजह. प्रिंट मीडिया के कर्मियों को मजीठिया वेज बोर्ड के हिसाब से उनका हक दिलाने के लिए भड़ास की पहल पर सुप्रीम कोर्ट में मुकदमा दायर करने की प्रक्रिया में इनवाल्व होना. सैकड़ों साथियों ने गोपनीय और दर्जनों साथियों ने खुलकर मजीठिया वेज बोर्ड के लिए भड़ास के साथ सुप्रीम कोर्ट में जाने का फैसला लिया है. सभी ने छह छह हजार रुपये जमा किए हैं. 31 जनवरी को दर्जनों पत्रकार साथी दिल्ली आए और एडवोकेट उमेश शर्मा के बाराखंभा रोड स्थित न्यू दिल्ली हाउस के चेंबर में उपस्थित होकर अपनी अपनी याचिकाओं पर हस्ताक्षर करने के बाद लौट गए. इन साथियों के बीच आपस में परिचय हुआ और मजबूती से लड़ने का संकल्प लिया गया.

(भड़ास की पहल पर मजीठिया वेज बोर्ड को लेकर शुरू हुई लड़ाई के तहत मीडिया हाउसों के मालिकों को लीगल नोटिस भेज दिया गया. दैनिक भास्कर के मालिकों को भेजे गए लीगल नोटिस का एक अंश यहां देख पढ़ सकते हैं)

लाला लाजपत राय को भाजपाई पटका पहनाने के मामले में कोर्ट ने किरण बेदी के खिलाफ कार्रवाई का ब्योरा मांगा

किरण बेदी अपनी मूर्खताओं, झूठ, बड़बोलापन और अवसरवाद के कारण बुरी तरह घिरती फंसती जा रही है. पिछले दिनों नामांकन से पहले किरण बेदी ने स्वतंत्रता सेनानी लाला लाजपत राय की प्रतिमा को भगवा-भाजपाई पटका पहना दिया. इस घटनाक्रम की तस्वीरों के साथ एक कारोबारी सुरेश खंडेलवाल ने दिल्ली हाईकोर्ट के जाने-माने वकील हिमाल अख्तर के माध्यम से किरण बेदी को कानूनी नोटिस भिजवाया फिर कोर्ट में मुकदमा कर दिया. इनका कहना है कि लाला लाजपत राय किसी पार्टी के प्रापर्टी नहीं बल्कि पूरे देश के नेता रहे हैं. ऐसे में किसी एक पार्टी का बैनर उनके गले में टांग देना उनका अपमान है.

मजीठिया वेज बोर्ड पाने के लिए गोपनीय रूप से लड़ाई लड़ें, आखिरी मौका 31 जनवरी तक

मजीठिया वेज बोर्ड पाने के लिए भड़ास की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में जाने हेतु आखिरी मौके की तारीख वकील उमेश शर्मा जी की सहमति से बढ़ाई जा रही है. अब आप 31 जनवरी तक इस लड़ाई में गोपनीय / हिडेन / रूप से शिरकत कर सकते हैं. आपको करना सिर्फ इतना है कि नीचे दिए गए अथारिटी लेटर को डाउनलोड कर / सेव एज करके प्रिंट कर लें और उसमें अपने इंप्लायमेंट डिटेल विस्तार से लिखकर (2010 से कब-कब कहां-कहां किन-किन पदों पर रहे हैं) रख लें.

हाईकोर्ट जज ने लीगल मैग्जीन छापने वाले विनय राय और राजश्री राय समेत पूरे संपादकीय व प्रकाशन स्टाफ को भेजा लीगल नोटिस

राजश्री राय और विनय राय एक मैग्जीन निकालते हैं. लीगल मामले की इस मैग्जीन में दिल्ली हाईकोर्ट के एक जज के बेटे के खिलाफ खबर छापी गई. जज ने इसे संज्ञान लिया और खबर को पूरी तरह गलत, निराधार और बेहूदा बताते हुए मैग्जीन के समस्त स्टाफ को लीगल नोटिस भेजा है. दिल्ली पुलिस कमिश्नर को आदेश दिया है कि मैग्जीन को जब्त कर लिया जाए और इसके वितरण को रोका जाए. अपने आठ पेज के आदेश में जज ने झूठी स्टोरी को लेकर अपनी सफाई देते हुए न्यायपालिका की गरिमा का हवाला दिया है और कहा है कि मनगढ़ंत खबर छापकर उनकी और उनके परिवार की छवि तो धूमिल किया जा रहा है.

बकाया पैसा मारे बैठे ‘नेशनल दुनिया’ को पत्रकार राजेंद्र सेन ने लीगल नोटिस भेजा

राजस्थान के बीकानेर निवासी पत्रकार राजेंद्र सेन ने सूचित किया है कि उनका बकाया पैसा नेशनल दुनिया अखबार नहीं दे रहा है. उन्होंने वर्ष 2013 के अगस्त में नेशनल दुनिया समाचार पत्र जयपुर के संपादक मनोज माथुर की सहमति से बीकानेर डिवीजन में ज्वाइन किया था. बीस हजार रुपये प्रतिमाह वेतन तय था और समाचर में छपने वाले फोटो के पचास रुपये अलग से देना तय हुआ.

नवीन जिंदल ने सुभाष चंद्रा को भेजा कानूनी नोटिस, भड़काऊ भाषण का आरोप, पेड न्यूज की शिकायत

हिसार : कांग्रेस प्रचार एवं प्रकाशन समिति के चेयरमैन और कुरुक्षेत्र के पूर्व सांसद नवीन जिंदल ने जी टेली मीडिया के चेयरमैन डॉ. सुभाष चंद्रा पर भड़काऊ व जनता को गुमराह करने वाला भाषण देने का आरोप लगाते हुए उन्हें कानून नोटिस भेजा है। उन्होंने हिसार में चुनाव आचार संहिता की धज्जियां उड़ाई जाने का आरोप लगाते हुए हिसार शहर में 15 अक्तूबर तक जी न्यूज और सिटी केबल के प्रसारण पर रोक लगाने की मांग भी की है। इस बारे में जिंदल हाउस से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि गत 4 अक्तूबर को जहाजपुल के पास हिसार आरा एसोसिएशन के कार्यक्रम में सुभाष चंद्रा ने भड़काऊ और जनता को गुमराह करने वाला भाषण देते हुए जिंदल परिवार पर इलियट क्लब से संबंधित जमीन के बारे में बेबुनियाद आरोप लगाया था।