हिंदुस्तान में फेरबदल : सुनील द्विवेदी लखनऊ और आशीष त्रिपाठी कानपुर के स्थानीय संपादक बने

हिंदुस्तान अखबार से कई बड़ी खबरें हैं। कानपुर के स्थानीय संपादक सुनील द्विवेदी कल लखनऊ में बतौर स्थानीय संपादक ज्वाइन करेंगे। उनके पास सिर्फ़ लखनऊ यूनिट की ज़िम्मेदारी होगी।

पत्रकार तेजिंदर सिंह सोढ़ी का पत्र पढ़ें- मैंने रिपब्लिक और अर्नब का साथ क्यों छोड़ा!

तेजिंदर सिंह सोढ़ी ने पिछले दिनों रिपब्लिक टीवी से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने अर्नब गोस्वामी की घटिया पत्रकारिता को एक्सपोज करते हुए कई आरोप लगाए थे। उनके ट्वीट को भड़ास ने भी प्रकाशित किया था। आज तेजिंदर का एक ईमेल वायरल है जिसमें वे रिपब्लिक टीवी के एच आर में कार्यरत हनी कौर को …

अश्लील वीडियो बना कर डॉक्टर को ब्लैकमेल करने वाली महिला एंकर, चैनल मालिक समेत पूरी टीम गिरफ्तार

भोपाल में हनी ट्रैप का नया मामला सामने आया है। महिला एंकर डॉक्टर के पास जाती है और उसे अपने हुस्न के जाल में फंसाकर अश्लील वीडियो बना लेती है।

नवभारत टाइम्स के पत्रकार के साथ पुलिस ने किया दुर्व्यवहार

-दिलीप यादव- आरोपी कोतवाल के ऊपर कार्यवाही न किए जाने की स्थिति में पत्रकार ने दी एसपी ऑफिस के सामने आत्मदाह करने की धमकी

गलत तरीके से छुआ, बेड पर चलने को कहा, न मानी तो टाइम्स ग्रुप से निकाल दिया!

TOI की महिला पत्रकार के आरोप से हड़कंप टाइम्स ग्रुप के बड़े अधिकारी पर महिला पत्रकार ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप मुंबई से खबर आ रही है कि टाइम्स आफ इंडिया ग्रुप के मैनेजमेंट के एक बड़े अधिकारी पर यहीं काम करने वाली एक महिला पत्रकार ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है. इस …

एबीपी वाले अवीक सरकार पीटीआई के नए चेयरमैन

समाचार एजेंसी प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया उर्फ पीटीआई के नए चेयरमैन अवीक सरकार बनाए गए हैं. अवीक सरकार एबीपी ग्रुप यानि आनंद बाजार प्रकाशन समूह के मालिक हैं.

छंटनी के बाद सदमे में आए ‘हिंदुस्तान’ संवाददाता की ब्रेन हैमरेज से मौत

मीडिया फील्ड से इन दिनों बुरी खबरें ही रही हैं. चंडीगढ़ में दैनिक भास्कर के मीडियाकर्मी ने काम के दबाव व नौकरी जाने की धमकी से सुसाइड करने को मजबूर हुआ तो आज जानकारी मिली है कि हिंदुस्तान अखबार के एक संवाददाता ने छंटनी के बाद सदमे में ब्रेन हैमरेज का शिकार हो गया. उनका …

मीडिया की मानसिकता पर अशोक वाजपेयी की खरी-खरी

जाने माने पत्रकार ओम थानवी के नेतृत्व में स्थापित जयपुर के हरिदेव जोशी पत्रकारिता एवं जनसंचार विवि की वेबसाइट का लोकार्पण साहित्यकार और पूर्व प्रशासक अशोक वाजपेयी ने किया. अपने संबोधन में उन्होंने आज के मीडिया की खूब खबर ली. हिंदी अख़बारों द्वारा अंगरेजी को तवज्जो देने और अपनी ही भाषा को भ्रष्ट-नष्ट करने पर …

बंद हो रहा है ‘स्वराज एक्सप्रेस’ न्यूज चैनल!

राज्यसभा टीवी लांच करने वाले गुरदीप सप्पल का न्यूज चैनल ‘स्वराज एक्सप्रेस’ बंद होने जा रहा है. टाटा स्काई पर कई दिनों से एक ही रिकार्डेड प्रोग्राम दिखाया जा रहा है. साथ ही नीचे एक सूचना चल रही है कि ये चैनल एक सितंबर से टाटा स्काई से गायब हो जाएगा.

थक गया है बनारस का ‘गांडीव’!

वाराणसी। एक समय था, जब ‘गांडीव’ को शाम का दैनिक जागरण माना जाता था। लेकिन अब सब कुछ बदल चुका है। गांडीव थक चुका है। कोरोना काल अखबार के अस्तित्व को धीरे-धीरे समाप्त कर रहा है। एक समय था, जब ऑफिस में लोगों को बैठने के लिए जगह नहीं मिलती थी, लेकिन वर्तमान समय में …

लोकतंत्र के लिए ख़तरा बनता जा रहा है सोशल मीडिया?

देश में इस समय सोशल मीडिया प्लेटफ़ार्म्स-फ़ेसबुक और व्हाट्सएप -आदि पर नागरिकों के जीवन में कथित तौर पर घृणा फैलाने और सत्ता-समर्थक शक्तियों से साँठ-गाँठ करके लोकतंत्र को कमज़ोर करने सम्बन्धी आरोपों को लेकर बहस भी चल रही है और चिंता भी व्यक्त की जा रही हैं। पर बात की शुरुआत किसी और देश में …

भड़ास की अपील पर पहुंच गए गुलफ्शा के पास पैसे, वह अब पढ़ लेगी!

गुलफ्शा के पास 15102 रुपए पहुंच गए हैं। 12वीं तक की पढ़ाई का पूरा खर्च उसे मिल चुका है। जरूरत पंद्रह हजार रुपये की ही थी। टारगेट हम लोगों ने बीस हजार रुपए का रखा था। आगे गुलफ्शा को जब भी जरूरत होगी, हम लोग साथ रहेंगे।

एक रिटायर आईपीएस का कबूलनामा- ‘मैंने जिस पुलिस में नौकरी की और जिस पुलिस से मेरा सामना हुआ’

मैं उत्तर प्रदेश का 1972 बैच का आइपीएस अधिकारी हूं। 2003 में आई.जी. (पुलिस) के रूप में सेवानिवृत्ति के बाद, मैं मानवाधिकार, दलित अधिकार, आरटीआई, वन अधिकार अधिनियम, भोजन और शिक्षा का अधिकार आदि मुद्दों पर सक्रिय रहा हूं। मैं पीपुल्स यूनियन फॉर सिविल लिबर्टीज, उत्तर प्रदेश का उपाध्यक्षहूँ. मैं पूर्व में राष्ट्रीय अनुसूचित जाति …

