राष्ट्रीयता, मीडिया और विज्ञान का भगवाकरण

"मैं अपने धर्म की शपथ लेता हूँ, मैं इसके लिए अपनी जान दे दूंगा. लेकिन यह मेरा व्यक्तिगत मामला है. राज्य का इससे कुछ लेना-देना नहीं. राज्य का काम धर्मनिरपेक्ष कल्याण, स्वास्थ्य , संचार, आदि मामलों का ख़याल रखना है, ना कि तुम्हारे और मेरे धर्म का." – महात्मा गाँधी

कंवल भारती पर आईटी एक्ट भी लगा दिया गया

रामपुर से खबर है कि आइएएस दुर्गाशक्ति नागपाल निलंबन मामले में फेसबुक पर प्रदेश सरकार के खिलाफ कमेंट करने वाले साहित्यकार कंवल भारती पर पुलिस ने आइटी एक्ट में भी मुकदमा दर्ज कर लिया है.  संसदीय कार्य एवं नगर विकास मंत्री आजम खां के मीडिया प्रभारी की शिकायत पर भारती के खिलाफ सिविल लाइंस कोतवाली पुलिस ने पांच अगस्त को धारा 153ए (टिप्पणी कर धार्मिक भावनाओं को आहत करना) और 295 ए (धार्मिक स्थल पर टिप्पणी करना) में मुकदमा दर्ज किया था. अब आईटी एक्ट की नई धारा बढ़ा दी गई है.

जंग के महानायकों को आजतक की श्रद्धांजलि, कल रात देखें ‘वंदे मातरम्’

देश का नंबर वन न्यूज चैनल आजतक अपने आपमें एक अनोखा और बड़ा शो ला रहा है, जिसका नाम है- वंदे मातरम्। इस शो में दास्तान होगी उन वीर जवानों की, उन महानायकों की, जिन्होंने दूसरे देशों के साथ युद्ध में अपनी जान की बाजी लगा दी, लेकिन देश की आन बान और शान पर कोई आंच नहीं आने दी। 'वंदे मातरम' का प्रीमियर 17 अगस्त को हो रहा है। इस शो के होस्ट हैं मशहूर अभिनेता कबीर बेदी और इस शो में अपनी आवाज दी है जाने माने वायस ओवर आर्टिस्ट और अभिनेता रजा मुराद ने।

भारत की पत्रकार गुंजन शर्मा जर्मनी के प्रतिष्ठित जर्मन डेवलपमेंट मीडिया अवार्ड से सम्मानित

भारत की पत्रकार गुंजन शर्मा को जर्मनी के प्रतिष्ठित जर्मन डेवलपमेंट मीडिया अवार्ड से सम्मानित किया गया है. भारत के मानसिक अस्पतालों पर उनकी रिपोर्ट को एशिया की सर्वश्रेष्ठ रिपोर्ट चुना गया. जर्मन सरकार के लगभग 40 साल पुराने इस प्रतिष्ठित पुरस्कार को जीतने के बाद भारत की द वीक पत्रिका के लिए काम करने वाली गुंजन शर्मा ने कहा, "इस पुरस्कार से मुझे पत्रकार के तौर पर बहुत उत्साह मिला है कि मैं इस तरह के विषयों को उठाती रहूं, उनके बारे में और लिखूं. लोगों और सरकार को इन मुद्दों के प्रति संवेदनशील बनाऊं क्योंकि ये मुद्दे नजरअंदाज किए जाते हैं." वह अवार्ड हासिल करने जर्मन राजधानी बर्लिन में थीं.

राजदीप और आशुतोष को छोड़ना मत दोस्तों, इन हिप्पोक्रेटों को नंगा करो, जंतर-मंतर चलो

सैकड़ों लोगों की छंटनी हो गई पर इन कथित महान संपादकों के मुंह से आवाज तक नहीं निकल रही. राजदीप सरदेसाई देश दुनिया के मसलों पर बड़े बेबाक तरीके से बोलते कहते लड़ते दिख जाते हैं पर जब उनके खुद के साथियों के साथ अन्याय हो रहा, खुद के घर में अत्याचार का मसला सामने आया है तो उनकी न्याय दिलाने, अन्याय के खिलाफ मुहिम चलाने वाला तेवर गायब हो चुका है. यही हाल आशुतोष का है.

आईबीएन7 के मुंबई ब्यूरो व इंटरटेनमेंट से कई दर्जन निकाले गए

अभी अभी मिली एक सूचना के मुताबिक आईबीएन7 के मुंबई ब्यूरो से करीब 24 लोगों को निकाला गया है… इंटरटेनमेंट ब्यूरो से भी लोगों को निकाला गया है… यह सूचना भड़ास के पास एक मेल के जरिए पहुंची है. इधर, नोएडा के आईबीएन7 आफिस के बाहर चाय की दुकान पर सैकड़ों पत्रकार जमा हैं. कई लोग नम आंखों के साथ अपने घर चले गए. पर कई लोग यहीं जमा हैं. इनके भीतर काफी आक्रोश है.

बारह वीडियो एडिटर्स, बाइस कैमरामैन, पूरा ग्राफिक, एडिटोरियल से बाइस… सैकड़ों हुए बेरोजगार

प्रिय यशवंत जी… और वो दिन आ ही गया जिसका इंतजार पूरे मीडिया हाउस को था. सीएनएन-आईबीएन और आईबीएन7 से करीब ढाई सौ लोगों को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया. सैकड़ों लोगों को रातों रात सड़क पर ला दिया गया. 12 वीडियो एडिटर्स, दस कैमरामैन, 22 एडिटोरियल स्टाफ, पूरा ग्राफिक डिपार्टमेंट, इंटरटेनमेंट, नेशनल लेवल के रिपोर्टर, पूरा एसाइनमेंट… ये सब छंटनी के शिकार हुए हैं..

छोटे सैन्य अफसरों को चार और बड़ों को चौदह बोतल दारू क्यों? सेना में सस्ती शराब के खिलाफ पीआईएल

आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर और सामाजिक कार्यकर्ता डॉ नूतन ठाकुर ने सैन्य बलों तथा बीएसएफ, सीआरपीएफ, आईटीबीपी जैसे अर्ध-सैनिक बलों में काफी सस्ती दरों पर दी जा रही शराब के खिलाफ इलाहाबाद हाई कोर्ट, लखनऊ बेंच में पीआईएल दाखिल किया है.   याचिकाकर्ता के अनुसार जहाँ वे इन लोगों की मुश्किल परिस्थितियों और देश के प्रति इनके योगदान के मद्देनज़र इनके लिए खाद्य सामग्री, घरेलू सामानों आदि में छूट का स्वागत करते हैं वहीँ सरकारी टैक्स माफ करके सस्ती शराब दिये जाने का प्रबल विरोध करते हैं क्योंकि एक तो यह सरकारी धन का दुरुपयोग है, ऊपर से इसके कोई निश्चित कारण नहीं दिखते और इसके कई दुष्परिणाम अलग से दिख जाते हैं.

रिलायंस के दबाव में टीवी18 के कई चैनलों से 320 लोगों की छंटनी

अगर आप आज शाम नोएडा स्थित फिल्म सिटी जाएंगे तो आपको वहां हर एक की जुबान पर आईबीएन7 में चल रही छंटनी की चर्चा सुनने को मिलेगी. आज का दिन रोज के दिन की तरह नहीं था. बेहद मनहूस दिन. लोग नौकरियां करने पहुंचे पर उन्हें एचआर ने बुलाकर लिफाफा पकड़ाया और बाहर जाने के लिए कह दिया गया. आईबीएन7 से दर्जनों लोग निकाले गए हैं जिनमें कुछ वरिष्ठ और कई सारे कनिष्ठ हैं.

समर, स्नेहा के बाद अब अनस का भी एफबी एकाउंट बारह घंटों के लिए ब्लॉक

Syed Mohammad Altamash Jalal : भास्कर.काम की पोर्न पत्रकारिता के खिलाफ लिखने लड़ने वालों में से एक Mohammad Anas को भी भास्कर वालों ने फेसबुक पर रिपोर्ट करके, शिकायत करके बारह घंटों के लिए ब्लाक करा दिया है. हिट्स की आड़ में पोर्न परोसने वाले वेब पोर्टल कम पोर्न साईट भास्कर डाट काम के खिलाफ जंग की शुरुआत इलाहाबाद महाकुम्भ से करने वाले युवा पत्रकार मोहम्मद अनस को भास्कर ने डर की वजह से बारह घंटे के लिए कहीं भी कमेन्ट, लाइक और शेयर करने पर बैन लगवा दिया है.

दिल्ली विधानसभा चुनाव में केजरीवाल की पार्टी को नौ सीटें मिलेंगी

दिल्ली : इंडिया टुडे एवं सी वोटर के सर्वे में देश में आने वाले विधानसभा चुनावों पर भी सर्वे किया गया है। मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दिल्ली, मिजोरम और राजस्थान में साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं। सर्वे के अनुसार इन चुनावों में कांग्रेस विरोधी लहर का सीधा फायदा भाजपा को ही मिल रहा है।

लोकसभा चुनाव हुए तो यूपीए और एनडीए दोनों की हालत पतली, तीसरे मोर्चे की सरकार बनने की संभावना

दिल्ली । इंडिया टुडे एवं सी वोटर के सर्वे में कोई भी गठबंधन स्पष्ट बहुमत के पास नहीं पहुंच रहा है। जिसके कारण लोकसभा चुनाव के बाद राजनैतिक अस्थिरता सबसे ज्यादा रहेगी। अगस्त माह में हुए सर्वे के अनुसार यूपीए गठबंधन को २०१३ में यदि लोकसभा के चुनाव होते हैं तो १३७ सीटें मिलने का अनुमान है।

राम बहादुर राय ला रहे हैं पाक्षिक पत्रिका ‘यथावत’, कई जुड़े, लोकार्पण बीस को

वरिष्ठ पत्रकार राम बहादुर राय फिर एक पत्रिका से जुड़ गए हैं. नाम है 'यथावत'. यह पत्रिका पाक्षिक होगी. यथावत का लोकार्पण 20 अगस्त को दिल्ली के कांस्टीट्यूशन क्लब में होगा. लोकार्पण के मौके पर नामवर सिंह, विनोद राय, अच्युतानंद मिश्र आदि मौजूद रहेंगे. यथावत पत्रिका के असली मालिक हैं आरके सिन्हा जो एसआईएस सिक्योरिटी चलाते हैं.

अजमेर के पत्रकार सुरेंद्र जोशी और संजय कटारिया सम्‍मानित

अजमरे के केकड़ी में पिछले दिनों हुए सांप्रदायिक तनाव को प्रशासन के साथ मिलकर उसे वापस सौहार्द की दिशा देने में अपना अहम योगदान निभाने वाले निर्भीक पत्रकार सुरेन्द्र जोशी को जिला स्तर पर सम्मनित किया गया. इस बारे में प्रकाश शर्मा फेसबुक पर लिखते हैं-

लखनऊ प्रेस क्लब, चाइना बाजार, मुर्गा गली, महफिल और पत्रकारों की पिटाई

लखनऊ में मुर्गा गली के नाम से मशहूर हो चुके उत्तर प्रदेश प्रेस क्लब के आस पास चाइना बाजार गेट इलाके में अराजकता चरम सीमा पर है। इस अराजकता का ताजा शिकार बने हैं वरिष्ठ पत्रकार व प्रेस क्लब के पूर्व सचिव सुरेश बहादुर सिंह। परसों रात कुछ अराजक तत्वों ने सुरेश बहादुर सिंह को प्रेस क्लब के गेट के बाहर बुरी तरह से मारा पीटा। हमले में सुरेश बहादुर को गंभीर चोटे आयी हैं। उनके सिर पर कई टांके लगे हैं।  शराबियों के जमघट के चलते यहां आए दिन हिंसक वारदाते हो रही हैं। प्रेस क्लब में आने वाले कई वरिष्ठ पत्रकार भी इन घटनाओं की चपेट में आ चुके हैं।

कुमार समीर सिंह नेशनल दुनिया दिल्ली के मेट्रो प्रभारी बने, ललित मोहन की नई पारी

वरिष्‍ठ पत्रकार कुमार समीर सिंह ने दिल्‍ली में नई दुनिया के साथ अपनी नई पारी शुरू की है. उन्‍हें अखबार का मेट्रो प्रभारी बनाया गया है. इसके पहले वे दैनिक भास्‍कर, यूपी के साथ समाचार संपादक के रूप में जुड़े हुए थे. वे पिछले 23 सालों से पत्रकारिता में सक्रिय हैं. फ्रीलांसिंग से करियर की शुरुआत करने वाले कुमार समीर जाने-माने पत्रकार आलोक तोमर के साथ करेंट न्‍यूज में काम कर चुके हैं.

दैनिक नवभारत मुंबई के मीडियाकर्मियों को तीन महीने से वेतन नहीं मिला, भगदड़

मुंबई। मुंबई से प्रकाशित हिंदी दैनिक नवभारत के कर्मचारी इन दिनों बेहद परेशान है। महगाई के इस दौर में उन्हें तीन तीन महीने बाद वेतन मिल रहा है। वेतन मिलने में देरी की शुरुवात एक डेढ़ महीने से बढ़ कर अब तीन महीने तक पहुंच गयी है। इसकी वजह से पिछले कुछ महीनो में मार्केटिंग और सम्पादकीय विभाग के करीब 10 लोग नौकरी छोड़ चुके हैं।

सीएनएन-आईबीएन और आईबीएन7 न्यूज चैनलों में कल से शुरू होगी 30 प्रतिशत छंटनी

कल से एक बड़ी छंटनी शुरू हो रही है. उन दो न्यूज चैनलों में जिसके मालिक मुकेश अंबानी हैं. जिसके एक अन्य मालिक राघव बहल हैं. जिसके एक अन्य मालिक राजदीप सरदेसाई हैं. इन दो न्यूज चैनलों के नाम हैं, सीएनएन-आईबीएन और आईबीएन7. इन दोनों न्यूज चैनलों से करीब तीस प्रतिशत स्टाफ की छंटनी करने के लिए लिस्ट तैयार हो चुकी है. लिफाफा देना और खुलना कल से शुरू हो जाएगा.

डासना जेल में हुआ ‘जानेमन जेल’ किताब का विमोचन, यशवंत ने गाया मंच से भजन

Yashwant Singh : 'जानेमन जेल' का आज डासना जेल में विमोचन हो गया.. लोकार्पण के बाद जब मुझे कुछ वाक्य बोलने के लिए कहा गया तो मंच से मैंने साढ़े चार हजार कैदियों को गा कर सुनाया..''ना सोना साथ जाएगा ना चांदी जाएगी.. सज धज कर जिस दिन मौत की शहजादी आएगी.. ''

आजादी की पूर्व संध्या पर लखनऊ में वरिष्ठ पत्रकार सुरेश बहादुर सिंह बुरी तरह पिटे

लखनऊ से खबर है कि वरिष्ठ पत्रकार सुरेश बहादुर सिंह को कई लोगों ने प्रेस क्लब के ठीक बाहर काफी पीटा. उन्हें सिर में कई टांके आए हैं. उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है और अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है. कई पत्रकारों ने सुरेश बहादुर के यहां जाकर उनकी खैर खबर पूछी. बताया जाता है कि प्रेस क्लब में बैठकी के बाद कहीं जाने के लिए सुरेश बहादुर जब क्लब गेट से बाहर निकले तो वहां चिकन-कबाब आदि की दुकानों के सामने कई लड़कों में विवाद हो रहा था.

बीएचयू में राष्ट्र ध्वज के साथ मजाक, शूट कर रहे कैमरापर्सन के साथ बदतमीजी

Santosh Ojha : बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (BHU) के मल्टीपरपज मैदान में आज वो शर्मनाक घटना घटी जिससे देख किसी भी राष्ट्र भक्त का दिल तार तार हो जाये. अपनी अलग पहचान रखने वाली BHU शिक्षा के क्षेत्र में अपना भले ही खास महत्त्व रखता हो लेकिन आज के झंडातोलन के दौरान उसने देश की शान में बड़ा दाग लगाया. एक बार नहीं दो बार नहीं बल्कि तीन बार ध्वज का अपमान सबने देखा.

भास्कर डाट काम के पोर्नकारों ने मुझे फेसबुक पर ब्लाक करवा दिया था : स्नेहा चौहान

Sneha Chauhan : तो आखिरकार मुझे आज सुबह १२ घंटे के बाद फेसबुक ने आज़ाद कर ही दिया. भास्कर डाट कॉम के पोर्नकारों ने कल मुझे ब्लॉक करवा दिया था. ये लोग कितनी नीचता पे उतर आये हैं, जबकि मेरे आर्टिकल में मैंने अभी तक किसी पोर्न पत्रकार का नाम नहीं लिया है.

अखबारों के बाद टीवी, टीवी के बाद अब नेट पत्रकारिता ने नए किस्म की रिपोर्टिंग शुरू की है

Sanjaya Kumar Singh : अखबारों के बाद टीवी पर खबरें आना शुरू होने के बाद जिस तरह खबरों की परिभाषा बदल गई और लाइव रिपोर्टिंग के नाम पर मरने वालों के परिवार से पूछा जाने लगा, “आपको कैसा लग रहा है”, और “नोएडा में एक स्कूल बस की दूसरे वाहन से भयंकर टक्कर हुई। ये देखिए घटना स्थल से लाइव तस्वीर। इसमें बुहत सारे बच्चे मरे होंगे” (इस दुर्घटना में कोई नहीं मरा था जो बच्चे घायल हुए थे उन्हें मामूली उपचार के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी) जैसी खबरें आने लगीं वैसे ही अब नेट पत्रकारिता ने नए किस्म की रिपोर्टिंग शुरू की है।

मुझे गर्व है मैंने कभी कोई समझौता नहीं किया, भले ही नौकरियां छोड़नी पड़ीं हों : मुकेश कुमार

Mukesh Kumar : टेलीविज़न की दुनिया में आज मेरे बीस वर्ष पूरे हो गए। बीस बरस पहले आज के ही दिन (15 अगस्त, 1993) गुलमोहर पार्क स्थित परख के दफ़्तर में श्री विनोद दुआ से बात हुई और बतौर संवाददाता काम शुरू कर दिया। हालाँकि पिछले एक-डेढ़ महीने से आना-जाना हो रहा था और मैंने इस नए माध्यम को देखने-समझने का काम शुरू कर दिया था, लेकिन नियमित रूप से काम करने का सिलसिला आज के दिन ही शुरू हो सका।

दैनिक जागरण, मुरादाबाद से डीएनई मृगांक पांडेय का इस्तीफा

दैनिक जागरण के मुरादाबाद एडिशन से खबर है कि यहां कार्यरत डिप्टी न्यूज एडिटर मृगांक पांडेय ने इस्तीफा दे दिया है. वो कहां जा रहे हैं, इसका अभी खुलासा नहीं हुआ है. मृगांक लंबे समय से मुरादाबाद जागरण में काम कर रहे थे. उनका इस्तीफा जागरण के लिए झटका माना जा रहा है.

रेल घूस कांड के आरोपियों की याचिका पर सभी मीडिया हाउसों को नोटिस

नई दिल्ली : रेलवे घूस कांड के आरोपी महेश कुमार व सह आरोपी संदीप गोयल ने दिल्ली उच्च न्यायालय में याचिका दायर की मीडिया रिपोर्टिग पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है। इस पर न्यायमूर्ति वीके जैन ने सभी मीडिया हाउसों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। अब इस मामले की सुनवाई 26 अगस्त को होगी।

जब आप ख़बर के नाम पर, पत्रकारिता के नाम पर नंगी तस्वीरे परोसेंगे तो हम आपको टोकेंगे और रोकेंगे भी

Mohammad Anas : आप पोर्न दिखाएं हमें तकलीफ नहीं, लेकिन जब आप ख़बर के नाम पर, पत्रकारिता के नाम पर नंगी तस्वीरे परोसेंगे तो हम आपको टोकेंगे और रोकेंगे भी. इस रोक टोक का सिलसिला इस बार इलाहाबाद महाकुम्भ से शुरू हुआ था ,भास्कर.काम नाम की वेबसाईट ने गंगा में स्नान कर रही महिलाओं की तस्वीरे लगाई और हम सबको लगा की ये चलन ठीक नहीं ,ऐसा नही था की भास्कर.काम कुम्भ से पहले पोर्न नही परोसता था, परोसता था और जमकर बेचता था लेकिन नज़र में तो आना ही था ,पाप का घड़ा भरना ही था सो भरा और जनाब फूटा भी.

कुमार सुरेंद्र की बीमारी व मौत : बड़े अखबार में खबर नहीं, नेताओं ने झांका तक नहीं

भूख-प्यास छोड़ कर राजनीतिक दलों की खबरों के पीछे-भागने व संकलित करने के बाद अखबार के संस्करण छुटने के पहले, उसमें  देने की जीतोड़ कोशिश पत्रकारों का दैनिक कार्य ही नहीं फर्ज भी है। ऐसे में राजनेताओं व राजनीतिक दलों के बीच एक रिश्ता कायम हो जाता है। राजनेता व राजनीतिक दल अपने फायदे के लिए पत्रकारों को बड़ी सफाई से इस्तेमाल  करने से नहीं चूकते हैं। मीडिया व राजनीतिक हल्कों में प्रायः देखा जाता है कि नामी-गिरामी पत्रकार के बीच का संबंध निजी भी हो जाता है। वहीं ईमानदार पत्रकार को यह सब नसीब नहीं होता।

पाकिस्तान, मीडिया उन्माद और युद्ध की भाषा : हकीकत क्या है?

मीडिया पर आरोप लगना इस बात का प्रमाण है कि प्रजातंत्र में इसकी भूमिका बढ़ रही  है. आम जनता का शिक्षा स्तर, आर्थिक मजबूती और तार्किक शक्ति बढ़ने पर डिलीवरी करने वाली संस्थाओं से, वे औपचारिक हो या अनौपचारिक, अपेक्षाएं भी बढ़ती हैं. ऐसे में लाज़मी है कि जब संस्थाएं जन-अपेक्षाओं पर उतनी खरी नहीं उतरतीं तो आरोप लगते हैं.

नवभारत के स्थानीय संपादक को एसडीएम ने फोन पर धमकाया, पत्रकारों में रोष

बिलासपुर : हाल में कोटा एसडीएम के पद पर पदस्थ हुए राजेंद्र गुप्ता द्वारा एक समाचार को लेकर नवभारत प्रेस के स्थानीय संपादक निशांत शर्मा को मोबाइल पर धमकी देने को लेकर पत्रकारों में जबरदस्त आक्रोश है. 8 अगस्त को नवभारत में प्रकाशित एक समाचार को लेकर गुप्ता ने मोबाइल पर पहले तो अभद्र भाषा में बात की फिर धमकी भरी भाषा में उतर आए. उन्होंने शर्मा को देख लेने की धमकी की.

श्याम बाबू लगातार तीसरी बार आईएफडब्ल्यूजे के राष्ट्रीय कोषाअध्यक्ष चुने गये

इंडियन फेडरेशन आफ वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन (आईएफडब्ल्यूजे) के चुनाव परिणाम में वरिष्ठ पत्रकार श्याम बाबू लगातार तीसरी बार राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष चुने गये. चुनाव परिणाम रिटर्निंग ऑफिसर हिमांशु चट्टर्जी ने घोषित किया. श्याम बाबू लखनऊ मुख्यालय में दैनिक जागरण के विशेष संवाददाता हैं. वे लम्बे समय से प्रिंट मीडिया से जुड़े हैं.

मेहनताना हड़पने वाला विजय दीक्षित हर तीन-चार दिन में सिमकार्ड क्यों बदलता है?

न जाने वो कौन सा नक्षत्र था जिसमें मैंने एस वन चैनल को ज्वाइन किया। ठोकर तो पहले कदम से ही लगनी शुरू हो गए थी। इनपुट हेड से लेकर चैनल हेड तक तमाम ठोकरों के बाद भी गधा ‘गाजर’ के लालच और अहंकार के लिए दौड़ता रहा। एसवन के मालिक विजय दीक्षित ने गधे की खून-पसीने की कमाई के नौ लाख की गठरी बनाई और गधे के पिछवाड़े पर जोर की जमा दी। नौ लाख तो इसलिए कह रहा हूं कि मोटी-मोटी रकम मुझे मालूम है।

कौमी तंजीम, पटना के वरीय संवाददाता कुमार सुरेन्‍द्र का निधन

कौमी तंजीम, पटना के वरीय संवाददाता कुमार सुरेन्‍द्र के बारे में सूचना मिली है कि ब्रेन हैमरेज के कारण उनका निधन हो गया. 9 अगस्त को सुरेंद्र का ब्रेन हैमरेज हुआ. उन्हें सीवान से पटना लाया गया. कौमी तंजीम के एडिटर अजमल फरीद ने उन्हें उदयन हास्पिटल में भर्ती कराया. इलाज के दौरान ही उनका निधन हो गया.

अरविंद, श्रीधर राजू, अनिल, आमिर, सतीश, अमित, संजय, सुनील के बारे में सूचनाएं

पंजाब के बठिंडा से दैनिक जागरण ब्यूरो चीफ अरविंद श्रीवास्तव का लुधियाना शहर में तबादला कर दिया गया है। उनकी जगह लुधियाना के ही ब्यूरो चीफ श्रीधर राजू को बठिंडा में भेजा जा रहा है। श्रीधर राजू इससे पहले भी बठिंडा में सेवाएं दे चुके हैं। करीब दो सालों के बाद श्रीधर राजू को फिर से बठिंडा में अपनी सेवाएं देने के लिए भेजा गया है।

तो क्या अब गुंडागर्दी करेगी भोजपुरी अकादमी?

बनारस। बिहार भोजपुरी अकादमी के अब तक के सबसे विवादास्पद, और पहले असाहित्यिक (जिनका भोजपुरी साहित्य से कोई लेना-देना नहीं हो) अध्यक्ष, जिनका कार्यकाल इसी महीने खत्म हो रहा है, ने जाते-जाते ना सिर्फ बिहार सरकार को, बल्कि बिहार के माननीय राज्यपाल को भी सवालों के कटघरे में खडा कर दिया है। जी हाँ, हम बात कर रहे हैं रवि कांत दुबे की, जिनकी नजर में भोजपुरी अकादमी का काम भोजपुरी साहित्य का विकास नहीं, बल्कि अध्यक्ष की फोटो रोज अखबारों में छपवाना है, और उस फोटो को फेसबुक पर लगाकर वाहवाही लूटना है।

टेस्ट ड्राइव के नाम पर बदमाशों ने पत्रकार की कार लूटी

यूपी के शाहजहांपुर से खबर है कि बदमाशों ने एक पत्रकार की कार को टेस्ट ड्राइव के नाम पर लिया और लेकर फरार हो गए. थाना क्षेत्र खुटार के निवासी टीवी जर्नलिस्ट विमलेश कुमार की बैगनआर कार को उनका चालक मुकेश कुमार हवा भरवाने के लिए वन्डा चौराहे ले गया. तीन बदमाशों ने हवा भराते समय चालक से पूछा कि क्या कार बिकाउ है. चालक ने जब हां कहा तो बदमाशों ने उससे कहा कि पहले कार का टेस्ट ड्राइव – ट्रायल करके देखेंगे. चालक राजी हो गया. चालक ने अपने साथी मोहित मिश्रा निवासी मो. नरायनपुर कस्वा व थाना खुटार को बुलाया और दोनों पीछे की सीट पर बैठ गये.

