रिपब्लिक टीवी की महिला पत्रकार का यह चेहरा स्तब्ध करता है!

Prakash K Ray : जिस तरह से फ़ेक न्यूज़ और बुली चैनल रिपब्लिक की रिपोर्टर माइक छीनने झपट रही है, उसे देख कर लगता है कि किसी दिन लफंगे एंकर और लुम्पेन रिपोर्टर तार से गला घोंट कर गेस्ट/पैनलिस्ट की हत्या कर डालेंगे. दूसरे घामड़ चैनल टाइम्स नाउ वाली रिपोर्टर तुलनात्मक रूप से शक्तिशाली लग रही है, अन्यथा खींचतान में उस भले आदमी को चोट भी आ सकती थी. 

‘न्यूज़ नेशन’ अपने रीजनल चैनल ‘न्यूज़ स्टेट’ के स्ट्रिंगरों से करवा रहा अवैध उगाही !

लखनऊ : न्यूज़ नेशन का रीजनल चैनल न्यूज़ स्टेट यूपी अपने स्ट्रिंगरों से अवैध उगाही करवा रहा है। नहीं करने पर उत्पीड़ित किया जा रहा है। 

प्रताड़ना से क्षुब्ध न्यूज नेशन के रिपोर्टर ने दिया इस्तीफा, फटकार मिली कि विज्ञापन नहीं दे सकते तो फांसी पर लटक जाओ !

मऊ (उ.प्र.) : यहां न्यूज़ स्टेट/न्यूज़ नेशन के प्रतिनिधि तैनात रहे रविन्द्र माली ने डेस्क इंचार्ज (इनपुट हेड), नोएडा को अपना इस्तीफा भेज दिया है। त्यागपत्र में उन्होंने अपनी आर्थिक हालत बयान करने के साथ ही बताया है कि विज्ञापन विभाग के लोग कह रहे हैं, एड नहीं दे सकते तो फांसी पर लटक जाओ। 

जी न्यूज से निकाले गए 26 स्ट्रिंगर और रिपोर्टर जाएंगे कोर्ट

जी न्यूज के 26 स्ट्रिंगरों को पूर्व सूचना और उनके बकाया देय के भुगतान के बिना हटा दिया जाना चैनल प्रबंधन को भारी पड़ सकता है। बताया गया है कि चैनल हेड दिलीप तिवारी, इनपुट हेड विकास कौशिक और भोपाल ब्यूरो प्रमुख आशुतोष गुप्ता ने षड्यंत्र पूर्वक हटा दिया। स्ट्रिंगरों ने 31 जुलाई तक खबरें भेजी थीं, लेकिन यह कहकर होल्ड रखा गया कि खबरें नहीं चलाई गईं। वहीं खबरें अन्य एजेंसी से लेकर प्रसारित की जाती रहीं। 

‘बजंरगी भाईजान’ वाले असली रिपोर्टर चांद नवाब ने बच्चे को पीटा, वीडियो वायरल

फिल्म ‘बजंरगी भाईजान’ से चर्चित हुए पाकिस्तान के पत्रकार चांद नवाब का इन दिनो वायरल हो रहा एक वीडियो उनकी खूब छीछालेदर करा रहा है। एक रिपोर्ट लाइव प्रसारित होने के दौरान कैमरे के सामने आने पर वह एक बच्चे पर थप्पड़ बरसाने लगते हैं। 

बाबूलाल गौर ने इंडिया टीवी के रिपोर्टर से कहा – जाओ यहां से, मैं तुम्हे पसंद नहीं करता

भोपाल : प्रायः अपनी बेतुकी टिप्पणियों, बयानों से सुर्खियों में रहने वाले मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर एक टीवी रिपोर्टर से उलझ पड़े और उन्होंने उसको लगभग अपने घर से भगाते हुए कहा कि तुम जाओ, यहां से मुझे तुमसे नफरत है, आज के बाद मेरे घर पर मत आना।

