अपने खिलाफ खबर छापे जाने से नाराज होकर आप पत्रकारों पर गैंगस्टर लगा देंगे? देखें वीडियो

Yashwant Singh : ऐसी हरकतें जंगलराज में ही हुआ करती हैं… कानून को तो इन वर्दीवालों ने अपने घर की खेती बना लिया है… अपने खिलाफ खबर छापे जाने से नाराज होकर आप पत्रकार गैंगस्टर लगा देंगे… ??? यहां कहां का लोकतंत्र है… Share on:

नोएडा में 5 पत्रकारों पर कार्रवाई से IPS लॉबीे में बढ़ सकती है तकरार

पांच दिन की रिमांड में खुलेंगे कई अहम राज, पल-पल के अपडेट पर अधिकारियों की नजर तथ्यहीन, आधारहीन व बेबुनियादी खबर चलाने के आरोप में एसएसपी वैभव कृष्ण द्वारा 5 पत्रकारों के खिलाफ की गई कार्रवाई से न केवल मीडिया में खलबली मची हुई है। वहीं एक आईपीएस लॉबी में भी इस कार्रवाई से भारी …

SSP वैभव कृष्णा और नोएडा पुलिस की जालसाजी FIR के पहले पैराग्राफ से ही समझ में आ जाती है!

Samarendra Singh : पुलिस की दादागीरी, पत्रकार को फर्जी मामले में फंसाया… 23 अगस्त को नोएडा पुलिस एक पुराने मामले में एक नया मुकदमा दर्ज करती है. फिर पांच सौ किलोमीटर दूर जाकर लखनऊ से एक पत्रकार को रातों रात उठा लेती है. उसका दफ्तर सील कर देती है. उस पर गैंगस्टर एक्ट लगा देती …

क्या न्यूज पोर्टल की पत्रकारिता गैंगेस्टर एक्ट का अपराध है?

नोएडा पुलिस का पागलपन किसी लोकतांत्रिक देश में, जहां कानून के और संविधान के अनुपालन की अवधारणा हो, किसी पुलिस कप्तान के खिलाफ खबरें चलाने पर पत्रकारों को गिरफ्तार कर उन पर गैंगस्टर लगाने की अनुमति किसी को नहीं दी जा सकती। ये तो पुलिस द्वारा किया गया बौद्धिक एनकाउंटर है। दरअसल कुछ लोग शासन …

खबर छापने के जुर्म में नोएडा पुलिस ने 4 पत्रकारों को अरेस्ट कर ठोंका गैंगस्टर, 5वां फरार (पढ़ें FIR और प्रेस रिलीज)

बड़ी खबर नोएडा से आ रही है. यहां चार पत्रकारों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. इनमें से एक लखनऊ का पत्रकार है. पुलिस का कहना है कि इन्हें एक्सटॉर्शन के मामले में धरा गया है. इनकी गिरफ्तारी गाज़ियाबाद, लखनऊ और ग्रेटर नोएडा से की गई. Share on:

भ्रष्ट नोएडा पुलिस के चक्कर में फंस गए तो बिना पैसे दिए जान न छूटेगी!

Yashwant Singh : नोएडा में निन्यानबे परसेंट पुलिस वाले भ्रष्ट हैं! किसी को शक? यकीन न हो तो ये सच्ची कहानी पढ़ें… Share on:

थानेदार से लेकर पत्रकार तक को नापने वाले आईपीएस वैभव कृष्ण को सुनिए, देखें वीडियो

आइए नोएडा के एसएसपी वैभव कृष्ण की जुबानी सुनते हैं नोएडा के उस चर्चित केस के बारे में जिसमें थानेदार से लेकर पत्रकार तक नप गए हैं. उससे पहले थोड़ा सा डिटेल वैभव कृष्ण के जीवन और करियर के बारे में बता रहे हैं भड़ास एडिटर यशवंत सिंह. Share on:

रिश्वतखोर इंस्पेक्टर मनोज पंत ने ‘सूर्या समाचार’ की यौन पीड़िता को दुखी कर रखा था!

