पत्रकार से बदसलूकी करने वाले दो एसआई समेत चार पुलिसकर्मी लाइन से अटैच

विदिशा : पत्रकार संजय भार्गव के साथ बदसलूकी करने वाले पुलिसकर्मियों को लाइन अटैच किया गया है। जानकारी के अनुसार 27 मार्च को जुलूस के कवरेज के दौरान पुलिस ने पत्रकार से बदसलूकी करते हुए उनके खिलाफ ही एफआईआर दर्ज कराई थी। सीएसपी नागेंद्र पटेरिया ने बताया कि एसआई एचएस राजावत, एसआई वीरेंद्र सेन, प्रधान …

नेहा, पंकज, चंद्रशेखर को उमेश डोभाल पुरस्कार, कठोच, नेगी, सुयाल भी सम्मानित

पौड़ी (उत्तराखण्ड)। उमेश डोभाल स्मृति ट्रस्ट पौड़ी द्वारा आयोजित रजत जयंती समारोह में पुरातत्वविद और इतिहासकार डा. यशवंत कठोच को उमेश डोभाल स्मृति सम्मान, समाजसेवी धूम सिंह नेगी को राजेंद्र रावत जन सरोकार सम्मान और कवि निरंजन सुयाल को गिरीश तिवारी ‘गिर्दा’ जनकवि सम्मान से सम्मानित किया गया। इसके अलावा पत्रकार डा. उमाशंकर थपलियाल और भवानी शंकर थपलियाल को मरणोपरांत विशिष्ठ सम्मान प्रदान किया गया। उमेश डोभाल युवा पत्रकारिता पुरस्कार हिंदुस्तान टाइम्स की देहरादून संवाददाता नेहा पंत को प्रिंट मीडिया में, ईटीवी संवाददाता पंकज गैरोला को इलेक्ट्रानिक मीडिया में और चंद्रशेखर करगेती को, साइबर मीडिया में जनसरोकारी पत्रकारिता के लिए पुरस्कृत किया गया।

हम हार नहीं मानेंगे! हम लड़ना नहीं छोड़ेंगे!

25 मार्च को दिल्ली में मज़दूरों पर जो लाठी चार्ज हुआ वह दिल्ली में पिछले दो दशक में विरोध प्रदर्शनों पर पुलिस के हमले की शायद सबसे बर्बर घटनाओं में से एक था। ध्यान देने की बात यह है कि इस लाठी चार्ज का आदेश सीधे अरविंद केजरीवाल की ओर से आया था, जैसा कि मेरे पुलिस हिरासत में रहने के दौरान कुछ पुलिसकर्मियों ने बातचीत में जिक्र किया था। कुछ लोगों को इससे हैरानी हो सकती है क्योंकि औपचारिक रूप से दिल्ली पुलिस केंद्र सरकार के मातहत है। लेकिन जब मैंने पुलिस वालों से इस बाबत पूछा तो उन्हों ने बताया कि रोज-ब-रोज की कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए दिल्ली पुलिस को दिल्ली के मुख्यमंत्री के निर्देशों का पालन करना होता है, जबतक कि यह केन्द्र सरकार के किसी निर्देश/आदेश के विपरीत नहीं हो।

आम आदमी पार्टी ने लात-घूसे के बीच योगेंद्र, प्रशांत, आनंद और अजित को राष्ट्रीय कार्यपरिषद से निकाला

दिल्ली : दिल्ली-गुड़गांव सीमा पर शनिवार को कापसहेड़ा में राष्ट्रीय परिषद की बैठक में प्रशांत भूषण और योंगेद्र यादव, अजीत झा और प्रोफेसर आनंद कुमार को आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी से बाहर कर दिया गया है। प्रस्ताव पर 200 सदस्यों ने हस्ताक्षर कर दिए। केजरीवाल धड़े का मानना है कि इन चारो नेताओं ने केजरीवाल को ‘आप’ के राष्ट्रीय संयोजक के पद से हटाने के लिए साजिश रची। बैठक में जमकर लात-घूंसे भी चले, जिससे कई एक घायल हो गए। योगेंद्र यादव के समर्थक रमजान चौधरी को बाउंसर्स ने उठा कर पटक दिया। उनके पैर की हड्डी टूट गई। एक और नेता का पैर टूट गया। आरोप है कि बैठक हॉल में तीन दर्जन से अधिक बाउंसर्स तैनात किए गए थे।

आम आदमी पार्टी की बैठक के दौरान धक्कामुक्की के बाद धरने पर बैठे योगेंद्र यादव

आम आदमी पार्टी के मीटिंग स्थल पर योगेंद्र यादव से धक्का-मुक्की, धरने पर बैठे

 नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक के लिए पार्टी के नेता बैठक स्थल पर पहुंचने लगे, उसी बीच बैठक स्थल पर योगेंद्र यादव के साथ आप के कार्यकर्ताओं ने धक्का-मुक्की की और उनके विरोध में नारे लगाए।