Good News कोरोना को पीट कर सकुशल घर लौटा दैनिक जागरण का ये रिपोर्टर, देखें वीडियो

ये मोहम्मद दाउन खान हैं. दैनिक जागरण कानपुर में रिपोर्टर के रूप में कार्यरत हैं. ये मुस्लिम बीट कवर करते रहे हैं. पिछले दिनों इन्हें कोरोना हो गया. Share on:

कोरोना वायरस तो नब्बे डिग्री टेंपरेचर में भी नहीं मरता भाई!

Soumitra Roy : कोरोना अमर है। इंसान नश्वर है। फ्रांसीसी यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने कोरोना को 60℃ पर भी जिंदा पाया है। इसे 92℃ पर 15 मिनट उबालें तो ही यह मरता है। दोज़ख में कड़ाही में खौलते तेल का इंतज़ाम इंसानों को Sanitise करने के लिए ही किया गया होगा। दुनिया को दोज़ख बनाने …

कोरोना की असली कुंडली किसने बनाई? जानिए सभी थ्योरीज का सच!

क्या कोविड-19 मीडिया का फैलाया आर्थिक आतंकवाद है? क्या आपको पता है कि इटली में पिछले कुछ सालों में साधारण फ्लू से मरने वालों की संख्या कितनी है? वर्ष 2013-14 से लेकर वर्ष 2016-17 के बीच सर्दी-खांसी और साधारण फ्लू पर हुए एक सर्वे में पाया गया है कि इन तीन सालों में करीब 52 …

इंडिया न्यूज की वेबसाइट Inkhabar के मीडियाकर्मियों को 4 महीने से सेलरी नहीं मिली!

पत्रकार आशीष भारद्वाज ने ट्वीट कर इंडिया न्यूज ग्रुप की वेबसाइट Inkhabar के मीडियाकर्मियों के दुख को साझा किया है. आशीष ने ट्वीट के जरिए बताया है कि इस ग्रुप ने अपनी वेबसाइट Inkhabar के पत्रकारों की सेलरी 4 महीने से रोके हुए है. प्रशासन की ओर से भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही …

ज़ी न्यूज को फर्जी खबर देने का एक और सर्टिफिकेट मिला

Vijay Shanker Singh : ज़ी न्यूज ने खबर चलाई, दिल्ली में तबलीगी जमात की बैठक का सच देखिए, अरुणांचल प्रदेश में कोरोना से संक्रमित 11 जमाती मरीज। Share on:

लॉकडाउन और एल्कोहलिक भिखमंगे!

Yashwant Singh : भारत में असली ज़रूरतमंद को तलाशना भी एक बड़ा दिमागी गेम है। लोकडौन के नाम पर कुछ बवंडर किस्म के अल्कोहलिक नगद मदद के लिए गुहार लगा रहे, घर में अन्न राशन न होने का दावा कर के। किसी सज्जन पुरुष के फोन करने पर पर्याप्त रो-गा भी देते हैं ताकि नौटंकी …

दैनिक भास्कर के पत्रकार का कोरोना से निधन

खबर आ रही है कि दैनिक भास्कर के देवास जिले के हाटपिपल्या के पत्रकार इक़बाल भाई का कोरोना से निधन हो गया है। इनके साथ कार्य करने वाले करीब 15 से अधिक साथियों को क्वारंटाइन किया गया है। बताया जा रहा है कि इकबाल दैनिक भास्कर के एजेंट थे और खबरें भी भेजते थे। क्षेत्र …

वर्क फ्रॉम होम के दौरान बढ़ सकती हैं रीढ़ की समस्याएं, बॉडी स्ट्रेच जरूरी

कोविड-19 की विश्वव्यापी महामारी और देशभर में लॉकडाउन के कारण अधिकांश कामकाजी लोगों को घर से ही काम करने की सलाह दी गई है। हालांकि, इस स्थिति में सोशल डिस्टेंसिंग बहुत जरूरी है, लेकिन लोगों को वर्क फ्रॉम होम के दौरान रीढ़ की समस्याओं को लेकर भी सावधान रहने की आवश्यकता है। Share on:

सरकारी विज्ञापन को लेकर सोनिया गांधी के सुझाव पर आईएनएस ने बहाए घड़ियाली आंसू

वेजबोर्ड लागू करने को लेकर बेशर्मी और ढिठाई से बोला झूठ कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी के केंद्र सरकार को सरकारी विज्ञापनों पर रोक के सुझाव पर तिलमिलाया अखबार मालिकों का संगठन आईएनएस घड़ियाली आंसू बहा रहा है। आईएनएस ने विपक्षी नेता के सुझाव के खिलाफ जारी बयान में बेशर्मी की हदें लांघते हुए ऐसा ना …

ट्रेनों में मिडिल बर्थ खाली रखने की तैयारी!

