अखबार मालिक शैलेंद्र भदौरिया को इस महिला मीडियाकर्मी ने सबक सिखाया

Yashwant Singh : एक महिला मीडियाकर्मी अपने हक के लिए कोर्ट गई और अखबार मालिक के खिलाफ कुर्की का आदेश निकलवा लाई. मीडिया वाले अगर इसी तरह से साहसी और तेवरदार हो जाएं तो मीडिया मालिकों की बेईमानी की बैंड बज जाए. हाल के दिनों में जब मजीठिया वेज बोर्ड की लड़ाई लड़ने वालों को सुप्रीम कोर्ट ने साफ-साफ, सीधे-सीधे न्याय न देते हुए अखबार मालिकों को दोषी मानने, जेल भेजने से मना कर दिया, तब लगा कि सच में धनवानों के लिए न्याय की परिभाषा अलग होती है. पर इस एक मामले में (नेशनल दुनिया अखबार) कोर्ट ने जिस तरह की सख्ती दिखाई है, वह काबिलेतारीफ है.

बिजनेस टेलिविजन इंटरनेशनल की संपत्ति कुर्क करने का आदेश

दिल्ली : एडीशनल डिस्ट्रिक्ट जज जी. के. गौर ने बिजनेस टेलिविजन इंटरनेशनल लिमिटेड की दक्षिण दिल्ली के उदय पार्क स्थित संपत्ति कुर्क करने का आदेश दिया है।  कंपनी सन 2000 में बंद हो गई थी। बाद में उसने कर्मचारियों को वेतन देने के आदेश का ठुकरा दिया था।

इंदौर प्रेस क्लब के खिलाफ कुर्की के आदेश जारी

इंदौर के अष्टम अपर जिला न्यायाधीश ने इंदौर प्रेस क्लब के खिलाफ 16 लाख 37000 हज़ार रुपए की डिक्री के आदेश दिए हैं। कोर्ट ने ये आदेश शरदचंद जैन की और से दायर मामले पर दिए हैं। मामले के मुताबिक शरदचंद जैन ने अपनी फर्म ‘सुदर्शन टीवी चैनल’ के ऑफिस के लिए इंदौर प्रेस क्लब के प्रस्तावित बहुमंजिला भवन में तीन प्रकोष्ठों के लिए 13 नवंबर 2010 से मई 2011 के बीच 12 लाख रुपए का भुगतान किया था। बाद में शरदचंद जैन को पता चला कि इंदौर प्रेस क्लब ने उक्त भवन का निर्माण अवैध रूप से किया है। जमीन प्रेस क्लब की नहीं है। भवन निर्माण के नक़्शे को भी इंदौर नगर निगम ने अनुमति नहीं दी है और प्रेस क्लब ने अन्य जरूरी अनुमतियाँ भी विभिन्न विभागों से प्राप्त नहीं की है।