यूपी के मान्यता प्राप्त पत्रकारों में से एक रेपिस्ट निकला, देखें तस्वीर

उत्तर प्रदेश में मान्यता प्राप्त पत्रकारों की फौज है. कोई चोर है तो कोई उचक्का तो कोई गिरहकट. कोई व्यापारी है तो कोई दलाल तो कोई प्रापर्टी डीलर. कोई ठेलेवाला है तो कोई पंचर लगाने वाला तो कोई बाडीगार्ड. आपको सच्चे मान्यता प्राप्त पत्रकार कम मिलेंगे. ऐसे ही उचक्के मान्यता प्राप्त पत्रकारों की भीड़ में …

पीएमओ को चिट्ठी लिखने वाला आजतक डिजिटल का मीडियाकर्मी हुआ बर्खास्त

आजतक न्यूज चैनल के डिजिटल विंग में कार्यरत सीनियर सब एडिटर रामकृष्ण को संस्थान से बर्खास्त कर दिया गया है. ज्ञात हो कि बर्खास्तगी के बाद रामकृष्ण ने एक लंबी चौड़ी चिट्ठी लिखकर संस्थान के अपने वरिष्ठों पर कई किस्म के आरोप लगाए थे. उन्होंने ये लेटर अरुण पुरी, कली पुरी समेत पीएमओ को भी …

फुली सैनिटाइज रहने के बावजूद शराब उद्यमी हुआ कोरोना संक्रमित!

हमारे होम टाउन गाजीपुर के हालिया बने बड़े भाई और मित्र चंद्रशेखर सिंह कोविड-19 के चंगुल में फंस गए हैं. इस विकट महामारी वाली बीमारी के अदृश्य दुष्टों ने पूर्व समाजसेवी और वर्तमान शराब उद्यमी चंद्रशेखर सिंह पर अचानक ही हमला बोल दिया. हालांकि वे खुद को अक्सर फुली सैनिटाइज करते रहते थे, पर वे …

गांडीव अखबार के अभय चटर्जी व सत्यप्रकाश ने भी मजीठिया केस जीता

वाराणसी : मजीठिया मामले की लड़ाई लड़ रहे काशी पत्रकार संघ व समाचारपत्र कर्मचारी यूनियन को लगातार सफलता हासिल हो रही है। वाराणसी श्रम न्यायालय ने काशी पत्रकार संघ के सदस्य व गांडीव अखबार के उपसम्पादक अभय चटर्जी के साथ ही वहां के कम्प्यूटर आपरेटर सत्यप्रकाश के पक्ष में फैसला सुनाते हुए उन्हें मजीठिया वेज …

हिंदुस्तान बरेली में 11 साल पुराने हेड डिजाइनर को नौकरी से निकाला

हिंदुस्तान की बरेली यूनिट में स्थापना के समय से वर्ष 2009 से कार्यरत हेड डिजाइनर दिनेश ठाकुर को भी कंपनी ने अलविदा कह दिया है। उनकी हिंदुस्तान के बेस्ट डिजाइनरों में गिनती की जाती थी।

सरकार नौकरी बीमा पॉलिसी लाये

केंद्र सरकार को चाहिए कि वह नौकरी करने वालों की नौकरी सुरक्षित रखने के लिए नौकरी बीमा पॉलिसी बनाये। इसमें सरकार और नौकरी करने वालों दोनों को फायदा है।

अफसरों ने जब मुझे जेल में बंद करा दिया तब प्रशांत भूषण भगवान बनकर आए : नीतिश पांडेय

बात बहुत पुरानी नहीं है. ठीक एक साल पहले इसी महीने की बात है. नोएडा के एक अधिकारी ने मेरी सच्ची खबर से आहत होकर मुझे जेल में डाल दिया.

कादम्बिनी व नंदन बन्द होने के मायने

कादम्बिनी वह पत्रिका है जिसे हम पढ़ते हुए बड़े हए हैं। कादम्बिनी आपको रोचक अनुभवों, यात्रा वृतांतों, साहित्यिक कृतियों व जीवनशैली से जुड़े कभी उत्सुकता, कभी आश्चर्य तो कभी सुकून देने वाले सफर पर ले जाती है। कादम्बिनी के अंत में एक चित्र पर कहानी लिखने की प्रतियोगिता आपके बिम्ब निर्माण व कल्पना को सशक्त …

हिमाचल प्रदेश में मजीठिया वेजबोर्ड की मॉनिटरिंग को त्रिपक्षीय कमेटी गठित

मजीठिया क्रांतिकारी रविंद्र अग्रवाल के प्रयासों से मिली सफलता शिमला। हिमाचल प्रदेश सरकार ने राज्‍य के पत्रकार और गैर पत्रकार अखबार कर्मचारियों के लिए 11 नवंबर 2011 को अधिसूचित मजीठिया वेजबोर्ड की सिफारिशों को लागू किए जाने और प्रगति पर नजर रखने के लिए पहली बार त्रिपक्षीय कमेटी का गठन करने की अधिसूचना जारी की …

भड़ास पर खबर छपने के बाद इंडिया टुडे के ब्यूरो चीफ ने एफबी पोस्ट पर डिलीट बटन दबाया!

इंडिया टुडे के यूपी ब्यूरो चीफ आशीष मिश्र ने कल फेसबुक पर पोस्ट किया कि योगी सरकार के खिलाफ खबर छपवाने के लिए सीएम आफिस के कुछ लोग दबाव डाल रहे हैं. उनके इस पोस्ट को लेकर भड़ास पर एक खबर का प्रकाशन किया गया.

एनयूजे और डीजेए का पत्रकारों की हत्या के खिलाफ प्रदर्शन

राष्ट्रपति को ज्ञापन देकर उत्तराखंड में पत्रकारों की गिरफ्तारी के मामलों में हस्तक्षेप का अनुरोध किया गया, पत्रकारों ने कहा कि मीडिया को उत्तराखंड सरकार पर भरोसा नहीं, 30 अगस्त को ऑनलाइन धरना दिया जाएगा

अपनी करतूतों के चलते आज डिप्टी सीएम और एडिटर इन चीफ के वीडियो हैं वायरल, आप भी देखें

दो लोगों के वीडियो आज खूब वायरल हो रहे हैं. ये दो हैं- यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और रिपब्लिक भारत के ए़डिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी.

पीटीआई ने कोरोना काल के नाम पर डेढ़ सौ मीडियाकर्मियों का डीए फ्रीज किया!

न्यूज़ एजेंसी प्रेस ट्रस्ट आफ इंडिया (पीटीआई) ने अपने लगभग 150 वेज बोर्ड कर्मचारियों का डीए फ्रीज कर लिया है. इस बात का पता कर्मचारियों को आज लगा जब उन्हें अगस्त की सैलरी उनके बैंक एकाउंट में क्रेडिट की गई.

प्रधान संपादक की ये चलाचली की बेला है!

