सुमित अवस्थी की ये कैसी पक्षपाती पत्रकारिता!

संजय कुमार सिंह- ट्वीटर पर मिले दो ट्वीट। एक ‘राजनीतिक आंसू’ और एक ‘आजाद’ आंसू है। पहली बार पूरा ‘राजनीतिक आंसू’ इनवर्टेड कॉमा में है जो किसान नेता राकेश टिकैत के लिए है और दूसरी बार नरेन्द्र मोदी के मामले में सिर्फ आजाद इनवर्टेड कॉमा में है, आंसू नहीं और खेल इसी में है।

सभी स्वतंत्र पत्रकारों और यूट्यूबर्स को इस सरकारी बदमाशी का विरोध करना चाहिए!

हर्ष देव- आतंकजीवी के कार्रवाई दस्ते ईडी ने एक स्वतंत्र पोर्टल ‘न्यूज़ क्लिक’ के दफ़्तर, उसके सम्पादक और प्रमुख सहयोगियों के घरों पर छापे मारे। इस लोकप्रिय पोर्टल से पत्रकार अभिसार शर्मा का ताल्लुक़ है।उनको 2018 में एबीपी चैनल से इस्तीफ़ा देने की लिए मजबूर किया गया था। पत्रकार के लिए ख़बरें देना अपराध है …

यूपी में फिर हुआ पुलिस वालों पर भयानक हमला, एक शहीद, कई घायल

जेपी सिंह- यूपी में रामराज्य… कासगंज में विकास दुबे जैसा कांड: शराब माफिया का पुलिस पर हमला, सिपाही की मौत, दरोगा गंभीर

मोदी सरकार ने खाई कसम, साल भर में चुन चुन कर बेची जाएगी सरकारी सम्पत्ति

संदीप ठाकुर- “देश नहीं बिकने दूंगा” का नारा देने वाली मोदी सरकार ने कसम खाई है किसाल भर के भीतर चुन चुन कर सरकारी सम्पत्ति बेची जाएगी। बिक्री के लिएबैंक, गैस, पावर, पेट्रोलियम ,बंदरगाह, इश्योरेंस कंपनी जैसे क्षेत्रोंसे छांट छांट कर कंपनियां जुटाई गई हैं। चाहे कंपनियां घाटे में चल रहीहैं या फिर मुनाफे में, …

मोदी शाह के नाम पर लूट मचाता गुजरात का चैनल अब बिहार, दिल्ली, यूपी में हुआ सक्रिय!

मीडिया का हाल किसी से छिपा नहीं है. मैं भी एक पत्रकार हूं. जब मुझे पता चला कि एक गुजराती व्यवसायी चैनल आ रहा है तो मुझे बहुत खुशी हुई. इस चैनल से जुड़ना हुआ. कुछ ही दिनों में मैंने जॉब छोड़ दी थी. कारण साफ था कि इस गुजराती व्यवसायी के दिमाग में सैटेलाइट …

दीपिका नेगी ने आरएसएस का प्रेरणा मीडिया छोड़ संभाली अमृत विचार डिजीटल की ज़िम्मेदारी

हल्द्वानी: अमृत विचार दैनिक समाचार पत्र के डिजिटल कुमाऊँ प्रभारी के रूप में दीपिका नेगी को अहम जिम्मेदारी मिली है।

न्यूज़ क्लिक वेबसाइट पर छापेमारी की इस पत्रकार संगठन ने की भर्त्सना

DUJ Condemns Raids on Newsclick The Delhi Union of Journalists(DUJ) condemns the raids by the Enforcement Directorate on the office of online portal Newsclick and the homes of its owner editor Prabir Purkayastha, editor Pranjal and human resources head Amit Chakravarty earlier today.

जमूरा पत्रकारिता के जनक का रिपब्लिक टीवी से इस्तीफ़ा!

रवीश शुक्ला- पत्रकारिता जगत से दिल दहलाने वाली खबर आ रही है। जमूरा पत्रकारिता के जनक और करतबों के ”भंडार” के इस्तीफे की खबर अभी अभी नमूदार हुई। इससे जमूरा पत्रकारिता करने वाले तमाम पत्रकारों में शोक की लहर दौड़ गई है।

नोएडा के बाद बुलंदशहर में भी स्पा सेंटर पर छापा, देखें एक कॉलगर्ल का स्टिंग

नोएडा के बाद अब बुलंदशहर में स्पा सेंटर पर छापा पड़ा है. बुलंदशहर के एसएसपी संतोष सिंह के निर्देश के बाद हुई इस कार्रवाई में तीन लड़कियों और 2 लड़कों को गिरफ्तार किया गया है.

एंकर अभिसार शर्मा समेत कई पत्रकारों और एक न्यूज़ पोर्टल के ठिकानों पर ED का छापा

ईडी की टीम ने न्यूजक्लिक के एडिटर प्रबीर पुरकायस्थ और प्रांजल के परिसरों पर भी छापेमारी की। बहरहाल, जांच एजेंसी के वरिष्ठ अधिकारियों ने इस मामले में विस्तृत जानकारी देने से इनकार कर दिया। मोदी राज में मीडिया पर हमलों का दौर जारी है। सत्ता के ख़िलाफ़ उठने वाली आवाज़ों को कुचला जा रहा है।

ज़बरदस्त है आज के ‘टेलीग्राफ’ अख़बार का फ़्रंट पेज

हिटलर का प्रत्यक्ष निवेश… हिटलर ने भी यहूदियों को “परजीवी” कहा था। प्रयोग जारी है। आपके अखबार नहीं बताएंगे।