चेयरमैन रेलवे बोर्ड के साथ बोर्ड सदस्यों की हुई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग बैठक में कोरोना को ध्यान में रखते हुए 15 अप्रैल से रेलों के संचालन के तौर-तरीके पर विचार किया गया। इसमें कई मुद्दों पर सहमति बनी ताकि महामारी को किसी भी रूप में ट्रेन यात्रा के चलते बढ़ने का मौका न मिले। Share on:

इस न्यूज़ चैनल के रिपोर्टर का टेस्ट रिजल्ट आया कोरोना पॉज़िटिव!

खबर है कि भोपाल से चलने वाले एमपी-सीजी के रीजनल चैनल बंसल न्यूज़ के वरिष्ठ संवाददाता जुगल किशोर शर्मा कोरोना पॉजिटिव हैं। बुधवार को दिन में 12 बजे उनकी रिपोर्ट आ गई है। Share on:

पत्रिका के सेठजी ने मिटाया आर्थिक भेदभाव, सबको तनख्वाह दी 15 हजार

राजस्थान पत्रिका के मालिक गुलाब कोठारी ने अपने संस्थान के कर्मचारियों में कोरोना महामारी की आड़ में आर्थिक भेदभाव मिटाते हुए सबके सैलेरी एकाउंट में तनख्वाह में नाम पर मात्र 15 हजार रुपये ही जमा करवाए है। Share on:

भारत में पाजिटिव केस USA पैटर्न और डेथ रेट UK पैटर्न से ज्यादा तेज!

कोरोना पर सबसे बड़ा विश्लेषण है.. भारत में कोरोना का कहर लगातार बढ़ रहा है स्थितियों में सुधार नही हो रहा है पाजिटिव केसेस की दर लगातार बढ़ रही है मेरे पास बहुत से स्त्रोत से डाटा आ रहा है उनके आधार पर आप सभी के लिए बिंदुवार विश्लेषण कर रहा हूँ- Share on:

‘दिल्ली आजतक’ बंद किए जाने को लेकर टीवी टुडे ग्रुप की तरफ से आया स्पष्टीकरण, पढ़ें

‘दिल्ली आजतक’ न्यूज़ चैनल बन्द किए जाने सम्बन्धी ख़बर भड़ास पर छपने के बाद टीवी टुडे ग्रुप ने अपनी तरफ से एक स्पष्टीकरण भेजा है जिसे यहां प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया जा रहा है- Share on:

‘आजतक’ के मालिक अरुण पुरी बंद करेंगे अपने इस एक न्यूज़ चैनल को!

एक बड़ी खबर अरुण पुरी के स्वामित्व वाले टीवी टुडे ग्रुप से आ रही है। इस ग्रुप के न्यूज़ चैनल ‘दिल्ली आजतक’ का ऑपरेशन बंद करने का फैसला कर लिया गया है। Share on:

छप्पन इंच के सीने कितनी देर तक अंकल सैम की धमकी झेल पाते!

Nitin Thakur : इस ख़बर को ध्यानपूर्वक पढ़िए और जानिए कि छप्पन इंच के सीने कितनी देर तक अंकल सैम की धमकी झेल पाते हैं। Share on:

अमर उजाला में सीनियर सब एडिटर से उपर वालों की सेलरी में भारी कटौती!

कोरोना वायरस की मार पड़ी अमर उजाला कर्मियों पर… मीडिया इंडस्ट्री में कोरोनावायरस की मार सबसे पहले अमर उजाला के कर्मचारियों पर पड़ी है । कंपनी ने सीनियर सब एडिटर से ऊपर के संपादकीय कर्मियों की सैलरी आधी कर दी है। Share on:

किसी भी देश की धमकी के आगे भारत को इस तरह घुटने टेकते नहीं देखा!

