बाल-बाल बचे दैनिक जागरण के फोटोग्राफर मदन मौर्य (देखें वीडियो)

दैनिक जागरण, मेरठ के बहादुर फोटोग्राफर मदन मौर्य कल एक बवाल के कवरेज के दौरान बाल-बाल बचे. नीचे दिए वीडियो में साफ दिख रहा है कि मदन बवालियों की तरफ बेखौफ बढ़े जा रहे हैं. लेकिन इसी बीच एक धमाका होता है, जिसके बाद वह वापस आ जाते हैं. Share on:कृपया हमें अनुसरण करें और …

बनारस के फोटोग्राफर विजय सिंह की हालत खराब, दैनिक जागरण भी भूल गया

वाराणसी : दैनिक जागरण के लिए गोली खाने वाले प्रेस फोटोग्राफर विजय सिंह इन दिनों दो जून की रोटी और दवा के लिए तड़प रहे हैं… प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस में विगत तीन दशकों तक विजय सिंह को “सफेद बाल वाले फोटोग्राफर” के नाम से जाना जाता था… वे दैनिक जागरण, वाराणसी …

ग्रामीणों द्वारा स्टिंग किए जाने के मामले में फोटोग्राफर जीतू सागर का पक्ष सुनिए-जानिए

गजरौला में दैनिक जागरण के फोटोग्राफर जीतू सागर के संबंध में एक खबर भड़ास पर छपी जिसमें एक वीडियो में उन्हें ग्रामीणों से पैसे लेते हुए देखा गया. खबर में उल्लेख है कि ये वीडियो चुपचाप ग्रामीणों द्वारा बनाया गया. Share on:कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

दैनिक जागरण के फोटोग्राफर का पैसा लेते हो गया स्टिंग, देखें वीडियो

सबकी तस्वीरें खींचने वाले और स्टिंग करने वाले फोटोग्राफर का ही स्टिंग हो गया है. ये फोटोग्राफर दैनिक जागरण में कार्यरत है. नाम है जीतू सागर. दैनिक जागरण, गजरौला का छायाकार जीतू सागर बिजली बिल ठीक कराने के नाम पर रिश्वत लेते हुआ वीडियो में कैद. आरोप है कि बिजली बिल का भुगतान कराने के …

लाल झंडे वाले कबीराना फोटो जर्नलिस्ट सुनील कुमार दत्ता से एक मुलाकात, देखें वीडियो

कबीर के नाम से चर्चित एसके दत्ता उर्फ सुनील कुमार दत्ता आजमगढ़ की एक जानी-मानी शख्सियत हैं. साइकिल से करियर शुरू करने वाले दत्ता साहब दैनिक जागरण, टाइम्स आफ इंडिया, राष्ट्रीय सहारा से लेकर अमर उजाला तक में काम करते हुए कुछ बरस से मोपेड से चलने लगे हैं. जाहिर है, उनके जीवन में, उनकी …

प्रभात खबर, देवघर के छायाकार के साथ दुर्व्यवहार

25 जनवरी की दोपहर को प्रभात खबर देवघर संस्करण के छायाकार सुभाष दास के साथ कुछ लोगों ने मारपीट की। मारपीट की यह घटना देवघर सदर अस्पताल के पुराने परिसर में घटी। प्राप्त जानकारी के अनुसार, फोटोग्राफर सुभाष जब पुराने अस्पताल परिसर में कुछ तस्वीर खींच रहे थे, तभी कुछ असामाजिक तत्वों ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया। इसके बाद पीड़ित फोटोग्राफर कुछ सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ उस मामले की तहरीर लिखाने देवघर नगर थाना पहुंचे।

परिश्रमिक मांगने पर मिली तलवार, दो ‘हिंदुस्तानियों’ के खिलाफ दर्ज हुई एफआईआर

मैं हर्ष कुमार उर्फ विक्की, फोटोग्राफर, हाजीपुर वैशाली ऑफिस हिंदुस्तान। मैं पिछले 13 महीने से काम कर रहा हूं। मैं अपने परिश्रमिक काी जब भी मांग करता था तो हाजीपुर ऑफिस हिंदुस्तान के प्रभारी श्री विनायमणि तिवारी बोलते थे कि पैसा लेकर काम करना है तो दूसरे पेपर में चले जाओ, यहाँ फ्री में ही काम करना पड़ेगा। इसके बारे में कई बार पटना ऑफिस में भी हम जाकर वरीय अधिकारी से मिले लेकिन कुछ नहीं हुआ।

