इलाहाबाद वर्सेज प्रयागराज : बीबीसी संवाददाता समीरात्मज मिश्र का ये वीडियो हो रहा वायरल, आप भी देखें

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज कर दिया है. इसी मुद्दे पर इलाहाबाद के स्थानीय लोगों से बात की बीबीसी संवाददाता समीरात्मज मिश्र ने. वीडियो जर्नलिस्ट के बतौर जितेंद्र त्रिपाठी ने सब कुछ शूट किया. कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

क्या बीबीसी पर भी सेक्स बिकाऊ है?

Dilip Mandal : बीबीसी हिंदी का मोस्ट पॉपुलर ही क्या हिंदी वेब जगत के एक बड़े हिस्से का सच है? भास्कर, लल्लनटॉप, टाइम्स ग्रुप, आज तक वग़ैरह के कुल ट्रैफिक का बड़ा हिस्सा सेक्स खोजता हुआ वहाँ पहुँचता है। सेक्स का कंटेंट बिकाऊ है। सब जानते हैं। भारत की तमाम बड़ी साइट यह खेल खेलती हैं। ज्योतिष, अंधविश्वास, पाखंड, क्रिकेट सबका मार्केट है। वेब पर अद्भुत रस सबसे लोकप्रिय रस है। लेकिन बीबीसी में भारतीय पब्लिक यह क्या खोज रही है? जो चीज़ होम पेज पर नहीं है, वह टॉप URL कैसे है? बीबीसी हिंदी पर कई बार टॉप 10 में 5 ख़बरें सेक्स की होती हैं।

बीबीसी हिंदी के साथ काम करने का मौक़ा, 12 मार्च तक करें आवेदन

अगर आप भी बीबीसी हिंदी के साथ काम करना चाहते हैं तो आपका इंतज़ार ख़त्म हुआ. वेबसाइट पर ताज़ातरीन सामग्री तत्काल उपलब्ध कराने के लिए हमारी टीम साल के 365 दिन 24 घंटे काम करती है. लंदन ही नहीं, भारत के लगभग हर राज्य की राजधानी में हमारे पत्रकार आप तक समाचार पहुंचाने के लिए तैनात हैं. बीबीसी हिंदी में तीन पदों के लिए वेकेंसी निकली हैं. ये तीन पद वीडियो जर्नलिस्ट, ब्रॉडकास्ट जर्नलिस्ट (मल्टीमीडिया) और सीनियर ब्रॉडकास्ट जर्नलिस्ट के लिए हैं. आवेदन की आखिरी तारीख 12 मार्च है. आप नीचे दिए लिंक्स पर क्लिक कर इन पदों के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

बीबीसी हिंदी को मल्टी मीडिया प्रोड्यूसर की जरूरत, करें अप्लाई

बीबीसी हिंदी सर्विस को अपने दिल्ली ऑफिस के लिए मल्टीमीडिया प्रड्यूसर की तलाश है. आवेदन करने वाले को रिसर्च, रिपोर्ट, कॉपी, एडिटिंग, ट्रांसलेशन आदि में सिद्धहस्त होना चाहिए. आवेदन करने की आखिरी तारीख 21 दिसंबर 2016 है. बीबीसी की वेबसाइट पर इस बारे में जो डिटेल है, वह इस प्रकार है…

बीबीसी ने चैनल पर चला दी शो में बैठी गेस्ट की न्यूड फुटेज!

बीबीसी ने अपने एक शो के दौरान एक महिला नौकाचालक की न्यूड फुटेज प्रसारित कर दी. यह नौकाचालक बतौर मेहमान शो में शामिल थी. इस चूक के लिए चैनल को दर्शकों और मेहमानों से माफी मांगनी पड़ी. ये महिला शो में बतौर मेहमान गिनीज बुक में दर्ज अपनी उपलब्धि के बारे में चैनल को बता रही थी. बीबीसी के सुबह के प्रसारण में यॉर्कशायर की महिला नौका टीम अटलांटिक पार करने के अपने रिकॉर्ड के बारे में बता रही थी. इस दौरान जो फुटेज चैनल पर चली उसमें हेलन बटर्स नाम की महिला नौकाचालक पूरी तरह से अर्धनग्न थी. उसने टीशर्ट के नीचे कुछ नहीं पहन रखा था. बटर्स टीम की सबसे शर्मीली सदस्य थीं और उन्हें अपनी टीम के सामने कपड़े उतारने में हिचक होती थी.