जान लेने के इरादे से जनसंदेश टाइम्स के रिपोर्टर पर हमला

लखनऊ : जनसंदेश टाइम्स के रिपोर्टर सलाहउद्दीन शेख पर पिछले दिनो जान लेने की नीयत से हमला किया गया। स्थानीय लोगों के जमा हो जाने से उनकी जान बच गई। उन्होंने घटना के संबंध में हजरतगंज कोतवाली पुलिस को लिखित रूप से अवगत करा दिया है।

राजस्थान पत्रिका के रिपोर्टर ने चारागाह की जमीन को पत्नी के नाम आवंटित करा लिया

अजमेर (राजस्थान) : जिले के सावर क्षेत्र में राजस्थान पत्रिका के रिपोर्टर सत्यनारायण कहार पर लाखों रूपयों की बेशकीमती चारागाह भूमि को अपने नाम आवंटित करवाने का आरोप लगा है। सत्यनारायण पूर्व में ग्राम पंचायत सदारा का उपसरपंच रह चुका है। तब भी यह पत्रिका का ही रिपोर्टर था।

पुलिसकर्मी ने अपने पैंट की जीप खोल पत्रकार को जलील किया

केरल : यहां के एक पत्रकार से अभद्रता कर रहे पुलिस कर्मी ने अपने पैंट की ज़िप खोल दी. मीडिया में मामला सुर्खियों में आने पर पता चला कि पुलिसकर्मी एक्सिडेंट के बाद एक व्यक्ति को पीट रहे थे। पत्रकार मोहम्मद रफी ने उसे अपने कैमरे में कैद कर लिया। इस पुलिस वाले आग बबूला हो गए। 

मंत्री के टुकड़ों पर बिके जनसत्ता, अमर उजाला, जागरण, ईटीवी, हिन्दुस्तान और ज़ी न्यूज़ के रिपोर्टर

गोंडा : कई प्रदेशों में पत्रकारों को ज़मीन या फ्लैट दिया गया है, जो किसी न किसी स्कीम के तहत मिला है मगर यहां तो अंधी कट रही है। जिले के दबंग मंत्री विनोद कुमार सिंह ऊर्फ पंडित सिंह ने जनसत्ता, जी न्यूज, जागरण आदि अखबारों के पत्रकारों का मुंह बंद रखने के लिए उनके सामने चार-चार बिसवा ज़मीन के टुकड़े फेंक दिए हैं। ज़मीन पर 28 गुणा 60 फीट के प्लाट काटकर उन पर उन के मकान भी बनने लगे हैं, जबकि उन सरकारी भूखंडों का अभी उनके नाम पट्टा तक नहीं हुआ है। पंडित सिंह के टुकड़ों पर मचल उठे पत्रकारों के नाम हैं – जानकीशरण द्विवेदी (जनसत्ता/पीटीआई), अरुण मिश्रा (अमर उजाला), धनंजय तिवारी, गोविन्द मिश्रा (दैनिक जागरण), देवमणि त्रिपाठी (ईटीवी), संजय तिवारी, कमर अब्बास (हिन्दुस्तान) और अम्बिकेश्वर पाण्डेय (ज़ी न्यूज़)। 

गोंडा : चारागाह की जमीन, जिस पर शुरू हो चुका है पत्रकारों के मकानों का निर्माण

संपादक ने ना ढूंढा तिन पाइयां, इंटरव्यू में रिपोर्टर फेल

बहुत सोचा कि इस पोस्ट को लिखूं या न लिखूं। पर दिल नहीं माना, शेयर करता हूं। वाकया हमारे एक पत्रकार मित्र से जुड़ा है। इंटरव्यू देने गए थे, एक नामचीन संस्था में। एक नामी गिरामी संपादक ने इंटरव्यू लिया। भाई रिजेक्ट हो गए। वजह उनमें वह बात नहीं थी जो संपादक ढूढ़ रहे थे। अब वह संपादक तलाश क्या रहे थे सुनिए, इधर उधर के सवालों के बाद मुख्य सवाल-राष्ट्रीय राजनीति में सक्रिय एक ब़ड़े नेता के संदर्भ में –

छेड़खानी की खबर प्रसारित करने पर फंसा जी न्यूज रिपोर्टर, गिरफ्तारी की मांग, धरना-प्रदर्शन