आपके पास काम न हो तो एक काम करें, किसी स्थापित व्यक्ति को रोज सवेरे जी भर गाली बकें

Ram Janm Pathak : नाम कमाने का तरीका… अगर आपके पास अपना कोई आधार न हो, अपनी कोई जमीन न हो, अपना कोई ईमान न हो, अपनी कोई पढ़ाई-लिखाई और पहचान न हो, तो एक काम कीजिए, किसी स्थापित व्यक्ति को रोज सवेरे उठकर मुंह भर कर गाली बकिए। बताइए कि उसके कार के पहिए में गोबर लगा हुआ था। जोर- जो से चिल्लाइए कि उस आदमी ने कमीज के नीच बनियान उल्टी पहनी हुई है।

लगता है सूर्यकांत द्विवेदी पैसा हड़पना चाहते हैं! (शोभना भरतिया को लिखा पत्र पढ़ें)

संदीप कुमार नागर मेरठ के मवाना कस्बे में रहते हैं. अखबारों से जुड़कर पत्रकारिता का कार्य भी करते हैं. संदीप की खुद की माली हालत अच्छी है क्योंकि इनके पास खेती-बारी-बाग-बगीचे काफी हैं. कभी इनके सूर्यकांत से अच्छे संबंध हुआ करते थे. पर जबसे सूर्यकांत ने इनसे पैसे लिए और लौटाए नहीं तबसे संदीप नागर दुखी हो गए और अपने पैसे की वापसी की लड़ाई लड़ रहे. बेशर्म हिंदुस्तान प्रबंधन न तो सूर्यकांत के खिलाफ कोई एक्शन ले रहा और न ही नागर को उनके पैसे दिला रहा. क्या राजनीति की तरह अब मीडिया भी दागियों की आखिरी शरणस्थली बन चुकी है? नागर ने दुखी होकर हिंदुस्तान की मालकिन शोभना भरतिया को पत्र लिखा है जिसे नीचे प्रकाशित किया जा रहा है.

वोडाफोन कंपनी झुकी, ग्राहक को भेजेगी हिंदी में मोबाइल फोन बिल

मुंबई : वोडाफोन विश्व के १८ देशों में परिचालन करती है, भारत को छोड़कर अन्य सभी देशों में कंपनी अपने ग्राहकों को सभी जानकारी, फॉर्म, ईमेल, वेबसाइट, मोबाइल बिल आदि की सुविधा सम्बंधित देश की भाषा में ही उपलब्ध करवाती है परन्तु हमारे देश में कंपनी ग्राहकों को ज़्यादातर सेवाओं की जानकारी, बिल आदि केवल अंग्रेजी में और कहीं-२ थोड़ी बहुत जानकारियाँ किसी एक भारतीय भाषा में उपलब्ध करवाती है.

रोबर्ट वाड्रा पीआईएल में अगली सुनवाई 19 अगस्त को

लखनऊ स्थित सामाजिक कार्यकर्ता डॉ नूतन ठाकुर द्वारा दायर भारत सरकार के स्तर पर डीएलएफ की मदद कर रोबर्ट वाड्रा को लाभ पहुँचाये जाने के आरोपों की जांच कराये जाने सम्बंधित रिट याचिका की सुनवाई करते हुए इलाहाबाद हाई कोर्ट, लखनऊ बेंच ने इस सम्बन्ध में ठाकुर द्वारा पूर्व में की गयी पीआईएल की पत्रावली तलब की. जस्टिस इम्तियाज़ मुर्तजा और जस्टिस विनय कुमार माथुर की बेंच ने मुकदमे की सुनवाई सोमवार (19 अगस्त) नियत की. 

चुनावी आहट से नेताओं की तर्ज पर मीडिया दलाल हुए सक्रिय

गुडगांव : चुनावी आहट से नेताओं की तर्ज पर मीडिया दलाल सक्रिय हो चुके हैं। ये मीडिया एक्सपर्ट अब खबरों का मोल भाव करने लगे हैं। जैसे जैसे केंद्र के चुनावों की आहट तेज होती जा रही है वैसे ही मीडिया दलालों की सक्रियता भी तेज हो रही है। दलाल धीरे-धीरे अपनी रंगत में लौटने लगे हैं और अपने दलाली के कारोबार को फैलाने में जुट गए हैं। हालांकि इन दलालों में आपसी मेलजोल भी नहीं है लेकिन पैसे कमाने के चक्कर में अपने मन-मुटाव को भूल रहे हैं। इन दिनों एक नेशनल हिन्दी न्यूजपेपर नेताओं के विचार छापने लगा है।

किसानों की तरह मीडियाकर्मियों को भी अनिवार्य रूप से पांच लाख का दुर्घटना बीमा हो

कुशीनगर : किसानों की भांति अनिवार्य रूप से मीडियाकर्मियों को भी अनिवार्य रूप से पांच लाख का दुर्घटना बीमा करवाने समेत विभिन्न पांच सूत्रीय मांगों को लेकर जर्नलिस्ट वेलफेयर आर्गनाईजेशन के सदस्यों ने मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन एसडीएम सदर को सौंपा। मंगलवार को कलेक्ट्रेट पहुंचे उक्त संगठन के मीडिया कर्मियों ने कहा पत्रकारिता आज के दौर में जोखिम भरा कार्य है। पत्रकारों की सुरक्षा का शासन की ओर से कोई पुख्ता इंतजाम नहीं है।

यूपी में सरकार से बड़ा है खनन माफियाओं का तंत्र

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में खनन माफियाओं का तिलिस्म कभी कोई सरकार नहीं तोड़ पाई या यह कहा जाये कि राजनैतिक दलों के आकाओं ने जानबूझ कर इस ओर से अपनी आंखें बंद करके रखीं तो गलत नहीं होगा। भले ही अवैध खनन के मामले में यूपी कई अन्य राज्यों से थोड़ा पीछे हो लेकिन यहां भी समय के साथ यह धंधा बढ़ता जा रहा है। नदी किनारे, पहाड़ी इलाकों का कोई भी जिला ऐसा नहीं बचा है जो अवैध खनन माफियाओं से बचा हो।

अरिहंत के बाद आ गया विक्रांत, स्वदेशी तकनीक ने गाड़ दिए कामयाबी के झंडे

रक्षा क्षेत्र में महज तीन दिनों के भीतर दो बड़ी कामयाबियों ने एक नया इतिहास बना दिया है। शनिवार को विशाखापट्नम (आंध्र प्रदेश) में स्वदेशी परमाणु पनडुब्बी आईएएनएस अरिहंत के परमाणु रिएक्टर चालू कर दिए गए। इस परियोजना को नौसेना की एक बड़ी सफलता मानी जा रही है। क्योंकि, यह परमाणु पनडुब्बी नौसेना के बेड़े में शामिल हो जाएगी, तो नौसेना की ताकत में बड़ा इजाफा हो जाएगा।

भास्कर वालों ने पोर्न का विरोध कर रहे समर को फेसबुक पर ब्लाक करा दिया!

पॉर्न भास्‍कर.कॉम के पत्रकारों ने जयपुर में एक होटल में हुई पारि‍वारि‍क पार्टी में युवा जोड़ों के अन्तरंग क्षणों की दर्जनों तस्‍वीरें पॉर्न भास्‍कर.कॉम पर प्रकाशि‍त कर दीं। इतना ही नहीं, पॉर्न भास्‍कर.कॉम में प्रकाशि‍त उक्‍त समाचार में डि‍स्‍क्‍लेमर तक नहीं लगाया कि ये लोग यहां क्‍यों इकठ्ठा हैं। पार्टी की पति-पत्‍नी के अंतरग पलों की तस्‍वीरें लाल घेरा बनाकर प्रकाशि‍त की गई।

‘द संडे इंडियन’ की स्टोरी को ‘टाइम्स आफ इंडिया’ ने टीपा!

गौतमबुद्ध नगर में बालू के अवैध खनन पर पत्रकार अनिल पांडे ने अप्रैल, 2013 के प्रथम सप्ताह में संडे इंडियन-हिंदी में एक इनवेस्टीगेटिव स्टोरी की थी. तब इनके सहयोगी अभिषेक कुमार और उमेश पाटिल ने अपने खुफिया कैमरे में इस अवैध कारोबार को कैद भी किया था. अप्रैल, 2013 के प्रथम सप्ताह में यह स्टोरी द संडे इंडियन के हिंदी संस्करण में प्रकाशित हुई थी (देंखे, नीचे दिया गया पहला लिंक). इसके बाद 17-24 अप्रैल, 2013 के अंग्रेजी संस्करण में भी यह स्टोरी प्रकाशित हुई, (देखें दूसरा लिंक).

कपिल नायक ब्यूरो चीफ बने, इनक्रीमेंट से दुखी रविकांत का इस्तीफा

यूपी के ललितपुर जिले से सूचना है कि कपिल नायक ने यहां ब्यूरो चीफ के पद पर ज्वाइन किया है. इसके पहले कपिल 'जन-जन जागरण' अखबार के स्पेशल करेस्पांडेंट, बुंदेलखंड के रूप में कार्यरत थे. कपिल दैनिक भास्कर, पत्रिका न्यूजपेपर में भी काम कर चुके हैं.

बस्ती में लैपटाप वितरण के दौरान पत्रकार से बदसलूकी

यूपी के बस्ती जिले में बस्ती मण्डी परिषद में आयोजित लैपटाप वितरण कार्यक्रम में पीएसी के एक जवान ने टीवी के एक पत्रकार (News24) के साथ उस वक्त अभद्रता कर दी जब वह कवरेज के लिये कार्यक्रम स्थल पर प्रवेश कर रहा था। मेटल डिटेक्टर मशीन के पास तैनात पीएसी के जवान विनीत कुमार यादव ने मीडिया कर्मी को अंदर जाने से रोका और कुर्सी फेंककर मारा भी।

शातिर अपराधी हथकड़ी सहित चलती ट्रेन से कूदकर फरार

यूपी में देवरिया जिला जेल में बन्द पूर्वांचल का एक ईनामी शातिर अपराधी पुलिस कर्मियों की लापरवाही से चलती ट्रेन से हथकड़ी सहित कूदकर कर फरार हो गया। इस सम्बन्ध में पुलिस अधीक्षक ने तीन सिपाहियों को निलम्बित कर दिया है। बताया जा रहा कि फरार अभियुक्त पूर्वांचल का शातिर अपराधी है तथा इस पर कई जिलों की पुलिस ने ईनाम घोषित कर रखा है। पुलिस सूत्रों के अनुसार फरार अपराधी द्वारा अपने फरारी के दौरान किसी बड़े अपराध की घटना को अन्जाम भी दिया जा सकता है।

खराब हो रहे गेहूं की फोटो खींचने पर कर्मियों ने पत्रकारों को धमकाया

पंजाब के गुरदासपुर से खबर है कि अनाज मंडी में बारिश से खराब हो रही गेहूं की फोटो खींचने पर पनसप के कर्मचारी आग बबूला हो गए और उन्होंने पत्रकारों को देख लेने की धमकियां तक दे डालीं। कुछ पनसप कर्मियों का कहना था कि यदि वह पत्रकारों को महीना भरते हैं तो खबर लगाने की हिम्मत किसकी? शांतिमय ढंग से करवेज कर रहे पत्रकारों के कैमरों पर भी हाथ डाला गया। कुछ पत्रकार 15 अगस्त की रिहर्सल की कवरेज कर रहे थे कि उन्हें दाना मंडी में किसी तरह की बदबू महसूस हुई। जब उन्होंने मंडी के पीछे जाकर देखा तो वहां पर गले-सड़े गेहूं के ढेर लगे हुए थे जिनमें से बड़ी बदबू उठ रही थी।

देवेश वशिष्ठ, तनवीर हुसैन, अखिलेश तिवारी की नई पारी

ए2जेड न्‍यूज चैनल से एंकर देवेश के. वशिष्ठ ने इस्‍तीफा दे दिया है. बताया जा रहा है कि वे लाईव इंडिया न्यूज चैनल के साथ दुबारा जुड़ गए हैं. देवेश ए2जेड न्‍यूज चैनल में एंकर कम प्रोड्यूसर के पद पर कार्यरत थे. देवेश इंडिया न्‍यूज,  लाईव इडिंया, चैनल वन न्यूज, MH1 न्यूज, voice of india आदि में काम कर चुके हैं.

शैलेंद्र भदौरिया जी, पीएफ और टीडीएस का पैसा तो जमा करवा दीजिए!

भड़ास को एक मीडियाकर्मी ने मेल करके सूचित किया है कि शैलेंद्र भदौरिया अपने नेशनल दुनिया अखबार की जैसी तस्वीर पेंट कर रहे हैं, असली तस्वीर इससे बिलकुल उलट है. इनका मेरठ एडिशन बंद होने की कगार पर है. आंतरिक राजनीति और खराब कंटेंट की वजह से अखबार बुरी तरह पिट चुका है. जयपुर में प्रिंट आर्डर पच्चीस हजार का था लेकिन बिकी सिर्फ बाइस सौ कापियां. दिल्ली में अखबार सिर्फ प्रतीकात्मक उपस्थिति दर्ज कराने के लिए निकल रहा है.

निशिकांत से सटे तो नपे, एनसीआर से गैंग के सफाई का अभियान तेज

बेचारे निशिकांत ठाकुर. मानकर बैठे थे कि ताउम्र वे ही राज करेंगे और जिसे चाहे अखबार के भीतर या अखबार के बाहर हीरो बना देंगे या जीरो कर डालेंगे. पर जब जब ऐसी गलतफहमी जिन जिन ने पाली, उनके घमंड अहंकार का नाश हुआ. निशिकांत के साथ भी ऐसा ही हो रहा है. बुढ़ापा, खराब सेहत और ढेर सारे आरोपों से घिरे निशिकांत ठाकुर के करीबियों का एक एक कर विकेट गिर रहा है. अब तो लोग भी निशिकांत से मिलने-जुलने में घबराने लगे हैं क्योंकि दैनिक जागरण, नोएडा और इससे जुड़े लोगों में यह चर्चा आम हो गई है कि जो भी निशिकांत ठाकुर से सटा, समझो वो नपा.

प्रभात शुंगलू किस चैनल और किस सक्षम पत्रकार की बात कर रहे हैं?

प्रभात शुंगलू पढ़ने लिखने वाले पत्रकार हैं. आईबीएन7 से विदा होने के बाद प्रभात ने कई नौकरियां पकड़ी और छोड़ी. वे खाली समय में किताब लेखन से लेकर घूमने-फिरने समते कई तरह के क्रिएटिव काम करते हैं. उन्होंने फेसबुक पर एक चैनल के बारे में इशारा करते हुए कई बातें कही हैं. प्रभात शुंगलू की छवि एक सीरियस जर्नलिस्ट की है. उनकी बात में दम होता है. तो, उन्होंने जो कुछ कहा है, उसे पढ़कर यह सवाल खड़ा होता है कि आखिर किस चैनल और उस चैनल के किस शख्स के बारे में प्रभात शुंगलू बातें कर रहे हैं.

मैंने आज आईएएस सूर्य प्रताप सिंह को बर्खास्त करने की याचिका दायर की है

Sanjay Sharma : मैंने आज हाईकोर्ट में प्रमुख सचिव अवस्थापना एवं ओद्योगिक विकास सूर्य प्रताप सिंह को बर्खास्त करने की याचिका दायर की। मुझे इस बात का बहुत आश्चर्य था कि अगर कोई सामान्य कर्मचारी बिना बताये एक साल नौकरी से गायब हो जाता है तो उसे तत्काल बर्खास्त कर दिया जाता है मगर आईएएस के लिए मानो सारे गुनाह माफ़ होते है। सूर्य प्रताप सिंह पिछले 9 सालों से गायब थे और जैसे ही बापस आये तो सबसे महत्वपूर्ण पद पर तैनात हो गए.

जिस आईएएस को बर्खास्त होना चाहिए था, वो सपा सरकार में वीवीआईपी बन गया, पीआईएल दायर

प्रिय महोदय, मैंने आज हाईकोर्ट में प्रमुख सचिव अवस्थापना एवं ओद्योगिक विकास सूर्य प्रताप सिंह को बर्खास्त करने की याचिका दायर की। मुझे इस बात का बहुत आश्चर्य था कि अगर कोई सामान्य कर्मचारी बिना बताये एक साल नौकरी से गायब हो जाता है तो उसे तत्काल बर्खास्त कर दिया जाता है मगर आईएएस के लिए मानो सारे गुनाह माफ़ होते है। 

पीसीआई में गंभीर बहस-विमर्श का दौर शुरू, मानव तस्करी का मुद्दा लोकसभा तक पहुंचा

दिल्ली में रायसीना रोड पर स्थित प्रेस क्लब आफ इंडिया में इन दिनों गंभीर बहस और सेमिनार का दौर शुरू हो चुका है. प्रेस क्लब मैनेजिंग कमेटी की सदस्य और डिस्कसन कमेटी की हेड पत्रकार विनीता यादव के प्रयासों से बीते तीन अगस्त दिन शनिवार को मानव तस्करी पर एक डिस्कशन प्रेस क्लब आफ इंडिया में रखा गया था. ह्यूमन राइट्स की तरफ से 2005 में भारत में मानव तस्करी पर एक रिपोर्ट का प्रकाशन किया गया था.

‘ओम’ के उच्चारण से सेक्स लाइफ पर सकारात्मक प्रभाव!

बेहतर सेक्स लाइफ और सेक्स के दौरान ऑर्गेज्म की स्थिति तक पहुंचना अगर आपके निजी जीवन की सबसे बड़ी गुत्थी रही है तो इसे सुलझाने का बेहद आसान और सेहतमंद उपाय आप जरूर जानना चाहेंगे। हाल में 51 वर्षीय हॉलीवुड अभिनेत्री कैरन लॉरी का दावा है कि उन्होंने रोज ध्यान के दौरान 'ओम' के उच्चारण से एक दिन में 11 बार ऑर्गेज्म का अनुभव किया है। उनका मानना है, 'ओम के उच्चारण का प्रभाव न सिर्फ मस्तिष्क पर पड़ता है बल्कि हार्मोन और भावनाओं पर भी इसका प्रभाव पड़ता है।

चारा घोटाला में नहीं बदलेंगे जज, सुप्रीम कोर्ट से लालू को झटका

चारा घोटाला मामले में आरोपी राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के अध्यक्ष लालू प्रसाद को सुप्रीम कोर्ट से झटका लगा है. सुप्रीम कोर्ट ने लालू प्रसाद की उस याचिका को खारिज कर दिया जिसमें आरजेडी सुप्रीमो ने मामले की सुनवाई कर रहे जज को बदले जाने की मांग की थी. चीफ जस्टिस पी सदाशिवम की अध्यक्षता वाली खंडपीठ के सामने लालू प्रसाद यादव के वकील ने दलील दी थी कि चारा घोटाले के मुकदमे की सुनवाई कर रहे विशेष न्यायाधीश पी के सिंह उनके साथ पक्षपात कर सकते हैं क्योंकि वह नीतीश कुमार सरकार में शिक्षा मंत्री पी के शाही के रिश्तेदार हैं.

पाक ने आज आठवीं बार तोड़ा सीजफायर, भारतीय चौकियों पर की गोलीबारी

पाकिस्तानी सैनिकों ने पिछले चार दिन में आठवीं बार मंगलवार को सुबह फिर से संघर्ष विराम का उल्लंघन किया और जम्मू-कश्मीर के सांबा जिले में भारतीय सीमा चौकियों को निशाना बनाकर गोलियां चलाईं। इसके बाद वहां दोनों ओर से भारी गोलीबारी हुई। सीमा सुरक्षा बल के एक अधिकारी ने बताया कि आज सुबह साढ़े सात बजे सांबा जिले के रामगढ़ की नारायणपुर अग्रिम सीमा चौकी पर पाकिस्तानी रेंजरों ने गोलियां चलाईं। उन्होंने बताया कि ये गोलियां पाकिस्तान की अशरफ चौकी से चलाई गईं। सीमा की सुरक्षा कर रहे सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने इसका करारा जवाब दिया, जिसके बाद दोनों ओर से भारी गोलीबारी हुई।

वाड्रा ने बिना बिजनेस स्कूल गए हजारों करोड़ कमाने के गुर सीखे

नई दिल्ली : रॉबर्ट वाड्रा के भूमि सौदों की जांच की मांग कर रहे सांसद आज लोकसभा और राज्यसभा में जमकर हंगामा कर रहे हैं। दोनों सदनों में हंगामें के कारण कामकाज ठप है। बीजेपी के वरिष्ठ नेता और सांसद यशवंत सिन्हा ने लोकसभा में बिना किसी का नाम लिए कहा कि देश में तमाम बिजनेस स्कूल ऐसे हैं, जहां पर पैसा कमाने और मुनाफा बनाने के गुर सिखाए जाते हैं, लेकिन हमारे देश में ऊंचे पदों पर बैठे लोगों से जुड़ा एक आदमी ऐसा भी है जिसने बिना बिजनेस स्कूल गए ही हजारों करोड़ कमाने की कला सीखी है।

अभिसार शर्मा एबीपी न्यूज के साथ शुरू करेंगे नई पारी, जी न्यूज को कहा गुडबॉय

प्रतिभावान एंकर अभिसार शर्मा ने जी न्यूज से इस्तीफा दे दिया है. वे नई पारी की शुरुआत एबीपी न्यूज के साथ 19 अगस्त को करेंगे. ज्यादा वक्त नहीं हुआ जब अभिसार आजतक से इस्तीफा देकर जी ग्रुप के साथ जुड़े थे. वे टीवी टुडे ग्रुप में लंबे समय से थे. वहां से जी न्यूज आने के बाद माना जा रहा था कि उनकी यहां लंबी पारी चलेगी.

लो जी, राडिया टेप के बाद अब सुप्रीम कोर्ट की टेप रिपोर्ट भी लीक, कोर्ट खफा

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट ने अपनी ही ओर से नियुक्त एक जांच टीम की रिपोर्ट लीक होने को सोमवार को गंभीरता से लिया। इस जांच टीम ने पूर्व कॉरपोरेट लॉबिस्ट नीरा राडिया की कॉरपोरेट शख्सियतों, नेताओं और अन्य लोगों से हुई बातचीत के टेप की लिखित प्रतिलिपि का विश्लेषण किया था। न्यायालय ने कहा कि जब कभी इस मामले की सुनवाई होगी, उस वक्त वह सार्वजनिक हो रहे विषय-वस्तु के मुद्दे को देखेगा।

सुभाष, सुधीर व समीर ने जांच में सहयोग नहीं किया, सबूतों को नष्ट किया

नई दिल्ली : जिंदल स्टील से उगाही की कोशिश मामले में अभियुक्त जी समूह के चेयरमैन सुभाष चंद्रा, संपादक समीर आहलूवालिया व सुधीर चौधरी ने जांच में सहयोग नहीं किया और साक्ष्यों को नष्ट कर दिया। चंद्रा ने अपना मोबाइल जांच एजेंसी को सौंपने की बजाए उसके गुम होने का तर्क रखा। पुलिस द्वारा इन तीनों के खिलाफ दायर आरोप पत्र में ऐसे कई तथ्यों का खुलासा हुआ है। आरोप पत्र में कहा गया है कि इस मामले में शिकायत दर्ज होने के बाद तीनों ने स्वयं को बचाने के लिए साक्ष्यों को नष्ट करने का पूरा प्रयास किया।

सीएनएन-आईबीएन और आईबीएन7 के सीईओ दिलीप का इस्तीफा

टीवी18 ग्रुप के दो न्यूज चैनलों सीएनएन-आईबीएन और आईबीएन7 के सीईओ एन. दिलीप वेंकटरमन ने इस्तीफा दे दिया है. वे इस ग्रपु के साथ आठ वर्षों से जुड़े हुए थे. दिलीप टीवी18 से पहले इंडिया टुडे ग्रुप और जी नेटवर्क में काम कर चुके हैं.  बताया जा रहा है कि दिलीप वेंकटरमन अब कुछ निजी कामकाज शुरू करने जा रहे हैं और इसी निजी प्रोजेक्ट में जुट गए हैं.

दैनिक भास्कर, जबलपुर के संयुक्त संपादक बन गए अजीत सिंह

मध्य प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार अजीत सिंह के बारे में सूचना है कि उन्होंने 10 अगस्त को दैनिक भास्कर, जबलपुर के साथ नई पारी की शुरुआत कर दी. इसके पहले वे भोपाल से प्रकाशित जन जन जागरण समाचार पत्र में संपादक थे. अजीत सिंह प्रदेश के सभी महत्वपूर्ण अखबारों में महत्वपूर्ण पदों पर काम कर चुके हैं. दैनिक भास्कर, जबलपुर में उनका पद संयुक्त संपादक का बताया जा रहा है.

मेरे पिता अनशन पर थे और उस समय मीडिया इतना बाजारू नहीं हुआ था

: (संस्मरण – पार्ट 5) :1996 में अटल विहारी वाजपेयी की सरकार का तेरह दिन में ही शीघ्र पतन हो जाने के फलस्वरूप कर्णाटक के मुख्य मंत्री हरदन हल्ली डोडेगौड़ा देवे गौडा अकस्मात प्रधानमंत्री बन बैठे. जनता दल के अन्य बड़े नेता ठिकाने लग गए थे. लालू प्रसाद यादव चारे की चिरकुटई में फंस चुके थे. शरद यादव जैन हवाला कांड की चपेट में आकर स्वीकार कर चुके थे कि हाँ, मैंने जैन से पैसा खाया है. कर्नाटक के ही एक और बड़े नेता राम कृष्ण हेगड़े चुनाव में ही खेत रहे थे, सो देवेगौड़ा को लाल किले से भाषण देने का अवसर मिल गया. न तो वह उत्तर भारत की राजीति और सामजिक ढाँचे से अवगत थे, और न उत्तर भारत उनसे परिचित था.

अभय कुमार दुबे जैसे वरिष्ठ पत्रकार द्वारा बसपा पर हमला और सपा का बचाव शोभा नहीं देता

Shambhunath Shukla : लाजवाब है रवीश कुमार की एंकरिंग। रवीश ने उघाड़ दिया सांसदों और पत्रकार को। कल के प्राइम टाइम में संजय निरूपम जैसे बड़बोले सांसद को तो उन्होंने डिफेंसिव बना ही दिया। उग्र पत्रकार अभय कुमार दुबे को भी बैकफुट पर डाल दिया। राजनीतिक दलों को आरटीआई के दायरे में लाने के बाबत संजय सिर्फ अपनी पोच दलीलें देते रहे और उतने ही अधिक दर्शकों के समक्ष वे एक्सपोज होते रहे। जबकि बीजद के सांसद केएन सिंह देव आगे बढ़कर राजनीतिक दलों को इस दायरे में लाने को राजी दिखे।

Make Bhaskar.com an 18+ site and let them publish as much porn as they want to

Samar Anarya : There seems to be some confusion over my stand against Web Media masquerading porn as news. Let me affirm that despite my problem with pornography, I am opposed to its censorship until and unless it is misogynist and spreads violence against women, transgenders or even men. After all people can enter porn industry out of their free will, hypothetically, at least as is claimed by porn 'industry' in the western world. Though how free this free will is debatable, yet one cannot really take a moral position on that.

