सरकार के दावों पर भरोसा करें या मीडिया पर?

नवभारत टाइम्स की वेबसाइट पर ही एक खबर छपी है जिसका शीर्षक है- ये हैं देश के 10 कोरोना हॉटस्पॉट्स जहां लगातार बढ़ रहे हैं कोविड-19 के मरीज।

पत्रकारों को नापने वाले बीएन सिंह का यूं नपना!

पत्रकारों की हाय वैभव कृष्ण के बाद बीएन सिंह भी निपट गए… “वक़्त की हर शै गुलाम, वक़्त की हर शै पे नाज, वक्त से डरता रह ऐ मुलाजिम, न जाने कब बदले वक्त का मिजाज” यह लाइन आज बरबस तब याद आ गयी जब सीएम योगी के नोयडा दौरे के दौरान वहां के डीएम …

कोरोना पर मीडिया में शोर अब थम जाएगा, जो दिखाना था दिखा लिया गया!

क्या मीडिया में लॉकडाउन की परेशानी का शोर अब थम जाएगा…. मेरा मानना है कि कोरोना पर मीडिया में शोर अब थम जाएगा। जो दिखाना था दिखा लिया गया। अब मजदूरों के पलायन की चर्चा रुक जाएगी। राहत सामग्री बंटने की खबरें दिखेंगी और अब सब ठीक बताया जाएगा। इसका कारण यह है कि सरकार …

नफरत फैलाने वालों के खिलाफ लिखने पर पुलिस ने सोशल एक्टिविस्ट को थाने में बिठाया

अभी अभी सोशल एक्टिविस्ट साथी अजीत साहनी का फ़ोन आया। बता रहे थे कि उनकी एक पोस्ट के लिए पहले प्रशासन के अधिकारी का उनके पास फ़ोन आया और अब रामनगर में उनके इलाक़े के थानेदार ने उन्हें बुलाकर अपने थाने पर बैठा लिया है।

न्यूज़18यूपी वालों ने तो बीएन सिंह को सस्पेंड बता दिया!

नोएडा के डीएम बीएन सिंह को सस्पेंड नहीं किया गया। उनका तबादला हुआ। योगी की फटकार के बाद बीएन सिंह ने खुद 3 माह की छुट्टी मांगी थी। इससे सम्बंधित उनका पत्र मीडिया में वायरल भी हुआ। बीएन सिंह को राजस्व परिषद में स्थानांतरित किया गया।

कोरोना से जंग में फिलहाल फेल है मोदी सरकार, बता रहे रवीश कुमार

भारत में कोरोना मरीज़ कम हैं या भारत टेस्ट ही नहीं कर पा रहा है? 29 फरवरी को भारत में कोरोना संक्रमण के 3 मामले थे। 30 मार्च तक यह संख्या 1,251 हो गई। 30 मार्च को 227 नए मामले सामने आए। अभी तक 24 घंटे के भीतर इतनी संख्या कभी नहीं बढ़ी थी।

सीएम योगी की फटकार के बाद डीएम नोएडा ने मांगी छुट्टी, नए डीएम की तैनाती

सीेएम के ख़िलाफ़ बग़ावत करने वाले डीेएम बीएन सिंह राजस्व परिषद से अटैच. सुहास एल वाई नोएडा के नए डीेएम.

जिस केमिकल से बसों को सैनिटाइज करना था, फायर ब्रिगेड वालों ने उससे विस्थापितों को नहला दिया! देखें वीडियो

अभी एक विडियो देखा! दिल्ली से घर की तरफ जा रहे मजदूरों को बरेली पहुँचने पर प्रशासन द्वारा सड़क पर बिठाकर दवाई घुले पानी की बौछार से कोरोना-फ्री किया जा रहा है! अभी खबर मिली कि ये फायर ब्रिगेड की बसों को सैनिटाइज़ करने के लिये था. अब अधिकारियों के ख़िलाफ़ कार्यवाई की जाएगी!

बुलंदशहर पुलिस को आजकल एक ‘सफेदपोश पत्रकार’ चला रहा!

ऊपर अखबार में जो प्रकाशित है, वो ख़बर अधूरी है। इसके आगे की कहानी ये है कि सफेदपोशों ने जिले के आला पुलिस अफसर पर दबाव बनाकर पुलिस से दुर्व्यवहार-मारपीट करने वाले और लॉक डाउन में खुलेआम शराब पीकर कार दौड़ाते हुए हंगामा करने वालों को थाने से छुड़वा लिया। दारू बीयर से भरी जिस …

लॉक डाउन फेज 2 भी होगा? TOI और भास्कर की अलग-अलग राय

आज के दैनिक भास्कर ने एक खबर को प्रमुखता से छापा है जिसका शीर्षक है- लॉकडाउन 2.0 की सिफारिश भी… । इस खबर में कहा गया है कि 18 अप्रैल से 31 मई तक दूसरा लॉकडाउन होने पर ही हालात सामान्य हो सकते हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए देश को लॉकडाउन …

न्यूज़ नेशन से अब इस पत्रकार का इस्तीफा

न्यूज़ नेशन के रीजनल चैनल न्यूज़ स्टेट (एमपी सीजी) से मॉर्निंग शिफ्ट इंचार्ज और एसोसिएट सीनियर प्रोड्यूसर अनुराग सिंह ने इस्तीफा दे दिया है. अनुराग सिंह न्यूज़ नेशन के रीजनल चैनल एमपी सीजी की लांचिंग टीम में थे.

ग़ाज़ीपुर जिले में भी फंसे हैं सैकड़ों मजदूर, देखें वीडियो

लॉक डाउन के चलते देश भर में गरीबों-मजदूरों के फंसे होने और पैदल ही सैकड़ों किलोमीटर चलते जाने के दृश्य आम हो चुके हैं. यूपी के गाजीपुर जिले में भी रोडवेज बस अड्डे पर सैकड़ों गरीब अपने घर-गांव जाने के लिए किसी साधन के इंतजार में बैठे हुए हैं. किसी को प्रतापगढ़ जाना है तो …

हतप्रभ करती है तुगलक और मोदी की साम्यता!

Ashwini Kumar Srivastava : हतप्रभ करती है तुगलक और मोदी की साम्यता! चकित करने मगर जनता/ देश की आर्थिक तबाही लाने वाली औचक नोटबंदी/ मुद्राबंदी का फैसला, फिर देशभर में अफरातफरी, अराजकता… महामारी से यूरोप में बड़े पैमाने पर मौत, उसी महामारी का भारत में भी प्रसार, उस महामारी से भारत में भी मौतें, महामारी …

प्रसार भारती की अध्यक्ष रही मृणाल पांडेय के इस ट्वीट पर भड़क उठा ये पत्रकार!

