दिल्‍ली में महिला पत्रकार ने फांसी लगाकर आत्‍महत्‍या की

पूर्वी दिल्ली के शकरपुर में एक महिला पत्रकार ने फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली. पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. महिला पत्रकार ने करीब एक वर्ष पहले ही एक व्यवसायी से प्रेम विवाह किया था. घटना शकरपुर थानांतर्गत गणेश नगर इलाके की है. पुलिस के अनुसार पत्रकार नेहा गुप्ता (30 वर्ष) अपने पति कपिल गुप्ता के साथ ए-74, गणेश नगर पार्ट-2, में रहती थी. करीब एक साल पहले नेहा ने कपड़ा कारोबारी कपिल गुप्ता से प्रेम विवाह किया था. कपिल का लक्ष्मी नगर में कपड़े का कारोबार है. नेहा एक न्यूज चैनल में पत्रकार थी.

एनडीटीवी के पत्रकार को पीटने वाले विधायक अनंत सिंह के खिलाफ अरेस्‍ट वारंट

पटना। पटना की एक अदालत ने वर्ष 2007 में एनडीटीवी के तत्कालीन पत्रकार प्रकाश सिंह के साथ मारपीट के आरोप में मोकामा विधानसभा से जनता दल युनाइटेड (जेडीयू) के बाहुबली विधायक अनंत सिंह समेत पांच अन्य के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी करने का निर्देश दिया है। न्यायिक दंडाधिकारी घनश्याम सिंह ने एक नवंबर 2007 को सचिवालय थाना क्षेत्र स्थित अनंत सिंह के आवास पर काजल हत्याकांड पर उनकी प्रतिक्रिया जानने पहुंचे एनडीटीवी के तत्कालीन पत्रकार प्रकाश सिंह के साथ मारपीट करने के मामले में यह आदेश दिया।

नक्‍सलियों ने नहीं, टीन तस्‍करों ने की है पत्रकार नेमीचंद की हत्‍या!

जगदलपुर। बस्तर के सुकमा जिले में हुई पत्रकार नेमीचंद जैन की हत्या में अपना हाथ होने से नक्सलियों ने इनकार किया है. उन्‍होंने कूकानार व तोंगपाल क्षेत्र में पर्चा फेंककर कहा है कि इस हत्‍या में उनका हाथ नहीं है. पर्चा मिलने के बाद आशंका जताई जा रही है कि टीन तस्‍करों ने इस हत्‍या की घटना को अंजाम दिया है. पत्रकार की हत्‍या के बाद से इलाके में हड़कम्‍प है. डीजीपी रामनिवास ने इस मामले की जांच का जिम्मा सुकमा एसपी अभिषेक शांडिल्य को सौंपा है. उन्‍हें जांच जल्‍द से जल्‍द पूरी करके रिपोर्ट सौंपने को कहा गया है.

अमर उजाला से रिटायर हुए वरिष्‍ठ पत्रकार शंभूनाथ शुक्‍ल

वरिष्‍ठ पत्रकार तथा अमर उजाला, मेरठ के संपादक रहे शंभूनाथ शुक्‍ला गुरुवार को रिटायर हो गए. उन्‍हें नोएडा स्थित कार्यालय में धूमधाम से विदाई दी गई. कुछ समय पहले ही प्रबंधन ने उन्‍हें मेरठ से नोएडा बुलाया था. वे पूरे साढ़े तीन दशक तक पत्रकारिता करते रहे और युवाओं के सामने हर रोज नई मिसाल पेश करते रहे. उन्‍होंने अपना करियर कानपुर में दैनिक जागरण से की. वे 19 साल तक जनसत्‍ता में कार्यरत रहे. चंडीगढ़ एवं कोलकाता के संपादक रहे. यहां से इस्‍तीफा देने के बाद पिछले 11 सालों से अमर उजाला को अपनी सेवाएं दे रहे थे. उन्‍होंने अपने विदाई समारोह तथा जीवन के कुछ अनछुए पहलुओं को फेसबुक पर लोगों से शेयर किया है.

एसबीआई ने कहा- सहारा की कंपनियों को कोई ऋण नहीं दिया

मुंबई : भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने गुरुवार को कहा कि सहारा समूह की कंपनियों को उसने कोई ऋण नहीं दे रखा है, बल्कि इन कंपनियों का 700-800 करोड़ रुपये एसबीआई के पास जमा है। सहारा समूह को ऋण आबंटन के बारे में पूछे जाने पर एसबीआई चेयरमैन प्रतीप चौधरी ने कहा, ‘मैं समझता हूं कि हमारी कुछ शाखाओं में उनकी (सहारा कंपनियों) जमाएं हैं। अगर इन्हें निकाला जाए तो ये करीब 700-800 करोड़ रुपये होंगी। लेकिन हमने उन्हें कोई ऋण नहीं दिया हुआ है।’

भद्दी टिप्‍पणी के बाद रवि व्‍यालार ने महिला पत्रकार से माफी मांगी

केन्द्रीय मंत्री व्यालार रवि द्वारा टीवी चैनल की एक महिला पत्रकार पर किए एक बेहद आपत्तिजनक टिप्पणी ने तूल पकड़ लिया है। सुर्यनल्ली बलात्कार केस में फंसे राज्यसभा उपसभापति जे पी कुरियन पर सवाल पूछने पर रवि ने महिला के खिलाफ भद्दी भाषा का प्रयोग किया था। हालांकि भारी विरोध के बाद रवि ने महिला पत्रकार के खिलाफ अपशब्द का प्रयोग करने के लिए उससे तथा चैनल से माफी मांग ली है।

समाचार प्लस राजस्थान की लॉन्चिंग जल्द, भर्ती शुरू

मीडिया जगत में बड़ी खबर है। उत्तर प्रदेश/उत्तराखंड में रीजनल टीवी न्यूज़ चैनल के रूप में सफलता का परचम लहरा चुके ‘समाचार प्लस’ की लॉन्चिंग अब राजस्थान में होने जा रही है। “खबर वही जो हमने कही” की टैग लाइन के साथ शुरू हुए समाचार प्लस ने जनसरोकार से जुड़ी खबरों को हमेशा प्राथमिकता दी है और सच कहने की हिम्मत के साथ निरंतर बेलगाम होती नौकरशाही और गैर जवाबदेह बनते जा रहे राजनेताओं से सवाल पूछकर, उनके कारनामों को उजागर करके अपने आपको जनता के प्रवक्ता के रूप में पेश किया है।

इंडिया टीवी से लंबी बढ़त के साथ छठे सप्‍ताह भी आजतक नम्‍बर एक

: सहारा को पछाड़ कर टॉप टेन में पहुंचा डीडी न्‍यूज : टैम ने छठवें सप्‍ताह की टीआरपी जारी कर दी है. इस सप्‍ताह नंबरिंग में कोई बड़ा बदलाव देखने को नहीं मिला है. पर आजतक इस सप्‍ताह नम्‍बर वन होने के साथ इंडिया टीवी को बहुत ज्‍यादा पीछे छोड़ दिया है. इंडिया टीवी को इस सप्‍ताह 1.2 रेटिंग प्‍वाइंट का नुकसान हुआ है. इसके बाद भी ये चैनल दूसरे पायदान पर बना हुआ है. हालांकि एबीपी न्‍यूज इस चैनल के नजदीक पहुंच गया है. जी न्‍यूज इस बार भी चौथे पायदान पर काबिज है.

5 मार्च को सम्मानित होंगे ‘सद्भावना दर्पण’ के संपादक गिरीश पंकज

भोपाल। साहित्यिक पत्रिका ‘सद्भावना दर्पण’ के संपादक गिरीश पंकज को पं. बृजलाल द्विवेदी स्मृति अखिल भारतीय साहित्यिक पत्रकारिता सम्मान से 5 मार्च, 2013 को सम्मानित किया जाएगा। भोपाल के रवींद्र भवन में सायं 4 बजे आयोजित इस समारोह में वरिष्ठ साहित्यकार विजयबहादुर सिंह, माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्ववविद्यालय के कुलपति प्रो. बृजकिशोर कुठियाला, समाजवादी चिंतक रघु ठाकुर, छत्तीसगढ़ी राजभाषा आयोग के अध्यक्ष श्यामलाल चतुर्वेदी (बिलासपुर), वरिष्ठ पत्रकार डा. हिमांशु द्विवेदी (रायपुर) मौजूद होंगे।

भड़ास4मीडिया फिर टॉप पर, अंग्रेजी की दिग्गज वेबसाइटों को भी पछाड़ा

अपने जन्म के समय से ही देश के मीडिया जगत में हलचल मचाने वाली वेबसाइट भड़ास4मीडिया डाट काम bhadas4media.com ने एक बार फिर हिंदी-अंग्रेजी सभी मीडिया वेबसाइटों में नंबर वन की पदवी हासिल कर ली है. किसी भी हिंदी मीडिया वेबसाइट का भड़ास से कभी मुकाबला नहीं रहा. भड़ास बाकियों से कई गुना आगे रहा है और है. अंग्रेजी की कई स्थापित वेबसाइटों को पहले भी भड़ास ने पछाड़ा और फिर पछाड़ कर नंबर वन मीडिया वेबसाइट का स्थान हासिल कर लिया.

सहारा को कोई सहारा नहीं मिलने वाला, सेबी आर्डर सहारा का डेड इंड : संदीप पारेख

वित्तीय मामलों के कानूनी विशेषज्ञ संदीप पारेख का एक इंटरव्यू सीएनबीसी-टीवी18 चैनल पर प्रसारित किया गया. मुद्दा था सेबी का आदेश और सहारा का भविष्य. संदीप पारेख ने साफ-साफ कहा कि उन्हें नहीं लगता कि अब सहारा समूह को कहीं से किसी तरह का कोई सहारा मिल पाएगा. उन्होंने सेबी के आदेश को सहारा का डेड इंड करार दिया. पूरी बातचीत इस तरह है…

एकाउंट और संपत्ति फ्रीज करने के सेबी के आर्डर पर ये है सहारा की प्रतिक्रिया

कल सेबी ने सहारा समूह की दो कंपनियों और सुब्रत राय समेत चार पदाधिकारियों के एकाउंट व संपत्ति फ्रीज करने के जो आदेश दिए, उस पर सहारा समूह ने अपनी लिखित प्रतिक्रिया भेजी है. पूरी प्रतिक्रिया यूं है…

सेबी के आदेश के बाद सहारा समूह की लिस्टेड कंपनियों के भाव गिरे

सेबी ने कल सहारा समूह की संपत्ति व एकाउंट फ्रीज करने के आदेश दिए और अगले ही दिन सहारा की लिस्टेड कंपनियों के शेयर धड़ाम से गिर गए. रायटर की खबर के मुताबिक सहारा समूह की दो कंपनी लिस्टेड हैं. इनका नाम है- सहारा हाउसिंग फिना कार्प और सहारा वन मीडिया एंड एंटरटेनमेंट लिमिटेड. सेबी के आदेश का असर सीधे तौर पर इन दोनों कंपनियों पर तो नहीं पड़ रहा है लेकिन लिस्टेड होने के कारण इनके शेयर नीचे गिर गए हैं. ऐसा बाजार में सहारा की प्रतिष्ठा धूमिल होने के कारण है. पूरी खबर इस तरह है…

सहारा का देश भर में फैला रीयल इस्टेट का धंधा चौपट होगा

इंडियन एक्सप्रेस की वेबसाइट पर खबर है कि सेबी द्वारा सहारा की दो कंपनियों और कई लोगों के एकाउंट व संपत्ति फ्रीज किए जाने के बाद सहारा का पूरे देश भर में फैला रीयल इस्टेट का धंधा चौपट हो जाएगा. पूरी रिपोर्ट इस प्रकार है…

अमर उजाला के वरिष्‍ठ पत्रकार गोकुल पटेल का निधन

इलाहाबाद। करीब दो दशक से सक्रिय पत्रकारिता करने वाले अमर उजाला के पत्रकार गोकुल पटेल का निधन हो गया। वे 55 वर्ष के थे तथा पिछले कई साल से बीमार चल रहे थे। उन्‍हें ब्रेन ट्यूमर की बीमारी थी। 14 फरवरी को सुबह अचानक हालत बिगड़ने लगी। स्थानीय डॉक्टरों की सलाह पर परिजन उन्हें लखनऊ पीजीआई इलाज के लिए ले जा रहे थे। रायबरेली पहुंचते ही रास्ते में दोपहर साढ़े ग्यारह बजे उन्होंने दम तोड़ दिया।

न्‍यूज नेशन में न्‍यूज हेड बने अजय कुमार

आजतक से पिछले दिनों इस्‍तीफा देने वाले एक्‍जीक्‍यूटिव एडिटर अजय कुमार ने अल्‍फा समूह का चैनल न्‍यूज नेशन ज्‍वाइन कर लिया है. उन्‍हें यहां पर न्‍यूज हेड बनाया गया है. अजय कुमार आजतक में पांच साल के कार्यकाल के बाद इस्‍तीफा दे दिया था. उनसे पहले अभिसार शर्मा भी आजतक से इस्‍तीफा देकर जी न्‍यूज पहुंच गए थे. चैनल के ऑन ए‍यर होने पर अजय कुमार ने ही पहला बुलेटिन पढ़कर इसकी शुरुआत की.  

गाजीपुर स्थित दूसरा ताजमहल देता है पवित्र प्रेम की प्रेरणा

प्रेम का इतिहास लैला-मजनू, रोमियो-जूलियट, हीर-रांझा जैसे बेशुमार प्रमियों की अनूठी प्रेम दास्तां से भरा पड़ा है। इन अनूठी प्रेम कहानियों में मुमताज और शाहजहां की प्रेम दास्तां आज भी ताजमहल के रूप में दुनिया के सामने है। अपनी प्रेमिका मुमताज की याद में मुगल बादशाह शाहजहां ने ताजमहल की तामिर कराकर जहां अपने अनूठे प्रेम को अमर कर दिया वहीं गाजीपुर के एक मामूली किसान ने अपनी पत्नी की याद में भव्य मंदिर बना डाला है। जी हां, गाजीपुर के इस शाहजहां ने

सुशील खरे का द न्‍यूज से इस्‍तीफा, विवेक सिंह समाचार प्‍लस से जुड़े

सुशील खरे खबरिया चैनल द न्‍यूज से इस्‍तीफा दे दिया है. वे कुछ समय पहले ही इस चैनल के साथ स्‍पेशल करेस्‍पांडेंट के रूप में जुड़े थे. उन्‍हें यूपी-उत्‍तराखंड की जिम्‍मेदारी दी गई थी. सुशील अपनी नई पारी कहां से शुरू करेंगे इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है. वे इसके पहले हिंद वतन, सहारा, डायलॉग इंडिया मैगजीन, न्‍यूज नेटवर्क ऑफ इंडिया, समाचार प्‍लस चैनल को अपनी सेवाएं दे चुके हैं.

स्‍टार प्‍लस इस बार भी नम्‍बर वन, जी टीवी की रेटिंग प्‍वाइंट में बढ़त

इंडियन एंटरटेन्मेंट टेलीविजन के छठे सप्‍ताह की रेटिंग आ गई है. इस बार चैनल के पोजिशन में कोई बदलाव नहीं आया है, उनके रेटिंग प्‍वाइंट जरूर कम हो गए हैं. स्‍टार प्‍लस ने अपने नम्‍बर वन का स्‍थान मेंटेंन रखा है, लेकिन उसे रेटिंग अंकों का नुकसान हुआ है. इस बार स्टार प्लस 264 जीआरपी के साथ पहले स्‍थान है है, ज‍बकि पिछले सप्‍ताह इसकी जीआरपी 281 प्‍वाइंट थी. जीटीवी ने इस बार अपने रेटिंग प्‍वाइंट में 29 अंकों की बढ़ोतरी के साथ दूसरे स्‍थान पर काबिज है.

हरि मृदुल को ‘वर्तमान साहित्‍य कमलेश्‍वर कहानी पुरस्‍कार’

अलीगढ़ : युवा कवि और कथाकार हरि मृदुल को वर्ष 2012 के लए प्रतिष्ठित ' वर्तमान साहित्‍य कमलेश्‍वर कहानी पुरस्‍कार' देने की घोषणा की गई है. इस पुरस्‍कार के लिए उनकी कहानी 'हंगल साहब, जरा हंस दीजिए' का चयन अखिल भारतीय स्‍तर पर हुई एक प्रतियोगिता में किया गया है. पुरस्‍कृत कहानी में फिल्‍मी दुनिया की चमक-दमक के पीछे की कालिमा का एक अनूठे शिल्‍प में बखान है. इस बार के निर्णायक थे प्रो. गंगा प्रसाद विमल, प्रो. सूरज पालीवाल और वरिष्‍ठ कथाकार प्रो. काजी अब्‍दुल सत्‍तार. 

महिला पत्रकार से बेहूदगी की केंद्रीय मंत्री व्यालार रवि ने

दुष्कर्म के आऱोप में फंसे पीजे कुरियन के बचाव में एक केंद्रीय मंत्री व्यालार रवि ने महिला पत्रकार से ये बर्ताव किया है… इसके बाद क्या समझने को बचा रह जाता है… ''Union Minister for Overseas Indian Affairs Vayalar Ravi was caught on camera asking a woman journalist of Mathrubhumi TV channel whether she had any personal experiences with Deputy Chairman of Rajya Sabha P.J. Kurien who is embroiled in the Suryanelli sex scandal.''

पत्रिका की घपलेबाजी : मजीठिया वेज बोर्ड से बचने के लिए प्‍लेसमेंट एजेंसी की तरकीब

अखबार प्रबंधन ने मान लिया है कि देर सबेर मजीठिया वेज बोर्ड की सिफारिशों को लागू करना ही पड़ेगा इसलिए वे इसके तोड़ में जुट गए हैं. खबर है कि सुप्रीम कोर्ट में मजीठिया वेज बोर्ड के खिलाफ याचिका दायर करने वाले राजस्‍थान पत्रिका ने मजीठिया बोर्ड लागू होने के संभावित डर को देखते हुए कर्मचारियों के साथ छल करना शुरू कर दिया है. खबर है कि राजस्‍थान पत्रिका अब अखबार में काम करने वाले लोगों को अपना कर्मचारी बनाने की बजाय प्‍लेसमेंट का कर्मचारी बताने पर तुल गया है.

‘टुनाइट विथ दीपक चौरसिया’ के साथ रीलांच होगा इंडिया न्‍यूज

इंडिया न्‍यूज के नेशनल चैनल की लांचिंग गुरुवार को स्‍क्रीन पर ही भव्‍य तरीके से होगी. किसी आयोजन की बजाय टीवी पर भी बड़े अतिथियों के साथ दीपक चौरसिया अवतरित होंगे. आठ बजे उनके कार्यक्रम टुनाइट विथ दीपक चौरसिया के साथ इंडिया न्‍यूज की रीलांचिंग की जाएगी. इस कार्यक्रम के साथ इस नेशनल चैनल पर पहली बार दीपक चौरसिया अवतरित होंगे. दीपक के साथ अन्‍ना हजारे, रविशंकर समेत कई बड़े लोगों के आने की संभावना है.

अल्‍फा समूह का ‘न्‍यूज नेशन’ चैनल हुआ ऑन एयर

: अजय कुमार बने न्‍यूज नेशन में न्‍यूज हेड : अल्‍फा समूह का चैनल न्‍यूज नेशन का सेटेलाइट टेस्‍ट रन शुरू हो गया है. चैनल का नया नाम रजिस्‍टर्ड होने के बाद प्रबंधन ने इसे टेस्‍ट रन पर लांच कर दिया है. इसकी ऑफिसियली लांचिंग कुछ दिनों बाद की जाएगी. सूत्रों का कहना है कि प्रबंधन ने चैनल का वेबसाइट भी लांच कर दिया है.

दिल्ली से शीघ्र प्रकाशित होगी मासिक पत्रिका ‘कर्मभूमि संवाद’

: संपादकीय कार्यालय का उद्घाटन हुआ : उत्तराखण्ड के सवालों पर केंद्रित मासिक पत्रिका ‘कर्मभूमि संवाद’ शीघ्र ही प्रकाशित होने जा रही है। कल १३ फरवरी २०१३ को पत्रिका के संपादकीय कार्यालय का उद्घाटन हुआ। इस अवसर पर उत्तराखण्ड के सरोकारों से संबंध रखने वाले कई प्रतिष्ठित लोगों ने शिरकत की।

प्रसार विभाग के खेल से नासमझ बने हुए हैं अमर उजाला के संपादक!

हल्द्वानी में अमर उजाला के संपादक सुनील शाह आजकल अखबार की अव्यवस्था के चलते काफी परेशान हैं। कुमाउं में अखबार के पाठक दिन-ब-दिन कम हो रहे हैं। ये अलग बात है कि प्रसार विभाग आंकड़ों की जुबानी संपादक को धोखे में रख कर बता रहा है कि बाजार में इतना अखबार जा रहा है… और अखबारों से ज्यादा! प्रसार विभाग सही कह रहा है। अखबार हर जिलों में खूब जा रहा है। लेकिन ये अखबार वितरकों के पास डम्प हो जाता है। पाठक तक नहीं पहुंच पाता है। इसके कई कारण हैं।

दूरदर्शन लांच करेगा अपना अंग्रेजी न्‍यूज चैनल

दूरदर्शन भी अब अंग्रेजी चैनल लांच करने की योजना पर काम कर रहा है. यह चैनल इस साल जुलाई-अगस्‍त तक लांच कर दिए जाने की संभावना है. सूत्रों का कहना है कि इस चैनल को लांच करने की तैयारियां तेजी से चल रही है, इसके कंटेंट एवं लुक पर काम किया जा रहा है. दूरदर्शन अभी तक हिंदी न्‍यूज के साथ अंग्रेजी का भी बुलेटिन प्रसारित करता रहा है, परन्‍तु अब वह पूरी तरह से अंग्रेजी चैनल लाने की तैयारी कर रहा है.

जी न्‍यूज में वापसी करेंगे वाशिन्‍द्र मिश्र!

वाशिन्‍द्र मिश्र के बारे में खबर आ रही है कि सहारा छोड़ने के बाद वे एक बार फिर से जी न्‍यूज में वापसी कर रहे हैं. हालांकि अभी आधिकारिक रूप से इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है कि वे कब फिर से अपनी पुरानी जिम्‍मेदारी संभालेंगे, लेकिन सूत्रों का कहना है कि जी न्‍यूज में उनकी वापसी हो चुकी है. गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही वाशिन्‍द्र मिश्र जी न्‍यूज यूपी-उत्‍तराखंड के हेड के पद से इस्‍तीफा देकर सहारा समूह से जुड़े थे. सहारा में उन्‍हें नेशनल चैनल का हेड बनाया गया था.

‘विजयवाणी’ ने बेलगांव से लांच किया अपना दसवां प्रिंटिंग यूनिट

कन्‍नड़ में प्रकाशित होने वाला दैनिक अखबार 'विजयवाणी' ने कर्नाटक के बेलगांव से अपना दसवां एडिशन लांच कर दिया है. इस अखबार को संचालित करने वाली कंपनी वीआरएल ने पिछले तीन महीनों के भीतर इस अखबार के नौ प्रिंटिंग यूनिट लांच किए हैं. दसवां प्रिंटिंग सेंटर बेलगांव से शुरू किया गया है.

इटली के हेलीकॉप्टर अबकी उतरेंगे सीधे हमारी संसद में

हमारे पीएम सरदार मनमोहन सिंह भी सदा की तरह अपने होठों पर ताला लगाए बैठे हैं। बोले तो क्या बोले। बहुत दिनों बाद विपक्ष के हाथ फिर एक बार बड़ा हथियार आया है। हेलीकॉप्टर सौदे में दलाली का मुद्दा सरकार की मुसीबत बन गया है। मामला इटली से जुड़ा है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी सकते में तो हैं ही दुखी भी हैं। वैसे, जब से हेलीकॉप्टर सौदे में कमीशन की बात उछली है, नितिन गड़करी भी कोई कम दुखी नहीं है। उनका दुख यह है कि यह घोटाला महीने भर पहले सामने आ गया होता, तो उन पर लगे आरोप दब जाते और संघ उनको फिर से बीजेपी अध्यक्ष बनवाने में सफल हो जाता। लेकिन अब कुछ नहीं हो सकता।

अफजल की फांसी छोड़ गई कुछ अनसुलझे सवाल!

हमारे देश की सरकार ने कल आतंक के पर्याय बने और देश की सम्प्रभुता संसद पर हमला करने वाले अफ़जल गुरु को तिहाड़ जेल में फॉंसी के फॅंदे पर लटका दिया। जैसा कि होता है कि इस घटना की पूरे राष्ट्र में प्रशंसा हो रही है और ऐसा ठीक भी है। हम इस देश के कानून व सर्वोच्च न्यायालय सहित राष्ट्रपति के निर्णय का सम्मान करते हैं और मेरा व्यक्तिगत तौर पर ऐसा मानना है कि राष्ट्र की सम्प्रभुता, एकता और अखण्डता से खिलवाड़ करने वाले किसी भी व्यक्ति के साथ ऐसा ही होना चाहिए। चाहे वो अफजल गुरु हो या कसाब और कोई और। लेकिन इस फॉंसी की घटना की हमारे देश में कुछ राजनैतिक पार्टियों द्वारा व कुछ संगठनों द्वारा निंदा भी की जा रही है और इस तरह यह फॉंसी अपने पीछे कई प्रश्न छोड़ कर गई है।

जांच से बौखलाया हिंदुस्‍तान प्रबंधन मुंगेर के डीएम-एसपी को निपटाने में जुटा!

मुंगेर। पटना उच्च न्यायालय की न्यायमूर्ति माननीय अंजना प्रकाश के आदेश के आलोक में विश्वस्तरीय 200 करोड़ के दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन फर्जीवाड़ा में पुलिस कार्रवाई की रफ्तार से परेशान अखबार के नामजद अभियुक्तगण बिहार के सीएम नीतीश कुमार और डीजीपी अभ्यानन्द को निशाने पर ले चुके हैं।  नामजद अभियुक्तों की शह पर जिलावार अवैध संस्करण और विज्ञापन फर्जीवाड़ा में फंसे अन्य हिन्दी और अंग्रेजी अखबारों का प्रबंधन और संपादकीय समूह भी मुख्यमंत्री और पुलिस महानिदेशक को बदनाम करने में जुट गया है।

लाइव इंडिया समूह की मासिक पत्रिका ‘लाइव इंडिया’ लांच

लाइव इंडिया न्‍यूज चैनल का संचालन करने वाली कंपनी समृद्ध जीवन फूड लिमिटेड समूह ने अपने करेंट अफेयर्स पत्रिका 'लाइव इंडिया' की लांचिंग 13 फरवरी को दिल्‍ली के होटल संग्रीला में किया. लांचिंग कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद, सीपी जोशी, पवन बंसल, दिल्‍ली के राज्‍यपाल तेजिंदर खन्‍ना, सिक्किम के राज्‍यपाल बीपी सिंह, जयदू अध्‍यक्ष शरद यादव, भाजपा प्रवक्‍ता रविशंकर प्रसाद, पीसीआई अध्‍यक्ष जस्टिस मार्कंडेय काटजू, अहमद पटेल, आस्‍कर फर्नांडीज, मोहन प्रकाश, पूर्व क्रिकेटर एवं सांसद अजहरुद्दीन शामिल हुए.

दिवंगत पत्रकारों को किया गया याद, अब 10 फरवरी को मनेगा ‘पत्रकार श्रद्धांजलि दिवस’

नई दिल्ली : भारत में सम्भवतः पहली बार ऐसा हुआ है कि पत्रकारों के लिए पत्रकारों द्वारा कोई श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया हो. ऐसा पहली बार न्यूज़ पेपर्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया के तत्वाधान में १० फरवरी को किया गया. एसोसिएशन के संस्थापक डॉ. एम. आर गौड़ जी की दूसरी पुण्य तिथि पर नई दिल्ली के गाँधी शांति प्रतिष्ठान में देश कई गणमान्य पत्रकारों ने डॉ. गौड़ को श्रद्धांजलि दी और उनके साथ पिछले दिनों दिवंगत कई पत्रकारों के व्यकित्व और कृतित्व को भी याद किया गया.