यशवंत के नाम भी किसी ने किया किताब का समर्पण!

Yashwant Singh : कुछ रोज पहले ''जानेमन जेल'' किताब को जब कापड़ी-साक्षी के नाम समर्पित कर रहा था तो मुझे तनिक अंदाजा न था कि इसके प्रतिदान स्वरूप मेरे नाम भी कोई अपनी किताब समर्पित कर रहा होगा.. मेरे नाम भी किसी ने एक किताब समर्पित कर दिया है भाइयों… और इस समर्पण के बारे में मुझे तब पता चला, जब वो किताब मेरे पास कूरियर से चलकर आई… एक दो पन्ने पलटते ही लिखा दिखा- ''यशवंत सिंह के लिए''…

संपादक मतलब कुतुबमीनार

बहुत पहले संपादक की परिभाषा के परिप्रेक्ष्य में मास काम के कोर्स में एक जगह लिखा हुआ पढ़ा था कि ''हर सम्पादक अपने को कुतुब मीनार से कम नहीं समझता।'' अपने पुर्ववर्ती अनुभवों में मैंने इसे बहुधा सही भी पाया। एक जगह उप सम्पादक की परिभाषा लिखी थी कि '''उपसम्पादक युद्ध का बेनाम योद्धा होता है।''

वरिष्ठ पत्रकार जगमोहन फुटेला को ब्रेन स्ट्रोक, चंडीगढ़ में अस्पताल में भर्ती

चंडीगढ़ से बुरी खबर है. वरिष्ठ और बेबाक पत्रकार जगमोहन फुटेला को ब्रेन स्ट्रोक हुआ है. घटना छह अगस्त की है. उन्हें चंडीगढ़ में अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उनके नजदीकी लोगों का कहना है कि कई दिनों के इलाज के बाद फिलहाल वे खतरे से बाहर हैं लेकिन ब्रेन स्ट्रोक के साइड इफेक्ट बरकरार हैं.

एबीपी न्यूज के पत्रकार मनु पंवार का पहला व्यंग्य संग्रह आया, आलोक पुराणिक ने किया विमोचन

एबीपी न्यूज से जुड़े पत्रकार मनु पंवार का पहला व्यंग्य संग्रह ‘खबरदार, राजा दु:खी है' आ गया है। दिल्ली में एक सादे समारोह में जाने-माने व्यंग्यकार आलोक पुराणिक ने इसका विमोचन किया। युवा व्यंग्यकार मनु पंवार का यह व्यंग्य संग्रह हिन्दी अकादमी दिल्ली के सहयोग से अनुज्ञा बुक्स दिल्ली ने प्रकाशित किया है। इस संग्रह मे कुल 56 व्यंग्य है जिनमें विषयों का वैविध्य है।

‘सीनियर इंडिया’ के मालिक विजय दीक्षित ने मारा कार्टूनिस्ट चंदर का मेहनताना

कुछ दिन पहले अखबार में खबर छपी कि ’सीनियर बिल्डर’ गिरफ़्तार। पढ़कर आश्चर्य नहीं हुआ। ऐसा होना ही था। सीनियर बिल्डर लिमिटेड यानी एसबीएल कम्पनी मालिक विजय दीक्षित सीनियर मीडिया के भी मालिक हैं। सीनियर मीडिया की पाक्षिक हिन्दी पत्रिका 'सीनियर इंडिया‍' के लिए मैंने तत्कालीन सम्पादक और पुराने पत्रकार (दैनिक लोकमत समाचार, नागपुर के पूर्व सम्पादक और मेरे कुछ परिचित) एस.एस विनोद के कहने पर बन्द पड़ी पत्रिका को फ़िर शुरू करने में सहयोग की खातिर 3 दिन लगातार रात-दिन काम किया।

यह मत कहना कि ये प्रदेश के ईमानदार अफसरों में से एक हैं (देखें कार्टून)

जाने-माने और चर्चित कार्टूनिस्ट इरफान की पेशकश. यूपी के हालात पर उन्होंने क्या खूब एक कार्टून बनाया है. हजार-लाख शब्दों पर भारी एक कार्टून. सूबे में ईमानदारी और ईमानदारों की स्थिति क्या है, यह इस कार्टून से खुद ब खुद जाहिर है.

अपने एडिटर इन चीफ राजदीप सरदेसाई के पक्ष में उतरे आशुतोष लिखते हैं…

: हे ईश्वर इन्हें ज्ञान दीजिये : हमारे एडिटर इन चीफ राजदीप सरदेसाई ने ट्विटर पर ईद मुबारक कहा और उनको गालियां पड़नी शुरू हो गईं। फ्रस्टेट होकर उन्हें ट्विटर पर लिखा, 'मेरे ईद मुबारक लिखने से कुछ बेवकूफ और कट्टरपंथी लोगों को तकलीफ होती है। इन लोगों को अक्ल आनी चाहिये या फिर ये किसी और देश में जा कर रहें।' उनका ये ट्वीट पढ़कर तकलीफ हुई। हालांकि ऐसा नहीं है कि सिर्फ उनके साथ ही होता है। हिंदू-मुस्लिम मसले पर या फिर सेकुलरिज्म के मुद्दे पर आप कुछ भी लिखो आप को फौरन गाली पड़ने लगती है।

दुर्गा शक्ति के बहाने ताकतवर होती आईएएस लॉबी

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा युवा आईएएस अधिकारी दुर्गा शक्ति नागपाल को निलम्बित कर दिये जाने के मुद्दे को कॉर्पोरेट तथा धनाढ्य वर्ग के चंगुल में कैद मीडिया द्वारा जमकर उछाला गया है। इस मुद्दे के बहाने मीडिया व हितबद्ध लोगों द्वारा तरह-तरह की चर्चाएँ और परिचर्चाएँ आयोजित और सम्पन्न करवायी गयी। प्रिंट और सोसल मीडिया पर कई सौ आलेख इस विषय पर लिखे जा चुके हैं।

गलत सर्कुलेशन दिखाकर महंगे रेट पर विज्ञापन वसूलने के खिलाफ हाई कोर्ट में पीआईएल

गलत सर्कुलेशन दिखाकर महंगे रेट पर विज्ञापन वसूलने वाले अखबारों की मुश्किल बढ़ सकती है. इस मामले समेत कई मुद्दों को लेकर इलाहाबाद हाई कोर्ट के लखनऊ बेंच में पीआईएल दाखिल की गई है. इसमें ऐसे पत्रकारों को भी निशाने पर लिया गया है, जो सस्‍ते दर पर सरकारी प्‍लाट लेने के बावजूद सरकारी आवासों का आनंद उठा रहे हैं. पीआईएल दृष्‍टांत पत्रिका के संपादक अनूप गुप्‍ता ने दाखिल की है. इस मामले पर सुनवाई मंगलवार को होगी. 

‘कर्मभूमि संवाद’ में वेतन के लाले, चारू तिवारी का इस्तीफा, दिलीप सिकरवार बने प्रदेश टुडे बैतूल के ब्यूरोचीफ

पहाड़ के सवालों पर आधारित नई दिल्ली से प्रकाशित होने वाली मासिक पत्रिका 'कर्मभूमि संवाद' के कार्यकारी संपादक व एक प्रकार से पत्रिका चलाने वाले चारू तिवारी ने कर्मभूमि को बॉय-बॉय कह दिया है. कर्मभूमि के संपादक मालिक राजेंद्र रौतेला हैं जो मैग्जीन के पांच अंक प्रकाशित कर सके हैं.

अमर उजाला में फरमान, पत्रकार बेचें ‘युवान’!

अमर उजाला मुरादाबाद संस्करण से खबर है कि यहां के संपादकीय कप्तान नीरज कांत राही ने एक फरमान जारी किया है जिसमें कहा गया है कि सभी पत्रकारों को युवान बेचने की जिम्मेदारी उठानी है. यही नहीं, इस काम को वे कितनी ईमानदारी से कर रहे हैं, उन्हें इसका सुबूत भी देना होगा. इसके लिए उन्हें उन सभी स्कूलों व कॉलेजों का फोटो करने को कहा गया है, जहां वे युवान बेचने गए थे और कितनी प्रतियां बेची.

जागरण वालों की गुंडई! बीच शहर में डायनामाइट से धमाका, मालिक पर मुकदमा दर्ज

दैनिक जागरण वाले जो कर करा दें, वही कम है. पेड न्यूज, उगाही, शोषण, फर्जीवाड़ा आदि के बाद अब ताजा काम शुरू किया है डायनामाइट से धमाका करने का. जैसे भारत ने हो कोई अफगानिस्तान हो जहां कोई नियम-कानून न हो. पर जागरण वाले नियम-कानून मानते कब हैं, क्योंकि ये नियम-कानून बनाने वालों को साधने में माहिर जो ठहरे. मसला झांसी का है. यहां दैनिक जागरण वाले डायनामाइट लगाकर विस्फोट कर रहे थे. धमाकों से लोग दहल गए. होटल समेत कई मकानों को नुकसान पहुंचा है.

वेज बोर्ड से बचने के लिए हिंदुस्तान मैनेजमेंट परमानेंट इंप्लाई को परेशान कर रहा!

हिंदुस्तान, पटना से खबर है कि यहां जो परमानेंट इंप्लाई है, उन्हें मजीठिया वेज बोर्ड की सुविधा न देने के लिए उन्हें इस्तीफा देने को मजबूर किया जा रहा है. जो लोग इस्तीफा नहीं दे रहे, उनका तबादला दूसरे प्रदेशों में किया जा रहा है. सूत्रों के मुताबिक हिंदुस्तान, पटना के परमानेंट स्टाफ की लिस्ट बनाकर इन लोगों को तरह-तरह से परेशान किया जा रहा है.

सुभाष सिंह ने जागरण छोड़ा, विवेक वाजपेयी जी न्यूज से जुड़े, दीपिका का इस्तीफा

दैनिक जागरण, लखनऊ से लोगों का जाना थम नहीं रहा है. क्रांति ने इस्तीफा देकर नभाटा, लखनऊ ज्वाइन किया तो अब सुभाष सिंह ने इस्तीफा देकर नेशनल दुनिया, जयपुर के साथ नई पारी शुरू की है. सुभाष जागरण में चीफ सब एडिटर के पद पर कार्यरत थे. बताया जाता है कि नेशनल दुनिया, जयपुर में वे सेकेंड मैने के रूप में काम देखेंगे.

सीमा पर जारी है उपद्रव, पाक को करारा सबक सिखाने का बढ़ गया है दबाव!

भारत सरकार के कड़े रुख के बावजूद पाकिस्तान की सेना अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रही है। जबकि, रक्षामंत्री ए के एंटनी ने दो दिन पहले ही इस्लामाबाद को कड़ा संदेश भेजा था। सेना प्रमुख जनरल बिक्रम सिंह ने भी कह दिया है कि यदि पाकिस्तान ने अपना रवैया नहीं बदला, तो फिर मुंह तोड़ जवाबी कार्रवाई के लिए भारत को भी मजबूर होना पड़ेगा। ऐसी स्थिति आई, तो पाक की दिक्कतें बढ़ जाएंगी।

एनडीटीवी, मेरठ से जुड़े युवा कैमरामैन अविनाश कमांडो का निधन

मेरठ से एनडीटीवी के कैमरामैन अविनाश कमांडो के निधन की दुखद सूचना है. मेरठ के चर्चित कैमरामैन अविनाश जानसन उर्फ कमांडो को ब्रेन अटैक आठ जुलाई की सुबह घर पर हुआ. शनिवार को इनका निधन हो गया. ब्रेन अटैक से अविनाश का शरीर पैरालिसिस का असर हो गया.

जयपुर के बाद लखनऊ पहुंचेगा नेशनल दुनिया, महुआ के पांच साल पूरे, आउटलुक प्रबंधन ने संकट निपटाया

दिल्ली, मेरठ के बाद अब जयपुर से छपने लगा हिंदी दैनिक नेशनल दुनिया. अगली तैयारी लखनऊ की है. नेशनल दुनिया अब लखनऊ में मौजूदगी दर्ज कराने की तैयारी में है. इसके बाबत तैयारियां शुरू कर दी गई हैं. एसबी मीडिया प्रकाशन ग्रुप का यह अखबार अब दिल्ली-एनसीआर के बाहर यूपी व राजस्थान में अपनी पहुंच बना चुका है. माना जा रहा है कि विधानसभा और लोकसभा चुनाव को देखते हुए राजस्थान से यह अखबार शुरू किया गया है. जयपुर एडिशन की लांचिंग 9 अगस्त को की गई. यहां पर संपादक पद की जिम्मेदारी वरिष्ठ पत्रकार मनोज माथुर को दी गई है.

हिन्दुस्तान गोरखपुर से डिप्टी मैनेजर अजय त्रिवेदी ने दिया इस्तीफा, जनसंदेश टाइम्स संतकबीरनगर से अजीत जुड़े

एक मेल के जरिए सूचित किया गया है कि हिंदुस्तान गोरखपुर से यूनिट हेड दीपक माहेश्वरी के कारण पिछले कुछ समय से लगातार लोग इस्तीफा दे रहे हैं. शनिवार को अख़बार के डिप्टी मैनेजर अजय त्रिवेदी ने भी इस्तीफा दे दिया. हालाँकि प्रबंधन अभी उन्हें रोकने में लगा हुआ है. इसके पहले मार्केटिंग के ही दाउद अहमद और सोनू कुमार ने भी दीपक माहेश्वरी पर व्यक्तिगत आरोप लगा कर इस्तीफा दे दिया था. आरोप है कि मीटिंग में गाली-गलौज और अपशब्दों के कारण स्वाभिमानी लोग इस्तीफा देने को मजबूर हो रहे हैं.

नक्षत्र न्यूज से परिवेश का इस्तीफा

खबर है कि झारखंड बिहार के रीजनल न्यूज चैनल नक्षत्र न्यूज के चैनल हेड परिवेश वात्सायायन अब कार्यमुक्त हो चुके हैं. सूत्रों का कहना है कि इनपुट हेड दीपक ओझा के साथ हुए विवाद के बाद परिवेश को जाना पड़ा. बताया जाता है कि किसी मुद्दे को लेकर दीपक और परिवेश में काफी बहस हुई थी. इसके बाद दीपक ने कंपनी के डायरेक्टर कन्हैया तनेजा को अपना इस्तीफा सौंप दिया. प्रबंधन ने दीपक के इस्तीफे को नकार दिया और चैनल हेड परिवेश को एक सप्ताह के लिए बैठा दिया. खबर है कि प्रबंधन के इस फैसले से नाराज परिवेश ने नक्षत्र छोड़ दिया.

आरपी सिंह सुदर्शन टीवी पहुंचे, नीरज शर्मा के हवाले सुभारती, कई लोगों का इस्तीफा

सुभारती टीवी से इस्तीफा देने के बाद आरपी सिंह ने सुदर्शन टीवी ज्वाइन कर लिया है. आरपी सिंह के नेतृत्व में ही सुभारती टीवी लांच हुआ था और वे कई वर्षों से सुभारती ग्रुप के साथ जुड़े हुए थे. आरपी के सुदर्शन टीवी ज्वाइन करने के बाद सुभारती टीवी का जिम्मा नीरज शर्मा को दे दिया गया है.

रवीन्द्र पंचौली बने आईएफडब्ल्यूजे के प्रांतीय महासचिव

भोपाल। कई चैनलों और अखबारों में वरिष्ठ पद पर काम कर चुके पत्रकार रवीन्द्र पंचौली को पत्रकार संगठन इंडियन फेडरेशन आफ वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन के प्रांतीय महासचिव पद पर राष्ट्रीय अध्यक्ष के. विक्रय राव ने नियुक्त किया है। इंडियन फेडरेशन आफ वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन के सचिव सेंट्रल इंडिया प्रभारी कृष्णमोहन झा की अनुशंसा पर आई.एफ.डब्ल्यू. जे. के राष्ट्रीय महासचिव परमानंद पांडे ने रवीन्द्र पंचौली को संगठन के मध्यप्रदेश इकाई का प्रदेश महासचिव नियुक्त किया है।

रायपुर से ‘जस्ट इन टाइम’ नामक नया रीजनल न्यूज चैनल, पंकज चोपड़ा, जरीन सिद्दीकी और गौतम कुमार जुड़े

भड़ास4मीडिया को एक मेल के जरिए सूचित किया गया है कि छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से छत्तीसगढ की खबरों पर आधारित एक नया न्यूज चैनल शुरू हो रहा है. चैनल का नाम रखा गया है- ''जस्ट इन टाईम न्यूज चैनल''. इसका प्रसारण 15 अगस्त से किया जाएगा.

‘आज’ अखबार अपने ही शहर काशी में अपनी अंतिम सांसें ले रहा

न केवल यूपी बल्कि बिहार- झारखंड के बाजारों से ‘आज‘ गायब होता जा रहा है। लगता है बस विज्ञापन की खानापूर्ति के लिए इसकी प्रतियां छप रही हैं। एक रुपया दाम रहने के कारण चाय-पान की दुकानों और सैलूनों में ही इसकी प्रतियां दिख जाती है। प्रतियोगिता की इस दौड़ में ‘आज‘ बुरी तरह मात ही खा गया समझिये। वह भी क्या समय था जब हिन्दी भाषा को समृद्ध करने के लिए देशवासी ‘आज‘ ही पढ़ते थे।

स्टिंग कर अफसरों से वसूली करने वाले चार कथित पत्रकारों की शिकायत पुलिस कमिश्नर के यहां पहुंची

एक महिला ने दिल्ली के पुलिस कमिश्नर को मेल कर दिल्ली के चार कथित पत्रकारों के बारे में शिकायत भेजी है. इस शिकायत में महिला ने काफी कुछ बातें बताई हैं. इस महिला के पत्र के कुछ हिस्से इस प्रकार है-  ''सर शहर में कुछ असामाजिक लोगों के विषय में आपको गुप्त सूचना देना चाहती हूँ, दिल्ली में रहने वाले चार शातिर जालसाजों के बारे में मैं आपको कुछ जानकारी दे रही हूँ, महोदय से अनुरोध है की आप इनकी सही जाँच कर समाज के इन भ्रष्ट गुनाहगारों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाही करेंगे, महोदय उपरोक्त आरोपियों के बारे में नीचे कुछ जानकारी दी हुई है.''

आम्रपाली ग्रुप पर इनकम टैक्स का छापा

एनसीआर में रियल एस्टेट में अरबों का कारोबार करने वाली आम्रपाली ग्रुप के दिल्ली-नोएडा एवं गाजियाबाद के ठिकानों पर इनकम टैक्स विभाग के अफसरों ने एक साथ छापेमारी की। आयकर अधिकारियों को शक है कि इस ग्रुप ने काली कमाई के साथ बोगस निवेश कर रखा है।

‘प्रभात खबर’ की मातृ कंपनी उषा मार्टिन के मालिक समीर लोहिया के ठिकानों पर छापेमारी

रांची : कर चोरी की जांच के सिलसिले में आयकर विभाग की अलग-अलग टीम द्वारा प्रणामी बिल्डर्स के विजय अग्रवाल और उनकी कई कंपनियों में बतौर निदेशक शामिल समीर लोहिया के विभिन्न ठिकानों पर छापामारी के दौरान अधिकारियों को जहां एक सौ करोड़ रुपये से अधिक निवेश का पता चला है, वहीं अधिकारियों की टीम ने 60 लाख रुपये नकद, छह लॉकर व भारी मात्रा में जेवरात बरामद किये है।

पत्रकार रोहिताश सैन श्रीलंका जायेंगे

जयपुर। प्रदेश के युवा पत्रकार रोहिताश सैन 12 अगस्त को श्रीलंका जायेंगे। सैन ने बताया कि श्रीलंका सरकार के वित्त मंत्रालय एवं श्रीलंका पर्यटन मंत्रालय के सयुंक्त बुलावे पर देश भर से 30 पत्रकारों का प्रतिनिधि मण्डल एक सप्ताह के लिए श्रीलंका जायेगा। जहाँ उन्हें राजकीय अथिति का दर्जा दिया जायेगा।

के न्यूज, सीके मिश्रा, विनीत, क्रांति, राजीव, अंबुज, सचिन के बारे में सूचनाएं

कानपुर से चल रहे 'के न्यूज' चैनल ने अब यूपी के बाद उत्तराखंड में अपना प्रसार शुरू कर दिया है. अभी तक उत्तराखंड में ब्यूरोचीफ के रूप में विजय कुमार तिवारी को रखा था. अब राज्य में काम कर रहे संवाददाताओं को नियुक्ति पत्र और जून माह का मानदेय देकर अपने इरादे जता दिए हैं. 15 अगस्त से उत्तराखंड का एक बुलेटिन भी शुरू होने जा रहा है.. इस चैनल के एडिटर हनुमंत राव और एसाईनमेंट हेड दुर्गेंन्द्र चौहान हैं.

अखिलेश सरकार में किन-किन दागी-आरोपी अफसरों की है मौज, देखें लिस्ट

लखनऊ। खनन माफियाओं के लिए सिरदर्द बनीं आईएएस दुर्गा शक्ति नागपाल को यूपी की अखिलेश सरकार ने भले ही निलंबन जैसी बड़ी सजा सुना दी हो, पर इसी सरकार ने तमाम ऐसे अफसरों को अहम पदों पर बैठा रखा है जिनके खिलाफ कई संगीन आरोप हैं। इनमें से कुछ के खिलाफ तो सीबीआई जांच तक हुई है।

जिस भगोड़े आईएएस सूर्य प्रताप सिंह को बर्खास्त करना चाहिए था, उसे अखिलेश ने प्रमुख सचिव बना दिया!

Sanjay Sharma : कोई साधारण कर्मचारी अगर एक साल से ज्यादा समय तक बिना बताये नौकरी से गायब होता है तो उसे तत्काल सेवा से बर्खास्त कर दिया जाता है.. उत्तर प्रदेश के एक आईएएस अफसर है नाम है सूर्य प्रताप सिंह. वर्ष 2004 में स्टडी लीव के लिए गए थे और गायब हो गए. बताया जाता रहा कि अमेरिका में हैं और अपना धंधा कर रहे हैं. अचानक पिछले महीने प्रकट हुए और सरकार ने बिना कुछ पूछे उन्हें ''प्रमुख सचिव अवस्थापना एवं ओद्योगिक विकास'' बना कर तीन और विभाग की जिम्मेदारी दे दी.

मुझे धन दोहन की नयी राह मिल गयी और मैंने उन्हें दो-तीन बार फिर ठगा

: (संस्मरण – पार्ट 4) : दिल्ली में राधा कृष्ण बजाज उर्फ "भाया जी" दिल्ली गेट के पास अंसारी रोड के पास एक कोठी से अपना सत्याग्रह चलाते थे. यह कोठी किसी सेठ ने खरीदी थी और इसको लेकर लफडा था, सो उसने भाया जी को अपना आंदोलन यहीं से संचालित करने के लिए प्रेरित किया, ताकि वहां भजन-कीर्तन होता रहे, और भीड़-भाड़ बनी रहे. दो-चार साल बाद झगडा सुलट जाने के बाद उसने अपनी कोठी खाली करवा ली, और भाया जी कुछ दिन एक गेराज में रहने के बाद अंततः वापस वर्धा चले गए. यह ऐतिहासिक हवेली थी, जो कभी महात्मा गांधी और स्वामी श्रद्धानन्द के निकट सहयोगी रहे डॉ. अंसारी की संपत्ति थी.

नौकरशाही बनाम जन-प्रतिनिधि : तुलनात्मक अध्ययन

IAS:- एक परीक्षा जिसका कोई खास योग्यता या बौद्धिक जांच का आधार नहीं होता है को कुछ किताबें रटकर फिर रटे हुये को उत्तर पुस्तिका में लिखने की दौड़ में जो अच्छा धावक हुआ वह IAS बन जाता है। समाज की समझ, दूरदर्शिता, सामाजिक अकाउंटिबिलिटी आदि बातों का कोई मायने नहीं होता इस रट्टा लेखन की परीक्षा दौड़ में।

चारों शंकराचार्य मुझसे संवाद में जीत कर दिखाएं : उदित राज

रायपुर : अनुसूचित जाति-जनजाति संगठनों के अखिल भारतीय अध्यक्ष सह इंडियन जस्टिस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. उदित राज ने देश के चारों शंकराचार्यों को उनसे संवाद में जीतने की चुनौती दी है. रायपुर में उन्होंने कहा कि, “जाति प्रथा आज भी समाज में जीवित है. देश में चारों शंकराचार्य ब्राह्मण ही हैं, भले उनसे ज्यादा ज्ञानी लोग अन्य जातियों में भी क्यों न हो लेकिन वे शंकराचार्य की उपाधि नहीं ग्रहण कर सकते. मैं चारों शंकराचार्यों को चुनौती देते हुए कहता हूं कि मुझसे संवाद कर जीत जाएं तो मैं राजनीति एवं दलित आंदोलन छोड़ दूंगा”.