Abhishek Parashar : मैंने किसी भी देश की धमकी के आगे भारत को इस तरह घुटने टेकते नहीं देखा…तब भी नहीं जब हमारे ऊपर कड़े प्रतिबंध लगा दिए गए थे. भारत ने हंसते-हंसते प्रतिबंधों का सामना किया और हम कमजोर होने की बजाए और मजबूत ही हुए. Share on:

कोरोना त्रासदी में भी छपास के रोगी नहीं हुए अखबार से दूर

देश जहाँ कोरोना की गंभीर त्रासदी के दौर से गुजर रहा है वही दैनिक जागरण प्रयागराज संस्करण छपास रोगियों के जाल से मुक्त नहीं हो पा रहा है….जिन लोगों ने जागरण में गहराई से पैठ जमा ली है..वह बेसिर पैर की कोई भी खबर छपने को देते हैं और रिपोर्टर छाप भी देते हैं…प्रयागराज के …

उल्लू से कोरोना ठीक करने वाले बुजुर्ग की मुलाकात जब पुलिस से हुई तो यूं बदले सुर (देखें वीडियो)

ये साहेब लोगों को कोरोना का इलाज बताया करते थे। कहते थे कि उल्लू को अगर सहलाया जाय तो कोरोना भाग खड़ा होगा। लोग उल्लुओं की तलाश में उल्लू बना गये। Share on:

जब डॉक्टर ही नहीं रहेंगे तो कोरोना महामारी से हमें बचायेगा कौन?

दीये जले न जलें मोमबत्तियां बुझने से पहले डॉक्टरों को सुरक्षा मिले… कुछ ऐसा ही संदेश दे रही टेलीग्राफ की लीड खबर… कोरोना महामारी से उबरने के लिए डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ दिन रात अपनी जिंदगी दाव पर लगाते हुए काम कर रहे हैं। जनता को कोरोना वायरस से आजादी दिलाने वाले ये डॉक्टर खुद …

बदमाश डीलर नहीं दे रहा गरीबों को राशन, कोरोना के भय से भीख भी बंद!

विशद कुमार पलामू जिले के सतबरवा प्रखण्ड अंतर्गत पोंची भुईयां परिवारों का गांव है। पोंची गांव आरजेडी के पूर्व विधायक और पूर्व सांसद मनोज भुईयां का पैतृक गांव भी है। वर्तमान में वे और उनकी पत्नी दोनों भाजपा में हैं और उनकी पत्नी पुष्पा देवी जिले के पाटन—छतरपुर से विधायक हैं। इस गांव के राशन …

उत्तर प्रदेश से ग्राउंड रिपोर्ट : बिन पैसे कोरोना से जंग!

उत्तर प्रदेश में “एक-एक को खोज के निकाल लेना है” की धमकी भरी घोषणाओं और हर दिन दो जिलों की समीक्षा बैठक करने, रात भर जागकर कोरोना संक्रमण की निगरानी करने के भागीरथी प्रयासों की खबरों के बावजूद सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण के कारण लाकडाउन में जबर्दस्त संकट से जूझ रही जनता को राहत पहुंचाने …

ट्रम्प के हाथों मोदी पर सबसे बड़ी जीवनी का विमोचन कोरोना के कारण टला

नयी दिल्ली: विश्व की सबसे बड़ी बायोग्राफी का विमोचन कोरोना वायरस के कारण टाल दिया गया है। भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी पर लिखी “नरेंद्र मोदी-हारबिंजर ऑफ प्रोस्पैरिटी एंड अपोस्टल ऑफ वर्ल्ड पीस” नामक बायोग्राफी के लेखक हैं अन्तराष्ट्रीय कॉउंसिल ऑफ़ जूरिस्ट, लन्दन के प्रेजिडेंट डॉ. आदीश सी. अग्रवाला और जानी-मानी अमेरिकन लेखिका मिस …

कोरोना काल में आफिस नहीं आए तो सेलरी नहीं मिलेगी, हरिभूमि अखबार के प्रबंधन का आदेश

हरिभूमि अखबार के मैनेजरों ने अपने मीडियाकर्मियों के लिए एक आदेश जारी किया है कि जो मीडियाकर्मी लॉक डाउन की वजह से ऑफ़िस नहीं आ पा रहा है, उसे छुट्टी पर माना जाएगा. उसकी उस दिन की सेलरी काट करके दी जाएगी. Share on:

कोरोना काल में कवरेज कर रहे पत्रकारों का Insurance क्यों नहीं?

Press Association का letter PM के नाम भारत सरकार से मान्यता प्राप्त पत्रकारों की संस्था प्रेस एसोसियेशन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह किया है कि कोरोना वायरस के खतरे के तहत अस्पतालों में जुटे डॉक्टर्स, नर्स और अन्य मेडिकल सेवा के लिए जिस तरह पचास लाख के इंश्योरेंस की घोषणा की गई वैसे ही …

राष्ट्रीय सहारा हिंदी और उर्दू अखबारों ने एनआरसी विरोध की फोटो कोरोना से जोड़कर छाप दी!

