राजकुमार सिंह बने दैनिक ट्रिब्यून के संपादक

राजकुमार सिंह दैनिक ट्रिब्यून के संपादक नियुक्त हो गए हैं। द ट्रिब्यून ट्रस्ट ने अब तक डिप्टी एडीटर के पद पर रहते हुए दैनिक ट्रिब्यून के कार्यकारी संपादक का पदभार संभाल रहे राजकुमार सिंह को संपादक बनाने की घोषणा की।

मस्ती चैनल ने विज्ञापन के रेट में भारी वृद्धि की

टेलीविजन में कमाई का मुख्य श्रोत विज्ञापन होता है। विज्ञापन की आय से ही इंडस्ट्री को संजीवनी मिलती है। म्यूजिक के क्षेत्र में नम्बर 1 की कुर्सी पर कब्जा जमाए हुए सब ग्रुप के चैनल मस्ती ने अपने विज्ञापन दर में 30 से 45 फीसदी की बढ़ोत्तरी कर दी है। कंपनी का कहना है कि हमारे पास युवाओं तक पहुंच सबसे अधिक है। सब ग्रुप के मस्ती चैनल का दावा है कि उसने 136 मिलियन का आंकड़ा पार कर लिया है और 30 जीआरपी का रिकार्ड कायम कर दिया है।

लखनऊ में थोक के भाव पत्रकार किए गए सम्मानित, देखें लिस्ट

लखनऊ में नेशनल मीडिया क्लब द्वारा आयोजित स्वच्छता अवार्ड व पत्रकार सम्मान समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुख्य अथिति के रूप में शिरकत की. इस मौके पर मुख्यमंत्री ने स्वच्छता के लिए उत्तर प्रदेश का पहला टोल फ्री नंबर जारी किया. आयोजन में नेशनल मीडिया क्लब ने पत्रकारिता दिवस के अवसर पर 60 वर्ष पूरे कर चुके वरिष्ठ पत्रकारों को सम्मानित किया।

एक जून यानि आज से प्रिंट मीडिया पर शिकंजा!

एक जून यानि आज से मोदी सरकार प्रिंट मीडिया पर शिकंजा कसना शुरू कर चुकी है। दरअसल इस वर्ष डीएवीपी की विज्ञापन नीति में बदलाव हुआ है। नियमानुसार चलने वाले प्रेस के लिए अंक निर्धारित किए गए हैं। इस नीति से शुद्ध तौर पर उन्हें फायदा होगा जो ए ग्रेड के प्रेस हैं। जिनका प्रसार प्रतिदिन 75 हजार से ऊपर है। शत-प्रतिशत कर्मचारियों का पीएफ कट रहा है। मौजूदा सर्वे में कई प्रेस इस दायरे में नहीं आए। इसलिए इनका एक जून से डीएवीपी विज्ञापन बंद कर दिया गया। चूंकि यह सर्वे दो सालों के लिए हुआ है। इसलिए 2019 तक अब कितना भी हाथ पैर मार ले कोई,  फायदा नहीं। हां ये हो सकता है कि कुछ प्रेस मालिक फिर से मेहनत कर सरकार से नए तरीके से सर्वे करने की गुजारिश करें। या नए प्रेस खोले जाएं जिनका प्रसार 75 हजार से ऊपर रखा जाए।

प्रताप सोमवंशी के सौ शेर : एक पत्रकार का शायर बन जाना…

अम्मा भी अखबार के जैसी रोज सुबह
पन्ना-पन्ना घर भर में बंट जाती हैं

ये दो लाइनें किसी का भी मन बरबस अपनी ओर खींचने को काफी हैं। कितनी गहराई है इन दो लाइनों में। कोई गंभीर पत्रकार जब शायर या गज़लकार के रूप में सामने आता है तो कुछ ऐसे ही गजब ढाता है। गजल, शायरी में अपनी अलग किस्म की पहचान रखने वाले प्रताप सोमवंशी के सौ शेर प्रकाशित हुए हैं।

‘न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया’ चैनल ने एक साल से स्ट्रिंगरों को पैसे नहीं दिए

कई राज्यों में बांटी फ्रेंचाइजी, चैनल की नैया डूबने के कगार पर…  एक साल पहले बड़े जोर शोर से रीलॉन्च किया गया कांग्रेस नेता और बिजनेसमैन नवीन जिंदल का न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया चैनल की नैया डूबने के कगार पर है। पिछले 1 साल से चैनल ने देश भर के स्टिंगरों को उनकी स्टोरी के पैसे नहीं दिए। बिचारे स्ट्रिंगर चैनल में पैसे के लिए बार-बार फोन करके हताश हो गए हैं। पूरा 1 साल होने के बाद भी पैसे नहीं मिलने के कारण ईमानदार स्टिंगरों के सामने भुखमरी की नौबत आ गई है।

