हामिद अंसारी ने किया राज्यसभा टीवी के नए कलेवर का अनावरण

उप राष्ट्रपति मोहम्मद हामिद अंसारी ने विज्ञान भवन में राज्यसभा टीवी के नए कलेवर का अनावरण किया। इस कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि देश में अभी भी अंधविश्वास और कुरीतियां हैं,जिन्हें दूर करने में विज्ञान और मीडिया बड़ी भूमिका निभा सकते हैं। उपराष्ट्रपति ने देश में विज्ञान प्रसार के लिए नया टीवी चैनल लाने पर ज़ोर दिया।

इस मौके पर उपराष्ट्रपति  ने विज्ञान से जुड़ी ‘मोमेंट्स ऑफ यूरेका’ और साइन्टिफिकली योर्स नाम की पुस्तकों का विमोचन भी किया…ये पुस्तकें राज्य सभा टीवी के विज्ञान पर आधारित यूरेका कार्यक्रम में शामिल वैज्ञानिकों के साक्षात्कार पर आधारित है । कार्यक्रम में सांइटिफिक टेम्पर पर परिसंवाद भी हुआ, जिसमें कई मशहूर वैज्ञानिकों ने हिस्सा लिया।

नोबेल पुरस्कार से सम्मानित प्रो आर वेंकटरमन रामकृष्णन ने भारतीय भाषाओं में विज्ञान को बढ़ावा देने पर जोर दिया। परमाणु ऊर्जा आयोग के पूर्व अध्यक्ष अनिल काकोड़कर ने तकनीक के बेहतर इस्तेमाल की वकालत की।

वैज्ञानिक प्रोफेसर इंदिरा नाथ ने तार्किकता को जरूरी बताया। वहीं प्रोफेसर आर गडगकर ने वैज्ञानिक और गैर वैज्ञानिकों के बीच अंतर खत्म करने की बात कही। इस मौके पर राज्यसभा टीवी के सीईओ गुरदीप सिंह सप्पल ने कहा कि विज्ञान, कला और संस्कृति के क्षेत्र में राज्यसभा टीवी ने अपने शुरुआत से ही काफी काम किया है और आगे भी इस दिशा में काम करता रहेगा।

उन्होंने कहा कि राज्यसभा टीवी समाज में विज्ञान के क्षेत्र में जागृति फैलाने के लिए आर्य भट्ट, होमी जहांगीर भाभा जैसे मशहूर वैज्ञानिकों पर फ़िल्म भी बना रहा है। राज्यसभा टीवी के कार्यकारी निदेशक राजेश बादल ने समारोह में आए वैज्ञानिकों और श्रोताओं का आभार जताया। उन्होंने कहा, समाज में वैज्ञानिक चेतना के लिए राजयसभा टीवी काम करता रहेगा।

कार्यक्रम की तस्वीरें देखने के लिए नीचे क्लिक करें>

pictures

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

दैनिक ‘सन्मार्ग’ पटना से री-लांच, विनायक बने विशेष संवाददाता

पूर्व में फ्रेन्चाइजी के रूप में पटना से प्रकाशित होने वाला दैनिक सन्मार्ग एक बार फिर से 15 अगस्त को पटना से री-लांच हुआ। विनायक विजेता अखबार के विशेष संवाददाता के रूप में अपनी नई पारी शुरू कर रहे हैं। 

गौरतलब है कि वर्ष 2007 से इसकी फ्रेन्चाइजी प्रत्युष नेटवर्क, जिसका मालिकाना हक पटना के वरीय पत्रकार श्रीकांत प्रत्युष के हाथों में था, के द्वारा प्रकाशित किया जा रहा था। इस अखबार का प्रकाशन पिछले डेढ़ वर्षों से पटना से बंद था। 15 अगस्त 2015 को री-लांच हुए इस अखबार का स्वामित्व, प्रकाशक मुद्रक व संपादक प्रेम हैं, जो रांची से भी दैनिक ‘सन्मार्ग’ का प्रकाशन करते हैं। 