एक मीडिया हाउस के प्रधान संपादक की चलाचली की बेला आ गई जान पड़ती है. दिल्ली को खाली किया जा रहा है. उनके खास सिपहसालार को दिल्ली से रवाना कर दिया गया, नई जगह. शीर्ष पर बैठे उनके खास चेलों को हर कहीं से निकाला जा रहा है. यूपी से लेकर बिहार तक में खलबली …

विकट बीमारी से जूझ रही गुलफ्शा को पढ़ना है! आर्थिक मदद की अपील

19 साल की गुलफ्शा एक ऐसी बीमारी से ग्रस्त हैं जिसमें उनका चलना-फिरना मुहाल है. एम्स से लेकर कई जगह तक उनका इलाज चला. आर्थिक रूप से कमजोर घर की गुलफ्शा पढ़ाई-लिखाई में मजबूत हैं. दूरस्थ शिक्षा के जरिए वह बारहवीं करना चाहती हैं. एडवोकेट और समाज सेविका ज्योति कुमारी से जब ये बच्ची टकराई …

हिंदुस्तान अखबार में शीर्ष स्तर पर व्यापक फेरबदल, कई संपादकों की जिम्मेदारी बदली, एक की छुट्टी

हिंदुस्तान अखबार में रोजाना कुछ न कुछ बड़ा हो रहा है। छंटनी के दौर के बाद अब संपादकों पुनर्नियोजित किया जा रहा है।

कादम्बिनी उपेक्षा का शिकार मेरे कार्यकाल से पहले ही होने लगी थी!

-विष्णु नागर- साठ साल का सफर पूरा कर ‘कादम्बिनी ‘ आखिर लाकडाउन की बलि चढ़ा दी गई- बाल पत्रिका ‘ नंदन’ के साथ।’ कादम्बिनी ‘ से हालांकि मेरा संबंध बारह साल पहले ही छूट गया था और अब वह पत्रिका मुझे भेजा जाना भी बंद हो चुका था मगर उसके अतीत से पहले पाठक के …

आंसू बहाने वाले कितने लोग कादम्बिनी-नंदन खरीद कर पढ़ते थे?

-मनोज मलियानिल- साहित्यिक पत्रिका कादम्बिनी और बाल पत्रिका नंदन के बंद होने की जानकारी सामने आने के बाद आज सुबह से सोशल मीडिया पर क्रंदन हो रहा है। क्यों एक प्रतिष्ठित पत्रिका बंद हो गई इस पर हर जगह आंसू और आक्रोश देखने को मिल रहे।

कोरोना काल में हिंदी की इन दो प्रतिष्ठित पत्रिकाओं का बंद होना बड़ा झटका है!

-बृहस्पति पांडेय- HT मीडिया की बहुचर्चित बाल पत्रिका नंदन व गम्भीर मुद्दों पर आधारित पत्रिका कादम्बनी का प्रकाशन आखिरकार बंद हो गया और साथ ही इससे जुड़े संत समीर जैसे गंभीर और संवेदनशील पत्रकार को बेरोजगार भी कर गया।

कादम्बिनी का अवसान

-आलोक कुमार- कादम्बिनी पिताजी की प्रिय पत्रिका थी. नियमित पाठक रहे. राजेंद्र अवस्थी का ‘काल चिंतन’ खूब भाता. उनकी दिलचस्पी के कारण ‘काल चिंतन’ मेरा पहला प्रिय कॉलम बना. बाद में प्रभाष जोशी जी के ‘कागद कारे’ पढ़ते वक़्त अवस्थी जी के गूढ़ भाव को तलाशता. मगर भुभिक्षा नहीं मिटती.

तेजी से फैल रहा मीडिया में कोरोना

ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ चैनल में कई लोग कोरोनाग्रस्त हो गए हैं। कई एंकर भी चपेट में हैं। लोगों को ऑफिस जबरन बुलाकर काम कराने से संक्रमण तेजी से फैल रहा है। इस चैनल में वीकली ऑफ भी केवल एक दिन का है।

अनुचित शब्द बोलने के आरोपी डीएम ने ऑडियो प्रसारित करने वाले पत्रकार को जेल भेजा!

-अमिताभ ठाकुर- कल मैंने DM अलीगढ चंद्रभूषण सिंह व पूर्व CMS की कथित ऑडियो डाली थी जिसमे चंद्रभूषण सिंह अनुचित शब्दों का प्रयोग कर रहे हैं. आजस्थानीय पत्रकार श्री जियाउर रहमान द्वारा दी गयी सूचना के अनुसार इस ऑडियो चलाने वाले पत्रकार ठाकुर संजीव प्रताप सिंह को कल देर शाम पुलिस ने धारा 151 में …

लॉक डाउन में वेतन कटौती और छंटनी के सभी मामले एक साथ सुनेगा उच्चतम न्यायालय

-शशिकांत सिंह- देश भर के मीडियाकर्मियों की लॉक डाउन में हुई छंटनी और वेतन कटौती मामले पर सुनवाई करते हुए शुक्रवार को माननीय सुप्रीमकोर्ट ने इस मामले को डायरी नम्बर 10983/2020 से टैग कर दिया। अब दोनों मामलों को एक साथ सुना जाएगा।

एबीपी न्यूज़ से रजनीश आहूजा के जाने की चर्चाएं

एबीपी न्यूज़ से एक बड़ी खबर आ रही है। मैनेजिंग एडिटर रजनीश आहूजा के इस्तीफे की चर्चाएं हैं। अधिकृत रूप से इस खबर की पुष्टि बाकी है।

वाह रे न्यूज़ चैनल! पहले खलनायिका बनाया, अब उसे विक्टिम और नायिका बताया!

-श्रवण गर्ग- अब असली मीडिया यही है, जो दिख रहा है वही पढ़ना भी है? संकट की इस घड़ी में हम मीडिया के लोग अपने ही आईनों में अपने ही हर घड़ी बदलते हुए नक़ली चेहरों को देख रहे हैं. ये लोग किसी एक क्षण अपनी उपलब्धियों पर ताल और तालियाँ ठोकते हैं और अगले …

सारे बड़े केसों की जांच सीबीआई की बजाय समाचार चैनलों को दे दी जाए!

-जगदीश वर्मा ‘समंदर’– आने वाले समय में हो सकता है लोग बड़े केसों की जांच को सीबीआई को देने की बजाय समाचार चैनलों को देने की गुहार लगाएं… सुशांत मामले में चल रहे मीडिया ट्रायल, में चैनल खुद एक दूसरे से लड़ने की मुद्रा में अा गए हैं….

पत्रकार कुमार जितेंद्र ज्योति बने डीबी डिजिटल के बिहार हेड

आपदा को अवसर में बदलना कोई दैनिक भास्कर से सीखे! दैनिक भास्कर ने कोरोना वायरस के संक्रमण के दौर में आम रीडर्स को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की ओर जाता देख इस ओर तेजी से कदम बढ़ाया है।

ये एंकर तो सुधीर चौधरी का बाप निकला!

-बद्री पी सिंह- मीडिया का दोगलापन… टीवी पर मेरा प्रिय कार्यक्रम पुराने गाने तथा दक्षिण भारतीय फिल्मों का हिंदी रूपांतरण देखना है।बीच- बीच में ब्रेक मे हिन्दी समाचार भी देख लेता हूं।आजकल चैनलों पर सुशांत सिंह का कब्जा है ,मन बदलने के लिए बीच- बीच में चीन का सफाया,उत्तरी कोरियाई तानाशाह की मृत्यु या पागलपन, …

ये पोस्ट उनके लिए है जिन्हें अभी भी मीडिया / न्यूज चैनलों या पत्रकारों से उम्मीद है!

