मंत्री के टुकड़ों पर बिके जनसत्ता, अमर उजाला, जागरण, ईटीवी, हिन्दुस्तान और ज़ी न्यूज़ के रिपोर्टर

गोंडा : कई प्रदेशों में पत्रकारों को ज़मीन या फ्लैट दिया गया है, जो किसी न किसी स्कीम के तहत मिला है मगर यहां तो अंधी कट रही है। जिले के दबंग मंत्री विनोद कुमार सिंह ऊर्फ पंडित सिंह ने जनसत्ता, जी न्यूज, जागरण आदि अखबारों के पत्रकारों का मुंह बंद रखने के लिए उनके सामने चार-चार बिसवा ज़मीन के टुकड़े फेंक दिए हैं। ज़मीन पर 28 गुणा 60 फीट के प्लाट काटकर उन पर उन के मकान भी बनने लगे हैं, जबकि उन सरकारी भूखंडों का अभी उनके नाम पट्टा तक नहीं हुआ है। पंडित सिंह के टुकड़ों पर मचल उठे पत्रकारों के नाम हैं – जानकीशरण द्विवेदी (जनसत्ता/पीटीआई), अरुण मिश्रा (अमर उजाला), धनंजय तिवारी, गोविन्द मिश्रा (दैनिक जागरण), देवमणि त्रिपाठी (ईटीवी), संजय तिवारी, कमर अब्बास (हिन्दुस्तान) और अम्बिकेश्वर पाण्डेय (ज़ी न्यूज़)। 

गोंडा : चारागाह की जमीन, जिस पर शुरू हो चुका है पत्रकारों के मकानों का निर्माण

सड़क पर उतरे गोंडा के पत्रकार, मौन जुलूस, कलेक्ट्रेट में धरना

गोंडा (उ.प्र.) : शाहजहांपुर के पत्रकार जगेन्द्र सिंह हत्याकांड के विरोध में रविवार को यहां के पत्रकारों ने मौन जुलूस निकालकर कलक्ट्रेट में धरना दिया। पत्रकारों ने जगेंद्र को जलाकर मार डालने की साजिश रचने वाले राज्य सरकार के मंत्री राम मूर्ति वर्मा को मंत्रिपरिषद से तत्काल बर्खास्त करने, घटना की सीबीआइ से जांच, निलम्बित पुलिस कर्मियों को तत्काल गिरफ्तार कर जेल भेजने तथा मृतक पत्रकार के परिवार को 50 लाख रुपए मुआवजा देने की मांग की। पत्रकारों ने तय किया कि पीड़ित परिवार को गोंडा से आर्थिक सहायता भी भेजी जाएगी। 

जगेंद्र हत्याकांड के विरोध में गोंडा में जुलूस निकालकर कलेक्ट्रेट की ओर जाते पत्रकार 

भ्रष्ट प्रधान के सपोर्ट में जागरण ने छापी उल्टी खबर, पीड़ित ने दी चेतावनी

गोंडा (उ.प्र.) : सेमराजमालखानी तरबगंज निवासी कौशल पाण्डेय ने मीडिया को लिखे पत्र में अवगत कराया है कि उनकी पत्नी प्रतिभा पाण्डेय सेमरा जमालखानी की ग्राम रोजगार सेवक हैं। उनके गांव के प्रधान लादूराम हैं, जिन्होंने बड़े पैमाने पर घोटाले किये हैं। उन्होंने इसकी शिकायत सीडीओ औा डीपीआरओ से कर रखी है। इसकी जांच लम्बित है, जिससे बचने के लिए प्रधान लादूराम ने दैनिक जागरण में स्वयं को जिले का बड़ा पत्रकार बताने वाले वरुण यादव से सांठगांठ कर प्रतिभा पाण्डेय के विरुद्ध खबर छपवाई है।