बीबीसी हिंदी की ज्यादातर खबरें किसी औसत प्रतिभा के व्यक्ति की फेसबुक पोस्ट्स जैसी लगती हैं

Shayak Alok : बीबीसी हिंदी की ज्यादातर खबरें मुझे किसी औसत प्रतिभा के व्यक्ति की फेसबुक पोस्ट्स जैसी लगती हैं .. सतही और प्रभावित .. जबकि मैंने पाया कि बीबीसी अंग्रेजी की भारत पर लिखी रिपोर्टों की गुणवत्ता में कोई कमी नहीं है .. बीबीसी हिंदी की सबसे अच्छी खबरें उन्हीं खबरों का हिंदी अनुवाद हैं..

ईटीवी पर भी देखिए ‘बीबीसी दुनिया’, जगदीश चंद्र ने की घोषणा

अब आप ईटीवी चैनलों पर बीबीसी हिंदी का नया कार्यक्रम ‘बीबीसी दुनिया’ देख सकते हैं. अंतरराष्ट्रीय खबरों का यह कार्यक्रम सोमवार से शुक्रवार तक ईटीवी नेटवर्क पर रात 9.20 बजे दिखाया जाएगा. इसकी घोषणा हैदराबाद के रामोजी फिल्म सिटी स्थित ईटीवी हेड ऑफिस में न्यूज नेटवर्क हेड जगदीश चंद्र ने केक काटकर और तालियों की गड़गड़ाहट के बीच की. सोमवार को ‘बीबीसी दुनिया’ का पहला एपिसोड प्रसारित किया गया. इस कार्यक्रम की खासियत यह है कि इसमें भारतीय दर्शकों को ध्यान में रखते हुए दुनियाभर की खबरें होंगी.

अपनी गलती से शर्मसार बीबीसी इंडिया ने माफी मांगी

बीबीसी इंडिया को अपनी एक गलती से शर्मसार होकर सोशल मीडिया पर माफी मांगनी पड़ गई। उसने गलती से विंबलडन महिला डबल्स की जीत का सारा श्रेय स्विट्जरलैण्ड की खिलाड़ी मार्टिना हिंगिस को दे दिया। खिताब भारत की सानिया मिर्जा और मार्टिना ने जीता था।  

 

घाटे से जूझ रहे बीबीसी में होगी 1000 से अधिक कर्मियों की छुट्टी

इस समय घाटे से जूझ रहा बीबीसी (ब्रिटिश ब्राडकास्टिंग कारपोरेशन) अपने एक हजार से अधिक कर्मचारियों की छंटनी करने वाला है। इसकी सुगबुगाहट से अंदर ही अंदर रोष की सूचनाएं हैं।

महिला पत्रकार के झूठी खबर फैलाने पर बीबीसी ने माफी मांगी

एक महिला पत्रकार अहमन ख्वाजा द्वारा ट्विटर पर महारानी के निधन की गलत सूचना दे देने बीबीसी को माफी मांगनी पड़ी। उसने ट्विटर पर लिखा, ‘महारानी एलिजाबेथ का निधन हो गया.’ पत्रकार ने महारानी के निधन की खबर के प्रसारण की रिहर्सल में हिस्सा लिया था और वह इस खबर को सच मान बैठी थी. 