नोएडा के सेक्टर 20 थाने के एसएचओ मनोज पंत पर कई किस्म के आरोप लगते रहते थे. मनोज पंत से दुखी एक महिला पत्रकार ने अरेस्टिंग के बाद अपनी भड़ास फेसबुक पर निकाली है. सूर्या समाचार न्यूज चैनल में कार्यरत रही इस महिला पत्रकार के साथ जब वहीं चैनल के आफिस में ही कार्यरत कुछ …

ग्रेटर नोएडा प्रेस क्लब ने रिश्वतखोरी में फंसे पत्रकारों रमन ठाकुर और उदित गोयल को निकाला

नोएडा : रिश्वतखोरी के मामले में फंसे दो पत्रकारों को ग्रेटर नोएडा प्रेस क्लब ने निकाल बाहर किया है. नोएडा के थाना क्षेत्र 20 के प्रभारी निरीक्षक मनोज पंत के साथ गिरफ्तार हुए तीन पत्रकार रमन ठाकुर, उदित गोयल व सुशील पंडित के मामले में ग्रेटर नोएडा प्रेस क्लब ने आपातकालीन बैठक बुलाकर एक बड़ा …

नोएडा के तीन पत्रकार और एक थानेदार उगाही में गिरफ्तार, एक अन्य इंस्पेक्टर फरार

काल सेंटर से उगाही के मामले में तीन पत्रकार सहित एसएचओ गिरफ्तार, मर्सिडीज कार बरामद… तीन पत्रकारों सहित एसएचओ पर कॉल सेंटर से आठ लाख रुपये की उगाही का आरोप है… नोएडा एसएसपी ने इनकी गिरफ्तारी की… Share on:

SSP नोएडा ने थ्रीव्हीलर और प्राइवेट कार पर बैठ यूं किया अपनी पुलिस का टेस्ट, देखें वीडियो

कुछ को सजा तो कुछ को दिया इनाम… गौतबुद्धगर उर्फ नोएडा के SSP डॉ. अजय पाल शर्मा ने सुरक्षा का रिएलिटी चेक किया. वे देर रात सादे ड्रेस में आम आदमी की तरह सड़क पर निकले. इसके लिए उन्होंने आटो से यात्राएं की. परी चौक से एक थ्रीव्हीलर में बैठकर जायजा लिया. बाद में वे …

नोएडा पुलिस : उगाही की लिस्ट आई बाहर, पूरी SOG टीम लाइन हाजिर, जांच के आदेश

गौतमबुद्ध नगर में पैसे के बंटवारे को लेकर आपस में भिड़े पुलिसकर्मी… एसओजी टीम में बंटवारे को लेकर हुई मारपीट…. गौतमबुद्ध नगर SOG में पैसे के बटवारे को लेकर हुआ जमकर हंगामा…. दो पुलिसकर्मियो में जमकर चले लात-घूसे…. अब्दुल और संजीव नाम के सिपाहियों में हुआ झगड़ा… एसओजी के एक कांस्टेबल अब्दुल ने डीजीपी को …

चैनल वन से बकाया सेलरी के लिए लड़ रहे एक मीडियाकर्मी का खुला पत्र

संपादक, भड़ास4मीडिया, सादर प्रणाम, मैं भड़ास4 मीडिया का एक नियमित पाठक हूं. आप लोगों ने ना जाने कितनी बार हम पत्रकार लोगों के साथ जो अन्याय कभी हुआ है उसके खिलाफ कदम से कदम मिला कर साथ दिया है, उसके लिए तहे दिल से शुक्रिया अदा करना चाहूंगा. मैं आपको अपने साथ जो अन्याय हुआ है उसके बारे में अवगत कराना चाहूंगा. आशा करता हूं कि आप इसे प्रमुखता से छापकर मेरे जैसे ना जाने कितने लोगों को फर्जी स्टिंग, ब्लैकमेलिंग और कर्मचारियों का शोषण करने वाले इस बदनाम प्रवृति के न्यूज चैनल ‘चैनल वन’ से सावधान कर उनका सही दिशा में मार्ग दर्शन कर सकते हैं.