उरई (उ.प्र.) : विकलांग से मारपीट और छेड़खानी की गलत खबर प्रसारित किए जाने के कारण जालौन ज़ी न्यूज़ के रिपोर्टर मनीष राज फंस गए हैं।

न्यूज़नेशन के रिपोर्टर ने अन्य पत्रकारों पर निशाना साधा, वकील ने नोटिस भेजा

न्यूज़नेशन के रिपोर्टर मुज़्ज़ामिल दानिश ने सम्भल ज़िले के सभी पोर्टल न्यूज़ रिपोर्टरों पर मुकदमा लिखवाने की बात कही है, साथ ही सभी को फर्जी बताया है। न्यूज़ नेशन के तीन ज़िलों के रिपोर्टर दानिश ने पूरे सम्भल के पोर्टल न्यूज़ रिपोर्टरों को टारगेट कर लिया।

सच की चुगली करते स्क्रीनशॉट

अक्षय के परिजनों ने सीएम शिवराज से मदद लेने से किया इनकार

पिछले दिनो रहस्यमय हालात में जान गंवा बैठे न्यूज चैनल ‘आज तक’ के खोजी रिपोर्टर अक्षय सिंह के परिवार ने मध्य प्रदेश सरकार से किसी भी तरह की आर्थिक मदद लेने से साफ मना कर दिया है। उऩकी मांग है कि अक्षय की मौत की घटना की निष्पक्ष जांच हो। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अक्षय के परिजनों से मुलाकात कर हर तरह से मदद करने की बात कही थी। 

क्राइम रिपोर्टर का मोहताज़ बना प्रभात खबर

भागलपुर : बिहार के भागलपुर में प्रभात खबर में क्राइम रिपोर्टर की सीट सूनी हो गयी है। भास्कर की लॉन्चिंग से पत्रकारों की आवाजाही तो जारी थी ही, चर्चित क्राइम रिपोर्टर राकेश पुरोहितवार के भास्कर ज्वाइन करने के बाद प्रभात खबर में क्राइम रिपोर्टिंग के लिए कोई अन्य रिपोर्टर तैयार नहीं हो रहा है।

पत्रकार की मां को फूंकने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ काली पट्टी बांधकर प्रदर्शन

बाराबंकी के कोठी थाने में पत्रकार की मां को जलाने के विरोध में पत्रकारों ने जिला पंचायत सभागार में बैठक कर आरोपी पुलिस कर्मियों के खिलाफ जमकर गुस्से का इजहार किया। घटना की पुरजोर मजामत की और एक मिनट का मौन रखकर मृतक की आत्मशांति के लिए दुआ की। 

खबर का खंडन छापने के बाद हिंदुस्तान के रिपोर्टर ने माफी भी मांगी

पाकुड़ (झारखण्ड): पाकुड़ में हिन्दुस्तान समाचार पत्र के ब्यूरो चीफ कार्तिक कुमार रजक ने पहले तो गलत खबर छापी लेकिन, खबर गलत होने के बाद वकील द्वारा प्लीडर नोटिस मिलते ही रिपोर्टर महोदय ने न सिर्फ खबर का खंडन निकाला बल्कि हाथ से लिख कर माफ़ी भी मांगी ।

निगम बोध घाट पर अक्षय का अंतिम संस्कार, मौत की एसआईटी जांच कराएंगे एमपी के सीएम शिवराज सिंह चौहान

दिल्ली में रविवार दोपहर निगमबोध घाट पर आजतक के रिपोर्टर अक्षय सिंह का अंतिम संस्कार कर दिया गया। अक्षय सिंह को अंतिम विदाई देने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी के वरिष्ठ नेता अजय माकन निगम बोध घाट पर पहुंचे। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मौत की SIT जांच का भरोसा दिया है। शिवराज ने घटना पर शोक व्यक्त करते हुए आश्वासन दिया है कि राज्य सरकार मामले की जांच में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेगी। 

दिल्ली में रविवार दोपहर निगम बोध घाट पर पत्रकार अक्षय सिंह की अंत्येष्टि में शामिल होने पहुंचे राहुल गांधी, सीएम केजरीवाल, डिप्टी सीएम सिसौदिया