क़तर में बीबीसी टीम गिरफ़्तार, दो रातों तक पूछताछ

क़तर में 2022 विश्व कप के निर्माण कार्यों पर आधिकारिक रूप से रिपोर्टिंग कर रही बीबीसी टीम को गिरफ़्तार कर लिया गया है. यह टीम निर्माण कार्यों में शामिल अप्रवासी मज़दूरों के हालात पर रिपोर्टें कर रही थी. चार सदस्यों की टीम को प्रधानमंत्री कार्यालय ने ही बुलाया था. बीबीसी के मध्यपूर्व संवाददाता मार्क लोबेल …

बीबीसी संपादक आलोचनाओं के निशाने पर, चरमपंथियों से की गांधी, मंडेला की तुलना

लंदन : बीबीसी संपादक द्वारा महात्मा गांधी, नेल्सन मंडेला और विंस्टन चर्चिल की तुलना कथित तौर पर एक ब्रितानी कट्टरपंथी मुस्लिम धर्म प्रचारक से करने पर बीबीसी को कड़ी आलोचनाओं का शिकार होना पड़ रहा है.

भारत में ‘बीबीसी अर्थ’ नाम से नया चैनल शुरू होगा

अर्थ डे यानि पृथ्वी दिवस के मौके पर एक नया चैनल शुरू किए जाने की घोषणा सोनी और बीबीसी ने की है. चैनल का नाम ‘बीबीसी अर्थ’ होगा. सोनीएंटरटेनमेंट चैनल का संचालन करने वाली कंपनी मल्टी स्क्रीन मीडिया प्राइवेट लिमिटेड और बीबीसी वर्ल्डवाइड ने साथ मिलकर भारत में बीबीसी अर्थ नाम से नया टीवी चैनल शुरू करने की घोषणा की है. चैनल ‘बीबीसी अर्थ’ वास्तविक तथ्यों को प्रसारित करेगा. 

नेट न्यूट्रैलिटी : मामला वसूली का, इंटरनेट यूजर हैं तो इसका मतलब जरूर जान लीजिए

इंटरनेट पर की जाने वाली फ़ोन कॉल्स के लिए टेलीकॉम कंपनियां अलग कीमत तय करने की कोशिशें कर चुकी हैं. कंपनियां इसके लिए वेब सर्फिंग से ज़्यादा दर पर कीमतें वसूलना चाहती थीं. इसके बाद टेलीकॉम सेक्टर की नियामक एजेंसी ‘ट्राई’ ने आम लोगों से ‘नेट न्यूट्रैलिटी’ या ‘इंटरनेट तटस्थता’ पर राय मांगी है. देश भर में इस सवाल पर बहस छिड़ी हुई है. ऐसे में इससे संबंधित कुछ बातों को हर इंटरनेट यूजर को समझना चाहिए.

बीबीसी पत्रकार सलमा जैदी का लंदन में निधन

वर्ष 2011 तक बीबीसी समाचार सेवा से लगभग डेढ़ दशक तक जुड़ी रहीं पत्रकार सलमा ज़ैदी का लंदन में निधन हो गया। वह कुछ समय से बीमार थीं। उन्होंने रविवार को लंदन में अंतिम सांस ली।  वह बीबीसी हिंदी रेडियो पर एक जानी-मानी आवाज़ थीं और हिंदी भाषा में डिजिटल दुनिया में काम कर रही …

बीबीसी डॉक्‍यूमेंट्री से पाबंदी हटाने पर दिल्ली हाईकोर्ट का इनकार

दिल्ली : हाईकोर्ट ने दिल्ली गैंगरेप पीड़िता ‘निर्भया’ पर बनाई गई बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री के प्रसारण पर लगे प्रतिबंध को हटाने से इनकार कर दिया है। इस मामले में अपील सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन है। ऐसे में ये केस प्रभावित हो सकता है। मामले में बीते 9 मार्च को हाई कोर्ट ने लॉ स्टूडेंट विभोर आनंद, अरूण मेनन व कृतिका की अलग-अलग दो जनहित याचिकाओं पर जल्द सुनवाई से इन्कार कर दिया था। हाईकोर्ट ने मामले को मुख्य न्यायाधीश की अदालत में भेजा है। अब इस मामले में सुनवाई 18 मार्च को होगी।