दिल्‍ली पुलिस ने कोर्ट से कहा – जारी रखा जाए मीडिया प्रतिबंध

नई दिल्ली : दिल्ली पुलिस ने दिल्ली उच्च न्यायालय से 16 दिसंबर,12 के सामूहिक दुष्कर्म के मुकदमे की सुनवाई की मीडिया रिपोर्टि पर लगे प्रतिबंध को जारी रखने का आग्रह किया है। दक्षिण दिल्ली की एक त्वरित अदालत में सुनवाई के दौरान मीडिया को भी मौजूद रहने की अनुमति देने के लिए दायर एक याचिका का विरोध करते हुए पुलिस के वकील दयान कृष्ण ने कहा, "दुष्कर्म के हर मामले की सुनवाई `गोपनीय` रहनी चाहिए।"

घाटी में फिर शुरू हुआ अखबारों का प्रकाशन

: सीएम ने कहा- प्रशासन ने नहीं लगाया था प्रतिबंध : श्रीनगर : मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने वादी में अफजल गुरु को फांसी दिए जाने के बाद अखबारों के प्रकाशन और बिक्री पर किसी तरह की पाबंदी से इन्कार किया है। उन्होंने कहा कि अगर ऐसा होता तो किसी स्थानीय अखबार का ऑनलाइन संस्करण भी जारी नहीं होता। इस बीच अफजल के फांसी के बाद बुधवार को पहली बार पाठकों के पास अखबार पहुंचा। अफजल गुरु को फांसी के बाद वादी में हालात को काबू रखने के लिए प्रशासन ने शनिवार की रात से ही श्रीनगर में प्रकाशित होने वाले सभी अखबारों को कथित तौर पर बंद करा दिया था।

पत्रकार बनकर ब्‍लैकमेल करने के आरोपियों को 20 तक जेल

रायपुर। सेजबहार हाउसिंग बोर्ड कालोनी में पत्रकार बनकर वसूली करने के आरोपी राहुल ठाकुर, सूरज सोनी, विनायक गुप्ता की न्‍यायिक हिरासत कोर्ट ने 20 फरवरी तक बढ़ा दी है. रिमांड खतम होने के बाद पुलिस ने इन्‍हें कोर्ट में पेश किया था. मुख्‍य आरोपी राहुल ठाकुर ने अपने अधिवक्‍ता के जरिए न्‍यायालय में जमानत के लिए आवेदन किया था, परन्‍तु कोर्ट ने परिस्थितियों और साक्ष्‍यों को देखते हुए जमानत देने से इनकार कर दिया.

सुब्रत राय के अलावा वंदना भार्गव, रवि शंकर दुबे और अशोक राय चौधरी के भी एकाउंट सीज, इन सभी की संपत्ति कुर्क होगी

नई दिल्ली: सेबी के निर्देश के मुताबिक सहारा ग्रुप के चैयरमेन सुब्रतो रॉय के साथ ही कंपनी के 3 बड़े अधिकारियों के भी खाते भी फ्रीज होंगे। इन खातों में उसकी चल और अचल संत्तियां दोनों शामिल रहेंगी। भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने जिन संपत्तियों को कुर्क करने का आदेश दिया है, उसमें सहारा समूह की कंपनी आंबी वैली की जमीन शामिल है। पुणे के समीप आंबी वैली परियोजना में रिजार्ट विलेज स्थापित किया गया है। इसमें दिल्ली, गुड़गांव, मुंबई तथा देश के विभिन्न स्थानों पर समूह की परियोजनाओं के विकास के अधिकार भी शामिल हैं।

जी न्‍यूज से रवि पराशर का इस्‍तीफा, सहारा नेशनल के हेड बनेंगे

जी न्‍यूज से बड़ी खबर आ रही है. वरिष्‍ठ पत्रकार रवि पराशर ने चैनल से इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर न्‍यूज रूम इंचार्ज की जिम्‍मेदारी निभा रहे थे. रवि अपनी नई पारी सहारा समूह के साथ शुरू कर रहे हैं. खबर है कि उन्‍हें नेशनल चैनल का हेड बनाया जा रहा है. उनकी नियुक्ति वाशिन्‍द्र मिश्र के स्‍थान पर की जा रही है. वे पिछले बारह सालों से जी न्‍यूज को अपनी सेवाएं दे रहे थे. इसके पहले भी वे कुछ संस्‍थानों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं.

मशहूर फोटो जर्नलिस्ट प्रमोद पुष्करणा ने सेलरी एरियर के लिए अरिंदम चौधरी को लिखा पत्र

प्रमोद पुष्करणा देश के जाने-माने फोटो जर्नलिस्ट हैं. वे अरिंदम चौधरी की मीडिया कंपनी में कार्यरत हैं. प्लानमैन मीडिया नामक अरिंदम चौधरी की मीडिया कंपनी में इन दिनों काफी उथल-पुथल चल रहा है. यहां कार्यरत मीडियाकर्मियों का हाल बुरा है. सेलरी के लिए सबको झेलना पड़ रहा है. छंटनी का सिलसिला जारी है. चर्चा तो यहां तक है कि अरिंदम चौधरी अब अपनी मीडिया कंपनी बंद करने की तैयारी में हैं. वे मीडिया कंपनी के अपने बहुत खास लोगों को भी साइडलाइन करने की तैयारी कर चुके हैं.

फ़ैज़ के जन्म दिवस पर विशेष : इंकलाब का शायर या मुहब्बत का?

फ़ैज़ अहमद फैज़ की जन्मशती पिछले साल मनायी गई। फैज़ इस महाद्वीप के ऐसे कवि रहे हैं जो भाषा व देश की दीवारों को तोड़ते हैं। वे ऐसे शायर हैं जिन्होंने अपनी शायरी से लोगों के दिलों में जगह बनाई। हमारे अन्दर इंकलाब का अहसास पैदा किया तो वहीं मुहब्बत के चिराग भी रोशन किये। दुनिया फ़ैज़ को इंकलाब के शायर के रूप में जानती है लेकिन वे अपने को मुहब्बत का शायर कहते थे। इंकलाब और मुहब्बत का ऐसा मेल विरले ही कवियों में मिलता है। यही कारण है कि फ़ैज़ जैसा शायर मर कर भी नही मरता। वह हमारे दिलों में धड़कता है। वह उठे हुए हाथों और बढ़ते कदमों के साथ चलता है। वह हजार हजार चेहरों पर नई उम्मीद व नये विश्वास के साथ खिलता है और लोगों के खून में नये जोश की तरह जोर मारता है।

यूपी में सिर्फ पत्रकार ही क्यों, अधिकारी क्यों न खाली करें मकान?

: नियम सबके लिये बराबर होने चाहिये : इन दिनो यूपी में संकट मंडराने का भय अगर किसी के ऊपर आता दिखाया जा रहा है तो वह है पत्रकार बिरादरी। मामला है सरकारी मकान व पत्रकारपुरम् में लिये गये भूखण्डों मे आलीशान मकान तथा व्यवसाय करने का। कुछ अपने ही पत्रकार भाई दूसरों के उकसावे में आकर अपनी ही जमात की जांघ को खोलने व नंगा करने में लगे हैं। मैं यह नहीं कहता कि आप गलत लोगों के खिलाफ मुहिम न चलायें या फिर उन लोगों को चिन्हित न करें। लेकिन खबर के दूसरे पहलू को भी सामने लाने का भी प्रयास होना चाहिये।

अपराधी डीएसपी मोहकम सिंह नैन की संपत्ति राजसात की जाए

भोपाल : जन न्याय दल ने गैरकानूनी तरीके से अफसरों की गिरफ्तारी करने के अपराध में सजा भोग रहे लोकायुक्त पुलिस के बर्खास्तशुदा डीएसपी मोहकम सिंह नैन की संपत्ति राजसात करने की मांग की है। यह अफसर जिला अदालत के फैसले के बाद इन दिनों जेल की सजा भुगत रहा है। जन न्याय दल ने आज इस सबंध में लोकायुक्त जस्टिस पी.पी.नावलेकर को दिए ज्ञापन के हवाले से कहा है कि मध्यप्रदेश के धनवान अफसरों के विरुद्ध भ्रष्टाचार के फर्जी प्रकरण बनाने में माहिर इस अफसर की दौलत भी करोड़ों रुपयों की है। इस दौलत को उसने अपने रिश्तेदारों और दोस्तों के नाम पर विभिन्न कारोबारों में लगा रखा है।

सीएम बहुगुणा जी, हम नेटवर्क10 वालों को बकाया सैलरी दिला दो

19 जनवरी को नेटवर्क10 का एक साल पूरा हो गया और 15 फरवरी को हमारे यहां एक साल की उपलब्धियों का जश्न मनाया जा रहा है। मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा इस मौके पर आ रहे हैं वो हमारे चैनल में आयोजित कार्यक्रम का उद्घाटन करेंगे। यशवंत जी, मैं चैनल के एक साल के मौके पर भड़ास के माध्यम से सीएम साहब, तमाम पत्रकारों और अपने बास लोगों को ये कहना चाहूंगा कि चैनल शुरू होने के 4 महीने तक सब ठीकठाक रहा। तनख्वाह टाईम पर मिली। फोन, गाड़ी, घर छोड़ने की सुविधा सब मिली।

मीडिया पर सेंसरशिप लोकतंत्र के लिए बहुत खतरनाक : लालू

पटना : प्रेस परिषद के जांच दल द्वारा बिहार में प्रेस पर अघोषित सेंसरशिप की रपट दिए जाने पर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने कहा कि मीडिया पर सेंसरशिप लोकतंत्र के लिए खतरनाक है। उन्होंने इस पर आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार के लोगों को चुल्लू भर पानी में डूब जाना चाहिए।

सुब्रत राय का भी बैंक एकाउंट फ्रीज, सहाराश्री की चल-अचल संपत्ति जब्त करने के आदेश

सहारा समूह की दो कंपनियों के सौ से ज्यादा बैंक एकाउंट और संपत्ति फ्रीज किए जाने के क्रम में जानकारी मिली है कि सेबी ने सहारा के मुखिया सुब्रत रॉय सहारा के बैंक अकाउंट को भी सीज कर दिया है. सुब्रत राय की चल और अचल संपत्ति जब्त करने का भी आदेश सेबी ने दिया है. उल्लेखनीय है कि करोड़ों लोगों को नियमों के खिलाफ जाकर लोन देने के मामले में सेबी ने सहारा ग्रुप के 100 से ज्यादा अकाउंट फ्रीज कर दिए हैं.

यूपी में हो रही घटनाओं के लिए ‘ब्रेकिंग न्यूज’ जिम्मेदार : अखिलेश यादव

बाराबंकी में समाजवादी पार्टी के विधायक रामगोपाल रावत की सुपुत्री के विवाह कार्यक्रम में पहुचे उत्तर प्रदेश के युवा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रदेश में हो रही घटनाओं के पीछे टी वी और अखबार की ब्रेकिंग न्यूज़ को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि ब्रेकिंग न्यूज़ बढ़ा चढ़ा कर दिखाया जाता है लेकिन जब कोई कार्यवाही सरकार की तरफ से की जाती है तो वो अखबार में नहीं छपती.

सहारा समूह के सौ से ज्यादा बैंक एकाउंट और संपत्ति फ्रीज, सेबी ने की कार्रवाई

सहारा समूह को बड़ा झटका लगा है. खबर है कि बाजार नियामक सेबी (दी सेक्यूरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड आफ इंडिया) ने आज सहारा समूह की दो कंपनियों के सौ से ज्यादा बैंक एकाउंट को फ्रीज कर दिया है और लेन-देन पर रोक लगा दी है. इन दोनों कंपनियों की गैर-नगदी संपत्तियों को भी फ्रीज किया है.

छत्‍तीसगढ़ में नक्‍सलियों ने पत्रकार की हत्‍या की

छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में संदिग्ध नक्सलियों ने पत्रकार की गला रेतकर हत्या कर दी है. सुकमा जिले के पुलिस अधीक्षक अभिषेक सांडिल्य ने दूरभाष पर बताया कि जिले के तोंगपाल थाना क्षेत्र में संदिग्ध नक्सलियों ने पत्रकार नेमी चंद जैन (45 वर्ष) की गला रेतकर हत्या कर दी है. सांडिल्य ने बताया कि पुलिस को आज सूचना मिली कि तोंगपाल से चार किलोमीटर दूर लेडा गांव के पास सड़क में जैन का शव पड़ा हुआ है.

राडिया टेप की जांच मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई, आईटी और ईडी से मांगे नाम

नई दिल्ली : उच्चतम न्यायालय ने औद्योगिक घरानों के लिये संपर्क सूत्र का काम करने वाली नीरा राडिया के टैपिंग की गयी टेलीफोन वार्ता के तथ्यों की छानबीन के लिये केन्द्रीय जांच ब्यूरो, आय कर विभाग और प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों के नाम मांगे हैं। न्यायालय को इन अधिकारियों के नाम कल तक मुहैया कराने है ताकि रिकार्ड की गयी वार्तालाप की जांच करके आपराधिक तथ्यों का पता लगाने के लिये अधिकारियों का दल बनाया जा सके।

न्यूज चैनलों का लाइसेंस रिश्वत के बिना मिलना नामुमकिन है : गोपाल शर्मा

: इंटरव्यू : गोपाल शर्मा : पत्रकार ही नहीं बल्कि बड़े-बड़े संपादकों की भूमिका भी अब दलालों की सी ही हो गई है या बना ली गई है…. नीरा राडिया, प्रभु चावला  व जी वालों के खुलासे के बाद तमाम परिदृश्य और भी स्पष्ट हो गया है…. वास्तविक पत्रकारिता कर समाज सेवा की इच्छा रखने वाले पत्रकारों के जज्बे की भ्रूण हत्या करने के लिए आज संपादक रूपी प्राणी पूंजीपतियों के हाथों  हत्यारे का रूप धर चुका है…. बाहर से चकाचैंध भरा मीडिया जगत अन्दर से बेहद खोखला हो चुका है… यहां वेतन को मानदेय कहा जाता है और मानदेय ऐसे दिया जाता है कि उससे ही  पत्रकारों का सबसे अधिक अपमान होता है… मीडिया की डिग्री व डिप्लोमा कर सुनहरे भविष्य का सपना संजोए लोग दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर हैं… मीडिया में महाक्रान्ति की आवश्यकता है…. :

माखनलाल पत्रकारिता विश्वविद्यालय में पूर्व विद्यार्थी समागम 16 फरवरी को

भोपाल : माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय द्वारा पूर्व विद्यार्थी समागम का आयोजन शनिवार, 16 फरवरी, 2013 को किया जा रहा है। उक्त आयोजन एम.पी.नगर स्थित विश्वविद्यालय परिसर में प्रातः 10.00 बजे प्रारंभ होगा। यह आयोजन विश्वविद्यालय के पूर्व विद्यार्थी एवं वर्तमान विद्यार्थियों के बीच मुलाकात एवं अपने अनुभव साझा करने के उद्देश्य से आयोजित किया जा रहा है।

एसपी साहब! वर्दी को संदेह से उबारिए

महराजगंज  पुलिस विभाग के उच्चाधिकारी जितना भी वर्दी पर दाग लगने से बचाने के लिए कड़े निर्देश जारी कर दें पर इसका असर महकमें के नीचले पायदान पर आते आते बेअसर साबित होता है। उच्चाधिकारी अवैध शराब की बिक्री पर कभी तो इतना कड़ा निर्देश देते हैं  कि ऐसी शिकायतें मिलने पर थाना प्रभारी नपते । पर जमीनी हकीकत बिल्कुल विलोम ही है। इस पर नियंत्रण के बजाय वर्दी बकायदे इस कारोबार में शामिल हो गई है। इसका खुलासा निचलौल थानाक्षेत्र के सीमावर्ती शीतलापुर चौकी पर तैनात एक सिपाही द्वारा नेपाली शराब को चौकी से परागपुर गांव तक पहुंचाने के लिए सारी हदें पार किए जाने से हुआ है। सिपाही ने शराब न पहुंचाने पर उक्त टैम्पो चालक की पिटाई तक कर दी।

गाजीपुर समेत पूरे वाराणसी मंडल में दैनिक जागरण नं. वन

उ.प्र.के प्रमुख दैनिक समाचार पत्रों की प्रसार संख्या के मुताबिक वाराणसी मंडल में 2 लाख 25 हजार प्रतियों की प्रसार संख्या के साथ दैनिक जागरण नंबर वन बना हुआ है। अमर उजाला की वाराणसी मंडल मे प्रसार संख्या 2 लाख के करीब चल रही है, जबकि हिंदी दैनिक हिन्दुस्तान 1 लाख 60 हजार प्रतियों की प्रसार संख्या के साथ तीसरे स्थान पर है।

जनसंदेश टाइम्‍स के कर्मियों को पुलिस ने घंटों बैठाया थाने में

जनसंदेश टाइम्‍स, बनारस से खबर है कि एक व्‍यक्ति को बिना वजह पीट दिए जाने के चलते पुलिस अखबार को दो कर्मचारियों को पकड़कर थाने ले गई तथा घंटों बैठाए रखा. बाद में समझौता हो गया, जिसके बाद पुलिस ने दोनों को छोड़ दिया. खबर के अनुसार जनसंदेश टाइम्‍स, बनारस के कार्यालय में एक बैंक भी शाखा भी खुली है. इसी बैंक में पास में रहने वाले डा. दुर्गाचरण के भाई, जो पैरों से कमजोर हैं, अपने स्‍कूटर से आए तथा पास में ही उसे खड़ी करके बैंक जाने लगे.

सीएम अखिलेश के ‘मुलायम’ गाडफादर

मुलायम सिंह यादव सपा के मुखिया के साथ-साथ एक अच्छे आलोचक भी हैं। वह अखिलेश सरकार के लिए एक कुशल सारथी, रणनीतिकार, सलाहकार तो हैं ही, वहीं ‘गाडफादर‘ भी हैं। खामियों को उजागर करते हैं। अच्छी बातों को सरकार सामने रखते हैं। उनकी लोकसभा चुनावों के लिए समीक्षाएं एवं सरकार, संगठन और कार्यकर्ताओं के बीच ललकार और लताड़ यही जाहिर करती है कि उन्हें अपने लक्ष्य के प्रति काफी फिक्रमंद हैं। उनकी चिंता वाजिब है।

इंटरव्यू (कहानी)

वो बोले, "ठीक है, आपका सीवी हमारे पास है…वी विल कांटेक्ट यू वेनएवर नीडेड"

वो इस जुमले का मतलब ठीकठाक समझता था, लेकिन उसे ये समझ नहीं आ रहा था कि उससे चूक कहां हो गई…उसका इंटरव्यू तो अच्छा ही गया था, फिर ऐसा क्यों कहा?

दो कार्टून, एक फोटो और एक गाना… जय हो

बेतुक में भी तुक हो जाता है. अब यही देखिए. गाने के साथ कार्टून और फोटो देने का क्या मतलब. वह भी तब जब कार्टून का फोटो से कोई लेना देना न हो और फोटो व कार्टून का गाने से कोई गुणा-गणित न हो. तीनों को एक जगह मिलाकर देने से बेतुकापन ही तो साबित होता है. लेकिन यह बेतुकापन कई बार जीवन के लिए जरूरी होता है क्योंकि जो कुछ सिस्टमेटिक दिखता है, उसमें रुटीन-सा और बासी-सी बदबू आती है, और बेतुकपने में कई बार स्पार्क, नयापन, सोंधी महक होती है. तो, लीजिए, इस बेतुकपने का आनंद उठाइए… – यशवंत

वाह भई वाह, एक और घोटाला…. कफ़न, कोयला, खेल, पनडुब्बी, चारे के बाद अब हवाई घोटाला!

 

लूटने में लगी है ये घटिया सियासत, और हिंदू – मुस्लिम के मुद्दे, उंची जाति, निचली जाति पर बिकने के लिये मजबूर है इस मुल्क की भोली भाली आवाम। और अब इन घोटालों में सियासत ने आसमान को भी नही छोड़ा है, ताज़ा तरीन मामले में अति विशिष्ट हेली काप्टर की खरीद के मामले में धांधले बाज़ी पकड़ में आई है। जानकारी के अनुसार, सीधे आरोप पूर्व वायु सेना प्रमुख एसपी त्यागी पर लगाये गये हैं, उन पर आरोप है कि उन्होंने हेलीकाप्टर बनाने वाली कंपनी को फ़ायदा पहुंचाने के लिये टेण्डर में फ़ेर बदल करे हैं। और इसकी एवज में उन्हें और उनके कुछ संबंधियों को रिश्वत दी गई है।

17 फरवरी के IIMC पूर्व छात्र सम्मेलन में छात्रावास के मुद्दे को पुरजोर तरीक से उठाएं

प्रिय साथियों, सप्रेम याद, जैसा कि आप सबों को ज्ञात है कि आगामी 17 फरवरी, तारीख गुरूवार को भारतीय जनसंचार संस्थान ( INDIAN INSTITUTE OF MASS COMMUNICATION) के नई दिल्ली स्थित मुख्य परिसर में आईआईएमसी पूर्व छात्र सम्मेलन 2013 का आयोजन IIMC Alumni Association के जानिब किया जा रहा है. पत्रकारिता का मक्का कहा जाने वाले इस संस्थान में पूर्व अग्रज साथियों का यह प्रयास सराहनीय है, क्योंकि इसी बहाने मुद्दतों बाद हम और आप अपने वरिष्ठ मित्रों, सहपाठियों और अनुज बंधुओं के साथ चंद घंटे व्यतीत करते हैं. इसी बहाने हम और आप अपने पत्रकारीय अनुभवों से नवांकुर पत्रकारों रूबरू कराते हैं. इसी बहाने हम और आप पत्रकारिता के समक्ष पैदा होने वाली चुनौतियां और उससे पार पाने की तरकीबों पर चर्चा करते हैं.

‘स्टार इंडिया न्यूज’ की चर्चा : क्या ‘स्‍टार’ और ‘इंडिया न्‍यूज’ के बीच समझौता हो गया?

इंडिया न्‍यूज में एक बड़ी कानाफूसी चल रही है. कहा जा रहा है कि इस चैनल से बड़े नाम ही नहीं जुड़े हैं बल्कि अब यह चैनल भी सचमुच बड़ा होने जा रहा है. नाम के साथ भी और ब्रांड के साथ भी. दीपक चौरसिया के आने के बाद से ही जिस बात के कयास लगाए जा रहे थे, वो सही साबित होने लगा है. मीडिया मुगल रुपर्ट मर्डोक के स्‍टार समूह इंडिया न्‍यूज से टाइअप कर लिया है. हालांकि अभी कोई अधिका‍री इस बात को अभी आधिकारिक रूप से स्‍वीकार नहीं कर रहा है, पर तय माना जा रहा है कि स्‍टार ने इंडिया न्‍यूज के साथ समझौता कर लिया है.

सहारा के पत्रकार बने हरकारा, द्वारे द्वारे पहुंचा रहे कार्ड और क्यूशाप के सामान

सहारा की नौकरी बड़ी बुरी. खासकर पत्रकार की. लखनऊ वालों के दिल से पूछिए. महीने दो महीने पर उन्हें कोई न कोई कार्ड या सामान थमा दिया जाता है और कह दिया जाता है कि सारे विधायकों और अफसरों के यहां पहुंचा दीजिए. सु्ब्रत राय सहारा का जन्मदिन हो या उनके बेटों-नाती-पोतों की, हर मौके के निमंत्रण को बांटने का जिम्मा पत्रकारों को दे दिया जाता है.

दैनिक भास्कर का कनाट प्लेस का आफिस बंद, कई पत्रकारों की छंटनी

दैनिक भास्कर अखबार से खबर है कि दिल्ली के कनाट प्लेस में जो अखबार का एक विशेष आफिस खोला गया था, उसे अब बंद कर दिया गया है. यहां कार्यरत करीब दर्जन भर पत्रकारों को नौकरी से निकाल दिया गया है. सूत्रों के मुताबिक निकाले गए लोगों में कई लोग फीचर पेजों से संबद्ध थे और कई लोग रोहित शरण की टीम के थे जिन्हें रोहित शरण अपने समय में काफी सेलरी पर दूसरे अंग्रेजी अखबारों से लेकर आए थे.

बाड़मेर में मिग गिरने से दहशत, पायलट सुरक्षित

बाड़मेर। बाड़मेर वायुसेना स्टेशन से नियमित उड़ान के लिए उड़ान भरने के बाद एक मिग 27 लड़ाकू विमान मात्र 2 मिनट बाद ही आनानियों की ढाणी नामक स्थान पर गिर गया और इस दुर्घटना की भीषणता इतनी जबरदस्त थी कि इलाके में करीब एक किलोमीटर तक का इलाका वायुयान के टुकड़ों से अट गया। दरअसल मंगलवार दोपहर के बाद वायुसेना का एक विमान दुर्घटनाग्रस्त होक्रर उत्तरलाई व बांद्रा के बीच स्थित गांव बांद्रा के रहवासी क्षेत्र में जा गिरा। जैसे ही यह विमान हादसा हुआ चारों तरफ अफरा-तफरी का माहौल हो गया। 

रायपुर से जोर-शोर से शुरू हुआ सांध्य दैनिक जनदखल का प्रकाशन बंद

एनडीटीवी में काम कर चुके पत्रकार रीतेश कुमार साहू ने बड़े अरमान और सपनों के साथ रायपुर से एक सांध्य दैनिक 'जनदखल' का प्रकाशन शुरू किया था. पर यह सपना अब टूट चुका है. अखबार का प्रकाशन बंद कर दिया गया है. करीब दो दर्जन लोग बेरोजगार हो चुके हैं. कहा तो ये गया है कि पांच छह महीने बाद फिर से यह अखबार शुरू होगा लेकिन जानने वाले जानते हैं कि बंद हो चुका यह अखबार अब नहीं शुरू होने वाला.