लखनऊ के पत्रकार आशुतोष बाजपेयी का निधन

नवेद शिकोह- मौत से मुलाकात की दास्तान सुना कर चले गये आशुतोष बाजपेई खाटी पत्रकार आशुतोष वाजपेई नहीं रहे। तीस बरस तक निरंतर पत्रकारिता की यात्रा में डेक्स वर्क के महारथी आशुतोष जी सूनी हो चुकी पुरानी पीढ़ी को और भी तनहा कर गये। दैनिक जागरण और लम्बे समय तक स्वतंत्र भारत में सेवाएं देने …

मीडिया के लिए प्रसार भारती ने फ़्री डिजिटल न्यूज़ सर्विस शुरू की, टेलीग्राम पर join करें

Members and Editors of NBA Further to mail sent yesterday , given below is the formal communication received from Mr Samir Kumar, Head, Prasar Bharati News Services & Digital Platform through our organisation , in public interest, select content produced by Prasar Bharati News Services (PBNS) is being made available for use by all Media …

आजतक के रिपोर्टर की पुत्री का निधन

यूपी के गाजीपुर जिले से सूचना आ रही है कि आजतक के रिपोटर के रूप में कार्यरत विनय सिंह वीनू की पुत्री का इलाज के दौरान निधन हो गया है.

राजदीप, मृणाल, थरूर आदि को सुप्रीम कोर्ट से राहत

सुप्रीमकोर्ट से कांग्रेस सांसद शशि थरूर, पत्रकार मृणाल पांडे, राजदीप सरदेसाई, जफर आगा और बाकी को राहत। SC ने किसानों के ट्रैक्टर मार्च के दौरान भ्रामक ट्वीट/ पोस्ट करने के मामले में विभिन्न राज्यों में दर्ज FIR पर रोक लगाई। FIRs रद्द करने की मांग पर नोटिस जारी किया। दो हफ्ते बाद सुनवाई

बरेली में अनूप ने अमर उजाला को किया बाय बाय, अमृत विचार में पहुंचे

उत्तर प्रदेश के बरेली में अमर उजाला में कार्य कर रहे सीनियर रिपोर्टर व उप संपादक अनूप गुप्ता ने काम का दबाव बढ़ने व जल्दी-जल्दी बीट परिवर्तन होने से परेशान होकर इस्तीफा दे दिया। उन्होंने नई पारी की शुरुआत अमृत विचार से की है।

सुदर्शन वाला बंदा अपना अलग ही एंगल ठेले रहता है

शीतल पी सिंह- राष्ट्रवादी पत्रकारिता… सिर्फ़ मूर्खतापूर्ण गढ़ंत पर पनपती है । यदि आप इनसे जानकारी का स्त्रोत पूछ लें तो ये तुरंत गाली बकने लगेंगे !

वरिष्ठ पत्रकार जगदीश उपासने का स्वास्थ्य ठीक नहीं

वरिष्ठ पत्रकार, इंडिया टुडे (हिन्दी) के पूर्व संपादक, माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय भोपाल के पूर्व कुलपति एवं वर्तमान में प्रसार भारती भर्ती बोर्ड के अध्यक्ष जगदीश उपासने अस्वस्थ हैं. वे एम्स दिल्ली में भर्ती हैं.

‘दृष्टांत’ का सरकारी विज्ञापन रोककर दबाव बना रहे सहगल!

सौरभ सोमवंशी- पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के 5 साल और अखिलेश यादव के अंतिम 3 वर्षों में ताकतवर नौकरशाह रह चुके और अक्टूबर में योगी सरकार में अपर मुख्य सचिव के पद पर विराजमान हुए नवनीत सहगल ने एक पत्र जारी किया है जिसमें उन्होंने लखनऊ से प्रकाशित मासिक पत्रिका दृष्टांत को उत्तर प्रदेश के सभी …

क्या न्यूजरूम में तनाव का ग्राफ इतना बढ़ जा रहा है कि धमनियों का ग्राफ थम जाए?

Anil Bhaskar- सीधे तौर पर विकास से कोई परिचय नहीं रहा। फेसबुक पर सुबह से उफना रहे दुखद पोस्टों से पता चला कि एक टीवी न्यूज चैनल के स्थापित एंकर थे विकास। उनके असामयिक निधन की वजह क्या रही, यह तो निश्चित नहीं, पर जो संदेह उनके अपने और करीबी जता रहे हैं, वह निश्चित …

पत्रकार और साहित्यकार हरे प्रकाश उपाध्याय का नया कविता संग्रह ‘नया रास्ता’ प्रकाशित होने को तैयार

Hareprakash Upadhyay- अग्रजो व प्रिय मित्रो, आप सबों के उलाहनों, तगादों और मुहब्बत का ही यह सबब है कि मेरी यह तीसरी किताब फरवरी के दूसरे सप्ताहांत तक आप लोगों के हाथों में होगी।

स्क्रीन पर बुलंद आवाज में एंकरिंग करने वाला शख्स अंदर ही अंदर कितना घुट रहा था!