आईएएस अशोक खेमका ने सौंप दी अपनी रिपोर्ट, रॉबर्ट वाड्रा की डील को फर्जी बताया

नई दिल्ली। हरियाणा के चर्चित आईएएस अशोक खेमका ने रॉबर्ट वाड्रा की जमीन के सौदे के मामले में अपनी रिपोर्ट हरियाणा सरकार को सौंप दी है। इस रिपोर्ट के मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद और प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा ने गुड़गांव में गलत दस्तावेजों के जरिए जमीन का सौदा किया। मामला गुड़गांव के शिकोहपुर में साढ़े तीन एकड़ जमीन का है। ये वही जमीन है जिसके सौदे की जांच करने के बाद आईएएस खेमका ने जमीन की रजिस्ट्री को ही रद्द कर दिया था।

मैंने आर्यन टीवी इसलिए छोड़ा क्योंकि यहां और काम कर पाना संभव नहीं था

Abhiranjan Kumar : मित्रों, मैं आप लोगों की बेचैनी समझ सकता हूँ, लेकिन मैं उन अवसरवादियों में नहीं कि कहीं ज्वाइन करने के लिए आर्यन टीवी को छोड़ दिया, मैंने आर्यन टीवी इसलिए छोड़ा है, क्योंकि मेरे लिए यहाँ और काम करना संभव नहीं रह गया था। आप लोगों के स्नेह और समर्थन से मैं समूचे बिहार-झारखण्ड के लिए लड़ा, लेकिन अपने साथियों की निराशा दूर नहीं कर पा रहा था।

पंद्रह अगस्त आते ही नींद से जाग उठे फर्जी पत्रकार

15 अगस्त और 26 जनवरी आते ही जिले-जिले में पत्रकारों की बाढ़ सी आ जाती है। यह पत्रकार खरपतवार की तरह अपने पैर पसारने लगे हैं। कोई अपने आपको साप्ताहिक अखबार का प्रधान संपादक बताता है तो कोई मैगजीन का ब्यूरो। इन छुटभैय्या पत्रकारों की भीड़ ने जिले के मुख्य पत्रकारों को भी पीछे छोड़ दिया है और मानों 15 अगस्त या 26 जनवरी इनके लिए कोई त्यौहार की होता है, जो साल में एक बार आता है।

इंदौर प्रेस क्लब परिसर में स्थापित होगी हिन्दी पत्रकारिता त्रिवेणी बारपुते, माथुर व जोशी की प्रतिमा

इंदौर। इंदौर प्रेस क्लब परिसर में मूर्धन्य संपादक राहुल बारपुते, राजेंद्र माथुर एवं प्रभाष जोशी की प्रतिमा स्थापित की जाएगी। यह निर्णय इंदौर प्रेस क्लब की वार्षिक साधारण सभा में लिया गया। बैठक की अध्यक्षता इंदौर प्रेस क्लब अध्यक्ष प्रवीण कुमार खारीवाल ने की।

सूचना एवं जनसंपर्क विभाग यूपी में प्रमोशन में पक्षपात

सेवा में, श्री यशवन्त सिंह जी, सम्पादक, भड़ास4मीडिया डॉट काम, महोदय, आजादी के इतने सालों बाद भी जाति-बिरादरी को समाप्त करने के दावे किये जाते हैं, लेकिन इन तमाम दावों के बावजूद सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग, उत्तर प्रदेश में स्टेनो संत प्रसाद तिवारी को तरह-तरह से दंद-फंद करके सहायक निदेशक के पद पर पदोन्नति प्रदान कर दी गई जबकि लोक सेवा आयोग, उत्तर प्रदेश से चयनित चार अफसर इस स्टेनो/चीफ रिपोर्टर से उच्च वेतनमान के हैं। लेकिन सूचना निदेशालय के एक अपर निदेशक अनिल पाठक के रिश्तेदार होने के चलते इस चीफ रिपोर्टर को पुरस्कृत किया गया है।

स्ट्रिंगरों का खून पीने वाला चैनल है ”ज़ी न्यूज प्लस राजस्थान मरुधरा”

किसी भी न्यूज चैनल में सबसे अंतिम और छोटी कड़ी होता है स्ट्रिंगर। सबसे महत्वपूर्ण भी। यही वो बंदा होता जिसके लिए असाइनमेंट डेस्क पर बैठा हर व्यक्ति विद्वान, काम का जानकार होता है। उनके निर्देशों का पालन माता-पिता के निर्देशों से अधिक करता है। उनकी डांट सुनता है। व्यक्तिगत टिप्पणी भी खून के घूंट पीकर रह जाता है। यही स्ट्रिंगर जब महीने बाद पेमेंट मांगता है तो यही असाइनमेंट वाले कहते हैं कि चैनल टेस्ट सिग्नल पर था। पेमेंट का पक्का नहीं है मिलेगी या नहीं। मिलेगी तो आपको बता देंगे। 

बेइमान साधना प्रबंधन के हाथों जमकर इस्तेमाल होने के बाद नैय्यर आजाद अब हो गए आजाद

मीडिया की दुनिया में तेज़ी से डूबता जहाज़ बन गया है साधना न्यूज़। वर्ष 2012 में सहारा चैनल में अच्छी पोजीशन छोड़ साधना न्यूज़ आए नैय्यर आजाद ने साधना न्यूज़ को बाय-बाय कह दिया है। साधना प्रबंधन ने नय्यर के लगभग एक लाख रुपये के बिलों का भुगतान नहीं किया था जिसके चलते नय्यर ने इस्तीफ़ा दे दिया। ये बिल उस समय के है जब वो बिहार में बतौर न्यूज एडिटर कार्यरत थे और उसी दौरान एक बाबूजी नाम के शख्स के कहने पर प्रभातम ग्रुप के लिए इलाहाबाद में होने वाले कुम्भ के मीडिया सेंटर के लिए लखनऊ की यात्रा किया करते थे। अब इस्तीफे के बाद नय्यर ने साधना न्यूज़ पर मुकदमा करने का निर्णय लिया है।

‘दंबग दुनिया’ में वो कौन है जो बातें लीक कर रहा है?

इंदौर के गुटखा उस्ताद किशोर वाधवानी के खास माने जाने वाले विनोद शर्मा ओर वैभव शर्मा दंबग दुनिया अखबार को लेकर हो रही कानाफूसी से काफी परेशान हैं दोनों ने खुफिया तरीके से अपने गुप्तचर अखबार में बैठा रखे हैं जो सभी रिपोर्टर ओर डेस्क के लोगों पर नजर जमाए हुए हैं कि अगर कोई भी संस्था को लेकर बातें किसी दूसरे अखबार के लोगों से शेयर करता है तो उसे तुरंत किशोर वाधवानी के सामने ले जाया जाएगा. पिछले कई दिनों से अखबार के अंदरखाने की बातें बाहर चली जा रही हैं और खासकर भड़ास पर छप जा रही हैं. इस सबसे वाधवानी का ब्लड प्रेशर काफी बढ़ चला है.

भ्रष्ट आईएएस राजीव कुमार के खिलाफ चैनलों ने दिखाई स्टोरी

वीकएंड टाइम्स के संपादक संजय शर्मा की भ्रष्ट आईएएस अफसर राजीव कुमार के खिलाफ चलाई गई मुहिम रंग लाने लगी है। हेड लाइन्स टुडे, आजतक, आईबीएन7 ने अपनी जबरदस्त रिपोर्ट में दिखाया कि जिस ईमानदार आईएएस अफसर दुर्गा नागपाल के समर्थन में पूरा देश खड़ा हो रहा है, उस अफसर की निलंबन की फाइल उस भ्रष्ट अफसर ने तैयार की जिसको खुद भ्रष्टाचार के आरोप में तीन साल की सजा हो चुकी है।

‘आज’ अखबार के पत्रकार सोमेंद्र ने हरदोई के बसपा प्रत्याशी शिवप्रसाद पासी पर धमकाने का आरोप लगाया

सेवा में, श्रीमान संपादक जी, भड़ास मीडिया पोर्टल, महोदय, निवेदन के साथ कहना है कि बघौली बाजार निवासी प्रार्थी सोमेन्द्र गुप्ता पुत्र श्री रतनलाल गुप्ता सम्मानित समाचार पत्र हिन्दी दैनिक ‘आज‘ लखनऊ संस्करण में उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में बघौली क्षेत्र का पत्रकार है जिसे स्थानीय कस्बा से जुड़े छोट्टनपुरवा निवासी भूतपूर्व विधायक व मौजूदा बसपा प्रत्याशी लोकसभा हरदोई क्षेत्र शिवप्रसाद पासी द्वारा काफी दिनों से जानमाल की धमकी दी जा रही है। झूठे मुकदमे में फंसाने के लिए भी तमाम तरीके से प्रयास जारी है।

बना दो एक्सट्रा खाना, क्योंकि आईआईएमसी की नई खेप आ चुकी है

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हम सभी कैंटीन संचालक अनधिकृत रूप से भोजन करने आए भारतीय जनसंचार संस्थान (आईआईएमसी) के छात्रों का इस बार भी भारी मन से स्वागत कर रहे हैं. हमारे देश के सर्वाधिक प्रतिष्ठित पत्रकारिता संस्थान के छात्र हैं आप लोग. आप नवांकुर पत्रकारों के लिए हम लोग जेएनयू में अगस्त से अप्रैल तक एक्सट्रा खाना बनाते हैं. आप आते हैं चोरी-छुपे 8-10 लड़कों के गुट में. आपलोगों को देखकर हम समझ जाते हैं कि आप महान आईआईएमसी के छात्र हैं, जहां शौचालय की खूबसूरती और बनावट भी मुनिरका-कटवारिया सराय के उन कमरों से बेहतर है, जहां आप 3-4 लड़के एक साथ रहते हैं.

‘प्रेस’ लिखे बाइक पर सवार और खुद को बताने वाला पत्रकार करता था हेरोइन की तस्करी

अमृतसर : पुलिस ने प्रेस की आड़ में हेरोइन की तस्करी करने वाले एक नकली पत्रकार को गिरफ्तार किया है। आरोपी प्रेस लिखे मोटर साइकिल पर सवार होकर गांवों में हेरोइन सप्लाई करता है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार करके उसके खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। डीआईजी बार्डर रेंज परमराज सिंह उमरानंगल के नेतृत्व में चल रही एंटी नारकोटिक्स सेल की टीम को सूचना मिली थी कि सुल्तानविंड गेट के निकट स्थित माहना सिंह रोड ढोली मोहल्ला निवासी सूरज कुमार सभ्रवाल हेरोइन बेचने का धंधा करता है।

टीवी पत्रकार शिवेंद्र कुमार सिंह की किताब ‘विजय चौक लाइव’ का विमोचन हुआ

नई दिल्ली : खबर की दुनिया से जुड़ने वालों को देश और दुनिया की बुनियादी समझ होनी जरूरी है। उन्हें पता होना होना चाहिए कि उनकी रिपोर्ट का सकारात्मक असर पड़ेगा या नकारात्मक। ये बातें वरिष्ठ पत्रकार कमर वहीन नकवी ने टीवी पत्रकार शिवेंद्र कुमार सिंह की किताब ‘विजय चौक लाइव’ के विमोचन के दौरान कहीं।

‘पत्रिका’ में जो माहौल बना है वह किसी भी स्वाभिमानी व्यक्ति के लिए घुटन देने वाला है

राजस्थान पत्रिका समूह के अखबार पत्रिका के रायपुर एडिशन में कार्यरत सुरेंद्र शुक्ला ने इस्तीफा देने के लिए जो पत्र लिखा है छत्तीसगढ़ के स्टेट एडिटर को, वह भड़ास के पास भी है. इस पत्र से जाहिर होता है कि पत्रिका वाले रायपुर पहुंचे तो पहले अच्छे लोगों के जरिए अच्छी व बड़ी खबरें ब्रेक कराकर अखबार को प्रतिष्ठा दिलाई और अब जब अखबार का नाम हो गया तो दलालों को आगे करने लगे और धंधा-पानी बढ़ाने लगे. सुरेंद्र के पत्र से ऐसा ही कुछ जाहिर होता है. नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके आप सुरेंद्र के पत्र को पढ़ सकते हैं…

भास्कर ने हिंदी फिल्म हिरोईन्स के ब्रेस्ट साइज भी पता कर लिए हैं

Samar Anarya : Dainik Porn Bhaskar knows Bollywood Actresses' breast size. Not merely that, it has the cheeks to scream that out in the URL of that story it published as NEWS. Want to know the Breast Size of other women. Contact Bhaskar.

http://bollywood.bhaskar.com/article/ENT-BOL-bollywood-actresses-breast-sizes-list-4342975-PHO.html?seq=3

दैनिक पोर्न भास्कर के किसी कारिंदे ने फोन कर समर को धमकाया

Samar Anarya : अभी दैनिक पोर्न भास्कर के किसी कारिंदे ने फोन किया. अफ़सोस की प्राइवेट नंबर से सो शेयर नहीं कर सकता. धमकी दी कि औकात में रहूँ वरना आईडी हैक कर लेंगे तेरी. फिर वो सबक सिखायेंगे कि… मैंने उसकी बात यहीं काट दी. उसे बोला कि दल्ले… सुन. तेरे बापों ने मुकदमे की धमकी दी थी. पहले वो करवा ले. बाकी बाद में भौंकना. अब बोल.. उसने फोन काट दिया.

आम आदमी और रॉबर्ट वाड्रा में कितना बड़ा फर्क है, ये देश देख रहा है…

Amaresh Jha : लोकतंत्र कहां है? आम आदमी और रॉबर्ट वाड्रा में कितना बड़ा फर्क है ये देश देख रहा है…इतना बड़ा गड़बड़झाला कि हजारों करोड़ की हेराफेरी हो गई…लेकिन रॉबर्ट वाड्रा साहब पर आंच तक नहीं आई…रुपए का लेन देन हुआ नहीं और हजारों करोड़ की प्रोपर्टी अपने नाम कर ली…एक आईएएस अधिकारी ने सवाल उठाए…तो उसका तबादला हो गया…सरकार ने आईएएस अधिकारी के खिलाफ ही जांच बिठा दी…

इन सौ से अधिक लड़के-लड़कियों के होटल में मिलने पर पाबंदी क्यों?

Jitendra Dixit : कल गाजियाबाद में सौ से अधिक लड़के-लड़कियां एक होटल में अलग-अलग कमरों में निजी पल बिताते पकड़े गए। पुलिस उन्हें उनके अभिभावकों को सौंपेगी। संभव यह है भी है कि लड़कियां अभिभावकों को सौंप दी जाए और लड़कों को जेल भेजा जाए। अक्सर इस तरह के मामलों में ऐसा होता है। विवाह से पूर्व इस तरह युवक-युवतियों का निजी पल एकांत में बिताना हमारे समाज में सही नहीं माना जाता जबकि कानूनी दृष्टि से वयस्क युवक-युवती सहमति से शारीरिक संबंध बना सकते हैं।

इस पंजाबी मुंडे कपिल शर्मा ने कामेडी शो में आकर यूपी वाले गजोधर भैया यानी राजू श्रीवास्तव को ठिकाने लगा दिया है

Shambhunath Shukla : कामेडी विद कपिल मेरा पसंदीदा शो है। वीकेंड में देर रात तक मैं इसे देखता हूं वर्ना कोशिश रहती है कि रात ११ बजे तक बिस्तर पकड़ लिया जाए। अब अपन ठहरे सीधे सादे आदमी किसी क्लब के मेंबर तो हैं नहीं जो देर रात तक का बख्त जाया करें। पर शनिवार देर रात तक कलर्स में आने वाले कपिल के शो को देखते रहने के कारण सुबह की वाक कैंसिल करनी पड़ी।

कंवल भारती मुद्दे पर प्रलेस, जलेस और जसम एक मंच पर इकट्ठा हो रहे

Om Thanvi : प्रगतिशील लेखक संघ, जनवादी लेखक संघ और जन संस्कृति मंच आज कँवल भारती के हक में प्रेस क्लब में एक मंच पर इकठ्ठा हो रहे हैं। आशा करनी चाहिए कि कँवल भारती को न्याय मिल पाएगा, उनके साथ और अन्याय नहीं होगा। लेखक संगठनों के इस इस मिलाप पर मैं निजी तौर पर भी थोड़ा खुश हो सकता हूँ। क्योंकि कई बार लिख चुका कि तीनों संगठन मार्क्स में आस्था रखते हैं, पर किसी मार्क्सवादी लेखक की मृत्यु पर शोकसभा तक मिलकर नहीं कर पाते।

पत्रिका, रायपुर में माहौल खराब, सुरेंद्र शुक्ला ने इस्तीफा दिया, हाईवे चैनल के बने संपादक

रायपुर, छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ पत्रकार सुरेन्द्र शुक्ला ने पत्रिका से त्यागपत्र दे दिया है। अब वे हाईवे चैनल के संपादक होंगे। उन्होंने अपने इस्तीफे में अयोग्य लोगों को संपादक जैसे जिम्मेदार और महत्वपूर्ण पद पर बैठाए जाने का हवाला दिया है। सुरेन्द्र को रोकने की कोशिश पत्रिका प्रबंधन ने की पर आदमी की परख न रखने वाले संपादक के साथ काम करने को सुरेंद्र तैयार न हुए। सुरेन्द्र ने यह भी आरोप लगाया है कि पत्रिका में लाईजनर श्रेणी के लोगों को प्रमोशन दिया जा रहा है और कामगार श्रमजीवी पत्रकारों को एक एक कर किनारे लगाया जा रहा है।

प्रेस काउंसिल ने उत्‍कृष्‍ट पत्रकारिता (राष्‍ट्रीय पुरस्कार) के लिए आवेदन मंगाया

भारतीय प्रेस परिषद् को पत्रकारिता के स्तरों में सुधार करने और इसकी स्वतंत्रता बनाये रखने के लिए संसद से अधिदेश प्राप्‍त है| उक्ति ‘दायित्व के साथ स्वतंत्रता’ के अनुसरण में मीडिया को अपने कर्तव्यों का पालन करने हेतु प्रोत्साहित करने के लिए, ऐसे अधिदेश प्राप्‍त एकमात्र सांविधिक प्राधिकरण के रूप में, भारतीय प्रेस परिषद् ने, विभिन्न क्षेत्रों में प्रिंट पत्रकारिता में उत्कृष्‍टता प्राप्‍त पत्रकारों/फोटो-पत्रकारों को सम्मानित करने के लिए प्रति वर्ष राष्‍ट्रीय प्रेस दिवस के अवसर पर राष्‍ट्रीय पुरस्कार देने प्रारंभ किये हैं|

संजय राठी के निराधार आरोपों का मजबूत जवाब कानूनी रूप से शीघ्र ही दिया जाएगा : बलजीत सिंह

फेसबुक और प्रेस नोटों के माध्यम से आप देख चुके है कि किस प्रकार ह्यूज का पूर्व प्रधान संजय राठी बौखलाहट में बेतुके बयान जारी कर रहा है। ह्यूज की मौजूदा कार्यकारिणी के पदाधिकारियों को तथाकथित बतलाने वाला शख्स शायद भूल गया कि दिनांक 29 मई 2011 को हिसार के सम्पन्न हुए यूनियन के 29वें अधिवेशन में हरियाणा के मुख्यमंत्री, अनेक मंत्री, कई विधायक, वरिष्ठ पत्रकार तथा यूनियन के सैकड़ों सदस्यों की मौजूदगी में सर्वसम्मिति से मौजूदा कार्यकारिणी का चुनाव हुआ था, जबकि संजय राठी ने खुद को स्वयंभू प्रधान घोषित कर रखा है।

भास्कर के दो संपादकों राघवेंद्र सिंह और डा. संतोष मानव के बारे में सच क्या है?

कुछ रोज पहले भड़ास के पास एक भरोसेमंद सूत्र ने खबर भेजी कि राघवेंद्र सिंह और डा. संतोष मानव का भास्कर से बाय बाय हो चुका है. खबर जब भड़ास पर छपी तब राघवेंद्र ने फोन कर इन सूचनाओं का खंडन किया और खुद को मेडिकल लीव पर बताया. हफ्ते भर भी नहीं बीते होंगे कि फिर से खबर आई है कि इन दोनों के साथ सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है. फिर जब राघवेंद्र से संपर्क किया गया तो उन्होंने मेडिकल लीव पर होने की बात दुहराई.

क्या मुख्यमंत्री अखिलेश ने नदीम को दैनिक जागरण छोड़ने पर बधाई दी? (देखें तस्वीर)

लखनऊ से किन्हीं सज्जन ने भड़ास के पास एक तस्वीर मेल किया है. साथ ही अपनी टिप्पणी भी. तस्वीर है नदीम और अखिलेश के गर्मजोशी से मिलने की. टिप्पणी ये है-

पोर्न पत्रकार विजय कुमार झा और दैनिक पोर्न भास्कर डाट काम की पत्रकारिता

Yashwant Singh :  पोर्न पत्रकार विजय कुमार झा https://www.facebook.com/vijay.k.jha.56 को यह गलतफहमी हो गई है कि वह महान पत्रकार हो चुका है क्योंकि उस जैसों को मेरे जैसे गरियाते हैं … अबे उल्लू, तुम जिस गंध में लोटपोट हो रहे हो, और खुश हो रहे हो, उस गंध को खत्म करने के लिए तुम्हें बिलकुल गरियाना जरूरी नहीं है… इसके लिए गंध के बाप, जिसके तुम नौकर हो.. उन सुधीर अग्रवालों, रमेश अग्रवालों, गिरीश अग्रवालों को घेरना होगा, दबाव डालना होगा, इन्हें गरियाना होगा, जिसके एक इशारे पर तुम दिमाग और रीढ़, दोनों के स्तर पर तुरंत यूटर्न ले लोगे..

बलकारा, भारती, रवि, पंकज सिंह, अरुण पाराशरी, पराग शर्मा के बारे में सूचनाएं

चंडीगढ़ से सूचना आई है कि दैनिक भास्कर, रोहतक के एचआर हेड बलहारा को नौकरी से बॉय बाय का नोटिस थमा दिया गया है. खबर मंत्रा, रांची से खबर है कि मार्केटिंग एक्जीक्यूटिव भारती और रवि ने इस्तीफा देकर रांची में ही सन्मार्ग ज्वाइन कर लिया है. अमर उजाला, बरेली में सिटी इंचार्ज पद से पंकज सिंह को हटाकर डाक में भेज दिया गया है. सिटी का काम अब अनूप शर्मा देखेंगे.

ब्रजमोहन सिंह के बाद अंकित भी चैनल वन से जुड़े

साधना न्यूज, लखनऊ से ट्रेनी रिपोर्टर अंकित ने इस्तीफा देकर नई पारी की शुरुआत चैनल वन, लखनऊ के साथ की है. अपना प्रमोशन न होने से परेशान अंकित ने साधना से इस्तीफा दिया और चैनल वन न्यूज़ से जुड़ गए हैं. बताया जा रहा है कि अंकित को बृजमोहन अपने साथ चैनल वन ले गए हैं.

आजतक के प्रोड्यूसर पर महिला ने लगाये आरोप! मामला सुलझा

आजतक न्यूज चैनल से खबर है कि यहां क्राइम टीम में प्रोड्यूसर के पद पर कार्यरत रवि के वैश पर एक महिला ने आरोप लगाते हुए पुलिस में शिकायत की है. बताया जाता है कि महिला रवि की पारिवारिक रिश्तेदार हैं. किसी बात पर दोनों में विवाद भड़का तो महिला नजदीक के पुलिस चौकी चली गईं. यहां लिखित रूप से रवि पर आरोप लगा दिया.

आजतक से धीरेंद्र पुंडीर और हेडलाइंस टुडे से राहुल शिव शंकर का इस्तीफा, एक न्यूज नेशन तो दूसरा न्यूज एक्स पहुंचा

आजतक न्यूज चैनल से खबर है कि डिप्टी एडिटर पद पर कार्यरत धीरेंद्र पुंडीर ने इस्तीफा दे दिया है. वे न्यूज नेशनल चैनल जा रहे हैं. बताया जा रहा है कि पुंडीर न्यूज नेशन में कोई बड़ी जिम्मेदारी संभालेंगे. पुंडीर ने आजतक प्रबंधन को इस्तीफे का पत्र कल थमाया. आजतक से लगातार लोग जा रहे हैं या निकाले जा रहे हैं. हाल-फिलहाल कृष्ण मोहन शर्मा ने दिल्ली आजतक से इस्तीफा देकर न्यूज नेशन ज्वाइन किया. प्रबल प्रताप सिंह आजतक से मुक्त हुए.

किस अखबार के आफिस से भाजपा महिला नेता को अश्लील वीडियो मेल किया गया?

फरीदाबाद से खबर है कि भाजपा महिला मोर्चा की एक नेत्री की फेसबुक आईडी पर एक समाचार पत्र की आईडी से अश्लील वीडियो भेजा गया है। फरीदाबाद के सेक्टर-31 थाने में आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस विभाग का आईटी सेल मामले की जांच कर रहा है। महिला नेत्री की फेसबुक पर अश्लील वीडियो की मेल आते ही पार्टी के कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों में रोष फैल गया।

दारोगा कुलपति विभूति राय के गैंग के लोग Sunil Kumar ‘suman’ को पिछड़ा विरोधी सिद्ध करने में जुटे!

Sanjeev Chandan : सुना है कि दारोगा कुलपति विभूति राय के गैंग के लोग हिंदी विश्वविद्यालय के निलंबित आदिवासी शिक्षक Sunil Kumar 'suman' को पिछड़ा विरोधी सिद्ध करने में लगे हैं… इस प्रकार कोशिश हो रही है, दलित-आदिवासी अस्मिता को पिछड़ों की अस्मिता से टक्कर देने की.

समर अनार्या ने दैनिक पोर्न भास्कर डाट काम वालों को दौड़ाया तो उन चिरकुटों ने लिंक हटाया

समर अनार्या उर्फ अविनाश पांडेय समर हांगकांग में हैं और अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संस्था में कार्यरत हैं. पत्रकारिता, आंदोलन, सरोकार, शिक्षा समेत ढेर सारे क्षेत्रों में समर की खूब सक्रियता रहा है. समर हर विषय पर अपनी बेबाक राय रखने और साहसिक स्टैंड लेने के लिए जाने जाते हैं. इन दिनों समर के निशाने पर भास्कर डाट काम वालों की पोर्न पत्रकारिता है. कल समर ने अपने वॉल पर भास्कर डाट काम में प्रकाशित एक फोटो का लिंक डाला और बताया कि यह न्यूड फोटो है लेकिन भास्कर वालों ने जाने किस पत्रकारीय मकसद से इसे गैलरी में सजा रखा है.

पत्रकार संत समीर की किताब ‘अच्छी हिन्दी कैसे लिखें’ छपकर आ गई

Sant Sameer : बस दो ही दिन पहले मेरी नई किताब ‘अच्छी हिन्दी कैसे लिखें’ छपकर आई है। प्रभात प्रकाशन ने छापी है। छपाई काफ़ी बढ़िया है। पिछली किताब ‘हिन्दी की वर्तनी’ से भी बढ़िया। वैसे, लिखने में वक़्त कुछ ज़्यादा लग गया। दफ़्तर से लौटने के बाद अपने पास घण्टे-आध घण्टे से ज़्यादा का वक़्त था नहीं, तो वक़्त के इन्हीं टुकड़ों को सहेज कर काम निबटाना मजबूरी थी।

समीर अहलूवालिया बोला- एग्रीमेंट कर लेंगे तो नहीं चलाऊंगा निगेटिव खबरें

नई दिल्ली : कोल आवंटन के कथित घोटाले की आड़ में जिंदल स्टील से 100 करोड़ रुपये की उगाही के प्रयास में जी न्यूज के संपादकों ने कंपनी अधिकारियों पर खूब जोर डाला था। पटियाला हाउस में दायर आरोप पत्र में दिल्ली पुलिस ने संपादक सुधीर, समीर तथा जिंदल स्टील के अधिकारियों विवेक व सुशील मारू के बीच फोन व हयात होटल में हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग का विस्तृत हवाला दिया है।

विभूति नारायण राय को हिमालय साहित्य सृजन सम्मान

महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्‍वविद्यालय वर्धा के कुलपति एवं साहित्यकार विभूति नारायण राय को हिंदी साहित्य के क्षेत्र में विशिष्ट योगदान के लिए हिमालय हेरिटेज रिसर्च एवं डेवलपमेंट सोसाइटी, सिक्किम द्वारा वर्ष 2013 का हिमालय अंतरराष्ट्रीय साहित्य सृजन सम्मान प्रदान किया गया है।

बहू की आपबीती (कविता)

आमतौर पर घर की बेटियों और बहुओं में फर्क नहीं करने को कहा जाता है पर ज्यादातर घरों में बहू को बहू और बेटी को बेटी ही समझा जाता है. हर पति अपनी पत्नी से अपेक्षा करता है कि वह उसके मां-पिता को अपना मां-पिता माने पर मां-पिता अपनी बहू को अपनी बेटी मानने से बचते रहते हैं. इसी पर मेरी एक रचना….