उधर कुंभ हादसा, इधर बेनी बाबू के जन्‍मदिन पर डांस

बाराबंकी। बेनी बाबू का जन्मदिन हर वर्ष 11 फरवरी को चर्चा में रहता है। अबकी बार पहले से ही बाबू जी के विदेश में रहने की वजह से बड़े कार्यक्रम का आयोजन रद्द कर दिया गया। सिर्फ गरीबों की शादियां कराने का फैसला हुआ। बेनी बाबू आये। साथ में नये कांग्रेसियों को भी लाये। मंच पर बैठे कुंभ के हादसे को लेकर दुख जताया और कार्यकर्ताओं व अपने लोगों से जन्मदिन सादगी से मनाने का एलान भी किया। लेकिन अफसोस कि उसी कार्यक्रम में जमकर डिस्को डांस हुआ। बेनी के चहेतों ने जन्मदिन पर खूब नाचा और खुशियां मनायी।

बाराबंकी में सपा विधायक के भाई पर हत्या कर फरार होने का आरोप

 

बाराबंकी। कोतवाली नगर अन्तर्गत बाराबंकी सदर विधायक के भाई ने एक 16 वर्षीय युवक को पीट-पीटकर मार डाला और लाश को तालाब में फेंक दिया। ऐसा कहना मृतक के पिता का है। इस संबंध में कोतवाली में एफआईआर के लिए तहरीर दी गयी। लेकिन देर रात तक पुलिस जांच में जुटी रही। आरोपी फरार बताया जा रहा है। पुलिस ने लाश का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। जहां तीन डाक्टरों के पैनल ने मृत्यु का कारण डूबने से बताया।

मीडिया मालिकों व नीतीश सरकार के अवैध संबंधों पर काटजू की जांच टीम खामोश

भारतीय प्रेस परिषद की तीन सदस्यीय टीम बिहार में पत्रकारिता के गिरते स्तर पर रपट तैयार करने में या तो गच्चा खा गई है या फिर जानबुझकर वहां से प्रकाशित होने वाले अखबारों की लोभ प्रवृति, लूट खसोट और व्यापक पैमाने पर पत्रकारों के छुपे उत्पीड़न से मुंह चुरा रही है। प्रेस परिषद के अध्यक्ष जस्टिस मार्केण्डय काटजू को भेजी गई अपनी रपट में एकतरफा रुख अख्तियार करते हुये जांच टीम बिहार में पत्रकारिता की ‘डुबती लुटिया’ के लिए सीधे तौर पर नीतीश सरकार पर उंगली उठाते हुये सरकार की विज्ञापन नीति को बिहार में पत्रकारिता की धार को कुंद करने के लिए जिम्मेदार ठहरा रही है। जबकि इसका दूसरा महत्वपूर्ण पहलू खुद अखबार संचालकों के नजरिये और व्यवहार में आया बदलाव है।

बिहार में इमरजेंसी जैसी प्रेस सेंसरशिप… स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर पाना संभव नहीं – प्रेस परिषद

नई दिल्ली। प्रेस परिषद की एक जांच टीम ने बिहार की नीतीश सरकार पर करारा हमला बोला है। उसने आरोप लगाया है कि राज्य में स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता करना संभव नहीं है। उसे इमरजेंसी जैसी सेंसरशिप का सामना करना पड़ रहा है। उसका भविष्य खतरे में है। विज्ञापन का भय दिखाकर प्रेस को सरकार का अघोषित मुखपत्र बनाने की कोशिश हो रही है। इस स्थिति से उबरने के लिए जांच दल ने दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन करते हुए विज्ञापन जारी करने के लिए एक स्वतंत्र एजेंसी के गठन की वकालत की है।

नेशनल दुनिया से धनंजय, रास बिहारी समेत आधा दर्जन का संबंध समाप्‍त

: आलोक मेहता के नजदीकी प्रबंधन के निशाने पर : नेशनल दुनिया में मेहतावादियों के लिए अब कोई जगह नहीं है. उनके खास लोगों का प्रबंधन लगातार फाइनल सेटेलमेंट करता जा रहा है. इसके साथ यह भी साबित हो गया कि इस अखबार से आलोक मेहता का दौर खतम हो चुका है. अखबार से आलोक मेहता के नजदीकी माने जाने वाले छह लोगों का बोरिया बिस्‍तर बांध दिया गया है. ठीक उसी तरह जैसे पिछले साल फरवरी में नईदुनिया से आलोक मेहता ने छंटनी की थी.  

जागरण में फिर छंटनी शुरू, नोएडा में दो लोगों से मांगे गए इस्‍तीफे

दैनिक जागरण में एक बार फिर छंटनी की तलवार चलनी शुरू हो गई है. इधर, कोर्ट में मजीठिया वेज बोर्ड की सुनवाई हो रही है तो दूसरी तरफ जागरण में एक बार फिर कत्‍लेआम करने की तैयारी चल रही है. पिछले दिनों बरेली में दो लोगों को निकाले जाने का फरमान सुनाया गया था तो अबकी दो लोग नोएडा में शिकार बनने वाले हैं. बताया जा रहा है कि टीपी कम्‍युनिकेशन में दो दशक से कार्यरत गिरीश मिश्रा एवं विजय कोहली को प्रबंधन ने इस्‍तीफा देने का फरमान सुनाया है. 

मजीठिया वेज बोर्ड : टाइम्‍स ऑफ इंडिया ने अपना पक्ष रखा, बहस आज भी जारी

सुप्रीम कोर्ट में पत्रकारों और गैर पत्रकार कर्मचारियों के लिए न्यायमूर्ति मजीठिया वेतन आयोग की सिफारिशों के खिलाफ दायर याचिका पर बहस बुधवार को भी जारी रहेगी. मंगलवार को टाइम्‍स ऑफ इंडिया के प्रबंधन ने कोर्ट के सामने अपना पक्ष रखा. टीओआई की तरफ से वरिष्‍ठ अधिवक्‍ता पीपी राव ने बहस की तथा प्रबंधन का पक्ष कोर्ट के सामने रखा. आज और कल यानी गुरुवार तक कोर्ट में प्रबंधन अपना पक्ष रखेगा. माना जा रहा है कि यह सुनवाई अगले सप्‍ताह तक चल सकती है.

जी न्‍यूज की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने नवीन जिंदल और केंद्र से मांगा जवाब

नई दिल्ली : उच्चतम न्यायालय ने जी टेलीविजन के खिलाफ दर्ज तीन प्राथमिकी निरस्त करने के लिये दायर याचिका पर आज केन्द्र सरकार और कांग्रेस सांसद नवीन जिन्दल से जवाब तलब किया है। जी समूह और उसके संपादकों के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने ये प्राथमिकी दर्ज की हैं। इनमें जिंदल को आवंटित कोयला ब्लाक से संबंधित खबरें प्रसारित नहीं करने की एवज में कथित रूप से धन की मांग करने के आरोप में दर्ज प्राथमिकी भी शामिल है।

”मीडिया में विज्ञापन देने के अपने अधिकारों का दुरुपयोग करती है सरकार”

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) पूर्व निदेशक जोगिंदर सिंह का कहना है कि यह एक सर्व-विदित तथ्य है कि सरकार मीडिया को प्रभावित करने के लिए विज्ञापन देने के अपने अधिकारों का दुरुपयोग करती है। अखबारों की भूमिका विषय पर आयोजित एक परिचर्चा में सिंह ने कहा कि प्रेस परिषद के एक अध्यक्ष ने एक दफा कहा था कि मीडिया को प्रभावित करने के लिए सरकार विज्ञापन देने के अपने अधिकार का दुरुपयोग करती है। यह एक सर्व-विदित तथ्य है, हमें इसे स्वीकार करने के लिए किसी खुफिया तंत्र की जरूरत नहीं है।

एक पत्रकार को इलाज के लिए आर्थिक मदद की दरकार

: पत्रकारों ने दो घंटे में इकट्ठा किए पचास हजार : गुवाहाटी। नवोदित पत्रकार तथा बंगला दैनिक सकालबेला के संवाददाता सफर अहमद गंभीर रूप से बीमार हैं। उन्हें आर्थिक मदद की जरूरत है। पैसे की कमी इस ईमानदार और मिलनसार पत्रकार के इलाज में बाधा बन रही है। असम साहित्य सभा की रिपोर्टिंग करने बरपेटा गए सफर वहां पीलिया रोग से ग्रसित हो गए। वे फिलहाल दिसपुर पोलिक्लीनीक अस्पताल में वेंटिलेटर पर जीवन जीने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। 

आजतक से गिरिजेश मिश्र का इस्‍तीफा, इंडिया न्‍यूज में ईपी बने

आजतक से खबर है कि सीनियर प्रोड्यूसर गिरिजेश मिश्र ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे अपनी नई पारी इंडिया न्‍यूज के साथ शुरू करने जा रहे हैं. गिरिजेश को इंडिया न्‍यूज में एक्‍जीक्‍यूटिव प्रोड्यूसर बनाया गया है. वे चैनल में स्‍पेशल प्रोग्राम की जिम्‍मेदारी देखेंगे. मूल रूप से गोरखपुर के रहने वाले गिरिजेश ने करियर …

8 फरवरी को बुक स्‍पीड पोस्‍ट 11 फरवरी को क्‍यों मिला?

नई दिल्ली: संसद पर हमले के मास्टरमाइंड अफजल गुरु को फांसी दिए जाने की जानकारी उसके परिवार वालों को स्पीडपोस्ट के जरिये दिए जाने पर विवाद चल रहा है। इस बीच एनडीटीवी इंडिया ने स्पीडपोस्ट की वेबसाइट पर जाकर पड़ताल की तो पता चला कि यह स्पीडपोस्ट 7 और 8 फरवरी की मध्यरात्रि 12 बजकर 7 मिनट पर जीपीओ, नई दिल्ली में बुक कराया गया था। 8 फरवरी की सुबह 3 बजकर 19 मिनट पर इसे श्रीनगर के थैले में डाल दिया गया और 5 बजकर 51 मिनट पर इसे पालम के लिए भेज दिया गया।

सहारा समूह ने कैसे खरीदा लंदन का ग्रोवनर हाउस?

रियल एस्टेट, हॉस्पिटैलिटी और रिटेल कारोबार में दखल रखने वाले लखनऊ के सहारा इंडिया परिवार ने विदेश में कई बैंक खाते खोले और मॉरीशस व ब्रिटेन में कंपनियां शुरू कीं। और यह सब हुआ भारतीय प्रतिभूति विनिमय बोर्ड (सेबी) द्वारा समूह की दो कंपनियां- सहारा इंडिया रियल एस्टेट कॉर्प (एसआईआरईसीएल) और सहारा हाउसिंग इन्वेस्ट कॉर्प (एसएचआईसीएल) के खिलाफ जांच कार्रवाई प्रक्रिया शुरू करने के बाद। इन बैंक खातों का ब्योरा और इन्हें चलाने वाली कंपनियों के अलावा इनके बीच होने वाले रकम हस्तांतरण का पूरा विवरण एक विदेशी वित्तीय खुफिया इकाई (एफआईयू) ने अपनी भारतीय समकक्ष के साथ साझा की रिपोर्ट में दिया है। 

अमिताभ ठाकुर ने सीआरपीएफ-आरपीएफ एवं पीएसी में मौजूद कई प्रावधानों को कोर्ट में दी चुनौती

 सुरक्षा बलों में व्‍याप्‍त भ्रष्‍टाचार एवं समानता समेत तमाम समाजिक मुद्दों पर कानूनी तरीके से लड़ने-भिड़ने वाले आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर समानता के लिए एक और लड़ाई छेड़ दी है. उन्‍होंने हाई कोर्ट लखनऊ बेंच में दो अलग-अलग याचिका दायर कर सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स एक्‍ट एवं रेलवे प्रोटेक्‍शन फोर्स एक्‍ट तथा दूसरे में प्रोविंसियल आर्म्‍ड कॉस्‍टेब्‍लरी एक्‍ट के कुछ प्रावधानों को चुनौती दी है. इन याचिकाओं में श्री ठाकुर ने कहा है कि इन अधिनियमों में कई ऐसे प्रावधान हैं, जो विभेदकारी प्रतीत होते हैं, इसलिए विधिविरुद्ध घोषित किए जाने चाहिए. 

इंडिया न्‍यूज पहुंचे मनोज वर्मा, अरुण जैन एवं विवेक प्रकाश

इंडिया न्‍यूज से जुड़ने वालों की संख्‍या लगातार बढ़ती जा रही है. एबीपी न्‍यूज से इस्‍तीफा देकर दो लोगों ने अपनी नई पारी इंडिया न्‍यूज के साथ शुरू की है. मनोज वर्मा एवं अरुण जैन ने इंडिया न्‍यूज में ज्‍वाइन किया है. ये लोग संपादकीय में अपनी जिम्‍मेदारी निभाएंगे. मनोज एवं अरुण लंबे समय से इस चैनल के साथ जुड़े हुए थे. माना जा रहा है कि कुछ और लोग एबीपी न्‍यूज से इस्‍तीफा देकर इंडिया न्‍यूज जा सकते हैं. 

महराजगंज जिले में अमर उजाला हुआ नंबर वन

  महराजगंज। अमर उजाला ने पाठकों को बाधते हुये अपना सर्कुलेसन भी बढा़ लिया है। मात्र कम समय में जिले में अमर उजाला के अखबार की प्रतियां 11800 से 12000 के बीच हैं। वहीं दैनिक जागरण का 8400 से 8800 के बीच हैं। हिन्दुस्तान 7400 से 7800 के बीच बिक रही है। वहीं सहारा 5500 …

जनसंदेश टाइम्‍स, बनारस ने ‘पत्र’ का फर्जीवाड़ा बंद किया

जनसंदेश टाइम्‍स, बनारस ने संपादकीय पेज पर 'पत्र' कॉलम में किया जाने वाला फर्जीवाड़ा बंद कर दिया है. अब यहां से कुछ नए पत्र तथा दूसरे जगह से आने वाले पत्रों को उसी नाम पते से प्रकाशन कर रहा है. इसके साथ ही अखबार ने स्‍थानीय स्‍तर पर पाठकों से पत्र भेजने के लिए सूचना प्रकाशित की है. यह सारे बदलाव भड़ास पर खबर आने के बाद किए गए हैं. इस बदलाव से कम से कम अब पाठक गलत सूचना नहीं पा सकेंगे. 

तथ्य देने व तर्क शक्ति बढ़ाने में टीवी स्टूडियो की बड़ी भूमिका

: बदल रहा है जन-धरातल पर संवाद का विषय : हैबर मास के जन धरातल (पब्लिक स्फीयर) के सिद्धांत और मीडिया की भूमिका की इस अवधारणा को, कि प्रजातंत्र में मास मीडिया का मूल कार्य मुद्दों पर परस्पर-विरोधी विचारों को सामने ला कर एक बाज़ार खड़ा करना होता है, अगर मिला कर देखा जाये तो आज भारत के न्यूज़ चैनलों में होने वाले डिस्कशन एक बड़ा कार्य कर रहे हैं. शायद यही वज़ह है कि इंडिया गेट पर अब भावनात्मक मुद्दे “मंदिर-मस्जिद” की जगह गैर-राजनीतिक लेकिन जन-हित के मुद्दों मसलन भ्रष्टाचार और बलात्कार ने ले ली है.

मेरा विभाग नहीं, हादसे के लिए चैनल जिम्‍मेदार : आजम

अपने बयानों को लेकर हमेशा विवाद में रहने वाले नगर विकास मंत्री आजम खान ने फिर अनोखा बयान दिया है. महाकुम्भ के हादसे के लिये उन्‍होंने मीडिया को जिम्मेदार बताया. आज़म खान ने कहा कि अगर दुर्घटना के लिये उनका विभाग कुसूरवार हो तो वह मंत्री पद से त्यागपत्र देने का तैयार हैं. खां सोमवार की शाम सम्भल के चंदौसी में संवाददाताओं से कहा कि कुम्भ मेलार्थियों में हुई भगदड़ के लिये मेरा विभाग जिम्मेदार नहीं है. 

एडेले का ग्रेमी अवार्ड लेने वाले पत्रकार को जेल!

ग्रेमी पुरस्कार समारोह में मंच पर पहुंचने और गायिका एडेले की ओर से पुरस्कार लगभग लेने ही वाले एक पत्रकार को जेल भेज दिया गया है. इस वाकये का सीधा प्रसारण हुआ लेकिन कुछ ही लोगों की नजर में यह आया क्योंकि जेनिफर लोपेज ने बहुत ही चतुराई से इस स्थिति को संभाल लिया और एडेले की जिंदगी के इस बेशकीमती क्षण को एक पत्रकार द्वारा हाईजैक होने से बचा लिया.

श्रीनगर में अखबारों के प्रकाशन एवं वितरण पर रोक

श्रीनगर : केबल टीवी, एसएमएस, मोबाईल और इंटरनेट सेवाओं को ठप करने के बाद प्रशासन ने वादी में अगले आदेश तक स्थानीय अखबारों के प्रकाशन व वितरण पर भी तथाकथित रोक लगा दी है। अधिकारिक तौर पर आदेश जारी नहीं किया गया है, लेकिन वादी में रविवार को प्रशासन ने किसी भी अखबार का वितरण नहीं होने दिया।

छंटनी से नाराज बीबीसी के पत्रकार करेंगे 24 घंटे की हड़ताल

लंदन। प्रतिष्ठित मीडिया संस्थान ब्रिटिश ब्राडकास्टिंग कारपोरेशन (बीबीसी) में आर्थिक तंगी के कारण जोरों से चल रही कर्मचारियों की छंटनी के विरोध में पत्रकार अगले सप्ताह राष्ट्रीय स्तर पर एक दिन की हड़ताल करेंगे। राष्ट्रीय पत्रकार यूनियन एन यू जे ने इसकी जानकारी दी। यूनियन ने एक बयान में कहा कि एन यू जे के सदस्य बीबीसी में छंटनी के विरोध में 18 फरवरी को विरोध-प्रदर्शन करेंगे।

सिद्धार्थ श्रीवास्‍तव का आई नेक्‍स्‍ट से इस्‍तीफा, हिंदुस्‍तान जाएंगे

आई नेक्‍स्‍ट, गोरखपुर से खबर है कि सिद्धार्थ श्रीवास्‍तव ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर चीफ सब एडिटर के पद पर कार्यरत थे. विकास वर्मा के जाने के बाद सिद्धार्थ ही अखबार की जिम्‍मेदारी संभाल रहे थे. सिद्धार्थ का जाना आई नेक्‍स्‍ट के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. खबर है कि वे अपनी नई पारी हिुदुस्‍तान, नोएडा के साथ शुरू करने जा रहे हैं. उन्‍हें डीएनई बनाए जाने की चर्चा है. 

जनवाणी एकादश ने प्रशासन को आठ विकेट से हराया

 

सहारनपुर स्थित अम्बेडकर स्पोर्ट्स स्टेडियम मे खेले गये मैत्रीपूर्ण क्रिकेट मैच में दैनिक जनवाणी एकादश ने प्रशासन एकादश को आठ विकेट से पराजित किया। बीस ओवरों के सीमित मुकाबले में प्रशासन एकादश ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। सलामी बल्लेबाज राजीव पाठक और मनोज ने कई शानदार स्ट्रोक्स लगाये। दुर्भाग्यवश मनोज 19 रन के निजी स्कोर पर रन आउट हो गये, जबकि राजीव पाठक को 33 रन के निजी स्कोर पर गेंदबाज सन्नी ने क्लीन बोल्ड कर दिया। 

”बच्‍चा जब कुछ नहीं बोलता है तब मां सब कुछ समझ जाती है”

गाजीपुर। जन्म के समय प्रत्येक मनुष्‍य जब संसार में आता है तो सहज और सरल होता है। किन्तु जैसे जैसे वह बड़ा होता है उसमें बुराई भरने लगती है, जिससे वह मूल स्वभाव में नहीं रह जाता है। अवधूत भगवान राम के जीवन पर प्रकाश डालते हुए उदयप्रताप स्वायत्तशासी महाविद्यालय के हिन्दी विभागाध्यक्ष डा. मधु सिंह ने उनके बारे में बताते हुए कहा कि गुण्डी ग्राम मैंने जा करके देखा है जहां बाबा बैठा करते थे और घण्टों स्थापित शिव मंदिर में पूजा करते थे। 

‘गाजीपुर गौरव रत्‍न’ से सम्‍मानित हुए सांसद

गाजीपुर। वैसे से नेताओं को आम आदमी जन समस्याओ से त्रस्त आकर खरी-खोटी सुनाता रहता है पर ऐसा कम ही होता है जब उनके विकास कार्यों को लेकर जहा उन्हें सम्मानित किया जाता हो। जी हां ऐसे ही गाजीपुर के सांसद राधे मोहन सिंह भी है। जिन्हें उत्कृष्‍ट विकास कार्यों के लिए शहर के गणमान्य व्यक्तियों ने ‘गौरव रत्न’ से सम्मानित किया। यह सम्मान उन्हें शहर के बहुत प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थान सरस्वती विद्या मन्दिर के 35वें वार्षिकोत्सव पर दिया गया। 

डा. कृष्‍ण कुमार रत्‍तू को प्रतिष्ठित राष्‍ट्रीय चाणक्‍य जनसंचार पुरस्‍कार

 

चंडीगढ़ : राष्ट्रीय जन-संचार काउंसिल (पीआरसीआई) ने अपना प्रतिवर्ष दिया जाने वाला प्रतिष्ठित राष्ट्रीय चाणक्य जन संचार पुरस्कार इस वर्ष देश के जाने माने मीडिया विशेषज्ञ एवं लेखक डॉ. कृष्ण कुमार रत्तू को देने की घोषणा की है। ‘क्म्यूनिकेटर ऑफ द ईयर-२०१३’ मीडिया, संचार, साहित्य क्षेत्र के लिए दिए जाने वाला यह पुरस्कार देश की जानी-मानी हस्तियों को दिया जाता है। हैदराबाद में सातवीं भारतीय जनसंचार क्म्यूनिकेशन कनक्लेव के महत्वपूर्ण समारोह में यह पुरस्कार २२ फरवरी को देश के मुख्य चुनाव आयुक्त एचएस ब्रह्मा प्रदान करेंगे। 

सिद्धांतों और सिंहासन के दोराहे पर खड़ी है भाजपा

लोकसभा चुनावों के नजदीक आने के साथ सभी दलों की बेचैनी साफ दिखाई दे रही है। बात चाहे भाजपा की हो अथवा कांग्रेस की तो दोनों ही दल अपनी ओर से कोई कसर बाकी नहीं छोड़ना चाहते। यही बात क्षेत्रीय दलों के संबंध में भी समझी जा सकती है। 

”हिंदुस्‍तान अखबार में नौकरी पानी है तो कंप्रोमाइज करो या फिर पैसे दो”

यशवंत सिंह जी, भड़ास4मीडिया, महोदय। सविनय निवेदन यह है कि मैं एक कवयित्री हूँ, अपनी कविताओं को सुनाकर कर अपना व अपने परिवार का जीवनयापन कर रही हूँ। मुझे मेरठ में हिन्दुस्तान अखबार में संपादक बताकर एक व्यक्ति, जिनका नाम करण कश्यप है, ने मुझसे हिन्दुस्तान अखबार में नौकरी लगवाने के नाम पर 2 लाख रुपये ठग लिए। मैंने कई जगह शिकायत की पर हर जगह से मुझे बैरंग ही वापस लौटना पड़ा। अब थक हार कर अंत में आपसे मदद मांग रही हूँ कि आप कृपया इसमें किसी स्तर पर मेरी मदद करें।  

‘दो दीनदयाल मिल जाते तो देश की तस्वीर बदल जाती’

: पंडित दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि 11 फरवरी के लिए लेख : महान दार्शनिक विचारक चिंतक अर्थशास्त्री इतिहासवेत्ता शिक्षाविद और पत्रकार के रूप में जिसे समूचे भारत ही नहीं वरन पूरी दुनिया में जाना और पहचाना जाता था। समाज के आखिरी पायदान पर खड़े मजलूम व वंचितों के विकास के लिए जिनमें काफी गहरी तड़प और संवेदना थी। उनकी सोच यह थी कि जब समाज के निर्धनतम व्यक्ति के चेहरे पर खुशी के भाव उभरें तभी यह माना जा सकता है कि देश का सही मायने में विकास हो रहा है। एकात्म मानववाद की विचारधारा के प्रतिपादक थे। उनमें अदभुत संगठनात्मक क्षमता थी। उस महान शख्सीयत का नाम था पंडित दीनदयाल उपाध्याय।

आनलाइन एडवाइस पोर्टल ‘एडवाइस अड्डा डॉट कॉम’ लांच

देश के किशोरों और युवाओं को उनकी तमाम तरह की समस्याओं को निजात दिलाने के मकसद से भारत का पहला आनलाइन एडवाइस पोर्टल लांच किया गया है। एडवाइस अड्डा डॉट  कॉम (AdviceAdda.com) नाम से लांच हुए इस वेबसाइट के जरिए युवाओं और किशोरों को शिक्षा, करियर, जॉब, प्रेम संबंध, सेक्स, स्वास्थ्य, फिटनेस, ब्यूटी या फैशन-लाइफस्टाइल से जुड़े तमाम मसलों पर एक्सपर्ट एडवाइस दी जाएगी।

हंडिया के विधायक महेश नारायण सिंह की मौत

इलाहाबाद। दिल्ली से सूचना आ रही है कि समाजवादी पार्टी के नेता व इलाहाबाद के गंगापार स्थित हंडिया विधानसभा क्षेत्र के विधायक महेश नारायण सिंह ने लंबी बीमारी के बाद सोमवार को दम तोड़ दिया। विधायक सिंह कई महीने से बीमार थे। उन्हें गुर्दे के बीमारी की शिकायत थी। उनका इलाज एम्स दिल्ली में चल रहा था।

महाकुंभ में हेलीकाप्टर से फोटो खींच रहा फ्रांसीसी फोटोग्राफर हिरासत में, एफआईआर दर्ज

इलाहाबाद के महाकुंभ मेला से खबर है कि एक फ्रांसीसी फोटोग्राफर को हिरासत में लेकर उसकी तस्वीरें जब्त कर ली गई हैं. उसके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज किया गया है. साथ ही हेलीकाप्टर कंपनी के खिलाफ भी कार्रवाई शुरू की गई है. कुंभ मेला प्रशासन ने फ्रांसीसी फोटोग्राफर और हेलीकाप्टर कंपनी के खिलाफ सख्त कार्रवाई का मूड बना लिया है. फ्रांसीसी फोटोग्राफर हेलीकाप्टर पर सवार होकर रविवार को दोपहर शाही स्नान के समय घाट पर एकदम नीचे उड़ान भरकर बिना अनुमति तस्वीरें लेने लगा था.

गोल्फ प्रीमियर लीग की चैंपियन बनी ‘उत्तराखंड लॉयन्स’

 

: सीएम विजय बहुगुणा समेत कई लोगों ने दी बधाई : गोल्फ प्रीमियर लीग में उत्तराखंड लॉयन्स की टीम ने झंडे गाड़ते हुए चैंपियन्स ट्रॉफी पर कब्जा कर लिया है। माइनस 34 अंकों के साथ उत्तराखंड लॉयन्स ने दमदार खेल दिखाया और दिल्ली एवं पंजाब जैसी धुरंधर टीमों को पछाड़ते हुए गोल्फ प्रीमियर लीग 2013 के खिताब पर कब्ज़ा जमा लिया।

निर्मलेंदु को ‘चौथी दुनिया’ में शरण, ईश्वर का पंजाब केसरी और मयंक व मनोज का हिंदुस्तान से इस्तीफा

निर्मलेंदु साहा को फिलहाल चौथी दुनिया में ठिकाना मिल गया है. कुछ वर्षों में साहा ने कई अखबारों चैनलों को पकड़ा छोड़ा है. पिछले दिनों तक वे हम वतन अखबार में थे. देखना है कि वे चौथी दुनिया और संतोष भारतीय के साथ कितने दिनों तक निभा पाते हैं. निर्मलेंदु साहा जहां जहां गए, वहां वहां आंतरिक राजनीति ने खूब जोर पकड़ा और अंततः या तो अखबार को बंद होना पड़ा या फिर खुद साहा को विदा होना पड़ा.