पंकज कुमार झा- सबसे कठिन होता है जजमेंटल होना। लेकिन उससे भी कठिन है चुप रह जाना। अपने माखनलाल के ही, हमारे कनिष्ठ बैच के छात्र रहे यशस्वी पत्रकार दिवंगत विकास शर्मा जी के बारे में संस्थान के ही पूर्व छात्रों ने काफ़ी कुछ बताया। लिखने का आग्रह भी था लेकिन, हिम्मत नहीं हो रही …

वरिष्ठ पत्रकार राजकेश्वर सिंह ने लांच की मैग्जीन

डॉ. अतुलमोहन सिंह गहरवार- देश के वरिष्ठ पत्रकार राजकेश्वर सिंह के संपादन में प्रकाशित मासिक पत्रिका ”जन चुनौती’ का फरवरी अंक प्राप्त हुआ।

भावेश कुमार सिंह से सीनियर हैं सूचना आयोग में कार्यरत एक पूर्व IAS और एक पूर्व IPS अफ़सर!

Rajkeshwar Singh- उत्तर प्रदेश सूचना आयोग में राज्य के नये मुख्य सूचना आयुक्त के रूप में श्री भावेश कुमार सिंह ( रिटायर्ड आईपीएस) की नियुक्ति से आयोग में पहले से कार्यरत दो राज्य सूचना आयुक्तों की सीनियरिटी को लेकर उठे सवाल ने एक नई बहस को जन्म दे दिया है। कहा जा रहा है कि …

मोदी के गालीबाज अब ग्लोबल लेवल पर भिड़ंत कर रहे हैं!

Anu Shakti Singh- मीना हैरिस उसी कमला हैरिस की भाँजी है जिसके अमेरिका की उपराष्ट्रपति बनने पर आप यहाँ हवन कर रहे थे। यह शर्म से डूब जाने की बात है।

मंदिर के लिए चंदा देने वाले उदय प्रकाश को ‘आजतक’ पर ठीक से खबर नहीं चलने का कष्ट है!

Uday Prakash- कल सुबह शहडोल से रवि शुक्ल, जो स्वयं को रवेंद्रा शुक्ल भी कहलाते हैं, ‘आज तक’ चैनल से आए थे। वे मध्य प्रदेश के कई ज़िलों के ‘आज तक’ के मुखिया हैं। बहुत अच्छे, सहज और पारदर्शी युवा लग रहे थे। क्रेटा कार थी, जिससे उन्होंने बताया, वे नेपाल और लेह- लद्दाख और …

कैंसर पीड़ित पत्रकार रवि प्रकाश को इलाज के लिए आर्थिक सहयोग चाहिए, यथासंभव मदद करें

Shyam Meera Singh- दोस्तों मदद का हाथ बढ़ाने की जरूरत आन पड़ी है. आप चाहे तो इसे बिना पढ़े ही इग्नोर मारके आगे बढ़ सकते हैं. आप चाहे तो 100-100, 200-200 रुपए या जितनी आपकी क्षमता हो उस हिसाब से इस आदमी की मदद कर सकते हैं. कुछ भी न करें तो बस दुआएं छोड़ते …

आज के अखबार : PM अदालतों के काम पर बात करते हैं पर सरकार के क्रियाकलाप पर कमेंट नहीं करते!

Sanjaya Kumar Singh- संयोग है या रिवाज? आज के अखबारों में न्यायपालिका से संबंधित प्रधानमंत्री के बयान को अच्छी प्राथमिकता मिली है। पहले पन्ने की खबरों के तीन शीर्षक देखिए

नहीं रहे ‘अमेठी समाचार’ वाले जगदीश पीयूष!

राजू मिश्र- राजनीति उन्हें कभी नहीं सुहाई, लेकिन कांग्रेस से उनके रिश्ते जगजाहिर थे। बड़े से बड़ा कांग्रेसी पीयूष जी को नाम से जानता था। बहुत ही अलमस्त और फक्कड़ प्रकृति के जगदीश पीयूष दोस्तों के भी दोस्त थे।

एक महीने काम कराकर आफिस बंद कर दिया, सेलरी के लिए भटक रहे लड़के

आरके कंसल्टेंट, ललनटाप, News100 नामों से यूट्यूब चैनल, वेबसाइट आदि संचालन करने वाले लोगों ने कई युवकों को परेशान कर रखा है. इन्होंने पंद्रह लड़कों की एक महीने की सेलरी मार दी है. ज्ञात हो कि लल्लनटाप वैसे तो इंडिया टुडे ग्रुप का है लेकिन मिलता जुलता ललनटाप नाम रखकर ये लोग अपना कामकाज चला …

पाइपलाइन में सेंधमारी कर हजारों लीटर क्रूड आयल चोरी करने वाले गैंग में पत्रकार भी!

राजस्थान से खबर आ रही है कि एक पत्रकार को गिरफ्तार किया गया है. इसका नाम श्याम शर्मा बताया जाता है.

मोदी का जो मीडिया मैनेजमेंट है वह भूतो न भविष्यति कैटगरी का है! देखें वीडियो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय मीडिया को जिस तरह से मैनेज किया है, वह न कभी हुआ और लगता नहीं कि कभी कोई ऐसा कर पाएगा…

आप करते रहो ias की तैयारी, मोदी सरकार बैक गेट से भर्तियाँ करने में जुटी!