-विवेक सत्य मित्रम- नेपोटिज़्म, कास्टिंग काउच, खेमेबाज़ी और फ़ेवरेटिज़्म! सुशांत की मौत के बाद से टीवी न्यूज़ पर दिन भर में हज़ारों बार इन शब्दों का इस्तेमाल बॉलीवुड के लिए किया जाता है। मैं समझ नहीं पाता कि इसमें से कौन सी बीमारी है जो मीडिया या टीवी न्यूज़ में नहीं पाई जाती? मैंने एक …

इंडिया टुडे ने अनुष्का के साथ साथ विराट कोहली को भी प्रैग्नेंट बता दिया!

आजकल की पत्रकारिता स्तर देखना हो तो ये ट्वीट देख लें। देश में लाखों हार्ड न्यूज़ है पर इंडिया टुडे वालों को अनुष्का के गर्भवती होने की ख़बर देने से ही फुरसत नहीं है।

हद है! ईडी और नारकोटिक्स जैसी एजेंसियों के पास कोई काम है भी या नहीं!

-शिशिर सोनी- रिया ने सुशांत को लूटा? हाँ लूटा, वो लुटा, रिया ने लूटा तुम्हारे पेट में क्यों दर्द हो रहा है? रिया यूरोप गई सुशांत के खर्च पर? हाँ गई, वो ले गया, वो गई, तुम्हारा क्या? रिया और सुशांत दोनो बालिग रह कर आपसी रजामंदी से जो कुछ भी कदम उठाये सवाल उस …

आजतक पर रिया का इंटरव्यू देख पागल हो गया है अर्नब गोदी गोस्वामी!

-प्रभात शुंगलू- क्या आप अर्नब गोदी गोस्वामी को जानते हैं…. इंडिया टुडे के वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने रिया चक्रबर्ती का इंटर्वयू क्या ले लिया अरनब गोस्वामी के तन बदन में आग लग गई और प्राइम टाइम शो में गुस्से से आग बबूला हो गये। बस मुंह से झाग नहीं निकला। लेकिन दिमाग पर असर …

रिपब्लिक भारत के पत्रकार तेजिंदर सिंह सोढ़ी ने अर्नब गोस्वामी को आइना दिखाते हुए दिया इस्तीफा

-शीतल पी सिंह- ट्वीटर पर तेजिंदर सिंह सोढ़ी को फॉलो करिए। दम वाला बंदा है। नौकरी की जगह सिद्धांत और सरोकार को वरीयता दी। अर्नब गोस्वामी की घटिया पत्रकारिता की पोल खोलकर रख दी।

महान लेखक की यह महानता होती है कि सामने वाले को अपनी महानता से डराता नहीं है!

-समरेंद्र सिंह- राजेंद्र यादव – आप जिंदा हैं और हमेशा जिंदा रहेंगे! जिंदा हो? राजेंद्र यादव जी के ये शब्द अक्सर कान में गूंजते हैं। जब भी बात किए लंबा समय हो जाता था तो मिलने पर वो यही सवाल किया करते थे। और मैं हर बार उनसे कहता था कि जिंदा रहने की कोशिश …

रिया के साथ वही हो रहा जो मोनिका और डायना के साथ हुआ!

-अपूर्व भारद्वाज- मैं रिया को नही जानता हूँ, मैं मोनिका लेविंस्की को भी नही जानता था मैं उन्हें तभी जान पाया जब मीडिया ने उनके बारे मैं बताया । मीडिया मोनिका का भी रिया के जैसे चरित्रहरण कर रहा था औऱ अमेरिका का कानून भी भारत के कानून की तरह धृतराष्ट्र बना सब देख रहा …

इंडिया टुडे के ब्यूरो चीफ ने योगी सरकार को लेकर दिया बहुत बड़ा बयान!

आशीष मिश्रा इंडिया टुडे मैगजीन के यूपी ब्यूरो चीफ हैं। इन्होंने आज फेसबुक पर धमाका कर दिया है।

एचटी ग्रुप की दो पत्रिकाएं नंदन और कादम्बिनी बंद!

सन्त समीर गए काम से। बस अभी दस मिनट पहले। ‘कादम्बिनी’, ‘नन्दन’ बन्द। आज से फुरसत। अन्देशा जैसे कुछ दिन पहले से होने लगा था। चन्द रोज़ पहले मैंने श्रीमती जी से मज़ाक़ में कहा—अरे भई, चलो खादी भण्डार से कुछ कुर्ते (कुर्ता-पाजामा मेरा राष्ट्रीय पोशाक है) वग़ैरह ले लेते हैं, वरना यह नौकरी कभी …

आजतक पर रिया का इंटरव्यू चलने से सुशांत प्रेमियों को तकलीफ हो रही है!

-दया शंकर शुक्ल ‘सागर’- रिया की सीबीआई से पूछताछ जारी है. कल कुछ चैनलों पर रिया का इंटरव्यू चला. इसे चलाने वाले मीडिया पर सवाल उठ रहे हैं. सुशांत के प्रेमियों को इससे तकलीफ हो रही है. क्या किसी आरोपी को अपना पक्ष रखने की इजाजत नहीं होनी चाहिए? यही तो मीडिया का काम है …

आजतक ने रिया का पक्ष दिखाकर लंगड़ी पत्रकारिता को बैसाखी दे दी तो हंगामा क्यों!

-नवेद शिकोह- सरदेसाई सर आप पत्रकारिता के शेषमणि हो, शेष पत्रकार तो मदारी की बीन पर नाचते हैं आजतक ने रिया का पक्ष दिखाकर लंगड़ी पत्रकारिता को बैसाखी दे दी तो हंगामा क्यों! कोरोना और बेरोजगारी जैसी भयावह स्थितियों को ताक़ में रखकर सिर्फ और सिर्फ अभिनेता सुशांत मामले को दिखाने वाली टीवी मीडिया पर …

रिया में गुनाहगार ढूंढना सभी समस्याओं का हल है!

-शीतल पी सिंह- मेरे एक बहुत ही प्रिय रिश्तेदार और बेहद समझदार युवा मित्र ने14 अगस्त को सुशांत मामले की अंदरूनी वजह सामने रख दी थी। बात ऐसी थी कि बिना पुष्ट प्रमाण के आगे बढ़ाना अपराध होता। अब बड़ी बड़ी एजेंसीज की जांच भी यही सब टीवी पर लीक कर कर के सरकार की …

बेचारी रिया ने कितने सारे दुख सहे!