पुलिस अधीक्षक खाकी के दागियों को हटाने में लगा, भास्कर का फोटो रिपोर्टर बचाने में जुटा

राजस्थान के सरहदी व संवेदनशील जिले बाड़मेर के पुलिस अधीक्षक डॉ. गगनदीप सिंगला आमजन में पुलिस की छवि को सुधारने के लिए खाकी पर सवाल उठते ही उस पर कड़ी कार्रवाही कर रहे हैं, लेकिन दैनिक भास्कर का फोटो पत्रकार उनको बचाने के जुगाड़ में लग जाता है. हाल के वाकिये के अनुसार १६ जनवरी को बाड़मेर के एक बड़े व्यापारी के यहाँ शादी में आये मेहमानों के जुआ खेलने की सूचना पर बाड़मेर कोतवाली हेड कांस्टेबल ने अपने साथियों के साथ दबिश देकर ३०-३५ जुआरियों को पकड़ लिया. लेकिन मुक़दमा दर्ज करने की जगह जुआरियों के साथ जब्त राशी जो कि २ लाख से ज्यादा थी, को हड़प लिया और प्रति जुआरी ३ हजार रूपये लेकर छोड़ दिया.

न कोई गिफ्ट लिया और न ही खबर छापने का वादा किया था : नवीन शर्मा

Reply to the complaint of Mr. Ashok Chaudhary,

Dear Sir,

I got an Email from Ashok Chaudhary, who also informed you to take action against me. I didn’t meet with Mr. Ashok Ji even I don’t think that I know him. In the Morning at about 10.30 a. m. Mr. Neelash (I know him) called me for a press conference, he requested me to come for a press conference but I refused as it was not assigned and my camera is not functioning. then he told me AJAO AAJ MIL LETE HAI, BAHUT DIN HO GAY, in good faith I went there at about 1 Pm. I met him outside the room, after 5 min I left, even I didn’t enter in the press conference room.

प्रेस कांफ्रेंस में अच्छे गिफ्ट के लिए धमकाने वाले दो फोटो जर्नलिस्टों नवीन शर्मा और नईम के खिलाफ लिखित शिकायत

Subject : Request for action against Mr.Naveen Sharma, Photographer, Millennium post Dear Durbar Sir, Hope you are doing well! This is regarding a complaint against your Photographer Mr.Naveen Sharma. On Monday, 16th January, there was a press conference of my client at Hotel Le Meridien, New Delhi. I had invited all print media, electronic media …

समुद्रतट पर औंधे पड़े मृत बच्चे की तस्वीर खींचते वक्त मैं चेतनाशून्य हो गई थी : फोटो जर्नलिस्ट नीलूफर डेमिर

बीजिंग: तुर्की के समुद्रतट पर औंधे पड़े मृत अयलान कुर्दी की हृदय विदारक तस्वीर खींचने वाली फोटो पत्रकार ने फोटो लेते वक्त अपनी मनोदशा पर कहा है कि अयलान की तस्वीर खींचते वक्त वह जैसे चेतनाशून्य सी हो गई थीं। तुर्की के समाचार पत्र ‘हुर्रियत’ को दिए साक्षात्कार में तुर्की की समाचार एजेंसी ‘डोगन न्यूज एजेंसी’ (डीएचए) की फोटो पत्रकार नीलूफर डेमिर ने दुनिया को हिला कर रख देने वाली इस तस्वीर को लेते वक्त अपनी मनोदशा के बारे में बताया।

दैनिक जागरण के फोटो जर्नलिस्ट मदन मौर्य की ये तस्वीरें बहुत बड़ी खबर बन सकती थी लेकिन आफिस वाले मैनेज हो गए!

मेरठ में एक फोटोग्राफर हैं मदन मौर्या. सीनियर फोटो जर्नलिस्ट हैं. जमाने से दैनिक जागरण की ही सेवा में है. बेहद मुंहफट और बेबाक. चोर के मुंह पर चोर कह देना उनका रोज का नियम है. चोर चाहे सीनियर पत्रकार हो या सीनियर पुलिस / प्रशासनिक अधिकारी. मदन मौर्य की इमानदारी और मुंहफटई के कारण सब चुपचाप उनकी सुनते, उन्हें झेलते रहते हैं. दैनिक जागरण, मेरठ के मालिकान बहुत अच्छे से मदन के इमानदार स्वभाव को जानते हैं, इसलिए वो मदन के खिलाफ ढेर सारी प्रायोजित शिकायतों को डस्टबिन में डालते रहते हैं, मदन के आफिस के लोगों के बारे में कड़वे बोल को सुन कर अनसुना करते हुए भी उस पर चुपचाप अमल करते जाते हैं. मदन का काफी समय से सबसे बड़ा दुख ये कि जिनके कंधों पर सिटी की रिपोर्टिंग का जिम्मा है, उन्होंने निजी स्वार्थवश पूरे पत्रकारिता के तेवर को धंधेबाजी में तब्दील कर रखा है. मदन अपने कैमरे के जरिए जिस सरोकारी व तेवरदार पत्रकारिता को अंजाम देते हैं, उसे उनके आफिस वाले कुछ लोग बेच खाने को तत्पर हो जाते हैं. ये सारी बातें और भूमिका मदन के स्वभाव-संस्कार के बारे में बताने के लिए थीं. अब आते हैं असली खबर पर.

दैनिक जागरण मेरठ के सीनियर फोटो जर्नलिस्ट मदन मौर्य

ब्रेन हैमरेज के बाद मेरठ के फोटोग्राफर राजन को नौकरी से निकाल दिया ‘हिंदुस्तान’ ने

दैनिक हिंदुस्तान मेरठ से खबर है कि यहां कार्यरत एक फोटोग्राफर को प्रबंधन ने इसलिए नौकरी से निकाल दिया क्योंकि उसे ब्रेन हैमरेज हो गया था. कारपोरेट मीडिया प्रबंधन अपने कर्मियों के प्रति कितना संवेदनहीन है, इसकी बानगी यह घटनाक्रम है. राजेंद्र सक्सेना उर्फ राजन दैनिक हिंदुस्तान, मेरठ में दस वर्षों से कार्यरत थे. फील्ड में घूम घूम कर वह फोटोग्राफी समेत अखबार के समस्त कार्य करते थे. सारे निर्देशों आदेशों का यस सर यस सर करते हुए पालन करते थे. एक दिन अचानक उन्हें ब्रेन हैमरेज हो गया. लंबा इलाज चला. जब वो ठीक होकर काम पर लौटे तो उन्हें एक लेटर थमा दिया गया कि आपकी नौकरी खत्म.

फुलवारीशरीफ में प्रेस फोटो ग्राफर के सिर में गोली मारी, हालत गंभीर

पटना : फुलवारीशरीफ थाना क्षेत्र में महावीर कैंसर अस्पताल के पास बदमाशों ने स्वतंत्र प्रेस फोटोग्राफर पवन सिंह को गोली मार दी। स्थानीय लोगों ने पवन को अस्पताल पहुंचाया। हालत चिंताजनक बताई गई है। घटनास्थल से पुलिस को जिंदा कारतूस बरामद हुआ है। नेशनल यूनियन ऑफ़ जर्नलिस्ट्स, बिहार, ने इस घटना की कठोर शब्दों में …

शेर की तस्वीर ले रहे प्रेस फोटोग्राफर योगेश भोजानी पर शेर ने किया हमला

गुजरात में राजकोट जिले के गोंडल तालुका के बिलड़ी गांव में कल एक शेर ने उसकी तस्वीर उतार रहे एक स्थानीय प्रेस फोटोग्राफर तथा उनके पत्रकार मित्र पर हमला कर दिया। पुलिस ने बताया कि स्थानीय प्रेस फोटोग्राफर योगेश भोजानी (40) तथा उनके पत्रकार मित्र चंद्रेश पंडया एक शेर द्वारा एक स्थानीय किसान के बैल को शिकार बनाए जाने की सूचना पर वहां पहुंचे थे।