पंकज चतुर्वेदी- आप दस साल मुखर्जी नगर में चप्पल घिसो। घर से पैसा मंगवा कर दड़बे जैसे फ्लेट में रात काली करो। कॉरपोरेट से लोग आएंगे और सीधे जे एस अर्थात संयुक्त सचिव स्तर पर औहदा पाएंगे। यह पोस्ट का कोटा कटेगा प्रारंभिक एंट्री से। फिर जो कम से कम 15 साल सेवा कर प्रमोशन …

मैंने जो चंदा दिया उसका कोई राजनीतिक मतलब नहीं है : उदय प्रकाश

शशिभूषण- कल उदय प्रकाश जी ने मेरा पत्र पढ़ने के बाद फ़ोन किया। उन्होंने कहा, मैंने आपका पत्र पढ़ा। मैं आपको सचमुच बहुत प्यार करता हूँ। मैंने चंदा दिया इसका कोई राजनीतिक मतलब नहीं है। जो राजनीति समझ लेता है वह राजनीति छोड़ देता है। राजनीति में राज है उसकी क्या नीति होगी? मैं किसी …

मोदी सरकार की मौजूदा पहल में खेती में क्रांतिकारी बदलाव लाने की क्षमता है!

शेष नारायण सिंह- नई कृषि नीति के बारे में मेरे विचार कबिरा खड़ा बाज़ार में, मांगे सबकी खैर,ना काहू से दोस्ती, न काहू से बैर. 5 फरवरी को पहली बार टीवी डिबेट में किसान आंदोलन से जुड़े मुद्दों पर चर्चा के लिए दिल्ली के गाजीपुर बार्डर के यू पी गेट पर गया. डिबेट वहीं किसानों …

अर्णब, दीपक, सुधीर, अमिश ये सब राष्ट्रवादी नहीं बल्कि अवसरवादी पत्रकार हैं : शीतल पी सिंह

भड़ास4मीडिया के लिए वीडियो इंटरव्यू के सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए आज वरिष्ठ पत्रकार शीतल पी सिंह से बातचीत पेश है. शीतल पी सिंह सत्यहिंदी डाट काम के को-फाउंडर हैं.

रात 9 बजे के न्यूज चैनलों के शो में किस पत्रकार को यूट्यूब पर सबसे ज्यादा देखा जाता है?

प्रवेश चौहान- प्राइम टाइम में सबसे ज्यादा किस पत्रकार को देखा जाता होगा? देश में कई नामी पत्रकार है जिन्होंने कई दशकों तक पत्रकारिता की है, मगर सवाल यह उठता है कि आज की इस तानाशाह सरकार के सामने कौन मजबूती से सवाल करता है. इस बात को हम सभी जानते हैं यह कहने की …

पत्रकार आनंद पांडेय ने खुद की मीडिया कंपनी जमाने की तैयारी शुरू की

शिशिर सोनी- आनंद पांडे। अच्छे पत्रकार। प्रिंट से निकले। इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में गए। डिजिटल के खेल समझे। अब डिजिटल मीडिया में अपनी धमक बिखेरने उतर गए हैं। इंडिया टीवी से इस्तीफा दिया। भोपाल से अपनी मीडिया कंपनी शुरू कर रहे हैं। गुड़ी पड़वा के शुभ मुहूर्त से वे अपने मालिक स्वयं होंगे।

हर उदय प्रकाश में एक सिंह छिपा हुआ है

विवेक सत्य मित्रम- ऐसा है मित्रों! ये आर्यावर्त है। हर ‘उदय प्रकाश’ में एक ‘सिंह’ छुपा हुआ है। इसमें इतना हायतौबा क्यों? अगर तुम्हें ‘उदय प्रकाश’ के ‘उदय प्रकाश सिंह’ होने में दिक्कत नहीं नज़र आती, खाली उनकी दान-दक्षिणा से परेशानी है तो ये भी ‘डूअल कैरेक्टर’ ही है जिस पर तुम्हें ऐतराज़ है। वरना, …

मारे गए किसानों को श्रद्धांजलि देने नहीं खड़े हुए बीजेपी के सांसद, देखें video

नीरेंद्र नागर- कल राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान तृणमूल सांसद डेरिक ओ’ब्रायन ने अपना भाषण रोककर किसान आंदोलन के दौरान मारे गए किसानों को श्रद्धांजलि देते हुए एक मिनट का मौन रखा। विपक्षी सांसद भी उनके साथ एक मिनट तक खड़े रहे। लेकिन सत्तापक्ष के सांसद निर्लज्जों की तरह बैठे रहे …

इस महिला पत्रकार ने आर्थिक तरक़्क़ी के लिए शुरू किया नया उपक्रम!

यशवंत सिंह- ममता यादव जी भोपाल की बहादुर, मेहनती और कल्पनाशील व्यक्तिव की मालकिन हैं। पत्रकारिता में समझौते न कर पाईं तो अपना रास्ता अलग कर लिया। मल्हार मीडिया नाम की website संचालित कर सबकी पोलपट्टी खोलने लगीं। इस काम के लिए उन्हें भड़ासी अवार्ड से सम्मानित भी किया जा चुका है।

साहित्यकार उदय प्रकाश ने राम मंदिर के लिए चंदा दिया, सोशल मीडिया पर बवाल

अतुल चौरसिया- सार्वजनिक जानकारी में Uday Prakash जी का यह दूसरा विचलन है. जरूरी नहीं हर व्यक्ति इसे विचलन ही माने. इससे पहले एक बार वो योगीजी के हाथों पुरस्कार लाभ लेते धरे गए थे. फिर वापसी आदि की रस्मी रवायत निभाई गई थी. उदयजी उस पांत में सबसे आगे खड़े थे जिन्होंने साहित्य अकादमी …

कई अख़बारों में संपादक रहे रविप्रकाश लंग कैन्सर से जूझ रहे!