अजीत अंजुम (चार) : गीताश्री ने भी मुझे शुरू में मुस्लिम ही समझा था

Ajit Anjum : आज प्रेमचंद (बुधवार) जयंती है और मुझे स्कूल के दिनों में प्रेमचंद की किसी कहानी (नाम याद नहीं, अगर आप बता दें तो बेहतर) में पढ़ी एक लाइन याद रही है- 'किस्मत की फटी चादर को कोई रफूगर नहीं होता …’ मैं किस्मत-विस्मत को बहुत ज्यादा नहीं मानता लेकिन आज जब अपने माजी में झांकता हूं तो लगता है कि हम जैसे लोगों का साथ किस्मत ने भी दिया. हमारी किस्मत की चादर फटी नहीं थी …तभी तो सही लोग मिले , सही दोस्त मिले …सही बॉस मिले …सही मौके मिले … वरना हमसे ज्यादा प्रतिभाशाली और उर्जावान न जाने कितने साथी पत्रकारिता के पथरीले रास्ते की तमाम तरह की अड़चनों में कहीं फंसे और जो वो कर सकते थे, नहीं कर पाए. तकदीर और तदबीर दोनों जरूरी है ….

अजीत अंजुम (तीन) : आज लगता है कि अच्छा हुआ दादा ने मुझे नौकरी नहीं दी

Ajit Anjum : दरअसल गुवाहाटी के उस अखबार का मालिक ऐसा था, जिसे एक दिन भी झेलना मुश्किल था. किसी तरह दो महीने हमने झेला और जिस दिन लगा कि अब झेलना मुश्किल है, उस दिन खरी खोंटी सुनाकर अपने साथियों के साथ इस्तीफा दिया और दफ्तर से निकल गए …नौकरी छोड़ने की कई वजहें थी. एक वजह कॉलबेल भी था. उस अखबार के मालिक के पैरों तले तीन तरह के कॉलबेल का बटन था. एक चपरासी के लिए, दूसरा संपादकीय विभाग के लिए और तीसरा मार्केटिंग के लिए. हर घंटी की आवाज अलग अलग थी और घंटे बजते ही किसी न किसी को मालिक के कमरे में जाना होता था.

अजीत अंजुम (दो) : पटना में उन दिनों एक मठ विकास कुमार झा का था, एक अरुण रंजन का

Ajit Anjum : 1989 के मई का महीना रहा होगा ….मैं गुवाहाटी के एक अखबार की नौकरी छोड़कर दिल्ली आया था ….दिमाग में पत्रकारिता का कीड़ा और मन में कुछ करने की जिद के अलावा हमारे साथ कुछ था तो एक छोटा सा ब्रीफकेस, जिसमे दो – तीन कपड़े थे …दिल्ली में पहले से नौकरी कर रहे एक दोस्त का भरोसा था कि यहां आ जाओ कुछ न कुछ तो हो जाएगा ….मुजफ्फरपुर में हमारे साथी रहे रवि प्रकाश मुझसे कुछ पहले दिल्ली आ गए थे और यहां नौकरी कर रहे थे …रवि प्रकाश ने दिल्ली आने का रास्ता न दिखाया होता तो शायद आ भी नहीं पाता….या आता तो कहां गिरता और कहां टिकता, आज सोच भी नहीं पा रहा हूं ….

अजीत अंजुम (एक) : पटना से राम बहादुर राय और प्रबाल मैत्र के नाम की सिफारिशी चिट्ठी लेकर दिल्ली आया था

Ajit Anjum : गुरू पूर्णिमा वगैरह को न तो मैं मानता हूँ, न ही मेरे लिए इस दिन की कोई खास अहमियत है …जैसे साल के बाकी दिन वैसे ही आज का दिन ….फिर भी उन साथियों का शुक्रिया , जिन्होंने प्यार और स्नेह का तोहफा संदेश के रुप में भेजा है …बहुत से लोग फेसबुक पर अपने – अपने गुरुजनों को याद कर रहे हैं तो मुझे लगा मैं भी दिल्ली में संघर्ष के उन दिनों को याद करके उन वरिष्ठों को याद करुं , जिन्होंने दिल्ली में पांव जमाने में मेरी मदद की ….सबसे पहले प्रबाल मैत्र और राम बहादुर राय.

लाइव इंडिया में हलचल, सतीश के सिंह के जाने की चर्चा

'लाइव इंडिया' न्यूज चैनल आपको याद होगा. वही जिसे पहले जनमत नाम से अधिकारी ब्रदर्स ने शुरू किया था. बाद में इसे एचडीआईएल ने खरीद लिया. फिर इसे महाराष्ट्र की एक चिटफंड कंपनी ने खरीद लिया. यह चैनल दुर्भाग्य का मारा रहा है. जिसके भी पास गया, उसका नाश कर आगे निकल गया.

अरदेंधु भूषण दैनिक भास्कर, इंदौर से जुड़े

इंदौर : सिटी न्यूज के संपादक अद्र्धेंदु भूषण ने दैनिक भास्कर ज्वाइन कर लिया है। छह माह पहले नईदुनिया की लंबी सेवाएं छोड़कर भूषण ने इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में प्रवेश किया था, लेकिन वे लंबी पारी नहीं खेल पाए। सिटी न्यूज में संपादक का दायित्व डिप्टी न्यूज हेड महेंद्रसिंह सोनगिरा को सौंपा गया है। दैनिक भास्कर में भूषण को सिटी डेस्क प्रमुख बनाया गया है। इस सप्ताह में दैनिक भास्कर में दो-तीन आमद की खबरें भी है।

वीरेन डंगवाल के जन्मदिन पर आयोजित कार्यक्रम की खबर ‘समाचार प्लस’ चैनल पर चली (देखें वीडियो)

आमतौर पर न्यूज चैनल वाले साहित्य और पत्रकारिता से जुड़े मसलों की खबर नहीं दिखाते हैं. पर समाचार प्लस न्यूज चैनल ने पिछले दिनों कवि वीरेन डंगवाल पर आयोजित कार्यक्रम का कवरेज न सिर्फ कराया बल्कि इसे प्रसारित भी कराया. कवि, पत्रकार और प्रोफेसर वीरेन डंगवाल के जन्मदिन के आयोजन में देश के जाने माने कवि, साहित्यकार और पत्रकार आए थे.

टीवी जर्नलिस्ट का आरोप- सेलरी मांगने गया तो मुझे पीटा और जान से मारने की धमकी दी (देखें वीडियो)

भड़ास पर यह पहली ऐसी कंप्लेन है जिसे शिकायतकर्ता ने वीडियो पार्मेट में भेजा है. आमतौर पर लोग अपना दुख-सुख लिखकर टेक्स्ट रूप में ईमेल के जरिए भड़ास के पास भेजा करते हैं. मुंबई के विवेक उपाध्याय ने अपनी बात खुद रिकार्ड की और वीडियो बनाकर उसे भड़ास के पास भेजा है. विवेक का कहना है कि मुंबई में कोई चैनल 'मुंबई24' नाम से है जो केबल पर है, और इसे हिंदुजा का चैनल बताया जाता है.

जलेस अध्यक्ष डॉ. शिवकुमार मिश्र को याद कर रहे हैं उद्भ्रांत

‘‘आज सुबह यह दुखद समाचार मिला कि जलेस अध्यक्ष डॉ. शिवकुमार मिश्र नहीं रहे। जनवाद के लिए वे सदैव संघर्षरत रहे। जनवादी आंदोलन की ये अपूरणीय क्षति है।’’ गत 21 जून को जब प्रातः दस बजे जलेस की दिल्ली इकाई के सचिव डॉ. बली सिंह का यह एसएमएस मिला तब मैं टी.वी. के विभिन्न चैनलों में दिखाई जा रही उत्तराखंड की अब तक की सबसे बड़ी त्रासदी के दिल हिला देने वाले मंज़र भारी मन से देखता और बीच-बीच में अचानक गीली होती आँखों को पोंछ रहा था। इस दूसरे आघात ने स्तब्ध कर दिया।

शराब तस्करों के हाथों मारी गई उत्तराखंड की संगीता को न्याय कब मिलेगा?

उत्तराखंड के बागेश्वर जिले में शराब तस्करों ने आशा वर्कर तथा महिला नेता संगीता मलड़ा की हत्या कर दी। शराब के खिलाफ उठने वाली इस आवाज को हमेशा के लिये खामोश कर दिया गया। बागेश्वर पुलिस और शराब तस्करों की पुरानी दोस्ती के चलते हत्या के इस मामले को आत्महत्या में बदल दिया गया। ढाई माह बाद भी संगीता मलड़ा हत्याकाण्ड पर पड़ा पर्दा नही उठ सका। उत्तराखंड पुलिस से लोगों का भरोसा पहले से ही उठ चुका था।

बुद्ध ने खुद कहा था कि आपको जहां बुद्ध मिले उसे मार डालना

देखिये धर्म कोई व्यर्थ की चीज नहीं है लेकिन हमने इन धर्मों का जो मतलब निकाला है और हमारी जो गन्दी तहजीब पैदा हुयी है, उससे तो ये ही लगता है की ये सब धर्म व्यर्थ है। और जितने भी महान लोग या गुरु हुए है वो सब ठीक है और वो माहन भी है लेकिन खास बात ये भी है की सिर्फ वे ही माहन थे और उसमे हमारा उसमे हमारा कोई योगदान नहीं है ? वो कुछ लोग अलग-अलग जगह और अलग-अलग समय पे कुछ ऐसे है जैसे कुछ एक दीपक यहाँ – तहां जल रहे हो लेकिन हमारी जिन्दगी में तो अँधेरा ही है, हमने बल्कि उन महान लोगो को अपनी बैसाखिया बना लिया और कभी अपने अंदर के अँधेरे को दूर करने की कोशिश नहीं की। दीपक तले वैसे भी अँधेरा होता होता है। अगर वो लोग महान है तो इसका मतलब ये नहीं की हमें भी महान होने का मैडल मिल जाता है।

रेडियो मंत्रा से स्टार इंडिया पहुंचे बिक्रम संधु, आकाशदीप की नई पारी

आगरा से खबर है कि रेडियो मंत्रा के एडवरटाइजिंग एवं सेल्स प्रमुख बिक्रम संधु ने रेडियो मंत्रा 91.9 FM का साथ छोड़ स्टार  इंडिया का दामन थाम लिया है। वहीं रेडियो मंत्रा 91.9 के शाम के शो के लिये आकाशदीप ने RJ आकाश के तौर पर एंट्री ली है।

रामकिशोर पंवार इंडियन फेडरेशन आफ वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन के मध्य प्रदेश सचिव बने

बैतूल : पिछले तीस वर्षों से पत्रकारिता से जुड़े ताप्तींचल के वरिष्ठ पत्रकार, लेखक, कहानीकार, एवं दैनिक पंजाब केसरी दिल्ली के ब्यूरो रामकिशोर पंवार को इंडियन फेडरेशन आफ वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन से सबंद्ध मध्यप्रदेश की राज्य इकाई का सचिव बनाया गया है। आईएफडब्लयूजेड से पिछले बीस वर्षों से जुड़े रामकिशोर पंवार एक मात्र ऐसे पत्रकार हैं जो कि मध्यभारत के बैतूल, छिन्दवाड़ा, सिवनी, बालाघाट, हरदा, होशंगाबाद, जबलपुर जिलों का प्रतिनिधित्व करते चले आ रहे हैं।

बाइक से जा रहे टीवी जर्नलिस्ट को गोली मार दी, हालत स्थिर

मध्यप्रदेश के उमरिया जिले में गुरुवार रात एक पत्रकार को गोली मार दी गई. घटना के बाद हमलावर मौके से फरार हो गए. जानकारी मिलने पर घायल को हस्पताल पहुँचाया गया, जहां उनका इलाज चल रहा है. जानकारी के मुताबिक एक निजी टीवी चैनल में कार्यरत पत्रकार ब्रजेन्द्र तिवारी गुरुवार को अपनी मोटरसाइकिल से उमरिया से अपने गांव अखड़ार जा रहे थे. जब वे रास्ते में पडने वाले गांव लोढा के पास पहुँचे तभी अचानक दो अज्ञात हमलावरों ने उन पर फायरिंग कर दी और भाग खड़े हुए.

रैना गांव में काहे को झुंझलाए टीपू सुल्तान

इलाहाबाद। यूपी सरकार के मुखिया अखिलेश यादव अपने आकस्मिक दौरे में रायबरेली में विकास योजनाओं की हकीकत देख दंग रह गए। आईना में बदरंग तस्वीर ने उनकी झुंझलाहट बढ़ा दी। उफ! इतनी बदरंग तस्वीर। कक्षा सात के बच्चे एलीफैंट की स्पेलिंग नहीं बता सके। सीएम का गुस्सा देखने लायक था। सरकारी योजनाओं के तहत गांवों में बने शौचालय की दशा देखने के थोड़ी ही देर बाद उनके मुंह से हठात निकल गया- क्या यही है, विकास की सच्चाई। अखिलेशजी, वास्तविकता शायद कुछ ऐसी ही है। या हो सकता है इससे कुछ ज्यादा ही खराब हो।

मीडिया संवेदनशील क्षेत्र इसलिए एफडीआई सीमा सौ फीसदी नहीं

केंद्र सरकार ने स्पष्ट किया कि प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया संवेदनशील क्षेत्र होने के कारण वह इसमें एफडीआई की सीमा 100 प्रतिशत करने के लिए सहमत नहीं है. शिरोमणि अकाली दल के बलविंदर सिंह भुंडर द्वारा पूछे गये प्रश्न के लिखित उत्तर में वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री आनन्द शर्मा ने कहा कि गृह मंत्रालय प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया के, एक संवेदनशील क्षेत्र होने के नाते, इसमें एफडीआई सीमा अथवा प्रवेश मागरे के उदारीकरण के लिए सहमत नहीं है.

डीडी न्यूज को चाहिए असिस्टेंट वेबसाइट एडिटर, करें आवेदन

डीडी न्यूज दिल्ली को कैजुअल बेसिस पर सोशल मीडिया के लिए असिस्टेंट वेबसाइट एडिटर चाहिए. इसके लिए दिल्ली-एनसीआर के लोगों से आवेदन मांगा गया है. योग्यता- स्नातक और पत्रकारिता में पोस्ट ग्रेज्युएट डिप्लोमा या पत्रकारिता में स्नातक.

माइक्रोमैक्स कंपनी के दो मालिक घूस देते रंगे हाथों पकड़े गए

देश में तेजी से उभरती मोबाइल कंपनी माइक्रोमैक्स के मालिकों को घूस देते अरेस्ट किया गया है। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने उत्तरी दिल्ली में एक बैंक्विट हॉल को बनाने की मंजूरी देने के एवज में दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) के इंजीनियरों को 30 लाख रुपए की रिश्वत देते माइक्रोमैक्स इन्फर्मेटिव्स के मालिक राजेश अग्रवाल और मनीष तुली को अरेस्ट किया।

राकेश शर्मा का लेक्चर और आज समाज की जमीनी हकीकत

चंडीगढ़। आज समाज अखबार में आजकल तगड़ा खेल चल रहा है। खेल भी ऐसा की देखने वाले सभी लोगों को हंसी आज जाए। अखबार के ईडी राकेश शर्मा ने चंडीगढ़ में सभी ब्यूरो चीफ की बैठक बुलाई। इसमें मार्केटिंग के हैड भी थे। ईडी ने खूब जोशीला भाषण दिया कि..

नेशनल दुनिया, जयपुर की लांचिंग कल, देखें लिस्ट कौन-कौन इससे जुड़ा

: दैनिक भास्कर मुख्यालय के सामने होगा समारोह, अखबारों में ‘आयाराम गयाराम’ माहौल : जयपुर से शुक्रवार, 9 अगस्त की अपरान्ह 3 बजे ‘नेशनल दुनिया’ की लांचिंग होने जा रही है। विमोचन समारोह दैनिक भास्कर, जयपुर कार्यालय के ठीक सामने स्थित महाराणा प्रताप ऑडिटोरियम में होगा। पहले इसके 15 अगस्त को लांच होने की चर्चा थी। ‘नेशनल दुनिया’ का दफ्तर अजमेर रोड पर बगवाड़ा हाउस में बनाया गया है। ‘नेशनल दुनिया’ की शुरुआत के साथ ही जयपुर के कई पत्रकारों का भविष्य भी तय होने जा रहा है, खासकर उनका जो अब तक पत्रिका और भास्कर से जुड़े रहे हैं।

राष्ट्रीय सचिव के सामने पुनिया व बेनी समर्थकों में जुतम-पैजार

बाराबंकी। संगठन को मजबूत करने के उद्देश्य से बाराबंकी आये कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव प्रकाश जोशी के सामने ही बेनी और पुनिया समर्थकों में तू-तू, मैं-मैं के बाद जूतम-पैजार हुई, कुर्सियां चली, पुलिस आई तब अराजक स्थिति को संभला जा सका। अचम्भित कांग्रेस सचिव ने प्रेस से कहा कि अनुशासन के साथ खिलवाड़ करने वाले पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को जांच के बाद दण्डित किया जायेगा।

ऐसे ‘अपराध’ मैं आगे भी करता रहूंगा : कंवल भारती

रामपुर : दलित चिंतक व लेखक कंवल भारती ने कहा है कि अगर किसी मुद्दे को लेकर अपने विचार व्यक्त करना अपराध है, तो यह अपराध वो आगे भी करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि फेसबुक पर आईएएस दुर्गा शक्ति नागपाल मामले में उनकी टिप्पणी किसी जाति या धर्म को लेकर नहीं है, बल्कि लोकतांत्रिक मूल्यों में आ रही गिरावट को लेकर मैंने अपनी बात कही थी। अदालत से जमानत मिलने के बाद अपने निवास स्थान पर पत्रकारों से बात करते हुए भारती ने कहा कि वो राजा हैं, हम रंक हैं। रंक को लिखने की आजादी नहीं है, बोलने की आजादी नहीं है।

मराठी न जानने वाले 21 आईपीएस अफसरों की वेतन वृद्धि रोकने के आदेश

मुंबई : महाराष्ट्रा में मराठी भाषा के नाम पर राजनीति करने वाले राजनीतिक दलों द्वारा पिछले कुछ समय से राज्य में रहने वाले और काम करने वाले लोगों को मराठी भाषा आना अनिवार्य किये जाने की मांग के बाद अब गृहविभाग ने भी इस पर अमल करते हुए राज्य के 21 आईपीएस अधिकारियों को नोटिस थमाते हुए कहा कि मराठी सीखें अन्यथा आप के वेतन में बढ़ोतरी रोक दिया जायेगा।

उत्तराखंड आपदा से देश के लिए ‘सबक के पाठ’ तैयार करा रहा केंद्र

नैनीताल : केंद्र सरकार उत्तराखंड में गत दिवस आई भीषण दैवीय आपदा से देश भर के लिए ‘सबक के पाठ’ तैयार करा रहा है, ताकि देश-प्रदेश में कभी ऐसी आपदा दुबारा आए तो इसके नुकसानों का न्यूनीकरण और बेहतर प्रबंधन किया जा सके। साथ ही इस आपदा से सबक सीखते हुए विकास एवं निर्माण कार्यों के लिए बेहतर गाइड लाइन तैयार करने की भी योजना है।

उत्तराखंड के लिए ‘फूड कटिंग कानून’ साबित हो सकता है ‘फूड सिक्योरिटी कानून’

नैनीताल । जी हां, केंद्र सरकार द्वारा बहुप्रचारित और आगामी लोक सभा चुनावों के मद्देनजर अति महत्वाकांक्षी बताए जा रहे ‘फूड सिक्योरिटी कानून’ को खासकर पहले ही ‘अटल खाद्यान्न योजना’ लागू उत्तराखंड प्रदेश के लिए ‘फूड कटिंग कानून’ या कुछ और कहना ही अधिक मुफीद होगा।

एक पत्रकार को खुद को ही रोज पराजित करना होता है : कमर वहीद नकवी

हिंदी दैनिक कल्‍पतरु एक्‍सप्रेस के चौथे वर्ष में प्रवेश के अवसर पर आयोजित मीडिया विमर्श की छठी कड़ी में श्रोताओं को संबोधित करते हुए प्रधान संपादक जयकृष्‍ण सिंह राणा ने कहा कि सफलता के आकांक्षियों को खुद के सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन का आदर्श लेकर चलना पडता है। अखबार में प्रकाशित हो रही सामग्री के बारे में लोगों की क्‍या राय बन रही है उससे खुद को जोडना होगा। सामाजिक चेतना को प्रभावित करने वाले बिंदुओं पर ध्‍यान देते हुए हमें अपना स्‍वमूल्‍यांकन और आत्‍मचिंतन करते रहना होगा। उद्देश्‍य की परिपूर्ति के लिए जो निरंतर प्रयासरत होंगे, सफलता का स्‍वाद वही ले पाएंगे। श्री राणा ने कहा कि किसी भी कार्य को करने के पूर्व आत्‍मचिंतन की आवश्‍यकता होती है। उसी के आधार पर आकलन करें, फिर योजना का क्रियान्‍वयन करें तभी सफलता प्राप्‍त हो सकती है।

तेरह मीडिया संस्थानों का पूर्व प्रमुख मांग कर पी रहा है बीड़ी

एक नहीं, दो नहीं बल्कि 13 मीडिया संस्थानों का पूर्व प्रमुख इन दिनों पुलिस हवालात में पुलिस के जवानों से बीड़ी मांग कर पी रहा है। हम बात कर रहे हैं पश्चिम बंगाल के 30 हजार करोड़ के बहुचर्चित शारदा घोटाले की। इस मामले में शारदा समूह के मालिक सुदीप्त सेन अपने कुछ भरोसेमंद साथियों के साथ जेल में बंद हैं। महत्वपूर्ण है कि सेन इस साल के शुरू तक अपने समूह से प्रकाशित-प्रसारित कुल 13 मीडिया संस्थानों के प्रमुख थे। उनकी कंपनी सकालवेला (बंगला), बंगाल पोस्ट (अंग्रेजी) तथा प्रभात वार्ता (हिंदी) आदि दैनिक पत्रों का प्रकाशन करती थी, जिसके मुखिया सेन हुआ करते थे।

जी न्यूज की सेल्स टीम को नहीं थी जानकारी, संपादक कर रहे थे जिंदल से डील

नई दिल्ली : जिंदल समूह से विज्ञापन के रूप में 100 करोड़ रुपये की उगाही के लिए जी समूह के संपादक समीर आहलूवालिया और सुधीर चौधरी डील कर रहे थे, जबकि इसकी जानकारी जी न्यूज की सेल्स टीम को नहीं थी। इतना ही नहीं, कैग रिपोर्ट में कहीं भी ऐसा नहीं है कि जिंदल स्टील को कितना फायदा पहुंचाया गया, लेकिन जी समूह के संपादकों ने स्वयं आकलन कर लिया कि उन्हें 47 हजार करोड़ रुपये का फायदा पहुंचाया गया। इस मामले में दायर आरोप पत्र में इन तथ्यों का खुलासा किया गया है।

पटना में रंगकर्मियों द्वारा चलाए जा रहे आंदोलन के समर्थन में जुटे दिल्ली के रंगकर्मी

दिल्ली : बिहार संगीत नाटक अकादमी और कला संस्कृति विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार, अराजकता, अपसंस्कृति और सामंती अफसरशाही के खिलाफ विगत 18 दिनों से आंदोलन कर रहे पटना के रंगकर्मियों और संस्कृतिकर्मियों के समर्थन में आज दिल्ली स्थित बिहार भवन में राजधानी और देश के विभिन्न हिस्सों के लगभग 250 रंगकर्मी-संस्कृतिकर्मी इकट्ठा हुए और उन्होनें विरोध-प्रदर्शन किया।

कंवल भारती की गिरफ्तारी के खिलाफ लखनऊ की सड़कों पर उतरे बुद्धिजीवी और पत्रकार

लखनऊ : लेखक कंवल भारती की गिरफ्तारी के विरोध में विधान सभा मार्ग पर स्थित अम्बेडकर भवन में विभिन्न जन संगठनों से जुड़े पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं, लेखकों, साहित्यकारों, रंगकर्मियों एवं पत्रकारों का जमावड़ा हुआ। पूर्व राज्यपाल माता प्रसाद के नेतृत्व में कंवल भारती की गिरफ्तारी के विरोध में, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर हुए हमले के विरोध में अम्बेडकर भवन से हजरतगंज स्थित अम्बेडकर प्रतिमा तक सैकड़ों समाजिक कार्यकर्ताओं ने पैदल मार्च किया।

इलाहाबाद में जागरण कार्यालय पर आरक्षण समर्थकों का हमला

इलाहाबाद। प्रतियोगी परीक्षाओं में त्रिस्तरीय आरक्षण व्यवस्था लागू करने की मांग को लेकर जुलूस निकाल रहे आरक्षण समर्थकों ने बुधवार शाम को जमकर बवाल काटा। सिविल लाइंस स्थित सुभाष चौराहे पर होर्डिग्स आदि तोड़ने के बाद समर्थकों का जत्था दैनिक जागरण कार्यालय की ओर मुड़ गया।

सुदर्शन चक्रधर ‘देशोन्नती’ नागपुर के यूनिट हेड और स्थानीय संपादक बनाए गए

नागपुर : विदर्भ पब्लिकेशन्स प्राइवेट लिमिटेड में विगत सात वर्षों से कार्यरत वरिष्ठ पत्रकार सुदर्शन चक्रधर (पराते) अब देशोन्नती नागपुर के यूनिट हेड बनाये गये हैं. इसके साथ ही वे दैनिक देशोन्नती नागपुर के निवासी संपादक के पद पर पदोन्नत भी किये गये हैं.

राजस्थान के ‘जलते दीप’ अखबार के जनरल मैनेजर (मार्केटिंग) बनाए गए दिनेश के श्रीवास्तव

दिनेश के श्रीवास्तव को राजस्थान से प्रकाशित होने वाले 'जलते दीप' अखबार का जनरल मैनेजर मार्केटिंग बनाया गया है. यह अखबार राजस्थान में जोधपुर और जयपुर से वर्ष 1969 से प्रकाशित हो रहा है. इसी ग्रुप की 'मानक' नामक मासिक मैग्जीन भी है और 'मानक टीवी' भी. सीईओ और पब्लिशर पदम मेहता हैं.