-अश्विनी कुमार श्रीवास्तव- तौबा तेरा प्यार….और तेरा इमोशनल अत्याचार! क्या हुआ जो सुशांत की मृत मां को मानसिक रोगी बताया। पिता को चरित्रहीन कहा। बहनों को सुशांत के पैसों का लालची बताया। सुशांत को ड्रग एडिक्ट और मानसिक रोगी बताया। सुशांत का नंबर तक ब्लॉक कर दिया। आखिर प्यार करती थी वह सुशांत को।

इंडिया टुडे में कार्यरत पत्रकार ने आंतरिक राजनीति को लेकर पीएमओ को भी लिख दी चिट्ठी! जांच शुरू

आजतक न्यूज चैनल के डिजिटल विंग में कार्यरत पत्रकार राम कृष्ण ने अपने यहां की अंदरुनी राजनीति को लेकर पीएमओ को चिट्ठी लिख दिया है. इसके चलते पीएमओ ने मामला की जांच शुरू करा दी है. नोएडा में डीसीपी स्तर के एक अधिकारी द्वारा इस मामले की जांच की जा रही है. राम कृष्ण का …

लॉकडाउन में मीडिया कर्मियों की छंटनी और वेतन कटौती पर सुप्रीम कोर्ट में कल होगी सुनवाई

देश की सबसे बड़ी अदालत सर्वोच्च न्यायालय में कल शुक्रवार को कोरोना वायरस महामारी के दौरान कुछ मीडिया संगठनों द्वारा पत्रकारों सहित कर्मचारियों के साथ ‘अमानवीय और गैरकानूनी’ व्यवहार किए जाने के आरोपों पर सुनवाई होगी।

आई-नेक्स्ट के पत्रकार पर जानलेवा हमला

बीजेपी सरकार में बढ़े पत्रकारों पर हमले मेरठ से खबर है कि थाना मेडिकल अंतर्गत जाग्रति विहार में दैनिक जागरण समूह के अखबार आई-नेक्स्ट के पत्रकार नवीन सिंह पर देर रात रविराज नामक गुंडे ने आठ दस लोगों के साथ हमला कर दिया.

हिंदुस्तान में भयंकर छंटनी चल रही, एक अन्य संपादक नपा, प्रधान संपादक की नौकरी भी खतरे में!

हिंदुस्तान अखबार में कत्लेआम मचा हुआ है. संपादक से लेकर ट्रेनी तक नापे जा रहे हैं. बताया जा रहा है कि छंटनी रोकने में हिंदुस्तान के प्रधान संपादक शशि शेखर भी नाकाम है. उन्हें दरकिनार कर दिया गया है.

साक्षी जोशी ने लांच किया अपना यूट्यूब चैनल, कई वीडियोज के व्यूज लाख पार

न्यूज चैनलों में असली खबरों, असली मुद्दों, असल सच का स्पेस बिलकुल न रहने के चलते जन सरोकार वाले पत्रकार अब खुद के डिजिटल प्लेटफार्म्स क्रिएट कर रहे हैं. आजतक से मुक्त होकर नवीन कुमार ने अपना यूट्यूब न्यूज चैनल शुरू किया. उसके पहले पुण्य प्रसून बाजपेयी ने यूट्यूब चैनल शुरू कर धूम मचा दिया. …

दैनिक जागरण के एजेंट पर एफआईआर

पीलीभीत में दैनिक जागरण के एजेंट पर गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज… उत्तर प्रदेश के जनपद पीलीभीत में दैनिक जागरण के एजेंट व उसके भाई पर युवक को बंधक बनाकर यातनाएं देने का मुकदमा दर्ज किया गया है।

रुबिका लियाकत टीपी टीपी टीपी! देखें वीडियो

एबीपी न्यूज की एंकर रुबिका लियाकत टीपी टीपी टीपी कहते हुए पकड़ी गईं. उन्हें उनके ही न्यूज चैनल के दर्शकों ने लाइव देख लिया. टीपी टीपी टीपी करते यूं धरे जाने से रुबिका की स्थिति थोड़ी असहज हो गई है. आग में घी डालने का बाकी बचा काम सोशल मीडिया ने कर दिया है. उनका …

योगी सरकार के घटिया खाने से त्रस्त कोरोना पेशेंट्स ने कर दिया भूख हड़ताल, देखें वीडियो

योगी जी के राज में कुछ भी सही नहीं हो रहा है. चोर अफसर हर जगह भरे पड़े हैं. जमकर माल पीट रहे हैं. जनता त्राहि त्राहि कर रही है. कोरोना मरीजों को बेहद घटिया खाना दिए जाने की शिकायत हर जिले से आ रही है और काफी लंबे समय से आ रही है. एक …

हिंदुस्तान लखनऊ के रेजिडेंट एडिटर समेत डेढ़ दर्जन पत्रकारों की नौकरी गई

हिंदुस्तान अखबार के लखनऊ संस्करण से एक बड़ी खबर आ रही है। रेजिडेंट एडिटर मनोज तिवारी कार्यमुक्त हो गए हैं। बताया जाता है कि प्रबंधन ने ब्यूरो और लोकल सहित डेढ़ दर्जन पत्रकारों की नौकरी खा ली है।

नम्बर एक रिपब्लिक भारत ने आजतक को फिर दिया तगड़ा झटका, इंडिया टीवी की सेहत सुधरी

लगातार दूसरे हफ्ते रिपब्लिक भारत नम्बर एक कि कुर्सी पर काबिज है। इस दफे उसने आजतक से फासला और बढ़ा कर नम्बर एक का ताज स्थायी कर लिया है। देखें 33वें हफ्ते की टीआरपी- Weekly Relative Share: Source: BARC, HSM, TG:NCCS 15+,TB:0600Hrs to 2400Hrs, Wk 33

राजेश जेटली खा गए आठ डिजाइनरों की नौकरी

हिंदुस्तान अखबार के नोएडा मुख्यालय से खबर आ रही है कि पेज बनाने वाले आठ मीडियाकर्मियों को नौकरी से निकाल दिया गया है. कोरोना काल में अचानक इस कार्रवाई से सब सकते में हैं.

नवभारत टाइम्स वाले तो बहुत बड़े चोर निकले, देखिए आप भी

नवभारत टाइम्स मुंबई का यह परसों का अखबार है. इसने उपर दी गई खबर को दोपहर का सामना अखबार से चुरा लिया. गल्ती ये कर दी कि इसने चोरी की खबर से दोपहर का सामना अखबार का नाम काटना भूल गया. इसके बाद से सोशल मीडिया पर नवभारत टाइम्स मुंबई की थू थू हो रही …

कोर्ट आर्डर के बाद दैनिक जागरण अपने मीडियाकर्मी को देगा 6 लाख 20 हजार रुपए!

हाई कोर्ट ने जागरण प्रकाशन लिमिटेड को दो माह में 6 लाख 20 हजार रुपए देने का आदेश दिया

नोए़डा के मीडियाकर्मी भी बलिया पत्रकार हत्याकांड से आक्रोशित, देखें तस्वीरें

बलिया में सहारा समय न्यूज चैनल के पत्रकार रतन सिंह की गोली मार कर हत्या किए जाने के प्रकरण से पूरे उत्तर प्रदेश के पत्रकार स्तब्ध हैं. यूपी में लॉ एंड आर्डर की दिनोंदिन खराब होती दशा के चलते पत्रकार सबसे ज्यादा झेल रहे हैं. सरकारी अधिकारियों, नेताओं, बदमाशों सबके निशाने पर आ जा रहे …

तबीयत बिगड़ने के कारण अस्पताल में एडमिट हुए उपेंद्र राय!