उज्ज्वल कुमार- Ravi Prakash सर इनदिनों गम्भीर रूप से बीमार हो गए हैं। डॉक्टरों ने बताया है कि उन्हें लंग्स कैंसर हो गया है। बीमारी का पता ही देर से चला। इन दिनों टाटा कैंसर हॉस्पिटल मुम्बई में इलाजरत हैं। पहली रिपोर्ट में स्टेज फोर के कैंसर होने की बात सामने आई है। अंतिम रिपोर्ट …

क्या ‘आजतक’ वालों ने ‘जी हिंदुस्तान’ के ‘शो’ का नाम चुरा लिया!

न्यूज चैनलों के पास समझदार-दिमागदार-कल्पनाशील लोगों की इतनी कमी पड़ गई है कि अब एक दूसरे के शो तक चुराने लगे हैं. आरोप लगा है नंबर एक कहने जाने वाले आजतक न्यूज चैनल पर.

Scribe Vikas Sharma died of post-corona complication

PEC urges everyone not to take Covid-19 lightly Geneva/ Guwahati, 5 February 2021: As the Covid-19 pandemic continues claiming more journalists around the world, the Switzerland based media watchdog Press Emblem Campaign (PEC) urges every one not to take novel corona virus infection lightly. Mentioning about popular Indian television news presenter Vikas Sharma, who died …

स्पा सेंटर के अंदर क्या है? देखें वीडियो

पिछले दिनों नोएडा के अट्टा मार्केट के माल्स में चलने वाले स्पा व मसाज सेंटर्स पर पुलिस ने छापा मारा था. यहां स्पा और मसाज के नाम पर देह व्यापार होता था. पुलिस ने पहले अपने आदमी भेजे, ग्राहक बनाकर. उनने जब ये कनफर्म कर दिया कि हां यहां मसाज के नाम पर देह व्यापार …

इस पत्रकार की बातचीत से ब्लैकमेलिंग की बू आ रही? सुनें आडियो

यूपी के संभल जिले में एक आडियो वायरल हुआ है. ये आडियो एक पत्रकार का बताया जाता है. इसमें वह अल्ट्रासाउंड वालों के खिलाफ लगातार खबर चलाने की बात करता है. साथ ही साथ वह सेटलमेंट का आफर भी देता है.

ये दो खबरें अख़बारों में पहले पन्ने पर नहीं हैं

संजय कुमार सिंह- आज की दो खबरें जो पहले पन्ने पर एक साथ नहीं मिलीं – मनदीप पूनिया की रिहाई और विपक्षी नेताओं को किसानों से नहीं मिलने देना… आज का दिन किसी एक ऐसी खबर का नहीं है जो निर्विवाद रूप से लीड हो। अंग्रेजी के जो पांच अखबार मैं देखता हूं, उन सबकी …

‘अशोक बाजार’ और ‘निर्मला पार्क’ के निर्माता इन दो छपास रोगी अफसरों के बारे में भी जानें!

बिहार के मधुबनी जिला में भी एक डीएम हुआ करते थे. नाम था अशोक कुमार. ये जिला के जयनगर इलाके में अपने नाम से एक बाजार शुरू किये, नाम रखा- ‘अशोक बाजार’. अशोक बाजार का उन्होंने स्वयं ही उदघाटन भी कर दिया.

भ्रष्टाचार कथा : यूपी में सरकारें बदलती गईं और नोएडा में तैनात अफसरों का रसूख कई गुना बढ़ता गया

Manish Srivastava- कुछ हजार और लाख वेतन पाने वाले हजारों करोड़ में खेलने लगे, एक माली भी नौकरी छोड़कर अरबपति बिल्डर बन बैठा… हर सरकार में ताकतवर होता गया नोएडा का मायावी भ्रष्टाचार….आइए सिर्फ तथ्यों के सहारे सरकारी हुक्मरानों को आइना दिखाया जाए। 2011 में भाजपा नेता किरीट सोमैया ने लखनऊ के पार्टी मुख्यालय में …

यादव सिंह अब जेल जाने से न बच पाएगा, योगी ने मंगाई फाइल

मनीष श्रीवास्तव- हम लोग अक्सर खबरों में लिखते हैं अफसर कारवाई नहीं कर रहे..ऐसे में अगर आपकी खबरों का संज्ञान शीर्ष स्तर पर बैठे अफसर लें तो पत्रकारीय संस्कार कहते हैं आप शुक्रिया भी अदा करें। अफसर ही सरकार की छवि शानदार बनाते हैं और अफसर ही मटियामेट करते हैं बाकी नेता तो 5 वर्ष …

न्यूज पोर्टल को बिहार में वीडियो एडिटर, रिपोर्टर की जरूरत

“कॉमन डिस्पैच” हिंदी न्यूज पोर्टल (पटना) को पूरे बिहार में स्ट्रिंगर्स, रिपोर्टर्स की जरूरत है। इसके अलावा तत्काल वीडियो एडिटर कम ग्राफिक डिजाइनर चाहिए। सैलरी 15-18K है। इससे ज्यादा वाला कोई हिसाब किताब नहीं है।

क्या पत्नी से विवाद ने ले ली एंकर विकास की जान?

हिंदी टीवी मीडिया के लोग दुखी हैं. एक नौजवान एंकर चला गया. रिपब्लिक चैनल के चर्चित डिबेट शो ‘पूछता है भारत’ के एंकर विकास शर्मा का निधन हो गया. वे लंबे समय से नोएडा के कैलाश हॉस्पिटल में भर्ती थे. उनकी मौत को लेकर कई चीजें सामने आ रही हैं. कुछ लोग कंपनी के प्रेशर …

अब सभी न्यूज चैनल एक जैसे क्यों दिखते हैं?