बरेली। गत 20 मार्च को मुस्लिम उलेमाओं के संगठन आल इंडिया तंजीम उलेमा -ए- इस्लाम का एक प्रतिनिधि मंडल गृह मंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिला. इस प्रतिनिधिमंडल ने देश में एनआरसी लागू न किये जाने के संबंध में एक ज्ञापन सौंपा। इस समाचार को देश के सभी समाचार पत्रों और न्यूज़ …

कोरोना का मामला तो भारत के हाथ से निकलता जा रहा है!

मामला हाथ से निकल रहा है…. पहला चार्ट बता रहा है कि भारत में कोराना के केस अब 4 दिन में दोगुना हो रहे हैं। मैंने पिछले विश्लेषण में बताया था कि यह 5 दिन में दोगुना हो रहे थे. एक तरह से शुरुआती क़दमों पर पानी फिर गया है, रफ़्तार बढ़ गई है। इस …

कोरोना इंपेक्ट : आउटलुक बंद, इंडिया टुडे का डिजिटलाइजेशन, एक्सप्रेस ग्रुप में सेलरी कट

कोरोना ने प्रिंट मीडिया की कमर तोड़ दी है. छोटे मझोले अखबार धड़ाधड़ बंद हो रहे हैं. बड़े ग्रुपों की मैग्जीन्स पर भी गाज गिरने लगी है. अंग्रेजी की वीकली पत्रिका आउटलुक का प्रकाशन बंद करने का फैसला ले लिया गया है. इस बाबत आउटलुक के एडिटर-इन-चीफ रूबेन बनर्जी ने एक आंतरिक पत्र जारी किया …

टाइम्स आफ इंडिया का खुलासा- कोरोना के चक्कर में कैंसर, एड्स समेत अन्य बीमारियों के मरीज इलाज के लिए तरस रहे!

टाइम्स ऑफ इंडिया की आज की एंकर स्टोरी में देश के स्वास्थ्य मंत्रालय की लापरवाही का नमूना देखा जा सकता है। कोरोना को हराने की जंग में स्वास्थ्य मंत्रालय कुछ इतना मशरुफ हो गया है कि कैंसर, एड्स और अन्य बीमारियों से पीड़ित लोग इलाज के लिए तरस रहे हैं। Share on:

कोरोना लॉक डाउन के बाद का भारत

कहा जा रहा है कि भारत में कोरोना तीसरे स्टेज में पहुंचने के करीब है। यह एक ऐसी परिस्थिति होगी जब यह बीमारी महामारी का रूप ले चुका होगा। यदि भारतीयों ने लॉक डाउन का सही ढंग से पालन नहीं किया तो यह महामारी सामुदायि‍क स्‍तर पर ग्रामीण इलाके तक पहुंच जाएगी। फिलहाल इस बीमारी …

खबरों की दुनिया में तबलीगी जमात, कोरोना के हॉटस्पॉट और मास्क का मुद्दा सुर्खियों में!

तबलीगी जमात के जलसे में शामिल अधिकतर लोगों के कोरोना संक्रमित होने से पूरे देश में कोहराम मच गया है। निजामुद्दीन को संक्रमण का केंद्र माना जा रहा है क्योंकि इसमें शामिल लोगों से अब अन्य 20 राज्यों में भी कोरोना का संक्रमण फैलने की आशंका व्यक्त की जा रही है। आरोप-प्रत्यारोप का बाजार गर्म …

कोरोना पर मीडिया में शोर अब थम जाएगा, जो दिखाना था दिखा लिया गया!

क्या मीडिया में लॉकडाउन की परेशानी का शोर अब थम जाएगा…. मेरा मानना है कि कोरोना पर मीडिया में शोर अब थम जाएगा। जो दिखाना था दिखा लिया गया। अब मजदूरों के पलायन की चर्चा रुक जाएगी। राहत सामग्री बंटने की खबरें दिखेंगी और अब सब ठीक बताया जाएगा। इसका कारण यह है कि सरकार …

कोरोना से जंग में फिलहाल फेल है मोदी सरकार, बता रहे रवीश कुमार

भारत में कोरोना मरीज़ कम हैं या भारत टेस्ट ही नहीं कर पा रहा है? 29 फरवरी को भारत में कोरोना संक्रमण के 3 मामले थे। 30 मार्च तक यह संख्या 1,251 हो गई। 30 मार्च को 227 नए मामले सामने आए। अभी तक 24 घंटे के भीतर इतनी संख्या कभी नहीं बढ़ी थी। Share …

इधर है कोरोना, तो उधर आर्थिक तबाही!

