भ्रष्टाचारियों के आगे झुक गया दीपक चौरसिया का चैनल ‘इंडिया न्यूज’!

यूपी के चर्चित आईएएस अधिकारी रहे सूर्य प्रताप सिंह ने अपने फेसबुक पेज पर ऐलान किया कि यूपी में नई सरकार किन किन भ्रष्टाचार के मामलों पर एक्शन लेगी, उसको लेकर एक परिचर्चा इंडिया न्यूज चैनल पर आयोजित की जा रही है. उन्होंने टाइम भी लिखा, शाम आठ से नौ. इस पोस्ट के साथ उन्होंने दीपक चौरसिया की बड़ी बड़ी तस्वीर लगाई. यानि यह तय था कि दीपक चौरसिया एक शो होस्ट करेंगे जिसमें यूपी में पिछली सरकार के कार्यकाल में हुए करप्शन पर सूर्य प्रताप सिंह से बातचीत की जाएगी.

दीपक चौरसिया की ‘इंडिया न्यूज’ समाचार चैनल में हुई वापसी

लंबे सस्पेंस के बाद अंतत: दीपक चौरसिया की ‘इंडिया न्यूज’ समाचार चैनल में वापसी हो गई. कल शाम उन्होंने अपना शो ‘टूनाइट विथ दीपक चौरसिया’ खुद पेश किया. इंडिया न्यूज के बैनर तले छोटे परदे पर फिर अवतरित होने के बाद उनके ‘इंडिया न्यूज’ समाचार चैनल से चले जाने संबंधी खबरें, चर्चाएं, अफवाहें झूठी साबित हो गईं. वैसे सूत्रों का कहना है कि अंदरखाने कुछ तो गड़बड़ था.

इंडिया न्यूज़ के एडिटर इन चीफ (निवर्तमान!) दीपक चौरसिया के ‘न्यूज़सेंस’ को देश को जानना चाहिए

जेएनयू की ख़बर के साथ इंडिया न्‍यूज़ में शीर्ष स्‍तर पर क्या और कैसे खिलवाड़ किया गया… 17 फरवरी की रात इंडिया न्यूज में क्‍या हुआ था… इसके बारे में खुलकर विस्तार से इंडिया न्‍यूज़ में वरिष्‍ठ पद पर काम कर चुके प्रतिभाशाली पत्रकार अमित कुमार ने अपने फेसबुक वॉल पर लिख कर बताया है जो इस प्रकार है…

Amit Kumar

‘इंडिया न्यूज’ चैनल में दीपक चौरसिया के अधिकारों पर कई तरह की पाबंदी

एक बड़ी सूचना ‘इंडिया न्यूज’ चैनल से आ रही है. सूत्रों का कहना है कि एडिटर इन चीफ दीपक चौरसिया के अधिकारों पर प्रबंधन ने भरपूर कैंची चला दी है. बताया जा रहा है कि दीपक चौरसिया अब न किसी को भर्ती कर सकेंगे और न ही किसी को चैनल से निकाल सकेंगे. इस बाबत प्रबंधन की तरफ से कुछ मेल जारी कर दिए गए हैं. सूत्रों का कहना है कि पहले अपने मित्र संजय सूद, फिर निधि कौशिक को चैनल से निकाले जाने के बाद दीपक चौरसिया कोप भवन में चले गए हैं.

दीपक चौरसिया की राइट हैंड निधि कौशिक हुईं टर्मिनेट!

एक खबर चर्चा में है कि इंडिया न्यूज के एडिटर-इन-चीफ दीपक चौरसिया की राइट हैंड निधि कौशिक को टरमिनेट कर दिया गया है.. यह भी कहा जा रहा है कि निधि कौशिक को टरमिनेट कर मैनेजमेंट ने दीपक चौरसिया को संदेश दे दिया कि वो जाना चाहते हैं तो जा सकते हैं….. सूत्रों के मुताबिक निधि कौशिक के जिम्मे कोई काम नहीं था…. आफिस तभी आती थीं जब दीपक चौरसिया आते थे….

दीपक चौरसिया की पत्‍नी ने मंत्री कपिल मिश्रा के खिलाफ दर्ज कराई एफआईआर

दिल्‍ली के पर्यटन और जल संसाधन मंत्री कपिल शर्मा और इंडिया न्‍यूज के एडिटर-इन-चीफ दीपक चौरसिया के बीच मोबाइल नंबरों को सार्वजनिक किए जाने का मामला पुलिस तक पहुंच गया है. फोन पर मिल रहे धमकियों से परेशान दीपक चौरसिया की पत्‍नी ने कपिल मिश्रा के खिलाफ सफदरजंग एनक्‍लेव थाने में कपिल मिश्रा एवं अन्‍य …

ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा #ArrestCHORasia : टीआरपी के लिए झूठी-फर्जी खबरें दिखाने वाले दीपक चौरसिया की गिरफ्तारी की मांग