बीबीसी का टीवी प्रजेंटर सस्पेंड, अगले दो एपीसोड भी रद्द

बीबीसी ने भारत के खिलाफ एक नस्लवादी टिप्पणी करने वाले टीवी प्रजेंटर को एक प्रोड्यूसर के साथ झगड़ा करने के आरोप में सस्पेंड कर दिया है। पता चला है कि ‘टॉप गियर’ कार्यक्रम के प्रजेंटर जेरेमी क्लार्कसन को निलंबित किया गया है। बीबीसी ने मोटरों पर आधारित कार्यक्रम ‘टॉप गियर’ के अगले दो एपीसोड भी रद्द कर दिए हैं। कार्यक्रम का तीसरा एपीसोड प्रसारित होना अब संदिग्ध हो चला है। 

बीबीसी टेलीकॉस्ट पर ये तोहमत उछालने वाले!

रेप पर बीबीसी द्वारा टेलीकास्ट की गई फिल्म पर मीडिया नैतीकता का सवाल उठा रहा है। नैतिकता का सवाल कौन खड़ा कर रहा है…जी टीवी के सुधीर चौधरी। वही सुधीर चिौधरी जो कारपोरेट जासूसी में जेल जा चुका है। हद हो गई। क्या भारतीय मीडिया खास तौर से टीवी वालों को नैतीकता का सवाल खड़ा करने का कोई मॉरल राइट्स है। इंडिया टीवी ने खुद अपने गिरेबान में झांक कर देखा है की वह कितना मॉरल है। चैनलों में टीआरपी की अंधी दौड़ के कारण जो कुछ परोसा जा रहा है, उसके चलते आज पूरा मीडिया कटघरे में है। 

‘बीबीसी की गाइडलाइन के अनुरूप है डॉक्यूमेंट्री’

बीबीसी-4 ने दिल्ली गैंगरेप के दोषी मुकेश सिंह के इंटरव्यू वाली लेज़्ली उडविन की डॉक्यूमेंट्री लंदन में 4 मार्च को प्रसारित कर दी। बीबीसी का कहना है, “डॉक्यूमेंट्री हमारे एडिटोरियल गाइडलाइन के अनुरूप है और इस संवेदनशील मुद्दे को पूरी जिम्मेदारी के साथ पेश करती है। इसलिए ‘बीबीसी-4 ने इसका प्रसारण ब्रिटेन में किया है।”

बीबीसी ने बैन के बावजूद आज तड़के डॉक्युमेंटरी ‘इंडियाज़ डॉटर’ दिखा दिया…

Om Thanvi : तड़के बीबीसी ने डॉक्युमेंटरी ‘इंडियाज़ डॉटर’ दिखाई और सुबह से वह यू-ट्यूब, ट्विटर लिंक आदि के जरिए सामने है! अर्णब गोस्वामी, राजनाथ सिंह, माननीय सांसदगण, माननीय अदालत और दिल्ली पुलिस का शुक्रिया। आज के युग में बैन आगे से दिखाने के लिए लगाया कीजिए, न दिखाने के लिए नहीं – इतना तो टीवी पर उस अंगरेजी डॉक्युमेंटरी को लोग भी न देखते! और वह कलमुँहा ड्राइवर – पता नहीं फिल्म में कब आया और अपनी बकवास में अपनी ही मौत मर गया! उसके बयान (जिसमें ज्यादा समय विजुअल दूसरे ही चलते हैं) से उस रात के पाशविक कृत्य, अपराधियों की मानसिकता आदि को मुझे ज्यादा शिद्दत से समझने का मौका मिला। … इस पर चीखे अर्णब तुम सारी-सारी रात?