Ashwini Kumar Srivastava : जरा सम्भल कर दुनिया… इधर है कोरोना, तो उधर आर्थिक तबाही! आर्थिक तबाही को स्वीकार कर कोरोना से निपटने के लिए चीन और इटली के सब कुछ ठप यानी लॉक डाउन के रास्ते पर चल पड़ा भारत.. क्योंकि मोदी को पता है भारत की स्वास्थ्य सुविधाओं की कड़वी हकीकत… खुद मोदी …

कोरोना और सिनेमा : क्या होगा यदि आपको पता चल जाए दुनिया कुछ दिनों में खत्म होने वाली है!

क्या होगा यदि आपको पता चल जाए कि यह दुनिया कुछ दिनों में खत्म होने वाली है। कोरोना वायरस के कारण दुनिया भर में जो जान – माल की क्षति हुई है, वह डराने वाली है। ऐसा तो द्वितीय विश्व युद्ध में भी नहीं हुआ। दुनिया की सभी बड़ी अर्थव्यवस्थाएं खतरे में पड़ गई है। …

इनफेक्शन झेलते रहने वाले मजबूत भारतीय कोरोना पर पड़ेंगे भारी! देखें वीडियो

Yashwant Singh : कोरोना कांड पर मुझे ऐसे किसी भारतीय डाक्टर को सुनना था जो चीजों को जन सरोकार के पहलू से परत दर परत उघाड़-बता सके. Share on:

कोरोना से भी ज्यादा खतरनाक सिद्ध हो सकता है यह लाकडाउन, रेलें-बसें तुरंत चलाएं!

लाकडाउन यानि तालाबंदी की ज्यों ही घोषणा हुई, मैंने कुछ टीवी चैनलों पर कहा था और अपने लेखों में भी पहले दिन से लिख रहा हूं कि यह ‘लाकडाउन’ कोरोना से भी ज्यादा खतरनाक सिद्ध हो सकता है। Share on:

कोरोना से लड़ने के लिए सरकार सभी नागरिकों को प्रति माह 15,000 रुपये ट्रांसफर करे!

भारत के गरीब नागरिकों पर कोविद-19 महामारी के प्रकोप को कम करने के लिए भारतीय वित्त मंत्रालय ने 1.7 लाख करोड़ का पैकेज का घोषित किया हैं I लेकिन सोशल सिक्यूरिटी नाउ (SSN) का कहना हैं कि यह पैकेज अपर्याप्त और अपमानजनक है क्योंकि इसके तहत लाभार्थियों के खाते में मात्र 1000 रुपए ही प्रतिमाह …

कोरोना से जंग लड़ रहा आईटीवी ग्रुप अपने कर्मियों को सेलरी कब देगा?

इंडिया न्यूज चैनल संचालित करने वाले आईटीवी नेटवर्क के फाउंडर कार्तिकेय शर्मा कोरोना वायरस को लेकर देश के संपादकों-मीडिया मालिकों से पीएम की बातचीत में शामिल होते हैं। पर अपने यहां के कर्मियों का तीन-तीन माह का पगार रोके हुए हैं। Share on:

कोरोना पीड़ितों की संख्या के मामले में चीन से भी आगे बढ़ गया अमेरिका, टेस्ट हुआ तो क्या भारत सबको पछाड़ देगा?

Ravish Kumar : एक दिन में बढ़ गए कोरोना के 10,000 मामले, आखिर क्यों पिछड़ गया अमरीका लड़ाई में.. अमरीका में एक दिन में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज़ों की संख्या 10,000 बढ़ गई है। इस छलांग से अमरीका चीन और इटली से भी आगे निकल गया है। अमरीका में संक्रमित मरीज़ों की संख्या 85,500 …

लॉक डाउन की मूल भावना का उल्लंघन करते हुए प्रभात खबर पटना के प्रबंधन का तुगलकी फरमान

प्रभात खबर पटना के प्रबंधन के तुगलकी फरमान से इस संस्थान में काम करने वाले मार्केटिंग सेक्शन के कर्मियों के परिजन वैश्विक महामारी कोरोना की चपेट में आने के भय से परेशान हैं. कर्मी नौकरी चले जाने के डर से भयभीत हैं. Share on:

लाकडाउन – मदद मांगने पर झारखंड में आदिवासी लड़की का सामूहिक बलात्कार

देश में लाकडाउन से एक तरफ हर तबका परेशान है, तो वहीं दूसरी तरफ झारखंड में मानवता को शर्मसार करने वाली घटने घटी है। जिसपर विश्वास करके लड़की ने अपने मदद के लिए जिसे बुलाया, उसी ने मौके का फायदा उठाकर अपने 9 दोस्तों के साथ जंगल में लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार जैसा जघन्य …

जुम्मे की नमाज घर पर पढ़ी गई

अजय कुमार, लखनऊ लखनऊ। कोरोना वायरस से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंस बनाए रखने के लिए आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड, देवबंद और तमाम मुस्लिम उलेमाओं की अपील के बाद मस्जिदों में नमाज का सिलसिला थमता जा रहा है। लोग घरों में ही इबादत कर रहे हैं। आज जुम्मे की नमाज के दिन भी …

संकट की इस घड़ी में मीडिया न करे सोशल पुलिसिंग

संजय सक्सेना, लखनऊ लखनऊ। एक तरफ कोरोना का खौफ बढ़ता जा रहा है तो दूसरी तरफ कुछ समाचार चैनलों के एंकर स्टूडियों में बैठकर पुलिस को सोशल पुलिसिंग का पाठ पढ़ाने में लगे हैं। वह पुलिस को बता रहे हैं कि उन्हे लाक डाउन का उल्लंघन करने वालों के साथ कैसा व्यवहार करना चाहिए। Share …

एक वरिष्ठ पत्रकार जब अपने आसपास की झुग्गियों में पहुंचे तो ये हाल दिखा! देखें वीडियो

कोरोना बनाम भूख – बड़ा वायरस कौन? Vinod Kapri : कोरोना से पहले भूख मारेगी… यूपी के नोएडा की झुग्गियों में आज क़रीब 100 परिवारों से मिला।सभी दिहाड़ी मज़दूर हैं।दिन के 300-400₹ मिलते थे तो जीवन चलता था।हफ़्ते दस दिन से कोई काम नहीं,ना कोई दिहाड़ी। इन परिवारों ने बताया कि अब इनके पास एक …

इस वरिष्ठ पत्रकार का कोरोना टेस्ट रिजल्ट पॉजिटिव आया

भोपाल : 25 मार्च 2020 मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी श्री सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि विगत दिनों कोरोना संक्रमण पॉजिटिव पाई गई लड़की के पिता का कोरोना संक्रमण सेम्पल भी पॉजिटिव आया है। Share on:

घरों में सप्लाई का सपना दिखा योगी हुए पूजा में लीन, पुलिस ज़रूरतमन्दों पर लट्ठ बजा रही!

इधर पुलिसिया आतंक से घबरा कर ऑनलाइन डिलीवरी करने वाली कंपनियों ने भी छोड़ दिया जनता का साथ फ्लिपकार्ट और अमेजॉन की तरह लगभग हर किसी ने करनी शुरू कर दी डिलीवरी में आनाकानी आसपास के दुकानदार भी घर पर सामान पहुंचाने से साफ कर रहे मना मजबूर होकर जनता जब निकल रही जरूरत का …

दैनिक भास्कर में भी रद्द हुई कर्मियों की छुट्टियां, मच्छर मार फूंक कर भगा रहे कोरोना, देखें तस्वीरें

पत्रिका समूह की तरह दैनिक भास्कर ने भी अपने मीडियाकर्मियों की छुट्टियां रद्द कर दी हैं. भास्कर प्रबंधन ने सबको बोला है कि “रोज़ आना होगा काम पर”. अब किसी को भी नहीं मिलेगा वीकली ऑफ़. अगले आदेश तक सबको रोज रोज आफिस जाकर काम करना होगा. Share on:

कोरोना टेस्ट किट में क्या घपला है भाई! देखें ये वीडियो

कोरोना टेस्ट किट सप्लाई में भारतीय कंपनियों की अनदेखी क्यों? कोरोना वायरस की जाँच के लिए स्तेमाल में आने वाली किट की सप्लाई पर विवाद उठ खड़ा हुआ है. सरकार ने पहले अमरीका से ज्वाइंट वेंचर लाई अहमदाबाद की एक कंपनी को लायसेंस दिया और जब तक भारतीय कंपनियों की किट आती हर टेस्ट के …

क्या अखबार में भी घुसकर आ जाता है कोरोना?

Satyendra PS : कोरोना को लेकर इतनी दहशत है कि हमारी बिल्डिंग में लोगों ने अखबार पढ़ना भी बन्द कर दिया है। लोगों का कहना है कि कोरोना अखबार में भी घुसकर आ जाता है। Share on:

एक जरूरी पोस्ट- लॉक डाउन से दिल्ली-लखनऊ में कोई परेशान हो तो उसे ये जरूर बताएं!