सीनियरों को पांच लाख न देने पर रिपोर्टर को लॉकअप में रखा, सेक्स रैकेट चलाने का आरोप लगा जेल भेजवाया

सहरसा : वर्षों से दैनिक जागरण में सहरसा से रिपोर्टिंग करते रहे पत्रकार संजय साह का कसूर इतना था कि वह गलत तरिके से धन उगाही कर अपने सीनियरों की तीमारदारी नहीं कर पाते थे। उन्हें सैक्स रैकेट चलाने के आरोप में जेल भेज दिया गया।

पढ़ाई-लिखाई से टीवी पत्रकारों का कोई वास्ता नहीं

ना जाने क्यों टीवी एंकर्स के चेहरों पर दो किस्म के भाव रहते हैं। अव्वल तो यह मान कर टीवी एंकर्स चलते हैं, सामने वाला शख्स मूर्ख है और मैं यह भी तय करूंगा कि सामने वाले को क्या बोलना है। दूसरे, कुछेक एंकर्स ऐसी अदा से कैमरे को ताकते हुए मेहमान पर मुस्कराते हैं मानो कह रहे हों, जरा इस लल्लू को देखो तो..या फिर इस कदर आक्रामक हो उठते हैं..लगता है कि दर्शक मेहमान को नहीं, एंकर को सुनने टीवी खोल के बैठा है। 

जब गृहमंत्रालय संभाल रहे मंत्री ने पीछे से महिला रिपोर्टर के गले में बांहें डाल दीं

एक सरकार में एक बहुत शक्तिशाली मंत्री थे। वे उस समय गृह मंत्रालय संभाल रहे थे। एक दिन बड़ा बम विस्फोट हुआ। हमारे चैनल के एक रिपोर्टर को इस बारे में बयान लेने के लिए भेजा गया। वह मंत्री से मिलने के उनके घर पहुंचीं। उसने उनके निजी स्टाफ से कहा कि वह उनसे मिलना चाहती है। उस समय बड़ी संख्या में दूसरे चैनलों के रिपोर्टर भी मंत्री का इंतजार कर रहे थे।

अलीगढ़ में रिजल्ट की कवरेज के दौरान जागरण के रिपोर्टर की हार्ट अटैक से मौत

अलीगढ़ : दैनिक जागरण के रिपोर्ट मयंक त्यागी का सीबीएससी बोर्ड के रिजल्ट की खबर की कवरेज के दौरान आज अचानक हार्ट अटैक से निधन हो गया। वह मात्र 32 वर्ष के थे। वह अपने पीछे अपनी पत्नी, एक छोटे बच्चा, मां और बड़े भाई को छोड़ गए हैं। अल्पायु में उऩके निधन से जिले के पत्रकारों में शोक की लहर फैल गई। मंगलवार को उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। 

कप्तान के बयान से पत्रकारों में रोष, मनमानी बर्दाश्त नहीं

गाजीपुर : गाजीपुर पत्रकार एसोसिएशन की एक आपात बैठक कचहरी स्थित कैम्प कार्यालय पर हुई। 25 मई 2015 को प्रेसवार्ता में एक हिन्दी दैनिक समाचार पत्र के ब्यूरो प्रमुख अविनाश प्रधान के प्रश्न से तिलमिला कर पुलिस अधीक्षक द्वारा उन्हें आगे से किसी कांफ्रेंस में न आने के फरमान पर पत्रकारों में काफी रोष है। 

आज के युग में मीडिया की अहम भूमिका : विधानसभा अध्यक्ष

शिमला : विधानसभा अध्यक्ष बृज बिहारी लाल बुटेल ने कहा कि मीडिया कर्मियों से निष्पक्ष व निडर बनकर कार्य करने की जरूरत है। आज के युग में मीडिया की अहम भूमिका है। निर्भीक कार्य करते हुए मीडिया को जनता के समक्ष सच्चाई लानी चाहिए। 