हालांकि प्रकाशन के पहले दिन इस अखबार में ऐसा कुछ नहीं दिखा, जिससे यह लगे कि यह अखबार पटना से प्रकाशित अन्य अखबारों के लिए निकट भविष्य में कोई चुनौती दे पाएगा। ‘सन्मार्ग’ ग्रुप ने हिन्दी का अखबार दैनिक ‘सन्मार्ग’के साथ उर्दू में ‘अवामी न्यूज’ व अंग्रेजी में  ‘मार्निंग इंडिया’ को भी पटना से लांच किया है। पटना से मिल रही खबरों के अनुसार ‘सन्मार्ग’ प्रबंधन बिहार के चर्चित पत्रकार विनायक विजेता सहित पटना के कुछ वरिष्ठ पत्रकारों को भी अपने साथ जोड़ पटना से प्रकाशित अन्य अखबारों को चुनौती देने की योजना पर काम कर रहा है। 

पटना से प्रकाशित दैनिक हिन्दुस्तान में आठ वर्षों तक वरीय संवाददाता रहे विनायक विजेता को पुलिस विभाग, अपराध और अन्य कुछ महत्वपूर्ण विभागों की खोजी और विस्फोटक खबर जुटाने में माहिर माना जाता है और अगर वह अपनी नई पारी सन्मार्ग के साथ शुरु कर रहे हैं तो वह अन्य अखबारों के संवाददाताओं के लिए चुनौती साबित हो सकते हैं।

पटना से एक पत्रकार की रिपोर्ट

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Doordarshan’s website relaunched to increase accessibility

New Delhi, 21st Jan: The public broadcaster of India, Doordarshan’s website, www.ddindia.gov.in was launched with a new look on 14th January 2015. The new look of the website is very fresh, vibrant, contemporary and colorful. The emphasis is as much on aesthetic appeal as it is on content and administration related details. The new website also offers ease of navigation as it has dedicated pages of each national channel including one for DD Kisan channel which is yet to be launched.

Touted to be the corporate website, Doordarshan’s new launched website further links the user to all regional channels existing websites. The latest topics on the homepage range from specific details on DD Free Dish to news headlines to scheduled movies of the week and easy social media accessibility. Also, via website, users would be able to access the live streaming of DD News.

To infuse vibrancy, the website also offers a clickable option for the users to view the website in four different color themes. The users can also change the sizes of the fonts for ease of legibility. An added new feature that merits mention is the dynamically updated Programme schedule of national channels with regular update being done remotely by What’s On India. This channel guide allows users to view the programs being telecast for that particular time band on each channel, as well as the programs lined up for the entire day.

The Multi-Media Gallery section incorporated in the newly launched Website details out the users on the latest developments and upcoming Events at Doordarshan. For greater speed and ease of navigation, superior technology has been incorporated while designing the website. Access to sub-sections has been made quicker and easier. The browsing experience on www.ddindia.gov.in has been made richer. This mobile-friendly and content rich website is being maintained by NIC.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

डीडी न्यूज सिर्फ हिंदी खबरों का चैनल होगा, अंग्रेजी की होगी छुट्टी!

खबर आ रही है कि डीडी न्यूज से अंग्रेजी की छुट्टी होगी. यह चैनल सिर्फ हिंदी खबरें दिखाएगा. डीडी न्यूज को चौबीसों घंटे का हिंदी न्यूज चैनल बनाकर रीलांच करने की तैयारी चल रही है. बाद में एक नया चैनल अंग्रेजी खबरों का लांच किया जाएगा. अभी डीडी न्यूज में हिंदी और इंग्लिश दोनों भाषाओं में खबरें आती हैं.

दो भाषाओं का चैनल होने के कारण इसका कोई अपना दर्शक वर्ग तैयार नहीं हो पा रहा है. दो भाषाओं के दर्शकों को रिझाने के चक्कर में हाथ कोई भी दर्शक नहीं आ रहा है. इसी कारण डीडी न्यूज को हिंदी दर्शकों के लिए बनाने की तैयारी की जा रही है.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