सहारा मीडिया के सीईओ और एडिटर इन चीफ उपेंद्र राय के बारे में खबर आ रही है कि वे दिल्ली में बसंतकुंज इलाके में स्थित फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराए गए हैं. लगातार चार दिनों से उनका बुखार कम नहीं हो रहा है. 104 डिग्री तक बुखार रहने के कारण उन्हें चार दिनों बाद फोर्टिस …

पत्रकार हत्याकांड पर कमिश्नर से मिले बलिया के मीडियाकर्मी

बलिया । टीवी चैनल के पत्रकार रतन सिंह की हत्या से आक्रोशित जिला मुख्यालय के पत्रकार आज मंडलायुक्त विजय विश्वास पंत से मिले। मंडलायुक्त ने इस हत्याकांड की निष्पक्ष जांच व शेष अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी का भरोसा दिलाया है। उन्होंने कहा है कि मृतक पत्रकार की पत्नी को तत्काल संविदा के आधार पर नौकरी …

भारत समाचार चैनल को युवा पत्रकारों की जरूरत

लखनऊ से संचालित यूपी-उत्तराखंड के रीजनल न्यूज चैनल ‘भारत समाचार’ को युवा पत्रकारों की जरूरत है. चैनल को असिस्टेंट प्रोड्यूसर, ग्राफिक डिजायनर और ट्रेनी की जरूरत है.

तोड़-मरोड़कर खबर चलाने के आरोप में टीवी पत्रकार पर दर्ज हुआ मुकदमा

न्यूज 18 उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड के हमीरपुर संवाददाता उमाशंकर मिश्रा के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो गया है। कोविड संकट से निपटने के लिए हाईकोर्ट के आदेश का अनुपालन करते हुए हमीरपुर के जिलाधिकारी ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने दिशा-निर्देश जारी किए थे. इसको लेकर खबर चलाने पर उमाशंकर के खिलाफ 420, 505 व आपदा अधिनियम 2005 की धारा …

बलिया में सहारा के पत्रकार की हत्या के बाद आगरा के पत्रकारों ने इस अंदाज में जताया विरोध, देखें तस्वीरें

आगरा के शहीद स्मारक पर पत्रकारों ने दी श्रद्धांजलि, घर के किसी एक मेंबर को सरकारी नौकरी और 50 लाख रुपए मुआवजा दिलाने की प्रदेश सरकार से की मांग…

जैकब मैथ्यू ने न्यूज़24 को अलविदा कहा!

मीडिया में 26 साल का अनुभव रखने वाले जैकब मैथ्यू के बारे में ये खबर आ रही है कि उन्होंने न्यूज़24 को अलविदा कह दिया है. जैकब पिछले 6 साल से न्यूज़24 में बतौर असाइनमेंट एडिटर के तौर पर कार्यरत रहे.

पंकज श्रीवास्तव अमर उजाला डिजिटल में बने चीफ सब एडिटर

लखनऊ से सूचना है कि पंकज श्रीवास्तव ने अमर उजाला अखबार के साथ नई पारी की शुरुआत की है. पंकज अमर उजाला के डिजिटल सेक्शन में चीफ सब एडिटर बनाए गए हैं. उन्हें वेब की पूरी जिम्मेदारी मिली है.

यशवंत बन गए स्वास्थ्य बीमा कंपनी के एजेंट!

Yashwant Singh : कल मैंने पूछा था- ”मेरे अलावा कोई और भी वीर-जवान है जिसने अब तक हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी न ले रखी हो?” ये सवाल क्यों पूछा, इसका विस्तार से जवाब आज दे रहा हूं. ये जवाब बहुतों का मार्गदर्शन करेगा, ये उम्मीद करता हूं.

कई गिरगिट देखे होंगे, मगर इस आजतक न्यूज़ चैनल जैसा नही!

संतोष सिंह सबसे ज्यादा चिढ़ अभी #आज_तक न्यूज़ चैनल से आ रही है। सुशान्त की डेथ को मुम्बई पुलिस के हवाले से लगातार सुसाइड बताने के चक्कर में अपनी TRP खो रहा यह चैनल आजकल सुशान्त की मौत को साजिश मानने लगा है।

गर्भवती महिला द्वारा लगाए गए आरोपों पर नोएडा के पत्रकार ललित मोहन ने भेजा अपना पक्ष, पढ़ें

सेवा मेंbhadas4mediaश्रीमान संपादक महोदयभड़ास4मीडिया मैं आपके संज्ञान में लाना चाहता हूं आपके यहां एक महिला के पक्ष में मेरे खिलाफ एक खबर प्रकाशित हुई थी जिसमे अपने मेरा पक्ष को भी प्रकाशित करने के लिए कहा था उसके लिए पहले आपका धन्यवाद करता हूँ।

कार्यदायी संस्था के खिलाफ खबर न लिखने के लिए पत्रकारों का बंध गया महीना!

पिछले दो माह से चल रहा है यह खेल, अखबारों से गायब हुईं सीवरेज व आम आदमी से जुड़ी असली खबरें, बुलंदशहर में 6 हजार रुपए महीने में भर गए सड़को के गड्ढे, सीवरेज प्लांट के नाम पर पूरे शहर की सड़कों की कर दी खुदाई

‘गांडीव’ से मजीठिया की लड़ाई जीते सुशील मिश्र के मैटर में फैसले की कापी देखें

बनारस के अखबार ‘गांडीव’ के मीडियाकर्मी सुशील मिश्र ने मजीठिया वेज बोर्ड मामले में लड़ाई जीत ली है.

क्या योगीराज में भू-माफिया से हार जाएगी ये महिला पत्रकार?

मेरे लिए कानून कहा खड़ा है? मेरे घर पर पिछले तीन महीने से भूमाफिया का ताला बंद है। पिछले तीन महीने से अपने ही घर से बाहर कर दी गई हूं। घर पर भूमाफिया का ताला बंद है, कानून का राज है, इसीलिए मैं अपनी 78 वर्ष की बूढ़ी मां के साथ अपने घर तक …

गाजीपुर पत्रकार एसोसिएशन के अध्यक्ष निर्वाचित हुए विनोद कुमार पांडेय

गाजीपुर पत्रकार एसोसिएशन की निर्वाचन प्रक्रिया अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रमानुसार मिश्र बाजार कैम्प कार्यालय पर सम्पन्न हुई। चुनाव अधिकारियों के निर्देशन में सम्मानित सदस्यों के सहयोग से चुनाव सकुशल सम्पन्न हुआ।

मजीठिया युद्ध में विनय सिंह ने ‘आज’ अखबार को दी पटखनी

काशी पत्रकार संघ व समाचार पत्र कर्मचारी यूनियन को मिली एक और सफलता वाराणसी। मजीठिया मामले की लड़ाई लड़ रहे काशी पत्रकार संघ व समाचारपत्र कर्मचारी यूनियन को एक और बड़ी सफलता हासिल हुई है। वाराणसी श्रम न्यायालय ने काशी पत्रकार संघ के सदस्य व वरिष्ठ पत्रकार विनय सिंह के पक्ष में फैसला सुनाते हुए …

यशवंत ने यूट्यूब के सबसे महाबकवास वीडियो का निर्माण कर दिया, देखें

ये दौर ‘यूट्यूब पत्रकारिता’ का है. मुझे अक्सर लगता है कि गूगल वालों ने यूट्यूब शब्द जानबूझ कर इजाद किया. यूट्यूब का मतलब यू ट्यूब यानि तुम ट्यूब हो. तुम्हारे दिमाग रूपी ट्यूब में जो हवा भरा है उसे निकालो मत, फुलाते जाओ. हवा भरते जाओ. ऐसे करते करते एक रोज पग धरती से उठ …

कोरोना के नाम पर अफसरों ने ‘शिलांग टाइम्स’ अखबार को ही बंद करा दिया!