इंडिया न्यूज का ‘बेटियां’ शो अब ऋचा अनिरुद्ध करेंगी

खबर है कि न्यूज़ चैनल इंडिया न्यूज का ‘बेटियां’ शो अब ऋचा अनिरुद्ध करेंगी। इस बाबत कंपनी से एग्रीमेंट हो गया है। इसकी पुष्टि ऋचा ने एक ट्वीट के जरिए की। इंडिया न्यूज के मैनेजिंग एडिटर राणा यशवंत ने ऋचा के ट्वीट को रिट्वीट कर इस निर्णय पर मुहर लगा दी है। ट्वीट-रीट्वीट के साथ एक फोटो भी अटैच है जिसमें इंडिया न्यूज चैनल के सीईओ राजेश के अलावा राणा यशवंत और ऋचा अनिरुद्ध दिख रही हैं।

मुंबई के फोटो जर्नलिस्ट सुर्यकांत निवाते का निधन

मुंबई के बिजनेस स्टैंडर्ड समाचार पत्र के वरिष्ठ फोटो जर्नलिस्ट सुर्यकांत निवाते का सोमवार को हृदयाघात से निधन हो गया। वे ५५ साल  के थे। वे अपने पीछे पत्नी, बेटा और बेटी को छोड़ गये हैं। सुर्यकांत निवाते के निधन की खबर मिलते ही मुंबई के पत्रकारों और फोटोग्राफरों में शोक की लहर फैैल गयी।

स्वराज एक्सप्रेस से विदाई शुरू

स्वराज एक्सप्रेस से कई पत्रकारों ने विदाई लेना शुरू कर दिया है, इसकी शुरुआत रायपुर और इंदौर से हो चुकी है. भोपाल डेस्क से कई लोगों के जाने के बाद रिपोर्टरों ने स्वराज को अलविदा कहना शुरू कर दिया है. इसमें इंदौर से अंशुल मुकाती और रायपुर से दो अन्य बड़े नामों ने स्वराज को …

युवा बिजनेस जर्नलिस्‍ट धर्मेंद्र चौधरी ने इंडिया टीवी को कहा अलविदा, यूसी न्‍यूज में निभाएंगे बड़ी जिम्‍मेदारी

स्‍टार न्‍यूज (एबीपी न्‍यूज) से पत्रकारिता में प्रवेश करने वाले युवा बिजनेस पत्रकार धर्मेंद्र चौधरी ने इंडिया टीवी को अलविदा कह दिया है। यहां करीब डेढ़ साल तक काम करने के बाद अब वह चीन की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा ग्रुप की यूसी न्‍यूज में कंटेंट ऑपरेशन स्‍पेशलिस्‍ट (न्‍यूज एडिटर, बिजनेस) के तौर पर अपनी नई पारी शुरू करने जा रहे हैं। यूवी और पीवी लाने में माहिर माने जाने वाले धर्मेंद्र ने इंडिया टीवी की बिजनेस वेबसाइट इंडिया टीवी पैसा को सफलतापूर्वक लॉन्‍च करवाया और उसे नई ऊंचाईयों पर पहुंचाने में अपनी अहम भूमिका निभाई।

भास्कर ब्यूरो चीफ अनिल राही बाहर हुए, सुनील कुकरेती और उमेश कुमार उपाध्याय का ट्रांसफर

देश के सबसे चर्चित समाचार पत्रों में से एक माने जाने वाले दैनिक भास्कर अखबार में कर्मचारियों का खूब शोषण होता है। अगर साफ़-साफ़ कहें तो दैनिक भास्कर में किसी की भी नौकरी सुरक्षित नहीं है, भले ही वह कितना भी बड़ा तुर्रम खां क्यों ना हो, तो गलत न होगा! दैनिक भास्कर के मुम्बई के एंटरटेनमेंट ब्यूरो से खबर आ रही है कि यहाँ करीब 22 साल तक इस अखबार में नौकरी करने वाले ब्यूरो चीफ अनिल राही को कंपनी ने एक ही झटके में बिना ठोस नोटिस दिए बाहर का रास्ता दिखा दिया।

मध्य प्रदेश में नई दुनिया के पत्रकार को ऑफिस में घुसकर गोली मार कर मौत की नींद सुला दिया

मध्य प्रदेश में जंगलराज है। यहां शिवराज चौहान के राज में पत्रकारों की जघन्य हत्याओं का दौर रुकने का नाम नहीं ले रहा है। बुरी खबर मंदसौर से है जहां एक पत्रकार की गोली मारकर हत्या कर दी गई। पिपलिया मंडी थाना क्षेत्र के पत्रकार कमलेश जैन को बुधवार रात 8:30 बजे मोटरसाइकिल सवार दो बदमाशों ने उनके ही ऑफिस में नजदीक से सीने में गोली मार दी। उन्हें तत्काल जिला चिकित्सालय लाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हे मृत घोषित कर दिया।