अमिताभ सिन्हा आजतक छोड़ आईबीएन7 पहुंचे, तुषार बनर्जी ने ‘बीबीसी’ और अभिषेक ने ‘खबर मंत्र’ छोड़ा

आजतक में कई वर्षों से कार्यरत पत्रकार अमिताभ सिन्हा ने दुखी मन से इस्तीफा दे दिया है. चर्चा है कि अमिताभ खुद की उपेक्षा से नाराज थे. पिछले तीन वर्षों से उनको प्रमोशन नहीं दिया गया था. वे भाजपा बीट कवर करते थे और नरेंद्र मोदी का इंटरव्यू ले पाने में टीवी टुडे ग्रुप से अमिताभ सिन्हा ही सफल हो पाए थे. बताया जाता है कि नरेंद्र मोदी ने खुद इच्छा जताई थी कि वो अगर टीवी टुडे में किसी को इंटरव्यू देंगे तो वो अमिताभ सिन्हा होंगे.

मोदी मिलन पर बीबीसी में पत्रकार सौतिक बिस्वास की आंखो देखी रिपोर्ट पढ़िए- ”बुलाया था बात करने, पर सुनना पड़ा भाषण”

बीबीसी संवाददाता सौतिक बिस्वास को भी मोदी दिवाली मिलन कार्यक्रम में बुलाया गया था. सौतिक ने आंखों दिखी लिखा है बीबीसी की वेबसाइट पर. इस राइटअप की काफी चर्चा है क्योंकि अब ज्यादातर लोग कहने लगे हैं कि मोदी के सामने पत्रकारों ने अपनी शालीनता खो दी और मोदी का एकतरफा भाषण सुनकर, सेल्फी बनाकर लौट आए. लीजिए सौतिक बिस्वास का लिखा पढ़िए….

विकास पाठक ने आरएसएस क्यों छोड़ा और बीबीसी ने इसे अपने यहां क्यों छापा?

विकास पाठक जेएनयू से पढ़े हैं. पत्रकार रहे हैं. इन दिनों शारदा यूनिवर्सिटी में सहायक प्रोफ़ेसर के रूप में कार्यरत हैं. बीबीसी संवाददाता सलमान रावी ने विकास पाठक से उनके संघ से जुड़ने से और अलग होने को लेकर विस्तार से बात की. फिर उस बातचीत को विकास पाठक की तरफ से बीबीसी की वेबसाइट पर प्रकाशित करा दिया. ऐसे दौर में जब मोदी, भाजपा और संघ को हरओर महिमामंडित करने का दौर चल पड़ा है, बीबीसी ने संघ को लेकर एक शख्स की जुड़ाव व विलगाव यात्रा को प्रकाशित कर यह साबित किया है कि चारण-भाट बनने के इस दौर में कुछ सच्चे मीडिया ग्रुप भी हैं. कम्युनिस्ट हों या संघी हों, दोनों को लेकर क्रिटिकल खबरें सामने आनी चाहिए ताकि जनता को, पाठकों को खुद फैसला करने में सहूलियत हो और उन्हें दोनों अच्छे बुरे पहलू पता रहे. नीचे बीबीसी में छपी खबर है.

-यशवंत, एडिटर, भड़ास4मीडिया


नितिन का बीबीसी से इस्तीफा, माइक्रोसॉफ्ट से जुड़े

बीबीसी के भारत संवाददाता नितिन श्रीवास्तव ने बीबीसी से इस्तीफा दे दिया है। अक्टूबर के दूसरे हफ्ते में वे बीबीसी से कार्यमुक्त हो जाएंगे। नितिन पिछले आठ वर्षों से बीबीसी से जुड़े हुए थे।

अतुल चंद्रा बने यूपी में बीबीसी के संवाददाता

वरिष्‍ठ पत्रकार अतुल चंद्रा को बीबीसी ने यूपी की जिम्‍मेदारी दी है. ये यूपी में बीबीसी के आधिकारिक संवाददाता होंगे. श्री चंद्रा लंबे समय तक लखनऊ में अंग्रेजी अखबारों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं. वे लखनऊ में टाइम्‍स ऑफ इंडिया के संपादक की जिम्‍मेदारी भी निभा चुके हैं. बीबीसी से रामदत्‍त त्रिपाठी के रिटायर …