SANJEEV SHRIVASTAVA- केवल बड़ी खबरों और लाइव तस्वीरों के लिए जब भी टीवी देखता हूं-जो सबसे ज्यादा अचरज जिस बात पर होता है; वह है- समानता। चैनलों पर खबर-दर्शन का जैसे साम्यवाद आ गया है! मैं साल 2014 का या 19 का नैरेटिव नहीं लूंगा लेकिन ये दावे के साथ कह सकता हूं कि सुशांत …

ग्रेटर नोएडा के डीसीपी ने ली चौकी इंचार्ज की क्लास, बोले- ऐसी घटनाएं विभाग के लिए शर्मनाक हैं!

Yashwant Singh- ईविवि के छात्र रहे राजेश कुमार सिंह इन दिनों डीसीपी ग्रेटर noida हैं। एक मित्र को क़ानूनी मदद दिलाने के मक़सद से राजेश जी के यहाँ जाना हुआ। चेम्बर में घुसते ही देखा कि राजेश जी एक चौकी इंचार्ज की क्लास ले रहे हैं। उसके इलाक़े के एक शख़्स पर चार बार हमला …

डीएम साब ने खुद के नाम से सड़क बनवा कर खुद ही उद्घाटन कर दिया!

धन्य हैं यूपी के अलीगढ़ में तैनात ये डीएम साहब. खुद के नाम से ही डीएम अलीगढ़ ने बनवा दी सड़क. खुद के नाम से बनी सड़क का खुद ही कर दिया उद्घाटन.

रिपब्लिक टीवी के इस युवा एंकर की हार्ट अटैक से मौत

श्याम मीरा सिंह- रिपब्लिक टीवी के इन एंकर को आपने देखा होगा, अभी अभी न्यूज़ मिली है कि विकास शर्मा अब दुनिया में नहीं रहे, अचानक हार्ट अटैक आने से उनकी असमय मृत्यु हो गई है. उनकी पत्रकारिता ने हमेशा दुखी किया है, ये वक्त हम सभी को इस बात को भी याद दिला रहा …

मनदीप पत्रकारिता का नया हीरो है, युवा हीरो है!

रेखा पाल- मनदीप पुनिया, वो पत्रकार जो तिहाड़ जेल से भी रिपोर्टिंग कर आया, पैर पर लिख डाले नोट्स तिहाड़ जेल से रिहा होते ही पत्रकार मनदीप पुनिया ने कहा कि वो जेल में बंद किसानों पर एक रिपोर्ट बनाकर लौटे हैं. सबसे ज़बरदस्त तो जुनून की हद ये कि वो अपने पैरों पर लिखकर …

मजीठिया केस में पत्रिका प्रबंधन को देना होगा 35 लाख रुपये!

एक सप्‍ताह के भीतर भुगतान कर श्रम विभाग जगदलपुर को सूचित करने को भी कहा गया मजीठिया के लिए लड़ार्इ लड़ रहे कर्मचारियों के लिए एक खुशी की खबर छत्तीसगढ़ के जगदलपुर (बस्‍तर) से आई है जहां पिछले 90 दिनों लगातार चल रहे प्रकरण में श्रम पदाधिकारी ने आवेदक की मांग को उचित मानकर पत्रिका …

विश्व कैंसर दिवस : कोरोना से भी खतरनाक होने वाला है कैंसर

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) और राष्ट्रीय रोग सूचना विज्ञान एवं अनुसंधान केंद्र की माने तो इस साल भारत में कैंसर के मामले 13.9 लाख रहने का अनुमान है, जो 2025 तक 15.7 लाख तक पहुंच सकते हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक तंबाकू जनित कैंसर के मामले 3.7 लाख रहने का अनुमान है, जो कैंसर …

बर्बर सत्ता के मुंह पर दुनिया थूकती ही है

अभी कुछ दिनों पहले ही डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों ने यूएस कैपिटल बिल्डिंग में घुसकर बड़ा तांडव किया था और तब भारत के तमाम न्यूज़ चैनल सुबह 6:00 बजे से रात के 11:30 बजे तक उस तांडव की खबर पर बने रहे। कभी अमेरिकी लोकतंत्र का इतिहास दिखाया, कभी डोनाल्ड ट्रंप का राजनीतिक सफरनामा दिखाया। …

कानपुर के पत्रकारों पर दर्ज हुए फर्जी मुकदमें के खिलाफ महोबा के पत्रकारों ने किया प्रदर्शन

यूपी के महोबा में कानपुर के तीन पत्रकारों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा करने का मामला तूल पकड़ने लगा है! संयुक्त मीडिया क्लब के तत्वाधान में महोबा जनपद के सैकड़ों पत्रकारों ने एकजुट होकर कानपुर पुलिस प्रशासन के खिलाफ सड़कों पर निकल कर जमकर नारेबाजी करते हुए अपना विरोध प्रदर्शन जताया। शहर के अंबेडकर …

टेलीग्राफ का फ़्रंट पेज- रिहा हा…

आज के टेलीग्राफ अख़बार का फ़्रंट पेज हर रोज़ की तरह ही प्रयोगधर्मी है। किसान आंदोलन के समर्थन में विदेशों से उठने वाली आवाज़ों को टेलीग्राफ ने लीड बनाया है।