Dayanand Pandey : प्रसार भारती की अध्यक्ष रही किसी महिला की भाषा इतनी तुच्छ, इतनी टुच्ची भी हो सकती है, नहीं मालूम था। लेकिन मृणाल पांडे की नीचता और तुच्छता की यह पराकाष्ठा है , इस ट्वीट में। हिंदी की महत्वपूर्ण लेखिका शिवानी की बेटी मृणाल पांडे जब हिंदुस्तान अखबार में संपादक थीं, तभी पूरे …

प्रवासी मज़दूरों के बहिर्गमन की इस त्रासदी को इतिहास सदियों तक दर्ज करेगा (देखें वीडियो)

Satyendra PS : एक मुहम्मद बिन तुगलक था जो दिल्ली से दौलताबाद राजधानी ले गया और उसने आदेश दिया कि सभी दिल्लीवासी दौलताबाद चलें। कुछ इसी तरह का दृश्य बना होगा उस समय। आधी आबादी रास्ते में ही मर गई तब शायद उसने राजधानी की जगह बदलने की योजना टाल दी थी।

मुसहरों द्वारा घास खाने की खबर पर डीएम साहब हुए नाराज, पढ़िए चिट्ठी

Vijay Shanker Singh : जनसंदेश टाइम्स अख़बार के संपादक और संवाददाता को भुखमरी के चलते मुसहर समुदाय के बच्चों के घास खाने की ख़बर छापने पर कानूनी कार्रवाई की गैर कानूनी धमकी दी गई है। जनसंदेश टाइम्स ने बनारस के पिंडरा तहसील बड़ागांव थानांतर्गत कोइरीपुर गांव में मुसहरों के बच्चों का अंकरी की घास खाते …

सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को डिलीट करना पड़ा अपना ट्वीट, देखें क्या लिखा था

Lalit Surjan : प्रकाश जावड़ेकर रामायण सीरियल देखते हुए अपनी तस्वीर साझा कर रहे हैं, मेडिकल डॉक्टर संबित पात्रा घर से बाहर न निकलने की घोषणा कर रहे हैं, और पूर्व सांसद-पत्रकार बलबीर पुंज कह रहे हैं कि ये पैदल जाते लोग घर छुट्टियाँ मनाने जा रहे हैं. इसके बाद भी मोदीजी कहते हैं कि …

संघी पत्रकार और सांसद रहे बलबीर पुंज के इस ट्वीट पर हो रही उनकी आलोचना!

Ashok Kumar Pandey : ये बलबीर पुंज हैं। दो बार राज्यसभा के सदस्य रह चुके हैं। सारी उमर संघ के लिए अख़बारों में दो कौड़ी के लेख लिखे हैं। कह रहे हैं कि जो हज़ारो मज़दूर सड़कों पर मीलों चल रहे हैं वे असल में छुट्टी मनाने घर जाना चाहते हैं! अगर आपको लगता है …

इधर है कोरोना, तो उधर आर्थिक तबाही!

Ashwini Kumar Srivastava : जरा सम्भल कर दुनिया… इधर है कोरोना, तो उधर आर्थिक तबाही! आर्थिक तबाही को स्वीकार कर कोरोना से निपटने के लिए चीन और इटली के सब कुछ ठप यानी लॉक डाउन के रास्ते पर चल पड़ा भारत.. क्योंकि मोदी को पता है भारत की स्वास्थ्य सुविधाओं की कड़वी हकीकत… खुद मोदी …

पोस्ट करोना हिंदुस्तान कैसा होगा!

Anand Jain : पोस्ट करोना हिंदुस्तान कैसा होगा – १. ३ महीने बाद जब लॉकआऊट हटेगा, तब 50% – 60% प्रतिशत रेस्टॉरेंट बंद हो चुके होंगे. किराया अफोर्ड नहीं कर पायेंगे, मैनपावर छोड़ कर चला गया होगा और दोबारा शुरू करने के लिये पूंजी नहीं बचेगी.

यह पलायन देश में लॉक डाउन के मकसद को असफल कर देगा!

Abhishek Parashar : पहले तैयारी कर राष्ट्र के नाम संबोधन होना चाहिए था. देश में हर व्यक्ति के पास संसाधनों को जमा करने की हैसियत नहीं थी. लेकिन नहीं राष्ट्र के नाम संबोधन जरूरी था और नतीजा, अप्रत्याशित स्तर पर मजदूरों का पलायन शुरू हो गया. यह हड़बड़ी में की गई नोटबंदी की तरह ही …

लॉक डाउन : भूखे पेट सो रहे मुसहर जाति के ये 6 परिवार!

झारखंड समेत पूरे देश में लॉकडाउन की सबसे ज्यादा मार यदि किसी को पड़ी है, तो वो हैं गरीब और पिछड़ी जाति के लोग. गढ़वा जिला में मुसहर जाति के 6 परिवार के दो दर्जन लोग भूखे पेट सोने के लिए विवश हैं. मामला खरौंधी प्रखंड के बैतरी मोड़ की है. मुसहर जाति के ये …

सनसनी फैलाने वाले दैनिक भास्कर पर अबकी अस्पताल प्रशासन ने झूठ छापने का आरोप लगाया, पढ़ें पत्र

जयपुर। जब पूरा देश कोरोना के खिलाफ जंग में चिकित्सकों का आभार जताने में लगा है, वहीं जयपुर में दैनि भास्कर पर प्रतिष्ठित एसएमएस अस्पताल की छवि खराब करने के आरोप लगे हैं। ये आरोप एसएमएस के चिकित्सा अधीक्षक द्वारा लगाए गए हैं।

कोरोना और सिनेमा : क्या होगा यदि आपको पता चल जाए दुनिया कुछ दिनों में खत्म होने वाली है!

क्या होगा यदि आपको पता चल जाए कि यह दुनिया कुछ दिनों में खत्म होने वाली है। कोरोना वायरस के कारण दुनिया भर में जो जान – माल की क्षति हुई है, वह डराने वाली है। ऐसा तो द्वितीय विश्व युद्ध में भी नहीं हुआ। दुनिया की सभी बड़ी अर्थव्यवस्थाएं खतरे में पड़ गई है। …

‘जी’ वाले दिलीप तिवारी अपने स्टाफ को आफिस में ही कैद रखेंगे, पढ़ें मैसेज

जी ग्रुप के कई रीजनल न्यूज चैनलों के सीईओ दिलीप तिवारी की तरफ से चैनल स्टाफ को एक मैसेज भेजा गया है जिसमें सभी को आफिस में ही रहने को कहा गया है ताकि लगातार काम करते रह सकें. स्टाफ से कहा गया है कि वे कपड़े चद्दर तकिया आदि लेकर आएं और फिर आफिस …

योगी सरकार की सख्ती के बाद भी कालाबाजारियों-जमाखोरों के हौसले पस्त नहीं

अजय कुमार, लखनऊ लखनऊ। एक तरफ कोरोना वायरस के चलते मानवता पर संकट गहरा रहा है। वहीं कुछ लोग इसमें भी फायदा तलाशने में लगे हैं। बात जमाखोरों और मंहगे दाम पर राशन-फल, सब्जी आदि रोजमर्रा के सामान बेचने वालों की मुनाफाखोरी की हो रही है। इसी तरह से नकली स्नेटाइजर और मास्क की भी …

लॉकडाउन प्रेस पास, जिम्मेदार पत्रकार और मेरे जैसे छुटभैये की व्यथा

उत्‍तर प्रदेश पत्रकारों से भरा-पूरा राज्‍य है. यहां पत्रकारों की थोक उपलब्‍धता प्रचूर मात्रा में है. यहां प्रत्‍येक जिले में मेड़-पगडंडी, खेत-खलिहान, गली-मोहल्‍ले से लगायत नेशनल-इंटरनेशनल स्‍तर तक के झऊआ भर पत्रकार कहीं भी आसानी पाये जा सकते हैं. पाठक और दर्शक की भले ही कमी हो जाये, लेकिन किसी भी जिले में पत्रकारों की …

इंदौर से पहले हिन्दूवादी दैनिक अखबार की तैयारी!

‘एकात्म भारत’ होगा नाम, राम नवमी से हो सकता है शुरू इंदौर. हिन्दूवादी कार्यकर्ताओं को लिए एक नया प्रयोग हो रहा है। उनके लिए एक नया दैनिक अखबार जल्द ही आने वाला है। एकात्म भारत नाम के इस अखबार की तैयारियां हो गई हैं और संभवत: राम नवमी के अवसर पर इसे प्रारंभ होने की …

इनफेक्शन झेलते रहने वाले मजबूत भारतीय कोरोना पर पड़ेंगे भारी! देखें वीडियो

Yashwant Singh : कोरोना कांड पर मुझे ऐसे किसी भारतीय डाक्टर को सुनना था जो चीजों को जन सरोकार के पहलू से परत दर परत उघाड़-बता सके.

कोरोना से भी ज्यादा खतरनाक सिद्ध हो सकता है यह लाकडाउन, रेलें-बसें तुरंत चलाएं!

लाकडाउन यानि तालाबंदी की ज्यों ही घोषणा हुई, मैंने कुछ टीवी चैनलों पर कहा था और अपने लेखों में भी पहले दिन से लिख रहा हूं कि यह ‘लाकडाउन’ कोरोना से भी ज्यादा खतरनाक सिद्ध हो सकता है।

कोरोना से लड़ने के लिए सरकार सभी नागरिकों को प्रति माह 15,000 रुपये ट्रांसफर करे!

भारत के गरीब नागरिकों पर कोविद-19 महामारी के प्रकोप को कम करने के लिए भारतीय वित्त मंत्रालय ने 1.7 लाख करोड़ का पैकेज का घोषित किया हैं I लेकिन सोशल सिक्यूरिटी नाउ (SSN) का कहना हैं कि यह पैकेज अपर्याप्त और अपमानजनक है क्योंकि इसके तहत लाभार्थियों के खाते में मात्र 1000 रुपए ही प्रतिमाह …

कोरोना से जंग लड़ रहा आईटीवी ग्रुप अपने कर्मियों को सेलरी कब देगा?

इंडिया न्यूज चैनल संचालित करने वाले आईटीवी नेटवर्क के फाउंडर कार्तिकेय शर्मा कोरोना वायरस को लेकर देश के संपादकों-मीडिया मालिकों से पीएम की बातचीत में शामिल होते हैं। पर अपने यहां के कर्मियों का तीन-तीन माह का पगार रोके हुए हैं।

कोरोना पीड़ितों की संख्या के मामले में चीन से भी आगे बढ़ गया अमेरिका, टेस्ट हुआ तो क्या भारत सबको पछाड़ देगा?

Ravish Kumar : एक दिन में बढ़ गए कोरोना के 10,000 मामले, आखिर क्यों पिछड़ गया अमरीका लड़ाई में.. अमरीका में एक दिन में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज़ों की संख्या 10,000 बढ़ गई है। इस छलांग से अमरीका चीन और इटली से भी आगे निकल गया है। अमरीका में संक्रमित मरीज़ों की संख्या 85,500 …

टीवी9 ने न्यूज24 को पीछे किया, अंबानी के चैनल का महापतन, एबीपी न्यूज ने लगाई छलांग

इस साल के ग्यारहवें हफ्ते की टीआरपी के आंकड़े बताते हैं कि कई न्यूज चैनल उपर नीचे हुए हैं. अंबानी का चैनल न्यूज18इंडिया को धड़ाम होना पड़ा है. पूरे एक अंक टीआरपी गिरी है.

अभिताभ बच्चन और सचिन तेंदुलकर में मानवीयता बची हो तो मजदूरों की मदद को आगे आएं

सर आपके इस पेज पर लगभग प्रतिदिन हजारों पोस्ट आते होंगे, आपके इस पेज के जरिये लोग अपनी समस्या को लिखते है।

लॉकडाउन में टाटा स्काई का फिटनेस चैनल फ्री में देखिए

डीटीएच प्लेटफार्म टाटा स्काई ने लाक डाउन के दौरान घर में कैद भारतीयों को समय खर्चने व सेहत बनाने के लिए एक नायाब तोहफा दिया है.

लॉक डाउन की मूल भावना का उल्लंघन करते हुए प्रभात खबर पटना के प्रबंधन का तुगलकी फरमान

प्रभात खबर पटना के प्रबंधन के तुगलकी फरमान से इस संस्थान में काम करने वाले मार्केटिंग सेक्शन के कर्मियों के परिजन वैश्विक महामारी कोरोना की चपेट में आने के भय से परेशान हैं. कर्मी नौकरी चले जाने के डर से भयभीत हैं.

लाकडाउन – मदद मांगने पर झारखंड में आदिवासी लड़की का सामूहिक बलात्कार

देश में लाकडाउन से एक तरफ हर तबका परेशान है, तो वहीं दूसरी तरफ झारखंड में मानवता को शर्मसार करने वाली घटने घटी है। जिसपर विश्वास करके लड़की ने अपने मदद के लिए जिसे बुलाया, उसी ने मौके का फायदा उठाकर अपने 9 दोस्तों के साथ जंगल में लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार जैसा जघन्य …

जुम्मे की नमाज घर पर पढ़ी गई

अजय कुमार, लखनऊ लखनऊ। कोरोना वायरस से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंस बनाए रखने के लिए आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड, देवबंद और तमाम मुस्लिम उलेमाओं की अपील के बाद मस्जिदों में नमाज का सिलसिला थमता जा रहा है। लोग घरों में ही इबादत कर रहे हैं। आज जुम्मे की नमाज के दिन भी …

संकट की इस घड़ी में मीडिया न करे सोशल पुलिसिंग

संजय सक्सेना, लखनऊ लखनऊ। एक तरफ कोरोना का खौफ बढ़ता जा रहा है तो दूसरी तरफ कुछ समाचार चैनलों के एंकर स्टूडियों में बैठकर पुलिस को सोशल पुलिसिंग का पाठ पढ़ाने में लगे हैं। वह पुलिस को बता रहे हैं कि उन्हे लाक डाउन का उल्लंघन करने वालों के साथ कैसा व्यवहार करना चाहिए।

पीएम ने पत्रकारों को किया निराश, ना कोई आर्थिक मदद घोषित की और ना ही बीमा कवर में शामिल किया!

पीएम साहब ! लॉकडॉउन में बेरोजगार हो गए हैं तमाम पत्रकार वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना संक्रमण के दौरान किए गए लाक डाउन के दौरान जनता को राहत देने के लिए कई पैकेज घोषित किए हैं। इसमें गरीब मजदूर किसान व महिलाओं का ध्यान तो रखा गया है लेकिन पत्रकारों के लिए ना तो …

अगर आप सक्षम हैं तो अपने घर के आगे ‘Free Food मुफ्त भोजन’ का बोर्ड लगा दें!

Ravish Kumar : बिहार के बेगूसराय के आकोपुर के सुरेंद्र शर्मा जी को बधाई। अपने साथ काम करने वाले दैनिक मज़दूरों को अनाज दिया है। इसमें नमक, तेल, आलू, बड़ी, आटा, चावल, दाल और सोयाबीन है। दूसरी तस्वीर देहरादून के सरफराज की है। अपने घर के बाहर दिहाड़ी मज़दूरों के लिए मुफ़्त भोजन का बोर्ड …

एक वरिष्ठ पत्रकार जब अपने आसपास की झुग्गियों में पहुंचे तो ये हाल दिखा! देखें वीडियो

कोरोना बनाम भूख – बड़ा वायरस कौन? Vinod Kapri : कोरोना से पहले भूख मारेगी… यूपी के नोएडा की झुग्गियों में आज क़रीब 100 परिवारों से मिला।सभी दिहाड़ी मज़दूर हैं।दिन के 300-400₹ मिलते थे तो जीवन चलता था।हफ़्ते दस दिन से कोई काम नहीं,ना कोई दिहाड़ी। इन परिवारों ने बताया कि अब इनके पास एक …

लॉक डाउन के चलते मुंबई में फंसे RSS से जुड़े एक बनारसी पत्रकार की पीएम के नाम लिखी चिट्ठी पढ़िए

‘मुस्लभयथरथरोग’ ये संघ वाले अपने आदमियों में मुसलमान फैक्टर इतना घुसेड़ देते हैं कि ताउम्र इनका बंदा ‘मुस्लभयथरथरोग’ से पीड़ित रहता है. देखिए जरा इस चिट्ठी को. सब कुछ ठीक लिखा है. आप संकट में हैं. प्रधानमंत्री जी आपको मदद दें-दिलाएं. जो मित्र इसे देख पढ़ रहे हों, वो भी मदद कर दें. पर आपने …

क्या योगीजी कानून के ऊपर हैं?

