‘प्रदेश अध्यक्ष क्या एक बदनाम होटल पर खाना खाने जायेंगे’

: शराबी पत्रकारों ने फैलाई है यह फर्जी खबर : सेवा में, संपादक, भड़ास फॉर मीडिया। विषय : उपजा प्रदेश अध्यक्ष श्री रतन दीक्षित एवं उपजा के दो अन्य पदाधिकारियों  के सम्बन्ध में गलत खबर प्रकाशित होने के सबंध में…..। भड़ास फॉर मीडिया में उपजा प्रदेश अध्यक्ष के बारे में प्रकाशित की गई मिथ्या खबर को पढ़कर बहुत दुःख हुआ। बीते 4 सितम्बर 2014 को उरई के मंडपम सभागार में उपजा जिला कार्यकारिणी के आयोजित भव्य शपथ ग्रहण समारोह में विशेष रूप से उपस्थित उपजा अध्यक्ष श्री दीक्षित तथा प्रदेश मंत्री दीपक अग्निहोत्री व उपजा कोषाध्यक्ष ओम प्रकाश राठौर संग होटल कर्मचारियों द्वारा की गई मारपीट संबंधी खबर पूर्ण रूप से निराधार है।

मारपीट की घटना में नाम घसीटे जाने से आहत हूं : रतन दीक्षित

उपजा के प्रदेश अध्‍यक्ष रतन दीक्षित ने उरई (जालौन) के एक होटल में हुई मारपीट की घटना में खुद का नाम घसीटे जाने को स्‍थानीय राजनीति बताया है. उनका कहा है कि वे लंबे समय से संगठन की मजबूती के लिए काम करते आ रहे हैं, लिहाजा कुछ लोग उन्‍हें बदनाम करने की साजिश करते रहते हैं. उन्‍होंने कहा कि वे उरई (जालौन) में शपथ ग्रहण में शामिल होने गए थे, लेकिन उनके साथ मारपीट जैसी कोई घटना नहीं घटी. यह सरासर गलत है. 

दारुबाजी में पत्रकारों से होटल कर्मियों ने की मारपीट, मामला दर्ज

उरई (जालौन)। शहर के चर्चित शाकाहारी दांतरे होटल में दारुबाजी करना उत्‍तर प्रदेश जर्नलिस्ट एसोसिएशन (उपजा) के प्रदेश अध्यक्ष रतन दीक्षित को महंगा पड़ गया। विवाद हो जाने पर होटल के नौकरों ने उनके समेत कई पत्रकारों से मारपीट की। उनके साथ उपजा के प्रदेश मंत्री व यूनीवार्ता के कथित संवाददाता एवं हरदोई गूजर इंटर कालेज के शिक्षक दीपक अग्निहोत्री, लोकभारती के संवाददाता और उपजा का जिला कोषाध्यक्ष ओमप्रकाश राठौर से भी होटल कर्मचारियों मारपीट की। बाद में होटल मालिक अनुराग दांतरे ने संजय मिश्रा सहित तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ कोतवाली में मुकदमा भी दर्ज करवा दिया।