कालपी में जुआ खेलते रिपोर्टर गिरफ्तार, जमानत पर छोड़ा गया

जालौन : कालपी कोतवाली में स्थानीय पुलिस ने कल के न्यूज के क्षेत्रीय प्रतिनिधि मोहित शुक्ला को कई अन्य आरोपियों के साथ जुआ खेलते हुए गिरफ्तार कर लिया। इस तरह की भी चर्चाएं हैं कि पुलिस किसी बात पर मोहित शुक्ला से पहले से खुन्नस खाए हुई थी। मौका मिलते ही उसने बदला चुका लिया है।

जीडीए वीसी का स्वागत कर पत्रकारिता की मर्यादा को किया तार तार

गाजियाबाद : सरकारी अधिकारियों को अपने दबाव में रखने के लिए हाल ही में गाजियाबाद के कुछ मुट्ठीभर पत्रकारों द्वारा गठित की गई पत्रकार एसोशिएशन के स्वंभू अध्यक्ष अजेय जैन और महासचिव संदीप सिंघल जीडीए के नवनियुक्त उपाध्यक्ष विजय यादव का स्वागत करने नौएडा पहुंच गये । 

कोतवाली प्रभारी ने न्यूज चैनल के रिपोर्टर को लात मारी

उरई (जालौन) : न्यूज24 के रिपोर्टर अखिलेश कुमार सिंह ने जिला कोतवाली मुख्यालय में अपने साथ कोतवाली प्रभारी द्वारा की गई बदसलूकी की शिकायत पुलिस उच्चाधिकारियों से की है। उन्होंने बताया है कि बेवजह गुस्से में कोतवाली प्रभारी ने सबके सामने उन्हें लात मारी।  

आदिवासी बच्चे बने ‘संगवारी खबरिया’ के रिपोर्टर और कैमरामैन

सरगूजा जिले के बालमजूदर आदिवासी बच्चों को यूनिसेफ की अनूठी पहल पर हैदराबाद विश्वविद्यालय ने अपने मुद्दे उठाने के लिए मीडिया का जरिया प्रदान किया है। यूनिसेफ द्वारा शुरू किए गए कार्यक्रम संगवारी खबरिया यानी मित्र संवाददाता अब आदिवासी इलाकों में बच्चों में ही नहीं बल्कि वयस्कों में भी नई अलख जगा रहा है।

‘आजतक’ के संवाददाता के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने वाला एसओ लाइन हाजिर

दिल्ली : नरेला फैक्ट्री वसूली मामले में राजेश खत्री के खिलाफ गलत तरीके से एफआईआर दर्ज करने के आरोपी यहां के एसओ को लाइन हाजिर कर दिया गया है। गौरतलब है कि गत दिनो विजय सिंह पुत्र महेंद्र सिंह निवासी श्रीश्याम अपार्टमेंट, नरेला ने पुलिस को दी तहरीर में बताया था कि राजेश खत्री ने धमकाते हुए उससे 50 हजार रुपए मांगे थे। अब घटनाक्रम की हकीकत कुछ और ही खुल कर सामने आ रही है। पुलिस, फैक्ट्री मालिक के बीच पूरा मामला किसी और सिरे से प्रायोजित कर खत्री को जाल में फंसाने का प्रयास किया गया था।  

नरैला क्षेत्र की वही है ये फैक्ट्री, जिसके मालिक विजय सिंह ने पत्रकार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी

जान लेने के लिए हैवान ने रिपोर्टर को खिलाया शीशा और सिंदूर

भले ही मकसद किसी बात के प्रतिशोध का भी क्यों न हो, सोचकर हैरत होती है कि क्या कोई इस हद तक नीच हो सकता है ! मेरठ में ‘इंडिया न्यूज’ के रिपोर्टर रजनीश चौहान के साथ जितनी क्रूरतापूर्ण घिनौनी हरकत हुई है, वह किसी भी जानने-सुनने वाले को झकझोर सकती है। वह इन दिनो किसी नीच व्यक्ति की दी हुई असहनीय पीड़ा से कराह रहे हैं। कुछ समय पहले उसने किसी दिन शातिराना तरीके से चुपचाप खाद्य पदार्थ में पीसा हुआ शीशा और सिंदूर मिलाकर राजेश को खिला दिया था। उन्हें खुद नहीं मालूम कि उनके साथ ये हरकत कब, किसने कर डाली।