देवास प्रेस क्लब का चुनाव संपन्न, सिकरवार निर्विरोध अध्यक्ष बने

देवास। प्रेस क्लब देवास के चुनाव शहर के सर्किट हाउस पर संपन्न हुए। सोमवार को हुए इस चुनाव में अनिल राज सिंह सिकरवार निर्विरोध अध्यक्ष निर्वाचित हुए। प्रेस क्लब के समस्त सदस्यों ने एकमत से श्री सिकरवार के पक्ष में अपनी राय व्यक्त की। इसी तरह परंपरानुसार प्रेस क्लब के सदस्यों ने अन्य पदों के लिए भी पदाधिकारियों का निर्विरोध चुनाव किया। उपाध्यक्ष पद के लिए वरिष्ठ पत्रकार मुन्ना वारसी, सचिव सुभाष मोदी, संयुक्त सचिव नितिन गुप्ता, कोषाध्यक्ष अकरम शेख तथा कार्यकारिणी सदस्यों में तरुण मेहता, असलम खान, अतुल बागलीकर, विनोद जैन, खूबचंद मनवानी, अरविंद टेलर, आलोक त्रिवेदी का चयन किया गया।

लखनऊ से ‘दिव्यता’ मासिक पत्रिका मार्च के पहले सप्ताह से प्रकाशित होगी

लखनऊ : दिव्यता पब्लिकेशन, लखनऊ की पहली मासिक मासिक पत्रिका "दिव्यता " मार्च के पहले सप्ताह में बाज़ार में उपलब्ध होगी। यह जानकरी देते हुए "दिव्यता" पत्रिका के प्रधान संपादक प्रदीप श्रीवास्तव ने बताया कि "दिव्यता " मासिक आम पत्रिकाओं से जरा हट कर होगी क्योंकि इसमें ख़बरों के साथ-साथ घर-परिवार के सभी सदस्यों की जिज्ञासा को पूरा किया जाएगा। उनका कहना है कि यह पत्रिका कुछ वर्षों पहले बंद हो चुकी दो साप्ताहिकों की खानापूर्ति का प्रयास करेगी जिससे पाठकों को सभी तरह की जानकारियां एक जगह ही मिल सके।

कुंभ में पापियों के पाप धोने और फिर पापी होने की परंपरा

हमारे नेता और अभिनेता, सारे के सारे अचानक जाग गए हैं। कुंभ जा रहे हैं। हर हर गा रहे हैं। इलाहाबाद में छा रहे हैं। गंगा में नहा रहे हैं। और पाप बहा रहे हैं। जी हां, पाप। हिंदू मान्यताओं के मुताबिक कुंभ के पवित्र स्नान से मनुष्य के सारे पाप धुल जाते हैं। फिर यह कुंभ तो पूरे 144 साल बाद आया है और इतने ही सालों बाद वापस आएगा। यह भी कहते हैं कि  कुंभ में नहाने से सौ गंगा स्नान का पुण्य मिलता है। फिर कुंभ अगर 144 साल बाद वाला खास हो तो उसके तो कहने ही क्या। निश्चित रूप से उसमें तो हर किस्म के पाप धुल ही जाते होंगे।

39 वर्ष जीने वाले स्वामी विवेकानंद ने 31 बीमारियों को यूं झेला

आज देश-दुनिया में सबसे अधिक मोटिवेशन (प्रेरणा) की बात होती है. पग-पग पर. मशीन या टेक्नालॉजी (तकनीक) की इस आधुनिक दुनिया में अकेलापन नियति है. जीवन का अर्थ ढूंढ़ना भी. जीने या होने (बीइंग) का आशय समझना. जीने का मर्म तलाशना भी. इस नयी दुनिया में पल-पल निराशा, हताशा और डिमोटिवेटिंग फोर्सेस (उत्साह सोखनेवाली ताकतें) से लड़ना आसान नहीं. इस युग का दर्शन है कि या तो धारा के साथ बहें, समय का गणित मानें, पैसे-पावर के खेल में हों या जीवन भोग में डूब कर जीयें या कथित सफलता के लिए आत्मसम्मान गिरवी रखें, चारण बनें. या फिर अपनी अंतरात्मा से जीयें, तो अकेले अपनी राह बनायें. दरअसल, संकट सबसे अधिक अंतरात्मा से जीनेवालों को है.

चीन इस उपमहाद्वीप में एकमात्र गेम चेंजर है, जरा उसकी औकात तो आंकिए

अब राजनीति और जनता, आगे बढ़ गये हैं. देश पीछे छूट गया है. देश के हालात, अब राष्ट्रीय मुद्दे नहीं बनते. न मुल्क को बेचैन करते हैं. देशप्रेम की बात पुरातनपंथी है. अप्रगतिशील और पिछड़े मानस की पहचान. राष्ट्रीय मुद्दे क्या हैं? राहुल गांधी या नरेंद्र मोदी? अपनी सत्ता, अपना स्वार्थ, अपने को महानतम सिद्ध करने की होड़? बाजार के भोग में डूबे युवा वर्ग के बीच फैशन, फ्रेंडशिप वगैरह पर फेसबुक पर होते विवाद. इन सबके बीच भारत मुल्क कहां खड़ा है? उसका भविष्य क्या है? इसी सप्ताह की खबर है. चीन, भारत को चौतरफा घेर चुका है. पाकिस्तान ने एक फरवरी को ग्वादर पोर्ट (बंदरगाह) को बनाने और विकसित करने का काम चीन को सौंप दिया है. पाकिस्तान की इच्छा है कि चीन इस बंदरगाह को नौसैनिक अड्डा भी बना दे.

एक काम क्‍यों नहीं करते, इस मुल्‍क को आप हिंदू, सवर्ण, मर्द राष्ट्र घोषित कर दीजिए

‎"मैं पिछले दस सालों से घर से दूर अकेले रह रही हूं। लेकिन मेरी मां को आज भी लगता है कि मैं घर वापस आ जाऊं। लड़की के अकेले रहने, अकेले घर से बाहर निकलने के ख्‍याल से उन्‍हें बार-बार इलाहाबाद की उस महिला डॉक्‍टर का ख्‍याल आता है, जिसे कुछ लोगों ने रेप करके मार डाला था। दिल्‍ली गैंग रेप के बाद उनका डर और गहरा हो गया है। वो जानती हैं, रहना तो पड़ेगा लेकिन उनके दिल को सुकून नहीं है। उन्‍हें कतई भरोसा नहीं है कि कभी कुछ बुरा नहीं हो सकता। इस मुल्‍क में उन्‍हें अपनी बच्‍ची की सुरक्षा की कोई गारंटी नहीं लगती। वो डर में जीती हैं।"

xxx

प्रोफेसर सुभाष धूलिया उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय के कुलपति नियुक्त

प्रो. सुभाष धूलिया की नयी पारी उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय के कुलपति के रूप में शुरू हो रही है. इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय नई दिल्ली में स्कूल आफ जर्नलिज्म के निदेशक प्रो. सुभाष धूलिया नए कुलपति नियुक्त किए गए हैं. मुक्त विश्वविद्यालय में कुलपति पद 24 नवंबर, 2012 से रिक्त चल रहा है.

सजा है इक नया सपना हमारे मन की आंखों में… (लखनऊ में अपना तो मिले कोई का लोकार्पण)

मुम्बई के शायर देवमणि पांडेय के ग़ज़ल संग्रह ‘अपना तो मिले कोई’ का लोकार्पण पूर्व सांसद, साहित्यकार एवं उ.प्र. हिंदी संस्थान के कार्यकारी अध्यक्ष श्री उदय प्रताप सिंह ने किया। हिंदी संस्थान, हज़रतगंज, लखनऊ के प्रेमचंद सभागार में 9 फरवरी 2013 की शाम को आयोजित इस कार्यक्रम में प्रमुख अतिथि के रूप में बोलते हुए उदय प्रताप सिंह ने कहा कि हिंदी और उर्दू दरअसल एक ही भाषाएं हैं।

दिल्ली में नशेड़ी वकील ने अपनी पत्नी को पीट-पीट कर अधमरा किया

दिल्ली के वकील और नत्थुपुरा, संतनगर, बुराड़ी के राजेंद्र नाथ पांडेय ने अपनी पत्नी को मारते-मारते अधमरा कर दिया और घर के बाहर फेंक दिया। पीड़िता 100 नंबर पर पुलिस को फोन करती रही लेकिन मदद नहीं मिली। फिर पीड़िता ने 181 पर पुलिस से मदद की गुहार लगाई, जिसके बाद पुलिस ने पीड़िता को जहांगीरपुरी के बाबू जगजीवन राम अस्पताल में दाखिल कराया।

यशवंत बने ‘‘आप’’ के सदस्य

अपनी बेबाक कलम और निराली शैली से लोगों को जब तब चौंकाने वाले भड़ास फार मीडिया के संपादक यशवंत सिंह एक बार फिर कुछ नया करने के मूड मे नजर आ रहे हैं। कई मीडिया ग्रुप और मीडिया हाउसों की सात तालों मे बन्द खबरों को पूरी दुनिया मे प्रकाशित करने और इस काम के पारिश्रमिक के रूप मे जेल यात्रा का सुख लूटने वाले यशवंत अब राजनीति की रपटीली राहों पर पैर रख चुके हैं।

श्रीनगर में दूसरे दिन भी नहीं छपे अखबार

 

श्रीनगर। श्रीनगर के निवासी रविवार सुबह अखबार पढ़ने नहीं उठे। शहर में लगातार दूसरे दिन कर्फ्यू जारी है और किसी भी स्थानीय अखबार ने रविवार के अंक प्रकाशित नहीं किए। एक अखबार के संपादक ने कहा, "आज कोई स्थानीय अखबार प्रकाशित नहीं हुआ। यद्यपि कई स्थानीय अखबारों के वेब अंक इंटरनेट पर उपलब्ध हैं।" स्थानीय अंग्रेजी दैनिक, कश्मीर इमेजेज के संपादक बशीर मंजर ने आईएएनएस से कहा कि उनके अखबार के रविवार के अंक की प्रतियां पुलिस ने जब्त कर लीं। पुलिस ने अखबार के वितरण की अनुमति नहीं दी।

हिंदुस्‍तान विज्ञापन घोटाला : आरएनआई एवं डीएवीपी से दस्‍तावेज लेने दिल्‍ली गई मुंगेर पुलिस

 

मुंगेर। 200 करोड़ के दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन फर्जीवाड़ा से जुड़े दस्तावेज को नई दिल्ली स्थित प्रेस रजिस्‍ट्रार (आरएनआई) और विज्ञापन एवं दृष्य प्रचार निदेशालय (डीएवीपी) के कार्यालयों से जब्त करने के लिए पुलिस अधीक्षक पी. कन्नन के आदेश पर मुंगेर कोतवाली थाना के आरक्षी अवर निरीक्षक अलख देव शर्मा नई दिल्ली के लिए रवाना हो गए।

1950 के दशक में पश्चिम बंगाल में सेक्स एजुकेशन पुस्तकें प्रतिबंधित थीं

 

1950 के दशक में पश्चिम बंगाल में सेक्स एजुकेशन पर प्रतिबन्ध था. लखनऊ स्थिति आरटीआई कार्यकर्ता नूतन ठाकुर द्वारा रजिस्ट्रार ऑफ पब्लिकेशन, पश्चिम बंगाल से 15 अगस्त 1947 से अगस्त 2012 के मध्य प्रतिबंधित पुस्तकों के सम्बन्ध में प्राप्त सूचना के अनुसार वर्ष 1954 मे बंगाली भाषा में सेक्स एजुकेशन से जुडी दो पुस्तकों ‘केमोन करे बोली’ और ‘एकांते प्रयोजोनीय’ पर प्रतिबन्ध लगाया गया था.

फगवाड़ा के पत्रकार की पत्‍नी एवं बिजनौर के पत्रकार के भतीजे का निधन

 

फगवाडा से वरिष्ठ पत्रकार अशोक शर्मा की धर्मपत्नी सुनीता शर्मा का गत दिवस बीमारी के चलते देहांत हो गया. इनका अंतिम संस्कार फगवाड़ा में ही किया गया. इस दौरान फगवाड़ा व कपूरथला के पत्रकारों ने मृतक देह को अश्रुपूर्ण विदाई दी. अशोक शर्मा को उनकी पत्नी के देहांत पर शोकाकुल परिवार को संवेदना व्यक्त करने वालों में कपूरथला प्रेस क्लब से जनरल सेक्टरी अरुण खोसला, वरिष्ठ उपाध्यक्ष अशोक गोगना व नगिंदर पाल सिंह बावा, रवि पाठक, साहिल गुप्ता, हिन्दुतान टाइम्स के संजीव भल्ला के साथ-साथ फगवाडा से समूह पत्रकारों सहित अमर पासी आदि शामिल थे. 

वरिष्‍ठ पत्रकार अशोक निर्वाण बने नेशनल दुनिया, गाजियाबाद के प्रभारी

 

आखिरकार गाजियाबाद से आलोक मेहता एंड कंपनी का पत्‍ता साफ हो गया है. खबर है कि रवि अरोरा के जाने के बाद नेशनल दुनिया ने अखबार की जिम्‍मेदारी वरिष्‍ठ पत्रकार अशोक निर्वाण को सौंप दी गई है. सूत्रों का कहना है कि सोमवार को अशोक निर्वाण अपनी नई जिम्‍मेदारी संभाल सकते हैं. वे फिलहाल गाजियाबाद में देशबंधु की जिम्‍मेदारी संभाल रहे थे. यहां से इन्‍होंने इस्‍तीफा दे दिया है. अशोक निर्वाण गाजियाबाद के जाने-माने पत्रकार हैं. 

13 फरवरी को लांच होगी ‘लाइव इंडिया’ पत्रिका

लाइव इंडिया न्‍यूज चैनल का संचालन करने वाली कंपनी समृद्ध जीवन फूड लिमिटेड समूह अपने करेंट अफेयर्स पत्रिका 'लाइव इंडिया' की लांचिंग 13 फरवरी को दिल्‍ली से करेगी. यह 80 पेज की मासिक पत्रिका होगी. इसमें समाचारों के सभी आयामों को शामिल किया जाएगा. इस पत्रिका के डमी एडिशन में राहुल देव, प्रमोद जोशी, वर्तिका नंदा, कैलाश खेर आदि के लेख और आर्टिकल शामिल हैं.

प्रिंट में सन्‍नी हुन्‍दल एवं इलेक्‍ट्रानिक मीडिया में सिमरन सेठी को आईआरडीएस अवार्ड

 

गैर सरकारी संगठन इंस्टीट्यूट फॉर रिसर्च एण्ड डाक्यूमेटेशन इन सोशल साइन्सेंस (आईआरडीएस), लखनऊ  द्वारा चतुर्थ आईआरडीएस अवार्ड 2013 सन्नी हुन्दल (प्रिंट मीडिया), सिमरन सेठी  (इलेक्ट्रोनिक मीडिया), माया अजमेरा (मानव अधिकार), गीतांजलि गुटीरेज (विधि), बालमुरली अम्बाती (चिकित्सा), यशवीर सिंह (प्रबंधन) तथा राजू नारायणस्वामी (शासकीय सेवा) को दिये गए. 

सहारा समूह अपने उर्दू अखबार रोजनामा का करेगा विस्‍तार

 

: छह नए एडिशन होंगे लांच : सहारा समूह से खबर आ रही है कि वह अपने उर्दू के अखबार दैनिक सहारा रोजनामा का विस्‍तार करने जा रहा है. यह विस्‍तार देश के पांच राज्‍यों में किया जा रहा है. प्रबंधन का कहना है कि उर्दू मार्केट की संभावनाओं को देखते हुए विस्‍तार की योजना तैयार की गई है. अभी यह अखबार लखनऊ, कानपुर, गोरखपुर, पटना, रांची, बंगलुरू, दिल्‍ली, मुंबई, कोलकाता और हैदराबाद से प्रकाशित हो रहा है. अखबार के नए एडिशन कर्नाटक, एमपी, जम्‍मू-कश्‍मीर, यूपी एवं राजस्‍थान से प्रकाशित किए जाएंगे. 

वाह रे देहरादून के क्राइम रिपोर्टर, कप्‍तान ने कहा और इन्‍होंने छाप दिया

देहरादून के प्रमुख अखबारों के क्राईम बीट देखने वाले पत्रकारों के क्या कहने कप्तान को खुश करने के लिए बिना जांच पड़ताल के छाप दी खबर. दरअसल कप्तान साहब प्राइवेट वाहन से अपने जिले की मुस्तैदी देखने निकले. कप्तान साहब डिफेन्स कालोनी स्थित चौकी पहुंचे वहां पर चौकी इंचार्ज नदारत थे. कप्तान साहब को देख चौकी में तैनात एक सिपाही चौकी इंचार्ज के निवास की ओर गया. कप्तान साहब भी पीछे पीछे चल दिए. सिपाही ने निवास पर पहुंच कर दरवाज़ा पीटा पर कोई ज़वाब नहीं आया. 

बिहार में जारी है सरकारी विज्ञापन लूट का खेल!

बिहार शरीफ : बिहार में जद (यु)-भाजपा गठबंधन के साथ एक और गठबंधन है -सरकार व दैनिक समाचार पत्रों का. जिस प्रकार सरकार के मुखिया गठबंधन के नेताओं के गलत-सलत कामों को नजर अंदाज करती है, उसी प्रकार दैनिक समाचार पत्र के कारनामों को नजर अंदाज कर रही है. उपयोगिता समाप्त होने के बाद सरकारी विज्ञापन छापे जा रहे हैं तथा सरकार राशि का भुगतान भी कर रही है, जो दर्शाता है कि अन्दर -अन्दर गुप्त समझौता है. 

आखिर क्‍यों नहीं कम हो रहा भास्‍कर, चंडीगढ़ में तनाव?

 

: कानाफूसी : चंडीगढ़। दैनिक भास्कर चंडीगढ़ में तनावपूर्ण माहौल के बीच एमडी सुधीर अग्रवाल, निदेशक पवन अग्रवाल बैठक लेकर चले गए, लेकिन स्थिति संभल नहीं रही है। अब नेशनल संपादक कल्पेश याज्ञनिक यहां पड़ाव डालने एक दो दिन में आ रहे हैं। इस दौरे में विशेष बात यह भी होने जा रही है कि वे एडिटोरियल टीम से मुलाकात करेंगे, ये आदेश प्रसारित हो चुके हैं। आज तक किसी नेशनल संपादक ने इस तरह से टीम से बातचीत नहीं की है। 

पत्रकारिता के गिरते स्तर के लिए अकेला पत्रकार ही दोषी क्यों?

पत्रकार वो है जो समाज में देखता है, अनुभव करता है अपने ज्ञान के आधार पर उसका विश्लेषण करता है, फिर उसे सार्वजनिक मंच पर लाता है इस प्रकिया में जन उपयोगी मुद्दो को उभारने में उसकी सक्रीय भूमिका होनी चाहिये। गण और तंत्र के बीच सवांद की कड़ी है पत्रकार। लेकिन इस प्रक्रिया में उसे रोचकता लानी पड़ती है और ये रोचकता वैध तरीके से नहीं आती है क्योंकि इसके लिये पर्याप्त रचनात्मकता चाहिये जो अधिक मेहनत और कुशल लेखको का काम है, लेकिन कुकरमुत्तों की तरह उग आई 'पत्रकारिता की डिग्रियों की दुकानें" किसी को भी डिग्री तो दे देती हैं लेकिन उसे पत्रकार नहीं बनाती' ये डिग्रीधारी पढ़ा-लिखा आदमी समाज और व्यवस्था की समझ भी विकसित नहीं कर पाता ना उसे लेखन और साहित्य की समझ होती है।

क्रिकेट में आईआरसीटीसी ने मीडिया को रौंद दिया

नेशनल मीडिया बनाम भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम लिमिटेड (आईआरसीटीसी) क्रिकेट मैच एकतरफा रही। जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के बेहतरीन भोपाल स्टेडियम में सालाना मैच में मीडिया की टीम के कप्तान शिशिर सोनी ने टॉस जीत कर आईआरसीटीसी को पहले बल्लेबाजी सौंपी। मीडिया टीम का निर्णय गलत साबित करते हुए आईआरसीटीसी ने 16 ओवर के खेल में मात्र 2 विकेट के नुकसान पर 159 रनों का अंबार खड़ा कर दिया। जवाब में नेशनल मीडिया की टीम 16 ओवरों में 8 विकेट के नुकसान पर केवल 64 रन ही जुटा पाई। 

पाकिस्‍तानी अखबार ने छापी थी अफजल के आत्‍महत्‍या की खबर

नई दिल्ली। पाकिस्तान के एक न्यूजपेपर में एक बार अफजल के सूइसाइड करने की खबर छपने से भारत सरकार सकते में आ गई थी। इसकी पुष्टि करने के लिए खुफिया एजेंसियों के टॉप अफसर ने उस वक्त तिहाड़ जेल के डीजी बी. के. गुप्ता से संपर्क कर अफजल के ताजा हालत जाने। जब उन्हें उसके जिंदा होने की खबर मिली तब उन्होंने चैन की सांस ली। उसके ऊपर 24 घंटे सीसीटीवी कैमरों से निगरानी रखी जाती थी।

अफजल की फांसी के चलते श्रीनगर में नहीं छपे अखबार

श्रीनगर। कश्मीर के लोगों को रविवार सुबह अखबार पढ़ने को नहीं मिला। अफजल गुरु को फांसी की सजा मिलने के बाद शहर में लगातार दूसरे दिन कर्फ्यू जारी है। किसी भी स्थानीय अखबार ने रविवार को अंक प्रकाशित नहीं किया। एक अखबार के संपादक ने कहा, कि आज कोई स्थानीय अखबार प्रकाशित नहीं हुआ है। लेकिन कई स्थानीय अखबारों के वेब अंक इंटरनेट पर उपलब्ध हैं।

न्‍यूज24 छोड़कर अतिका न्‍यूज नेशन एवं एबीपी छोड़कर प्रकाश दूरदर्शन पहुंचे

न्‍यूज24 से खबर है कि अतिका अहमद फारुखी ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर एंकर थीं. अतिका लंबे समय से न्‍यूज24 को अपनी सेवाएं दे रही थीं. वे अपनी नई पारी अल्‍फा समूह के शीघ्र लांच होने जा रहे चैनल न्‍यूज नेशन के साथ शुरू करने जा रही हैं. उन्‍हें यहां भी एंकर बनाया गया है. अतिका इसके पहले भी कई संस्‍थानों को अपनी सेवाएं दे चुकी हैं. 

हेडलाइंस टुडे के चलते अल्‍फा समूह ने बदला चैनल का नाम

: पत्रकारों को ट्रेंड कर रहे हैं तीन विदेशी प्रशिक्षक : अल्‍फा समूह के चैनल के लांच होने में देरी का असली कारण टीवी टुडे समूह का हेडलाइंस टुडे है. चौंकिए मत. यह बात पूरी तरह से सही है, हेडलाइंस टुडे के ऑब्‍जेक्‍शन के बाद ही अल्‍फा समूह ने अपने चैनल का नाम बदला है. सूत्रों का कहना है कि अल्‍फा समूह नेशन टुडे के नाम से ही अपने चैनल के लांचिंग की तैयारी पूरी कर चुका था, परन्‍तु अचानक हेडलाइंस टुडे ने इस मिलते जुलते नाम के चलते ऑब्‍जेक्‍शन कर दिया.

इलाहाबाद रेलवे स्‍टेशन पर भगदड़, 20 लोगों के मरने की खबर

 

इलाहाबाद। मौनी अमावस्या के अवसर पर महाकुंभ में संगम स्नान के लिए उमड़ी भीड़ इलाहाबाद रेलवे स्टेशन पर हादसे का शिकार हो गई है। भगदड़ में 20 लोगों के मरने की खबर है। हादसा प्लेटफॉर्म नंबर चार पर हुआ जहां एक फुटओवर ब्रिज की रेलिंग टूट जाने के बाद भगदड़ मच गई। इस हादसे में कई लोग घायल हो गए हैं। इसके पहले कुंभनगर में सेक्‍टर 12 में भगदड़ से दो लोगों की मौत हो गई थी। मरने वालों की संख्‍या और भी बढ़ सकती है। हालांकि प्रशासन की ओर से अभी मरने वालों की आधिकारिक संख्‍या नहीं बताई गई है। 

शिकंजे में नटवरलाल, जिसके फोन से कांपते थे गाजीपुर के अफसर

हैलो एसडीएम बोल रहा हूँ…. हैलो एसडीएम सदर बोल रहा हूँ, दो एसी टिकट रिजर्व कर दो… हैलो एसडीएम जखनियां बोल रहा हूं, फलाँ मामले मे क्या कर रहे हो….. फलाने के पक्ष मे रिपोर्ट लगा देना। कुछ ऐसी ही फोन काल से गाजीपुर के कई सरकारी महकमे पिछले तीन महीने से हैरान परेशान थे। फोन पर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों पर धौंस जमाने वाले एक फर्जी एसडीएम को गाजीपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

हिंदुस्‍तान विज्ञापन घोटाला : पुलिस ने आरएनआई से मांगी छह बिंदुओं पर जानकारी

मुंगेर। आजादी के बाद पहली बार बिहार की मुंगेर पुलिस ने भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के भारत के समाचार पत्रों के पंजीयक के कार्यालय के पत्र-पंजीयक (प्रेस रजिस्ट्रार) को दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 91 के तहत मुंगेर पुलिस के समक्ष विश्वस्तरीय 200 करोड़ के दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन घोटाला से जुड़े सरकारी दस्तावेज प्रस्तुत करने का लिखित आदेश दिया है। 

छायाकार पर भड़कीं ममता, कहा- मैं तुम्‍हें थप्‍पड़ मार दूंगी

 

नई दिल्ली। अपनी तुनकमिजाजी के लिए मशहूर होती जा रहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को एक बार फिर गुस्सा आ गया। इस बार उनका गुस्सा फूटा एक प्रेस फोटोग्राफर पर। मुख्यमंत्री ने गुस्से में उससे कहा, 'मैं तुम्हें थप्पड़ मार दूंगी।' गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के गुस्से के चलते छोटी-छोटी बातों पर लोगों को पुलिस कार्रवाई का सामना करना पड़ रहा है। 

न्‍यूज नेशन के नाम से लांच होगा अल्‍फा समूह का चैनल

: कंपनी अपना वेबसाइट भी लांच करेगी : अल्‍फा समूह के चैनल की लांचिंग को लेकर लम्‍बे समय से कयासों का दौर अब थमने वाला है. पहले इस चैनल की लांचिंग 26 जनवरी को होनी थी परन्‍तु नाम के चक्‍कर में इसे टाल दिया गया. अब खबर है कि चैनल का नया नाम तय कर दिया गया है. अब यह चैनल न्‍यूज नेशन के नाम से लांच होगा. पहले इस चैनल का नाम नेशन टुडे रखा गया था, परन्‍तु तकनीकी कारणों से इस नाम से लांच नहीं किया गया. प्रबंधन अब चैनल के साथ अपनी वेबसाइट भी लांच करेगा. 

दैनिक सहाफत पर हमला : पुलिस ने एक व्‍यक्ति को हिरासत में लिया

 

लखनऊ में उर्दू अखबार सहाफत पर हमला करने के मामले में पुलिस ने एक व्‍यक्ति को हिरासत में लिया है. उससे पूछताछ की जा रही है. पुलिस उसके मोबाइल का कॉल डिटेल निकालकर पूरे मामले की जांच कर रही है. साथ ही पता लगाने की कोशिश कर रही है कि इस हमले में कौन कौन लोग शामिल थे. उल्‍लेखनीय है कि तीन दिन पूर्व सहाफत के कार्यालय पर कुछ लोगों की भीड़ ने हमला कर दिया था तथा कार्यालय में मौजूद कम्‍प्‍यूटर समेत तमाम सामानों को तोड़-फोड़कर फेंक दिया था. 