Nutan Thakur : प्रधानमंत्री जी ने कहा कोई भी घर से बाहर नहीं निकलेगा- प्रधानमंत्री से लेकर छोटा से छोटा नागरिक तक. ये भी कहा- जो पालन नहीं करेगा उस पर कानूनी कार्यवाही होगी. प्रधानमंत्री के ऐलान की अगली सुबह ही सीएम योगी आदित्यनाथ पूरे लाव लश्कर के साथ अयोध्या गए और दर्जनों लोगों के …

भारत में सरकारी रेडियो और टीवी का प्रसारण सीमित किया गया, देखें लिस्ट

कोरोना ले डूबा दूरदर्शन का Terrestrial प्रसारण… देश के सैकड़ों रिले ट्रांसमीटरों में लॉक डाउन…. लॉक डाउन की चपेट में मीडिया के न आने की बात कहने वाली मोदी सरकार ने दूरदर्शन और रेडियो की दूरस्थ सेवाओं को रोक दिया है. सैकड़ों रिले ट्रांसमीटर्स से प्रसारण बंद करने का आदेश जारी कर दिया गया है.

महाराष्ट्र में समाचार पत्रों का प्रकाशन 31 मार्च तक बन्द

देश की आर्थिक राजधानी मुम्बई सहित पूरे महाराष्ट्र में पहली बार ऐसा हुआ है कि समाचार पत्रों का प्रकाशन लगातार हफ्ते भर से ज्यादा दिनों के लिए स्थगित रखना पड़ा हो। नई जानकारी के मुताबिक महाराष्ट्र के अखबारों को अब 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है।

इस वरिष्ठ पत्रकार का कोरोना टेस्ट रिजल्ट पॉजिटिव आया

भोपाल : 25 मार्च 2020 मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी श्री सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि विगत दिनों कोरोना संक्रमण पॉजिटिव पाई गई लड़की के पिता का कोरोना संक्रमण सेम्पल भी पॉजिटिव आया है।

घरों में सप्लाई का सपना दिखा योगी हुए पूजा में लीन, पुलिस ज़रूरतमन्दों पर लट्ठ बजा रही!

इधर पुलिसिया आतंक से घबरा कर ऑनलाइन डिलीवरी करने वाली कंपनियों ने भी छोड़ दिया जनता का साथ फ्लिपकार्ट और अमेजॉन की तरह लगभग हर किसी ने करनी शुरू कर दी डिलीवरी में आनाकानी आसपास के दुकानदार भी घर पर सामान पहुंचाने से साफ कर रहे मना मजबूर होकर जनता जब निकल रही जरूरत का …

21 दिन ही क्यों? Lockdown एक cycle बढ़ाना पड़ेगा!

कोरोना pandemic ने आम जन को बहुत से नए शब्दों से अवगत कराया है किंतु इनका सही अर्थ बहुतों को नहीं पता होगा साथ ही सरकार ने 21 दिन की ही तालाबंदी क्यों की 20 या 23 दिन की क्यों नहीं जैसे विचार भी आते होंगे मन में। तालाबंदी, भीड़ कम करना क्या कोई नई …

भोपाल के पत्रकारों को क्वारेंटाइन में जाने की सलाह!

मप्र सरकार ने 20 मार्च को मुख्यमंत्री कमलनाथ की पत्रकार वार्ता में शामिल सभी पत्रकारों को 14 दिन के क्वारेंटाइन में जाने को कहा है।

दैनिक भास्कर में भी रद्द हुई कर्मियों की छुट्टियां, मच्छर मार फूंक कर भगा रहे कोरोना, देखें तस्वीरें

पत्रिका समूह की तरह दैनिक भास्कर ने भी अपने मीडियाकर्मियों की छुट्टियां रद्द कर दी हैं. भास्कर प्रबंधन ने सबको बोला है कि “रोज़ आना होगा काम पर”. अब किसी को भी नहीं मिलेगा वीकली ऑफ़. अगले आदेश तक सबको रोज रोज आफिस जाकर काम करना होगा.

कोरोना टेस्ट किट में क्या घपला है भाई! देखें ये वीडियो

कोरोना टेस्ट किट सप्लाई में भारतीय कंपनियों की अनदेखी क्यों? कोरोना वायरस की जाँच के लिए स्तेमाल में आने वाली किट की सप्लाई पर विवाद उठ खड़ा हुआ है. सरकार ने पहले अमरीका से ज्वाइंट वेंचर लाई अहमदाबाद की एक कंपनी को लायसेंस दिया और जब तक भारतीय कंपनियों की किट आती हर टेस्ट के …

क्या अखबार में भी घुसकर आ जाता है कोरोना?

Satyendra PS : कोरोना को लेकर इतनी दहशत है कि हमारी बिल्डिंग में लोगों ने अखबार पढ़ना भी बन्द कर दिया है। लोगों का कहना है कि कोरोना अखबार में भी घुसकर आ जाता है।

एक जरूरी पोस्ट- लॉक डाउन से दिल्ली-लखनऊ में कोई परेशान हो तो उसे ये जरूर बताएं!

Indu saxena : लखनऊ में बहुत लोग इस बंदी के कारण कई दिनों से भूखे सो रहे हैं. जो लोग लखनऊ में बाहर से पढ़ने कमाने या और काम के चलते आए हैं, जिनके पास इंतजाम नहीं है, बहुतों के पास खाने का ठिकाना नहीं है, ऐसे लोग बहुत बुरी तरीके से लखनऊ में फंसे …

हर समस्या के लिए पब्लिक को जिम्मेदार ठहराने वाले इस हरामखोर मिडिल क्लास को पहचानिए!

Tara Shanker : 21 दिन का लॉक डाउन सुनते ही लोग राशन की दुकानों पर टूट पड़ें हैं! कौन हैं ये लोग? ग़रीब-मजदूर और लोअर क्लास ही अधिकतर होंगे! क्योंकि बेशर्म-बेगैरत-हरामखोर मिडिल और अपर क्लास अपना राशन अपने उपभोग सीमा से अधिक हफ्ते भर पहले ही घर में ठूंस चुका होगा! इतना कि ऑनलाइन स्टोर …

क्या मोदीजी नहीं समझते हैं कि इसके बिना लॉक डाउन फेल हो जाएगा?

Lal Bahadur Singh : क्या मोदी जी अपने देश को नहीं जानते! उनसे हमारा बुनियादी मत-विरोध है, पर इस पर मुझे कभी शक नहीं रहा कि वे इस देश को काफी जानते-समझते हैं। हमारी भौतिक-आर्थिक स्थिति, हमारे स्वास्थ्य सेवाओं का हाल, हमारी जनता की रोजी-रोटी का हाल, उसका मनोविज्ञान, उसकी वैचारिक-सांस्कृतिक स्थिति, इस सबकी उनकी …

दुनिया भर से लॉकडाउन की खबरें थीं, हमारी सरकार ने तैयारी क्यों नहीं की?