अखबार का प्रसार बढ़ाने के दबाव से त्रस्त ब्यूरो चीफ ने हिंदुस्तान से दिया इस्तीफा

संजीव बजाज 1 अक्टूबर 2008 से हिन्दुस्तान अखबार कानपुर संस्करण के ललितपुर जिले से संबद्ध थे. वे यहां ब्यूरो चीफ के रूप में कार्यरत थे. संजीव बजाज ने हिंदुस्तान अखबार से इस्तीफा देकर 'आज' अखबार ज्वाइन कर लिया है. बजाज का आरोप है कि हिंदुस्तान, कानपुर के संपादक महोदय ने अब पत्रकारों को अखबार बेचने वाला हॉकर व विज्ञापन प्रतिनिधि समझना शुरू कर दिया है.

पाकिस्तानी जासूस विधायक साले मोहम्मद के पेट्रोल पंप पर काम करता था

: एसपी पंकज चौधरी ने फ़क़ीर परिवार के राष्ट्रद्रोही गतिविधियों का किया खुलासा : जैसलमेर। जैसलमेर के एसपी पंकज चौधरी पर, दुर्गा केस की तरह आरोप लगाया जा रहा है कि एसपी पंकज को भी ड्यूटी निभाने की सजा दी गई। दरअसल पंकज चौधरी ने कांग्रेसी नेता गाजी फकीर की चार्जशीट खोली थी। वहीं इस मामले में तमाम विरोध के बीच आज खुद जैसलमेर के एसपी ने कांग्रेसी नेता और उनके परिवार पर गंभीर आरोप लगाए और कहा कि पुलिस के पास नेताजी के खिलाफ पुख्ता सबूत हैं।

संजय राठी करेंगे बलजीत सिंह, राजेश गुप्ता, सोमनाथ शर्मा के खिलाफ कानूनी कार्यवाही

रोहतक : हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के प्रदेशाध्यक्ष एवं नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संजय राठी ने उनकी यूनियन के नाम पर कई स्थानों पर धोखाधड़ी कर अवैध वसूली करने वालों के विरूद्ध कानूनी कार्यवाही करने का निर्णय ले लिया है। उनकी ओर से अधिवक्ता भारत जैन ने सिरसा के बलजीत सिंह कथित अध्यक्ष, अम्बाला के महासचिव राजेश गुप्ता और संरक्षक रोहतक के सोमनाथ शर्मा को कानूनी नोटिस देकर हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के नाम पर खोले गये सभी खातों, बैठकों तथा अन्य गतिविधियों को एक सप्ताह के अन्दर बंद करने का नोटिस दिया है।

आईएएस दुर्गा पर नरेंद्र भाटी की टिप्पणी का महिला आयोग ने संज्ञान लिया

लखनऊ स्थित सामाजिक कार्यकर्त्ता डॉ नूतन ठाकुर द्वारा उत्तर प्रदेश एग्रो के अध्यक्ष तथा मंत्री स्तर का दर्जा प्राप्त नरेन्द्र भाटी द्वारा नोयडा में दुर्गा शक्ति नागपाल, आईएएस, के विरुद्ध की गयी आपत्तिजनक टिप्पणियों के सम्बन्ध में राष्ट्रीय महिला आयोग ने संज्ञान ले लिया है. ममता शर्मा, अध्यक्ष, राष्ट्रीय महिला आयोग ने जावेद उस्मानी, मुख्य सचिव, यूपी को शिकायत की प्रति प्रेषित करते हुए पूरे मामले में रिपोर्ट मंगवाई है. साथ ही रिपोर्ट आने पर अग्रिम कार्यवाही करने की बात कही है.

वाह रे जालिम तेरे कानून की बंदिश… लब बंद, जुबा बंद कलम बंद!!

वाह रे जालिम तेरे कानून की बंदिश… लब बंद, जुबा बंद कलम बंद!! यह पंक्ति जिस सियासत की पहली सीढ़ी बनी, वही पंक्ति आज दुर्गाशक्ति निलंबन कांड में इमजेंसी के हालात देखकर फिर गूंजकर क्या संदेश देती देना चाहती है? एसडीएम दुर्गालक्ष्मी नागपाल प्रकरण पर राज्य सरकार के खिलाफ टिप्पणी करने पर रामपुर के एक साहित्यकार को गिरफ्तार किये जाने की सूचना मिलते ही मेरे जेहन में ये पंक्तियां ‘‘वाह रे जालिम तेरे कानून की बंदिश! लब बंद, जुबा बंद कलम बंद!!’’ मचलने लगी, जिनके सहारे ही नेताजी (युवा सीएम के पिताश्री) के राजयोग का अभ्युदय हुआ था।

शेखर कपूर का धारावाहिक ‘प्रधानमंत्री’ महाराजा हरि सिंह को अपमानित करने की कुचेष्टा

शेखर कपूर विभिन्न विषयों को लेकर धारावाहिक या फिर फ़िल्में बनाते हैं । फ़िल्म बनाना अपने आप में एक बहुत बडी कलात्मक विधा है । किसी विषय का चयन करना और उसे दृष्यमान करना बहुत बड़ी चुनौती है । शेखर कपूर में इस चुनौती को पूरा करने की योग्यता है । लेकिन इसका अर्थ यह नहीं की निर्देशक जिस विषय को लेकर फ़िल्म बनाता है , वह उसका जानकार भी हो । वास्तव में उसे अधिकांश विषयों के बारे में प्रारम्भिक जानकारी भी नहीं होती । यह सारा धंधा विषय पर खोज करने वाले और पटकथा लेखकों का होता है ।

आपकी ऐसी की तैसी ‘समाजवादी’ सरकार!

Mayank Saxena : दलिक लेखक-आलोचक कंवल भारती की गिरफ्तारी को लेकर अब समय है कि उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाए… क्या आप लोगों को नहीं लगता कि ये सरकार तानाशाह और गुंडी होती जा रही है…जी हां ये गुंडागर्दी है…अगर यूपी सरकार चाहे तो मैं अपने इस वक्तव्य के लिए ख़ुद लखनऊ आ कर गिरफ्तारी दे सकता हूं… आपकी ऐसी की तैसी 'समाजवादी' सरकार…

सुनील कुमार सुमन के निलंबन की तत्काल समीक्षा की जानी चाहिए : दिलीप मंडल

Dilip C Mandal : हजारों साल के डेफिसिट को पूरा कर आदिवासी-दलित-वंचित समुदाय पहली बार अपनी श्रेष्ठ प्रतिभाओं को मुख्यधारा में भेजता है, जो प्रतिभा और मेहनत में किसी से कम नहीं, और उसके साथ ऐसा व्यवहार!! वर्धा के हिंदी विश्वविद्यालय के चासलर नामवर सिंह और कुलपति विभूति नारायण राय, आपको शायद कभी समझ में भी नहीं आएगा कि आपके निजाम में यह क्या हुआ है… Sunil Kumar 'suman' के निलंबन की तत्काल समीक्षा की जानी चाहिए.

कंवल भारती की गिरफ्तारी के बाद डर के मारे अब मैं यह सब लिखूंगा

Zafar Irshad : उत्तर प्रदेश सरकार जिंदाबाद–यादव परिवार जिंदाबाद–देश के अगले राष्ट्रपति राम गोपाल यादव– प्रधानमंत्री मुलायम यादव–स्पीकर शिवपाल यादव…बाकि मंत्रिमंडल में यादव परिवार के अन्य सदस्य हो, तभी देश का कल्याण हो पायेगा…( यह मैं कल उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ फेसबुक पर लिखने पर लेखक कँवल भारती की गिरफ़्तारी के बाद से डर की वजह से लिख रहा हूँ )…जय समाजवाद– जय उत्तर प्रदेश सरकार…

अटल के कार्यकाल के दौरा भी लोग प्रछन्न आपातकाल अनुभव करने लगे थे

Prem Chand Gandhi : कंवल भारती की कल गिरफ्तारी और बाद में रिहाई से याद आया कि अटल बिहारी वाजपेयी सरकार के दौरान भी हालात बिल्‍कुल ऐसे हालात बन गए थे कि बड़े-बड़े लोग प्रछन्‍न आपातकाल अनुभव करने लगे थे। उन दिनों की लिखी अपनी एक कविता कल से याद आ रही है। कैसे ऐसे हालात में एक सामान्‍य आदमी स्‍वयं को निर्वासित महसूस करने लगता है…

संतोष कोली मरी नहीं बल्कि क़त्ल की गयी हैं

Samar Anarya : मुझे अन्ना हजारे-अरविन्द केजरीवाल की मध्यवर्ग के मूल चरित्र वाली राजनीति और इसके विरोध की राजनीति कभी रास नहीं आई. पर इसका मतलब यह नहीं है कि आप उनके साथियों की हत्या पर उतर आयें और मैं चुप रहूँ. संतोष कोली मरी नहीं बल्कि क़त्ल की गयी हैं.

कंवल भारती ने खुदा से भी ऊपर किसी को बताया, इससे धार्मिक भावनाएं आहत हुई और मुकदमा लिखा गया

कंवल भारती की गिरफ्तारी की आज उत्तर प्रदेश पुलिस ने व्याख्या की है जिसमें कहा है कि कंवल भारती ने एक सज्जन के लिए कहा कि 'उनको रोकने की ताकत तो खुदा में भी नहीं है'… किसी चतुर्थ कक्षा के विद्यार्थी से भी अगर इसका मतलब पूछेंगे तो वो भी यही बताएगा कि इस पंक्ति का अर्थ है 'खुदा सर्वशक्तिमान है', किन्तु पुलिस कह रही है- ''इसका मतलब है कि भारती ने खुदा से भी ऊपर किसी को बताया इससे धार्मिक भावनाएं आहत हुई और मुकदमा लिखा गया''.

कंवल भारती की गिरफ्तारी : कलम पर हमला कोई नई बात नहीं

कलम पर हमला कोई नई बात नहीं है। सत्ता के नशे में मदहोश नेता, अपराधी, पुलिस गठजोड़ गाहे-बगाहे इसकी धार को भोथरा बनाने के लिए कलम चलाने वालों पर हमला बोलते रहते हैं। इस बार दलित चिंतक-लेखक कंवल भारती की कलम ज्योंहि आरक्षण और दुर्गा नागपाल के मुद्दे को लेकर चली, बस नेता-अपराधी-पुलिस के गठजोड़ ने अपना खेल दिखा दिया। फेसबुक पर कंवल भारती ने आरक्षण और दुर्गा नागपाल के मुद्दे पर जो टिप्पणी की, उससे उत्तर प्रदेष की सरकार हिल गयी। आनन-फानन में कलम के योद्धा को गिरफ्तार कर लिया गया।

पत्रकारों ने चंडीगढ़ में मुख्यमंत्री से हरियाणा आवास बोर्ड में मांगा तीन प्रतिशत आरक्षण

चंडीगढ़ : सिटी ब्यूटीफुल में हरियाणा मंत्रिमंडल की बैठक के बाद मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के संवाददाता सम्मेलन के दौरान एक पत्रकार ने मांग की कि हरियाणा आवास बोर्ड में पत्रकारों के लिए आरक्षण बढ़ा दिया जाए। इस पर मुख्यमंत्री भी कहां चूकने वाले थे। तुरंत ही कह डाला- अगर पत्रकारों की ओर से ऐसा कोई मांग पत्र आता है तो इस पर विचार किया जाएगा।

राडिया टेप से सीमा पार के लेन-देन समेत कई गंभीर मामलों का पता चलता है : सुप्रीम कोर्ट

: न्यायालय ने सरकारी एजेंसियों को आड़े हाथ लिया : नयी दिल्ली : उच्चतम न्यायालय ने नीरा राडिया की रिकार्ड की गयी टेलीफोन बातचीत के आधार पर कोई कार्रवाई नहीं करने पर आज सरकारी एजेंसियों को आड़े हाथ लिया. न्यायालय ने कहा कि राडिया की प्रमुख नेताओं, उद्योगपतियों और दूसरे व्यक्तियों से बातचीत से सीमा पार के लेन देन सहित अनेक गंभीर मामलों का पता चलता है. शीर्ष अदालत ने कहा कि यह बातचीत अनेक मामलों से संबंधित है जिन्हें सरकारी एजेन्सियों ने एक तरफ करके सिर्फ 2जी स्पेक्ट्रम प्रकरण से संबंधित बातचीत के अंशों पर ही अपना पूरा ध्यान केन्द्रित किया.

रंगदारी, धोखाधड़ी समेत कई मामलों की एफआईआर रद्द करने की मांग पर जी न्यूज को राहत नहीं

नयी दिल्ली : उच्चतम न्यायालय ने निजी समाचार चैनल जी न्यूज के खिलाफ दर्ज तीन प्राथमिकियो को रद्द करने संबंधी उसकी याचिका पर सुनवाई के दौरान उसे कोई राहत नहीं देते हुये मामले की अगली सुनवाई के लिये एक अक्टूबर तक के लिये टाल दी।

कंवल भारती ने बसपा और काशीराम की खूब आलोचना की पर माया ने कभी बुरा नहीं माना

Dilip C Mandal : कंवल भारती लगातार बसपा और कांशीराम की आलोचना में लिखते रहे. वे उत्तर प्रदेश सरकार में कार्यरत थे. लेकिन मायावती ने कभी उनके लिखे को खतरा नहीं माना और न ही उन पर कोई रोक लगाई. वहीं फेसबुक पर लिखे एक स्टेटस मात्र से समाजवादी पार्टी की सरकार ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया.

बिक गया ‘वाशिंगटन पोस्ट’ अखबार, अमेजन वेबसाइट वाले इसे पच्चीस अरब में खरीदेंगे

वाशिंगटन : ऑनलाइन शापिंग कराने वाली प्रमुख बेवसाइट अमेजन के प्रमुख जेफ बेजोस ‘वाशिंगटन पोस्ट’ अखबार को 25 करोड़ डॉलर में खरीदने पर सहमत हो गये हैं. बेजोस इस अखबार व इसके प्रकाशन के अन्य कारोबार को अपनी निजी संपत्ति के रूप में खरीद रहे हैं.

‘नवोदय टाइम्स’ के साथ सत्येंद्र त्रिपाठी, कुमार गजेंद्र, सत्येंद्र चौधरी, अमित कसाना, मनीषा खत्री ने शुरू की नई पारी

पंजाब केसरी, जालंधर वालों के अखबार 'नवोदय टाइम्स' के साथ कई पत्रकारों के जुड़ने की खबर है. नेशनल दुनिया से हटे कई पत्रकारों ने यहां पर ज्वाइन किया है. सत्येंद्र त्रिपाठी, कुमार गजेंद्र, सत्येंद्र चौधरी, अमित कसाना, मनीषा खत्री ने यहां पर कामकाज शुरू कर दिया है.

‘नवोदय टाइम्स’ नाम से दिल्ली में अखबार ला रहे ‘पंजाब केसरी’ वाले, संपादक बने अकू श्रीवास्तव

दिल्ली के पत्रकारों के लिए अच्छी खबर है कि छंटनी और बंदी के इस दौर में एक नया अखबार शुरू होने जा रहा है. नाम है 'नवोदय टाइम्स'. ये अखबार पंजाब केसरी ग्रुप की तरफ से शुरू किया जा रहा है. पंजाब केसरी टाइटिल पर इसके मालिकों में आपसी बंटवारे व विवाद के कारण पंजाब केसरी, जालंधर वालों ने नए नाम से दिल्ली में अखबार शुरू करने का फैसला लिया है. 'नवोदय टाइम्स' नाम से अखबार लाने के पीछे रणनीति नवभारत टाइम्स और हिंदुस्तान अखबार के मार्केट को तोड़ना है. पंजाब केसरी से बिलकुल अलग लेआउट व कंटेंट नवोदय टाइम्स में रहेगा.

सपा नेताओं को बचाने के लिये दुर्गा का सहारा लिया फिर आरोप मढ़ा मुसलमानों पर

Wasim Akram Tyagi : इंसाफ की आवाज को कहां तक दबाओगे ? तुम समाजवादी नहीं फांसीवादी हो तुम्हारे ही इशारों पर वह पेज हुआ है जिसमें खालिद मुजाहिद के लिये इंसाफ मांगा जा रहा था, जिसके सद्स्य रोजाना बढ़ रहे थे, ये कैसा दुस्साहस है उत्तर प्रदेश की समाज वादी सरकार ? अखिलेश ने चुनाव के दौरान कहा था सपा सरकार पहले वाली गलतियां नहीं दोहरायेगी मगर गलतियां दोहराईं जाती यहां तक तो जुल्मों को सहने वाली जनता बर्दाश्त कर लेती मगर गलतियां पिछले कार्यकाल से 20 गुना ज्यादा हैं।

शिविर में पत्रकारों व परिजनों के 500 आधार कार्ड और 200 मतदाता पहचान पत्र बने

दिल्ली जर्नलिस्स्ट एसोसिएशन (डीजेए) और इंद्रप्रस्थ प्रेस क्लब आफ इंडिया (आईपीसी) ने इंडियन मेडिकल ऐसोसिएशन (आईएमए)  के सहयोग से आईटीओ स्थित आईएमए मुख्यालय में   मीडियाकर्मियों के लिए आधार कार्ड व मतदाता पहचान पत्र बनवाने हेतु दो दिवसीय शिविर का आयोजन किया. शिविर का उदघाटन दिल्ली  के मुख्य चुनाव अधिकारी श्री विजय देव ने किया.

जिया टीवी के यूपी स्टेट हेड बने प्रदीप विश्वकर्मा

लखनऊ से खबर है कि प्रदीप विश्वकर्मा ने अपनी नयी पारी जिया चैनल के साथ शुरू की है. 20 वर्षों से ज्यादा मीडिया क्षेत्र का अनुभव रखने वाले प्रदीप विश्वकर्मा की यूपी स्टेट हेड बनाए गए हैं.

मुझे पूरा यकीन है कि कँवल भारती की गिरफ्तारी के बाबत टीपू भैया से पूछा तक नहीं गया होगा

Shambhunath Shukla : सरकार टीपू भैया की नहीं है। उसमें 75 फीसदी दखल नेता जी का है और शेष 25 फीसदी दखल आजम खाँ साहब का। अब बेचारे टीपू भैया क्या करें? इसीलिए मायावती बहन जी की सरकार बेहतर थी। कुछ भी हो सारा दखल उनका ही था बाकी सब बौने थे।

मजीठिया वेज बोर्ड पर अंतिम सुनवाई अब अगले महीने दस तारीख को होगी

सुप्रीम कोर्ट में आज मजीठिया वेज बोर्ड पर आखिरी सुनवाई होनी थी. पर मामले की सुनवाई कर रही कोर्ट की नई बेंच ने इसे दस सितंबर के लिए टाल दिया. मजीठिया वेज बोर्ड की सिफारिशों के खिलाफ कई अखबार मालिकों ने याचिकाएं दायर कर रखी हैं जिस पर सुनवाई चल रही है. इस बारे में पूरी खबर द हिंदू अखबार में छपी है जो इस प्रकार है…

कंवल भारती का गिरफ्तार किया जाना खतरे की घंटी : प्रियदर्शन

Priya Darshan : फेसबुक पर उत्तर प्रदेश सरकार के ख़िलाफ़ एक टिप्पणी लिखने की वजह से कंवल भारती की गिरफ़्तारी हम सबके लिए ख़तरे की घंटी है। हालांकि उन्हें आज ही ज़मानत मिल गई, लेकिन यह पूरा वाकया बताता है कि लिखने-पढ़ने की आज़ादी पर किस तरह पहरे बिठाए जा रहे हैं। हमें इसकी तीखी भर्त्सना करनी चाहिए।

सोनीपत भास्कर के विज्ञापन मैनेजर गुलाटी की छुट्टी!, मोहन वशिष्ट हिंदुस्तान, फरीदाबाद से जुड़े

सोनीपत से खबर है कि सोनीपत भास्कर के विज्ञापन मैनेजर सुनील गुलाटी को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा है. चर्चा है कि किन्हीं अनियमितताओं के कारण उन्हें जाना पड़ा है. यह भी बताया जा रहा है कि कंपनी की और से विज्ञापन के मद में फंसे मोटी रकम की रिकवरी के प्रयास किए जा रहे हैं.

दैनिक जनवाणी ने मेरठ के बड़े-बड़े धुरंधर व खिलाड़ी पत्रकारों को ठिकाने लगा दिया

दैनिक जनवाणी अखबार की लांचिंग के समय मेरठ के बड़े अखबारों में घबराहट का माहौल था। इसकी वजह देश के नंबर एक अखबार दैनिक जागरण को करारा झटका देकर जनवाणी ने वहां से कई बड़े नामों को अपने साथ जो़डा था। खेल पत्रकारिता के क्षेत्र में ब़डा नाम यशपाल सिंह को समूह संपादक बनाकर जनवाणी के निदेशकगण भूपेंद्र सिंह बाजवा और जितेंद्र सिंह बाजवा ने बड़ा दांव खेला था। जागरण को इससे एक और झटका अपने सिटी इंचार्ज रवि शर्मा के इस्तीफे से लगा।

राहुल गांधी का विवादित बयान- गरीबी है एक मानसिक स्थिति

योजना आयोग द्वारा दिए गए गरीबी के आंकड़ों पर अभी बहस थमी नहीं थी, कि राहुल गांधी ने गरीबी पर अजीबोगरीब बयान दिया है। राहुल का मानना है कि गरीबी सिर्फ एक मानसिक स्थिति है। इसका खाना, रुपये जैसी भौतिक वस्तुओं की कमी से मतलब नहीं है। सोमवार को एक सेमिनार के दौरान राहुल ने गरीबी पर ये चौंका देने वाला बयान दिया। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि गरीबी एक मानसिक अवस्था है। खाना, पैसे या भौतिक चीजों की कमी से इसका कोई लेना-देना नहीं है। यदि आप में आत्मविश्वास है तो आप गरीबी से उबर सकते हैं।

साहित्यकार कंवल भारती मामले की जांच क्राइम ब्रांच को सौंपी

लखनऊ। रामपुर पुलिस अधीक्षक उमेश कुमार सिंह ने बताया कि साहित्यकार कंवल भारती के फेसबुक पर टिप्पणी करने के मामले की विवेचना क्राइम ब्रांच को सौंपी गई है। उल्लेखनीय है कि कंवल भारती को सरकार के खिलाफ टिप्पणी करने के आरोप में मंगलवार गिरफ्तार किया गया था। बाद में उन्हें जमानत पर छोड़ दिया गया ।

दुर्गा शक्ति बनाम राज धर्म : अब घटिया खाना खिलाने के आरोप में एक महिला आईएएस का ट्रांसफर

युवा आईएएस अधिकारी दुर्गा शक्ति नागपाल के बहुचर्चित निलंबन के मामले को लेकर सियासी हल्कों में एक बड़ी बहस शुरू हो गई है। अहम सवाल यह है कि क्या सरकारें अपने प्रशासनिक कामकाज में अपना राज धर्म निभा पा रही हैं? राज्य सरकारों की कार्यशैली किस तरह से पटरी से उतरने लगी है? इसका ज्वलंत उदाहरण बन गया है दुर्गा शक्ति के निलंबन का मामला।

लखनऊ के पत्रकारों में कुछेक जो काली भेड़ हैं, उनकी पहचान करनी चाहिए : अहमद हसन

दुर्गाशक्ति का मामला राज्य के मुख्यमंत्री अखिलेश और सपा सरकार के लिए मुसीबत बनता जा रहा है। दुर्गा से जुड़े सवाल अखिलेश का कहीं भी पीछा नहीं छोड़ रहे हैं। मंगलवार सुबह अखिलेश यादव कामधेनु डेयरी योजना का शुभारंभ करने पहुंचे थे। यहां भी उन्होंने खुद को दुर्गा निलंबन मामले से जुड़े सवालों से घिरा पाया। जैसे ही अखिलेश कुक्कुट विकास योजना के लाभार्थियों को चयन पत्र सौंपकर पत्रकारों से मुखातिब हुए, सवालों की बारिश होने लगी।

कंवल भारती की गिरफ्तारी के खिलाफ मानवाधिकार आयोग को शिकायत (पढ़ें पत्र)

सामाजिक कार्यकर्ता डॉ नूतन ठाकुर ने कल रामपुर में दलित चिन्तक कँवल भारती की फेसबुक टिप्पणी पर उन्हें तत्काल गिरफ्तार करने के सम्बन्ध में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को शिकायत भेजी है. पत्र और ऑनलाइन शिकायत में ठाकुर ने कहा है कि भारती की टिप्पणी किसी भी प्रकार से धार्मिक उन्माद फैलाने से जुडी नहीं है, बल्कि मात्र एक कथित घटनाक्रम, कुछ प्रशासनिक कार्यवाही और कुछ व्यक्ति विशेष पर बुद्धिजीवी विचार हैं. ठाकुर ने भारती से फोन पर वार्ता की जिसमे उन्होंने बताया कि उन्हें गिरफ्तारी के समय कोई कारण तक नहीं बताया गया.

छिन सकती है 15 अगस्त के बाद उत्तराखंड के मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी!

देहरादून । भारी आपदा से जूझ रहे उत्तराखण्ड में एक और आपदा दस्तक देने लगी है। इस आपदा की गूंज भले ही बाहर न सुनाई दे रही हो, लेकिन कांग्रेस के अंतहपुर में जरूर सुनाई दे रही है। दो महीने बाद भी आपदा राहत कार्य ठीक नहीं होने से दस जनपथ मौजूदा सीएम से काफी नाराज हैं।

प्रवीण खारीवाल बने आईएफडब्ल्यू के प्रांताध्यक्ष

भोपाल। मध्यप्रदेश के जाने माने पत्रकार और इंदौर प्रेस क्लब के अध्यक्ष प्रवीण खारीवाल को देश के सबसे बड़े पत्रकारों के संगठन इंडियन फेडरेशन आफ वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन के प्रांताध्यक्ष पद पर राष्ट्रीय अध्यक्ष के. विक्रय राव ने नियुक्त किया है। मध्यप्रदेश के विभिन्न जिलों एवं स्थानों के पत्रकारों के आग्रह एवं इंडियन फेडरेशन आफ वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन के सचिव सेंट्रल इंडिया प्रभारी कृष्णमोहन झा की अनुशंसा पर आई.एफ.डब्ल्यू. जे. के राष्ट्रीय महासचिव परमानंद पांडे ने प्रवीण खारीवाल को संगठन के मध्यप्रदेश इकाई का फनवेनर और प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया है।

आईआईएमसी नवप्रवेशी छात्रों ने छात्रावास के लिए निर्णायक लड़ाई लड़ने का ऐलान किया

भारतीय जनसंचार संस्थान में छात्रावास से वंचित छात्रों को छात्रावास मिले, इसकी मांग पिछले 17 फरवरी 2013 से निरंतर की जा रही है. 5 अगस्त, सोमवार को भारतीय जनसंचार संस्थान के नवप्रवेशी छात्रों ( 2013-14) को इस बाबत जागरूक करने के लिए कैंपस में नए छात्रों छात्रावास की अहमियत और इसके अभाव में होने परेशानियों के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई. छात्रों के बीच सैंकड़ों पर्चे बांटे गए, जिसमें छात्रावास न होने से पैदा होने वाली समस्याओं के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी मौजूद थी. इसके अलावा,छात्रों से मांग-पत्रों पर दस्तख़त करने के लिए आग्रह किया गया. 