एनसीआर मीडिया का रिमोट और लैरी किंग-यशदेव शल्य की मौत का कवरेज

रंगनाथ सिंह- औपनिवेशिक गुलामी हमारे अन्दर कितनी गहरी धँसी हुई है इसका सबसे बड़ा उदाहरण एनसीआर मीडिया है। पिछले एक साल में कई प्रसिद्ध लोगों का देहांत हो गया। इन सभी के देहांत के मीडिया कवरेज पर आप गौर करेंगे तो आपको दिख जाएगा कि एनसीआर मीडिया के दिमाग का रिमोट किस के हाथ में …

तिहाड़ जेल में भी पत्रकारिता कर आया मनदीप पुनिया, देखें तस्वीर

पुष्य मित्र- पत्रकार के नोट्स… मंदीप पुनिया दो दिन जेल में रहा तो उसे वहां पहले से रह रहे किसानों की परेशानियों का पता चला। फिर क्या था रिपोर्टर शुरू हो गया।

एबीपी न्यूज से रोहित विश्वकर्मा का नाता टूटा

एक बड़ी खबर एबीपी न्यूज चैनल से आ रही है. रोहित विश्वकर्मा अब इस चैनल के हिस्से रहे. उन्होंने चार महीने पहले ही यहां ज्वाइन किया था. ABP News के आउटपुट पर काम कर रहे कंसल्टिंग एडिटर रोहित विश्वकर्मा के इस्तीफे की पुष्टि हो गई है.

मनमोहन के समय भी चापलूस पत्रकार थे पर मोदी के समय तो चापलूसी के लिए लाइन लगी हुई है!

Vimal Kumar Interview part five मीडिया वाले सिर्फ ताकत की पत्रकारिता करते हैं, सत्ता की कवरेज करते हैं… मीडिया के लिए किसान-मजदूर के कोई मायने नहीं… यहां तो केवल सत्ता की पत्रकारिता होती है… पावरफुल लोगों की पत्रकारिता होती है…

अट्टा मार्केट के रंडीखानों पर पड़ा छापा, देखें वीडियो

आज नोएडा के सेक्टर18 अट्टा मार्केट के वेव माल में स्थित दर्जन भर रंडीखानों पर पुलिस ने छापा मारा है। ये रंडीखानें स्पा सेंटर के नाम पर चलाये जा रहे थे। पुलिस ने कुल कितने लोगों को पकड़ा है, ये पता नहीं चल पाया है।

फ़र्ज़ी video बनाने पर संबित पात्रा के ख़िलाफ़ ‘आप’ ने पुलिस में शिकायत दी

आम आदमी पार्टी ने भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा के ख़िलाफ़ FIR लिखवाने के लिये एक अप्लीकेशन दी है।

पत्रकारों की सियासत ने उन्हें एनेक्सी से निकाल कर सड़क पर ला फेका!

नवेद शिकोह- पत्रकारों की सियासत ने उन्हें एनेक्सी से निकाल कर सड़क पर ला फेका ! यूपी की राजधानी लखनऊ के जो पत्रकार मुख्यालय (शासन) की खबरें कवर करते हैं उन्हें राज्य मुख्यालय का पत्रकार कहा जाता है। सरकार इन पत्रकारों को राज्य स्तरीय प्रेस मान्यता देती है। वक्त के साथ आबादी बढ़ी और अखबार …

सचिन तेंदुलकर भी मोदी के पक्ष में बैटिंग करने लगे?

अणु शक्ति सिंह- दुःख इस बात का नहीं है कि हमारे देश के चमकदार नामों ने अबतक कोई आवाज़ किसानों के हक़ में नहीं उठाई। तकलीफ़देह यह है कि जब सत्ता की विफलता की ख़बर विदेशी हलके में गूँजने लगी, आपको देश और इसकी सम्प्रभुता की याद आने लगी। अचानक ही षड्यंत्र नज़र आने लगा …

124ए का बेजा इस्तेमाल कर रही मोदी सरकार

शाहनवाज़ हसन- लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा के लिए चौथा स्तंभ कितना सशक्त? आलोचनात्मक रवैया रखनेवाले पत्रकारों को चुप कराने के लिए आईपीसी की धारा 124ए का बेजा इस्तेमाल कर ‘राजद्रोह’ तक का मुकदमा दर्ज किया जाता है, जिसमें उम्र क़ैद तक की सज़ा का प्रावधान है। लोकतंत्र के चौथे स्तंभ की स्वतंत्रता के लिए सभी …

धीरेंद्र मोहन जी ने बताया था- मैंने अपने बच्चों को सीधे पानी में फेंक कर तैरना सिखाया है!

विकास मिश्र- 12-13 साल पुरानी बात है। मेरी भानजी रुचि बहुत उत्साह में थी, बोली-मामा आपके क्रेडिट कार्ड से 27 हजार रुपये लेने हैं 5 या 6 दिनों के लिए, बदले में एक ब्लैकबेरी का फोन मिलेगा, 50 हजार रुपये के हीरे मिलेंगे, जबरदस्त ऑफर आया है एक कंपनी से। मैंने समझाया- यहां कुछ भी …

मोदी सरकार को पत्रकारों से क्यों डर लगता है?

-श्रवण गर्ग लोकतंत्र की सड़क बहुत लम्बी है; सरकार की कीलें कम पड़ जाएँगी! देश को डराने की पहली जरूरत यही हो सकती है कि सबसे पहले उस मीडिया को डराया जाए जो अभी भी सत्ता की वफ़ादारी निभाने से इनकार कर रहा है ! सीनियर सम्पादकों के ख़िलाफ़ मुक़दमों के साथ-साथ युवा फ़्रीलान्स पत्रकारों …

सैकड़ों पत्रकारों-एक्टिविस्टों के ट्विटर एकाउंट पर गिरी गाज, मोदी सरकार और bjp it सेल वालों का कारनामा!