जागरण, मोतिहारी से राजेश का तबादला, सुदृष्टि नए प्रभारी

  दैनिक जागरण, मोतिहारी से खबर है कि कार्यालय प्रभारी राजेश श्रीवास्‍तव का तबादला मुजफ्फरपुर के लिए कर दिया गया है. उनकी जगह सेकेंड मैन की भूमिका निभा रहे सुदृष्टि नारायण ठाकुर को मोतिहारी की जिम्‍मेदारी सौंप दी गई है. सुदृष्टि अपने करियर की शुरुआत दस साल पहले मोतिहारी में ही दैनिक जागरण से की …

यूपी में नए मंत्रियों को बंटे विभाग, राजेंद्र चौधरी बने जेल मंत्री

 

लखनऊ : सीएम अखिलेश यादव ने सरकार में शामिल किए गए मंत्रियों को विभाग बांट दिया है। कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र चौधरी को जेल मंत्री बनाया गया है। अभी तक यह विभाग खाद्य एवं रसद मंत्री राजा भैया के पास था। पारसनाथ यादव को उद्यान, इकबाल महमूद को खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति, विजय कुमार मिश्र को अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत, महबूब अली को परिवजन राज्य मंत्री, अभिषेक मिश्रा को विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, राममूर्ति वर्मा पिछड़ा वर्ग कल्याण, विनोद कुमार उर्फ पंडित सिंह व विजय बहादुर पाल को माध्यमिक शिक्षा मंत्री बनाया गया है। 

यूपी में 56 आईएएस अधिकारियों का तबादला

उत्‍तर प्रदेश शासन ने राज्‍य के 56 आईएएस तथा आईपीएस अधिकारियों का तबादला कर दिया। पिछले दिनों मुलायम सिंह यादव की नाराजगी के बाद से ही माना जा रहा था कि राज्‍य में बड़े पैमाने पर तबादले होंगे और कई अधिकारियों की जिम्‍मेदारियां बदली जाएंगी। पिछले दिनों कई पीसीएस अधिकारी भी प्रोन्‍नत होकर आईएएस बने थे। संभावना है कि जल्‍द ही इन लोगों को भी नई तैनाती दी जाएगी। फिलहाल सौ से ज्‍यादा आईएएस-आईपीएस के अधिकारियों के तबादले से प्रदेश में हलचल है। 

यूपी में पांच दर्जन आईपीएस बदले, प्रवीण कुमार डीजीपी कार्यालय से संबद्ध

प्रदेश सरकार ने राज्‍य के पांच दर्जन से ज्‍यादा अधिकारियों का तबादला किया है। माना जा रहा है कि कानून व्‍यवस्‍था को सुधारने के लिए शासन ने ये तबादले किए हैं। कानून व्‍यवस्‍था में संभालने में  असफल रहने वाले पुलिस अधिकारियों पर शासन ने गाज गिराई है। गौतमबुद्धनगर के एसएसपी प्रवीण कुमार को हटाकर प्रतिक्षारत कर दिया गया है। प्रवीण कुमार के साथ कई अन्‍य आईपीएस अधिकारियों को डीजीपी कार्यालय से संबद्ध कर दिया गया है। 

सीसीएल में भोजपुरी दंबगों ने चेन्‍नई राइनोज को हराया

: आदित्‍य ने खेली विजयी पारी : उदय भी चमके : सीसीएल में पहली बार शामिल हुई भोजपुरी फिल्म इंडस्‍ट्री की टीम भोजपुरी दबंग ने शनिवार को अपने पहले ही मैच में तमिल फिल्म इंडस्‍ट्रीज़ की टीम को हराकर एक इतिहास को जन्म दिया है. आम तौर पर हलके में ली जा रही भोजपुरी दबंग की दबंगई से सीसीएल की बाकी टीमों में अब भोजपुरी दबंग का आतंक है. चर्चित चेहरों की नाकामी के बीच भोजपुरी दबंग के आदित्य के उदय से यह कयास लगाया जाने लगा है कि भोजपुरी दबंग बाकी मैच में भी अपनी दबंगई दिखायेगी. 

हमवतन से विशेष संवाददाता आनंद सिंह का इस्‍तीफा

हमवतन से खबर है कि गोरखपुर में जिम्‍मेदारी संभाल रहे विशेष संवाददाता आनंद सिंह ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे इस अखबार की लांचिंग के समय से ही जुड़े हुए थे. यूपी के कई जिलों में अखबार के प्रसार समेत तमाम जिम्‍मेदारियों को वे संभाल रहे थे. माना जा रहा है कि उनके इस्‍तीफा देने के बाद अखबार को बड़ा झटका लग सकता है. आनंद सिंह का तबादला प्रबंधन ने गोरखपुर से कोलकाता के लिए कर दिया था, जिसके बाद उन्‍होंने अखबार छोड़ने का निर्णय लिया. 

शहीद के परिवार ने कहा- अब मिला है अशोक चक्र से बड़ा सम्‍मान

 

: अफजल की फांसी में देरी होने के चलते सीकर के शहीद जेपी यादव के परिवार ने लौटा दिया था सम्‍मान : झुंझुनू। चेहरे पर पड़ी झुर्रियों के बीच जैसे ही शनिवार सुबह नीमकाथाना में रहने वाली 75 साल की बुजुर्ग महिला शिमली देवी को यह पता चला कि 13 दिंसबर 2001 पर देश की अस्मिता की प्रतीक संसद पर हमला करने के मुख्य रणनीतिकार अफजल गुरु को फांसी हो गई है, उसकी आंखें खुशी से चमक उठीं। उसके कदमों में तेजी आ गई और वह अपने बेटे जेपी यादव की फोटो के पास जा पहुंची। उसे हाथों में उठाया। माथे से लगाया। बेटे का माथा चूमा और कुछ बुदबुदायी, जिसका मजमून यही था कि आज मेरे बेटे की शहादत को सम्मान मिल गया।

जम्‍मू-कश्‍मीर में तनाव जारी, टीवी प्रसारण शुरू

 

भारत के संसद पर हमला करने के दोषी अफज़ल गुरू की फाँसी के बाद से ही जम्मू-कश्मीर में तनाव की स्थिति बनी हुई है. सरकार ने रविवार को भी घाटी के 10 ज़िलों में अनिश्चितकालीन कर्फ़्यू जारी रखा है. शनिवार को अफ़ज़ल को फाँसी दिए जाने के बाद से घाटी में कर्फ्यू लगा दिया गया था तथा मोबाइल, इंटरनेट सेवा एवं टीवी सेवाओं को बंद कर दिया गया था. मोबाइल और इंटरनेट सेवा अब भी बंद है, जबकि टीवी प्रसारण शुरू कर दिया गया है. 

सौ बांग्ला लेखकों में तीस प्रतिशत बिहार के लेखक हैं

 

: पूर्णिया में सतीनाथ भादुड़ी के साहित्य पर विमर्श : ‘ढोढाइ चरित्रमानस’ कोसी अंचल के सामाजिक जीवन का आईना है : बांग्ला के प्रसिद्ध साहित्यकार सतीनाथ भादुड़ी द्वारा स्थापित पूर्णिया जिला मुख्यालय का ऐतिहासिक पुस्तकालय ‘इंदु भूषण पब्लिक लाईब्रेरी’ में 7 फरवरी को आयोजित साहित्यिक विमर्श में हिन्दी एवं बांग्ला के साहित्यकारों की भागीदारी रही। इस विमर्श में इस पुस्तकालय के सचिव शंभुनाथ गांगुली, मनोज मुखर्जी, तपन बनर्जी, रोमेन चैधरी, आलो राय, विश्वंभर नियोगी, अजय कुमार एवं मधेपुरा से आये कवि अरविन्द श्रीवास्तव मौजूद थे। इस विमर्श का संचालन कथाकार एवं आलोचक अरुण अभिषेक कर रहे थे।

हिंदुस्‍तान में जहांगीर राजू एवं पंकज जोशी का तबादला

हिदुस्‍तान, उत्‍तराखंड से खबर है कि यहां पर दो बदलाव किए गए हैं. माना जा रहा है कि संपादक गिरीश गुरनानी ने अखबार को मजबूत बनाने के लिए ये बदलाव किए हैं. जनपद उधम सिंह नगर के ब्‍यूरोचीफ जहांगीर राजू का तबादला हल्‍द्वानी के लिए कर दिया है. वे रुद्रपुर में बैठते थे. जहांगीर पिछले अठारह सालों से पत्रकारिता में सक्रिय हैं. उनकी गिनती तेजतर्रार पत्रकारों में की जाती है. 

भाजपा के ‘कुंभ’ एजेंडा पर भार पड़ा कांग्रेस का ‘फांसी’ दांव

लखनऊ। कुंभ में मौनी अमावस्या के स्नान से ठीक एक दिन पहले अफजल गुरु को फांसी देकर कांग्रेस ने जो राजनैतिक संदेश दिया है उसका अर्थ साफ़ है। यह भगवा ब्रिगेड की कुम्भ की राजनीति का जवाब भी है और चुनाव की आहट भी, जिस तरफ मुलायम सिंह यादव इशारा कर रहे हैं। इलाहाबाद में विश्व के सबसे बड़े आध्यात्मिक समागम में सबसे ज्यादा लोग रविवार को ही मौजूद रहेंगे, जिनमें से आधे से ज्यदा पहुँच भी चुके हैं। विश्व हिन्दू परिषद ने इस मौके का राजनैतिक फायदा उठाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है और इलाहबाद में संगम की और जाने वाले रास्ते पर हिन्दुओं को जगाने वाले तरह तरह के पोस्टर लगे हुए हैं। 

राजस्‍थान के बहरोड़ में संपादक पर जानलेवा हमला

 

राजस्थान में बहरोड़ कस्बे के स्थानीय साप्ताहिक समाचार पत्र 'राठ समर' के संपादक हनुमान गोयल पर समाचार प्रकाशित करने से नाराज केमिकल फैक्ट्री वालों ने अपने 8-10 गुण्डों से उन पर जानलेवा हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। गौरतलब है कि बहरोड़ के सोतानाला स्थित अम्बे केमिकल फैक्ट्री के प्रदूषण से किसानों की 80 बीघा सरसों चने की फसल बर्बाद हो गई थी। इस खबर को 'राठ समर' ने प्रमुखता से उठाया था। 

राजेंद्र यादव ने किया ज्‍योति कुमारी की किताब का लोकार्पण

वाणी प्रकाशन द्वारा प्रकाशित युवा कथाकार ज्योति कुमारी के पहले कहानी संग्रह 'दस्तख़त और अन्य कहानियाँ' का लोकार्पण विश्व पुस्तक मेले में वाणी प्रकाशन के स्टाल पर प्रख्यात साहित्यकार राजेंद्र यादव, प्रख्यात आलोचक निर्मला जैन, व वरिष्ठ लेखक रमेश पोखरियाल निशंक, वरिष्ठ कवि अशोक चक्रधर, वरिष्ठ साहित्यकार मैत्री पुष्पा और जर्मनी से आये साहित्य प्रेमी डॉ अहमद वासी आदि की उपस्थिति में हुआ।

गोरखालैंड आंदोलन : नीतिहीन राजनीति का एक पासा

 

गोरखालैंड आंदोलन को लेकर हमने पहले भी काफी कुछ लिखा है। कई अहम् खुलासे किये, आंदोलन की आफ़ियत को ले संबंधित जमैयत को हर कठिन मोड़ व सही वक़्त पर आगाह किया। नेताओं को मेरी बात शायद नागवार गुज़री। उन्हें लगा कि हम सियासत की ज़मीन तलाश रहे, उनके आबोताब में ख़लल डाल रहे…। और समतल के जिन नेताओं को आंदोलन पर सख़्त एतराज था, उन्होंने तो म्यान से तलवारें खींच लीं, शायद उन्हें लगा कि हम भी समतल से पहाड़ को अलग करने के सियासी खेल में शामिल हैं। 

दैनिक भास्‍कर से राजीव दत्‍त का इस्‍तीफा, आशीष की नई पारी

दैनिक भास्‍कर, गुड़गांव से खबर है कि राजीव दत्‍त पांडेय ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर ब्‍यूरो चीफ थे. राजीव पिछले आठ सालों से दैनिक भास्‍कर को अपनी सेवाएं दे रहे थे. खबर है कि वे दिल्‍ली में हिंदुस्‍तान ज्‍वाइन करने वाले हैं. उन्‍हें चीफ रिपोर्टर बनाया जा रहा है. राजीव इसके पहले अमर उजाला को भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं. उनकी गिनती तेजतर्रार पत्रकारों में की जाती है. 

जौनपुर में प्रतिबंध के बावजूद चालू हो गई झूला फैक्‍ट्री!

 

जौनपुर। केराकत क्षेत्र के नाऊपुर ग्राम स्थित झूला वनस्पति लिमिटेड को प्रदूषण विभाग द्वारा सील किए जाने के दूस दिन ही मिल प्रबंधन द्वारा ताला तो़ड़कर कार्य शुरु कर दिया गया तथा बताया गया कि प्रदूषण विभाग द्वारा अनुमति दे दी गयी है। जबकि उक्त विभाग के अधिकारियों ने ऐसी कोई अनुमति दिए जाने से इनकार किया है। बताते चलें कि नाऊपुर स्थित झुनझुनवाला की झूला वनस्पति लिमिटेड फैक्ट्री को गत 22 जनवरी को प्रदूषण के मानक के विरुद्ध पाए जाने पर प्रदूषण बोर्ड के एसीपी टीपी श्रीवास्तव व तत्कालीन एसडीएम रामभजन सोनकर ने मयफोर्स के साथ पुंचकर सील कर कामकाज ठप करवा दिया था। 

भव्‍य तरीके से जनसंदेश टाइम्‍स ने बनारस में मनाया पहला वर्षगांठ

: कई कर्मचारी हुए सम्‍मानित : जनसंदेश टाइम्‍स, बनारस के एक वर्ष 6 फरवरी को पूरे हुए. इसके उपलक्ष्‍य में शनिवार को बनारस के आइडियल टॉवर में रंगारंग कार्यक्रम के साथ भव्‍य आयोजन किया गया. कार्यक्रम के मुख्‍य अतिथि एनसीईआरटी के पूर्व चेयरमैन जगमोहन सिंह राजपूत थे. स्‍थापना दिवस परक 2013 के नाम से आयोजित इस कार्यक्रम में एक गोष्‍ठी का भी आयोजन किया गया, जिसका विषय था- काशी के विकास में मीडिया की भूमिका. इस मौके पर बनारस यूनिट में बेहतर काम करने वाले लोगों को सम्‍मानित भी किया गया. 

जनसंदेश टाइम्‍स, बनारस अपने पाठकों से कर रहा धोखा

जनसंदेश टाइम्‍स, बनारस अपने सारे यूनिटों से अलग चल रहा है. यहां खुलेआम पाठकों को गलत सूचनाएं दी जा रही हैं. जबकि इंटरनेट के जमाने में अब गलत सूचनाओं को छुपा पाना उतना आसान नहीं रहा है, फिर भी पुरातन दौर की संपादकीय टीम पाठकों को मूर्ख बनाने से चूक नहीं रही है. पढ़ने वालों को धोखा भी दे रही है. मामला एडिट पेज पर जाने वाली पाठकों की चिट्ठियों की है. जनसंदेश टाइम्‍स का एडिट पेज लखनऊ में तैयार होता है तथा जनसंदेश टाइम्‍स के गोरखपुर, बनारस, कानपुर, इलाहाबाद को भेजा जाता है. 

भ्रष्‍ट पत्रकारिता (8) : ‘गरीब पत्रकार’ बन गए आ‍लीशान हवेलियों के मालिक?

लखनऊ। यूपी के कई दिग्गज पत्रकारों के लिए पत्रकारिता शोपीस बन गई है, तभी तो इसकी आड़ में पत्रकारिता के बजाए फंड मैनेजर का काम कर रहे हैं। अब काफी संख्या में पत्रकारों में गलत कार्यों की कलई खोलने के बजाए मलाई खाने का कल्चर काफी बढ़ गया है। 

भ्रष्‍ट पत्रकारिता (7) : नोटिस के बाद भी सरकारी आवासों में जमे हैं पत्रकार

यूपी के इतिहास में पहली बार 54 पत्रकारों को सरकारी आवास खाली कराने का नोटिस राज्य सम्पत्ति विभाग ने दिया। इसका श्रेय प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री राकेश गर्ग, सचिव मुख्यमंत्री अनीता सिंह और राज्य सम्पत्ति विभाग के विशेष सचिव राजकिशोर यादव को जाता है। बीते 9 नवम्बर 2012 को हुई पत्रकारों के आवास आवंटन और नवीनीकरण के लिए हुई बैठक में यह बात सामने आई कि काफी संख्या में अपात्र पत्रकार सरकारी आवासों पर निवास कर रहे हैं। 

भ्रष्‍ट पत्रकारिता (6) : सूचना विभाग भी कन्‍फ्यूज – पत्रकार हैं या मैनेजर?

नौकरशाही के लचीले रुख के कारण तथाकथित पत्रकार पंकज वर्मा राजभवन कालोनी के आवास संख्या पांच (टाइप-5) में कई वर्षों से नियम-कानून को ताक पर रखकर निवास कर रहे हैं। सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग अभी यह तय नहीं कर पाया है कि श्री वर्मा पत्रकार हैं या मैनेजर। सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग का मानना है कि पंकज वर्मा न तो पूर्णकालिक पत्रकार की श्रेणी में आते हैं और न ही राजनीतिक सम्पादक। उनको राजनीतिक सम्पादक के रूप में आवंटित हुआ आवास नियमों के तहत उचित हैं। आवास आवंटन को बचाए रखने के लिए पंकज वर्मा कोर्ट गए, लेकिन कोई राहत नहीं मिली। 

भ्रष्‍ट पत्रकारिता (5) : नवीन जोशी और इंदुशेखर पंचोली अच्‍छी पत्रकारिता के रोड मॉडल

निष्पक्ष दिव्य संदेश में प्रकाशित हो रही खबरों से मीडिया के कुछ पत्रकारों की प्रतिक्रिया उत्साहित करने की रही और कुछ पत्रकारों को यह नागवार गुजरा। लेकिन मीडिया के लगभग 70 फीसदी पत्रकारों ने निष्पक्ष दिव्य संदेश की खबरों की प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष सराहना की है। मीडिया से जुड़े लोगों का मानना है कि पत्रकारिता के दिग्गजों को इस बात का खास ध्यान रखना चाहिए कि उनके आचरण से पत्रकारिता के पवित्र पेशे पर उंगली न उठे। 

भ्रष्‍ट पत्रकारिता (4) : स्‍वतंत्र एवं वरिष्‍ठ के नाम पर उठा रहे गलत फायदा

लखनऊ में स्वतंत्र और वरिष्ठ पत्रकारों की भरमार है। स्वतंत्र पत्रकारों में के. विक्रम राव, घनश्याम दुबे, योगेन्द्र द्विवेदी, अजय कुमार, सर्वेश कुमार सिंह, राजीव शुक्ला, अनूप श्रीवास्तव, सुरेश द्विवेदी, मसूद हसन, निरंकार सिंह, रवीन्द्र सिंह, मुदित माथुर, हसीब सिद्दीकी, राम उग्रह, श्याम कुमार, कुलसुम तल्हा, अजय कुमार सिंह, मुकेश कुमार अलख, कुमार सौवीर, राजेश नारायण सिंह, पवन कुमार सिंह हैं। 

भ्रष्‍ट पत्रकारिता (3) : लाल बत्‍ती की लालसा में परेशान हैं

बात एक ऐसे पत्रकार की जो कभी अपने को राष्‍ट्रीय स्वंय संघ की  पृष्ठभूमि बताकर लाभ लेते रहे और अब वे मौजूदा सरकार से कोई लाभ का पद लेने के लिए खासे उतावले है। कई बार अपना बायोडाटा ऊपर तक पहुंचा चुके है। उनकी करीबियों की माने तो उन्होंने पद्मश्री पाने के लिए एक सिफारिशी चिट्ठी लिखाई। यही नहीं इससे पूर्व उन्होंने सरकार से लालबत्ती करने के लिए काफी कोशिश की लेकिन बाकी लोगों की तरह उन्हें इंतजार करने की घुट्टी दे दी गई। 

भ्रष्‍ट पत्रकारिता (2) : लाभ पाने में खुद सबसे आगे, दूसरों को नसीहत

कमोबेश यही स्थिति एक वरिष्ठ पत्रकार की है एक विदेशी न्यूज एजेन्सी का संवाददाता होने के साथ ही वे काफी समय तक पत्रकारों के नेता भी रहे हैं। इलाहाबाद के बाद लखनऊ को अपनी कर्मभूमि बनाने वाले यह महोदय नहीं चाहते कि उनके आगे कोई दूसरा अपने को सत्तारूढ़ दल का सबसे बड़ा वफादार साबित करे। प्रेस क्लब हो या मान्यता समिति दोनों के लिए अध्यक्ष रह चुके यह महोदय कंधे पर बैग टांगे लोगों को स्वस्थ्य पत्रकारिता के टिप्स दिया करते है।

भ्रष्‍ट पत्रकारिता (1) : पत्रकार हैं- लड़ते-भिड़ते, उलझते-गालियां खाते दिख ही जाते हैं

दो तीन समाचार पत्रों के ब्यूरोचीफ की जिम्मेदारी निभा चुके यह महोदय इन दिनों अपनी इस समय एक ऐसे समाचार पत्र में यह ओहदा संभाले हुए है। जिसकी बुनियाद में ही बसपा सरकार के घोटालेबाज मंत्री का सब कुछ लगा है। हमेशा दूसरों को परेशान करने के लिए परेशान रहने वाले इन महोदय के सामने इस समय पहचान का बड़ा संकट है। जब किसी अधिकारी या नेता को फोन करते है तो पहले उस अखबार का नाम बताते हैं, जहां पहले काम करते थे फिर कहते हैं सरजी अब इस अखबार को देख रहा हूं। 

‘हे राम’ पर भी कालिख पोत दूं क्या?

 

नौ चित्रांसों को काट कर कमल हासन की फिल्म ‘विश्वरुपम’ को तमिलनाडू में इसके प्रदर्शन की इजाजत दे दी गयी है। लेकिन इसके प्रदर्शन पर उत्पन्न विवाद ने वाणी की स्वतंत्रता पर कई सवाल खड़ा कर दिया है। हालांकि सोनिया गांधी के निर्देशानुसार केन्द्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने भी ‘विश्वरुपम’ पर अपना बयान बदल दिया है। कमल हासन की फिल्म ‘विश्वरुपम’ के प्रदर्शन के सवाल पर वे पहले अलग राग अलाप रहे थे। उनका कहना था कि फिल्म के प्रदर्शन से अगर देश में विधि व्‍यवस्था की स्थिति उत्पन्न होती है तो फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगाया जा सकता है। लेकिन मामला मद्रास उच्च न्यायालय में विचाराधीन होने की वजह से कांग्रेस विवाद से दूर रहने की नीति पर चल रही थी।

लिम्का ‌रिकॉर्ड बुक में दर्ज हुआ अमर उजाला गली क्रिकेट

 

बीते साल की 12 मई को देश की सबसे बड़ी गली क्रिकेट लीग के पुरस्कार वितरण समारोह में जब सिंगर सुखविंदर ने ‘जय हो…अमर उजाला’ गाया, तभी फिजाओं ने मान लिया था कि सामाजिक सरोकारों से युवाओं को जोड़ने की लोकप्रिय समाचार पत्र अमर उजाला की मुहिम रिकॉर्ड बुक में भी चमकेगी। 

राजेन शायद देश में इकलौते सरकारी कर्मचारी थे जो दैनिक अखबार की पत्रकारिता भी करते थे

 

एक ऐसा व्यक्ति अचानक गुजर जाए, जिसके साथ हाल के दिनों में आपके तीखे वैचारिक मतभेद रहे हों और बेहद तीखी बहस में आप रहे हों, तो उनके बारे में कैसे लिखा जाए? भारतीय परम्परा यह है कि मृत्युपरांत व्यक्ति के बारे में सब अच्छा ही बोला और लिखा जाता है. एक रास्ता यह भी है कि जब हमारा इतना झगड़ा था तो लिखा ही क्यूँ जाए? पर झगडा कोई व्यक्तिगत तो था नहीं, वैचारिक था. इसमें वे एक धारा के प्रतिनिधि थे और मैं एक विचारधारा का. मैं बात कर रहा हूँ 5 फरवरी 2013 को इस दुनिया से रुखसत हुए प्रख्यात पत्रकार राजेन टोडरिया जी की.

राजेन टोडरिया से नए पत्रकारों को सीख लेनी चाहिए

 

रुद्रपुर। पत्रकार एवं आंदोलनकारी एस राजेन टोडरिया के निधन पर साहित्य, पत्रकारिता और जनआंदोलनों से जुड़े लोगों ने शोक प्रकट किया है। मालम हो कि 56 वर्षीय प्रखर लेखक-वक्ता और पत्रकार टोडरिया का 5 फरवरी को दिल का दौरा पड़ने के बाद देहरादून के सीएमआई अस्पताल में निधन हो गया। जिससे पत्रकारिता, साहित्य के साथ ही जनआंदोलनों से जुड़े लोगों में दुख की लहर दौड़ गयी है। 

खबर भारती के कर्मियों में खलबली, प्रज्ञान ने कहा सब ठीक है

 

चेयरमैन पुष्‍पेंद्र सिंह बघेल की गिरफ्तारी के बाद खबर भारती के भीतर खलबली है. यहां काम कर रहे पत्रकार तथा गैर पत्रकार मीडियाकर्मियों को अब अपना भविष्‍य अंधकारमय नजर आने लगा है. अब उन्‍हें लग रहा है उनकी सैलरी मिलनी भी मुश्किल हो जाएगी. हालांकि चैनल की जिम्‍मेदारी संभाल रहे प्रज्ञान भट्टाचार्या इस तरह की किसी भी संभावना से पूरी तरह इनकार करते हुए कहते हैं कि चेयरमैन को झूठे फंसाए जाने से चैनल पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है. सब कुछ स्‍मूथली चल रहा है.

जी टीवी को पछाड़कर फिर नम्‍बर एक हुआ स्‍टार प्‍लस

 

इंडियन एंटरटेन्मेंट टेलीविजन के वीक 5 की रेटिंग आ गई है. इस बार ये रेटिंग कई नए सरप्राइज लेकर आई है. स्‍टार प्‍लस एक बार फिर नम्‍बर वन चैनल बन गया है. पिछले सप्‍ताह ही जी टीवी ने इसे हटाकर दूसरे पायदान पर कर दिया था. इस बार स्टार प्लस 281 जीआरपी के साथ नंबर वन पर है. वहीं नंबर वन से जीटीवी 214 जीआरपी के साथ नंबर दो पर आ गया है. कलर्स पांचवें सप्ताह भी 210 जीआरपी के साथ तीसरे नंबर की पोजीशन पर बरकरार है.

जी न्‍यूज ने जीतेश राजदेव को प्रमोट कर सीएसओ बनाया

  जी न्‍यूज में जीतेश राजदेव को प्रमोट कर दिया गया है. उन्‍हें यहां पर चीफ सेल्‍स ऑफिसर बनाया गया है. जीतेश जी न्‍यूज से जुड़े सभी चैनलों के सेल्‍स की जिम्‍मेदारी संभालेंगे. उनकी रिपोर्टिाग जी न्‍यूज के सीईओ आलोक अग्रवाल को होगी. राजदेव को कुछ समय पहले डीएनए का रिवेन्‍यू हेड बनाया गया था. …

‘हिमाचल आजकल’ बुलेटिन फिर से हो गया बंद

 

हिमाचल प्रदेश से खबर है कि 'हिमाचल आजकल' बंद हो गया है. इसको बंद करने की घोषणा इसके मालिक कर्नल सबरवाल ने की. हिमाचल आजकल शिमला के वरिष्‍ठ पत्रकार कृष्‍णभानु के नेतृत्‍व में लांच हुआ था. परन्‍तु मैनेजमेंट से अनबन के बाद उन्‍होंने इसे छोड़ दिया था. हिमाचल आजकल का प्रसारण लुधियाना से सं‍चालित होने वाले गुलिस्‍तान चैनल पर होता था. कृष्‍णभानु के जाने के बाद प्रबंधन ने इसे चलाने के लिए वरिष्‍ठ पत्रकार गोपाल शर्मा को भी अपने से जोड़ा, परन्‍तु गोपाल शर्मा ने भी इसे चलाने से इनकार कर दिया.   

संतों की मांग को आजम ने कहा साजिश, कुपित संन्‍यासियों ने लगाया जाम

 

इलाहाबाद। कुंभनगरी में गंगाजल की गुणवत्ता को लेकर संत-महात्माओं का कोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। कुपित महात्माओं ने साफ तौर पर कह दिया है कि मेला में आने वाले नेता बयान में संयम बरतें। खास बात यह है कि मौनी अमावस्या का प्रमुख स्नान पर्व रविवार को है। तीन दिन पहले ही कुंभ मेला में गंगा में साफ जल की मांग शुरू हो गई। यहां तक कि गुरुवार को सैकड़ों संन्यासियों ने गंगापुल पर पहुंचकर इलाहाबाद-वाराणसी मार्ग का रास्ता जाम कर दिया। गुस्साए संत-महात्माओं ने स्नान का भी बहिष्‍कार किया। उनकी नाराजगी नगर विकास मंत्री आजम खां के उस बयान से ज्यादा बढ़ा जिसमें उन्होंने मीडिया से गंगाजल की गुणवत्ता पर सवाल उठाने को साजिश और दुष्‍प्रचार करार दे दिया था।

इस टीवी पत्रकार को लगता है कि अफजल निर्दोष था!

 

इस्लामाबाद। संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरु को शनिवार सुबह दिल्ली में फांसी दे दिए जाने के बाद पाकिस्तानी टेलीविजन प्रस्तोता और पत्रकार हामिद मीर का कहना है कि वह निर्दोष था। हामिद ने ट्विटर पर लिखा, मुझे लगता है कि वह निर्दोष था, लेकिन भारत में फांसी दे दी गई। 13 दिसम्बर, 2001 को पांच हथियारबंद पाकिस्तानी आतंकवादी संसद परिसर में घुस आए थे और उसके बाद उन्होंने गोलीबारी शुरू कर दी थी। इस घटना में नौ लोगों की जान चली गई थी। 

जागरण समूह ने लांच किया नईदुनिया को नेशनल संस्‍करण

 

जागरण प्रबंधन ने नईदुनिया का नेशनल संस्‍करण लांच कर दिया है. इसके लिए काफी समय से तैयारियां चल रही थीं. शनिवार को इस अखबार को दिल्‍ली तथा एनसीआर के बाजार में फिर से उतार दिया गया, परन्‍तु इस बार बदलाव यह रहा कि पिछली बार इसके मालिक विनय छजलानी थे तो इस बार इसका स्‍वामित्‍व दैनिक जागरण के पास है. माना जा रहा है कि नईदुनिया के लांच होने के बाद नेशनल दुनिया को भी इसका झटका लगेगा.

कोर्ट ने लगाई फटकार, सुधीर चौधरी-समीर आहलूवालिया नहीं कर सकते मनमानी

 

दिल्ली की एक अदालत ने साफ कहा है कि कांग्रेस सांसद नवीन जिंदल के उद्योग समूह से 100 करोड़ रुपये की वसूली के प्रयास के आरोपों की जांच में घिरे जी न्यूज के दोनों संपादक आवाज के सैंपल देने के मामले में किसी तरह की ‘मनमानी’ नहीं कर सकते। कोर्ट ने कहा कि इस मामले में उनकी कोई शर्त नहीं मानी जाएगी। कोर्ट ने जी न्यूज के संपादक सुधीर चौधरी और जी बिजनेस के संपादक समीर अहलुवालिया की इस याचिका को खारिज कर दिया कि वह जांचकर्ताओं को जिंदल समूह द्वारा किए स्टिंग ऑपरेशन से तैयार एक ऑडियो क्लिप की ‘ट्रांस्क्रिप्ट’ (प्रतिलिपि) को पढ़ कर अपनी आवाज के नमूने लेने से रोके।

जदयू से पहले भाजपा को ही तोड़ लेना चाहिए अपना नाता

 

राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन का आधार भारतीय जनता पार्टी है। बड़े घटकों में अकाली दल, शिवसेना और जद यू प्रमुख हैं। यहाँ ध्यान देने की प्रमुख बात यह है कि अकाली दल पंजाब से बाहर की बात नहीं करता, वैसे ही शिवसेना महाराष्ट्र तक सीमित रहती है। भाजपा के अंदरूनी मामलों में यह दोनों ही प्रमुख दल ख़ास रूचि नहीं लेते, पर जद यू की ओर से भाजपा को आये दिन चेतावनी मिलती रहती है। जद यू का बिहार के बाहर ख़ास जनाधार नहीं है, फिर भी चुनाव के दौरान बिहार के बाहर भी हस्तक्षेप करती रहती है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भाजपा में होने वाली अंदरूनी गतिविधियों में भी अपनी टिप्पणी ही नहीं करते, बल्कि चेतावनी देते हुए आये दिन हस्तक्षेप भी करते रहते हैं।

जनसत्‍ता में भी प्रकाशित हुआ ज्‍योति कुमारी का पत्र

युवा कहा‍नीकार ज्‍योति कुमारी के नई किताब के प्रकाशन को लेकर साहित्‍यजगत में विवाद है. राजकमल प्रकाशन ने ज्‍योति कुमारी के किताब के प्रकाशन की सूचना जनसत्‍ता में प्रकाशित करवा दी. जबकि उक्‍त किताब दूसरे नाम से वाणी प्रकाशन के यहां प्रकाशित हुई है. जनसत्‍ता में भी राजकमल प्रकाशन के प्रेस नोट के आधार पर एक सूचना प्रकाशित हुई. चूंकि सूचना जनसत्‍ता में प्रकाशित थी, इसलिए इस पर विवाद भी ज्‍यादा हो गया, क्‍योंकि जनसत्‍ता की पहचान ही अलग और सही पत्रकारिता करने की रही है. 

लेखकों की रायल्‍टी मारकर हरम पर लुटाने लगे हैं प्रकाशक

ज्योति, जनसत्ता और प्रकाशक : आज की तारीख में जब कुछ प्रकाशक औरतखोर बन कर शहर-दर-शहर शिकारी बन कर आखेट कर रहे हैं। किताब छापने से ले कर पुरस्कार तक बांट रहे हैं। पुरस्कार खरीद कर दे दे रहे हैं, उन पर केंद्रित पत्रिकाओं के विशेषांक निकलवा दे रहे हैं और बिकवा दे रहे हैं। कुछ स्वनाम-धन्य लेखिकाएं भी गदगद हुई बहती जा रही हैं उन के प्रलो्भनों में। और अपने को अमर मानती जा रही हैं। 

नवभारत छोड़ विजय सिंह दैनिक भास्‍कर पहुंचे

 

नवभारत (मुंबई) के वरिष्ठ संवाददाता विजय सिंह कौशिक ने संस्थान से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने अपनी नई पारी दैनिक भास्कर में बतौर प्रमुख संवाददाता शुरू की है. मुंबई के तेजतर्रार पत्रकारों में शुमार विजय सिंह पिछले साढ़े सात साल से नवभारत के साथ थे. कई बीटों पर अखबार को अपनी सेवा देने के बाद फिलहाल मंत्रालय बीट कवर कर रहे थे. उनके 'नवभारत' छोडऩे से मुंबई में इस अखबार को तगड़ा झटका लगा है. 

मौत के डर से अफजल तो कांपा ही था, यह आतंकी तो पागल हो गया है

 

नई दिल्ली। मौत बांटने वाले भी कभी अपने ही अंत से डर जाते हैं। हां ऐसा ही हाल देश के लोकतंत्र के मंदिर पर हमला करने वाले आतंकी अफजल गुरु का हुआ था। जब उसे टीवी पर मुंबई हमले के सबसे बड़े दोषी अजमल आमिर कसाब की फांसी की बात पता चली थी तो अफजल गुरु के चेहरे का रंग ही उड़ गया था, उसके माथे पर शिकन दिखाई देने लगी थी। इससे भी बुरा हाल तो 1993 में दिल्ली में यूथ कांग्रेस कार्यालय के बाहर बम विस्फोट करने वाला देवेंद्र सिंह भुल्लर का हुआ था। वह जेल में ही अपनी मौत के खौफ से बीच-बीच में चिल्लाने लगता था।

कसाब के बाद अफजल गुरु को भी फांसी पर लटकाया गया

भारतीय संसद पर वर्ष 2001 में हुए हमले के लिए दोषी करार दिए गए अफजल गुरु को आज सुबह तिहाड़ जेल में फांसी दे दी गई। केंद्रीय गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे ने अफजल को फांसी दिए जाने की पुष्टि की है। अफजल गुरु को तिहाड़ में जेल नंबर तीन में हाई सिक्युरिटी वार्ड में रखा गया था और इसी वार्ड से 10-20 मीटर की दूरी पर स्थित फांसी घर में उसे फांसी दी गई। सूत्रों के मुताबिक उसे तिहाड़ जेल में ही दफनाया जाएगा।

आखिर मीडिया वालों पर इतना क्‍यों भड़क गए रामगोपाल यादव?

 

समाजवादी पार्टी महासचिव प्रो. राम गोपाल यादव अब मीडिया पर भड़कने लगे हैं. उन्‍होंने मीडियाकर्मियों को ना केवल दागी कहा बल्कि इशारों इशारों में अपनी ताकत का एहसास भी कराया. बनारस में जब पत्रकार उनसे दागियों को मंत्रिमंडल में शामिल करने के संदर्भ में सवाल पूछा तो वे भड़क गए तथा कहा कि दा‍गी पंडित सिंह नहीं बल्कि सबसे बड़े दागी आप लोग हैं, जो ऐसी बातें कर रहे हैं. उन्‍होंने तत्‍काल नसीहत भी दी कि मीडिया को जज की भूमिका नहीं निभानी चाहिए. दागी वो है जिसे अदालत सजा देती है. 

सहाफत अखबार पर हमले के खिलाफ हेमंत तिवारी के नेतृत्‍व में लामबंद हुए पत्रकार

 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश राज्य मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति ने ऊर्दू दैनिक सहाफत के कार्यालय पर हुए हमले की कड़ी निंदा करते हुए सरकार से हमलावरों को गिरफ्तार कर कड़ी सजा देने का मांग की है। समिति की कार्यकारिणी की आज विधान भवन के प्रेस कक्ष में हुयी बैठक में इस मामले पर चर्चा की गयी और हमले के दोषियों पर कड़ी धाराओं में मुकदमा दर्ज करने की मांग की गयी। 

एक दशक में ‘आदमखोर हसीना’ समेत 256 फिल्‍में रोक दीं सेंसर बोर्ड ने

 

वर्ष 2001 से 2011 में भारतीय सेंसर बोर्ड द्वारा कुल 256 फिल्मों को प्रदर्शन की अनुमति देने से मना किया गया. इनमे एक वर्ष मे 2006 में सर्वाधिक 59 फ़िल्में प्रतिबंधित की गयी, जबकि 2002 में 33 तथा  2004 में 31 फिल्मों को सेंसर बोर्ड द्वारा प्रदर्शन की अनुमति नहीं मिली. 2010 में सबसे कम नौ फिल्मों पर सेंसर बोर्ड की रोक लगी. 2001 में जिन 19 फिल्मों पर रोक लगीं वे सभी अंग्रेजी फ़िल्में थीं.

दुरभिसंधियों पर सार्थक बहस रचनाकार को महत्‍वपूर्ण बनाता है

 

: कथाकार बलराम की रचनाधर्मिता पर संगोष्ठी : “वर्तमान समय हमारी रचनात्मकता के लिए सबसे संघर्षपूर्ण समय है, जिसका सामना करना लेखक के लिए सबसे बड़ी चुनौती है। अपने समय के सरोकारों को अपनी रचनात्मकता में अभिव्यक्त करना ही लेखक का उद्देश्य है”- प्रस्तुत उद्गार महाराष्ट्र राज्य हिंदी साहित्य अकादेमी के अध्यक्ष एवं प्रसिद्ध साहित्यकार श्री दामोदर खड़से ने व्यक्त किये। श्री खड़से हिंदी विभाग, मणिबेन नानावटी महिला महाविद्यालय, मुंबई एवं दुनिया इन दिनों पत्रिका (भोपाल) द्वारा जाने-माने रचनाकार श्री बलराम की रचनाधर्मिता पर आयोजित एक कार्यक्रम में अध्यक्ष के रूप में बोल रहे थे। 

दैनिक हिंदुस्तान के फोटोग्राफर सुभाष शर्मा ने सूरजकुंड मेले में जीती प्रतियोगिता

 

फरीदाबाद। 27वें अंतर्राष्ट्रीय सूरजकुंड मेले में 6 फरवरी को हुई प्रोफेशनल फोटोग्राफी प्रतियोगिता दैनिक हिंदुस्तान के फरीदाबाद ब्यूरो में कार्यरत फोटोग्राफर सुभाष शर्मा ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। शर्मा पिछले 12 सालों से सूरजकुंड मेले का कवरेज कर रहे हैं। इन्हें बेहतरीन फोटोग्राफी के लिए कई बार विभिन्न मौकों पर सराहा गया है। इनकी गिनती अनुभवी व बेहतरीन फोटोग्राफर में होती है। पहली बार सूरजकुंड मेला प्राधिकरण द्वारा आयोजित प्रतियोगिता में उन्होंने भाग लिया था।

मजीठिया वेज बोर्ड पर अब अगले सप्‍ताह होगी बहस

 

सुप्रीम कोर्ट में पत्रकारों और गैर पत्रकार कर्मचारियों के लिए न्यायमूर्ति मजीठिया वेतन आयोग की सिफारिशों के खिलाफ दायर याचिका पर बहस मंगलवार को भी जारी रहेगी. इस सप्‍ताह की बहस समाप्‍त हो चुकी है. अगले सप्‍ताह मंगलवार, बुधवार एवं गुरुवार को इस मामले में फिर बहस होगी. मजीठिया वेज बोर्ड पर स्‍टे के लिए आनंद बाजार पत्रिका, बेनेट कोलमैन, इंडियन न्‍यूज पेपर सोसाइटी, यूनाइटेड न्‍यूज ऑफ इंडिया, प्रिंटर्स मैसूर प्राइवेट लिमिटेड, राजस्‍थान पत्रिका, ट्रिब्‍यून ट्रस्‍ट, पीटीआई, जागरण प्रकाशन लिमिटेड, एक्‍सप्रेस प्रकाशन (मदुरई) तथा इंडियन एक्‍सप्रेस ने याचिका दायर कर रखी है. 

हिंदुस्‍तान विज्ञापन घोटाला मामले में मेरा पता मांगने वाले मिस्‍टर कपूर कौन हैं?

 

मुंगेर। दिन 05 फरवरी, 13। दोपहर का समय। लगभग एक बज रहे थे। अचानक मेरे मोबाइल पर घंटी बजी। मोबाइल स्क्रीन पर नम्बर आ रहा था- 9910562206। मोबाइल आन करने पर आवाज आई -‘‘हैलो, आप श्रीकृष्ण प्रसाद बोल रहे हैं। मैं पीएम हाउस, नई दिल्ली से बोल रहा हूं। दैनिक हिन्दुस्तान के विज्ञापन फर्जीवाड़ा से जुड़े आपके ‘ई-मेल‘ मिले हैं। प्रधानमंत्री कार्यालय आपसे इस संबंध में पत्राचार करना चाहता है। आप अपना पता मेरे मोबाइल नम्बर पर तुरंत भेजें।‘‘

एबीपी समूह की पत्रिका बिजनेस वर्ल्‍ड साप्‍ताहिक से होगी पाक्षिक

 

क्‍या भारत में प्रिंट मीडिया का भविष्‍य मुश्किल होता जा रहा है? ये सवाल काफी समय से उठते आ रहे हैं. कारण है कई पत्रिकाओं का साप्‍ताहिक से पाक्षिक या फिर मासिक हो जाना. आउटलुक, संडे इंडियन और इस जैसी कई पत्रिकाएं साप्‍ताहिक से पाक्षिक या मासिक हो चुकी हैं. अब खबर है कि आनंद बाजार पत्रिका समूह की अंग्रेजी साप्‍ताहिक बिजनेस पत्रिका 'बिजनेस वर्ल्‍ड' भी अब साप्‍ताहिक से पाक्षिक होने जा रही है. यानी अब पाठकों को महीने में चार की जगह दो पत्रिकाएं ही उपलबध हो पाएंगी. 

भास्‍कर में प्रकाशित खबर से नाराज आशीष खेतान ने संपादक को पत्र भेजा

 

तहलका के पूर्व पत्रकार आशीष खेतान गुजरात दंगों के दौरान एक स्टिंग करके चर्चा में आए थे. आशीष के चलते ही बाबू बजरंगी, जयदीप पटेल समेत कई नेता कानून के शिकंजे में आए थे, परन्‍तु पिछले दिनों आशीष इस मामले में अपनी गवाही से मुकर गए. इस मामले को लेकर दैनिक भास्‍कर, अहमदाबाद में एक खबर प्रकाशित की. इस खबर से आशीष खेतान नाराज हैं. उन्‍होंने संपादक अवनीश जैन को पत्र लिखकर अपनी नाराजगी जताई है. 

सुशील खरे, मनीष श्रीवास्‍तव, सुनील मिश्रा एवं शशांक सिन्‍हा की नई पारी

 

सुशील खरे खबरिया चैनल द न्‍यूज के साथ अपनी नई पारी शुरू करने जा रहे हैं. सुशील को यहां स्‍पेशल करेस्‍पांडेंट बनाया गया है. वे यूपी-उत्‍तराखंड में चैनल की जिम्‍मेदारी संभालेंगे. सुशील इसके पहले हिंद वतन, सहारा, डायलॉग इंडिया मैगजीन, न्‍यूज नेटवर्क ऑफ इंडिया, समाचार प्‍लस चैनल को अपनी सेवाएं दे चुके हैं. द न्‍यूज का प्रसारण दिल्‍ली से किया जा रहा है. अभी तक यह चैनल एमपी-राजस्‍थान में प्रसारित हो रहा है. जल्‍द ही यह यूपी-उत्‍तराखंड में भी दिखने लगेगा.  

”अगर पैसे मांगे तो खुदकुशी कर लूंगा, और नाम भी लिख दूंगा”

 

: कानाफूसी : अगर मुझसे किसी ने पैसे मांगे तो खुदकुशी कर लूंगा. पंजाब में सैंकडों पत्रकारों का करियर से खिलवाड़ करने वाले पंजाब की शक्ति के मालिक राजेश शर्मा लोगों को बकाया देने से बचने के लिए यही तीर आजमा रखा है। बताया जा रहा है कि कुछ रोज के लिए दफ्‍तर खोलकर संपादक से लेकर चपरासी तक का वेतन मारने वाले राजेश शर्मा ने अब रुपये मांगने वालों को धमकाना शुरु कर दिया है। जो भी राजेश शर्मा को फोन करता है उसे वह साफ कह देता कि उनके हालात तो ऐसे हैं कि वह खुदकुशी कर लेगा। 

मोदी के नाम पर भाजपा में उहापोह क्यों?

 

जब से गुजरात चुनाव का प्रचार अभियान शुरू हुआ और उसमें नरेन्द्र मोदी ने हैट्रिक लगाई, एक जुमला सबकी जुबान पर है कि आगामी चुनावी राहुल बनाम मोदी होगा। यहां तक कि विदेशी पत्रिकाओं का भी यही आकलन है कि टक्कर तो इन दोनों के बीच ही होगी। यह आकलन एक अर्थ में तो ठीक था कि मोदी ही अकेले ऐसे नेता के रूप में उभरे हैं, जो कि भाजपा में सबसे ज्यादा चमकदार व आकर्षक हैं, बाकी सारे नेता उनके आगे फीके हैं। यहां तक कि सुषमा स्वराज व अरुण जेटली भी उनके आगे कहीं नहीं ठहरते। वे हैं भले ही दमदार वक्ता और बेदाग, मगर उनके पास मोदी जैसा जनाधार नहीं है।

बूटासिंह तो बड़े आदमी हैं, पर लुच्चे लफंगों को भी सुरक्षा!

सुप्रीम कोर्ट सरकार से नाराज है। बार बार कहने, कई बार आदेश देने और कुछेक बार लताड़ने के बावजूद वीआईपी सुरक्षा के मामले में सरकार गंभीर नहीं है। सवाल किसी किसी वीआईपी की सुरक्षा करने या देने का नहीं है। मामला फालतू लोगों को सुरक्षा देने का है। देश में बहुत सारे लोगों को उनके पद और कद के हिसाब से सुरक्षा तो दे दी जाती है, लेकिन पद से विदाई के बाद भी सुरक्षा अमला उनके साथ ही रहता है। सरकार के लिए यह बहुत बड़ा बोझ है। आर्थिक रूप से भी और पदों की कमी के हिसाब से भी। सुप्रीम कोर्ट नाराज इसलिए भी है क्योंकि ऐसे मामलों की समीक्षा तक नहीं की जा रही है। यही वजह है कि मायावती और मुलायम सिंह जहां जाते हैं, सुरक्षा दस्ते से घिरे रहते हैं। दोनों सिर्फ सांसद हैं। फिर भी हमारे गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे की सवारी उनके सामने फीकी है।

भास्‍कर, बठिंडा में छुट्टी चाहिए तो नौकरी छोड़ो

 

दैनिक भास्‍कर, बठिंडा में छुटटी चाहिए तो नौकरी छोडनी पड़ेगी। क्‍योंकि बठिंडा भास्‍कर के बड़े अधिकारी अधीनस्‍थों को छुट़टी मांगने पर यही आदेश सुना रहे हैं। ताजा मामला सब एडिटर संतोष सुंदरियाल से जुडा है। बताया जा रहा है कि इसी हफ्‍ते के शुरु में वीकली आफ के बाद संतोष सुंदरियाल ने एक दिन का अवकाश मांगा और दिल्‍ली चले गए। पहले तो अधिकारियों ने कुछ नहीं कहा लेकिन जब संतोष लौटे तो उन्‍हें काम करने से मना कर दिया गया। संतोष दो दिन दफ्‍तर भी गए लेकिन उनसे कोई काम नहीं कराया गया। 

वाणी प्रकाशन के स्‍टॉल पर आज लोकर्पित होगी ज्‍योति की किताब

युवा कथाकार ज्‍योति कुमारी की किताब को लेकर राजकमल प्रकाशन ने जनसत्‍ता में गलत सूचना प्रकाशित की है. ज्‍योति ने लिखित रूप से कहा है कि उनकी किताब को वाणी प्रकाशन ने प्रकाशित किया है. उनकी कुछ मुद्दों पर राजकमल प्रकाशन से सहमति नहीं बन पाने पर उन्‍होंने इस किताब को प्रकाशित कराने से इनकार कर दिया था, जिसके बाद वाणी प्रकाशन ने इस किताब को प्रकाशित किया है. वाणी प्रकाशन द्वारा जारी की गई विज्ञप्ति. शुक्रवार यानी आठ फरवरी को पुस्‍तक मेला में ज्‍योति कुमारी की किताब का लोकार्पण होगा. 

पुष्‍पेंद्र को पुलिस ने लिया रिमांड पर, पूछताछ में खुल सकते हैं कई राज

खबर भारती के चेयरमैन पुष्‍पेंद्र सिंह चौहान शुक्रवार को पुलिस रिमांड पर रहेंगे. संभावना जताई जा रही है कि पुलिस पूछताछ में कई पोल खुलने की संभावना है. पुलिस ने बघेल की गिरफ्तारी के बाद साई प्रकाश के कार्यालयों को सीज करना शुरू कर दिया है. फजलगंज स्थित कार्यालय को सीज कर दिया गया है. पुलिस इस समूह से जुड़े एजेंट से लेकर कार्यरत कर्मचारियों की तलाश में जुट गई है.  

यह रही जनसत्‍ता में प्रकाशित ज्‍योति कुमारी से संबंधित सूचना

साहित्‍य के क्षेत्र में लंबे समय से मठाधीशों के वर्चस्‍व की बातें गाहे-बगाहे सामने आती रहती हैं. कुछ समय पहले तक माना जाता था कि अगर नए साहित्‍कार-लेखक-कवि को साहित्‍य में स्‍थापित होना है तो इन मठाधीशों के यहां दरबार लगाना जरूरी है. क्‍योंकि बड़े प्रकाशक इन तथाकथित मठाधीशों के अर्दब में रहते हैं और बिना इनके आशीर्वाद उनकी किताबों का प्रकाशन संभव नहीं है. पर नई पीढ़ी के साहित्‍कार-लेखक इन तथाकथित साहित्‍य के मठाधीशों-प्रका‍शकों के सामने घुटने टेकने की बजाय अब इनसे दो-दो हाथ करने को तैयार हैं. 

”राजकमल प्रकाशन के खेल में शामिल हुआ जनसत्‍ता, छाप दी गलत सूचना”

दिनांक (7 फरवरी 2013) के ‘जनसत्ता’ अखबार के कॉलम दिल्ली में आज सभा-संगोष्ठी के अंतर्गत छपा है कि राजकमल प्रकाशन द्वारा प्रकाशित तीन लेखिकाओं की किताब का लोकार्पण शाम छह बजे होना है। इन तीन लेखिकाओं मे मेरा (ज्‍योति कुमारी) भी नाम है। जो गलत है। मेरी किताब राजकमल प्रकाशन से नहीं बल्कि वाणी प्रकाशन से प्रकाशित हुई है और इसका लोकार्पण 7 फरवरी को नहीं,  08.02.2013 है। वह भी वाणी प्रकाशन के स्टॉल पर। 

जागरण समूह 9 फरवरी को लांच करेगा नईदुनिया का दिल्‍ली एडिशन

काफी पहले से भड़ास पर दी गई खबर एक बार फिर सच हुई है. काफी समय पहले से दिल्‍ली में नईदुनिया को फिर से बसाने की तैयारी कर रहा जागरण समूह इसके लिए 9 फरवरी का दिन तय किया है. शनिवार से इस अखबार की लांचिंग दिल्‍ली में की जा रही है. विनय छजलानी के स्‍वामित्‍व वाले नईदुनिया की लांचिंग आलोक मेहता के नेतृत्‍व में दिल्‍ली में हुई थी. बाद में इस अखबार को दैनिक जागरण समूह ने खरीद लिया तथा इसके दिल्‍ली एडिशन को बंद कर दिया. 

पत्रिका ने चोरी की राज एक्‍सप्रेस की खबर!

 

ग्वालियर। खुद को राजस्थान में सिरमौर होने का दावा करने वाले राजस्थान पत्रिका ग्रुप की मध्यप्रदेश में खबरों की चोरी करने की आदत सी हो गई है। ताजा मामला श्योपुर जिले के आदिम जाति कल्याण विभाग में गणवेश खरीदी में हुए घोटाले की एक खबर का है। इस खबर को राज एक्सप्रेस के द्वारा भोपाल से 15 दिन पहले ही 15 जनवरी के रोज प्रकाशित किया जा चुका है। राज एक्सप्रेस की इस खबर को हूबहू पत्रिका के ग्वालियर एडिशन में 7 फरवरी को पहले पेज पर लीड बनाकर प्रकाशित किया गया। 

शाहजहांपुर महोत्‍सव में अभद्रता के बाद मीडियाकर्मियों का बहिष्‍कार

 

: एडीएम ने अमर उजाला के ब्‍यूरोचीफ को भी हाथ पकड़कर जबरिया उठाया : शाहजहांपुर महोत्सव में एडीएम कृष्ण कुमार ने अमर उजाला के ब्यूरो चीफ अरुण पाराशरी की समारोह के दौरान खुलेआम बेइज्जती कर दी, लेकिन पाराशरी के मुंह से दो शब्द तक नहीं निकले, पर मीडियाकर्मियों के साथ आज फिर अभद्रता हुई तो सभी ने बॉयकाट कर दिया, बाद में जिला प्रशासन ने माफी मांग कर मामला निपटाया। 

पहले मीडिया गीत ‘प्राउड टू बी जर्नलिस्‍ट’ का लोकार्पण

 

नई दिल्‍ली : पहले मीडिया गीत का गुरुवार को यहां लोकार्पण किया गया। चरित्र अभिनेत्री सुषमा सेठ और इंद्रप्रस्थ प्रेस क्लब ऑफ इंडिया के अध्यक्ष नरेन्द्र भंडारी और महामंत्री अंजलि भाटिया ने ‘प्राउड टू बी जर्नलिस्ट’ (पत्रकार होने पर गर्व है) शीर्षक से मीडिया गीत का लोकार्पण किया।

पुष्‍पेंद्र सिंह बघेल से जुड़े सफेदपोशों पर भी पुलिस ने गड़ाई निगाह

खबर भारती के चेयरमैन पुष्‍पेंद्र सिंह बघेल की गिरफ्तारी के बाद पुलिस धीरे-धीरे उसके कई राज खोलने में जुटी हुई है. बघेल की गिरफ्तारी 2600 करोड़ रुपये के ठगी के मामले में की गई है. पुलिस ने बघेल को कानपुर के दीप होटल से मंगलवार को अरेस्‍ट किया था. कोर्ट ने उसे 14 दिन की हिरासत में भेज दिया है. समझा जा रहा है कि पुलिस कुछ बड़े खुलासे कर सकती है. चेयरमैन की गिरफ्तारी के बाद खबर भारती चैनल में भी हड़कम्‍प की स्थिति है. 

नेपाल का भटका गैंडा महराजगंज के सोहगी बरवां वन्‍य जीव प्रभाग में पहुंचा

 

इन दिनों महराजगंज के सोहगी बरवाँ वन्य जीव प्रभाग में चितवन नेशनल पार्क का गैंडा आर्कषण का केन्द्र बना हुआ है। चितवन नेशनल पार्क से अक्सर भटक कर गैंडे सोहगी बरवाँ वन्य जीव प्रभाग में पहुँच जाते हैं। इसके पहले भी 9 दिसम्बर 2009 तथा 9 दिसम्बर 2010 को भटक कर गैंडा यहाँ पर आये हुए थे। 

पांचवें सप्‍ताह में भी आजतक नम्‍बर वन, आईबीएन7 टॉप फाइव से खिसका

टैम द्वारा नए साल में पांचवें सप्‍ताह की टीआरपी जारी कर दी गई है. इस सप्‍ताह से टीआरपी अब प्रत्‍येक सप्‍ताह में गुरुवार को जारी होगा. अब तक यह बुधवार को जारी हो रहा था. पांचवें सप्‍ताह में भी कोई बड़ा बदलाव देखेने को नहीं मिला है. आजतक इस सप्‍ताह भी नम्‍बर एक के पायदान पर काबिज है. इंडिया टीवी दूसरे, एबीपी न्‍यूज तीसरे और जी न्‍यूज चौथे पायदान पर हैं. इस बार न्‍यूज24 ने आईबीएन7 को पछाड़ते हुए पांचवां स्‍थान हासिल कर लिया है. 

अब राजनीतिक फैसलों में धर्म का बड़ा सहारा!

 

कौन कहता है धर्म और राजनीति का मेल नहीं हो सकता? यकीन न हो तो जरा संगम तट पर चल रहे महाकुंभ में राजनीति के चौसर पर चल रही चालों को देखिए। ऐसा प्रतीत होता है मानो धर्म ही अब राजनीति का मार्ग प्रशस्त करने की ओर अग्रसर है। चूंकि भारत धार्मिक मान्यताओं पर चलने वाला देश है और यहां की अधिसंख्य आबादी धर्म के चलते अपने तमाम फैसले लेती है, लिहाजा अब जनता के राजनीतिक फैसलों के लिए भी धर्म का सहारा लिया जा रहा है। विश्व हिन्दू परिषद से लेकर तमाम संत समुदाय व अखाड़े देश के भावी प्रधानमंत्री कैसा व कौन हो तथा राजनीति की दशा-दिशा को लेकर चिंतन कर रहे हैं। इस चिंतन में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सर्वेसर्वा मोहन भागवत सहित कई राजनीतिक हस्तियां मौजूद हैं। 

प्रभात शूंगलू बने श्री न्‍यूज के मैनेजिंग एडिटर

श्री न्‍यूज से खबर आ रही है कि कंसल्टिंग एडिटर प्रभात शूंगलू को प्रमोट करके मैनेजिंग एडिटर बना दिया गया है. बताया जा रहा है कि आरपीएम यानी एक्‍जीक्‍यूटिव एडिटर राजेंद्र प्रसाद मिश्रा के इस्‍तीफा देने का कारण भी यही प्रमोशन है. सूत्रों का कहना है कि लगभग बीस दिन पहले आरपीएम एवं प्रभात शूंगलू के बीच अनबन हो गई थी, जिसके बाद प्रभात ने कार्यालय जाना बंद कर दिया था. अब प्रभात एडिटर इन चीफ अजय उपाध्‍याय के नजदीकी माने जाते हैं, लिहाजा उनकी नाराजगी को उन्‍हें प्रमोट करके दूर किया गया. 

श्री न्‍यूज से एक्‍जीक्‍यूटिव एडिटर आरपीएम का इस्‍तीफा

श्री न्‍यूज से खबर है कि राजेंद्र प्रसाद मिश्रा ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे चैनल में एक्जिक्‍यूटिव एडिटर थे. वे लंबे समय से चैनल से जुड़े हुए थे. सूत्रों का कहना है कि श्री मीडिया में नए लोगों के आ जाने के बाद से ही राजेंद्र प्रसाद मिश्रा यानी आरपीएम अपने को असहज पा रहे थे. जिसके बाद उन्‍होंने प्रबंधन को अपना इस्‍तीफा सौंप दिया. आरपीएम की गिनती अच्‍छे टीवी पत्रकारों में की जाती है. हालांकि श्री न्‍यूज चैनल में उनका नाम कुछ विवादों में भी आया था. इसके बावजूद चैनल उनके नेतृत्‍व में ठीक ठाक चल रहा था. 

वन्यजीव अपराधी का पुलिस से रहा है गहरा रिश्ता

  महराजगंज  सोहगीबरवां वन्यजीव प्रभाग के निचलौल रेंज के जंगल सटे बढ़या गांव के पास मंगलवार को हिरन के खाल, सिंग, चरस व अवैध असलहे के साथ पकड़ा गया चर्चित आरोपी वर्षों से पुलिस से गहरा रिश्ता बनाकर अवैध कारोबार में लिप्त रहा है। आए दिन थाने पर दिखाई देने वाला यह व्यक्ति इतनी गंभीर  …

दो धड़ों में बंटी सपा कैसे पूरा करेगी मिशन 2014

     महराजगंज   विगत दो चुनावों में अमर मणि की चमक फीकी पड़ने के बाद भी सपा जिले में दो धड़ों में बंटी दिख रही है। नतीजा एक धड़ों के कार्यक्रमों में दूसरे धड़ों के लोग शामिल नहीं हो रहे हैं। अभी बीते रविवार को सपा के पूर्व सांसद व घोषित प्रत्याशी  कुंवर अखिलेश सिंह …

स्‍मृति ईरानी की याचिका पर एबीपी न्‍यूज को कोर्ट की नोटिस

 

नई दिल्ली। भाजपा सांसद व अभिनेत्री स्मृति ईरानी द्वारा कांग्रेसी सांसद संजय निरूपम के खिलाफ दायर किए गए मानहानि मामले की सुनवाई गुरुवार को पटियाला हाउस कोर्ट में हुई। अदालत में स्मृति ईरानी की गवाह गार्गी तूली ने अपना बयान दर्ज कराया। इस मामले में संज्ञान लेते हुए अदालत ने एबीपी न्यूज चैनल को नोटिस जारी किया है।

मीडिया में दलित ढूंढते रह जाओगे

 

: पुस्‍तक समीक्षा : शायद ही कोई ऐसा हो जो मीडिया से आज परिचित न हो! पहले मिशन, फिर प्रोफेशन और आज बाजारवाद के प्रभाव में मीडिया है। इन सब के बीच भारतीय मीडिया पर अक्सर मनुवादी मानसिकता का आरोप लगता रहा है। व्यवसाय में तबदील मीडिया पर जातिवाद, भाई-भतीजावाद आदि के आरोप भी लगते रहे हैं। सर्वे रिपोर्ट ने इसका खुलासा भी किया है। मीडिया में दलित हिस्सेदारी एवं दलित सरोकारों की अनदेखी सहित अन्य मुद्दों को लेखक-पत्रकार संजय कुमार ने अपनी सद्यः प्रकाशित पुस्तक ‘‘मीडिया में दलित ढूंढते रह जाओगे’’ में उठाया है। पुस्तक का शीर्षक खुद-ब-खुद वस्तुस्थिति को पटल पर ला खड़ा कर जाता है। यानी मीडिया में दलितों की हिस्सेदारी नहीं है। भारतीय मीडिया में दलितों के सवालों के प्रवेश पर अघोषित प्रतिबंध को किताब बेनकाब करता है।

अखिलेश मंत्रिमंडल का विस्‍तार, सीएमओ को उठवाने वाले विनोद सिंह की वापसी

 

लखनऊ : लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखकर गुरुवार को उत्तर प्रदेश में अखिलेश सरकार का विस्तार किया गया। मंत्रिमंडल विस्तार में 12 मंत्रियों को शपथ दिलाई गई। इसमें ग्‍यारह नए चेहरों को जगह दी गई है। विस्‍तार में एक कैबिनेट मंत्री, एक स्‍वतंत्र प्रभार राज्‍य मंत्री तथा दस राज्‍य मंत्री शामिल हैं। सीएमओ से विवाद के बाद हटाए गए विनोद सिंह उर्फ पंडित सिंह को फिर से मंत्रिमंडल में शामिल कर लिया गया। विस्‍तार में जातीय संतुलन को भी ध्‍यान में रखा गया है।  

जनसंदेश टाइम्‍स ने मायावती को बताया सपा सुप्रीमो

क्‍या न्‍यूज एजेंसी भाषा द्वारा जारी की गई खबरों को आंख बंद करके लगा दिया जाना चाहिए. खास कर उन खबरों को जो किसी अखबार की लीड स्‍टोरी और एंकर बनाए जा रहे हों. पर कभी बसपा के नजदीकी माने जाने वाले अखबार जनसंदेश टाइम्‍स में ऐसा होता है. जनसंदेश टाइम्‍स ने भाषा की एक खबर को ज्‍यों का त्‍यों पोस्‍ट कर दिया है. पर यहां यह भी पुख्‍ता नहीं है कि यह भाषा की गलती है या जनसंदेश टाइम्‍स की तरफ से ही यह गलती की गई है. 

राजस्‍थान पत्रिका, उदयपुर के प्रिंट लाइन में जाने लगा रमेश शर्मा का नाम

  राजस्‍थान पत्रिका ने पिछले दिनों अपने दो संपादकों को बदल दिया था. खबर है कि श्रीगंगानगर से उदयपुर भेजे गए संपादक रमेश शर्मा ने अपना कार्यभार संभाल लिया है. वहीं अब तक उदयपुर में संपादक की जिम्‍मेदारी निभा रहे राजेश कसेरा को बुला लिया गया था. खबर है कि दोनों लोगों ने अपनी अपनी …

मुकेश अंबानी के बाद मोहन भागवत ने भेजा आठ चैनलों को नोटिस

 

उद्योगपति मुकेश अंबानी के बाद आरएसएस चीफ मोहन भागवत ने एक बार फिर टीवी चैनलों को नोटिस भेजा है. मुकेश ने जहां सभी न्‍यूज चैनलों को नोटिस भेजा था वहीं आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने आठ चैनलों को नोटिस भेजकर माफी मांगने को कहा है. मोहन भागवत की तरफ से उनके वकील राजीव तुली ने आठों न्‍यूज चैनलों को नोटिस दिया है. नोटिस में सभी चैनलों पर आरोप लगाया गया है कि वे गलत तथ्‍यों के आधार पर आरएसएस प्रमुख को बदनाम करने की कोशिश की. 

इंडिया न्‍यूज नेशनल का लुक बदलने की तैयारी, एंकरों का प्रोमो जारी

इंडिया न्‍यूज नेशनल की लांचिंग 14 फरवरी को तय की गई है. अब तक यह चैनल 'जंगल में मोर नाचा किसने देखा' की तर्ज पर चल रहा था. पर खबर है कि अब इस चैनल का लुक ही नहीं बल्कि सबकुछ बदल देने की तैयारी ग्रुप मैनेजिंग एडिटर राणा यशवंत के निर्देशन में चल रही है. कंटेंट के साथ टीवी के लुक को भी बदलने के लिए जाने जाने वाले राणा यशवंत पूरी तरह से इंडिया न्‍यूज के नेशनल चैनल के कायाकल्‍प में जुटे हुए हैं. 

समाचार प्‍लस से राहुल का इस्‍तीफा, हिंदुस्‍तान से दो का संबंध टूटा

समाचार प्‍लस, लखनऊ से खबर है कि राहुल तिवारी ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर डिप्‍टी ब्‍यूरो हेड थे. बताया जा रहा है कि राहुल तिवारी विज्ञापन के दबाव के अलावा एक खबर के ट्रीटमेंट को लेकर भी नाराज थे. राहुल समाचार प्‍लस के साथ लांचिंग के समय से ही जुड़े हुए थे. खबर है कि राहुल जल्‍द ही अपनी नई पारी किसी बड़े चैनल से शुरू करने जा रहे हैं. राहुल इसके पहले दैनिक जागरण एवं आईबीएन7 को भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं.  

हिंदुस्‍तान विज्ञापन घोटाला : उस समय सोशल मीडिया नहीं था और मैं बेहद लाचार और बेबस था

मुंगेर। वर्ष 2008। मई का महीना।‘‘ट्रिन-ट्रिन‘‘ कृष्ण प्रसाद जी बोल रहे हैं? जी हां। दैनिक हिन्दुस्तान, दैनिक जागरण और दैनिक प्रभात खबर में आपके बारे में इनदिनों लगातार खबरें छप रही हैं। क्या सच्चाई है? क्यों ऐसा हो रहा है? क्यों सारे अखबार के मालिक और संपादक आपकी जिन्दगी को बरबाद करने पर आमदा हैं? आप क्यों नहीं प्रतिवाद कर रहे हैं? मुंगेर शहर के कासिम बाजार पुलिस स्टेशन में मेरे विरूद्ध अनुसूचित जाति की एक विवाहिता महिला की ओर से प्राथमिकी दर्ज होने और वर्णित तीनों हिन्दी अखबारों में लगातार खबरें छपने के बाद मेरे शुभ चिन्तकों के फोन महीनों तक लगातार आते रहे और फोन पर ही तरह-तरह के सवाल भी वे लोग पूछते रहे और मैं निरुत्तर बना रहा। 

आधा अरबपति निकला मध्‍य प्रदेश का वन अधिकारी

 

: लोकायुक्त टीम को मप्र, उप्र में जमीन होने के मिले दस्तावेज : भोपाल। मुख्य वन संरक्षक बीपी सिंह के यहां लोकायुक्त पुलिस उज्जैन की टीम ने कार्रवाई करते हुए आधे अरब की काली कमाई का खुलासा किया है। टीम ने बुधवार सुबह सिंह के भोपाल स्थित निजी आवास और उज्जैन के शासकीय आवास पर एक साथ छापामार कार्रवाई करते हुए ५० करोड़ से अधिक की संपत्ति उजागर की। टीम को भोपाल, सीहोर और उप्र के लखनऊ, बनारस में जमीन होने के दस्तावेज भी मिले हैं। टीम आगे जांच कर रही है। 

आजमगढ़ के मिर्जा शादाब बेग की कुर्की का आदेश सपा की वादाखिलाफी

 

लखनऊ। रिहाई मंच ने आजमगढ़ के मिर्जा शादाब बेग के घर की कुर्की से संबन्धित समाचार पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार एक तरफ उत्तर प्रदेश की तमाम आतंकवादी घटनाओं में गिरफ्तार किए गए बेगुनाह मुस्लिम नौजवानों को रिहा करने का अफवाह फैलाकर मुसलमानों की वाहवाही लूटने में लगी है तो वहीं दूसरी तरफ अपने अभियोजन अधिकारियों के द्वारा प्रार्थना पत्र दिलवाकर कुछ निर्दोषों के घरों की कुर्की कराने की कसरत कर रही है।

यह बम नहीं, फतवा फेंकते हैं

 

नन्हें-नन्हें बच्चे जब तुतलाकर कुछ गाते हैं या संगीत की धुन पर मटकते हैं तो हर कोई उन्हें मुग्ध होकर निहारता है। वही छोटे बच्चे जब कुछ बड़े होकर स्टेज पर नाचते-गाते दिखते हैं, तो माता-पिता निहाल हो जाते हैं, गर्व से सिर उठाकर बगल की सीट पर बैठे लोगों को बताते हैं, कि वह उनका बच्चा है। आपके हमारे लिए यह आम बात है, लेकिन माफ़ कीजिये साहब, कश्मीर में ऐसा नहीं होता। कश्मीर में ऐसे मासूम बच्चों के खिलाफ फ़तवा जारी कर दिया जाता है।

राजगढ़ में मीडियाकर्मी पर आपराधिक मामला दर्ज

  मध्य प्रदेश के राजगढ़ जिले की पचोर थाना पुलिस ने शासकीय उच्चतर माध्यमिक विघालय पचोर के प्राचार्य को धमका कर रुपए मांगने और अश्‍लील शब्दों से अपमानित कर उन्हें जान से मारने की धमकी देने के आरोप में एक फर्जी मीडिया कर्मी के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया है। पुलिस नगर निरीक्षक हेमपाल सिंघई …

हाई कोर्ट ने कहा – केसी पाण्डेय, अन्य आयोग नियुक्ति में दो सप्ताह में जवाब दे

 

सामाजिक कार्यकर्ता नूतन ठाकुर द्वारा दायर पीआईएल संख्या 1061/2013 में आज इलाहाबाद हाई कोर्ट के लखनऊ बेंच ने राज्य सरकार को दो सप्ताह में जवाब दायर करने के निर्देश दिये हैं. याचिका में केसी पाण्डेय, नरेन्द्र भाटी एवं विभिन्न आयोगों में की गयी नियुक्तियों को चुनौती दी है. आज जस्टिस उमा नाथ सिंह और जस्टिस वी के दीक्षित की बेंच ने आदेशित किया कि राज्य सरकार की तरफ से सचिव स्तर के अधिकारी जवाब प्रस्तुत करें. 

नरेंद्र मोदी को पीएम प्रोजेक्‍ट कर रहा मीडिया?

 

गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी बुधवार को दिल्ली के श्रीराम कालेज आफ कामर्स में छात्रों के सामने व्याख्यान दे रहे थे। वहां उन्होंने उत्पाद के पैकेजिंग को जरूरी बताया और इस पैकेजिंग को मीडिया में उन्हें भविष्य का प्रधानमंत्री बताते हुए बढ़िया कवरेज भी दी गई। कह सकते हैं कि अब मोदी ने भी अपनी पैकेजिंग और बढ़िया कर ली है और गुजरात से बाहर निकल दिल्ली में स्वयं का बेहतर प्रस्तुतीकरण कर दिया है और इस काम में मीडिया उनका लगातार बखूबी साथ दे रहा है।

आजतक से विवेक भटनागर इंडिया न्‍यूज पहुंचे, ऐतब शेख भी जुड़े

 

इंडिया न्‍यूज ने इस समय कई बड़े चैनलों को झटका देने का काम जारी रखा है. खबर है कि आजतक में पिछले आठ सालों से कार्यरत विवेक भटनागर ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे अपनी नई पारी इंडिया न्‍यूज के साथ शुरू कर रहे हैं. इंडिया न्‍यूज नेशनल में उन्‍हें हेड ऑफ एडिटोरियल पैकेज एंड कंटेंट बनाया गया है. वे पिछले तेरह सालों से मीडिया में सक्रिय हैं. वे डीडी न्‍यूज, सहारा, चैनल7, टीओआई को अपनी सेवाएं दे चुके हैं. उन्‍होंने अपने करियर की शुरुआत सन 2000 में एक प्रोडक्‍शन हाउस से की थी.

दबंग दुनिया में वापस लौटे अनिल धारवा, न्‍यूज11 में वेद प्रकाश ने इस्‍तीफा वापस लिया

पत्रिका, इंदौर से खबर है कि अनिल धारवा फिर दबंग दुनिया वापस लौट आए हैं. वे दो-तीन पहले ही दबंग दुनिया छोड़कर पत्रिका से जुड़े थे. बताया जा रहा है कि दबंग दुनिया में सैलरी बढ़ाए जाने का वादा किए जाने के बाद अनिल वापस लौटे हैं. अब वे विनोद शर्मा की बजाय पंकज मुकाती को रिपोर्ट करेंगे. धारवां की मुख्‍य नाराजगी डेढ़ काम करने के बावजूद इंक्रीमेंट ना होने तथा सिटी चीफ विनोद शर्मा से अनबन बताई जा रही थी. धारवा से पहले नईदुनिया ज्‍वाइन करने वाले जय द्विवेदी भी इंक्रीमेंट के बाद वापस लौट आए थे. 

बेईमानी में कौन आगे नेता या अफसर!

 

उत्‍तर प्रदेश में इस समय दौड़ लगी हुई है। अब हर जगह इस बात की चर्चा हो रही है कि बेईमानी में नेता आगे हैं या अफसर। नेताओं के बयान, अफसरों की कार्यशैली और सिस्टम के लाचारापन ने यूपी की तस्वीर बदरंग कर दी है। एक साल पूरे होते-होते अखिलेश सरकार को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। नौकरशाही को लेकर सपा मुखिया मुलायम सिंह समेत तमाम बड़े लोगों के बयान और ध्वस्त होती कानून व्यवस्था ने सपा के मिशन 2014 पर मानो ग्रहण लगा दिया है। 

दैनिक भास्‍कर से दर्पण चौधरी का इस्‍तीफा

: अपडेट : चंडीगढ़। चंडीगढ़ कार्यलय इन दिनों भगदड़ मच गई है। छह फरवरी को भास्कर को बड़ा झटका तब लगा जब यहां के सिटी हेड न्यूज एडिटर दर्पण चौधरी ने अचानक अखबार को नमस्ते कर गया। दर्पण चौधरी की गिनती वरिष्‍ठ पत्रकारों में की जाती है। बताया जा रहा है कि दर्पण ने अपनी नई पारी पंजाब केसरी के साथ शुरू की है। उन्‍हें यहां भी एनई पर की जिम्‍मेदारी सौंपी गई है। बताया जा रहा है कि तीन अन्‍य वरिष्‍ठ भी यहां से इस्‍तीफा दे सकते हैं। 

फारवर्ड के प्रेस के रिपोर्टर ने एसपी शिवदीप लांडे की शिकायत गृह मंत्रालय से की

 

फॉरवर्ड प्रेस के रिपोर्टर जीतेन्द्र कुमार ज्योति ने अररिया, बिहार के पुलिस अधीक्षक शिवदीप वामन लांडे के फेसबुक प्रोफाइल पर प्रकशित रचना के खिलाफ आपत्ति दर्ज की है. गौरतलब है कि शिवदीप वामन लांडे ने अपने प्रोफाइल पर एक रचना लिखी है, जिसमें कई ऐसे शब्द हैं जो एक पुलिस अधिकारी को नहीं लिखना चाहिए. इस संदर्भ में जीतेन्द्र कुमार ज्योति ने गृह मंत्रालय, केन्द्रीय गृह सचिव एवं डीजीपी, बिहार को पत्र लिखा है और पुलिस अधिकारी के खिलाफ अविलम्ब कार्रवाई करने की मांग की हैl

पत्रकारों का टोल टैक्‍स माफ करेगी पंजाब सरकार!

 

फतेहगढ़ साहिब (जज्जी) : शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष व पंजाब के उप-मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि पंजाब सरकार पत्रकारों को टोल टैक्स माफ करने के लिए गंभीर है। श्री बादल ने अपनी रिहायश पर पत्रकार यूनियन फतेहगढ़ साहिब की ओर से जारी नए वर्ष 2013 का कैलेंडर जारी करने के बाद बातचीत करते हुए कहा कि पंजाब सरकार की यह इच्छा है कि पत्रकारों को टोल टैक्स माफ किया जाए।

टीवी पत्रकार सुरींजे के खिलाफ मामला वापस लेने पर सरकार को नोटिस

 

बेंगलुरु। कर्नाटक हाई कोर्ट ने एक जनहित याचिका की सुनवाई करते हुए एक क्षेत्रीय टेलिविजन चैनल के पत्रकार के खिलाफ मामला वापस लेने पर प्रदेश सरकार को नोटिस जारी किया। जनहित याचिका में मेंगलोर में आश्रय स्थल में लड़के और लड़कियों पर हमले की घटना में पत्रकार के खिलाफ मामला वापस लेने को चुनौती दी गई थी।

अमर उजाला के कांपैक्ट ने दैनिक जागरण के आई-नेक्स्ट को पछाड़ा

आई-नेक्स्ट टांय टांय फिस्स साबित होता जा रहा है. ताजी सूचना के मुताबिक अमर उजाला के शिशु अखबार कांपैक्ट ने दैनिक जागरण के बच्चा अखबार आई-नेक्स्ट को यूपी में काफी पीछे छोड़ रखा है. इंडियन रीडरशिप के ताजा सर्वे से पता चलता है कि यूपी में आई-नेक्स्ट से बहुत ज्यादा पाठक कांपैक्ट के हैं. इस बाबत अमर उजाला ने अपने पन्नों पर विज्ञापन छाप कर कांपैक्ट की सफलता की कहानी अपने पाठकों के सामने बयां की है.

कानपुर के उद्योगपति इरशाद मिर्जा को ब्लैकमेल कर रहे थे आई-नेक्स्ट के पत्रकार!

कानपुर में चर्चा तेज है कि उद्योगपति इरशाद मिर्जा को जागरण समूह के शिशु अखबार आई-नेक्स्ट के पत्रकारों ने ब्लैकमेल कर पैसे वसूलने की कोशिश की. जिन दो पत्रकारों का नाम सामने आ रहा है उसमें एक क्राइम रिपोर्टर है और एक फोटोग्राफर. इन दोनों ने इरशाद मिर्जा के बेटे की कुछ आपत्तिजनक तस्वीरों व वीडियो क्लिप के आधार पर इरशाद मिर्जा को ब्लैकमेल करने की कोशिश की और पैसे की मांग की. बताया जा रहा है कि बात खुलने पर इन दोनों की साजिश धरी की धरी रह गई.

मोदी मीडिया पीएम प्रसंग : … इस बहकती हुई दुनिया को संभालो यारों …

Anand Pradhan : कारपोरेट मीडिया एक बार फिर बहकने लगा है. बड़ी पूंजी के पोसे हुए तोते की तरह उसने गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी को देश के अगले प्रधानमंत्री की तरह पेश करना शुरू कर दिया है. लेकिन यह पहली बार नहीं हो रहा है. इससे पहले भी शासक वर्गों और उसके भोंपू मीडिया की ओर से पेश किये गए ऐसे कई रहनुमाओं को देश ने देखा-परखा-भुगता है. लेकिन मीडिया न सिर्फ इस इतिहास को सामने लाने से गुरेज कर रहा है बल्कि उसपर पर्दा डालने या उसे बेमानी बताने में भी जुटा हुआ है.

कवि दुष्यंत कुमार ने यही सब देखकर लिखा था:

“…रहनुमाओं की अदाओं पे फ़िदा है दुनिया
इस बहकती हुई दुनिया को संभालो यारों…”

लेकिन लोग इतिहास के अनुभवों से सीख रहे हैं…वे कारपोरेट मीडिया के बहकाने से बहकने वाले नहीं हैं…वे रहनुमाओं की असलियत समझ गए हैं…

सुप्रीम कोर्ट ने सेबी से पूछा- क्‍यों नहीं हुई सहारा समूह की सम्‍पत्ति जब्‍त?

नई दिल्ली : सहारा समूह को आज उस समय बड़ा झटका लगा जब उच्चतम न्यायालय ने यह कह दिया कि न्यायिक आदेश के बावजूद निवेशकों को 24 हजार करोड़ रुपया नहीं लौटाने के मामले में सेबी उसकी दो कंपनियों के खाते और संपत्ति जब्त करने के लिये स्वतंत्र है।

I&B ministry asks Zee to respond to Jindal extortion charge by Feb 7

 

NEW DELHI: The information and broadcasting (I&B) ministry has given the Zee group time till February 7 to respond to extortion charges made by Congress MP Naveen Jindal's Jindal Steel and Power Limited (JSPL). The company had filed an FIR against the channel accusing it of demanding Rs 100 crore to drop negative coverage of the firm in the coal block allocation scam. 