कंवलजी धार्मिक मामलों की नजाकत समझते हुए अपनी अभिव्यक्ति में अधिक सजगता बरत सकते थे : ओम थानवी

Om Thanvi : कँवल भारती की गिरफ्तारी की जितनी निंदा की जाय, कम होगी। सत्ताधारियों में सहनशीलता पहले ही कब थी; अब वह, लगता है, पूरी तरह छीज गई है। साथ ही मैं यह भी सोचता हूँ कि धार्मिक मामलों में टीका करते हुए ज्यादा सावधानी भी बरती जानी चाहिए। Prabhat Shunglu की वाल पर उपलब्ध कँवल भारती की एक पोस्ट विचार की अपेक्षा रखती है कि क्या बगैर समुचित सबूत किसी मुसलिम पर — वह चाहे मंत्री हो या संतरी — रमज़ान में मसजिद गिराने जैसा संगीन आरोप लगाना चाहिए?

अखिलेश राज में अभिव्यक्ति के खतरे बढ़ते ही जा रहे हैं

Utkarsh Sinha : कँवल भारती के केस ने दिखा दिया है कि प्रशासनिक अधिकारी अपने नंबर बढ़ाने की चाटुकारिता के लिए किस हद तक जा सकते है.. संविधान के मूल को भी ये किनारे रख देते हैं.. वैसे भी अभिव्यक्ति के खतरे बढते जा रहे हैं. लगाओ नारा और जोर से… "बोल कि लब आज़ाद हैं तेरे"….

महुआ और पीके तिवारी से कोई डील न करें : पंजाब नेशनल बैंक की चेतावनी (देखें विज्ञापन)

पंजाब नेशनल बैंक ने महुआ और पीके तिवारी से कोई डील न करने की चेतावनी आम जनता के लिए जारी की है. बैंक की तरफ से टाइम्स आफ इंडिया में एक विज्ञापन बीते एक अगस्त को प्रकाशित कराया गया है. इसमें बताया गया है कि महुआ वालों ने 109 करोड़ रुपये लिया और अब नहीं दे रहे.

शिक्षक आशुतोष कुमार ने ओम थानवी को सांप्रदायिक उन्माद भड़काने वाला बता दिया!

Om Thanvi : ऐसे संकट की घड़ी में जब हम एक लेखक की अनुचित गिरफ्तारी की निंदा कर रहे हैं, विद्वान अपनी दुश्मनियाँ निकाल रहे हैं! दिल्ली विश्वविद्यालय के हिंदी शिक्षक आशुतोष कुमार (गाली-गलौज की बहस वाले) ने अपनी वाल पर लिखा है: " … (ओम थानवी द्वारा) किस खूबी से 'मदरसे' को 'मस्जिद' और 'गिरवा सकते हैं' को 'गिराने का आरोप' बना दिया गया है. क्या यह खालीपीली सांप्रदायिक उन्माद भडकाना नहीं है?"

शोभित श्रीवास्तव, मुकेश खेरा, देशदीपक की नई पारी, फरमान अली व तोषिक कर्दम को फोर्स लीव

हिन्दुस्तान का उत्तराखंड संस्करण इस समय संकट के दौर से गुजर रहा है. यहां से काफी लोग जा चुके हैं और बेहद कम स्टाफ में अखबार का कामकाज हो रहा है. नई जगह भरने के लिए लंबे समय से छोटे पदों व कम पैसे पर काम कर रहे लोगों को प्रमोट करके जिम्मेदारियां दी जा रही हैं.  इसी क्रम में वरिष्ठ संवादाता शोभित श्रीवास्तव ने भी हिन्दुस्तान से इस्तीफा देकर संस्थान को अलविदा कह दिया है.

महाराष्ट्र सरकार की तरह अखिलेश सरकार को कँवल भारती के सवाल पर जांच का ऐलान करना चाहिए

Chanchal Bhu : कंवल भारती ने ऐसा लिखा कि पुलिस को अखर गया . पुलिस ने वही किया जो वह अंग्रेजों के जमाने से करती आ रही है. 'हम सुधरेंगे नहीं' .कँवल भारती को गिरफ्तार किया. क़ानून ने जमानत दे दिया. सरकार को नहीं मालूम कि रामपुर में क्या हुआ (शायद, यह हमारा अनुमान है क्योंकि सरकार अगर तबियत से गिरफ्तार करती तो जमानत लेने में दिक्कत होती). अब पुलिस को देखिये और जानिये. अव्वल तो यह जाहिलों की फ़ौज है. कम पढ़ी लिखी है. जो पढलिख कर भी आते हैं खाकी ओढते ही सब झन्न हो जाता है.

समाजवादी सरकार का होना यानि मीडिया को भला-बुरा कहना और चिंतक को अरेस्ट करा लेना

Sanjay Sharma : यूपी सरकार ने कल समझाया कि समाजवादी होने का मतलब क्या होता है? एक और जहाँ लखनऊ में मुख्यमंत्री के सामने अपने नंबर बढाने के लिए अहमद हसन ने मीडिया को भला बुरा कहा वहीं रामपुर में जाने माने चिन्तक कँवल भारती को फेसबुक पर यूपी सरकार के खिलाफ टिप्पड़ी करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया.

प्रबल प्रताप सिंह और केएम शर्मा का टीवी टुडे नेटवर्क से इस्तीफा, अनिल आजतक से जुड़े

: आवाजाही की कई अन्य सूचनाएं : आजतक से कई बड़ी सूचनाएं हैं टीवी टुडे नेटवर्क से. आजतक न्यूज चैनल में वरिष्ठ पद पर कार्यरत पत्रकार प्रबल प्रताप सिंह के बारे में जानकारी मिली है कि ये अब इस संस्थान के हिस्से नहीं रहे. ये खुद कार्यमुक्त हुए हैं या इन्हें कार्यमुक्त किया गया है, इस बारे में पता नहीं चल पाया है.

आयोजन की कुछ तस्वीरें व कुछ बातें : वीरेन डंगवाल का 66वां जन्मदिन

वीरेन डंगवाल के 66वें जन्मदिन पर दिल्ली के हिंदी भवन में उनके मित्रों, वरिष्ठों, समकालीनों, प्रशंसकों की जुटान हुई. सैकड़ों की संख्या में लोग दूर-दूर से आए. मंच पर हिंदी के जाने-माने और वरिष्ठ कवि केदारनाथ सिंह के अलावा खुद वीरेन डंगवाल, आनंद स्वरूप वर्मा, प्रोफेसर आशुतोष मौजूद थे.

‘जानेमन जेल’ का जाने-माने साहित्यकारों के हाथों विमोचन

यशवंत सिंह द्वारा अपने जेल अनुभवों पर लिखित किताब 'जानेमन जेल' का लोकार्पण कल दिल्ली के हिंदी भवन में जाने-माने साहित्यकारों, पत्रकारों के हाथों किया गया. वरिष्ठ कवि केदारनाथ सिंह, कवि और पत्रकार वीरेन डंगवाल, चर्चित क्रांतिकारी, जनवादी लेखक और पत्रकार आनंद स्वरूप वर्मा और प्रोफेसर आशुतोष कुमार ने इस किताब का विमोचन किया.

उज्जैन में न्यूज कवरेज के दौरान फोटोग्राफरों पर हमला, सिर फोड़ा, हाथ तोड़ा, कैमरे नष्ट किए

उज्जैन में शनिवार शाम 4 बजे हरिफाटक चौराहे पर दो गाड़ियों के बीच हुई टक्कर के बाद विवाद पैदा होने और विवाद के दौरान गाड़ियों में आग लगाने की सूचना मिलने पर खबर को कवर करने पहुंचे इलेक्ट्रानिक मीडिया के कैमरामैन ओर फोटोग्राफरों की खुद की जान आफत में पड़ गई. उग्रता फैला रहे और गाड़ियों में तोड़फोड़ कर आग लगा रहे एक पक्ष के लोगों ने फोटो खींच रहे मीडियाकर्मियों को पर हमला बोल दिया. कैमरामैनों के कैमरे छीन कर तोड दिए और तीन कैमरामैनों के साथ जमकर मारपीट की.

अमर उजाला की लखनऊ वेबसाइट और ‘सफलता सामयिकी’ मैग्जीन का लोकार्पण

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के युवा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अमर उजाला की लखनऊ वेबसाइट और अमर उजाला समूह की मासिक पत्रिका 'सफलता सामयिकी' का लोकार्पण किया.  उत्तर प्रदेश के युवा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अमर उजाला की लखनऊ वेबसाइट लॉन्च की तो उन्हें ये देखकर आश्चर्यजनक खुशी हुई कि कुछ मिनट पहले खींची गई दीपप्रज्ज्वलन की फोटो वेबसाइट पर मौजूद थी।

कंवल भारती को मिली जमानत, रिहा

देश के जाने माने दलित चिंतक और अंबेडकरवादी लेखक कंवल भारती को जमानत मिल गई. उन्हें पुलिस ने गिरफ्तार करने के बाद कोर्ट में पेश किया जहां से उन्हें जमानत दे दी गई. फेसबुक पर लिखने के कारण गिरफ्तार किए गए कंवल भारती के प्रकरण ने तूल पकड़ लिया है. लोग इस गिरफ्तारी के पीछे आजम खां का हाथ मान रहे हैं.

दैनिक भास्कर ने पत्रकार सौमित्र रॉय को लीगल नोटिस भेजने की धमकी दी

Soumitra Roy : अभी थोड़ी देर पहले दैनिक भास्‍कर से एक धमकी भरा फोन आया। 09953439070 से लीगल सेल के कोई सज्‍जन मुझे धमका रहे थे कि गंदगी फैलाना बंद करो। पत्रकार हो तो पत्रकारिता करो। संदर्भ जेएनयू मामले में भास्‍कर की पोर्न पत्रकारिता के खिलाफ जबर्दस्‍त मुहिम के समर्थन को लेकर है। इस मुहिम को छेड़ने वाले समर अनार्य के एक मेल का भी इस सज्‍जन ने हवाला दिया। अभी मेरी समर से बात हुई, जिसमें उसने कहा कि ऐसा कोई मेल उस सज्‍जन को भेजा ही नहीं गया। यह इसी मुहिम का नतीजा है कि भास्‍कर बैकफुट पर है और धमकी देने का काम कर रहा है।

भोपाल के पत्रकार सौमित्र राय के फेसबुक वॉल से.

दलित चिंतक कंवल भारती को यूपी पुलिस ने अरेस्ट कर लिया!

जाने माने दलित चिंतक और अंबेडकरवादी लेखक कंवल भारती के बारे में सूचना आ रही है कि रामपुर में उन्हें यूपी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. यह सूचना कंवल भारती के फेसबुक वॉल पर किन्हीं विद्या भूषण रावत नामक सज्जन ने शेयर की है. उन्होंने लिखा है कि पुलिस ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि कंवल भारती फेसबुक पर दुर्गा शक्ति नागपाल के पक्ष में लगातार लिख रहे थे और प्रदेश सरकार की आलोचना कर रहे थे.

पाकिस्तान ने फिर पांच भारतीय सैनिकों को मार डाला

पाक ने एक बार फिर नापाक हरकत करते हुए पांच भारतीय सैनिकों को मार डाला। पाक के दुस्साहस के पीछे हमारी कमजोर विदेश नीति और तुष्टिकरण की राजनीति बड़ी वजह है। जब देश के नेता आंतकियों को हाफिज सईद साहब और ओसामा जी जैसे आदर सूचक शब्दों से नवाजेंगे तो कभी पाक सेना हमारे सैनिकों के सिर काट कर ले जाएगी तो कभी घर में घुसकर हमारे जवानों को मारेगी।

जिंदल से उगाही की साजिश में चंद्रा के शामिल होने के सबूत

कोल आवंटन घोटाले की आड़ में जिंदल स्टील पावर लिमिटेड से उगाही के मामले में पुलिस की चार्जशीट के अनुसार जी न्यूज के चेयरमैन सुभाष चंद्रा भी इस मामले में पूरी तरह से लिप्त थे। शिकायतकर्ता द्वारा गत माह ही उपलब्ध कराए गए ई-मेल व उससे पहले की फोन पर बातचीत से इसके सुबूत मिले हैं। चार्जशीट के अनुसार, संपादक समीर व सुधीर की जिंदल समूह के अधिकारियों से होने वाली मीटिंग से पहले व बाद में चंद्रा से मोबाइल पर बातचीत होती रही और वे पूरा ब्योरा समय-समय पर लेते रहे। पुलिस ने चंद्रा के उस तर्क को गलत बताया है कि उसे इस मामले की जानकारी नहीं थी।

कब तक बेइज्जत होते रहेंगे आईएएस अफसर… नौकरी को व्यापार समझना छोड़िए

यूपी के आईएएस अफसरों के गाल पर सीधा तमाचा है दुर्गा नागपाल का निलंबन। साथ ही भविष्य के लिए साफ तौर पर संकेत भी है कि यदि इस निलंबन को वापस नहीं लिया गया तो यह तय मानना चाहिए कि भविष्य में भी नौकरशाह सिर्फ राजनेताओं के इशारे पर ही नाचने को मजबूर होंगे। यूपी की नौकरशाही पहली बार इतने दबाव में आयी है कि उसे समझ ही नहीं आ रहा कि वह इस गलत काम का किस स्तर तक विरोध करे।

भास्कर, जागरण और केसरी ने नहीं प्रकाशित की रिश्वतखोर के पकड़े जाने की खबर

सेवा में, श्री मान जी, संचालक भड़ास जी, विषय : गन्नौर (जिला सोनीपत, हरियाणा) में दैनिक भास्कर, दैनिक जागरण, पंजाब केसरी द्वारा खबर प्रकाशित न करने के बारे में । श्री मान जी, शुक्रवार 2 अगस्त को दातौली गांव के प्रेम शर्मा को विजिलैंस टीम ने रिश्वत लेते हुए खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय में पकड़ा था और मैंने उसकी रिश्वत लेने की जानकारी विजिलैंस टीम को दी थी और यह खबर 3 अगस्त को प्रकाशित होनी थी।

भाजपा, मोदी, महाभारत, रामायण और आजतक की दिक्कत

Vineet Kumar : आजतक न्यूज चैनल देखते हुए अक्सर आपके मन में ये सवाल उठता रहा होगा कि आखिर इस चैनल की डिक्शनरी में लाज-शर्म शब्द है कि नहीं. आज (4 अगस्त) अगर आपने ये खास कार्यक्रम जिसे कि एंकर सुमित अवस्थी न्यू अरायवल के अंदाज में पूरे मनोयोग से परोस रहे थे, तो एक और सवाल उठेगा- क्या महाभारत का मतलब सिर्फ बीजेपी है और आजतक चैनल की बपौती है कि वो इसकी कथा और चरित्रों को जैसे चाहे दाल-मखनी बनाकर पेश करे.

पत्रकार मयंक सक्सेना और उनकी ‘बूंद’ टीम के बारे में सीएनएन-आईबीएन पर स्टोरी चली

Mayank Saxena : कल शाम रुद्रप्रयाग के पहले रास्ते में पता चला कि टीवी पर अपन लोगों की स्टोरी चली है…बोले तो सीएनएन-आईबीएन पर…अंग्रेज़ी जानने वालों ने देखा भी…और बताया भी…अपन नहीं देख पाए…ख़ैर पायलट योगेंद्र अचानक मयाली के पहले बोले कि देखते हैं…चला जाएगा रात को ही गुप्तकाशी… गुप्तकाशी का रास्ता बेहद जोखिम भरा है…दिन में भी…फिर हम तो रात को चले थे…एक से एक ख़तरनाक रास्ते पार करते हुए हम डिडौली भी पार कर गए…जान हलक को आती रही…भूख परेशान करती रही…अचानक सामने ही एक जगह लैंड स्लाइड हो गई…गुप्तकाशी में बेस कैम्प पर खाना बना कर रहने को कहा था…

जेएनयू-लड़की-भास्कर-पोर्न मसले पर आनंद प्रधान और दिलीप मंडल चुप क्यों?

Samar Anarya : भास्कर द्वारा मौत से लड़ रही जेएनयू की एक छात्रा के चरित्रहनन के मामले में युवा पत्रकार साथियों का न बोलना समझ आता है. उनको जिंदगी चलानी है, नौकरी बचानी है. पर कोई बताएगा कि आनंद प्रधान और Dilip C Mandal जैसे मीडिया विश्लेषक क्यों चुप हैं? ऐसा भी नहीं कि अखबारी वेबसाइटों का पोर्न पोर्टल में बदलते जाना इन्हें दिखा नहीं होगा, उदाहरण के लिए जेनयू वाली खबर के जिम्मेदार पोर्नकार विजय झा तो इनदोनो के शिष्य ही ठहरे दूसरे यह भी नहीं कि यह लोग किसी अज्ञातवास में हैं, आनंद प्रधान साहब किसी फोटोग्राफी कांटेस्ट में अपने किसी छात्र को जिताने के लिये धड़ाधड़ लाइक्स जुटाने में लगे हाँ और दिलीप मंडल अपने एजेंडे पर लगातार सक्रिय हैं. सो इस चुप्पी का राज? ई लोग भी मीडिया हाउसों से डरते हैं क्या भाई? या कोई और उपकार है जिसने इनकी जुबानों पर ताले डाल दिए हैं?

‘डे एंड नाइट’ चैनल की पत्रकारिता और पतन पर जगमोहन फुटेला की टिप्पणी

पंजाब में एक प्रोफेशनल चैनल की संभावनाओं के बावजूद 'डे एंड नाईट' की विफलता आखिरकार कंवर संधू की शहीदी ले के मानी. पिछले दिनों चैनल के दफ्तर में छुट्टी तक पे चल रहे कर्मचारियों को बुला कर उन्होंने अपनी विदाई का ऐलान किया. संधू एक महीने में चैनल से चले जाएंगे. उन्होंने बाकी लोंगों से भी नई नौकरियां ढूंढ लेने को कहा है. दो महीने से अटकी तनख्वाहें, उन्होंने कहा, कि सब को चार छ: दिन में मिल जाएंगी.

भास्कर, भोपाल की महिला पत्रकार इनक्रीमेंट को लेकर निराश

प्रतिदिन पहले पेज पर वूमन च्वॉइस और महिलाओं की तरफदारी करती खबरें प्रकाशित करने वाले दैनिक भास्कर के मैनेजमेंट और सिपहसालारों ने अपनी ही टीम की महिला कर्मियों को उपेक्षित कर दिया है। पुरुषों का जहां 2 से 5 हजार तक की वेतन वृद्धि की गई है, वहीं महिलाओं को ठेंगा दिखा दिया। मैनेजमेंट में अच्छा दखल रखने वाले वरिष्ठों ने तो खुद का इंक्रीमेंट कराने के साथ ग्रेड भी बढ़ा लिया।

डियोडेरेंट को वियाग्रा की तरह बेचने वाले भयंकर महिला विरोधी विज्ञापनों की भी ऐसी तैसी की जाए

Mayank Saxena : भास्कर और जेएनयू मामले पर जब कईयों की नींद खुल ही गई है…तो अब ज़रा इस बारे में भी बात कर ली जाए कि क्यों नहीं टीवी पर सारी महिलाओं को सिर्फ एक डियो की खुशबू सूंघ भर कर एक पुरुष से सेक्स करने के लिए उतावला दिखाने वाले…महिलाओं को सिर्फ सेक्स ऑब्जेक्ट दिखाने वाले…और डियोडेरेंट को वियाग्रा की तरह बेचने वाले… भयंकर महिला विरोधी विज्ञापनों की भी ऐसी तैसी की जाए…उनके खिलाफ़ भी लड़ाई बुलंद की जाए…

आईबीसी24 के साथ आलोक, दिव्या, नासिर, प्रियंका, अमित, दीपक, रवि की नई पारी

ईटीवी, ग्वालियर और भोपाल में सेवा दे चुके रिपोर्टर आलोक पंडया ने आईबीसी24 के साथ नई पारी शुरू की है. भोपाल ईटीवी में काम कर रही दिव्या गोयल ने भी भोपाल में आईबीसी24 में काम शुरू कर दिया है. उज्जैन से पिछले 5 सालों से ईटीवी के लिए काम कर रहे नासिर बेलिम ने भी आईबीसी24 के साथ नई पारी शुरू की है.

भास्कर की पोर्न पत्रकारिता के खिलाफ शीबा असलम फहमी का शिकायती पत्र पढ़ें

To, Smt. Mamta Sharma, The Chairperson, National Commission for Women, New Delhi. Subject: Complaint against Dainik Bhaskar daily for continuously Publishing misogynist news against a victim of gender violence, who is fighting for her life in the hospital. Dear Chairperson, I am writing to your competent authority regarding a very disgusting and misogynist photo story published by Dainik Bhaskar in its website. The story assassinates the character of a female student of Jawaharlal Nehru University who is battling for her life after getting assaulted by a classmate who later committed suicide.

डॉ. नामवर सिंह के हाथों मनोज भावुक के ग़ज़ल अल्बम का लोकार्पण

भोजपुरी शायर मनोज भावुक के भोजपुरी ग़ज़ल अल्बम ‘तस्वीर जिन्दगी के ’ का लोकार्पण नई दिल्ली के हिन्दी भवन में देश के प्रख्यात साहित्यकार व समालोचक डॉ. नामवर सिंह के हाथों हुआ। विदित हो कि टी सीरिज द्वारा रिलीज इस प्रथम भोजपुरी ग़ज़ल अल्बम में भावुक की आठ गजलों का समावेश है जिन्हें बॉलीवुड के युवा गायक व संगीतकार सरोज सुमन ने अपना स्वर दिया है । कॉन्सेप्ट प्रतिभा-जननी सेवा संस्थान के चेयरमैन मनोज सिंह राजपूत का है। वहीं संयोजन संस्था के नेशनल को-आर्डिनेटर आशुतोष कुमार सिंह का है।

जनवाणी प्रबंधन ने जारी किया फरमान, विज्ञापन से निकालो सेलरी

मेरठ से प्रकाशित दैनिक जनवाणी प्रबंधन की क्रूरता और तानाशाही का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा। कहने के लिए प्रबंधन ने अपना उत्तराखंड एडिशन भी लांच कर दिया लेकिन यह एडिशन भी तब निकाला गया, जब हरिद्वार स्थित ग्रुप के गॉडविन होटल में आबकारी विभाग ने बिना बॉर लाइसेंस के बॉर चलाने पर छापेमारी की। दरअसल गॉडविन ग्रुप का अखबार निकालने का मकसद दूसरे ग्रुपों की तरह बिल्कुल साफ था। गलत काम करने पर भी सरकारी विभागों के शिकंजे से आसानी से बच जाना।

भास्कर की मुझ पर एफआईआर करने की औकात हो गयी तो मुकदमा खुद लड़ेंगे और जेल जाएंगे

Samar Anarya : मेरे दोस्तों में तमाम वकील शामिल हैं. उनसे सीधा सवाल है कि क्या वे जहाँ भी हैं गोंडा में या गोंडिया में, बस्ती में या बस्तर में.. भास्कर की पोर्न पत्रकारिता के खिलाफ याचिकायें दायर नहीं कर सकते क्या? उस देश में जिसमे शिल्पा शेट्टी और रिचर्ड गेरे के चुम्बन के खिलाफ याचिकायें दायर हो जाती हों आप इतना भी नहीं कर सकते तो व्यर्थ है आपका वकील होना…

पुलिस अधीक्षक के सियासी दबाव में तबादले के खिलाफ जैसलमेर अभूतपूर्व बंद

जैसलमेर पोकरण विधायक साले मोहम्मद के पिता मुस्लिम धर्म गुरु और जैसलमेर के पुराने हिस्ट्रीशीटर की हिस्ट्रीशीट वापस खोलने पर राजनीतिक दबाव का शिकार हुए जैसलमेर पुलिस अधीक्षक पंकज कुमार चौधरी का तबादला होने के बाद जैसलमेर की जनता पुलिस अधीक्षक के तबादले के विरोध में सड़कों पर उतर आई.

मजीठिया वेज बोर्ड न देने के लिए ‘लोकमत’ वाले अपने परमानेंट इंप्लाइज से जबरन इस्तीफा ले रहे (देखें पत्र)

'लोकमत' का एक खत यहां प्रकाशित किया जा रहा है. इस पत्र की भाषा मराठी है क्योंकि मसला भी महाराष्ट्र का है. लोकमत महाराष्ट्र का मराठी अखबार है. इसका प्रबंधन मराठी के अलावा हिंदी अखबार लोकमत समाचार समेत अंग्रेजी अखबार भी प्रकाशित करता है. इन दिनों लोकमत ग्रुप में हड़कंप मचा हुआ है, खासकर उनमें जो परमानेंट इंप्लाई हैं. मजीठिया वेतन आयोग के हिसाब से बढ़ा हुआ पैसा कर्मचारियों को न देना पड़े, इसके वास्ते लोकमत प्रशासन ने अखबार कर्मियों से इस्तीफा लेकर उन्हें ठेके पर रखना शुरू किया है. जो लोग इस्तीफा नहीं दे रहे, उन्हें सताया जा रहा है.

अखिलेश जी, आईएएस हरमिंदर राज सिंह की मौत की गुत्थी को अब तो सुलझा दीजिए

लखनऊ स्थित सामाजिक कार्यकर्त्ता डॉ नूतन ठाकुर ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से पूर्व आईएएस हरमिंदर राज सिंह की कथित आत्महत्या की जांच सीबी-सीआईडी से कराये जाने की मांग की है. ठाकुर ने 29 नवंबर 2009 को हरमिंदर राज की मौत के समय विभिन्न समाचारपत्रों में छपी टिप्पणियों और उस समय चर्चा में आई तमाम शंकाओं का उल्लेख करते हुए कहा है कि उस समय राजनैतिक दवाब में यह घटना होने और इसके बड़े भ्रष्टाचार से जुड़े होने की बात कही गयी थी.

भास्कर के प्रति नहीं, अपने बॉस के प्रति निष्ठा रखें (एक दुखी न्यूज एडिटर के कुछ आफिसियल पत्र)

प्रति, असिस्टन्ट लेबर कमिशनर, जलगांव – 425001. विषय : 26/07/2013 को आपके ऑफिस में की गई इंटर्वेंशन रिक्वेस्ट (हस्तक्षेप बिनती) पीछे लेना और मैटर क्लोज करना. मा. महोदय, मैं भास्कर समूह के दैनिक दिव्य मराठी अखबार, डीबी कॉर्प लिमिटेड, 44, नई पेठ, बँक स्ट्रीट, जलगाव – 425001य इस आस्थापना में न्यूज एडिटर के पद पर कार्यरत हूं,  को स्टेट एडिटर अभिलाष खांडेकर द्वारा इस्तीफे लेकर जारी दबाव और रेजीडेंट एडिटर दीपक पटवेद्वारा अभद्र व्यवहार के संबंध में उन्हे उचित समझ देने हेतु मैंने आपसे मदद मांगी थी.