IJU Concern Over ‘Shutdown’ of Shillong Times New Delhi, 24 August 2020: The Indian Journalists Union expresses concern over the random shutdown of The Shillong Times, by the District authorities after declaring its office building as containment area and reported violations of COVID-19 protocol. Given that media is an ‘essential service’, the newspaper management should …

हेमंत शर्मा का कोविड मुठभेड़ पार्ट दो पढ़ें

Hemant Sharma : कोविड से मुठभेड़ कर लौट आया -दो कोरोना के दंश को झेलते हुए मैं लगातार स्मृतियों के समंदर में डूबता जा रहा हूं। एक के बाद दूसरी स्मृतियां सजीव हो उठी हैं। जो छूटता दिख रहा है, उसका दुख सता रहा है। जो अपूर्ण है, उसकी कसक बेचैन कर रही है। आज …

एंकर अपने हाथ में वायरलेस वाकी-टॉकी क्यों लिए रहते हैं?

Yashwant Singh : कोई जानकार इस पर रोशनी डाले, किसी भड़ासी ने पूछा है- नमस्कार यशवंत भैया। आशा है कि कोरोना काल मे आप अपने घर मे सुरक्षित और आनंद से होंगे। आप खबरों के जानकार हैं और खबरियों के भी। इधर जब भी न्यूज चैनल देखता हूँ तो एक बात समझ में नहीं आती …

जी हिंदुस्तान न्यूज चैनल से डेढ़ दर्जन मीडियाकर्मी कर दिए गए बर्खास्त!

जी ग्रुप का एक न्यूज चैनल है ‘जी हिंदुस्तान’ नाम से. इस न्यूज चैनल की लांचिंग से अब तक बेहद अल्प समय में जितने किस्म के प्रयोग हो चुके हैं, वह एक रिकार्ड है. पहले बड़े बड़े विज्ञापन छपवाए गए कि ये एंकर विहीन चैनल होगा, यहां सिर्फ खबरें होंगी.

मोदी सरकार के कई मंत्रियों के विभाग बदलने और बीजेपी संगठन में भी बड़े बदलाव की तैयारी

निरंजन परिहार नई दिल्ली। अब वह वक्त आ गया है कि नरेंद्र मोदी सरकार की टीम में फेरबदल और विस्तार हो जाना चाहिए। वैसे, लोग जो सोचते हैं, प्रधानमंत्री मोदी उसके अनुरूप कम ही करते हैं। फिर भी हालात भी बता रहे हैं कि केंद्रीय मंत्रिमंडल में फेरबदल और विस्तार का यह महत्वपूर्ण काम अब …

हेडिंग में टाइपिंग मिस्टेक को ब्यूरो चीफ ने स्वीकारा, नाबार्ड अधिकारी ने मुद्दा बना दिया

बैंकों ने नहीं बांटा एक भी मुद्रा लोन मॉनिटरिंग में नाबार्ड फिसड्डी हिंदुस्तान में प्रकाशित उपरोक्त शीर्षक वाली खबर में धोखे से मॉनिटरिंग शब्द हेडिंग छोटी करने में कट हो गया और इसको नाबार्ड के अधिकारी ने इशू बनाया, हालांकि बाद में संबंधित अधिकारी को फोन पर वार्ता कर संतोषजनक जवाब दिया गया।.

क्या सरकारी धमकी से डर कर नवभारत टाइम्स की डिजिटल टीम ने बदल दी हेडिंग!

सोशल मीडिया में नवभारत टाइम्स की खूब हंसी हो रही है. इस अखबार की डिजिटल टीम ने अपनी वेबसाइट पर जिस खबर का प्रकाशन किया, उसे बाद में संशोधित कर दिया.

जमात पर बॉम्बे हाईकोर्ट का फैसला दैनिक जागरण अखबार के अलीगढ़ संस्करण से गायब!

जमात से जुड़े बांबे हाईकोर्ट के फैसले को दैनिक जागरण ने अपने पाठकों तक नहीं पहुंचाया। कायदे से यह खबर पहले पन्ने पर होनी चाहिए। अमर उजाला में इसे अंदर के पन्नों पर जगह मिली है। बहुत अच्छा तो नहीं लेकिन ठीक ठाक कवरेज कहा जाएगा। पर दैनिक जागरण तो एकदम से चुप्पी साध गया।

माओवादी कह आदिवासी का मर्डर करने वाला CRPF अफसर जांच में दोषी

रूपेश कुमार सिंहस्वतंत्र पत्रकार गिरफ्तारी के लिए कोर्ट से मांगा वारंट… झारखंड के प्रसिद्ध सारंडा जंगल में सीआरपीएफ द्वारा फर्जी मुठभेड़ में एक आदिवासी मंगल होनहागा की हत्या 29 जून, 2011 को कर दी गयी थी। इस मुठभेड़ की सीआइडी द्वारा किये गये जांच जाने के बाद सीआरपीएफ की 97वीं बटालियन के तत्कालीन सहायक कमांडेंट …

लखनऊ में पत्रकार ने ही पत्रकार पर हमला कर की लूटपाट, देखें एफआईआर

लखनऊ में कथित पत्रकार हिमांशु त्रिपाठी के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है. हिमांशु यूट्यूब चैनल व वेब पोर्टल संचालित करते हैं.

डीजीपी की रिया पर टिप्पणी संबंधी कंप्लेन लेने से महिला आयोग का इनकार, आपत्ति दर्ज

राष्ट्रीय महिला आयोग ने सुशांत सिंह केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय द्वारा अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती के संबंध में की गयी व्यक्तिगत टिप्पणी विषयक लखनऊ स्थित एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर की शिकायत को पंजीकृत करने से मना कर दिया.

राजस्थान पत्रिका ग्रुप में भयंकर छंटनी, देखें टर्मिनेशन लेटर

चर्चा है कि नेशनल हेड (कॉर्पोरेट मल्टीमीडिया) प्रवीण मल्होत्रा को भी पत्रिका ने हटा दिया है.

मीडियाकर्मी की सेवा बहाली के साथ ही 6 वर्ष का वेतन व अन्य पावना देने का आदेश

बनारस के अखबार ‘गांडीव’ के मीडियाकर्मी सुशील मिश्र को मजीठिया वेज बोर्ड मामले में मिली जीत, काशी पत्रकार संघ व समाचार पत्र कर्मचारी यूनियन की मजबूत पैरवी से मिली बड़ी सफलता

जमात के बाद दाऊद कवरेज में भी झूठे साबित हुए एजेंडाबाज ‘गोदी’ न्यूज़ चैनल!

Mohd Zahid : चकला घर :- मीडिया और वैश्या…. भारत की मीडिया को देखता हूँ तो पटाया और लाॅस वेगास की वह वैश्याएँ इज़्ज़तदार लगने लगती हैं जो अपनी छाती पर टैग लगाए किसी शोरूम में खड़ी रहती हैं। ग्राहक उनकी कीमत चुकाता है और लेकर चला जाता है।

इन ‘गोदी’ एंकरों का कोर्ट ने किया मुंह काला!

Sarfaraz Nazeer : जब ये सब मिल कर टीवी 24×7 जमाती जमाती कर रहे थे और इनके इंफ्लुएंस में आकर अच्छा भला आदमी भी जमातियों को कोरोना फैलाने का ज़िम्मेदार बता रहा था तब भी मैं घर से लेकर कचहरी और चौराहे से लेकर चाय की दुकान पर इनका पक्ष रख रहा था, धारा के …

कोरोना की पीठ पर सवार हो मृत्य से साक्षात्कार कर लौटे हेमंत शर्मा की कहानी उन्हीं की जुबानी सुनिए

-हेमंत शर्मा– लौट आया कोविड से मुठभेड़ करके…. तो हो गयी अपनी भी मुठभेड कोविड से। भयानक। हाहाकारी और लगभग जानलेवा। बस यूं समझिए कि तीन रोज तक मौत से सीधा आमना-सामना था और मैं बस ज़िन्दगी और मौत के पाले को छूकर लौट आया। बीस रोज तक अस्पताल में कोविड से लड़ा। कभी थका …

झटका लगने के बाद आजतक चल पड़ा रिपब्लिक भारत के रास्ते!

-दयाशंकर शुक्ल सागर- देखिए टीवी के न्यूज चैनल कैसे काम करते हैं. रिपब्लिक भारत पिछले डेढ महीने से सिर्फ और सिर्फ सुशांत डेथ मिस्ट्री चला रहा है. और TRP के खेल यानी हफ़्ते की रेटिंग में कभी वह दूसरे तो कभी तीसरे नम्बर पर रहने लगा. लेकिन इस हफ्ते वह देश का नम्बर-1 चैनल बन …

ज़ी न्यूज के कैमरामैन रज्जन लाल कैंसर से हार गये

ज़ी न्यूज़ के लखनऊ ब्यूरो कार्यालय में लम्बे समय तक सेवायें देने वाले कैमरामैन रज्जन लाल को जीवन के कष्ठों से मुक्ति मिल गयी। लम्बी बीमारी के बाद लखनऊ स्थित ग्रेस हॉस्पिटल में आज उनका निधन गया।

18 साल बाद ज़ी न्यूज़ से मुक्त हुए राहुल सिन्हा

जी न्यूज के वरिष्ठ एंकर राहुल सिन्हा अब आज़ाद हो गए हैं। 18 साल बाद उनका ज़ी न्यूज़ से नाता टूटा है। इस्तीफे की वजह क्या है, इसके बारे में विस्तार से जानकारी खुद राहुल सिन्हा सोशल मीडिया पर लाइव होकर देंगे।

मनोनुकूल टीआरपी रिकॉर्ड करने को टीवी देखने के पैसे दिए जाते हैं!

-विवेक सत्य मित्रम- बात पुरानी है। जब टीआरपी का पैमाना टैम हुआ करता था, और मैं एक चैनल का संपादकीय प्रमुख, तब टैम से जुड़े अधिकारी ने अनौपचारिक बातचीत में खुलासा किया था कि राजधानी दिल्ली में टीआरपी मापने वाले सबसे ज़्यादा बक्से सीलमपुर में लगाए गए है़ं! और दूसरे शहरों में भी कमोबेश ऐसे …

यूपी पुलिस द्वारा पत्रकार प्रशांत कन्नौजिया की गिरफ्तारी की आईजेयू ने की निंदा

New Delhi : The Indian Journalists Union condemns the UP police action of again arresting journalist Prashant Kanojia following a complaint against his alleged tweet filed by a BJP leader in Lucknow. Demanding his immediate release, the IJU questioned the FIR lodged against Kanojia and whether there was rule of law in Yogi Adityanath’s State.

सुशांत, शिवसेना, सुप्रीमकोर्ट, सीबीआई और सरकार पर संकट !

सुप्रीम कोर्ट ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में जांच भले ही सीबीआई को सौंप दी हो लेकिन अभी भी राजनीति रुकने का नाम नहीं ले रही। दिल्ली और बिहार से लेकर मुंबई तक इस मामले में राजनीति देखने व सुनने को मिल रही है। पूरे मामले में साफल लगता रहा कि …

विश्व फोटोग्राफी दिवस के दिन न्यूज फोटो एजेंसी ‘न्यूज ग्राफ’ लांच

World Photography Day : Photojournalists launch News Photo Agency Shall provide large pool of pics for ‘pay and use’ model With an aim to revolutionise the world of photo journalists, an innovative photo agency, News Graph has been launched.

पत्रकार विनय पांडेय ने बनाया टिक टॉक जैसा एप

दिल्ली के कई मीडिया संस्थानों में नौकरी कर चुके विनय पांडेय ने कई सारे चायनीज ऐप बंद किए जाने के बाद स्वदेशी टिक टॉक बनाया है. इसका नाम kuchi kuchi है. इसे प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है.

सुनवाई के दौरान गायब रहा राजस्थान पत्रिका प्रबंधन, लगी फटकार

अगली तारीख में हाजिर रहने का निर्देश लॉकडाउन के दौरान मुंबई से अपने संपादकीय समेत कॉरपोरेट ऑफिस को अचानक बंद करके गायब हुए राजस्थान पत्रिका प्रबंधन को सुनवाई में उपस्थित न रहने पर महाराष्ट्र कामगार आयुक्त की ओर से बुधवार को फटकार लगाई गई और साथ ही अगली तारीख में बांद्रा स्थित कार्यालय में उपस्थित …

मजदूरी का भुगतान न करना श्रमिकों के जीवन के अधिकार का उल्लंघन है : बॉम्बे हाई कोर्ट

मुंबई : श्रमिकों को मजदूरी का भुगतान करने में देरी या वेतन न देना संविधान के अनुच्छेद 21 द्वारा प्रदत्त जीवन के उनके अधिकार का उल्लंघन है। यह बात बॉम्बे हाई कोर्ट ने बुधवार को कही।

ITV गुजरात ने पढ़ा ज़मीर का जनाजा, ये रहा आधिकारिक ‘झांसापत्र’!

आईटीवी नेटवर्क के ‘नौकरों’ ने ज़मीर का जनाजा पढ़ लिया है! किसी कर्मचारी को त्रासदी देने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। इनके हर एक रीजनल चैनल में कोई न कोई परेशान है। ऐसा ही कुछ गुजरात ब्यूरो में भी हुआ। इस नेटवर्क में HR फोन कर दफ्तर नहीं आने देने का दबाव बनाता है। …

दैनिक जागरण में रेड स्टार का खेला, होम कोरंटाइन समीक्षकों की बल्ले-बल्ले

कोरोना काल में दैनिक जागरण अखबार का मार्गदर्शक मंडल खूब सक्रिय हो गया है। अखबार के कुछ बूढ़े कमियां गिनाकर दूसरों की नौकरी लेने और खुद की उपयोगिता सिद्ध करने में जी-जान से जुट गए हैं। ये अखबार के वैसे समीक्षक हैं, जो कोरोना की चर्चा शुरू होने के बाद दफ्तर जाना भूल गए हैं। …