Samar Anarya : भारत में कोरोना वायरस का पहला मामला 30 जनवरी को मिला था। बक़ौल स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन 2 फ़रवरी से मोदी जी ख़ुद ही निगरानी कर रहे थे। ये भूल जाइए कि 2 फ़रवरी से आज आधी रात को हुए लॉकडाउन से पहले क्या क्या हुआ- लिट्टी चोखे का आनंद, ट्रम्प का …

दैनिक भास्कर के राजस्थान संपादक लक्ष्मी प्रसाद पंत की पत्रकारिता पर किताब आई ‘न्यूजमैन @ वर्क’

दो दशक लंबी पत्रकारिता के अनुभवों को वरिष्ठ पत्रकार लक्ष्मी प्रसाद पंत ने किताब ‘न्यूजमैन @ वर्क’ में आवश्यक संवेदनशीलता के साथ पेश किया है। पत्रकारिता की चुनौतियों को समझने के लिहाज से ये जरूरी किताब है…

सीएम को एक शिक्षक का खुला पत्र : कुशाभाऊ ठाकरे का नाम हटाना चंदूलाल जी का सम्मान नहीं!

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नाम प्रोफेसर संजय द्विवेदी का खुला पत्र

रोहित सक्सेना ने की नीरज गुप्ता के साथ मीडिया ग्रुप की घोषणा

दो दशक से ज़्यादा मीडिया के प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक प्रारूपों को अपनी सेवाएं दे चुके रोहित सक्सेना ने दस वर्षो से ज़्यादा पार्लियामेंट्री बिजनेस (Parliamentary Business) के तहत सांसदों पर रिसर्च कर रहे श्री नीरज गुप्ता के साथ इसे अब मीडिया हाउस का रूप दिया है। श्री सक्सेना इस ग्रुप में सीईओ और मैनेजिंग एडिटर …

लॉक डाउन में फंसे टीवी पत्रकार को चैनल वाले ने निकाल दिया!

वैभव श्रीवास्तव नवतेज टीवी नामक चैनल में काम करते हैं. वे कोरोना को लेकर सतर्कता बरतते हुए सरकार के दिशा-निर्देशों का पूरी तरह पालन कर रहे हैं. जनता कर्फ्यू से लेकर लॉक डाउन तक का पालन किया व कर रहे हैं. पर उनके न्यूज चैनल ने बजाय उन्हें सपोर्ट करने और कोरोना से निपटने के …

बिना योजना मोदीजी ने फिर भगदड़ मचा दिया… अबकी किसान, आदिवासी और बेरोजगार भुगतेंगे!

हमारे शहर कोंडागांव (छत्तीसगढ़) में लाक डॉउन तोड़ने के अपराध में नगरपालिका ने पहली कानूनी कार्यवाही करते हुए एक दुकानदार पर दो हजार रुपये का जुर्माना किया गया। बाकायदा रसीद भी काटी गई। हम सभी को लगा कि यह अच्छी और जरूरी कार्यवाही थी। लोगों ने इस कार्यवाही की तारीफ भी की। सुनने में यह …

दुश्मन से भी विनम्रतापूर्वक संवाद कायम करना शिवराज की दुर्लभ शैली!

मध्यप्रदेश से कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार का तो जाना पहले दिन से ही तय था, पर इसकी कल्पना तक न थी कि नये मुख्यमंत्री ऐसे भुतहे सन्नाटे में शपथ लेंगे जब पंडाल के ऊपर करोना महामारी भय बनकर बैठी होगी। शिवराजसिंह चौहान की यह चौथी पारी इसी सन्नाटे और मौत के भय से …

दलित उत्पीड़न में उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय स्तर पर आगे

पिछले वर्ष राष्ट्रीय अपराध ब्यूरो (NCRB) द्वारा जारी रिपोर्ट क्राइम इन इंडिया- 2018 लगभग एक वर्ष के विलम्ब से जारी की गयी है जिसमें अन्य अपराधों के साथ साथ अनुसूचित जातियों के विरुद्ध अपराध एवं उत्पीड़न के आंकड़े भी जारी किये गए हैं. इन आंकड़ों से जहाँ एक तरफ उत्तर प्रदेश में इन वर्गों के …

कोरोना, मजीठिया और बंदी : ‘हमारा महानगर’ कर्मियों को दोहरी ‘सजा’ दे दी भाजपा विधायक RN Singh ने! पढ़ें ये पत्र

मुंबई समेत कई शहरों से प्रकाशित अखबार हमारा महानगर के बंद कर देने की असली कहानी अब धीरे धीरे सामने आ रही है. इस अखबार के मालिक आरएन सिंह बीजेपी के विधायक भी हैं. ये सिक्योरिटी एजेंसी चलाते चलाते अखबार मालिक बने और फिर विधायक. उत्तर भारतीयों के नेता कहे और माने जाते हैं.

डिजिटल कुशलता और उद्यमिता

बेरोज़गारी, गरीबी और अभाव ऐसी स्थिति है जिससे हर कोई बचना चाहेगा। बहुत मेहनत के बावजूद भी बहुत से लोग गरीबी और अभावों का जीवन जीते हैं। अक्सर लोग अपनी स्थिति से समझौता करके गरीबी को अपनी किस्मत मान लेते हैं, दरअसल उन्हें मालूम ही नहीं होता कि ऐसे कौन से उपाय हैं जिनकी सहायता …

हिंदी भाषी प्रदेशों में फील्ड जर्नलिस्ट चाहिए, लखनऊ में डेस्क टीम

एक ऐसे दौर में जब मीडिया की विश्वसनीयता संदिग्ध हो गयी है, एक नये मीडिया मंच का उदय हो रहा है। भारतीय संविधान की प्रस्तावना ‘We, The People Of India’ की टैग लाइन के साथ ‘TheDesh’ नाम के इस मीडिया वेंचर से देश के कई ऐसे बड़े चेहरे जुड़ रहे हैं, जिनकी टीवी/ प्रिंट/ डिजिटल …

ये प्रियदर्शन पीडी नामक पत्रकार तो ‘आजतक’ के पत्रकार नवीन की पिटाई को ही जायज ठहराने लगा!

Samarendra Singh : कुत्ता कुत्ते का मांस नहीं खाता. लेकिन इन पत्रकारों की बात ही कुछ और है! ये भी पत्रकार हैं. दो-चार बार मैंने भी इनसे हाथ मिलाया है. लेकिन आज अफसोस हो रहा है. आप इनका लिखा पढ़िए. बस यह जानने और समझने के लिए पढ़ लीजिए कि ऐसे भी पत्रकार होते हैं. …

पत्रकार पिटाई कांड : वर्दी पहनने के बाद एक शख्स इंसान से जानवर कैसे बन जाता है?