Indu saxena : लखनऊ में बहुत लोग इस बंदी के कारण कई दिनों से भूखे सो रहे हैं. जो लोग लखनऊ में बाहर से पढ़ने कमाने या और काम के चलते आए हैं, जिनके पास इंतजाम नहीं है, बहुतों के पास खाने का ठिकाना नहीं है, ऐसे लोग बहुत बुरी तरीके से लखनऊ में फंसे …

हर समस्या के लिए पब्लिक को जिम्मेदार ठहराने वाले इस हरामखोर मिडिल क्लास को पहचानिए!

Tara Shanker : 21 दिन का लॉक डाउन सुनते ही लोग राशन की दुकानों पर टूट पड़ें हैं! कौन हैं ये लोग? ग़रीब-मजदूर और लोअर क्लास ही अधिकतर होंगे! क्योंकि बेशर्म-बेगैरत-हरामखोर मिडिल और अपर क्लास अपना राशन अपने उपभोग सीमा से अधिक हफ्ते भर पहले ही घर में ठूंस चुका होगा! इतना कि ऑनलाइन स्टोर …

क्या मोदीजी नहीं समझते हैं कि इसके बिना लॉक डाउन फेल हो जाएगा?

Lal Bahadur Singh : क्या मोदी जी अपने देश को नहीं जानते! उनसे हमारा बुनियादी मत-विरोध है, पर इस पर मुझे कभी शक नहीं रहा कि वे इस देश को काफी जानते-समझते हैं। हमारी भौतिक-आर्थिक स्थिति, हमारे स्वास्थ्य सेवाओं का हाल, हमारी जनता की रोजी-रोटी का हाल, उसका मनोविज्ञान, उसकी वैचारिक-सांस्कृतिक स्थिति, इस सबकी उनकी …

दुनिया भर से लॉकडाउन की खबरें थीं, हमारी सरकार ने तैयारी क्यों नहीं की?

Samar Anarya : भारत में कोरोना वायरस का पहला मामला 30 जनवरी को मिला था। बक़ौल स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन 2 फ़रवरी से मोदी जी ख़ुद ही निगरानी कर रहे थे। ये भूल जाइए कि 2 फ़रवरी से आज आधी रात को हुए लॉकडाउन से पहले क्या क्या हुआ- लिट्टी चोखे का आनंद, ट्रम्प का …

बिना योजना मोदीजी ने फिर भगदड़ मचा दिया… अबकी किसान, आदिवासी और बेरोजगार भुगतेंगे!

हमारे शहर कोंडागांव (छत्तीसगढ़) में लाक डॉउन तोड़ने के अपराध में नगरपालिका ने पहली कानूनी कार्यवाही करते हुए एक दुकानदार पर दो हजार रुपये का जुर्माना किया गया। बाकायदा रसीद भी काटी गई। हम सभी को लगा कि यह अच्छी और जरूरी कार्यवाही थी। लोगों ने इस कार्यवाही की तारीफ भी की। सुनने में यह …

कोरोना, मजीठिया और बंदी : ‘हमारा महानगर’ कर्मियों को दोहरी ‘सजा’ दे दी भाजपा विधायक RN Singh ने! पढ़ें ये पत्र

मुंबई समेत कई शहरों से प्रकाशित अखबार हमारा महानगर के बंद कर देने की असली कहानी अब धीरे धीरे सामने आ रही है. इस अखबार के मालिक आरएन सिंह बीजेपी के विधायक भी हैं. ये सिक्योरिटी एजेंसी चलाते चलाते अखबार मालिक बने और फिर विधायक. उत्तर भारतीयों के नेता कहे और माने जाते हैं. Share …

घंटा बजा चुके हों तो कोरोना पर रवीश कुमार की ये आंख खोलने वाली पोस्ट भी पढ़ लें!