Twitter पर किसानों के समर्थन में आवाज़ उठाना पड़ा भारी, कइयों के अकाउंट Withheld किया लोकतान्त्रिक देश में अब अपनी आवाज़ उठाना भी जैसे गुनाह हो गया है। लोकतन्त्र का चौथा स्तम्भ भी अब सुरक्षित नहीं बचा। Twitter पर किसानों के समर्थन या सरकार के खिलाफ आवाज़ उठाने पर account को withheld किया जा रहा …

चीख चीख कर बोलने वाला पत्रकार सच्चा हो ही नहीं सकता!

Vimal Kumar Interview part four पत्रकारिता का अर्णव युग चल रहा है… सत्य बताने के लिए चीखना नहीं होता है… अर्णव का सेट एजेंटा था… वैदिक ने अर्णव को जमकर डांट पिलाई थी…

पत्रकारिता सत्ता का शाश्वत विपक्ष है

vimal kumar interview part three… सत्ता झूठ का नरेटिव गढ़ता है, पत्रकारिता का काम सत्ता को एक्सपोज करना होता है…. नेहरु के समय में भी मीडिया विपक्ष को बहुत तवज्जो नहीं देता था… इंडियन एक्सप्रेस और टेलीग्राफ ही इस समय दो अच्छे अखबार हैं….

प्रभाष जोशी ने मंगलेश डबराल को खुली छूट दे रखी थी!

न्यूज एजेंसी यूएनआई से हाल में ही रिटायर हुए वरिष्ठ पत्रकार विमल कुमार का कहना है कि जनसत्ता अखबार में संपादक प्रभाष जोशी ने मंगलेश डबराल को रविवारीय परिशिष्ट प्रकाशित करने के लिए खुली छूट दे रखी थी.

पत्रकारों के पीछे पड़ी मोदी सरकार!

पत्रकार मनदीप पुनिया की गिरफ्तारी के खिलाफ दिल्ली में सड़क पर उतरे पत्रकारों के बीच पहुंचे वरिष्ठ पत्रकार शीतल पी सिंह ने भड़ास4मीडिया से पूरे मामले पर बातचीत की.

सरकारी नेता टिकैत का पुनर्जन्म हुआ है!

पत्रकार मनदीप पुनिया की गिरफ्तारी के बाद न्यू दिल्ली पुलिस मुख्यालय के सामने प्रदर्शन करने पहुंचे पत्रकारों के बीच में मौजूद वरिष्ठ पत्रकार और साहित्यकार अनिल यादव से भड़ास4मीडिया के एडिटर यशवंत ने वर्तमान किसान-पत्रकार आंदोलन के विभिन्न पहलुओं पर बातचीत की.

बेहमई कांड और डेस्क के पत्रकार की पीड़ा

Shambhunath Shukla- बेहमई कांड और डेस्क के पत्रकार की पीड़ा… किसी भी अख़बार में संवाददाता तो सीमित होते हैं। लेकिन उनकी खबरों की सबिंग तथा एडिटिंग करने वाले कई उप संपादक होते हैं। ये उप संपादक संवाददाताओं की खबर को संपादित करते हैं और उसके वाक्य-विन्यास को ठीक करते हैं। खबर में बार-बार आई दोहरावट …

75 साल की उम्र के बाद क्यों, मरणोपरांत टैक्स न देने की छूट देना चाहिए था मोदीजी को!

Yashwant Singh- वाट्सअप पर किसी ने भेजा है। अगर ये सही है तो फेंकू सबसे बड़ा पप्पू है भाई… 75 साल के ऊपर बुजुर्गों को टैक्स नहीं देना होगा; यह मरणोपरांत कर देते तो बहुत पुण्य मिलता; 58 साल में रिटायरमेंट 75 में छूट? क्या मूर्ख बनाया है … क्रूर सरकार.

निज़ाम की साजिशों के शिकार बनते पत्रकार

Rizwan Chanchal- जन पत्रकारिता करने वाले पत्रकारों पर भी निशाना साध निरंकुश निज़ाम ने अपना षड्यंत्री रुख साफ कर दिया है मनदीप पुनिया जो किसानों के आंदोलन की तस्वीर व सच्चाई को लाइव कर रहे थे गिरफ्तार कर लिए गए साफ है कि वर्तमान निज़ाम यह कतई नही चाहता कि उसके खिलाफ कोई भी आवाज़ …

बजट की अब तक की सबसे बड़ी घोषणा- बहुत कुछ बेचेगी सरकार!

शीतल पी सिंह- बजट 2021-22 अब तक की सबसे बड़ी घोषणा एयरपोर्ट, सड़कें,बिजली ट्रांसमिशन लाइन, रेलवे के डेडीकेटेड फ्रेट कॉरीडोर के हिस्से, वेयरहाउस बेचेगी सरकार.

राजदीप, मृणाल आदि के ख़िलाफ़ तीसरी एफआईआर हो गई

सौमित्र रॉय- राजदीप सरदेसाई के खिलाफ तीसरी FIR हुई है। हैरत की बात है कि इंडिया टुडे के उनके पूर्व सहयोगियों ने अभी तक राजदीप के समर्थन में मुंह नहीं खोला है। सिर्फ़ देश की नहीं, समाज भी बंट चुका है।