Samarendra Singh : आज जब से मैंने अपने दोस्त और वरिष्ठ पत्रकार Navin Kumar के साथ हुई खौफनाक वारदात के बारे में पढ़ा है तभी से सदमे में हूं. इस दिल्ली पुलिस के क्रूर चेहरे से हममें से बहुतेरे वाकिफ हैं. मैं तो खुद इनका शिकार हो चुका हूं. बात करीब एक दशक पुरानी है. …

‘आजतक’ के पत्रकार नवीन कुमार को दिल्ली पुलिस ने बुरी तरह पीटा, मीडियाकर्मी स्तब्ध

Ravish Kumar : बहुत दुखद है। दिल्ली पुलिस को क्या हो गया है। इतनी सी बात पर नवीन कुमार को इतना मारा ? कोई तो बताएगा कि वह क्या है. ख़ासकर तब जब लॉक डाउन है। इसमें पत्रकार को छूट है तो वो बताएगा ही पत्रकार है इसलिए निकला है। इतनी बात पर इतना मारा …

नोएडा के पुलिस अफसरों के खेल की चर्चा लखनऊ तक पहुंची, नूतन ठाकुर का शिकायती पत्र पढ़ें

दिनांक 22/03/2020 पत्रांक संख्या- NT/Complaint/30/20 सेवा में, श्री एच सी अवस्थी, डीजीपी, उत्तर प्रदेश, लखनऊ

डॉ लोहिया एक वैकल्पिक व्यवस्था की खोज में थे

डॉ राममनोहर लोहिया के जन्मदिवस पर विशेष : डॉ लोहिया का जीवन और चिंतन दोनों एक प्रयोग था। यदि महात्मा गांधी का जीवन सत्य के साथ प्रयोग था तो डॉ लोहिया का जीवन और चिंतन समतामूलक समाज की स्थापना के लिए सामाजिक दर्शन और कार्यक्रमों के साथ एक प्रयोग था। वह प्रयोग आज भी अप्रासंगिक …

पत्रकारों के लिए तो लोहिया जी हर वक्त ब्रेकिंग रहते थे

जलती रहेगी लोहिया के विचारों की मशाल… राजनीति ऐसा तिलस्म है कभी सपनों को यथार्थ में बदल देता है तो कभी यथार्थ को काँच की तरह चूर चूर कर देता है। काँग्रेसमुक्त भारत की सोच डाक्टर राममनोहर लोहिया की थी। आज देश लगभग कांग्रेस मुक्त है पर लोहिया मुखपृष्ठ पर नहीं हैं। 23 मार्च को …

लापरवाह अफसरों ने ठीकरा पांच पत्रकारों पर फोड़ा, इस वीडियो को वायरल करने का आरोप लगा केस दर्ज किया

कोरोना मरीज का रेस्क्यू मॉक ड्रिल वीडियो वायरल करने का आरोप यूपी के ललितपुर जिले में पुलिस ने पांच पत्रकारों के खिलाफ कोरोना मरीज के रेस्क्यू मॉक ड्रिल (रिहर्सल) का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल करने का आरोप लगाकर मुकद्दमा दर्ज किया है। जानकारी तो यह भी मिली है कि पुलिस और प्रशासन की लापरवाही …

घंटा बजा चुके हों तो कोरोना पर रवीश कुमार की ये आंख खोलने वाली पोस्ट भी पढ़ लें!

रवीश कुमार की एक शानदार पोस्ट… पर भक्त सवाल कहाँ पूछते हैं अपनी सरकारों से, वे घण्टा बजाते हैं और सवाल करने वालों को गालियां देते हैं…

पत्रिका अखबार ने अपने कर्मियों की अगले सात दिन तक छुट्टियां निरस्त की

कोरोना वायरस के चलते जहां हर निजी कंपनी अपने कर्मचारियों को घर से काम करने के लिए प्रेरित कर रही है वहीं राजस्थान पत्रिका में इसका उल्टा हो रहा है। यहां शनिवार शाम को एक सर्कुलर जारी किया गया जिसमें सभी संपादकीय कर्मचारियों के अवकाश आगामी सात दिन तक निरस्त करने की सूचना थी।

दिग्विजय सिंह ने कमलनाथ को ही दाँव पर लगा दिया!

मध्यप्रदेश में अब क्या..क्यों और आगे..! पिछले तीन-चार दिनों से जिस तरह भागते भूत की लगोंटियाँ नीलाम हो रहीं थी (ताबड़तोड़ नियुक्तियां और तबादले) उससे लगने लगा था कि कमलनाथ की कांग्रेस सरकार अब चला-चली की बेरा में है। बहुमत साबित करने के दावे युद्ध हारने के पहले के माइंडगेम मात्र थे, जो ‘बिटवीन द …

यूपी में टीवी पत्रकार को साजिशन ट्रक से कुचलने की कोशिश, लूटपाट

ट्रक पीलीभीत जिला पंचायत अध्यक्ष आरती महेंद्र के सगे भाई का निकला, सपाइयों के दवाब में तहरीर के बावजूद एफआईआर लिखने में हीला हवाली, समझौता न करने पर पत्रकार को उल्टा फर्जी मुकदमा दर्ज कराने की धमकी, एडीजी जोन बरेली के आदेश पर तीसरे दिन पुलिस ने दर्ज की रिपोर्ट

नोएडा पुलिस के बड़े अफसरों का ये ‘बड़ा खेल’ देखकर दंग रह जाएंगे!

पुलिस कमिश्नरी बनने के बाद नोएडा पुलिस के दामन पर अब तक का सबसे बड़ा ‘दाग’…. जवाब कौन देगा? पैसे वाले और रसूख वाले कुछ भी करा सकते हैं. जी हां, कुछ भी. जिस शख्स के लिए कोर्ट ने गैर जमानती वारंट जारी किया हो और उसे पकड़ कर बिना त्रुटि कोर्ट में पेश करने …

आरएन सिंह ने एक साथ कई उत्तर भारतीयों को बेरोज़गार कर दिया!

हमारा महानगर का बंद होना! आखिरकार मुंबई और पुणे से प्रकाशित होने वाला हिंदी दैनिक हमारा महानगर बंद हो गया। इस समाचार पत्र में काम करने वाले पत्रकार और अन्य कर्मचारी बेरोज़गार हो गए। जब से निखिल वागले ने यह अखबार एक चौकीदार को बेचा था तब से ही इस बात का पता चल गया …

झारखंड में फिर एक आदिवासी की नक्सली समझकर सीआरपीएफ ने की हत्या, गलती भी मानी

झारखंड में 20 मार्च के अहले सुबह 36 वर्षीय आदिवासी रोशन होरो की नक्सली समझकर सीने और सर में गोली मारकर सीआरपीएफ ने हत्या कर दी। यह घटना खूंटी जिला के मुरहू थानान्तर्गत रुमुतकेल पंचायत के एदेलबेड़ा उत्क्रमित मध्य विद्यालय के पास उस समय घटी, जब रोशन होरो घटनास्थल से मात्र डेढ़ किलोमीटर दूर अपने …

पहले ‘डीएनए’, अब ‘हमारा महानगर’ : मंदी की मार से मीडिया इंडस्ट्री में धड़ाधड़ गिर रहे विकेट!

मोदी राज में आर्थिक मंदी का तगड़ा शिकार मीडिया इंडस्ट्री हो रहा है. लगातार घाटे के चलते एक के बाद एक कई अखबार-चैनल बंद होते जा रहे हैं. ताजा मामला मुंबई मुंबई के हिन्दी दैनिक हमारा महानगर का है. इसका प्रकाशन बंद होने की खबर से सबसे ज्यादा परेशान मीडियाकर्मी हैं.

वीआईपी स्टेटस के बहाने आप कोरोना की जांच से नहीं बच सकते : ममता बनर्जी

कोरोना वायरस से बचने में एहतियाती कदम उठा रहे लोग… कोलकाता। बंगाल में कोरोना वायरस के एक के बाद एक तीन केस सामने आते ही हर जगह बस कोरोना की ही बातें हो रही हैं। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी वीआईपी स्टेटस का दावा करने वालों द्वारा कोरोना वायरस की जांच न कराने को गैर …

चार दरिंदों को फांसी बनाम बेटियों की सुरक्षा : बहुत कठिन है डगर पनघट की…

कुछ ऐसा किया जाए ताकि बेखौफ जी सकें बेटियां… देश की राजधानी दिल्ली में दरिंदगी की शिकार हुई निर्भया को आखिरकार इंसाफ मिल गया। चारों दरिंदों को फांसी पर लटका दिया गया। इस फैसले के बाद क्या हम उम्मीद करें कि बेटियां अब रात में भी बेखौफ होकर सड़कों पर निकल पायेंगी? उन्हें सहमें रहने …

फर्जी इंटरव्यू करने वाले फ्रीलांस पत्रकार सिद्धार्थ राजहंस के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेगा दैनिक भास्कर!

