न्यूज चैनल के इस एडिटर की भाषा देखिए… शर्म! शर्म!!

Priyabhanshu Ranjan : सुरेश चव्हाणके को जानते हैं? Sudarshan News नाम के ‘संघी’ चैनल का एडिटर है। सुना है कि ये प्रचार का बड़ा भूखा है। खैर, सुरेश चव्हाणके के नाम से ये मेसेज Swaraj Abhiyan के मीडिया ग्रुप में डाला गया है।

सुदर्शन में पुलिस का छापा, खुफिया बेडरूम में वीर्य के निशान, ‘काम’ पिपासु मालिक को यूं दिखाया आईना (सुनें टेप-देखें तस्वीरें)

कहने को तो सुदर्शन न्यूज चैनल हिंदुत्व और राष्ट्रवाद की वकालत करता है लेकिन अंदर की बात ये है कि चैनल मालिक सुरेश चह्वाणके का मूल एजेंडा किसी तरह अय्याशी करना है. वह हिंदुत्व और राष्ट्रवाद के नाम पर पैसे ऐंठने के साथ साथ चैनल में महिलाओं की नियुक्ति कर उनकी इज्जत लूटता है. चैनल में काम करने वाली एक महिला मीडियाकर्मी ने काम पिपासु अपने चैनल मालिक को कैसे आइना दिखाया, जानना हो तो इस टेप को सुनिए.

यौन उत्पीड़न के आरोपी सुदर्शन चैनल के मालिक सुरेश चव्हाणके के खिलाफ कई धाराओं में मुकदमा दर्ज

अपने चैनल की वरिष्ठ महिला मीडियाकर्मी के यौन शोषण और उत्पीड़न के मामले में नोएडा पुलिस ने करीब दस दिन की देरी के बाद अंतत: एफआईआर दर्ज कर लिया है. महिला मीडियाकर्मी द्वारा लिखित कंप्लेन दिए जाने के बाद नोएडा के एसएसपी धर्मेंद्र सिंह यादव ने एसपी सिटी दिनेश यादव को मामले की जांच कर रिपोर्ट देने को कहा था. एसपी सिटी ने सुरेश चव्हाणके को आफिस तलब किया और करीब छह घंटे तक बिठाकर पूछताछ की. एसपी सिटी ने पूरे मामले की रिपोर्ट तैयार कर एसएसपी को दी जिसके बाद प्रथम दृष्टया आरोपों को सच देखते हुए एसएसपी ने मुकदमा लिखने का आदेश कर दिया. एफआईआर में आसाराम के बेटे नारायण साईं को भी आरोपी बनाया गया है.