रवीश कुमार की एक शानदार पोस्ट… पर भक्त सवाल कहाँ पूछते हैं अपनी सरकारों से, वे घण्टा बजाते हैं और सवाल करने वालों को गालियां देते हैं… Share on:

वीआईपी स्टेटस के बहाने आप कोरोना की जांच से नहीं बच सकते : ममता बनर्जी

कोरोना वायरस से बचने में एहतियाती कदम उठा रहे लोग… कोलकाता। बंगाल में कोरोना वायरस के एक के बाद एक तीन केस सामने आते ही हर जगह बस कोरोना की ही बातें हो रही हैं। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी वीआईपी स्टेटस का दावा करने वालों द्वारा कोरोना वायरस की जांच न कराने को गैर …

कोरोना के चलते फिल्म और टीवी की शूटिंग 31 मार्च तक बंद

मुंबई : कोरोना वायरस के कहर से फिल्म-टीवी से जुड़े लोगों को बचाने के लिए गुरुवार से सभी तरह की शूटिंग को बंद करने का फैसला लिया गया है। यह बंदी 31 मार्च तक जारी रहेगी। सभी निमार्ताओं को अगले तीन दिन का मौका दिया गया है कि वह अगर देश या विदेश में कहीं …

कोरोना पर केंद्रित सुशोभित की ये चार पठनीय पोस्ट जरूर पढ़ें

पोस्ट 1- जैसे नियमित व्यायाम नहीं करने से मांसपेशियां शिथिल पड़ जाती हैं, वैसे ही बुद्धि भी नियमित व्यायाम नहीं करने से रूढ़ हो जाती है। बुद्धि को प्रश्नों और जिज्ञासाओं से चुनौती मिलती है। बुद्धि के परिमार्जन के लिए विमुक्ति का वह अनुभव आवश्यक है। किंतु इक्कीसवीं सदी के आरम्भिक बीस सालों में, ऐसा …

क्या कोरोना के वैश्विक प्रकोप और येस बैंक की देसी मार के चलते भारत भयंकर मंदी की चपेट में आ रहा है?

Prabhat Dabral : शेयर बाजार की ये तबाही आम आदमी के दरवाज़े पर आज भले ही न पहुँची हो, पर बहुत जल्दी ही हमारे आपके जैसे लोग जो इस बाजार से ज़्यादा जुड़े नहीं हैं उनपर भी इसकी चोट पड़ने वाली है. Share on:

तो क्या अमेरिका ने दुश्मन देशों चीन व ईरान में घुसाया कोरोना वायरस?

Prakash K Ray : कोरोना वायरस का खेल खुलने लगा है. चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने ट्वीट कर पूछा है कि अमेरिका अपने यहाँ इस बीमारी के फैलने से जुड़ी सूचनाएँ जारी करे. कल अमेरिका के रोगों के नियंत्रण व रोकथाम केंद्रों के निदेशक ने कांग्रेस की सुनवाई में माना है कि इनफ़्लुएंज़ा से …

कोरोना के डर से पोल्ट्री उद्योग चौपट, चिकन व अंडे के दाम गिरे

लखनऊ। चीन में फैले जानलेवा कोरोना वायरस का असर पूरे भारत सहित उत्तर प्रदेश के पोल्ट्री उद्योग पर भी दिखने लगा है। कोरोना से भयभीत तमाम लोगों ने चिकन (मुर्गे) का गोश्त और उससे बने अन्य उत्पाद खाना बंद कर दिया है। इसी के चलते उत्तर प्रदेश की राजनधानी लखनऊ में पिछले एक महीने में …

कोरोना वायरस चीन क्यों तैयार कर रहा था और यह वहां से कैसे लीक हुआ?

कल रात हॉलीवुड की एक फिल्म देखी थी जिसमें कृत्रिम जैविक विषाणुओं के जरिए दुश्मन देशों को तहस-नहस करने और उसके लीक होने की कहानी थी। Share on:

कोरोना वायरस : सांप, कुत्ता, चमगादड़ आप खाएंगे तो इनके साइड इफेक्ट कौन झेलेगा?

Sushobhit : जो कोरोना वायरस एक नई महामारी के रूप में उभरकर सामने आया है और जिसने चीन में आपातकालीन स्थितियां निर्मित कर दी हैं, उसका एपिसेंटर वुहान प्रांत का हुआनान सीफ़ूड होलसेल मार्केट बताया गया है। किंतु मैं तो जहां भी नज़र घुमाता हूं, मुझको हुआनान सीफ़ूड होलसेल मार्केट दिखलाई देते हैं। Share on:

कोरोना वायरस की कुंडली जानिए, होम्योपैथी में है इसका इलाज!

मूलतः यह सूअरों में स्वशन तंत्र को आक्रांत कर निमोनिया फैलाने वाला महामारी है। शरद ऋतु में होने वाला यह रोग अत्यंत संक्रामक है। सूअर पालकों और उनका मांस खाने वालों को भी यह वायरस आक्रांत कर सकता है। जहां से यह संपर्क में आने वाली अन्य मनुष्यों तक पहुंच जाता है। एपिडेमिक के रूप …