Soumitra Roy : भास्कर ने आखिर ग़लती मान ही ली। इससे साबित हुआ कि भारत के सबसे विश्वसनीय अखबार के लिए इंटरव्यू भाड़े के लोगों से जुगाड़े जाते हैं।

अमेजॉन पर उपलब्ध है सुशील-सुभाष की लिखित किताब ‘पत्रकारिता के नये आयाम’

अपने साथी वरिष्ठ पत्रकार, लेखक और प्राचार्य डॉ सुशील उपाध्याय के साथ पत्रकारिता के 25 साल के अनुभवों पर प्रकाशित हमारी पुस्तक “पत्रकारिता के नये आयाम” अब अमेजॉन पर उपलब्ध है।

बीमा के 65 लाख वसूलने के लिए रच डाली कार लूट की साजिश!

Noida : BMV 5 series car was looted on the night of 14th March from a stock broker. On Investigation it has been found that due to the ongoing crisis in stock market and yes bank scandal, 3 accused, all relatives and working as stock brokers, having investments in yes bank, committed a stage managed …

आजतक बहुत आगे निकल गया, इंडिया टीवी चौथे नंबर पर गिरा, जी न्यूज बना नंबर दो

इस साल के दसवें हफ्ते में सबसे ज्यादा टीआरपी आजतक न्यूज चैनल ने हासिल की है. दो अंक से ज्यादा की टीआरपी जोड़कर आजतक ने जता दिया है कि वह न सिर्फ सबसे आगे है बल्कि बहुत आगे निकल गया है.

सैफई का पत्रकार सुघर सिंह सब इंस्पेक्टर के फर्जी आई कार्ड और अवैध हथियार के साथ गिरफ्तार

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के गांव सैफई निवासी पत्रकार सुघर सिंह को कानपुर पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है. सुघर की गिरफ्तारी तब की गई जब वाहन चेकिंग के दौरान सुघर ने सब इंस्पेक्टर का फर्जी परिचय पत्र दिखाया. बाद में तलाशी ली गई तो अवैध हथियार और कारतूस भी बरामद हुए.

बंद हो गया मुम्बई का ‘हमारा महानगर’

एक जमाने में मुंबई का बड़ा और मशहूर अखबार माने जाने वाला ‘हमारा महानगर’ अपनी अंतिम गति को प्राप्त हो गया। इस अखबार को सदा के लिए बंद किए जाने की खबर इस समूह की कम्पनी ने अधिकृत रूप से जारी कर दी है, नोटिस के रूप में।

फिनलैंड की पीएम का फर्जी इंटरव्यू छापने वाले दैनिक भास्कर को प्रेस काउंसिल आफ इंडिया ने भेजा नोटिस

Girish Malviya : पत्रकारिता जगत में कुछ दिनों पहले जोरशोर से मसला उठा था कि दैनिक भास्कर अखबार ने 8 मार्च को फिनलैंड की महिला प्रधानमंत्री का फर्जी इंटरव्यू छाप दिया है. दरअसल 8 मार्च को अंतराष्ट्रीय महिला दिवस के दिन कुछ एक्सक्लूसिव देने के चक्कर में भास्कर के DB पोस्ट ने फिनलैंड की महिला …

कानपुर के रइसजादों ने इवेंट के लिए असम से लड़की बुलाकर बलात्कार की कोशिश की, एफआईआर दर्ज

कानपुर में एक हाईप्रोफाइल मामला सामने आ रहा है. कानपुर के कुछ रईसजादों ने कानपुर क्लब के एक इवेंट के लिए एक लड़की को असम से जहाज से बुलवाया. यह लड़की इवेंट कंपनी में काम करती है और कानपुर उसे कानपुर क्लब के एक इवेंट में परफार्म करने के लिए बुलाया गया था. इवेंट के …

योगी सरकार और माप्राप समिति के चलते एक वरिष्ठ पत्रकार की बच गई जान!

जब बारह लाख के सरकारी फंड से मिल गया एक गरीब पत्रकार को जीवन… करीब पच्चीस वर्षों से अधिक समय से आधा दर्जन से ज्यादा जाने पहचाने अखबारों से जुड़े लिक्खाड़ और ईमानदार पत्रकार राकेश मिश्रा की प्रेस मान्यता खत्म हो गई थी।

भारत समाचार चैनल की महिला रिपोर्टर बोतल में भरकर ले गई गौमूत्र… देखें वीडियो, आगे क्या हुआ!

Naved Shikoh : भारत समाचार की महिला रिपोर्टर अपने आउटडोर शो ‘कटिंग चाय’ के लिए रोड पर आईं तो हर किसी को तमन्ना थी की मुझे भी इस शो में अपने विचार रखने का अवसर मिले। पत्रकार प्रज्ञा मिश्रा के हाथ में आईडी और सामने कैमरा सब को दिखाई दे रहा था।

दैनिक भास्कर के सीनियर फोटोग्राफर पर फर्जी स्टाम्प और फर्जी अनुबंध का केस दर्ज

जबलपुर से खबर है कि दैनिक भास्कर के सीनियर फोटोग्राफर संजय राठौर पर फर्जी स्टांप और फर्जी अनुबंध का एक मामला दर्ज हुआ है.

चंद्रशेखर की राजनीति क्या है?

15 मार्च को चंद्रशेखर ने आज़ाद समाज पार्टी (एएसपी) के नाम से एक नई राजनीतिक पार्टी बनाने की घोषणा की है जिसका स्वागत है क्योंकि लोकतंत्र में हरेक नागरिक को अपनी पार्टी बनाने का अधिकार है. परन्तु इस पार्टी का एजंडा अथवा राजनीति के बारे में अभी तक कोई भी घोषणा नहीं की गयी है. …

DR.H.S.PAUL conferred with “Communicator of the Year 2020 Award” By PRCI

Bengaluru : Public Relation Council of India is the pan India Platform of communication, PR, Media, Advertising, HR, Marketing Communication Professionals, Mass Communication, Teachers and Students has recently organised 14th.Global Communication Conclave under the aegis of World Communications’ Council (WCC) with theme being PR Beyond 20:20.

नवजोत सिंह सिद्धू ने शुरू किया अपना यूट्यूब चैनल, गरमाई पंजाब की सियासत

सियासत में करीब नौ महीने से ‘लापता’ नवजोत सिंह सिद्धू खुद द्वारा शुरू किए यूट्यूब चैनल ‘जित्तेगा पंजाब’ के जरिए पंजाब की राजनीति में वापस लौट आए हैं। चैनल के जरिए सियासी गतिविधियां तेज करने की सिद्धू की कवायद के बाद सूबे की राजनीति गर्मा रही है। पहली प्रस्तुति में ही उन्होंने साफ प्रभाव दिया …

दिवाकर मुक्तिबोध : छत्तीसगढ़ की हिंदी पत्रकारिता का चमकदार चेहरा

छत्तीसगढ़ यानी वह प्रदेश जहां हिंदी पत्रकारिता की उजली परंपरा का प्रारंभ पं. माधवराव सप्रे ने सन् 1900 में ‘छत्तीसगढ़ मित्र’ के माध्यम से किया। उसके बाद की पीढ़ी में तमाम नायक सामने आते गए और अपनी यशस्वी भूमिका का निर्वहन करते रहे। हमारे समय के नायकों में एक नाम है श्री दिवाकर मुक्तिबोध का।

रंजन गोगोई कांड : आंख मूंदकर किसी को भी अपना नायक मत बनाया करो!