हैदराबाद में लड़की छेड़ने वाले पत्रकार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज

: Scribe booked for stalking student : HYDERABAD : The Cyberabad police registered a case against a journalist of vernacular news channel for allegedly harassing a second year B.Pharma student. The girl’s family told Medchal police that the journalist, Shashank Reddy, was accosting her everyday while she was returning home and forcing her to give her mobile phone number.

आईएएस दुर्गा शक्ति के समर्थन में पत्रकार भी उतरे सड़क पर

लखनऊ। भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) की अधिकारी दुर्गा शक्ति नागपाल का निलम्बन वापस लेने की मांग को लेकर रविवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में पत्रकार सड़क पर उतर आए। हिन्दी पत्रकार एसोसिएशन के सदस्य हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने के लिए निकले। लेकिन रास्ते में पुलिस ने उन्हें रोक लिया। इस दौरान एसोसिएशन के सदस्यों और अधिकारियों के बीच तीखी झड़प भी हुई। बाद में प्रदर्शन कर रहे सदस्यों ने दुर्गा का निलम्बन वापस लेने के लिए मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन जिला प्रशासन को सौंपा।

वीरेन डंगवाल का 66वां जन्मदिन आज, शाम पांच बजे हिंदी भवन पहुंचें

आज है पांच अगस्त… आज मशहूर कवि, संपादक और प्रोफेसर वीरेन डंगवाल 66 बरस के हो गए. वीरेन डंगवाल के मित्रों और प्रशंसकों ने उनके सम्मान में आज शाम पांच बजे दिल्ली में आईटीओ के करीब बाल भवन के बगल में स्थित हिंदी भवन में तृतीय तल पर एक कार्यक्रम रखा है. मिलने-मिलाने, चाय पीने-बतियाने और कविता-संस्मरण सुनने-सुनाने का. आप भी इसमें आमंत्रित है. वक्त चुराइए और शाम पांच बजे हिंदी भवन पहुंचिए. वीरेन डंगवाल के साथ कुछ वक्त बिताइए. इस मौके पर देश के कई नामी साहित्यकार, कवि, पत्रकार मौजूद रहेंगे.

खबर मंत्रा, रांची से राजेंद्र केशरी और प्रशांत झा का इस्तीफा

रांची से अभी हाल में ही प्रकाशित अखबार खबर मंत्रा से सूचना है कि यहां के मार्केटिंग हेड राजेंद्र केशरी और एजुकेशनल मार्केटिंग मैनेजर प्रशांत झा ने इस्तीफा दे दिया है. इन दोनों ने सन्मार्ग अखबार ज्वाइन कर लिया है. चर्चा है कि इनके अधीन काम करने वाले मार्केटिंग के लोग भी इस्तीफा देकर पीछे पीछे सन्मार्ग पहुंचेंगे.

भास्कर के जनरल मैनेजर की अपने पीए पर मेहरबानी

दैनिक भास्कर में एक जनरल मैनेजर साहब अपनी पीए पर आजकल बहुत मेहरबान हैं. भास्कर में रूल है कि ज्वाइनिंग के 6 महीने से पहले इन्क्रीमेंट नहीं लगता. इस रूल का पालन भी किया गया जिसकी वजह से अकाउंट, एडिटोरियल और कई विभागों के वर्कर मनमसोस कर रह गये और उनका इन्क्रीमेंट नहीं लगा.

सेलरी मांगने पर ट्रांसफर कर दिया, हर्ष कुमार जनवाणी आफिस नहीं जा रहे, ज्ञान प्रकाश का भी तबादला

जनवाणी का हाल दिन प्रतिदिन बुरा होता जा रहा है. संपादक यशपाल सिंह अब मूकदर्शक बन गए हैं और मालिकान की हां में हां मिला रहे हैं. वे किसी न किसी तरह से गाड़ी खींच रहे हैं. अब सबसे ज्यादा वो लोग पिस रहे हैं जो उनके करीबी थे. जनवाणी का एक और विकेट गिरा ही मानिये. मुजफ्फरनगर के जिला प्रभारी हर्ष कुमार ने मेरठ तबादला किए जाने के बाद वहां ज्वाइन करने से इनकार कर दिया. वे एक महीने से आफिस नहीं जा रहे हैं. उनकी शिकायत थी कि ब्यूरो की सेलरी तीन माह से नहीं दी जा रही. वेतन मांगा तो तबादला कर दिया.

बनिया चाहे संन्यासी भी हो जाए, वह अपना वणिक धर्म नहीं छोड़ता

: (संस्मरण – पार्ट 3) : एक शाम को मुझे कुछ ज्यादा ही अन्यमनस्क देख माथुर बाबा मुझे साथ ले जाने लगे. पर उस वक्त मुझे बगल में ही काका कालेलकर के आश्रम "सन्निधि" जाकर राधा कृष्ण बजाज उर्फ भाया जी के लिए गाय का दूध ले जाना था. मैंने उनसे बताया तो उन्होंने कहा- मुझे भी वहीँ जाना है. क्यों जाना है, यह भला मै कैसे पूछता.

राष्ट्रीय सहारा, देहरादून में कई बदलाव, जितेंद्र नेगी बने स्टेट ब्यूरो प्रभारी

: सिटी प्रभारी भूपेंद्र कंडारी डिग्रेड, स्टेट ब्यूरो के रिपोर्टर राकेश डोभाल को मार्केंटिंग में भेजा : हरीश जोशी को नोटिस, सुरेश कुमार को सस्पेंशन लेटर, सुशील कुमार का वेतन कटा : देहरादून : लंबे समय से शिथिल पड़े राष्ट्रीय सहारा देहरादून में नए वरिष्ठ स्थानीय संपादक दिलीप चौबे के आने के बाद कई तरह के बदलाव शुरू हो गए हैं. सूत्रों के मुताबिक सहारा प्रबंधन ने डीएनई सुरेश कुमार को सस्पेंशन लेटर थमाकर काम करते रहने को कहा है.

बनारस के जी न्यूज रिपोर्टर रामसुंदर मिश्रा को पुलिसवालों ने पीटा, कैमरा छीना

वाराणसी के मिर्जामुराद थानान्तर्गत रूपापुर में 2 अगस्त को शाम में बाबा विश्वनाथ के दर्शन के लिए कांवरियों का एक जत्था डीजे बजाते हुए पहुंचा. यहां पुलिस ने उन्हें रोक लिया तथा डीजे बंद करा दिया. इसके बाद कांवरिया उत्पात मचाने लगे तथा दर्जनों वाहनों में तोड़ फोड़ कर आग लगा दिया. घटना की सूचना मिलने पर पुलिस तथा मीडिया के लोग भी मौके पर पहुंचे. इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज करना शुरू कर दिया. हद तो तब हो गयी जब पुलिस वाले ग्रामीणों को पीटने लगे तथा महिलाओं से अभद्रता करने लगे.

उड़ीसा के वरिष्ठ पत्रकार सपन कुमार बोहीदार का निधन

सम्भलपुर (उड़ीस) : वरिष्ठ पत्रकार सपन कुमार बोहीदार का लंबी बीमारी के बाद यहां निधन हो गया. पारिवारिक सूत्रों ने यहां यह जानकारी दी। बोहीदार 59 वर्ष के थे. उनके परिवार में उनकी पत्नी और एक पुत्र हैं. उनका हैदराबाद के एक अस्पताल में पिछले कुछ समय से इलाज चल रहा था.

मेरठ के दो युवक पत्रकार बनकर उगाही करते हुए दिल्ली में गिरफ्तार

नई दिल्ली : पत्रकार बनकर उगाही करने वाले दो युवकों को कल्याणपुरी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इनके खिलाफ उगाही की कोशिश और छेड़छाड़ का मामला दर्ज किया है। गिरफ्तार आरोपियों में अजीत सिंह उर्फ मनीष सिंह और चांद टांक उर्फ सागर है। ये दोनों मेरठ के रहने वाले हैं। पूर्वी जिला पुलिस उपायुक्त अजय कुमार ने बताया कि शनिवार दिन में करीब 11 बजे दो युवकों द्वारा कल्याणपुरी झुग्गी बस्ती में एक महिला से छेड़छाड़ की सूचना मिली। मौके पर पुलिस पहुंची तो वहां कुछ लोगों ने युवकों को पकड़ा हुआ था।

चैनलों-अखबारों को यूपी सरकार ने थमाया विज्ञापन रूपी लालीपाप, अब यूपी में शांति दिखाएंगे जर्नलिस्ट

Sanjay Sharma : टीवी चैनल पर कुछ सेकिंड विज्ञापन के लाखों रुपये मिलते है ..आज मुझे लगा कि यह पत्रकार कितने बेवफा होते हैं ..आप सभी देख रहे होंगे कल से सभी टीवी चैनल पर यूपी सरकार के लैपटॉप के विज्ञापन चलना शुरू हुए ..थोड़ी देर बाद ही कुछ चैनल ने कहना शुरू कर दिया रमजान के पाक महीने में मस्जिद …कुछ ने कहा अखिलेश तो सीधे है उन्हें फँसा दिया गया..

जनवाणी प्रबंधन के गलत काम नहीं करा पाए तो रिपोर्टर हुए नकारा

मेरठ और उत्तराखंड से प्रकाशन का दावा करने वाला दैनिक जनवाणी समाचार पत्र पत्रकारीय शोषण की मिसाल बनता जा रहा है। दरअसल अखबार निकालने से पहले जनवाणी अखबार का प्रबंधन रियल स्टेट, पेट्रोलियम, होटल व एक स्कूल का संचालन करते आ रहे हैं। इसमें भी तमाम तरह के फर्जीवाडे किए गए हैं, जिनका खुलासा अगली कड़ियों में होगा। इसलिए प्रबंधन के लोगों का रवैया भी पत्रकारों के साथ वही मजदूरों की तरह पेश होने वाला रहा। संस्थान की शुरुआत से ही पत्रकारों को क़ड़वे अनुभव होने शुरू हो गए। जो लंबे-चौड़े दावे जनवाणी के प्रबंधन ने किए थे, समय के साथ वह हवाई साबित होते गए।

यूपी के मुबारकपुर में हत्या के इरादे से पत्रकार पर किया गया फायर

मुबारकपुर (आजमगढ़) : जिला मुख्यालय से काम निबटाकर घर जाते समय बाइक सवार बदमाशों ने गुरुवार की शाम पत्रकार को गोली मारा। संयोगवश पत्रकार बाल-बाल बच गए। इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ हत्या के प्रयास का रिपोर्ट दर्ज किया है। मुबारकपुर थाना क्षेत्र के अतरडीहा गाव निवासी पत्रकार दिनेश मौर्य उर्फ बबलू पुत्र चंद्रभूषण मौर्य गुरुवार की शाम सात बजे बाइक द्वारा जिला मुख्यालय से काम निबटाकर घर जा रहे थे। बाइक पर उनके साथ एक व्यक्ति बैठे थे।

जौनपुर के कप्तान की प्रेस-कांफ्रेंस में लेत्तेरे-धत्तेरे की हुंकार, दो बड़ों की करतूत से पत्रकारिता की मर्यादाएं गटर में

जौनपुर में कुछ रोज पहले पुलिस अधीक्षक की प्रेस ब्रीफिंग के दौरान दो कथित वरिष्ठ कहे जाने वाले पत्रकार आपस में ही भिड़ गए। शुरुआत हुई पुलिस के खिलाफ शिकायतनामा से, लेकिन जल्दी ही एक-दूसरे की मां-बहन को अनावश्यक तौर पर तोल डालने की कवायद शुरू कर दी गयी। एक-दूसरे ने एक-दूसरे का जान से मारने की धमकी दी और बाद में तो एक पत्रकार ने पुलिस लाइंस में ही दूसरे पत्रकार के खिलाफ गाढ़ा लगाने का ऐलान कर दिया। बोले- इस आदर-फादर को तो आज ही निपट लूंगा।

बीकानेर में कांग्रेस के दो नेताओं की अखबारी टक्कर!

अभी 18 जून को ही बड़े धूम -धड़ाके के साथ एक दैनिक की शुरुआत हुई. 'नेशनल राजस्थान' नाम से शुरू हुआ यह अखबार राजस्थान के नामी गिरामी अखबार 'राजस्थान पत्रिका' से निकले या निकाले गए कुछ पत्रकारों की एक टीम द्वारा सम्पादित किया जा रहा है. हालांकि जाहिरा तौर पर तो इस अखबार का प्रकाशन श्रीराम कृपा पब्लिशर्स कंपनी कर रही है पर बताया जाता है कि कांग्रेस के एक बड़े नेता जो प्रदेश में लम्बे समय तक मंत्री, प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष जैसे अहम् और दमदार पदों पर रह चुके हैं उनके परिवार की वित्तीय मदद से ही शुरू किया गया है.

पत्रकारों का पीएफ हजम करने की जुगत में लगा दैनिक जनवाणी

कभी बड़े तामझाम और धूमधड़ाके के साथ मेरठ से वेस्ट यूपी की पत्रकारिता में उतरा दैनिक जनवाणी अखबार अब डूबने लगा है। इसका कारण मैनेजमेंट की मनमानी है। बड़े-बड़े मीडिया संस्थान छोड़कर जनवाणी से जुड़ने वाले पत्रकार अब खुद को ठगा सा महसूस कर रहे हैं। इसका कारण जनवाणी प्रबंधन द्वारा इन पत्रकारों की हालत मजदूर से भी बदतर बना देना है। इक्का-दुक्का लोगों को छोड़कर किसी भी पत्रकार के वेतन में एक पैसे की भी बढ़ोतरी नहीं हुई। दरअसल जनवाणी संस्थान में पत्रकारों को तनख्वाह मिलने में भी बहुत कड़वा अनुभव हुआ है।

अरूण चट्ठा ने दिया जनवाणी को झटका, अमर उजाला गए, गिरिराज सिंह ने जागरण ज्वाइन किया

दैनिक जनवाणी मेरठ को अलविदा कहने वालों का सिलसिला जारी है। लंबे समय बाद बीमारी से ठीक होकर लौटे सीनियर रिपोर्टर अरूण चट्ठा ने प्रबंधन के तानाशाही पूर्ण और निरंकुश रवैये से परेशान होकर इस्तीफा दे दिया है। वह अमर उजाला मेरठ में सीनियर रिपोर्टर के रूप में जल्द ज्वाइन करेंगे। पेट की बीमारी के कारण लंबे समय तक अरूण अस्पतालों में भर्ती रहे। इस दौरान भी जनवाणी प्रबंधन ने उनकी कोई मदद नहीं की, उल्टे दिसंबर 2012 की तनख्वाह रोक ली थी।

इंदौर में दस वरिष्ठ पत्रकारों को श्रद्धानिधि चेक भेंट, ये रहे इनके नाम

इंदौर। राज्य शासन के जनसंपर्क विभाग द्वारा प्रारंभ की गई पत्रकार श्रद्धानिधि योजना के अंतर्गत शुक्रवार को इंदौर प्रेस क्लब में गरिमापूर्ण समारोह का आयोजन किया गया। महापौर कृष्णमुरारी मोघे ने जिले के 10 वरिष्ठ पत्रकारों को २५-२५ हजार रुपए के श्रद्धानिधि के चेक तथा सम्मान पत्र प्रदान कर उनके द्वारा मध्यप्रदेश में पत्रकारिता के क्षेत्र में सुदीर्घ सेवा एवं अमूल्य योगदान के लिए सम्मानित किया।

इंदौर से ‘नेशनल हेराल्ड’ नहीं हो सकेंगा प्रकाशित, याचिका खारिज

इंदौर। इंदौर से ‘नेशनल हेराल्ड’ अखबार का प्रकाशन नहीं हो सकेगा, इस संबंध में लगी याचिका मप्र हाईकोर्ट की इंदौर बेंच ने खारिज कर दी है। स्वामित्व के विवाद के चलते एडीएम ने एक आदेश जारी कर ‘नेशनल हेराल्ड’ अखबार के प्रकाशन पर रोक लगा दी थी। इसके बाद विष्णु गोयल ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर पुन: इसी नाम से समाचार पत्र के प्रकाशन की इजाजत देने की मांग की थी।

सहारा समय रिपोर्टर के साथ भाजपा नेता के पुत्रों द्वारा मारपीट के केस में राजीनामा हो गया

इंदौर से खबर है कि भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के नेता कमाल खान के पुत्रों व नौकरों द्वारा मीडियाकर्मियों से मारपीट के केस में गत 29 जुलाई को ‘राजीनामा’ होने से इंदौर के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी एमके सैनी ने केस को खत्म कर दिया। मिली जानकारी के मुताबिक 14 अप्रैल 2013 को सहारा समय चैनल के रिपोर्टर भालचंद गर्दे राजबाड़ा पर कमाल भाई द्वारा आयोजित स्वागत समारोह के दौरान कथित रूप से बिजली चोरी किए जाने के शॉट बना रहे थे।

राकेश कुमार, कमलदीप, अखिलेश, रवींद्र व्यास, शमी कुरैशी के बारे में नई सूचनाएं

झारखंड बिहार के रीजनल न्यूज चैनल नक्षत्र न्यूज के न्यूज कोआर्डिनेटर राकेश कुमार ने इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने अपनी नई पारी की शुरुआत रीजनल न्यूज चैनल न्यूज11 के साथ शुरू की है. उन्हें पोलिटिकल एडिटर का पद दिया गया है. राकेश कुमार पिछले 17 साल से इलेक्ट्रानिक और प्रिंट मीडिया से जुड़े हुए हैं. वे हिंदुस्तान हिंदी, टोटल टीवी, साधना न्यूज में भी काम कर चुके हैं.

अभिलाष खांडेकर भोपाल बुलाए गए, प्रशांत दीक्षित बने दिव्य मराठी के नए स्टेट एडिटर

खबर है कि भास्कर समूह के मराठी अखबार दिव्य मराठी के स्टेट एडिटर अभिलाष खांडेकर को शंट करते हुए उनकी जगह प्रशांत दीक्षित ने ले ली है. अभिलाष खांडेकर को भोपाल बुला लिया गया है. वैसे कहा ये जा रहा है कि अभिलाष खांडेकर ही सब कुछ हैं और भोपाल से स्टेट एडिटर का काम संभालेंगे, लेकिन जमीनी हकीकत के मुताबिक स्टेट एडिटर का सारा कार्यभार प्रशांत दीक्षित ने संभाल लिया है.

मीडिया में सेक्स भी बिकता है, ये गुरुमंत्र बहुतों ने अपने कई चेलों को दिया होगा

Nadim S. Akhter :  न्यूज रूम किसी सीनियर के मुंह से सुना था कि पत्रकारिता में 3C बिकता है…यानी Crime, Cricket और …. वैसे "C" से अंग्रेजी के बहुत शब्द लिखे जा सकते हैं…एक और वरिष्ठ ने कहा था, अपने से वरिष्ठ पत्रकार खुशवंत सिंह को quote करते हुए कि खुशवंत साहब का कहना था कि वो नंगी आदिवासी महिलाओं की तस्वीरें इसिलए छापते हैं कि इससे रिस्पॉन्स अच्छा मिलता है…

दैनिक भास्कर से आया फोन, निजी मोबाइल नंबर हटाने का किया अनुरोध

Samar Anarya : अभी अभी दैनिक भास्कर से फोन आया था. फोन कर रहे साथी ने अनुरोध किया कि आपकी शिकायत पर हमने वह स्टोरी हटा ली है, अब आप निजी नंबर हटा लें बाकी कैम्पेन चलाते रहें. हाँ उन्होंने उस स्टोरी को गलत मानने से ही इन्कार कर दिया और तर्क दिया कि बाकी अखबार/चैनल भी कह रहे हैं कि उन दोनों के बीच बहुत कुछ था. ऐसे कि जैसे बहुत कुछ होने में और "गर्लफ्रेंड कर चुकी थी सेक्स" में कोई अंतर ही न हो. माफी मांगने के सवाल पर उन्होंने बहुत जेनुइनिली कहा कि इतने कम्पटीशन में यह संभव नहीं है.

PRESS CLUB CONDEMNS ARBITARY CLOSURE OF OUTLOOK MAGAZINES

: Appeals for reasonable settlement with staff : Mumbai, 3rd August, 2013 : The Press Club, Mumbai is shocked by the manner the Outlook Group has enforced a closure in its magazine units, namely Marie Claire, People and Geo. In the process, more than a 100 journalists and other non-journalist newspaper employees have been terminated in one fell swoop without so much as a formal word of intimation or compensation for the years of service.

यशवंत ने विनोद कापड़ी – साक्षी जोशी को समर्पित की अपनी पहली किताब ‘जानेमन जेल’

Yashwant Singh : सोच रहा हूं 'जानेमन जेल' किसको समर्पित करूं? जैसा अन्य लेखक करते हैं, किताब समर्पण का काम, वैसा मैं भी काम करना चाहता पर कायदे का कोई आदमी नहीं मिल रहा कि उसके नाम समर्पण करूं. माता पिता पत्नी बच्चों में से कोई इस लायक नहीं कि उनके बारे में अच्छा अच्छा लिखते हुए कहूं कि इनके बगैर किताब संभव नहीं था, इसलिए इनको समर्पित.. बचे, दोस्त मित्र तो ये साले ज्यादातर काम लगाने वाले हैं, दारू मुर्गा मेरे साथ थोड़ेंगे और मुश्किल वक्त आते ही पार्टी बदल लेंगे, इसलिए इनके नाम तो कतई नहीं..

‘डे एंड नाइट’ न्यूज चैनल का शटर गिरा, सौ से ज्यादा बेरोजगार

चंडीगढ़ से संचालित पंजाब केंद्रित न्यूज चैनल 'डे एंड नाईट' के बारे में सूचना आ रही है कि यह चैनल स्विच्ड आफ हो चुका है. चैनल के संपादक कंवर संधू ने चैनल के दफ्तर में कर्मचारियों की मीटिंग बुलाकर खुद की विदाई का ऐलान किया. संधू ने सभी से नई नौकरी ढूंढ लेने को कह दिया.

नभाटा के मेरे उत्तराखंडी वरिष्ठों ने अंग्रेज़ी के पर्चे में नकल करवा कर मुझे पास करा दिया

: (संस्मरण – पार्ट 2) : श्याम सुंदर आचार्य के प्रकोष्ठ से निकल कर मैंने दफ्तर के नीचे थडी पर चाय पी और फिर राजस्थान विश्वविद्यालय की ओर चल पड़ा, जहाँ से मेरी कई विगतस्मृतियाँ जुडी थीं और जहाँ से मुझे हॉस्टल की मेस का बिल समय पर न देने के कारण फिर से दिल्ली का रुख करना पड़ा था. यहाँ (दिल्ली में) नवभारत टाइम्स के प्रधान संपादक राजेन्द्र माथुर मेरे पिता के पुराने मित्र और परिचित थे. इस बार मैंने उन्हें कहा कि मैं रिसर्च का काम छोड़ कर दिल्ली ही चला आया हूँ, और अब पूरी तरह से उनके सुपुर्द हूँ.

दलाली की बात आप मत करो विजय झा, या फिर पहले भास्कर वालों की दलाली को देख लो

Mayank Saxena : Dainik Bhaskar के पत्रकार (तथाकथित वरिष्ठ) विजय कुमार झा वही हैं जो वेब पत्रकारिता के नाम पर सॉफ्ट पोर्न और महिला विरोधी सामग्री छापने के एक्सपर्ट हैं…देखिए ये अपने खिलाफ चल रहे अभियान पर कितनी विनम्रता से कितनी महान बात कह रहे हैं…

भास्कर की पोर्न पत्रकारिता के खिलाफ महिला आयोग में कंप्लेन दर्ज कराने पहुंचीं शीबा

Samar Anarya : Time to take our struggle against Dainik Bhaskar's Porno-journalism. Sheeba Aslam Fehmi is going to lodge a complain with National' Commission for Women against Bhaskar' misogynist story blaming the JNU victim and assignation her character on Monday, 12 pm. Join her there. The struggle is ours.

पोर्नोग्राफी को खबर बना के टीआरपी कमाने का बेशर्म आइडिया इन ज्ञान गुप्ता का है

Samar Anarya : 09811850284- यह है ज्ञान गुप्ता का नंबर. यह जनाब दैनिक भास्कर के वेब हिस्से आईकॉर्प मीडिया लिमिटेड के सीओओ हैं. पोर्नोग्राफी को खबर बना के टीआरपी कमाने का बेशर्म आइडिया मूल रूप में इन्ही के दिमाग की उपज है. विजय झा जैसे पोर्नकार तो बस उस आईडिया को अपनी कुंठा की खादपानी देते हैं.सो इन्हें फोन करें और ठीक से दें.

दिव्य मराठी से विक्रांत ने अभिलाष खांडेकर पर आरोप लगाते हुए इस्तीफा दिया, भास्कर भोपाल से सुधीर कुमार का इस्तीफा

भास्कर के मराठी अखबार दिव्य मराठी से सूचना है कि जलगांव में न्यूज एडिटर (सिटी) के पद पर कार्यरत विक्रांत पाटिल ने इस्तीफा दे दिया. चर्चा के मुताबिक विक्रांत ने दिव्य मराठी के स्टेट एडिटर अभिलाष खांडेकर को इस्तीफे का कारण बताया है. बताया जाता है कि विक्रांत पाटिल ने सुधीर अग्रवाल को एक पत्र भी लिखा है जिसमें 'दिव्य मराठी' के स्टेट एडिटर अभिलाष खांडेकर पर आरोप लगाया है कि उनकी मनमानी और जातिवाद के कारण इस्तीफा दे रहे हैं. पाटिल ने आरोप लगाया है कि जलगांव में कार्यरत आरई के चरित्र की पड़ताल किये बिना खांडेकर ने नियुक्ति की थी. आरई के खिलाफ धुलिया में क्रिमिनल एफआईआर दर्ज है.

जागरण गोरखपुर में जगनैन सिंह वापस, त्रिलोकी का धनबाद ट्रांसफर, अतुल कुशवाह ने कल्पतरू एक्सप्रेस छोड़ा

दैनिक जागरण, गोरखपुर में चल रही हलचल पर भड़ास ने जैसे ही खबर चलाई, हड़कंप मच गया. ऊपर से पूछताछ हुयी और इसके बाद डैमेज कण्ट्रोल शुरू हुआ. निकाल दिए गए सब एडिटर जगनैन सिंह नीतू को फिर से बुला लिया गया. सिद्धार्थ नगर में तैनात त्रिलोकी नाथ को बिहार की धनबाद यूनिट ट्रांसफर कर दिया गया. यह सब इसलिए किया गया क्योंकि भड़ास ने गोरखपुर में जागरण के भीतर की सच्चाई को बयाइन कर दिया था. जीतेन्द्र पाण्डेय ने इन्हीं हालात के कारण नभाटा, लखनऊ ज्वाइन कर लिया.

असंवैधानिक और अलोकतांत्रिक आधार कार्ड बनवाने के लिए शिविर लगातीं कूपमंडूक पत्रकार यूनियनें

Abhishek Srivastava : दिल्‍ली के पत्रकार और इनकी यूनियनें राजनीतिक रूप से कितनी कूपमंडूक हैं, उसका एक