नई दिल्ली । इंडिया न्यूज नामक चैनल का संपादक दीपक चौरसिया इन दिनों सोशल मीडिया के निशाने पर है। इस टीआरपीबाज और बाजारू संपादक की गिरफ्तारी की मांग उठ रही है। टीवी पत्रकार दीपक चौ‍रसिया रविवार को अचानक सोशल मीडिया के निशाने पर आ गए हैं जिसके कारण रविवार को Twitter पर #ArrestCHORasia ट्रेंड करने लगा।

जानिए, दीपक चौरसिया समेत कई पत्रकारों के खिलाफ सीबीआई ने क्यों दर्ज की एफआईआर

Vishwanath Chaturvedi : धरा बेच देगे, गगन बेंच देगे, कलम बिक चुकी है, वतन बेच देगे! पैसे खाकर फर्जी खबर चलाने के आरोपी दीपक चौरसिया, भूपेंद्र चौबे, मनोज मित्ता सहित अन्य के खिलाफ सीबीआई ने दर्ज की एफ़आईआर… मुलायम के आय से अधिक संपत्ति मामले में सुप्रीम कोर्ट में 10 फ़रवरी 2009 को सुनवाई से पहले फर्जी दस्तावेजों के आधार पर मुलायम कुनबे को क्लीन चिट दिए जाने की खबर प्राइम टाइम में प्रमुखता से चलाकर सुप्रीम कोर्ट को गुमराह करने और सीबीआई की इमेज को नुकसान पहुंचाने के आरोप में सीबीआई की डीआईजी रहीं तिलोतिमा वर्मा ने लिखाई एफआईआर.

‘देशद्रोही’ खोजते दीपक चौरसिया!

मीडिया मंडी पर मीडिया ‘ट्रायल’ के संगीन आरोप लगते रहे हैं। समाज व देशहितकारी मुद्दों पर सकारात्मक दिशा दे अगर ‘ट्रायल’ होते हैं तो उनका स्वागत है किंतु जब मीडिया मंडी के न्यायाधीश सकारात्मक दिशा की जगह नापाक विचारधारा थोप नकारात्मक दिशा देने लगें, मामला अदालत में लंबित होने के बावजूद आरोपियों को  सिर्फ अपराधी नहीं देशद्रोही तक घोषित करने लगे, कानून और सबूतों को ठेंगे पर रख फैसले सुनाने लगे तब, मंडी के दलालों को कटघरे में खड़ा किया जाएगा ही।

ब्रेकिंग न्यूज… सुधीर चौधरी की सेल्फी… ब्रेकिंग न्यूज… दीपक चौरसिया का हालचाल …

मैं आज के दिन को मीडिया के लिहाज से शर्मनाक दिन कहूंगा. पत्रकारिता के छात्रों को कभी पढ़ाया जाएगा कि 25 अक्टूबर 2014 के दिन एक बार फिर भारतीय राजनीति के आगे पत्रकारिता चरणों में लोट गई. धनिकों की सत्ता भारी पड़ गई जनता की आवाज पर. कभी इंदिरा ने भय और आतंक के बल पर मीडिया को रेंगने को मजबूर कर दिया था. आज मोदी ने अपनी ‘रणनीति’ के दम पर मीडिया को छिछोरा साबित कर दिया. दिवाली मिलन के बहाने मीडिया के मालिकों, संपादकों और रिपोर्टरों के एक आयोजन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आए. देश, विदेश, समाज और नीतियों पर कोई बातचीत नहीं हुई. सिर्फ मोदी बोले. कलम को झाड़ू में तब्दील हो जाने की बात कही. और, फिर सबसे मिलने लगे. जिन मसलों, मुद्दों, नारों, आश्वासनों, बातों, घोषणापत्रों, दावों के नाम पर सत्ता में आए उसमें से किसी एक पर भी कोई बात नहीं की.

बेल न मिली तो दीपक चौरसिया जा सकते हैं जेल (देखें कोर्ट आदेश)

लगता है आसाराम के खिलाफ पीछे पड़े रहने का ‘पाप’ दीपक चौरसिया को लगने लगा है. ऐसा आसाराम के भक्त सोशल मीडिया पर कह रहे हैं. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने दीपक चौरसिया को गिरफ्तारी से मिले स्टे को खत्म कर दिया है और उनकी प्रार्थना को निरस्त कर दिया है. दीपक चौरसिया को महीने भर के भीतर कोर्ट जाकर बेल के लिए अप्लाई करना होगा और अगर कोर्ट ने बेल नहीं दी तो उन्हें जेल जाना पड़ सकता है.

आसाराम मामले में हाई कोर्ट ने दीपक चौरसिया की ज़मानत अर्जी खारिज की

index

एक आपराधिक मामले में इलाहाबाद हाई कोर्ट ने इंडिया न्यूज टीवी चैनल के एडिटर-इन-चीफ दीपक चौरसिया की ज़मानत अर्ज़ी खारिज कर दी है। चौरसिया व अन्य पर आसाराम बापू के विषय में आपत्तिजनक कार्यक्रम प्रसारित करने का आरोप है।