खबर भारती के चेयरमैन पुष्‍पेंद्र को 14 दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा गया

कानपुर में 2600 करोड़ की हेराफेरी में अरेस्‍ट किए गए खबर भारती के चेयरमैन पुष्‍पेंद्र सिंह बघेल को कोर्ट ने 14 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है. पुलिस ने पुष्‍पेंद्र पर आईपीसी की धारा 420, 464, 466, 467, 468 एवं 471 के तहत मामला दर्ज किया है. श्री बघेल को एसीएमएम थर्ड ज्ञान प्रकाश की अदालत में पेश किया गया. कोर्ट ने पुष्‍पेंद्र सिंह बघेल एवं धर्मेंद्र सिंह तोमर की जमानत अर्जी खारिज करते हुए उन्‍हें 14 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया. 

कभी-कभी बच्चा भी बनना चाहिए!

 

जीवन की भागदौड़ और आपाधापी में हम वक्त के साथ तेज रफ्तार चलने की कोशिश में अक्सर कुछ पलों के लिए कहीं ठिठकना भूल जाते हैं। ऐसे पल, जो हमें किसी और माहौल में ले जाएं। ऐसे माहौल में, जहां हम कुछ हल्के-फुल्के क्षणों से रूबरू हों। ऐसे हल्के-फुल्के क्षण, जो हमारे मन को भी हल्का कर दें। इतना हल्का कर दें कि हम अपने खोल से बाहर निकल आएं। खोल से इस कदर बाहर निकल आएं कि बच्चे बन जाएं। इस तरह बच्चे बन जाएं कि बड़ों के तमाम समीकरण, कैलकुलेशन और दंद-फंद भूल जाएं… और यह सब करके मासूमियत की ऐसी दुनिया में पहुंच जाएं, जहां हमें अहसास हो कि काश हम बच्चे ही रहते।

अजीत खरे ने हिंदुस्‍तान, अनिल धारवा ने पत्रिका ज्‍वाइन किया

 

अमर उजाला, लखनऊ से खबर है कि अजीत खरे ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर रिपोर्टर की जिम्‍मेदारी निभा रहे थे. अजीत ने अपनी नई पारी लखनऊ में ही हिंदुस्‍तान के साथ शुरू की है. उन्‍हें ब्‍यूरो में रिपोर्टर बनाया गया है. अजीत इसके पहले भी कई संस्‍थानों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं. 

मजीठिया वेज बोर्ड : सुप्रीम कोर्ट में दो सप्‍ताह तक चलेगी बहस

सुप्रीम कोर्ट में पत्रकारों और गैर पत्रकार कर्मचारियों के लिए न्यायमूर्ति मजीठिया वेतन आयोग की सिफारिशों के खिलाफ दायर याचिका पर बहस जारी है. यह बहस दो सप्‍ताह तक चलेगी. इस सप्‍ताह मंगलवार, बुधवार एवं गुरुवार तथा अगले सप्‍ताह भी इन दिनों सुप्रीम कोर्ट में बहस जारी रहेगी. मजीठिया वेज बोर्ड के खिलाफ आनंद बाजार पत्रिका, बेनेट कोलमैन, इंडियन न्‍यूज पेपर सोसाइटी, यूनाइटेड न्‍यूज ऑफ इंडिया, प्रिंटर्स मैसूर प्राइवेट लिमिटेड, राजस्‍थान पत्रिका, ट्रिब्‍यून ट्रस्‍ट, पीटीआई, जागरण प्रकाशन लिमिटेड, एक्‍सप्रेस प्रकाशन (मदुरई) तथा इंडियन एक्‍सप्रेस ने याचिका दायर कर रखी है. 

दिनेश अग्रहरि और संजीव कुमार मनी मंत्र से जुड़े

वरिष्ठ आर्थिक पत्रकार दिनेश अग्रहरि पर्ल्स न्यूज नेटवर्क्स की बिजनेस पत्रिका मनी मंत्र से जुड़ गए हैं। दिनेश अग्रहरि ने यहां एसोसिएट एडिटर के रूप में मंगलवार को ज्वाइन किया। एक दशक से ज्यादा का पत्रकारीय अनुभव रखने वाले अग्रहरि इसके पहले दैनिक भास्कर, नईदुनिया और इकनोमिक टाइम्स जैसे प्रमुख संस्थानों में काम कर चुके हैं। 

तहलका के पत्रकार राजकुमार सोनी के खिलाफ चार्जशीट दायर

छत्‍तीसगढ़ के पत्रकार एवं तहलका के राज्‍य ब्‍यूरो राजकुमार सोनी के खिलाफ एक मामले में पुलिस ने कोर्ट में चार्जशीट दायर किया है. मामला एक खबर लिखने से जुड़ा हुआ है. राजकुमार सोनी ने रायपुर की मीडिया से संबंधित एक खबर लिखी थी, जिसमें इन लोगों के कार्यकलापों पर सवाल उठाया गया था. इसी मामले में प्रफुल्‍ल पारे की तरफ से राजकुमार सोनी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था. 

तलहका की प्रियंका, द वीक की शर्मिष्‍ठा समेत दर्जनों लोग लाडली मीडिया अवार्ड से सम्‍मानित

 

द लाडली नेशनल मीडिया अवार्ड 2011-12 का आयोजन मंगलवार को मुंबई में हुआ. इस में कई कटेगरी में मीडिया से जुड़े लोगों को पुरस्‍कृत किया गया. प्रिंट में बेस्‍ट खोजी पत्रकारिता के लिए तहलका की प्रियंका दुबे, बेस्‍ट मानवीय स्‍टोरी के लिए अंग्रेजी पत्रिका द वीके की शर्मिष्‍ठा चौधरी को सम्‍मानित किया गया. बेस्ट प्रिंट मराठी कॉलम के लिए प्रहार के अमित बड़े, बेस्ट अंग्रेजी फीचर प्रिंट के लिए आउटलुक की नेहाभट्ट, बेस्ट प्रिंट उडिया लेख के लिए मार्गदर्शी की सुषमा मिश्रा को सम्‍मानित किया गया. 

न्‍यूज11 के आउटपुट हेड वेद प्रकाश का इस्‍तीफा

न्‍यूज11 से खबर है कि वेद प्रकाश ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर आउटपुट हेड थे. वेद उन लोगों में शामिल हैं, जिनके नेतृत्‍व में न्‍यूज11 की शुरुआत हुई थी. वे लांचिंग टीम के सदस्‍य रहे हैं. उनके जाने से चैनल में हड़कम्‍प की स्थिति है. चैनल में पिछले तीन सालों में कई लोग आए और गए परन्‍तु वेद प्रकाश पूरी तरह चैनल के साथ डंटे रहे. बताया जा रहा है कि प्रबंधन के साथ उनका कुछ मुद्दों पर विवाद हो गया था, जिसके बाद उन्‍होंने अपना इस्‍तीफा सौंप दिया. 

हिमाचल के सीएम ने राजेन टोडरिया के निधन पर शोक जताया

शिमला : हिमाचल परदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने वरिष्ठ पत्रकार श्री एस. राजेन टोडरिया के निधन पर शोक व्यक्त किया है। श्री टोडरिया का मंगलवार प्रातः दिल का दौरा पड़ने से देहरादून स्थित सीएमआई अस्पताल में निधन हो गया। वह 56 वर्ष के थे। वह अपने पीछे पत्नी, एक पुत्र और पुत्री छोड़ गए हैं। शोक संतप्त परिवार को भेजे अपने शोक संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा कि श्री टोडरिया ने सक्रिय पत्रकार के तौर पर आम लोगों व पहाड़ी क्षेत्रों से जुड़े मुद्दों को प्रभावी तरीके से उठाया। उन्हें गंभीर व स्तरीय पत्रकारिता के लिए जाना जाता था। पत्रकार के तौर पर समाज को दी गई उनकी सेवाओं को हमेशा याद किया जाएगा।

हिंदुस्‍तान, मुरादाबाद के पत्रकार पर सपाइयों ने किया हमला

यूपी में पत्रकारों पर हमले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. ताजा मामला मुरादाबाद से जुड़ा हुआ है. हिंदुस्‍तान के बबराला तहसील प्रतिनिधि भूपेंद्र कुमार के साथ सपाइयों ने मारपीट की. सपाइयों ने किसी बात को लेकर भूपेंद्र पर बीच चौराहे पर हमला किया. इसके बाद उन लोगों ने पुलिस पर दबाव बनवाकर मामला भी दर्ज कराने की तैयारी कर ली. सपाइयों के दबाव में पत्रकार को घंटों थाने पर बैठाए रखा गया.

हिंदुस्‍तान विज्ञापन घोटाला : जवाब देने में डीएवीपी अधिकारियों को छूट रहे पसीने

मुंगेर। आजादी के बाद पहली बार बिहार के मुंगेर की पुलिस ने भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के विज्ञापन एवं दृष्य प्रचार निदेशालय (डीएवीपी, नई दिल्ली) को दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 91 के तहत मुंगेर पुलिस के समक्ष विश्वस्तरीय 200 करोड़ के दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन घोटाला से जुड़े सरकारी दस्तावेज प्रस्तुत करने का लिखित आदेश दिया है। मुंगेर पुलिस ने डीएवीपी निदेशालय, नई दिल्ली को कुछ महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर लिखित प्रतिवेदन भी निर्धारित समय सीमा में मुंगेर पुलिस के समक्ष प्रस्तुत करने का लिखित आदेश दिया है।

आई नेक्‍स्‍ट, गोरखपुर के संपादकीय प्रभारी विकास वर्मा का इस्‍तीफा

आई नेक्‍स्‍ट, गोरखपुर से खबर है कि एडिटोरियल हेड विकास वर्मा ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर डीएनई के पद पर कार्यरत थे. विकास पिछले डेढ़ साल से आई नेक्‍स्‍ट से जुड़े हुए थे. बताया जा रहा है कि वे अपने पिता की बीमारी के चलते काफी परेशान थे. हाल ही में उनके पिता जी का भी निधन हो गया है. पिछले तेरह सालों से पत्रकारिता में सक्रिय विकास वर्मा इंडिया न्‍यूज से इस्‍तीफा देकर आई नेक्‍स्‍ट पहुंचे थे. उन्‍होंने अपनी ज्‍यादातर पत्रकारिता दिल्‍ली में ही की.

रेप पीडिता की पहचान बताने वाले चैनल पर पांच लाख का जुर्माना

 

: दिल्‍ली पुलिस पर भी लगा एक लाख का जुर्माना : कानूनी खर्च भी देने का आदेश : नई दिल्ली : वर्ष 2005 में हुए दुष्कर्म के एक मामले में पीड़िता की पहचान उजागर करने पर दिल्ली उच्च न्यायालय ने दिल्ली पुलिस व एक न्यूज चैनल पर कुल साढ़े छह लाख रुपये का जुर्माना लगाया है।

समय के बहुत पाबंद थे राजेन टोडरिया

 

बहुत ज्यादा तो नहीं, लेकिन कम से कम सात साल राजेन टोडरिया जी के साथ काम करने का अवसर मिला। यह तब की बात है जब वे अमर उजाला हिमाचल के प्रदेश प्रभारी थे। वे शिमला में बैठते थे और मैं उन दिनों शिमला के दूर दराज के इलाके रोहड़ू में। वही रोहडू़ जहां से इससे पहले हिमाचल के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह चुनाव लड़ा करते। इस लिहाज से रोहड़ू प्रदेश की सबसे महत्वपूर्ण विधानसभा क्षेत्र होता था। 

खबर भारती के चेयरमैन पुष्‍पेंद्र सिंह बघेल ठगी में गिरफ्तार

: 2600 करोड़ की हेराफेरी का है आरोप : कानपुर से बड़ी खबर आ रही है. गोविंद नगर पुलिस ने रीजनल चैनल खबर भारती के मालिक पुष्‍पेंद्र सिंह बघेल को गिरफ्तार किया है. चिटफंड संचालित करने वाले बघेर पर आरोप है कि उसने व्यापारियों को तीन साल में दो गुना और चार साल में तीन गुना रकम देने का झांसा देकर 26 सौ करोड़ की ठगी की है. पुष्‍पेंद्र के अलावा धर्मेंद्र सिंह तोमर को भी अरेस्‍ट किया गया है.  इनके पास से एक मर्सडीज गाड़ी भी बरामद हुई है. 

डॉ. कृष्ण कुमार रत्तू की पुस्तक ‘मीडिया और हिंदी- वैश्विक परिदृश्य’ लोकार्पित

जाने-माने तकनीकी विशेषज्ञ एवं भारत में सूचना क्रांति के जनक व प्रधानमंत्री के सलाहकार सैम पित्रोदा का मानना है कि हिंदी भाषा एवं सूचना तकनीक मीडिया संप्रेषण के द्वारा भारत जैसे बड़े देश की विविधता को गहरे भावनात्मक सूत्र में बांधती है। श्री पित्रोदा ने यह उद्गार मीडिया विशेषज्ञ एवं हिंदी, पंजाबी के लेखक डॉ. कृष्ण कुमार रत्तू की नवीनतम पुस्तक ‘मीडिया और हिंदी- वैश्विक परिदृश्य’ के विमोचन के अवसर पर प्रकट किये।

साहित्यिक मठाधीशी से मुक्ति दिलाता है सोशल मीडिया

आगरा। साहित्य में लोकतंत्र बन रहा है, नयी तकनीक के जरिये। फेसबुक, ट्विटर पर लिखने वाले लेखक किसी खलीफा, किसी मठाधीश से पूछ कर, उससे सहमति स्वीकृति लेकर नहीं लिख रहे हैं। ये नये लेखक प्रयोग कर रहे हैं, ये साहित्य का लोकतंत्र है, जो बन रहा है। ताज साहित्य उत्सव में नयी तकनीक और साहित्य के संबंधों को लेकर व्यंग्यकार, लेखक आलोक पुराणिक ने यह बात कही।

न्‍यूज एक्‍सप्रेस में एसपी सिंह का तबादला, मनोज पांडेय की नई पारी

न्‍यूज24 के साथ कार्यरत पत्रकार मनोज पांडेय ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे काफी समय से न्‍यूज24 को अपनी सेवाएं दे रहे थे. उन्‍होंने अपनी नई पारी न्‍यूज एक्‍सप्रेस के साथ शुरू की है. अभी तक न्‍यूज एक्‍सप्रेस की जिम्‍मेदारी कोलकाता में सत्‍येंद्र प्रताप सिंह संभाल रहे थे. उन्‍हें प्रबंधन ने नोएडा बुला लिया था.

आई नेक्‍स्‍ट, पटना से पारुल, मनीष एवं आनंद का इस्‍तीफा

साल 2013 आई नेक्स्ट पटना के लिए कुछ अच्छा साबित नहीं हो रहा है. डेस्क की सबसे मजबूत कड़ी मानी जाने वाली पारुल प्रसून ने इस्तीफ़ा दे दिया है. बतौर सब एडिटर काम कर रही पारुल इस से पहले टाइम्स इन्टरनेट लिमिटेड, दिल्ली के साथ जुडी हुई थी. पारुल के आने के बाद से पटना एडिशन का इंग्लिश फ्लेवर मजबूत हो गया था, वो हर स्केल पर न्यूज़ पेपर के बाइ लिन्गुअल जरुरत को पूरा करती थी. पारुल के जाने से डेस्क कमजोर हो गया है. वैसे वो कहां जा रही है अबतक नहीं पता चला है.

‘भाषा’ को चाहिए संपादक, प्रकाशित किया विज्ञापन

न्‍यूज एजेंसी पीटीआई की हिंदी सेवा भाषा को संपादक की जरूरत है. पीटीआई ने इसके लिए विज्ञापन प्रकाशित किया है. भाषा का संपादक बनने वाले पत्रकार को कम से कम पंद्रह साल के पत्रकारिता का अनुभव होना चाहिए. साथ ही हिंदी तथा अंग्रेजी भाषा पर भी अच्‍छा कमांड होना चाहिए. भाषा के संपादक बनने की इच्‍छा रखने वाले तथा 45 साल तक की उम्र वाले पत्रकार 15 फरवरी से पहले अपना अप्‍लीकेशन भेज सकते हैं. 15 फरवरी लास्‍ट डेट है. नीचे पीटीआई द्वारा जारी विज्ञापन. 

केजरीवाल लांच करेंगे ‘आप’ का अपना न्‍यूज चैनल!

नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल अब भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई और तेज करने के लिए अपने सहयोगी प्रशांत भूषण के साथ टेलीविजन चैनल चलाने की योजना बना रहे हैं। इस चैनल का उद्देश्य मुनाफा कमाने की बजाए ध्यान जनता से जुड़े मसलों पर केंद्रित करना होगा। इस चैनल के माध्‍यम से भ्रष्‍टाचार से जुड़ी खबरों को जनता के सामने लाया जाएगा। बिजनेस स्टैंडर्ड के मुताबिक भूषण ने बताया कि हम एक चैनल शुरू कर रहे हैं, जिसका ध्यान जनता से जुड़े मसलों पर होगा।

पाकिस्‍तान पर पिले जस्टिस काटजू, कहा – फर्जी मुल्‍क है

नई दिल्ली : भारतीय प्रेस परिषद के अध्यक्ष न्यायमूर्ति मार्कन्डेय काटजू ने मंगलवार को यहां कहा कि पाकिस्तान एक ‘फर्जी’ मुल्क है। इसका गठन ‘फर्जी द्विराष्ट्र सिद्धांत’ चलाने वाले ब्रितानी शासकों ने किया था। उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि अगले 15-20 सालों में भारत और पाकिस्तान फिर एकजुट हो जाएंगे तथा मजबूत, सशक्त, धर्मनिरपेक्ष और आधुनिक सोच वाली सरकार सत्ता में आएगी।

राजेन टोडरिया जमीनी पत्रकारिता के हिमायती थे

झांसी। राजेन एस टोडरिया साहसी पत्रकारिता के पर्याय थे। उन्होंने हमेशा जमीनी स्तर की पत्रकारिता की हिमायत की। उन्होंने अमर उजाला को हिमाचल प्रदेश में अच्छी उंचाई दी। ये बातें मंगलवार को बुलेंदखंड विश्‍वविद्यालय के जनसंचार एवं पत्रकारिता संस्थान में आयोजित एक बैठक में कई वक्ताओं ने कही। बैठक की अध्यक्षता विभागाध्यक्ष डा. सी.पी. पैन्यूली ने की। इसमें वरिष्‍ठ फोटो जर्नलिस्ट श्री सतीश साहनी जय सिह, उमेश शुक्‍ल समेत कई लोगों ने विचार व्‍यक्‍त किए। उमेश शुक्ल ने कहा कि उन्हें श्री टोडरिया के साथ अमर उजाला में काम करने का मौका मिल चुका है। वे वास्तव में बहुत विद्वान पत्रकार और अच्छे प्रबंधक थे।

टो‍डरिया की कलम आमजन के पक्ष में मजबूती के साथ खड़ी रही

आज दिन में हल्द्वानी से वरिष्ठ पत्रकार साथी ओपी पाण्डे ने मोबाइल पर दुखद सूचना दी कि उत्तराखंड के वरिष्‍ठ पत्रकार और उत्तराखंड जनमंच के संस्थापक राजेन टो‍डरिया जी का मंगलवार की सुबह देहरादून के सीएमआई अस्पताल में निधन हो गया है। ओपी ने बताया कि उन्‍हें हार्ट अटैक के बाद कल ही अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था। आज सुबह चल बसे। इस दुखद सूचना के बाद ह्रदय बेहद व्यथित है। नियति ने राजेन टो‍डरिया जी के रूप में एक जनपक्षीय सोच के लड़ाकू पत्रकार को असमय उत्तराखंड से छीन लिया। महज छप्पन साल की उम्र में राजेन टो‍डरिया जी का अचानक चला जाना निश्चित ही बेहद दुखद घटना है।

राजेन टोडरिया को बहुत मौके मिले लेकिन उन्‍होंने गरीबी में रहने का ही वरण किया

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून से बहुत ही दुखद खबर आयी…अपने बहुत करीबी साथी वरिष्ठ पत्रकार श्री राजेन टो‍डरिया के असमय निधन की…पत्रकारों की जमात आज बहुत बड़ी हो गयी है लेकिन राजेन भाई जैसे लोग तो गिने चुने ही है…30-32 सालों की उनकी पत्रकारिता में उनको मालामाल करने के बहुत मौके आए लेकिन उन्होंने गरीबी में रहने का ही वरण किया और जनोन्मुखी पत्रकारिता की राह पर चलते रहे…तमाम अखबारों के संवाददाता से संपादक तक रहे लेकिन कभी बदले नहीं.

दैनिक भास्‍कर के एक पत्रकार ने शराब पीकर मचाया हंगामा

: कानाफूसी : समाज में कई प्रकार का नशा है. हर नशा अपने आप में बहुत खास होता है. ऐसा ही एक नशा है पत्रकारिता का नशा. आज हर कोई दूसरों को सुधारने की बात करता है, जैसे वह दूसरों को सुधारने के लिए पैदा ही हुआ है. मगर खुद कोई सुधरने को तैयार नहीं है. बठिंडा में पत्रकार बिरादरी में ऐसे कई लोग अक्सर मिल जाते हैं. दो दिन पहले की बात है मैं रेलवे स्टेशन में मुसाफिर खाने के बाहर किसी का इंतजार कर रहा था कि अचानक दैनिक भास्कर, बठिंडा यूनिट के पत्रकारों की टीम एक के बाद एक कर वहां पहुंचने लगी.

रवि डरार एवं कुणाल मिश्र की नई पारी, मनोज का इस्‍तीफा

आज समाज, चंडीगढ़ से इस्‍तीफा देने वाले एचआर हेड रवि डरार ने अपनी नई पारी एनसीआर में किसी बड़ी कंपनी के साथ शुरू की है. रवि ने पिछले दिनों ही आज समाज से इस्‍तीफा दिया था. आज समाज से दूसरी खबर है कि मार्केटिंग हेड मनोज बैहाक ने भी इस्‍तीफा दे दिया है. वे अपनी नई पारी कहां से शुरू करने जा रहे हैं इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है. मनोज के जाने के बाद मार्केटिंग की जिम्‍मेदारी सुलेश गोस्‍वामी को दे दी गई है.

इंडिया न्‍यूज में एडिटर क्राइम बने रवि शर्मा, इंडिया टीवी छोड़कर तीन अन्‍य भी जुड़े

इंडिया न्‍यूज से लोगों के जुड़ने का सिलसिला लगातार जारी है. खबर है कि सहारा से इस्‍तीफा देकर रवि शर्मा ने इंडिया न्‍यूज ज्‍वाइन किया है. वे सहारा में क्राइम हेड की जिम्‍मेदारी संभाल रहे थे. रवि को इंडिया न्‍यूज में एडिटर क्राइम बनाया गया है. पिछले तेरह सालों से पत्रकारिता में सक्रिय रवि शर्मा ने अपने करियर की शुरुआत प्रिंट मीडिया से की थी. इसके बाद वे 2001 में आजतक से जुड़ गए. 2008 तक वे आजतक से जुड़े रहे. इसी साल आजतक से इस्‍तीफा देकर सहारा समय पहुंचे थे. वे लगभग साढ़े चार सालों से सहारा को अपनी सेवाएं दे रहे थे.

हमवतन में हलचल, डेढ़ दर्जन लोगों के तबादले

साईं प्रसाद मीडिया समूह के अखबार हमवतन की स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है. खबर है कि प्रबंधन ने इसके खर्च में कटौती करनी शुरू कर दी है. इसके लिए तमाम लोगों का स्‍थानांतरण किया जा रहा है ताकि वे खुद छोड़ दें. बताया जा रहा है कि प्रबंधन ने अखबार की लांचिंग के समय से जुड़े लगभग डेढ़ दर्जन लोगों का तबादला इधर से उधर कर दिया है. संभावना जताई जा रही है कि इसमें से ज्‍यादातर लोग अखबार को अलविदा कह देंगे.

जालौन में सम्‍मान समारोह का जागरण एवं स्‍वतंत्र भारत के पत्रकारों ने किया बहिष्‍कार

जालौन। जालौन में बसपा के राष्ट्रीय महासचिव व राज्यसभा सांसद बृजलाल खाबरी अभी से लोकसभा की तैयारी मे जुट गये, जिससे वह 2014 में होने वाले आम चुनाव में जीत हासिल कर सकें। इसी को ध्यान में रखते हुये उन्होंने पत्रकारों को अपने पक्ष में करने की लगातार कोशिश कर रहे हैं। इसी क्रम में वे अपने उरई स्थित आवास नैना पैलेस में पत्रकारों के लिये एक सम्मान समारोह रखा और जनपद के सभी पत्रकारों को आमांत्रित किया, जिसमें दलाली करने वाले पत्रकार भी सम्मान लेने पहुंच गये। जिसके बारे में जब दैनिक जागरण, कानपुर और स्वतत्र भारत के ब्यूरो चीफ और उनके स्टाफ के लोगों को खबर मिली तो उन्होंने इस सम्मान समारोह क बहिष्कार कर दिया।

मनमोहन-मुलायम के खिलाफ फेसबुक पर कमेंट पोस्‍ट करने वाला इंजीनियर अरेस्‍ट

: आगरा पुलिस ने किया गिरफ्तार : लखनऊ : महाराष्ट्र, बंगाल के बाद अब उत्तर प्रदेश में भी नेताओं के ऊपर फेसबुक पर कमेंट पोस्‍ट करने वाले एक व्‍यक्ति को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पुलिस ने फेसबुक पर पोस्‍ट इन टिप्‍पणियां सांप्रदायिक और भड़काऊ हैं. आगरा के दयालबाग कॉलोनी के रहने वाले इंजीनियर संजय चौधरी पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, टेलीकॉम मंत्री कपिल सिब्बल और सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव पर आपत्तिजनक टिप्पणी पब्लिश करने का आरोप लगाया गया है.

गुजरात दंगों के दौरान स्टिंग ऑपरेशन करने वाले तहलका के पत्रकार आशीष खेतान गवाही के दौरान मुकरे

Shahnawaz Malik : गुजरात दंगों के दौरान स्टिंग ऑपरेशन करने वाले तहलका के पत्रकार आशीष खेतान गवाही के दौरान मुकर गए।

भारतीय मीडिया के बारे में भ्रामक है विश्‍व प्रेस इंडेक्‍स की रिपोर्ट

“रिपोर्टर्स विदाउट बॉर्डर्स” नामक गैर –सरकारी संस्था की “वर्ल्ड प्रेस इंडेक्स” शीर्षक ताज़ा रिपोर्ट के अनुसार प्रेस की आज़ादी में भारत दस साल में न्यूनतम रैंक पर आ गया है. रिपोर्ट का मतलब है कि भारत में इन दस सालों में मीडिया की स्वतन्त्रता राज्य अभिकरणों द्वारा बाधित की गयी है याने लोकतंत्र की जड़ें कमजोर हुई हैं. रिपोर्ट के अनुसार भारत विश्व के १७९ देशों में जहाँ २००२ में १३१वें पायदान पर था, सन २०१२ की दिसम्बर माह तक आते –आते १४०वें पायदान पर फिसल गया.

शकील अहमद आडवाणी पर नहीं मनमोहन सिंह पर प्रहार कर रहे हैं!

बीजेपी भड़की हुई है। मगर कांग्रेस मौन है। अपने प्रवक्ता की बयानबाजी का क्या किय़ा जाए, यह कांग्रेस की समझ में नहीं आ रहा है। बहुत सारे लोगों को लग रहा है कि कांग्रेस प्रवक्ता शकील अहमद का दिमाग खराब हो गया है। वैसे अपना मानना है कि उनकी निजी औकात कुछ भी नहीं है। पर, सोनिया मेहरबान तो गधा भी पहलवान वाला मामला है। कांग्रेस को हर जगह, हर पैनल और हर खांचे में मुस्लिम कोटा चाहिए। सो, शकील अहमद कोटे से कांग्रेस के प्रवक्ता बने हुए हैं।