परसों यानि 19 अक्टूबर से बदल जाएगा आईबीएन7, स्मिता शर्मा गईं हेडलाइंस टुडे

आईबीएन7 को परसों यानि 19 अक्टूबर को री-लांच किया जाएगा. आशुतोष और राजदीप सरदेसाई के जाने के बाद आईबीएन7 की कमान पूरी तरह रिलायंस के हाथों आ गई है. मुकेश अंबानी ने अपने आदमियों के हवाले चैनल को कर दिया है. उमेश उपाध्याय और सुमित अवस्थी चैनल को री-लांच करा रहे हैं. बदलाव के क्रम में आईबीएन7 अपनी नई टैग लाइन ‘हौसला है’ के साथ सामने आएगा. चैनल का कहना है कि एक नया और सकारात्मक दृष्टिकोण, रिपोर्टरों की समर्पित टीम, नए शो, तेज और स्पष्ट ग्राफिक्स कड़े मुकाबले वाले हिंदी न्यूज जैनर में आईबीएन7 को एक अलग और मजबूत मुकाम पर ले जाएंगे.

चैनल की तरफ से जारी खबर के मुताबिक देशभर में 2000 से भी ज्यादा रिपोर्टरों का साथ, चैनल की कवरेज के दायरे को इतना विस्तार देगा जिसकी बराबरी कोई दूसरा नेटवर्क नहीं कर सकता. चैनल का फोकस ज्यादा से ज्यादा न्यूज देने पर होगा, न कि व्यूज या ओपीनियन पर जो कि आज अधिकतर चैनलों के लिए एक नियम जैसा बन चुका है.  चैनल में ये बदलाव सुमित अवस्थी, ऋचा अनिरुद्ध और आकाश सोनी के नेतृत्व में और नवज्योत कौर, तेजस्वी चंडोक नैयर, पायल भुयान, हिमानी नैथानी, पंकज भार्गव, अमृत आनंद व चैनल के युवा तथा भरोसेमंद पत्रकारों-रिपोर्टरों की टीम के सहयोग से किए जा रहे हैं.

अपने रिलांच के तहत आईबीएन7 कई नए शो आरंभ करेगा। ‘देश दिन भर’ में जहां देश के हर कोने और हिस्से की खबरें होंगी, वहीं ‘राजधानी एक्सप्रेस’ में बड़े शहरों की बड़ी खबरें. सोशल मीडिया की ताजा हलचलों और ट्रेंड पर आधारित शो ‘आईन्यूज’ दिखेगा. आईबीएन7 की प्राइम टाइम प्रोग्रामिंग में भी बदलाव कर उसे और बेहतर किया गया है. नए शो ‘आठ बजे’ में न सिर्फ दिन भर की खबरों का राउंडअप होगा बल्कि महत्वपूर्ण मुद्दों पर गहराई से तफ्तीश-विश्लेषण भी किया जाएगा. ‘इंडिया नौ बजे’ में संक्षिप्त खबरें, पैकेज और दिन की चर्चित हस्ती के इंटरव्यू होंगे तो ‘क्राइम न्यूज’ में अपराध जगत की खबरें.

रिलांच पर टिप्पणी करते हुए नेटवर्क18 के प्रेसिडेंट (न्यूज) उमेश उपाध्याय ने कहा कि आईबीएन7 का रिलांच चैनल के लिए मील का पत्थर साबित होगा. उन्होंने कहा कि समाचार चैनलों के लिए ये बेहद महत्वपूर्ण है कि वे दर्शकों के लिए प्रासंगिक-सुसंगत बने रहें. व्यूज के बजाय खबरों पर बढ़ता हमारा फोकस, क्लीन लुक, कवरेज की व्यापकता और कड़े पत्रकारीय मानदंडों के प्रति हमारी प्रतिबद्धता हिंदी न्यूज दर्शकों द्वारा पसंद की जाएगी. हमारे पास पहले से ही वरिष्ठ पत्रकार संजीव पालीवाल और एम के झा की अगुवाई वाली एक बेहद ही सशक्त टीम है जो नए सदस्यों के जुड़ने से और ज्यादा मजबूत, स्पंदित और विश्वसनीय हो चुकी है.

उधर, आईबीएन7 से ही मिली एक अन्य सूचना के मुताबिक तेजतर्रार एंकर और रिपोर्टर स्मिता शर्मा ने इस्तीफा देकर हेडलाइंस टुडे ज्वाइन कर लिया है. स्मिता को हेडलाइंस टुडे में डिप्टी एडिटर बनाया गया है.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें: