हरिभूमि ने फ्रंट पेज पर प्रकाशित किया अखबार अभिकर्ता का स्मृति शेष

रायपुर। प्रिंट मीडिया के इतिहास में संभवत: ऐसा पहली बार हुआ है जब अखबार के एक मामूली एजेंट के निधन की खबर व स्मृति शेष में एक लंबा आलेख किसी समाचार पत्र ने मुख्य पृष्ठ पर प्रकाशित किया है। छह दशक से रायपुर में पाठक और समाचार पत्र का सेतु रहे वरिष्ठ अभिकर्ता रामप्रसाद यादव का 21 सितंबर को आकस्मिक हृदयघात से निधन हो गया। उनके निधन की खबर छत्तीसगढ़ के अन्य अखबारों ने एक छोटी सी न्यूज के रूप में प्रकाशित की। वहीं हरिभूमि के प्रबंध संपादक डा. हिमांशु द्विवेदी ने रामप्रसाद यादव की स्मृति में एक अग्रलेख लिखा जो हरिभूमि के फ्रंट पेज पर प्रकाशित हुआ। रामप्रसाद यादव रायपुर के पांच दशक की पत्रकारिता और उसके बदलावों के साक्षी थे। उनकी स्मृति में लिखा डा. हिमांशु द्विवेदी का आलेख….

भोपाल हरिभूमि के संपादक बने प्रमोद भारद्वाज

भोपाल : शाम के लीडिंग अग्निबाण समाचार पत्र समूह में इंदौर के संपादक प्रमोद भारद्वाज ने चार साल की लंबी पारी के बाद इस्तीफा दे दिया है। वे चार महीने पहले ही पूरे ग्रुप की कमान संभालने के लिए भोपाल से इंदौर कॉरपोरेट आफिस भेजे गए थे। पर उनका मन नहीं रमा। वे सुबह के अखबार में वापसी चाहते थे। अग्निबाण को उन्होंने ही भोपाल में एक ब्रांड के रूप में स्थापित किया था।

प्रेस काउंसिल तक पहुंचना चाहिए ‘हरिभूमि’ का ये सफेद झूठ !

कैसे कोई अख़बार अपनी ख़बर को मज़ाक की हद तक झूठा लिख सकता है, उसकी एक बानगी। अपनी एक खबर में हरिभूमि छाप रहा है कि दिल्‍ली से कनहर बांध गए जांच दल को गांव वालों ने बंधक बनाया था और रात में बघाड़ू गांव में जाकर पुलिस प्रशासन ने दल को रिहा करवाया।

हरिभूमि भोपाल में आंतरिक बदलाव

भोपाल (म.प्र.) : हरिभूमि के मैनेजिंग एडिटर डॉ.हिमांशु द्विवेदी ने अखबार के भोपाल संस्करण में आंतरिक बदलाव किए हैं। अब तक अखबार में डिप्टी न्यूज एडिटर का दायित्व निभा रहे भोजराज उच्चसरे को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी देते हुए सेंट्ल डेस्क इंचार्ज बना दिया गया है। वह बतौर रिजनल इंचार्ज का भी दायित्व निभाते रहेंगे।  Share on:कृपया …