Deepak Goswami : रंजन गोगोई वही हैं न जिन्होंने चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ प्रेस कांफ्रेंस की थी और अप्रत्यक्ष तौर पर दीपक मिश्रा पर सरकार समर्थक होने के आरोप लगाए थे. फिर वे आपकी नजर में क्रांति के अगुवा कहलाए थे. अब देखो वे स्वयं ही सरकार के द्वारा उपकृत करके राज्यसभा भेजे …

भूखे पेट और कमजोर इम्यूनिटी वालों को जल्दी पकड़ती है छूत की बीमारी!

Rising Rahu : उन दिनों मैं एक मेडिकल कॉलेज के टीबी वार्ड में भर्ती था। टीबी नहीं था मुझे, मगर फेफड़ों में कुछ दिक्कत थी, जिसकी वजह से मैं बीमारियों के सबसे अनचाहे वार्ड में दिन गुजार रहा था। मेरे बगल के वार्ड में एक औरत थी, जिसमें हवा भर गई थी और वह बिलकुल …

हैव यू नो ऑनर, योर ऑनर?

Deepak Rawat : “कारवां” में छपा एक अत्यंत खोजपूर्ण रिपोर्ताज: मुख्य न्यायाधीश के कार्यकाल के दौरान गोगोई के पास ऐसे अनेक मामले आए जिन पर उनके रुख को देख लोग हैरान होते थे कि क्या यह वही जज है जो दीपक मिश्रा के खिलाफ प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित करने वालों में से एक था. रफ़ाल मामले …

अब अगला इनाम जस्टिस अरुण मिश्र को मिलेगा!

Vijay Shanker Singh : मशविरा… अब अगला इनाम अरुण मिश्र को मिलेगा। उन्हें चाहिए कि गवर्नरी से कम पर राजी न हों। सीजेआई की रैंकिंग ऑर्डर ऑफ प्रेसिडेंस में 6 ठे नम्बर पर है औऱ सांसद की 21 वें नम्बर पर। ऊपर से नीचे आने को ही हमारे यहां, भोजपुरी में, हाथी से उतर कर …

Quid Pro Quo : काश! माई लॉर्ड्स, इतनी सी बात समझ पाते!

Prabhakar Mishra : ‘क्विड प्रो को’ (Quid Pro Quo)… आज से करीब पंद्रह साल पहले की बात है। सुप्रीम कोर्ट कैंपस से बाहर निकलते हुए एक व्यक्ति पर निगाह पड़ी। वह आदमी भगवान दास रोड पर पैदल जा रहा था। सुप्रीम कोर्ट के गेट के पास अचानक रुका और कोर्ट की तरफ दोनों हाथ जोड़कर …

भारतीय न्यायपालिका में रंजन गोगोई जैसा यौन विकृत, बेशर्म और लज्जास्पद जज मैंने नहीं देखा- जस्टिस काटजू

Vijay Shanker Singh: रंजन गोगोईं पर जस्टिस मार्कण्डेय काटजू ने जो कहा है उसे यहां पढिये-

जुगाड़ सिस्टम : 50 रुपये का प्लेटफार्म टिकट दस रुपये में!

अभी फेसबुक खोला तो देखा कि कुमार सौवीर जी की पोस्ट दिख रही है। उन्होंने प्लेटफार्म टिकट के दाम बढ़ने पर चिंता जताते हुए पोस्ट लिख रख्खा है।

बीबीसी के संपादक मनुस्मृति और जनेऊ शास्त्र से न्यूज़रूम चलाना चाहते हैं : मीना

Meena Kotwal : बीबीसी के संपादक मनुस्मृति और जनेऊ शास्त्र से न्यूज़रूम चलाना चाहते हैं, वे बाबा साहेब के संविधान को नहीं मानते!

क्या पूर्व चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ब्लैकमेल किए गए थे?

Sanjaya Kumar Singh : रंजन गोगोई पर यौन छेड़छाड़ का आरोप लगा। जो, जैसी, जितनी जांच हुई उसमें आरोप सही नहीं पाया गया। आरोप लगाने वाली महिला को नौकरी से निकाल दिया गया। गोगोई साब को राज्य सभा का सदस्य मनोनीत किया गया है। ईनाम मिला। उधर उनपर आरोप लगाने वाली महिला को काम पर …

दैनिक जागरण की यह खबर दूसरे अखबारों में क्यों नहीं है?

Sanjaya Kumar Singh : आज के हिन्दी अखबारों में सिर्फ दैनिक जागरण ने खबर छापी है, “ईरान में 250 भारतीय कोरोना वायरस की चपेट में” हैं। हिन्दी के जो अखबार मैं देखता हूं उनमें ज्यादातर ने भारत में कोरोना की स्थिति से संबंधित खबर को लीड बनाया है और इसमें खास बात यह है कि …

धमाकेदार दस्तक के लिए तैयार नेशनल चैनल ‘ग्लोबल भारत’, नौकरी चाहिए तो यहां देखिए

लखनऊ से आ रहे टीवी चैनल Global भारत में हायरिंग शुरू हो रही है…देश भर में ग्लोबल भारत रिपोर्टरों की हायरिंग कर रहा है। पहले फेज़ में शुरुआत यूपी से हुई जहां पर 71 ज़िलों में रिपोर्टरों की नियुक्ति हो चुकी है…न्यूज़रुम में कर्मचारियों की नियुक्ति 1 अप्रैल से शुरू हो रही है। इसके अलावा …

हिन्दी अखबारों में रंजन गोगोई के नामांकन को सही बताने की कोशिश

Sanjaya Kumar Singh : आज के अखबारों में सबसे बड़ी और महत्वपूर्ण खबर है, सुप्रीम कोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई को राज्यसभा के लिए मनोनीत किया जाना। हिन्दी अखबारों की खबरें पढ़ने से लगता है कि वह नियुक्ति कैसे जायज है और उसके पक्ष में रंगनाथ मिश्र को कांग्रेस के जमाने में राज्यसभा …

नोएडा में लॉ एंड आर्डर का बुरा हाल, नाइट लाइफ सेफ नहीं, लुट गई BMW कार!

नोएडा में पुलिस कमिश्नरी सिस्टम लाागू करने और करोड़ों रुपये खर्चने के बावजूद लॉ एंड आर्डर में सुधार नहीं दिख रहा है. यहां की नाइट लाइफ उतनी ही अनसेफ है जितनी पहले थी. लगातार घटनाएं घटित हो रही हैं पर पुलिस महकमा कान में तेल डाले सोया पड़ा है.

एसपी के चेलों ने बाजार के सामने समर्पण कर दिया!

Nadim S. Akhter : मुझे यकीन है कि प्रखर पत्रकार स्वर्गीय एस. पी. सिंह अगर आज ज़िंदा होते तो गौ-मूत्र और गोबर में कोरोना वायरस समेत दुनिया जहान की बीमारी का इलाज ढूंढने वालों को वैज्ञानिक तरीके से लताड़ते और टीभी पे भद्द पीट देते।

पत्रकार आर.पी. दुबे का प्रवेश निषेध कर दिया गया है!

अध्यक्ष उत्तर प्रदेश मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति लखनऊ 226001 विषयः- राजेन्द्र प्रसाद संवाददाता ‘प्रहरी मीमांसा’ के राजभवन परिसर में प्रवेश पर लगी रोक के सम्बन्ध में।

ब्लैकमेलिंग के आरोप में दो पत्रकार अरेस्ट, एक भाग निकला

मामला राजस्थान के जोधपुर जिले का है. डाक्टरों को ब्लैकमेल करने के आरोप में दो कथित पत्रकार गिरफ्तार किए गए हैं. इस बारे में स्थानीय अखबार में छपी खबर पढ़िए-